Palwal Assembly

Showing posts with label Election. Show all posts

सेक्टर 21 C में 4 कारों के चारों टायर चोरी

faridabad-sector-21-c-car-tire-chori-news-20-october-2019

फरीदाबाद, 20 अक्टूबर: फरीदाबाद के चोरों का मनोबल इतना बढ़ गया है कि सेक्टर 21 C में 4 कारों के चारों टायर चोरी कर लिए। यह घटना सेक्टर-21 C में मकान नंबर 112 के पास की है।

faridabad-sector-21-c-car-tire-chori

कारों के टायर चोरी होने से लोग हैरान हैं। लोगों में डर फ़ैल गया है कि पता नहीं उनकी कार के टायर कब चोरी हो जाएं। लोगों की नींद उड़ गयी है।

faridabad-sector-21-c-car-tire-chori-2

टायर चोरी की वारदात को अंजाम देने के लिए चोरों ने कार के नीचे ईंटे लगाकर कार को ऊपर उठा लिया और आसानी से टायर खोलकर ले गए। देखने पर ऐसा लग रहा है कि इस घटना को कई चोरों ने मिलकर अंजाम दिया है.

वाह भाई, चुनाव में खर्च होते हैं 60-70 लाख, एक ने 3 बार हारकर और रोकर कमा लिए 10-15 करोड़ रुपये

faridabad-election-special-news-in-hindi

फरीदाबाद, 19 अक्टूबर: जनता का ह्रदय बहुत दयालू होता है और कुछ लोग इसका खूब फायदा उठाते हैं। विधानसभा चुनाव में खर्च  की लिमिट 25 लाख रुपये है हालाँकि कुछ लोग करोड़ रुपये तक खर्च कर देते हैं। मान लो तीन बार लड़ने में तीन करोड़ रुपये खर्च हुए तो भी दुखी होने की जरूरत नहीं है। 

ऐसे लोगों को थोड़ा सा भावुक होना आना चाहिए। अगर आंसू ना निकलें तो ग्लिसरीन लगाकर आंसू निकाले जा सकते हैं। ऐसा करने पर जनता का मन पिघल जाता है और उसके बाद नोटों की बारिश शुरू हो जाती है। 

फरीदाबाद में एक नेता ने यही तिकड़म अपनाया। एक पार्टी की टिकट ना मिलने पर उसने खुद को पीड़ित बताना शुरू कर दिया। एक दिन मीटिंग बुलाकर पब्लिक के सामने रो रो कर कहने लगा कि मैं तीन बार चुनाव लड़ लिया हूँ, अब मैं बर्बाद हो गया हूँ. मैं मृत्यु की शय्या पर हूँ। 

नेता के मुंह से ऐसी बात सुनते ही जनता का मन पिघल गया, उसके बाद नेता पर जनता ने नोटों की बारिश कर दी, किसी ने एक हजार दिए, किसी ने 10 हजार दिए, किसी ने एक लाख दिए और किसी ने 50 लाख रुपये तक दे दिए। 

चर्चाओं के अनुसार अब तक उस नेता के पास करीब 15 करोड़ रुपये आ चुके हैं और अभी भी नोटों की बारिश हो रही है। हो सकता है कि अगले कुछ दिनों में यह आंकड़ा 20 करोड़ पार हो जाए। 

मतलब जितना रुपये चुनाव जीतने के बाद नहीं कमाया जा एकता उससे भी अधिक चुनाव हारने पर कमाया जा सकता है, बस थोड़ा सा रोने का नाटक करना आना चाहिए। जनता किसी भी आदमी को रोते हुए नहीं देख सकती। अगर कोई दुखी दिखाई देता है तो जनता अपनी जमा पूँजी उसपर लुटा देती है। इस नेता ने बताया कि उसे कई महिलाओं ने अपनी गुल्लक तोड़कर पैसे दिए हैं।

जो चालाक नेता होते हैं वो कई तरह के तिकड़म अपनाते हैं, वे पहले अपने ही आदमियों से सबसे सामने लाखों रुपये दिलवाते हैं, उसके बाद जब लोग सोचते हैं कि चलो हम भी कुछ मदद कर देते हैं, उसके बाद नोटों की बारिश का सिलसिला शुरू हो जाता है, जनता को पता ही नहीं होता कि वो चालाकी का शिकार हुए हैं और उस नेता की कोठी नोटों से भर रहे हैं। 

मंत्री KPG की कार्यकर्ताओं से अपील, BJP प्रत्याशी राजेश नागर को जिताने के लिए लगा दो पूरी ताकत

minister-krishan-pal-gurjar-appeal-to-vote-for-rajesh-nagar-news

फरीदाबाद, 19 अक्टूबर:  केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कल हरियाणा चुनाव प्रभारी नरेंद्र तोमर की अध्यक्षता में तिगांव के भाजपा कार्यकर्ताओं और जिले के भाजपा नेताओं की एक बैठक बुलाई जिसमें कार्यकर्ताओं से अपील की गई कि तिगांव के भाजपा प्रत्याशी राजेश नागर को चुनाव जिताने के लिए पूरी ताकत लगा दें। 

कार्यकर्ताओं से अपील की गयी कि सभी लोग एकजुट हो जाएं और यह सीट भारी मतों से जीतकर भाजपा की झोली में डालने का काम करें। 

इस अवसर पर सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कृष्णपाल गुर्जर को आश्वासन दिया कि हम यह सीट जीतने की पूरी कोशिश करेंगे और राजेश नागर को विधायक बनाएंगे। मीटिंग में कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह दिखा। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तिगांव विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी राजेश नागर और कांग्रेस प्रत्याशी ललित नागर के बीच में मुकाबला है। पिछले चुनाव में मामूली वोटों से ललित नागर की जीत हुई थी इसलिए भाजपा अबकी बार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। यह सीट जीतने के लिए कई बड़े नेताओं से रैलियां करवाई गयीं हैं। 21 अक्टूबर को चुनाव है और 24 अक्टूबर को नतीजे आएंगे। चुनाव जीतने के लिए राजेश नागर भी खूब मेहनत कर रहे हैं।  

ढोंगियों के चक्कर में पृथला की जनता को फंसने से बचाकर हर बूथ पर कमल खिलाना है: KPG सोहनपाल

krishanpal-gurjar-and-sohanpal-chhokar-winning-tip-to-bjp-workers

फरीदाबाद, 19 अक्टूबर: पृथला विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी सोहनपाल छौंकर ने केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर की अध्यक्षता में आज सीकरी भाजपा कार्यालय पर कार्यकर्ताओं की एक बैठक बुलाई जिसमें 21 अक्टूबर को मतदान की तैयारी के लिए दिशा निर्देश दिए गए। इस अवसर पर पूर्व विधायक टेकचंद शर्मा, पूर्व विधायक शारदा राठौर, भाजपा नेता पवन रावत, दिनेश मलिक के अलावा सैकड़ों भाजपा नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे। 

इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि आजादी के बाद पृथला में पहली बार कमल खिलाने का अवसर आया है, केंद्र में मोदीजी की सरकार है और राज्य में दोबारा मनोहर जी की सरकार बनने वाली है। हमें पृथला में भी कमल खिलाकर मनोहर जी के हाथों को मजबूत करना है इसलिए यहाँ पर भारी मतों से चुनाव जीतना आवश्यक है। 

मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि हमें सिर्फ पृथला में कमल नहीं खिलाना है, हमें तो हर बूथ पर कमल खिलाना है इसलिए सभी कार्यकर्ताओं को अपनी पूरी ताकत लगानी होगी। उन्होंने कहा कि जिस तरह से लोकसभा चुनावों में आपने अधिकतर बूथों पर कमल खिलाये थे उसी तरह से विधानसभा में आपको सभी 210 बूथों पर कमल खिलाना है और सोहनपाल छोकर को भारी मतों से चुनाव जिताना है। 

इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी सोहनपाल छोकर ने कहा कि पृथला विधानभा की जनता ने पृथला में कमल खिलाने का मन बना लिया है लेकिन हमें अति-आत्मविश्वास में फंसने से बचना होगा। कुछ लोग जनता को तरह तरह की अफवाह फैलाकर गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं, कुछ लोग हारने के बाद आत्महत्या करने की बात करके जनता को भावनात्मक ब्लैकमेल कर रहे हैं इसलिए हमें जनता को ऐसे ढोंगियों के चक्कर में फंसने से बचाना होगा क्योंकि जनता ने ढोंगियों के चक्कर में आकर अगर कमल खिलाने में चूक कर दी तो इससे जनता का ही नुकसान होगा कर पांच साल के लिए विकास का पहिया रुक सकता है। 

सोहनपाल छोकर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि जनता को ढोंगियों के बारे में ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें, कुछ लोगों को सिर्फ भाजपा की वोट काटने के लिए खड़ा किया गया है इसलिए ऐसे लोगों की साजिश का पर्दाफाश करें। अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और जानकारों को भी ऐसे ढोंगियों के चक्कर में फंसने से बचने के लिए कहें। 

सोहनपाल छोकर ने कहा कि भाजपा ने मुझ जैसे आम कार्यकर्ता को टिकट देकर ना सिर्फ मेरा मान सम्मान बढ़ाया है बल्कि पृथला क्षेत्र की जनता का भी मान सम्मान बढ़ा है, भाजपा में सभी कार्यकर्ताओं को राजनीति में मौका मिलता है, दो बार एक प्रत्याशी को मौका मिला लेकिन उसकी दोनों बार हार हुई, इस बार मुझे मौका मिला है, अगली बार आपको भी मौका मिल सकता है। कुछ लोग पार्टी के बारे में गलत अफवाह फैला रहे हैं इसलिए ऐसे लोगों का पर्दाफाश करें। 

सोहनपाल छोकर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि पृथला का चुनाव जीतने के लिए सभी भाजपा कार्यकर्ताओं को पूरी ताकत लगानी होगी, पृथला में विकास जारी रखने के लिए हमें हर हाल में कमल खिलाना होगा। अगर आप लोगों की मेहनत रंग लाई और जनता ने हमें आशीर्वाद दिया तो पृथला में विकास का एक नया अध्याय शुरू होगा और जनता के सभी काम तेजी से किये जाएंगे।

जीतने के बाद सबसे पहले कराऊंगा टूटे हुए रोड, खुदी हुई गलियां और सीवरेज का काम: लखन सिंगला

lakhan-singla-congress-candidate-promise-to-solve-road-problem

फरीदाबाद, 18 अक्टूबर: फरीदाबाद विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी लखन सिंगला ने जनता से वादा किया है कि चुनाव जीतने के बाद सबसे पहले टूटे हुए रोड को सही करवाएंगे, जितनी भी गलियों को खोदा गया है उसे सही किया जाएगा और सीवरेज सिस्टम को दुरुस्त किया जाएगा ताकि जनता को नरक जैसे जीवन से छुटकारा मिल सके। 

उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल में जनता गड्ढों में ज्यादा रही है और अच्छी सड़कों पर कम चली है, कई रोड एक एक साल से खुदे पड़े हैं। नहरपार की कॉलोनियों का बुरा हाल है। मुझसे जनता ही ये परेशानी देखी नहीं जाती इसलिए मैं जनता के आशीर्वाद से विधायक बनने के बाद इन समस्याओं को जल्द से जल्द खत्म करवाऊंगा। 

आपको बता दें कि लखन सिंगला पिछले 30 वर्षों से जनता की इन परेशानियों को उठाते रहे हैं। वह कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके सामने भाजपा प्रत्याशी नरेंद्र गुप्ता हैं जिसे लखन बाहरी बता रहे हैं। लखन सिंगला कहते हैं कि नरेंद्र गुप्ता को ना तो फरीदाबाद की जनता जानती है और ना ही नरेंद्र गुप्ता फरीदाबाद को जानते हैं। फरीदाबाद का विकास सिर्फ मैं करा सकता हूँ, चुनाव जीतने के बाद मैं 24 घंटे जनता की सेवा में लगा रहूंगा। 

तीसरे चौथे स्थान पर चल रहे नयनपाल रावत ने शुरू किया एक और इमोशनल ड्रामा

prithla-candidate-nayanpal-rawat-threaten-public-for-suicide-after-loss

फरीदाबाद, 18 अक्टूबर: भाजपा से बगावत करके पृथला विधानसभा से आजाद उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे नयनपाल रावत ने पृथला विधानसभा की जनता को आत्महत्या की धमकी दी है।

उन्होंने एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि अगर आपने मुझे वोट देकर चुनाव नहीं जिताया तो इस दीवाली पर मेरी अर्थी निकलेगी।

नयनपाल रावत ने इस सन्देश के माध्यम से पृथला विधानसभा की जनता को इमोशनल ब्लैकमेल करने का प्रयास किया है जो चुनाव आयोग की आदर्श आचार संहिता के भी खिलाफ है।

जब इस मामले में पृथला विधानसभा के कुछ मतदाताओं से बातचीत की गयी तो लोगों ने कहा कि रोने धोने और आत्महत्या की धमकी देने पर हम लोग वोट नहीं देंगे, हम तो समाजसेवा और विकास के नाम पर वोट देंगे।

