Palwal Assembly

Showing posts with label Education. Show all posts

एबीवीपी ने नेहरू कालेज में नवनियुक्त प्रिंसिपल सुनिधि चौहान का किया स्वागत

nehru-college-principal-sunidhi-chauhan-welcom-by-abvp-faridabad

फरीदबाद: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (एबीवीपी) की पंडित जवाहरलाल नेहरू कॉलेज इकाई ने छात्र नेता पुनीत चौधरी के नेतृत्व में कॉलेज की नवनियुक्त प्रिंसिपल सुनिधि चौहान का फूलों का गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया। 

प्रिंसिपल सुनिधि चौहान ने अपने स्वागत के लिए एबीवीपी कार्यकर्ताओं सहित सभी विद्यार्थियों का धन्यवाद किया। इस मौके पर प्रिंसिपल सुनिधि चौहान जी ने कहा कि आप कॉलेज को प्रतिनिधित्व करते हो और अच्छे से संभालो।  

उन्होंने उन्होंने एबीवीपी कार्यकर्ताओं के साथ-साथ सभी विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए सभी को आशीर्वाद दिया। छात्र नेता पुनीत चौधरी ने प्राचार्य को हर संभव रचनात्मक सहयोग देने का आश्वासन दिया है। 

इस मौके पर एबीवीपी कार्यकर्ताओं में नेहरू कॉलेज छात्र नेता पुनीत चौधरी, संजीव अत्री, साहिल राजपूत, मोहित शर्मा, आकाश शर्मा, निरज, दीपक, अख्तर अली, रनिश, समेत अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

फरीदाबाद के युवाओं ने की "यूथ अगेंस्ट रेप' मुहीम की शुरुआत, सेक्टर-16 में निकाला प्रदर्शन मार्च

youth-against-rape-in-faridabad-started-by-youth-news

फरीदाबाद, 9 दिसंबर: फरीदाबाद में "यूथ अगेंस्ट रेप" नामक एक मुहिम की शुरुआत की गयी है। इस मुहिम का मुख्य लक्ष्य देश के युवा पीड़ी को एकजुट कर समाज से बलात्कार जैसी बीमारी को समाप्त करना है। इसके लिए इंस्टाग्राम , ट्विटर और टेलीग्राम के माध्यम से देश की युवा पीड़ी को एकजुट कर विभिन्न राज्यो में अलग अलग टीमें  बनाई गई.

इस मुहिम में साक्षी का साथ 15 से 25 साल के युवा दे रहे है, जो अपने देश को बलात्कार और बलात्कार के झूठे आरोप लगाकर मासूमों को फसाने वालो से आज़ाद करना चाहते है। 

इस टीम की खासियत यह है कि ये लोग अपनी  पढ़ाई और नोकरी छोड़ कर, खाने ओर रहने की व्यवस्था के बारे में सोचे बिना देश सेवा करने निकले है। 

इसी मुद्दे को लेकर 8 दिसंबर को "यूथ अगेंस्ट रेप" के    हरियाणा टीम अध्यक्ष साक्षी के साथ मोनिका, वैशाली, प्रज्ञा, स्पर्श, अंकित, भावुक और अन्य सदस्यों ने एक साइलेंट प्रोटेस्ट का आयोजन किया sector 16 Faridabad me  जिसमें उन्होंने मुंह पर कपड़ा बांध कर पोस्टर लेकर जनता को रोज़ होने वाले रेप और झूठे रेप के इल्जामों के बारे में जगुरक किया। उन्होंने प्रधान मंत्री ऑफिस को भारी मात्रा में पत्र भी लिखें जिसमें "यूथ अगेंस्ट रेप" की तरफ से 8 मांगे हैं।

1. रेप के दोषियों को फांसी की सज़ा दी जाए।
2. झूठे रेप के आरोप लगाने वालों को कम से कम 14 वर्ष की सज़ा दी जानी चाहिए।
3. स्कूलों में एक्सपर्ट्स द्वारा सेक्स एजुकेशन।
4. रेप के केस को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलना चाहिए।
5. रेप पीड़ितों और गवाहों को सुरक्षा दी जाने चाहिए।
6. हर शहर में "फोरेंसिक लैब" होने चाहिए।
7. रेप के अपराधियों के लिए राष्ट्रपति दया शासन नहीं होना चाहिए।
8. रेप अपराधियों के बचे हुए सभी 64 को फांसी की साझा का क्रियान्वयन होना चाहिए।

