Followers

Showing posts with label Health. Show all posts

पौधे के अंडे में जबरदस्त स्वाद, IIT दिल्ली को मिला अंतर्राष्ट्रीय अवार्ड, मीट-मछली भी तैयार

iit-delhi-plant-egg-meat-fish-prepared-get-award

फरीदाबाद, 21 दिसंबर: कुछ लोग मीट-मुर्गा खाने से परहेज करते हैं, कई लोग तो मुर्गी के अंडे भी नहीं खाते, कुछ लोग इसे खाना तो चाहते हैं लेकिन जानवरों का सोचकर नहीं खाते लेकिन अब ऐसे लोगों की समस्या का IIT दिल्ली से समाधान कर दिया है.

IIT दिल्ली ने पौधे से मीट, मछली और अंडा बना दिया है. अंडे में इतना जबरदस्त स्वाद है कि UNDP ने IIT दिल्ली को अंतर्राष्ट्रीय अवार्ड भी दिया है.

IIT दिल्ली की प्रो. काव्या को यूनाइटेड नेशंस डवलपमेंट प्रोग्राम (UNDP) की ओर से मॉक एग के इनोवेशन के लिए पुरस्कार भी मिल चुका है। इस प्रोडक्ट के लिए UN की टीम ने IIT दिल्ली में विजिट की थी और इस वेजिटेरियन अंडे को पका कर भी देखा गया।

काव्या कहती हैं कि बेशक मीट प्रोटीन दालों के प्रोटीन से बेहतर है लेकिन इसमें भी अब प्रोडक्शन के लिए हार्मोन आदि का उपयोग हो रहा है और ये सुरक्षित नहीं रह गया। लगातार स्टडी में पाया कि कुछ अनाजों का प्रोटीन बिल्कुल मीट प्रोटीन के बराबर ही है। एनिमल प्रोटीन में बाइट साइज और माउथ फील अच्छा रहता है।

बंगाली भी नहीं पहचान पाए कि यह असली मछली नहीं है

अपने इस प्लांट बेस्ड मीट और मछली के ट्रायल के लिए प्रोफेसर काव्या ने बंगाल और पूर्वांचल के लोगों को बुलाया था, जिनके रोज के खाने का ये हिस्सा है।

ये ब्लाइंड टेस्टिंग थी। उन्होंने इसे मछली ही बताया और सभी लोगों ने इसे चाव से खाया कोई नहीं पहचान पाया कि ये मछली नहीं है। खास बात है कि इस मॉक मछली से ओमेगा थ्री की जरूरत भी पूरी हो जाएगी।

चिकन के लिए उन्होंने बर्गर, बन और काठी रोल में भी इसको ट्राई किया। अब टीम इंडस्ट्री के मानक के हिसाब से इसे तैयार करने का प्रयास कर रही है।

बड़ी कार्यवाही, लिंग-जांच का अवैध काम करने वाले पति-पत्नी गिरफ्तार, डॉक्टर फरार, FIR दर्ज

faridabad-health-department-raid-illegal-sex-determination-center

फरीदाबाद, 17 दिसंबर: सीएमओ डॉ. रणदीप सिंह पुनिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम को काफी समय से सूचना मिल रही थी कि शहर के नंगला एन्क्लेव में एक दंपति पिछले काफी समय से अवैध गर्भपात का कार्य कर रहे हैं। सूचना मिलने स्वास्थ्य विभाग की एक टीम का गठन किया गया। टीम ने सुबह 03:30 बजे एक गर्भवती महिला (डिकोय) को भेजकर अवैध गर्भपात का कार्य करने वाले इन दोनो पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया। चिकित्सक की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

सीएमओ डॉ. पुनिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग को पिछले काफी समयय से सूचना मिल रही थी कि नंगला एन्क्लेव पार्ट-1 में पिछले सात-आठ वर्ष से एक व्यक्ति सत्यपाल सिंह अपनी पत्नी धर्मवती के साथ अवैध रूप से अवैध गर्भपात व मैडिकल प्रैक्टिस कर रहा है। 

सूचना थी कि वह छह माह तक की गर्भवति महिलाओं का भी गर्भपात करता है। इसी आधार पर स्वास्थ्य विभाग ने डॉ. हरीश आर्य डिप्टी सीएमओ, एसएमओ खेड़ी कलां डॉ. हरजिंद्र, एमओ तिगांव डॉ. राखी, ड्रग कंट्रोल आफिसर संदीप गहलावत की एक टीम का गठन किया। टीम ने गुरुवार सुबह 03:30 बजे एक 14 सप्ताह की गर्भवती महिला को डिकोय बनाकर यहां पर भेजा। मकान में जब महिला के गर्भपात की तैयारी की जा रही थी तो टीम ने तुरंत तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इन सभी के खिलाफ थाना सारन में इन सभी के खिलाफ एमटीपी एक्ट, आईएमसी एक्ट, डीएंडसी एक्ट व आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