अब देखते हैं कि नयनपाल रावत का यह इमोशनल ड्रामा काम आता है या पृथला की जनता अपने भविष्य के बारे में सोचकर भाजपा या अन्य उम्मीदवार को वोट देती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भाजपा ने नयनपाल रावत को छह साल के लिए पार्टी से निष्काषित कर दिया है। वैसे तो  नयनपाल रावत तीसरे या चौथे स्थान पर चल रहे हैं लेकिन यह इमोशनल ड्रामा करके उन्होंने पृथला की जनता को एक बार फिर से इमोशनली ब्लैकमेल करने का प्रयास किया है। 

भाजपा तिगांव में जितना ज्यादा लगा रही जोर, उतना अधिक हो रहा ललित नागर का फायदा, पढ़ें जैसे?

tigaon-vidhansabha-lalit-nagar-may-win-election-2019-prediction

फरीदाबाद, 18 अक्टूबर: ललित नागर को तिगांव विधानसभा में हराने के लिए भाजपा ने पूरा जोर लगा दिया है, अब तक मोदी, खट्टर, अमित शाह, स्मृति ईरानी और मनोज तिवारी से रैलियां करवाई जा चुकी हैं लेकिन ललित नागर की जड़ें उखाड़ने में भाजपा नाकाम साबित हो रही है, भाजपा जितना अधिक जोर लगा रही है उतना ही ललित नागर को फायदा हो रहा है और उनका कद लगातार बढ़ता जा रहा है। 

अब तिगांव की जनता सोचने लगी है कि ललित नागर बहुत बड़ा नेता है इसीलिए भाजपा ने उसे हराने के लिए पूरा जोर लगा दिया है। भाजपा के लिए अच्छा ये होता कि किसी एक बड़े नेता की रैली करवा दी जाती लेकिन यहाँ पर कभी मुख्यमंत्री मनोहर को बुलाया जाता है, कभी अमित शाह को, कभी स्मृति ईरानी को, कभी मनोज तिवारी को और कभी किसी और लोग। अब तक ये देखा गया है कि इनमें से कोई एक नेता ही माहौल को बदल देता है लेकिन यहाँ पर किसी का बस ही नहीं चल रहा है। 

जनता सोच रही है कि भाजपा की यहाँ पर दाल नहीं गल रही है इसीलिए तमाम बड़े नेताओं को बुलाया जा रहा है। ललित नागर भी इसका फायदा उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं ने सारी ताकत तिगांव में ही लगा रखी है, पूरा हरियाणा पड़ा है लेकिन इन्हें प्रचार करने के लिए और जगह नहीं दिखाई पड़ रही है। 

ऐसा नहीं है कि ललित नागर अकेले ही प्रचार कर रहे हैं, उनके प्रचार में भी आज सचिन पायलट आ रहे हैं। अब देखते  हैं कि ललित नागर दोबारा विधायक बनते हैं या बाजी भाजपा के हाथों में आती है। 

नीरज शर्मा के लिए बन गया एकतरफा माहौल तो उड़े विरोधियों के होश, Whatsapp पर किया फेक ऑडियो वायरल

nit-vidhansabha-news-fake-audio-viral-of-neeraj-sharma-exposed

फरीदाबाद, 18 अक्टूबर: NIT 86 विधानसभा में पंडित शिवचरण लाल शर्मा के लाल नीरज शर्मा के पक्ष में एकतरफा माहौल बन रहा है, ये देखकर दूसरे प्रत्याशी घबरा गए हैं और नीरज शर्मा को बदनाम करने के लिए एक फेक ऑडियो तक वायरल कर रहे हैं। 

इस फेक टेप में कोई बुकी से बातचीत कर रहा है और उससे रेट पूछ रहा है, फेक ऑडियो बनाने वालों ने इसमें नीरज शर्मा की फोटो जोड़ रखी है ताकि जनता को लगे कि बुकी से नीरज शर्मा ही बात कर रहे हैं। 

जब नीरज शर्मा से इस बारे में बातचीत की गयी तो उन्होंने कहा कि NIT विधानसभा की जनता ने उन्हें एकतरफा आशीर्वाद देने का मन बना लिया है इसलिए दूसरे प्रत्याशी क्षणयन्त्र करके उन्हें बदनाम करना चाहते हैं लेकिन NIT की जनता समझदार है। जनता को पता है कि पंडित परिवार ने हमेशा जनता की सेवा की है और हर तरह से बेदाग़ है। 

नीरज शर्मा ने कहा कि विरोधी लोग जितनी साजिशें करेंगे जनता हमें उतना ही आशीर्वाद देगी। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नीरज शर्मा कांग्रेस पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने जनता से पंजे का बटन दबाकर उन्हें जिताने की अपील की है। 

तीन सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी मजबूत, अगर होगी इनकी जीत तो भाजपा दे सकती है ऑफर: सूत्र

bjp-may-give-offer-to-congress-mla-winning-in-faridabad-news

फरीदाबाद, 17 अक्टूबर: हरियाणा में भले ही भाजपा का एकतरफा माहौल हो लेकिन फरीदाबाद में भाजपा के पक्ष में एकतरफा माहौल नहीं है। तीन सीटों पर कांग्रेस पड़ रही है लेकिन भाजपा ने इसका भी तोड़ निकाल लिया है।

हमें सूत्रों से जानकारी मिली है कि तीनों मजबूत कांग्रेस प्रत्याशियों पर भाजपा की नजर है। जैसे ही ये लोग चुनाव जीतेंगे इन्हें तुरंत ही ऑफर दिया जाएगा।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ तिगांव, फरीदाबाद और NIT विधानसभा में भाजपा के लिए निगेटिव रिपोर्ट है। तीनों क्षेत्रों में भाजपा उम्मीदवार कमजोर पड़ रहे हैं, फरीदाबाद में लखन सिंगला भारी पड़ रहे है, तिगांव में ललित नागर भारी पड़ रहे हैं और NIT में नीरज शर्मा भारी पड़ रहे हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तीनों क्षेत्रों में भाजपा चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत लगाएगी और फिर भी भाजपा की हार हुई तो तीनों नेताओं को ऑफर देकर इन्हें अपने साथ मिलाने का प्रयास किया जाएगा।

तीनों नेताओं को कहा जाएगा कि आप सरकार के साथ मिलकर काम कीजिये और अपने क्षेत्र के विकास के लिए आवश्यकतानुसार पैसे लीजिये। भाजपा ने इसी तरह से नगेंदर भड़ाना और टेकचंद शर्मा के साथ डील की थी। दोनों विधायकों ने सरकार के साथ मिलकर अपने क्षेत्र के विकास के लिए पैसे लिए थे।