जनता को लूटने के लिए नर्सरी, LKG, UKG कक्षाएं चलाते हैं प्राइवेट स्कूल, हो सकती है कार्यवाही

play-lkg-ukg-classes-may-be-closed-in-haryana-private-schools

चंडीगढ़: सरकार कक्षा 1 से ही शिक्षा को मान्यता देती है और सरकारी स्कूलों में भी कक्षा 1 से ही दाखिला होता है लेकिन प्राइवेट स्कूलों ने जनता को लूटने के लिए प्ले, नर्सरी, LKG और UKG कक्षाएं शुरू कर दीं और जनता भी इनके जाल में फंसकर अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाने लगी, प्राइवेट स्कूल प्ले, नर्सरी, LKG और UKG अवैध रूप से चलाते हैं और जनता को जमकर लूटते हैं लेकिन अब इनके खिलाफ कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं.

भिवानी के RTI कार्यकर्ता ब्रजपाल सिंह ने इसके खिलाफ शिक्षा निदेशालय में शिकायत की थी, इस मामले में निदेशक मौलिक शिक्षा, पंचकूला हरियाणा ने जिले के सभी मौलिक शिक्षा अधिकारियों को कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं.

private-school-loot

इस मामले में अगर कार्यवाही की गयी तो हरियाणा में मान्यता प्राप्त 8500 निजी स्कूलों में नर्सरी, LKG और UKG कक्षाएं बंद हो जाएंगी, अगर ऐसा हुआ तो जनता के ना सिर्फ लाखों रुपये बचेंगे, बच्चों को मेंटल टॉर्चर करना भी बंद हो जाएगा, कार्यवाही के बाद प्राइवेट स्कूलों में सिर्फ कक्षा 1 से दाख़िला होगा और शिक्षा माफियाओं का आधा खेल बंद हो जाएगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सरकारी स्कूलों में कक्षा 1 से दाखिला होता है लेकिन प्राइवेट स्कूलों में प्ले, नर्सरी, LKG और UKG की कक्षाएं चलती है, माँ-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों  के बच्चों से आगे निकालने के लिए अपने बच्चों को नर्सरी, LKG और UKG भी पढ़ाते हैं लेकिन नर्सरी, LKG और UKG कक्षाएं बंद होने से सिर्फ कक्षा 1 में दाखिला होता और लोग सरकारी स्कूलों में भी अपने बच्चों को पढ़ाना शुरू करेंगे, जिस दिन माँ-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाना शुरू करेंगे उसके बाद प्राइवेट स्कूलों की फीस अपने आप कम हो जाएगी और उनकी लूट भी बंद हो जाएगी।

बृजपाल परमार  के लिए यह लड़ाई आसान नहीं थी, उन्होंने अवैध रूप से चलाई जा रही कक्षाओं को बंद कराने का आग्रह किया था। जल्दी कार्रवाई न होने पर परमार ने मौलिक शिक्षा निदेशालय में बीते 22 अक्टूबर को आरटीआई लगाकर जानकारी मांगी थी। इसके बाद मौलिक शिक्षा निदेशालय हरकत में आया। 

पंडित LR कॉलेज ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन के विद्यार्थियों ने लिया अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग

pandit-lr-college-student-participate-international-conference-agra

फरीदाबाद: पंडित एल आर कॉलेज ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन के फार्मेसी विभाग के विद्यार्थि दिनांक 28 - 29 नवम्बर को डॉ रवि मलहोत्रा की देख रेख में दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का हिस्सा बने। 

आगरा स्थित राजा बलवंत सिंह कालेज द्वारा अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन का विषय ग्रीन टेक्नोलॉजी, सरकुलर इकनॉमी, एवं रीइस्टोरेशन ऑफ़ कल्चरल हैरिटेज था। 