12वीं फेल सत्यपाल सिंह ने विजिटिंग कार्ड पर लिखवा रखा था डॉ. सत्यपाल सिंह एमबीबीएस डिप्टी सिविल सर्जन व टीम का नेतृत्व कर रहे डॉ. हरीश आर्य ने बताया कि जब टीम ने यहां छापा मारा तो देखा कि यहां आपरेशन थिएटर, लेबर रूम सहित पूरा अस्पताल तैयार कर रखा था। पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि यहां डॉ. कृष्ण कुमार प्रैक्टिस करते हैं। यहाँ डॉ. कृष्ण कुमार के नाम से स्टैंप, लैटर पैड पर कुछ अन्य सामग्री भी मिली, लेकिन डॉ. कृष्ण कुमार वहां मौजूद नहीं थे। इसके बाद टीम यह देखकर अचंभित हो गई कि महिला का यहां मौजूद सत्यपाल सिंह स्वयं डिकोय महिला का अबार्शन करने वाले थे। उन्हें यहां से एक विजिटिंग कार्ड भी मिला जिस पर लिखा था डॉ. सत्यपाल सिंह एमबीबीएस। वह यहां आने वाले लोगों को भी स्वयं को एमबीबीएस डॉक्टर ही बताता था।

 उन्होंने बताया कि यहां इस अवैध गर्भपात केंद्र की छत बड़ी मात्रा में खाली ग्लूकोज की बोतलें, सिरिंज और बायोमैडिकल वेस्ट से पटी पड़ी थी।

Faridabad: बादशाहखान अस्पताल का नाम बदलकर किया गया अटल बिहारी वाजपेयी अस्पताल

badshahkhan-hospital-name-change-to-shri-atal-bihari-vajpayee-hospital

फरीदाबाद, 16 दिसंबर: फरीदाबाद सिविल हॉस्पिटल जिसे बादशाहखान यही बीके अस्पताल के नाम से जाना जाता था, उसका नाम बदलकर आधिकारिक तौर पर श्री अटल बिहारी वाजपेयी अस्पताल कर दिया गया है.

इस सन्दर्भ में डीजी हेल्थ सर्विसेज, हरियाणा का पत्र भी सार्वजनिक कर दिया गया है जिसमें अस्पताल का नाम बदलने के आदेश दिए गए थे, यह पत्र 3 दिसंबर को जारी किया गया था जिसे फरीदबाद पहुँचने में कई दिन लग गए. चिट्ठी में लिखा गया है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आदेश पर अस्पताल का नाम बदला गया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी पूर्व प्रधानमंत्री थे और उन्हें भारत रत्न से भी नवाजा गया था, वह भाजपा के शीर्ष नेता माने जाते थे, उनका निधन 16 अगस्त 2018 को हुई थी.

dg-health-services-haryana

मेदांता नहीं गए मंत्री अनिल विज, बोले, आम लोगों की तरह मेरा भी होगा सरकार अस्पताल में इलाज

haryana-health-minister-anil-vij-admitted-in-rohtak-pgi

फरीदाबाद, 16 दिसंबर: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज को-रो-ना-वा-य-र-स से गंभीर रूप से संक्रमित हैं और उनकी हालत ठीक नहीं है, कल उन्हें मेदांता शिफ्ट करने की चर्चा की जा रही थी लेकिन उन्होंने मेदांता जाने से इंकार कर दिया।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मेदांता हरियाणा का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल है जो गुरुग्राम में है, अधिकतर बड़े बड़े नेता इलाज कराने के लिए मेदांता में ही भागते हैं, यहाँ तक कि गृह मंत्री अमित शाह ने भी अपना इलाज मेदांता में कराया था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अनिल विज हरियाणा के गृह मंत्री के अलावा स्वास्थय मंत्री भी हैं, उनपर हरियाणा की जनता के स्वास्थय की जिम्मेदारी है लेकिन अगर वह अन्य बड़े नेताओं की तरह मेदांता में भर्ती हो जाते तो हरियाणा की जनता का सरकारी अस्पतालों पर से भरोसा उठ जाता इसलिए अनिल विज ने ऐसा नहीं किया।

अनिल विज का इलाज रोहतक के PGI सरकारी हॉस्पिटल (मेडिकल कॉलेज) में चल रहा है जिसे हरियाणा का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल कहा जाता है, इससे पहले उनका इलाज अम्बाला सरकारी हॉस्पिटल में चल रहा था, उनके फेफड़े में इन्फेक्शन है, उन्हें दूसरी बार को-वि-ड हुआ है.