भाजपा चाहती है कि अगर फरीदाबाद की किसी भी विधानसभा सीट पर उसकी हार हो तो स्मार्ट सिटी मिशन नहीं रुकना चाहिए। अगर सभी विधायक सरकार के साथ मिलकर काम करेंगे तो फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने का सपना साकार हो सकेगा वरना दूसरी पार्टी के विधायक बनते ही उन क्षेत्रों से सरकार का तालमेल ख़त्म हो जाएगा और विकास भी रुक जाएगा।

जानकारी के अनुसार पृथला विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी की जीत होगी तो वहां पर भाजपा तेजी से विकास जारी रखेगी लेकिन कांग्रेस या अन्य पार्टी के जीतते ही वहां पर विकास रुक सकता है। भाजपा विकास जारी रखने के लिए अपने प्रत्याशी सोहनपाल को चुनाव जितवाने के लिए पूरी ताकत लगा रही है. कल राजनाथ सिंह एक बड़ी रैली को सम्बोधित करेंगे। बड़खल विधानसभा में भी भाजपा की जीत के आसार हैं। बल्लभगढ़ में निर्दलीय प्रत्याशी दीपक चौधरी के जीतते ही उन्हें भाजपा में शामिल करवा लिया जाएगा इसलिए वहां पर भाजपा को नुकसान नहीं होगा। 

पृथला वालों, मेरे दोस्त सोहनपाल को जिताओगे तो हम दोनों आपके लिए खूब काम करेंगे: देवेंद्र चौधरी

devender-chaudhary-appeal-prithla-people-to-vote-for-bjp-sohanpal-chhokar

फरीदाबाद, 17 अक्टूबर: पृथला विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी सोहनपाल छोकर ने आज जनसम्पर्क अभियान के तहत गाँव छपरौला में चुनाव प्रचार किया और जनता से 21 अक्टूबर को भाजपा को भारी मतों से जिताने की अपील की। इस मौके पर सोहनपाल छोकर को भारी जनसमर्थन मिला। आज सोहनपाल छोकर के दोस्त और वरिष्ठ डिप्टी मेयर देवेंद्र चौधरी भी अपने दोस्त के लिए वोट मांगने पहुंचे। उन्होंने समस्त पृथला विधानसभा वासियों से सोहनपाल छोकर को भारी मतों से जिताने की अपील की। देवेंद्र चौधरी ने कहा कि अगर आपने मेरे दोस्त सोहनपाल को अपना आशीर्वाद दिया तो हम दोनों मिलकर आपकी खूब सेवा करेंगे और शिकायत का मौका नहीं देंगे। 

इस अवसर पर जनता को संबोधित करते हुए सोहनपाल छोकर ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनना तय है इसलिए पृथला वासियों को कोई चूक नहीं करनी चाहिए और यहाँ से भी कमल खिलाकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रधानमंत्री मोदी के हाथों को मजबूत करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर आपने ये मौक़ा गँवा दिया तो राज्य सरकार और केंद्र सरकार से लिंक टूट जाएगा और पांच साल आपको इन्तजार करना पड़ेगा।
भाजपा प्रत्याशी ने कहा कि कुछ लोग हमारे खिलाफ साजिशें कर रहे हैं, कुछ लोगों को भाजपा के वोट काटने के लिए खड़ा कर दिया गया है ताकि कोई और बाजी मार ले इसलिए आप लोगों को सावधान रहना होगा। अगर आप लोग उनकी साजिशों में आ गए तो पहली बार कमल खिलाने का मौका आपके हाथों से निकल जाएगा। उन्होंने जनता से कहा कि आप लोग जब 21 अक्टूबर को वोट देने जाएं तो एक मजबूत सरकार के लिए वोट दें, अगर आपने भाजपा को वोट दिया तो मजबूत सरकार में आपको भी हिस्सेदारी मिलेगी।

सोहनपाल छोकर ने कहा कि अगर मुझे पृथला विधानसभा वासियों की सेवा करने का मौक़ा मिलता तो वादा करता हूँ कि कभी पीठ नहीं दिखाऊंगा और आपका भरोसा टूटने नहीं दूंगा। मैं प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल और केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर के आशीर्वाद से पृथला विधानसभा क्षेत्र को विकास में नंबर वन बना दूंगा।

सोहनपाल छोकर को गाँव वालों का भारी जनसमर्थन मिला और जनता ने उन्हें आशीर्वाद देने का भरोसा दिया। सोहनपाल ने भी सभी गाँव वासियोँ और 36 बिरादरी का धन्यवाद किया। 

जीतेंगे तो.. आधे शहर पर 5 साल हुकूमत करेंगे दोनों भाई

nagender-bhadana-and-vijay-pratap-singh-from-nit-and-badkhal-vidhansabha

फरीदाबाद, 17 अक्टूबर: 21 अक्टूबर को फरीदाबाद की 6 विधानसभा सीटों पर चुनाव होगा। 24 अक्टूबर को नतीजे आएँगे। NIT विधानसभा और बड़खल विधानसभा पर सबकी नजरें टिकी होंगी क्योंकि दोनों विधानसभा से दो चचेरे भाई नागेंद्र भड़ाना और विजय प्रताप चुनाव लड़ रहे हैं। नगेंदर भड़ाना भाजपा से उम्मीदवार हैं तो विजय प्रताप कांग्रेस पार्टी से उम्मीदवार हैं। 

दोनों भाइयों ने चुनाव जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है। लगाएं भी क्यों ना, बड़खल और NIT विधानसभा का क्षेत्र जोड़ दें तो आधा शहर इसके दायरे में आ जाता है और आधे शहर पर हुकूमत करना कौन नहीं चाहेगा। आपकी जानकारी के लिए दें कि विधायकों का हुकम हर कोई मानता है चाहे नगर निगम के अधिकारी हों या पुलिस प्रशासन हो। विधायक जनता का काम करने के लिए अधिकारियों को जो भी हुकम देते हैं उसे अधिकारी फटाफट मानकर जनता का काम कर देते हैं, विधायक लोग भी अधिकारियों पर हुकम चलकर जनता का काम तेजी से करवा सकते हैं चाहे रोड का काम हो, जलभराव की समस्या है, सीवरेज की समस्या हो या बिजली पानी की समस्या हो। अगर दोनों भाई जीते तो अपने अपने इलाके में इलाके में दोनों भाइयों की हुकूमत हो जाएगी और दोनों क्षेत्र को मिलाकर आधा शहर उनकी हुकूमत के दायरे में आ जाएगा। अगर दोनों भाइयों ने अच्छे से हुकूमत चलाई तो जनता उन्हें फिर से मौका दे सकती है। 