पंडित एल आर कॉलेज के फार्मेसी विभाग की मुख्य अध्यापिका रीना कौशिक, असीस्टेंट प्रोफेसर रेमसी टी आर, आभास चौधरी, कुमारी श्रुति त्यागी, के अलावा 19 विद्यार्थीयो ने इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लिया। 

अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में पंडित एल आर कॉलेज ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन की तरफ से आभास चौधरी ने क्लाइमेंट स्मार्ट एग्रीकल्चर पर पोस्टर पप्रस्तुति की एवं अपने विचार साझा किये। जीव रसायन विभाग की मुख्य अध्यापिका डॉ उदिता तिवारी ने विधयर्थियो को खंदारी केम्पस, डॉ भीम राव अम्बेडकर विश्वविधालय का भी दौरा कराया। इस मोके पर जीव रसायन विभाग के असीस्टेंट प्रोफेसर योगेंदर प्रताप सिंह भी उपस्थित रहे। विद्यार्थियों को विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार के उपकरणों के बारे मै जानकारी दी गई। 

राजा जैत सिंह पॉलिटेक्निक में अव्यवस्थाओं के खिलाफ छात्रों का प्रदर्शन, ABVP ने सुनी छात्रों की समस्याएँ

faridabad-raja-jait-singh-polytechnic-abvp-meeting-with-student-news

फरीदाबाद: राजा जैत सिंह पॉलिटेक्निक में विद्यार्थियों ने किया प्रर्दशन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद फरीदाबाद के कार्यकर्ताओं ने मौके पर पहुंच कर सुनीं छात्रों की समस्या विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं को देख मौके से भाग गए कालेज प्रबंधक जिला विभाग संयोजक माधव रावत को छात्रों को बताया कि पॉलिटेक्निक कॉलेज में छात्रों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मूलभूत सुविधाओं का अभाव रहता है। 

कालेज में टॉयलेट, फर्स्ट-एड, स्पोर्ट्स, अटेंडेंस, पार्किंग की सुविधा, लाइब्रेरी में बुक, कैंटीन की सुविधा भी उपलब्ध नहीं हैं, पॉलिटेक्निक कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों ने बताया कि आईडी कार्ड, स्कॉलरशिप, ड्रेस, समेत बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 

दूर दराज से आने वाले छात्र पांच मिनट की देरी से पहुंचते हैं तो उन्हें अन्दर प्रवेश भी करने नहीं दिया जाता, माधव रावत ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि एबीवीपी हमेशा छात्र हितों के लिए संघर्ष करती है, आप सभी की समस्याओं को समाधान के लिए संघर्ष करेंगी तथा जल्द से जल्द समस्याओं का समाधान करवाया जाएगा। 

इस अवसर पर केशव मुजेड़ी, आकाश नागर, कुंदन, गौरव, हरिन्द्र, अनुप, सचिन, आजाद, समेत अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

फरीदाबाद और गुरुग्राम के 12 तक के सभी स्कूल 4-5 नवंबर तक बंद रखे जांय: हरियाणा सरकार

faridabad-gurugram-private-government-school-closed-4-5-november

फरीदाबाद, 3 नवंबर: जहरीली हवा ने दिल्ली के अलावा फरीदाबाद और गुरुग्राम का भी बुरा हाल है, दिल्ली में सभी स्कूल 6 नवंबर तक बंद कर दिए गए हैं लेकिन फरीदाबाद के स्कूल अब तक खुले थे। आज हरियाणा सरकार के शिक्षा विभाग ने 12वीं तक के सभी स्कूल 4-5 नवंबर तक बंद रखने के आदेश दिए हैं। 