मंत्री अनिल विज के शुभचिंतकों ने उन्हें सलाह दी कि अपना इलाज किसी प्राइवेट अस्पताल में कराएं और हो सके तो मेदांता हॉस्पिटल में जाकर भर्ती हो जाएं लेकिन अनिल विज ने ऐसा करने से इंकार कर दिया, उन्होंने कहा कि आम लोगों का इलाज सरकारी अस्पतालों में ही हो रहा है और हरियाणा के सरकारी डॉक्टरों ने अभी तक अच्छा प्रदर्शन किया है, मेरा इलाज ये लोग भी कर सकते हैं, मुझे इनपर भरोसा है इसलिए मैं PGI में रहकर ही अपना इलाज कराऊंगा।

स्वास्थ्यकर्मियों को कोविड इंजेक्शन लगाने के लिए सरकार ने अस्पतालों से स्टाफ की मांगी डिटेल

covid-injection-for-health-worker-in-faridabad

फरीदाबाद, 01 दिसंबर। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए वैक्सीन का ट्रायल अपने अंतिम चरण में है और भारत सरकार वैक्सीन उपलब्ध करवाने के लिए तैयारी कर रही है। शुरूआती चरण में स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े हुए मैडिकल, पैरामैडिकल और अन्य स्टाफ के लिए इंजेक्शन उपलब्ध करवाए जाएंगी। ऐसे में सभी सरकारी, निजी अस्पतालों, मैडिकल कालेजों, नर्सिंग कालेजों व मैडिकल लैब संचालक तीन दिन के अंदर कोविड-19 वैक्सीन मैनेजमेंट सिस्टम पोर्टल पर अपने संस्थान को रजिस्टर कर अपने स्टाफ की सूचनाएं अपडेट करें। 

उपायुक्त यशपाल मंगलवार को कोविड-19 को लेकर जिला स्तरीय टास्क फोर्स की मीटिंग में संबोधित कर रहे थे।

उपायुक्त ने मीटिंग में संबोधित करते हुए कहा कि सरकारी अस्पतालों व स्टाफ की जानकारी को स्वास्थ्य विभाग द्वारा अपडेट कर दिया गया है और निजी अस्पतालों व संस्थानों की सूचनाएं अभी सिर्फ 40 प्रतिशत ही मिली हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन की निगरानी के लिए एक तंत्र विकसित किया गया है। इसके तहत निर्धारित प्रोफोर्मा में अस्पताल, लैब या अन्य संस्थान में काम करने वाले स्टाफ की सूचना अपडेट की जानी हैं। जिस भी कर्मचारी का डाटा अपडेट किया जाए उसका फोटोयुक्त पहचान पत्र (आधार कार्ड छोडक़र) भी अवश्य अपलोड हो। 

उन्होंने कहा कि यह सूचना [email protected] पर निर्धारित प्रोफोर्मा में भरकर भी अवश्य भिजवाएं। इसके साथ ही उन्होंने इस संबंध में किसी भी जानकारी के लिए जिला नोडल अधिकारी डॉ. रमेश (मोबाईल नंबर 9891122163) पर भी संपर्क करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि टीकाकरण किस-किस का किया जाएगा इस संबंध में बाद में निर्देश जारी किए जाएंगे। इस अभियान को लेकर उपमंडल स्तर व ब्लॉक स्तर पर भी कमेटियां गठित करने के निर्देश दिए। यह कमेटियां संबंधित उपमंडल अधिकारी (ना.) के नेतृत्व में कार्य करेंगी। उन्होंने कहा कि जिन लोगों की सूची भेजी जाएगी सिर्फ उन्हीं को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। वैक्सीन देते समय उनकी पहचान के लिए अपलोड किए गए फोटो पहचान पत्र से मिलान भी किया जाएगा। 

मीटिंग में सीएमओ रणदीप सिंह पुनिया, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. रमेश चंद्र, एसएमओ डब्ल्यूएचओ डॉ. संजीव तंवर, डिप्टी सीएमओ डॉ. गजराज, आईएमए के प्रधान प्रतिनिधि डॉ. सुरेश अरोड़ा, इंडियन डेंटल एसोसिएशन के प्रधान डॉ. आशु, डॉ. इंद्रजीत राणा, लैब एसोसिएशन से रोहित शर्मा सहित सभी बड़े अस्पतालों के संचालक व प्रतिनिधि भी मौजूद थे।