नगेंदर भड़ाना 2014 में चुनाव जीतकर विधायक बन गए लेकिन उनके चाचा महेंद्र प्रताप सिंह की किस्मत साथ नहीं दे पायी और वह चुनाव हार गए। उससे पहले वह 8 बार विधायक और चार बार मंत्री रह चुके थे लेकिन बड़खल की जनता ने हुकूमत में बदलाव करते हुए सीमा त्रिखा के हाथों में बड़खल की हुकूमत थमा दी। अगर 2014 में महेंद्र प्रताप की जीत होती तो आधे शहर पर चाचा भतीजे की हुकूमत हो जाती। 

अबकी बार महेंद्र प्रताप ने अपने बेटे विजय प्रताप जो रिश्ते में नगेंदर भड़ाना के चचेरे भाई हैं उन्हें मैदान में उतारा है। अगर अबकी बार जनता ने चाहा तो दोनों भाई आधे शहर पर राज करेंगे। अब देखते हैं कि 21 अक्टूबर को NIT विधानसभा और बड़खल विधानसभा की जनता क्या फैसला सुनाती है। दोनों भाइयों के हाथों में आधे शहर की सत्ता आती है या कोई और बाजी मारता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि  भाजपा 75 से अधिक सीटें जीतकर एक बार फिर से हरियाणा पर अपनी हुकूमत चलाना चाहती है वहीं कांग्रेस भाजपा के दावे की हंसी उड़ा रही है। 

ललित नागर को हराने के लिए दिल्ली से एक और योद्धा भेजेगी भाजपा

manoj-tiwari-rally-in-tigaon-basantpur-road-shiv-enclave-17-october

फरीदाबाद, 16 अक्टूबर: तिगांव के विधायक और कांग्रेस प्रत्याशी ललित नागर से तिगांव सीट छीनने के लिए भाजपा ने अपनी पूरी ताकत लगा दी है। ललित नागर को हराने के लिए दिल्ली से एक से बढ़कर एक योद्धा भेजे जा रहे हैं। 

आपको बता दें कि फरीदाबाद के सभी प्रत्याशियों को जिताने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने फरीदाबाद में रैली की थी। उसके बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने तिगांव में रैली की, उसके बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तिगांव में रैली की, उसके बाद खुद भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह तिगांव चले आये। 

अब खबर आयी है कि दिल्ली से एक और बड़े योद्धा को तिगांव भेजा जाएगा। दिल्ली के सांसद और दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी 17 अक्टूबर को करीब 12 बजे दोपहर शिव एन्क्लेव, सन्डे बाजार, बसंतपुर रोड पर एक बड़ी रैली को सम्बोधित करने वाले हैं। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तिगांव में भाजपा ने 2014 के प्रत्याशी राजेश नागर को फिर से टिकट दिया है।  2014 में राजेश नागर ने ललित नागर को कड़ी टक्कर दी थी लेकिन कुछ वोटों से उनकी हार हो गयी थी। इस बार भाजपा तिगांव में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती इसलिए दिल्ली से सभी बड़े योद्धाओं को तिगांव भेजा जा रहा है। 

बल्लभगढ़ की जनता से बोले दीपक चौधरी, मेरे लिए आप ही मोदी, आप ही बड़े मंत्री, आप ही स्टार प्रचारक

ballabhgarh-independent-candidate-deepak-chaudhary-new-hindi

फरीदाबाद, 16 अक्टूबर: बल्लभगढ़ के आजाद उम्मीदवार दीपक चौधरी ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत लगा दी है, उन्हें हर तरफ से भारी समर्थन भी मिल रहा है। कांग्रेस ने फरीदाबाद विधानसभा के नेता आनंद कौशिक को टिकट देकर दीपक का रास्ता आसान कर दिया है. आनंद कौशिक फरीदाबाद से तैयारी कर रहे थे और वहां उनकी पकड़ भी थी लेकिन उन्हें अचानक बल्लभगढ़ का प्रत्याशी बना दिया गया।

बल्लभगढ़ में दीपक चौधरी को मूलचंद शर्मा के बीच सीधी टक्कर है। मूलचंद शर्मा के लिए वोट मांगने बड़े बड़े  भाजपा नेता, मोदी, मनोहर और कैबिनेट मंत्री आ रहे हैं तो दीपक चौधरी अकेले ही जनता के बीच जा रहे हैं।

कल चुनाव प्रचार के दौरान दीपक चौधरी ने जनता को सम्बोधित करते हुए कहा - यह चुनाव बल्लभगढ़ की जनता लड़ रही है, एक तरफ बड़े बड़े नेता हैं, जिनके लिए प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और बड़े बड़े कैबिनेट मंत्री वोट मांगने आ रहे हैं तो दूसरी तरफ मैं आपके भरोसे चुनाव लड़ रहा हूँ, मेरे लिए तो आप ही मोदी, आप ही कैबिनेट मंत्री और आप ही स्टार प्रचारक हैं, मुझे तो सिर्फ आप पर भरोसा है।

दीपक चौधरी ने कहा कि मैं पिछले कुछ दिनों से देख रहा हूँ कि मेरे लिए बल्लभगढ़ का बच्चा बच्चा वोट मांग रहा है, कोई बस में  जाता है तो मेरे लिए वोट मांगता है, लोग अपने दोस्त रिश्तेदार और साथियों को मुझे वोट देने की अपील कर रहे हैं यह मेरे लिए बहुत ही सौभाग्य की बात है।

दीपक चौधरी ने कहा कि हम लोगों को ही एक दूसरे के सुख दुःख में काम आना है, बड़ी बड़ी पार्टियों के बड़े बड़े स्टार प्रचारकों को नहीं पता कि वे चोर और डकैत के प्रचार के लिए आ रहे हैं।

दीपक चौधरी ने कहा कि मैं सिर्फ विधायक बनने के लिए चुनाव नहीं लड़ रहा हूँ, मैं तो आपके अधिकारों ने लिए चुनाव लड़ रहा हूँ। पिछले 20 - 25 वर्षों से बल्लभगढ़ में कोई भी बड़ा सरकार अस्पताल नहीं बना, हर आदमी प्राइवेट मेडिक्लेम नहीं करवा सकता। हमें स्कूलों कर अस्पतालों की जरूरत है। अगर मुझे आपकी सेवा का मौक़ा मिला तो बल्लभगढ़ की जनता की सभी मूलभूत सुविधाओं को पूरा करने का काम करूंगा। 