सरकारी आदेश में कहा गया है कि भीषण स्मोग की वजह से सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूल 4 से 5 नवंबर तक बंद रखे जांय, इस आदर्श का कड़ाई से पालन किया जाय। यह नियम सिर्फ 12 तक के स्कूलों तक लागू होगा। देखिये आदेश की कॉपी - 

faridabad-gurugram-school-closed-4-5-november

मिशन जागृति द्वारा 2 अक्टूबर को चित्रकला प्रतियोगिता में 11000 विद्यार्थी लेंगे भाग, आप भी आएं

mission-jagriti-chitrakala-pratiyogita-2-october-huda-office-faridabad

फरीदाबाद, 29 सितम्बर: शहर की नामी सामाजिक संस्था मिशन जागृति आगामी 2 अक्टूबर को चित्रकला प्रतियोगिता कार्यक्रम आयोजित किया है जिसमें करीब 11000  विद्यार्थियों के भाग लेने की संभावना है. इस कार्यक्रम से जुड़ने के लिए संस्था के संस्थापक परवेश  मालिक ने एक सन्देश जारी किया है - 

नमस्कार सभी को, आपको यह जानकर अति प्रसन्नता होगी कि मिशन जागृति *2 अक्टूबर को तीसरी जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता* का आयोजन करने जा रही है। पिछले साल इस प्रतियोगिता  *5500 विधार्थियो* ने भाग लिया था। अब की बार हमारा टारगेट *11000 विधार्थियो* का हैं। यह तभी संभव हैं जब आप लोग इसमे बढ़ चढ़ कर भाग लेंगे।

यह प्रतियोगिता इस प्रकार रहेगी।

1 कक्षा तीसरी से पांचवी तक - पॉलीथिन हटाओ पर्यावरण बचाओ।
2 कक्षा छठी से आठवीं तक - जल संरक्षण।
3 कक्षा नौवीं से बारहवीं तक - बिटिया।
4 बड़ों के लिए - सामाजिक जनचेतना विषय रहेगा।

आप सभी से अनुरोध है कि अधिक से अधिक संख्या मैं आकर मिशन जागृति कि इस मुहिम का हिस्सा बने।
स्थान: हुड्डा ऑफिस के सामने।
समय: सुबह 6:00 बजे से 8:00 बजे तक।
दिनांक: 2 अक्टूबर 2019
कृपया रजिस्ट्रेशन के लिए हमारी वेबसाइट www.missionjagriti.org पर जाए। अधिक जानकारी के लिए हमारे मिशन जागृति के किसी भी वालंटियर से भी संपर्क कर सकते हैं।

Pravesh malik
9555288288

मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने स्किल डेवलपमेंट सेंटर/ लैब का किया लोकार्पण

minister-krishan-pal-gurjar-inaugurated-skiil-development-lab-center

फरीदाबाद, 20 सितंबर।   केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि भारत सरकार के कौशल भारत- कुशल भारत और हरियाणा सरकार के हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद कार्यक्रम के तहत युवाओं को उनके कौशल के अनुरूप शिक्षा देकर तैयार किया जा रहा है, ताकि वे अपने हुनर के हिसाब से जीवन जीने के लिए स्वयंरोजगार करें या रोजगार करके अपने आप आत्मनिर्भर बन सकें।
  
यह जानकारी केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज शुक्रवार को स्थानीय सेक्टर-28 के राजकीय मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल में पत्रकारों  के साथ बातचीत में दी। इससे पूर्व उन्होंने स्किल डेवलपमेंट के तहत मानव रचना विश्वविद्यालय द्वारा बनाए गए स्किल डेवलपमेंट सेंटर/ लैब का उद्घाटन/लोकार्पण भी किया। केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कौशल भारत- कुशल भारत के सपनों को साकार करने का बीड़ा उठाया है । इसके लिए 5 साल पहले स्किल डेवलपमेंट विभाग की स्थापना की थी। जिसके माध्यम से युवाओं को उनके हुनर का काम मिले जिसे वे स्वयं रोजगार करें या सरकारी और प्राइवेट क्षेत्र में रोजगार करके आत्मनिर्भर बन सके । युवाओं  को उनके हुनर के अनुरूप काम मिले।  उन्होंने कहा कि हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शिक्षा विभाग के हरियाणा स्कूल शिक्षा प्रायोजन परिसर कार्यक्रम के तहत युवाओं को नौवीं कक्षा से उनके हुनर के अनुरूप प्रशिक्षित किया जा रहा है, ताकि बारहवीं कक्षा के बाद वे आगे पढ़ाई नहीं करना चाहे तो उनके हुनर के अनुरूप स्वयं का रोजगार स्थापित करें या विभिन्न कंपनियों और सरकारी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करके आत्मनिर्भर बने।