मंत्री अनिल विज ने अपने ऊपर कराया कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, एक्सपर्टों की टीम कर रही निगरानी

haryana-health-minister-anil-vij-corona-vaccine-teeka-news

फरीदाबाद, 20 नवंबर: कोई भी दवा या वैक्सीन अप्रूव होने से पहले कई चरणों में ट्रायल के फेज से गुजरती है, कोरोना वैक्सीन का भी तीसरे चरण में ट्रायल शुरू हो रहा है और हरियाणा के गृह एवं स्वास्थय मंत्री अनिल विज अपने ऊपर ही कोरोना वैक्सीन का ट्रायल करा रहे हैं, उन्होंने खुद ही इसकी मंजूरी दी थी.

मंत्री अनिल विज को आज ही कोरोना वैक्सीन लग जाएगी, वह अम्बाला के अस्पताल पहुँच चुके हैं, जहाँ पर रोहतक PGI के डॉक्टरों की टीम भी मौजूद है.

अनिल विज ने खुद ही इस बात की जानकारी देते हुए ट्वीट किया - मैं 11 बजे भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन का टीका अम्बाला सिटी हॉस्पिटल में लगवाउँगा, सुपरविजन के लिए PGI रोहतक के डॉक्टरों की एक्सपर्ट टीम और हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम मौजूद रहेगी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत बायोटेक कंपनी कोरोना वैक्सीन डेवेलोप कर रही है जो काफी इफेक्टिव बतायी जा रही है हालाँकि अभी इसका अप्रूवल नहीं मिल पाया है, ट्रायल में पास होने के बाद ही सरकार इसे पास करेगी। 

सेवाओं में बदलाव और सुधार के संकल्प के साथ डॉ पुरुषोत्तम लाल ने मेट्रो हॉस्पिटल को किया टेकओवर

news-dr-purushottam-lal-takeover-metro-hospital-faridbad-in-hindi

फरीदाबाद। विश्व विख्यात हृदय रोग विशेषज्ञ पद्म भूषण, पदम विभूषण एवं डा. बी.सी. रॉय नेशनल अवार्ड से सम्मानित तथा मेट्रो अस्पताल समूह के चेयरमैन डॉ. पुरूषोत्तम लाल ने फरीदाबाद मेट्रो अस्पताल को पूर्ण रूप से टेकओवर करने के बाद कहा कि अब फरीदाबाद के लोगों को हृदय एवं उससे संबंधित रोगों के इलाज के लिए दूरदराज नहीं जाना पड़ेगा, उन्हें उचित दरों पर मेट्रो अस्पताल में उच्च स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाई जाएगी। 

डा. लाल ने बताया कि जल्द ही मेट्रो कैंसर सेंटर का निर्माण भी शीघ्र पूरा हो जाएगा, जिसमें फरीदाबाद व आसपास के क्षेत्रों के कैंसर पीडि़त मरीजों को विश्वस्तरीय कैंसर से संबंधित चिकित्सा सेवाएं मुहैया करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि मेट्रो अस्पताल समूह के देशभर में 12 अस्पताल मरीजों की सेवा में समर्पित है और उन्हें बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उचित दामों पर देने के लिए कृतसंकल्पित है। 

मेट्रो समूह का पहला अस्पताल मेट्रो हृदय संस्थान नोएडा में 1997 में स्थापित किया गया था। पदम विभूषण डा. पुरूषोत्तम लाल ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि मेट्रो अस्पताल एवं हृदय संस्थान फरीदाबाद का एक आधुनिक एवं अग्रिम अस्पताल है, जहां विदेशी मरीजों के साथ-साथ फरीदाबाद दिल्ली एनसीआर, उत्तरप्रदेश, हरियाणा सहित अन्य राज्यों से आने वाले मरीजों को विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाई जाए। 

उन्होंने कहा कि हृदय रोग एवं किसी भी रोग से बचाव एवं रोकथाम का एक ही उपाय है कि हम अनुशासित जीवन जीये, सुबह जल्दी उठे, सैर एवं व्यायाम करें, पौष्टिक भोजन करें तथा मोटापे को न बढऩे दें और समय-समय पर अपने स्वास्थ्य की जांच करवाए। वहीं उन्होंने कोरोना महामारी के इस दौर में लोगों से मास्क लगाने, सेनिटाईजर का प्रयोग करने तथा सोशल डिस्टेसिंग की सख्ती से पालना करने की भी अपील की। 