आपकी जानकारी के लिए बल्लभगढ़ के पार्षद और विधानसभा चुनाव में आजाद उम्मीदवार दीपक चौधरी की नुक्कड़ सभाओं में भारी भीड़ जुट रही है, जनता के अपार समर्थन से उत्साहित होकर दीपक  चौधरी ने कहा कि बल्लभगढ़ की जनता ने दीवाली से पहले दीपक को रोशनी देने का मन बना लिया है। 

दीपक चौधरी ने कल ऊंचा गाँव, शुभाष कॉलोनी, भगत सिंह कॉलोनी, यादव कॉलोनी, चावला कॉलोनी और आदर्श नगर में छोटी छोटी नुक्कड़ सभाएं की जिसमें हजारों लोगों ने पहुंचकर उन्हें जीत का आशीर्वाद दिया।

दीवाली से पहले सिलेंडर का बटन दबाकर दीपक को रोशनी देने के लिए बल्लभढ़ की जनता तैयार: दीपक चौधरी

deepak-chaudhary-ballabhgarh-independent-candidate-may-win-election

फरीदाबाद, 16 अक्टूबर: बल्लभगढ़ के पार्षद और विधानसभा चुनाव में आजाद उम्मीदवार दीपक चौधरी की नुक्कड़ सभाओं में भारी भीड़ जुट रही है, जनता के अपार समर्थन से उत्साहित होकर दीपक  चौधरी ने कहा कि बल्लभगढ़ की जनता ने दीवाली से पहले दीपक को रोशनी देने का मन बना लिया है। 

दीपक चौधरी ने कल ऊंचा गाँव, शुभाष कॉलोनी, भगत सिंह कॉलोनी, यादव कॉलोनी, चावला कॉलोनी और आदर्श नगर में छोटी छोटी नुक्कड़ सभाएं की जिसमें हजारों लोगों ने पहुंचकर उन्हें जीत का आशीर्वाद दिया। 

दीपक चौधरी ने जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह चुनाव बल्लभगढ़ की जनता लड़ रही है, एक तरह बड़े बड़े नेता हैं, जिनके लिए प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और बड़े बड़े कैबिनेट मंत्री वोट मांगने आ रहे हैं तो दूसरी तरफ मैं आपके भरोसे चुनाव लड़ रहा हूँ, मेरे लिए तो आप ही मोदी, आप ही कैबिनेट मंत्री और आप ही स्टार प्रचारक हैं। 

फरीदाबाद में दो दिवसीय विशेष किकबॉक्सिंग ट्रेनिग कैंप

faridabad-special-kickboxing-training-camp-nit-3-news

फरीदाबाद, 16 अक्टूबर: फरीदाबाद में दो दिवसीय विशेष किकबॉक्सिंग ट्रेनिग कैंप आयोजित होने वाला है। फरीदाबाद में पहली बार इटालियन प्रशिक्षक मानुएल नोर्दिओ सिखाएंगे अंतर्राष्ट्रीय स्तर किकबॉक्सिंग तकनीक. इस  ट्रेनिंग से जिले व राज्य के किकबॉक्सिंग खिलाड़ियो को मिलेगा लाभ। 

"वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन" के मार्गदर्शन एवं 'फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग एसोसिएशन' के तत्वाधान में 'दो दिवसीय विशेष किकबॉक्सिंग प्रशिक्षण शिविर' का आयोजन किकबॉक्सिंग हॉल, ऍन एच - 3, फरीदाबाद में दिनांक 18 से 19 अक्टूबर को किया जा रहा है। 'वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन' के अध्यक्ष एवं हरियाणा किकबॉक्सिंग एसोसिएशन के संस्थापक महासचिव श्री सन्तोष कुमार अग्रवाल ने बताया कि उक्त प्रशिक्षण शिविर में फरीदाबाद के आलावा दिल्ली के भी खिलाडी एवं प्रशिक्षक हिस्सा लेंगे। किकबॉक्सिंग खिलाड़ियो के तकनीकी विकास एवं कुशल प्रशिक्षण हेतु विदेशी विशेषज्ञ प्रशिक्षको को आमंत्रित किया गया है। इनके द्वारा किकबॉक्सिंग खेल की विभिन्न विधाओं पाइंट फाइटिंग, लाइट कांटेक्ट, एवं किकलाइट इवेंट का प्रशिक्षण दिया जायेगा।

इन्होंने बताया कि उक्त प्रशिक्षण शिविर में हरियाणा राज्य के कई अंतर्राष्ट्रीय खिलाडी भी भाग लेंगे जिनमे कुसुम, निस्चल, पुलकित भरद्वाज, नेहा सैनी, मोनल कुकरेजा, कुलदीप कुमार, रविंदर सिंह, शिवांगी बुड़ाकोटी, सुयश पराशर  भाग लेंगे. 

'फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग संघ' के जिलाध्यक्ष श्री राज कुमार अग्रवाल ने बताया की इस प्रशिक्षण शिविर के समापन अवसर पर सभी खिलाडियों को प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जाएगा. 

सवाल! दो बार आजमाए जा चुके हैं चन्दर, एक बार नगेंदर, क्या पंडित के लाल को भी मिलेगा एक मौका

chander-bhatia-nagender-bhadana-vs-neeraj-sharma-in-nit-86-vidhansabha

फरीदाबाद, 15 अक्टूबर: NIT विधानसभा में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है हालाँकि अब पंडित नीरज शर्मा का पलड़ा भारी दिख रहा है। नीरज शर्मा के सामने दो पूर्व विधायक हैं। नगेंदर भड़ाना इनेलो पार्टी के पूर्व विधायक हैं लेकिन अब वह भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। चन्दर भाटिया दो बार भाजपा विधायक रहे चुके हैं लेकिन अब वह निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं और जीतने पर  भाजपा में शामिल होने की बात कर रहे हैं। 

नीरज शर्मा पहले निर्दलीय चुनाव लड़ रहे थे और जीतने पर किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते थे लेकिन उन्हें कांग्रेस की टिकट मिली। उनके लिए प्लस पॉइंट ये है कि उनके सामने चुनाव लड़ रहे दोनों विधायकों को जनता आजमा कर देख चुकी है। चन्दर भाटिया को जनता ने दो बार आजमा मिला है। वहीं नगेंदर भड़ाना को एक बार आजमाया जा चुका है। नीरज शर्मा पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं और उनके सर पर उनके पिता पूर्व मंत्री दिवंगत शिवचरण लाल शर्मा का आशीर्वाद है जिन्हें NIT के विकास पुरुष के नाम से भी जाना जाता है। 

