Palwal Assembly

Recent PostAll the recent news you need to know

फरीदाबाद पुलिस की बहुत बड़ी कार्रवाई, 5 रुपये के नकली सिक्के बनाकर गोरखधंधा करने वालों को दबोचा

faridabad-police-arrested-4-accused-making-rs-5-coin-delhi-ncr

फरीदाबाद: क्राईम ब्रांच बाॅर्डर व सैक्टर-48 ने संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुए 5 रूपये  के नकली सिक्केे बनाने/सप्लाई करने वाले एक महिला सहित 4 आरोपियों को दबोचा।

आरोपी करीब पिछले दो साल से नकली सिक्के बनाने ओर बेचने का काला कारोबार कर रहे थे। गणपतिधाम बहादुगढ़ में फेक्टरी लगाकर डाई द्वारा बनाऐ गए  5 रूपये के नकली सिक्के बना रहे थे। 

आरोपी नकली सिक्को को ज्यादातर एन.सी.आर के टाॅल प्लाजा पर करते थे सप्लाई।

टाॅल प्लाजा के कर्मचारी आम लोगों को छुटटे/खुले के रूप में देते थे नकली सिक्के।

क्रांइम बांच ने गणपतिधाम बहादुरगढ से नकली सिक्के बनाने की मशीन/डाई करीब पांच लाख के नकली सिक्के व लोहे की धातु व कच्चा माल इत्यादि साम्रगी की बरामद।

संजय कुमार पुलिस आयुक्त ने आज  प्रेस को संबोधित करते हुए  बताया कि दिनांक 19.05.19 को एम.वी.एन नाका पर मुखवर की सूचना  पर नाकाबंदी की गई। क्राइम ब्रांच ने चैकिंग के दौरान इनौवा कार की सीटो के नीचे 5 रूपये  के सिक्को से भरे 20 बड़े पैकेट  बरामद किये। हर पैकेट में 25 छोटे पैकेट थे. छाटे पैकेट में 5 रूपये कीमत के 100 सिक्के थे।

आरोपी ने बताया कि लोहे के 5 रूपये पर सोने की सुनहरी निकल चढा देते थे। इससे वह असली जैसे लगते थे। इन सिक्को को हम बाजार में खपा देेते थे। 

पुलिस ने सिक्के व निम्नलिखित चारो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।  

1.  दीपाली पुत्री विमल राय हाडा निवासी 32/ए फ्लैट मधुबन मादीपुर दिल्ली। 

2. राकेश भाटी  पुत्र खेम सिंह भाटी निवासी जगदम्बा नगर हीरापुर जयपुर।

3. सुभाष उर्फ  राहुल  पुत्र नन्द किशोर निवासी प्लाट न0 28 आनन्दपुर कराला दिल्ली। 

4. नासिर अली पुत्र रहीश अहमद निवासी रेवड़ी खुर्द थाना मिल्क जिला रामपुर 

उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ थाना सुरजकुंड में विभिन्न धाराओं में 420, 467, 468, 471,  238, 239, 34 आई.पी.सी के तरत मुकदममा दर्ज किया गया। 

आरोपी दिपाली धोखा देने की नीयत से आपााहिज  बच्चोंं की देखभाल के लिए एनजीओ चलाती थी जबकि नकली सिक्के के गोरख धन्धे में शामिल थी। आरोपी राकेश दीपाली का ड्राइवर का काम करता है

दूसरा आरोपी नासीर  भी पर्यवारण फाउंडेशन के नाम से यू.पी. में एनजीओ चलाता था।

दीवाली के पति नीरज गोस्वामी की मुलाकात जेल मेंं राहुल से हुई थी। सुभाष उर्फ राहुल को नकली  सिक्के बनवाने का आइडिया नरेश निवासी चरखी दादरी से लिया था। नरेश निवासी चरखी दादरी (भिवानी) भी नकली सिक्के बनाने के आरोप में कई सालो से जेल में बंद है। 

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने बताया कि आज आरोपियों को अदालत में पेश किया गया। आरोपियों का 7 दिन का पुलिस रिमांड लिया गया है. पुलिस रिमांड के दौरान पता लगाया जाएगा कि आरोपियों ने अब तक किन किन राज्यों में नकली सिक्कों को बेचा है और कितने नकली सिक्के अब तक मार्केट में चला चुके हैं।