डा. पुरूषोत्तम लाल ने चिंता व्यक्त करते हुए बताया कि आज व्यस्त जीवन शैली में हम जीवन के मूलभूत सिद्धांतों को भूल गए है, जिसके फलस्वरूप हृदय रोग, कैंसर, डायबिटीज, मोटापा एवं अन्य नॉन कम्यूनिकेबल बीमारियां बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयत्न रहेगा कि हम फरीदाबाद की रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशंस, इंडस्ट्रीज एसो. स्कूल, सीनियर सिटीजनस, बार एसो., मार्किट एसो., गुरूद्वारा एवं अन्य सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों के साथ मिलकर इन बीमारियों की रोकथाम की जागरूकता को बढ़ाएं ताकि एक स्वस्थ्य समाज का निर्माण हो सके। 

metro-hospital-faridabad-doctor-image

उन्होंने कहा कि मेट्रो अस्पताल सामाजिक क्षेत्र में भी अपनी अग्रिण भूमिका निभा रहा है और समय-समय पर निशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर लगाकर लोगों को जागरूक भी करता है। गौरतलब है कि डा. पुरूषोत्तम लाल ने हृदय रोगों की तकनीकों जैसे रोटाब्लेटर, स्लो रोटेशनल एंजियोप्लास्टी, कोरोनरी ऐथेरेक्टमी, तावी जैसी विश्वस्तरीय तकनीकों को भारत में पहली बार आरंभ किया था, जिसके चलते उन्हें राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है। 

डॉ नीरज जैन ने भी किया प्रेस वार्ता को सम्बोधित

पत्रकार वार्ता के दौरान मेट्रो अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर एवं डायरेक्टर कार्डियोलॉजी डा. नीरज जैन ने कहा कि डा. पुरूषोत्तम लाल के कुशल नेतृत्व में अस्पताल में आने वाले सभी प्रकार के मरीजों को अत्याधुनिक तकनीक के माध्यम से वाजिब दामों पर बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मुहैया करवा रहे है। 

उन्होंने बताया कि अस्पताल में हृदय से संंबंधित सभी प्रकार के रोगों, किडनी, पेट एवं लीवर, गुर्दा प्रत्यारोपण, घुटना एवं जोड़ प्रत्यारोपण, ब्रेन व स्पाइन सर्जरी, महिला एवं बाल रोग, एडवांस लोप्रोस्क्रोपिक एवं जनरल सर्जरी तथा अत्याधुनिक गहन चिकित्सा सेवाएं 24 घण्टे उपलब्ध रहती है वहीं आने वाले समय में नई तकनीकों के माध्यम से लीवर प्रत्यारोपण जैसी जटिल सर्जरी भी लोगों को अस्पताल में उपलब्ध हो इसके लिए अस्पताल प्रबंधन प्रयासरत है।

 

फरीदाबाद में अब बढ़ने लगे नए संक्रमण, घटने लगा रोजाना स्वस्थ होने का आंकड़ा

faridabad-news-in-hindi-corona-virus-infection-increasing

फरीदाबाद, 7 नवंबर: उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब 145463 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 103690 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 41773 लोग अंडर सर्विलांस हैं। 

उन्होंने बताया क़ि कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 145724 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 262177 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 234040 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 423 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 27714 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 405 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 1545  पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 25503 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 261 मरीजों की मौत हो चुकी है। 

इसमें 59 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 11 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 421 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 91.4 दिन व रिकवरी रेट 92.0% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

Ballabhgarh में कैम्प लगाकर 505 व्यापारियों का किया गया कोरोना टेस्ट

ballabhgarh-news-in-hindi

फरीदाबाद (बल्लभगढ़), 06 नवंबर। उपमंडल अधिकारी (ना.) बल्लभगढ़ अपराजिता ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते प्रभावों को रोकने के लिये बल्लभगढ़ उपमंडल के अंतर्गत सीताराम मंदिर में शुक्रवार को व्यापारियों के लिए विशेष कोविड जांच शिविर लगाया गया। 

शिविर में पहले दिन 505 व्यापारियों की कोविड जांच की गई। उपमंडल अधिकारी (ना.) ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए दो दिवसीय स्वास्थ्य जांच शिविर के पहले चरण में कुल 505 लोगो के टेस्ट किए गए। जिसमें 350 आरटीपीसीआर, 155 रैपिड एनटीजन टेस्ट किये गये। 

उन्होंने बताया कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर बल्लभगढ़ उपमंडल में व्यापारियों और उनसे जुड़े स्टाफ सदस्यों के लिए उक्त कोविड जांच शिविर का आयोजन किया गया। उन्होंने बताया कि शिविर में सभी व्यापारियों को कोविड से बचाव व सावधानियों के बारे में अवगत करवाया गया। उन्होंने बताया कि दूसरे दिन 7 नवंबर 2020 को अग्रवाल धर्मशाला चावला कॉलोनी में शिविर आयोजित किया जाएगा।