नीरज शर्मा को लंबा प्रशासनिक अनुभव है। वह झारखंड में तत्कालीन मुख्यमंत्री के OSD रह चुके हैं इसलिए सत्ता संभालना उन्हें बखूबी आता है। 

दोनों विधायकों को मिलती रहेगी पेंशन

नीरज शर्मा हारे तो उन्हें सघर्ष करना पड़ेगा और पांच साल इन्तजार करना पड़ेगा लेकिन उनके सामने चुनाव लड़ रहे दोनों पूर्व विधायक हारे तो भी उन्हें जीवन भर करीब 51,750 रुपये प्रति महीना पेंशन मिलती रहेगी, मतलब जनता ने दोनों विधायकों की जीवन भर पेंशन का इंतजाम कर दिया है। 

आपको बता दें कि हरियाणा में पूर्व विधायकों को भी अच्छी खासी पेंशन मिलती है. हर विधायक को कम से कम 51,750 प्रति महीना पेंशन मिलती है, वरिष्ठ विधायकों की सैलरी बढती जाती है, कांग्रेस के पूर्व विधायक कैप्टन अजय यादव तो 2,38,050 रूपया प्रति महीना पेंशन ले रहे हैं.

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी ओम प्रकाश चौटाला को 2,22,525 प्रति महीना पेंशन मिलती है. मतलब एक बार पांच साल के लिए विधायक बन गए तो खर्चा-पानी की दिक्कत नहीं होती, सरकार जीवन भर विधायकों का ख्याल रखती है.

जनता से सवाल

जनता से सवाल ये है कि वो 2 बार आजमाए जा चुके चन्दर भाटिया को फिर मौका देगी या एक बार आजमाए जा चुके नगेंदर भड़ाना को दुबारा मौका देगी या फ्रेशर नीरज शर्मा को सेवा करने का मौक़ा मिलेगा। देखते हैं कि 21 अक्टूबर को जनता क्या फैसला करती है। 

ललित नागर से तिगांव सीट छीनकर रहेगी भाजपा, कल अमित शाह भी करेंगे मेगा-रैली

amit-shah-rally-tigaon-vidhansabha-against-lalit-nagar-congress

फरीदाबाद, 15 अक्टूबर: भाजपा ने ललित नागर को तिगांव से हराने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की रैली हुई, उसके बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की रैली हुई, कल बल्लभगढ़ में प्रधानमंत्री मोदी की रैली हुई जिसमें भाजपा प्रत्याशियों को जिताने की अपील की गयी। 

भाजपा ललित नागर को वापसी का कोई मौक़ा नहीं देना चाहती इसलिए बची हुई ताकत भी झोंकी जाएगी। कल गृह मंत्री अमित शाह की रैली का प्रोग्राम है। भाजपा किसी भी कीमत पर ललित नगर को दोबारा विधायक नहीं बनने देना चाहती इसलिए उनके खिलाफ सभी बड़े नेताओं की रैलियां करवाई जा रही हैं। 

sunny-deol-road-show-amit-shah-rally-in-tigaon-vidhansabha-against-lalit-nagar

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भाजपा प्रत्याशी राजेश नागर की 2014 विधानभा चुनाव में मामूली वोटों से हार हुई थी इसलिए भाजपा यह मानकर चल रही है कि अगर इस बार पहले से थोड़ी ज्यादा ताकत लगा दी जाए तो राजेश नागर की जीत हो सकती है। राजेश नागर भी इस बार खूब मेहनत कर रहे हैं। 

सवाल! फरीदाबाद की जनता आँख मूंदकर उद्योगपति को देगी वोट या आँख खोलकर 30 साल के समाजसेवी को

narendra-gupta-vs-lakhan-kumar-singla-fight-in-faridabad-89-vidhansabha

फरीदाबाद, 14 अक्टूबर: फरीदाबाद-89 विधानसभा की जनता के सामने दो विकल्प हैं या तो आँख मूंदकर भाजपा को वोट दे जिसनें फरीदाबाद क्षेत्र की जनता से दूर रहने वाले बड़े उद्योगपति नरेंद्र गुप्ता को टिकट दी है। भाजपा ने नरेंद्र गुप्ता को टिकट देते समय यही सोचा होगा कि मोदी और कमल के नाम पर जनता किसी को भी वोट दे देगी। 

फरीदाबाद की जनता के सामने दूसरा विकल्प लखन कुमार सिंगला हैं जो कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। लखन कुमार सिंगला खुद को 30 साल का समाजसेवी बता रहे हैं जिसे कोई नकार ही नहीं सकता क्योंकि पिछले पांच वर्षों में भाजपा सरकार के दौरान जनता को कष्ट हुआ तो उसने लखन सिंगला को याद किया और लखन सिंगला ने जनता की समस्या के खिलाफ आवाज उठायी चाहे - जलभराव हो, सीवर समस्या हो, बिजली हो, पानी हो या सड़क की समस्या हो। जनता लखन सिंगला को तभी आशीर्वाद देगी जब वह आँख खोलकर उनकी 30 साल की समाजसेवा याद करे लेकिन यह भी सच है कि कुछ लोग सिर्फ पार्टी के नाम पर किसी भी उम्मीदवार को वोट दे देते हैं। 

नरेंद्र गुप्ता फरीदाबाद के जाने माने उद्योगपति हैं, उद्योग जगत में उनका नाम है लेकन जनता के बीच उनका उतना नाम नहीं है। जनता तो सिर्फ उन नेताओं को जानती पहचानती है जो उनके बीच में रहते हैं और उनकी मुसीबत में मदद करते हैं। लेकिन नरेंद्र गुप्ता के बारे में पिछले पांच वर्षों में ऐसी कोई खबर नहीं आयी कि उन्होंने फरीदाबाद विधानसभा में जनता की किसी भी समस्या के लिए आवाज उठायी हो। 

अगर विपुल गोयल को फरीदाबाद की टिकट मिली होती तो नजारा कुछ अलग होता और उन्हें अधिक समर्थन मिलता। किसी को यकीन नहीं था विपुल गोयल की टिकट कट जाएगी लेकिन मुख्यमंत्री खट्टर ने उनकी टिकट काटकर नरेंद्र गुप्ता जैसे उद्योगपति को टिकट दे दी। अगर जनता के बीच में रहने वाले किसी आम कार्यकर्ता को टिकट दी जाती तो भी इतनी बुरी हालत नहीं होती। 

लखन को क्यों मिल रहा अधिक समर्थन

इतना तो सबको पता है कि विपुल गोयल की टिकट कटने के बाद उनके समर्थक बहुत नाराज हैं इसलिए अधिकतर लोग अब लखन कुमार सिंगला को चुनाव जिताना चाहते हैं ताकि मुख्यमंत्री का फैसला गलत साबित हो सके। इसके अलावा लखन सिंगला की 30 साल की समाज सेवा नरेंद्र गुप्ता पर भारी पड़ रही है.