minister-krishanpal-gurjar

कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि हुनर/ कौशल विकास के तहत आईटी, फैशन, ब्युटी ,वैलनेस सहित अनेक और कोर्स शुरू किए गए हैं, जो युवाओं को उनके स्वरोजगार  स्थापित करने या रोजगार प्राप्त करने में सहायक सिद्ध होंगे। उन्होंने कहा कि प्रति वर्ष 47 लाख  बच्चे स्कूलों में शिक्षा पास करके उच्च शिक्षा के लिए जाते हैं। इनमें से 40 परसेंट बच्चे स्किल डेवलपमेंट का कोर्स कर रहे हैं ।  कौशल विकास का कोर्स करने वाले बच्चों में से रोजगार चलाने के लिए उनमें से 60 प्रतिशत बच्चे कामयाब होते हैं। विद्यार्थियों को उनके पैरामीटर भी पूरे करने पड़ते हैं, ताकि वे स्वयं का रोजगार या प्राइवेट और  सरकारी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त कर सके । कौशल विकास के तहत कोर्स करके विद्यार्थी विदेशों में भी नौकरियां प्राप्त कर रहे हैं और अपना रोजगार भी चला रहे हैं । प्रदेश में सरकार ने यह योजना एक हजार स्कूलों में शुरू की है और देश में 7000 स्कूलों में इसका क्रियान्वयन किया जाएगा । प्रथम चरण में हरियाणा में 100 स्कूलों में कौशल विकास का क्रियान्वयन किया गया है। 

केंद्रीय मंत्री ने एफआइए और मानव रचना विश्वविद्यालय के अधिकारियों से कहा कि वे फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में स्किल डेवलपमेंट के तहत किसी भी योग्य हुनरमंद युवा को बेरोजगार ना रहने दें। हुनरमंद युवाओं को रोजगार देने में सरकार की यह योजना कारगर सिद्ध हो रही है । उन्होंने कहा कि यह एक सामाजिक सरोकार का कार्य भी है, जिसे फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के युवा आत्मनिर्भर बन सकेंगे । 

मानव रचना के चेयरमैन श्री प्रशांत भल्ला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए बताया कि म देश के युवाओं में बदलाव देखने को मिल रहा है। भारत सरकार और हरियाणा सरकार ने स्कूलों में युवाओं को कौशल के अनुरूप हुनर शिक्षा देकर उन्हें स्वयं रोजगार करने या प्राइवेट या सरकारी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करने में बेहतर कारगर सिद्ध हो रहे हैं।
    
ओरीफ्लेम स्वीडन के कोर्पोरेट अफेयर डायरेक्टर विवेक कटोच ने प्रेस वार्ता में बताया कि भारत सरकार ने कंपनी एक्ट के एससीआर में  बदलाव किया है । इसमें हुनरमंद युवाओं को नौकरी देने का प्रावधान किया गया है। स्किल डेवलपमेंट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक सराहनीय कदम है । इससे वर्ष 2022 तक भारत वर्ष आर्थिक रूप से विश्व में नंबर वन होगा । भारत की 5 मिलियन डॉलर तक आर्थिक स्थिति पहुंच जाएगी । अगले कुछ ही वर्षों में रिटेल तथा सर्विस सेंटर में रोजगार के नए अवसर युवाओं को मिलेंगे ।

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी शशि अहलावत ने हुनर कौशल विकास के बारे में सरकार की क्रियान्वित बारे विस्तार पूर्वक जानकारी दी । 

इस अवसर पर मानव रचना के चैयरमैन  प्रशांत भल्ला, वाइस चेयरमैन डॉक्टर अमित भल्ला, नवदीप चावला, फरीदाबाद एफआईए के चेयरमैन बीआर भाटिया ,डीईईओ शशि अहलावत, उप जिला मौलिक शिक्षा शिक्षा अधिकारी मुनेश चौधरी ,डॉक्टर कौशल बाटला, मंत्री जी के निजी सचिव विकास शुक्ला, राजीव माथुर, स्कूल की प्रिंसिपल डॉ वीणा वासुदेव सहित  कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। 