StayHappi ने फरीदाबाद में खोले 3 ऑउटलेट, 80% तक सस्ती मिलेंगी जेनेरिक दवाइयाँ, देखिये एड्रेस

 faridabad-generic-medicine-medical-store-list-stayhappi-company

फरीदाबाद, 4 नवंबर: फरीदाबाद में StayHappi Generic कंपनी ने एक बड़ा कदम उठाते हुए सस्ती और किफायती दवाइयाँ उपलब्ध कराने के लिए तीन मेडिकल स्टोर स्टार्ट किये हैं. इन स्टोरों पर जेनेरिक दवाइयाँ 30 से 80 पर्सेंट तक सस्ती मिलेंगी, मतलब ब्रांडेड कम्पनियाँ जो दवाइयाँ 500 रुपये तक में बेचती हैं वही जेनरिक दवाइयाँ इन स्टोरों पर 50 - 60 रुपये में ही मिल जाएंगी, कुछ ब्रांडेड दवाइयाँ 100 रुपये प्रति स्ट्रिप मिलती हैं तो वही जेनेरिक दवाइयाँ सिर्फ 5 रुपये में मिलती हैं.

मतलब जेनेरिक दवाइयाँ गरीबों के लिए वरदान साबित हुई हैं, मोदी सरकार ने भी देशभर में जेनरिक मेडिकल स्टोर खोलें हैं, इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए StayHappi Generic ने भी तीन मेडिकल स्टोर खोल दिए हैं.

पहले स्टोर का एड्रेस है - मीनाक्षी मेडिकल स्टोर, गोपी कॉलोनी चौक, तालाब रोड, ओल्ड फरीदाबाद। मोबाइल नंबर है - 9818238802, 8076748400. फोटो नीचे दिया गया है.


दूसरे मेडिकल स्टोर का एड्रेस है - गुरुकृपा मेडिकोज, 103, मेन शॉपिंग सेण्टर, DLF मार्किट, सेक्टर - 12. फरीदाबाद। मोबाइल है - 8901521051, 9911687901. फोटो नीचे  दिया गया है.


तीसरे मेडिकल स्टोर का एड्रेस है - सोनू मेडिकल स्टोर, 5F-45 NIT फरीदाबाद। मोबाइल है - 9711500550. फोटो नीचे  दिया गया है.



StayHappi Generic कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट आशीष ने बताया कि हमारा मकसद है कि आम आदमी तक सस्ती दवाइयाँ पहुंचे, फरीदाबाद में तीन आउटलेट आ गए हैं, कई और आने वाले हैं, जेनेरिक दवाइयाँ 80 पर्सेंट तक सस्ती पड़ती हैं इसलिए आम आदमी को काफी फायदा होता है.

उन्होंने बताया कि जो असर ब्रांडेड मेडिसिन खाने से शरीर में होता है वही असर जेनेरिक दवाइयों से भी होता है क्योंकि दोनों ही दवाइयाँ सेम फैक्ट्रियों में बनती हैं, जेनेरिक दवाइयों का पूरा फायदा जानने के लिए नीचे वीडियो देखें - 

Faridabad: 199 और बढ़कर फरीदाबाद में 23332 हुआ कोरोना मरीजों का आंकड़ा, 95.3% मरीज हुए ठीक


फरीदाबाद, 22 अक्टूबर। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब 134182 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 92339 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 41843 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 134422 होम आइसोलेशन पर हैं। 

उन्होंने बताया क़ि अब तक 233342 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 209727 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 287 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 23332 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 241 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 618 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 22233 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। 

उन्होंने बताया क़ि अब तक 240 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 25 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 06 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 188 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 100.2 दिन व रिकवरी रेट 95.3% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे।

Faridabad Corona Update: पूरे जिले में 8 कोरोना मरीज ICU में

faridabad-corona-virus-news-12-october-2020-hindi

फरीदाबाद, 12 अक्टूबर। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब 126623 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 83935 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42688 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 126857 होम आइसोलेशन पर हैं। 

उन्होंने बताया कि अब तक 218085 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 196106 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 345 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 21634 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 280 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 626 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 20494 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 234 मरीजों की मौत हो चुकी है। 

इसमें 36 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 08 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 162 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 104.9 दिन व रिकवरी रेट 94.7% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। 

उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

Faridabad Smart City Limited: साइकिल रैली निकालकर लोगों को किया कोरोना के प्रति जागरूक

 faridabad-corona-virus-awareness-cycle-rally-news

फरीदाबाद , 11 अक्टूबर: खेल परिसर में रविवार प्रातः Smart City Limited/एफएमडी के तत्वावधान में मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ गारिमा मित्तल के मार्गदर्शन में साईक्लोथान साईकलिग रैली का आयोजन किया गया। 

यह साईकल रैली कोविड-19 के संक्रमण के बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार लोगों मे  जागरूकता लाने के लिए निकाली गई। साईकल रैली सैक्टर-15 रैड लाइट, सैक्टर-14 व सैक्टर-15 के बीच सङक मार्ग से होती हुई सैक्टर-15,सैक्टर-16,सैक्टर-17 चौंक सन फ्लैग अस्पताल चौंक से होती हुई उपायुक्त निवास के रास्ते सैक्टर-15 से वापिस गुज़रकर खेल परिसर में सम्पन्न हुई।

साईकल रैली को Smart City Limited के अधीक्षक विनोद गौड़ ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 

उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यह रैली चार चैलेंज निर्णय की कङी में देश के 107 शहरों में आयोजित की गई है। फरीदाबाद को भी इसमें शामिल किया गया है। 

इसका मुख्य उद्देश्य कोविड-19 के मुश्किल के दौर में चुनौती पूर्ण स्थितियों में भारतीय शहरों को साईकल फ्रैंडली भावना की ओर प्रेरित करना है। यह चैलेंज गत 10 जुलाई को लांच हुआ था। इसके साथ शहर के प्रबुद्ध वर्ग नागरिकों, विशेषज्ञों और साईकिल प्रेमियों तथा समाज सेवियों से सहयोग लिया जाना है। 

इस अवसर पर डीजीएम Smart City Limited कुलदीप सिंह, अरविंद शेखावत, अमन पाल, भूपेश, श्रीराम सहित कई मान्य नागरिक उपस्थित थे.

Faridabad: अब तक मिले 21334 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 20191 हुए निगेटिव, 233 की मौत

faridabad-corona-update-10-october-2020

फरीदाबाद, 10 अक्टूबर। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब 125004 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 82365 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42639 लोग अंडर सर्विलांस हैं। 

कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 125237 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 215135 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 193512 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 289 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 21334 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 302 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 608 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 20191 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। 

अब तक 233 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 37 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 08 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 149 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 104.6दिन व रिकवरी रेट 94.6% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। 

उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

Corona: फरीदाबाद में वीरवार को मिले कोरोना के 182 नए केस, रिकवरी रेट बढ़ा

 faridabad-corona-virus-update-8-october-2020-news

फरीदाबाद, 8 अक्टूबर: उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 123437 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 80804 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42633 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 123667 होम आइसोलेशन पर हैं। 

उन्होंने बताया कि अब तक 211457 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 190070 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 355 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 21032 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 278 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 656 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। 

इसी प्रकार ठीक होने के बाद 19868 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 230 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 41 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 06 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 182 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 104.4 दिन व रिकवरी रेट 94.5% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। 

उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

Faridabad: करीब 100 दिन में डबल होने लगा कोरोना, 95 पर्सेंट मरीज होने लगे ठीक

faridabad-corona-update-95-percent-recovery-rate-news

फरीदाबाद, 07 अक्टूबर। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 122847 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 80024 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42593 लोग अंडर सर्विलांस हैं। 

उन्होंने बताया कि कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 122617 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 209622 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 188430 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 342 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 20850 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 280 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 632 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 19708 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। 

उन्होंने बताया कि अब तक 230 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 43 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 06 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 178 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 98.9 दिन व रिकवरी रेट 94.5% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। 

उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

Corona Update: आज 148 नए केस, 152 कोरोना मरीज़ स्वस्थ्य हुए

faridabad-corona-update-6-october-148-positive-cases

फरीदाबाद, 06 अक्टूबर। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 121837 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 79279 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42558 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 122067 होम आइसोलेशन पर हैं। 

उन्होंने बताया कि अब तक 207877 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 186885 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 320 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 20672 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 265 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 629 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 19548 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। 

उन्होंने बताया कि अब तक 230 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 48 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 10 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 148 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 100.3 दिन व रिकवरी रेट 94.6% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

Faridabad Corona Update: 129 नए केस लकिन 162 मरीज हुए ठीक

faridabad-corona-update-129-new-patient-on-5-october-2020

फरीदाबाद, 05 अक्टूबर। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 121050 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 78469 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42581 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 121277 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 206757 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 185891 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 342 की रिपोर्ट आनी शेष है। 