फरीदाबाद में करीब करीब एकतरफा माहौल है। लखन सिंगला भले ही कांग्रेस से चुनाव लड़ रहे हैं लेकिन उनकी जान पहचान एक समाजसेवी के तौर पर अधिक है। उन्हें इसी बात का फायदा मिल रहा है। जनता के बीच यह भी सन्देश जा रहा है कि इसने हमारी 30 साल तक सेवा की है इसलिए इसे एक बार मौका जरूर देना चाहिए। 

नरेंद्र गुप्ता को कम समर्थन मिलने का मतलब ये नहीं है कि वो अच्छे नेता नहीं हैं, हो सकता है कि विपुल  गोयल से भी अच्छा काम करें लेकिन उन्हें जनता को अपना अजेंडा समझाना पड़ेगा। अगर जनता को उनकी बात समझ आ गयी तो कुछ चमत्कार हो सकता है वरना लखन के रास्ते आसान होते जा रहे हैं। 

मुद्रक व प्रकाशक को चुनावी प्रचार सामग्री पर लिखना होगा अपना नाम व पता: उपायुक्त

faridabad-dc-order-publisher-to-mention-name-address-prachar-samagri

फरीदाबाद, 14 अक्तूबर: निर्वाचन आयोग के दिशा- निर्देशानुसार चुनावी प्रचार सामग्री जैसे पम्पलेट व पोस्टरों पर मुद्रक व प्रकाशक को अपना नाम व पता तथा प्रकाशित की गई कापियों की संख्या अवश्य लिखनी होगी। 

अगर कोई भी मुद्रक व प्रकाशक चुनाव सम्बंधी प्रचार सामग्री पर अपना नाम व पता नहीं लिखता है या उस प्रकार के छापे गए  पम्पलेट अथवा पोस्टरो की संख्या नही लिखता है, तो उसके खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

फरीदाबाद के जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल द्वेदी  ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिला में  सभी मुद्रकों व प्रकाशकों को  लोक प्रतिनिधितव अधिनियम- 1951 की धारा 127 ए द्वारा प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए निर्देश दिये गए है कि वे इन आदेशों की दृढ़ता से पालना करना सुनिश्चित करें। 

उन्होंने बताया कि मुद्रक एवं प्रकाशक द्वारा जो भी चुनावी प्रचार सामग्री छापी जाये, उसकी एक प्रति जिला निर्वाचन कार्यालय तथा संबंधित रिटर्निंग अधिकारी को भी भेजें। उन्होंने बताया कि अगर कोई मुद्रक व प्रकाशक निर्वाचन आयोग के इन आदेशों की पालना नहीं करता है तो उसके विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

30 साल की समाजसेवा याद दिलाने के बाद लखन सिंगला को और मिलने लगा जनता का समर्थन, बन गया माहौल

lakhan-singla-faridabad-congress-candidate-may-win-election-news

फरीदाबाद। कांग्रेस प्रत्याशी लखन सिंगला क्षेत्र में पिछले 30 वर्षों से समाजसेवा कर रहे हैं इसलिए विधायक बनने के लिए जनता का आशीर्वाद मांग रहे हैं। अब जनता को भी उनकी समाजसेवा और मुसीबत में की गयी मदद याद आने लगी है इसलिए लखन सिंगला के लिए समर्थन बढ़ता जा रहा है वहीं भाजपा ने अपरिचित चेहरे को मैदान में उतारा है जिसे जनता जानती ही नहीं। 

फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी लखन कुमार सिंगला ने आज भाजपा पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि पांच साल के राज में भाजपा ने गरीबों व झुगिगयों को उजाडऩे का काम किया है, जबकि कांग्रेस सरकार ने हमेशा गरीबों के आशियाने बनाने का काम किया है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा ने फरीदाबाद से एक ऐसे बाहरी धनकुबेर व्यक्ति को प्रत्याशी बनाकर भेजा है, जिसे फरीदाबाद की झुगगी-झोंपडी व कालोनियों में व्याप्त समस्याओं का ज्ञान तक नहीं है। उन्होंने कहा कि मैंने हमेशा आम गरीब आदमी की आवाज को बुलंद करने का काम किया है, इसी का परिणाम था कि कांग्रेस के दस साल के शासनकाल में उस समय के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने झुगगी झोंपडी और कालोनियों सडक़, सीवर, पानी, बिजली आदि सभी मूलभूत सुविधाओं को देने का काम किया था, लेकिन आज भाजपा राज में यहां के लोग अपनी समस्याओं को लेकर धरने प्रदर्शन तक करने को मजबूर है। 

उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि अगर इस बार उन्हें विधायक बनने का मौका मिला तो इन कालोनियों में समस्या नाम की चीज नहीं रहेगी। सिंगला आज अपने जनसंपर्क अभियान के तहत कृष्णा नगर, अजरौंदा, शिव कालोनी सहित अनेकों क्षेत्रों में सभाओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान लोगों द्वारा कांग्रेस प्रत्याशी लखन सिंगला का जहां फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया वहीं उन्हें पगड़ी बांधकर अपने भरपूर समर्थन देने का भी आश्वासन दिया। 

कांग्रेस प्रत्याशी लखन सिंगला ने भाजपा पर गरीब विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार में शुरु की गई योजनाओं को भाजपा सरकार ने एक तरह से बंद ही कर दिया है। गरीबों को दिए गए 100-100 गज के प्लाटों की योजना को बंद कर प्रदेश में कई हजार बीपीएल कार्डधारक के नाम बीपीएल सूची से काटना इस बात का प्रमाण है कि भाजपा गरीब विरोधी है। 

उन्होंने कहा कि फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र की गली-गली मोहल्ले-मोहल्ले की हर समस्या से वाकिफ है तथा वर्षाे से यहां की गलियों में रहकर हर समस्या के लिए आवाज उठाते रहे है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में अब एकतरफा कांग्रेस के पक्ष में लहर चल निकली है और कांग्रेस सरकार बनने पर फरीदाबाद क्षेत्र में रहने वाले लोगों का योजनाबद्ध तरीके से समुचित विकास किया जाएगा।