रतन कान्वेंट स्कूल के छात्रों ने स्वच्छता अभियान रैली निकालकर साफ़-सफाई के लिए फैलाई जागरूकता

rattan-convent-school-village-harfali-faridabad-swachh-abhiyan-rally

फरीदाबाद, 20 सितम्बर: भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी द्वारा देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के एक सौ पचासवें जन्मदिन पर ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत बल्लभगढ़ तहसील गाँव हरफली स्थित रतन कान्वेंट विद्यालय के छात्र छात्राओं व अध्यापक अध्यापिकाओं ने जोर शोर से एक अभियान शुरू किया, जिसके तहत स्वच्छता के प्रति जागरूकता फैलाते हुए रैली निकली.

इस रैली का मुख्य उद्देश्य आस-पास के क्षेत्र को स्वच्छ बनाना तथा लोगों को सफाई के प्रति जागरूक करना था। इस गतिविधि का शुभारम्भ स्कूल के प्रधानाचार्य मनोज कुमार ने अपने कर-कमलों  द्वारा अपने ही विद्यालय के प्रांगण से किया जिसमें उन्होंने अपने सभी छात्र छात्राओं व अध्यापक अध्यापिकाओं की सहायता से स्कूल के पूरे प्रांगण को स्वच्छ बनाते हुए आस-पास के क्षेत्र की समूची सफाई करते हुए गाँव हरफली में स्वच्छता अभियान जारी किया। 

जिसमें गाँव के सपंच देवेंदर चौहान व अन्य माननीय व्यक्ति अडवोकेट रवि , ब्लॉक मेम्बर सुरजीत, नुम्बेरदार गिरराज, सतबीर मेम्बर, राज सिंह, देवेंदर, सुशील, इंद्रा राज, रतन लाल , पी पी सिंह, बुद्ध सिंह, यशवीर मेम्बर की सहभागीदारी रही। 

इस अभियान के तहत सभी को संदेश दिया गया कि सभी लोगों का कर्तव्य है कि वे अपने आप को, अपने घर को व अपने आस-पास के क्षेत्र को साफ रखें। इससे रोग पास नही फटकते। शरीर स्वस्थ रहता है व शुद्ध हवा का प्रवाह रहता है। यह व्यक्ति विशेष का कार्य नहीं है बल्कि सभी लोगों की जिम्मेदारी है.

इस गतिविधि में विद्यालय की नर्सरी से लेकर बारहवीं के छात्र छात्राओं  ने बढ़ चढ़कर भाग लिया जिसमें उन्होंने भीं भिन्न प्रकार के आकर्षक पोस्टर स्लोगन तैयार किए इस गति विधि के तहत प्रधानाचार्य मनोज कुमार ने बताया कि इस तरह की भागीदारी करके हमारा उद्देश्य इस अभियान का लक्ष्य खुले में शौच की प्रव्रति से मुक्ति दिलाना, नगर निकाय में कूड़ा प्रबंधन अभिक्रियाओं को बढ़ावा देना व साफ़ सफाई को लेकर निजी क्षेत्रों की भागीदारी को सुगम बनाना है क्योंकि स्वच्छता में ही स्वास्थ्य है। हमारा प्रयास है कि हम सभी भारतीय मिलकर गांधी जी के इस जन्मदिवस पर उनके गंदगी मुक्त भारत के सपने को साकार करेंगे। यह अभियान ना केवल स्वास्थ्य सुधार करेगा बल्कि पर्यटन को बढ़ावा देगा व्यापार में उन्नति करवाएगा और जीवन स्तर  की गति को तीव्र करेगा। 

उन्होने अंत में गाँव हरफली के सरपंच व अन्य माननीय व्यक्तियों की इस प्रकार की भागीदारी के लिए आभार प्रकट करते हुए उनका धन्यवाद किया और कहा कि गाँव हरफली के साथ-साथ अन्य आस- पास के 20 गाँवों में भी इसी प्रकार सफाई अभियान चलाएँगे।

रावल इंस्टिट्यूशन में शिक्षकों का टोटा, मोटी फीस देकर भी छात्र नही कर पा रहे पढ़ाई, DC को शिकायत

rawal-instution-no-teacher-student-protest-and-complaint-to-dc-faridabad

फरीदाबाद: रावल इंस्टिट्यूशन में पिछले कुछ महीनों से शिक्षक पढ़ाने नहीं आ रहे हैं जिसकी वजह से छात्रों की पढ़ाई को नुकसान हो रहा है, आज डीसी ऑफिस में प्रदर्शन करके लोगों ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ शिकायत की और जल्द से जल्द एक्शन लेने की मांग की.