उन्होंने बताया कि अब तक 20524 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 282 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 619 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 19396 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 227 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 46 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 8 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 129 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 102.1 दिन व रिकवरी रेट 94.5% है।

उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। 

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

प्लाज़्मा डोनेट करें, इंसानों की जान बचाने में करें मदद, जागरूकता कार्यक्रम शुरू करेगा प्रशासन

faridabad-administration-start-awareness-program-plazma-donation

फरीदाबाद, 30 सितम्बर: उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला प्रशासन, ज़िला रैडक्रास सोसाइटी  व फ़रीदाबाद की अन्य सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से प्लाज्मा  जागरूकता अभियान चलाये जा रहे हैं। 

इसी कड़ी मे  आगामी 2 अक्टूबर को एक जागरूकता बाइक रैली का आयोजन किया जाएगा। प्रातः सुबह 7:30 बजे इस जागरूकता रैली को  हरी झंडी दिखाई जाएगी। 

रेड क्रॉस सोसाइटी के माध्यम से प्लाज्मा डोनेशन के ऊपर नुक्कड़ नाटक, बाइक रैली जिसमें सेक्टर 7,सेक्टर 3, गुड ईयर चौक चौक, हार्डवेयर, बीके चौक, सेक्टर 21 मार्केट, सेक्टर 37 मार्केट, सेक्टर 15  मार्केट, सेक्टर 9 रोटरी ब्लड बैंक के ऊपर इसका समापन किया जाएगा, बाइकर्स शहर में घूम-घूम कर लोगों को जागरुक करने का कार्य करेंगे, गो ग्रास के रिक्शा के माध्यम से ऑडियो टेप के द्वारा प्लाज्मा के लिए लोगों को प्रेरित किया जाएगा। जिला प्रशासन के माध्यम से एक मिस कॉल नंबर भी जारी किया जाएगा जिससे जो व्यक्ति प्लाज्मा डोनेट करना चाहता है, वह केवल मिस कॉल देगा जिला प्रशासन इच्छुक प्लाज्मा दानी के साथ समन्वय बनाकर प्लाज्मा डोनेट के लिए प्रेरित कर डोनेशन का काम करेगी।  

उपमंडल मजिस्ट्रेट जितेंद्र कुमार ने बताया कि जिला प्रशासन के द्वारा यह कार्यक्रम युद्ध स्तर पर लिया जाएगा। इससे कोरोना योद्धाओं को जागरुक कर प्लाज्मा डोनेट करवाने में बहुत अहम भूमिका रहेगी।

इस कार्य में फरीदाबाद की विभिन्न सामाजिक  संस्थाओं, समस्त रोटरी क्लब फरीदाबाद, अग्रवाल वैश्य समाज, सोम प्रकाश चैरिटेबल चैरिटेबल ट्रस्ट, सभार्य फाउंडेशन, महेश्वरी सेवा ट्रस्ट,थम्श रूडीज बाईकर, रेडक्रॉस सह सचिव बिजेंद्र सोरौत, कोऑर्डिनेटर विमल खंडेलवाल व अन्य सामाजिक संस्थाओं क विशेष योगदान है।

सरकार टेस्ट करने की फीस लेने लगी, अब रोजाना कम होते जा रहे हैं कोरोना के नए केस

 faridabad-corona-update-total-infection-and-recovered-patient

फरीदाबाद, 30 सितम्बर: फरीदाबाद में कोरोना वायरस के मामले रोजाना कम होते जा रहे हैं, अब नए मरीजों से अधिक पुराने मरीज रोजाना ठीक हो रहे हैं, नए मामलों की संख्या भी लगातार घटती जा रही है, जहाँ कुछ दिन पहले रोजाना 300 - 300 मरीज बढ़ रहे थे वहीं अब 150 के आसपास रोजाना मरीज बढ़ रहे हैं जबकि इससे डबल ठीक हो रहे हैं.

कोरोना मरीजों की घटती संख्या की यह भी वजह हो सकती है कि सरकार ने अब टेस्ट की फीस निर्धारित कर दी है, रैपिड टेस्ट की फीस 650 रुपये है जबकि RT PCR की फीस 1600 रुपये है. पहले टेस्ट के लिए सरकारी अस्पतालों में लाइन लगी रहती थी लेकिन फीस निर्धारित होने के बाद अब लाइनें कम होती जा रही हैं.

आज की रिपोर्ट

आज जिले में 155 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 92.3 दिन व रिकवरी रेट 92.8% है।

उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 117009 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 74502 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 42507 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 117228 होम आइसोलेशन पर हैं। 

अब तक 199781लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 179614 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 350 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 19817 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 344 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 861 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 18393 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 219 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 42 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 08 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है।