NSUI छात्र नेता विकास फागना ने बताया कि फरीदाबाद जिले के सोहना रोड़ गाँव जक़ोपुर में रावल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कॉलेज है जिसमे कॉलेजों में छात्रों को पढ़ाने के लिए स्टाफ की कमी के चलते छात्रों का भविष्य अंधकार की ओर जा रहा है। फरीदाबाद व आसपास और अन्य जिलों के कई छात्र शिक्षा ग्रहण करते हैं। इस कालेज में मात्र कुछ ही अध्यापक नियुक्त हैं। जिस वजह से छात्रों की पढ़ाई पर असर पड़ रहा है और वह पूरी तरह से अपनी शिक्षा ग्रहण नहीं कर पा रहे हैं। अध्यापक की कमी के चलते कॉलेज प्रशासन छात्रों की छुट्टी घोषित कर देता है और  अगले दो महीने बाद छात्रों की परीक्षा भी है ना तो उनकी कोई पेपर को लेकर तैयारी है।विकास फागना ने बताया कि कॉलेज के मौजूदा अध्यापक व स्टाफ भी हड़ताल पर है।  

इस समस्या को लेकर रावल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कॉलेज के छात्रों ने एनएसयूआई फरीदाबाद के जिला उपाध्यक्ष विकास फागना के  नेतृत्व में  दिनांक 5 सितंबर को छात्रों ने कॉलेज के गेट पर प्रदर्शन किया था। प्रदर्शन को देखकर कालेज के डीन बी.के. सिंह, अनिल प्रताप विकास फागना को आश्वासन दिया कि दो-चार दिन में हम इस समस्या का निवारण कर देंगे ओर अध्यापकों की नियुक्ती करवाऐंगे तांकि भविष्य में छात्रोंं की पढ़ाई पर असर ना पड़े। वहीं विकास ने कालेज के डीन से कहा कि यदि जल्द ही इस समस्या का निवारण कालेज प्रबंधन ने नहीं किया और कोई उचित निर्णय नहीं लिया और अध्यापकों की भर्ती नहीं की तो रावल इंस्टिट्यूशन के खिलाफ वह एक बड़ा प्रदर्शन करेंगे और और प्रदेश सरकार के शिक्षा मंत्री को कॉलेज के खिलाफ एक्शन लेने की मुहिम छेड़ देंगे। लेकिन एक साप्ताह बीतने के बाद अभी तक अध्यापकों की कोई भर्ती नहीं हुई। 

इस के चलते आज सेक्टर 12 लघुसचिवालय पर  जिला उपायुक्त के नाम ज्ञापन सौंपा लेकिन उनकी गैर मौजूदगी में फरीदाबाद के एस डी एम को ज्ञापन दिया गया।  

इस प्रदर्शन के मौके पर उनके साथ मनीषा , पुनीत पंडित ,एनएसयूआई के लोकेश, बिट्टू सिंह,देव,जतिन,गौरवफागना,अंकित,प्रदीप,साहिल,नीतीश,निखिल,ऋषि,विवेक,तुषार,अभिषेक,राघव,सचिन,सुनील,संतोषअवधेश, इंदरजीत, मोहित, साहिल खान, निखिल, विशु, रोहित, तरुण, सचिन रावत, नितेश गोस्वामी, अमानदीप, देवंश, संतोष, अमित, गौरव, नवीन, विवेक, आशिश ,आदि सदस्य मौजूद रहे।

2 अक्टूबर चित्रकला प्रतियोगिता में 11 हजार बच्चों का इंतजाम, मिशन जागृति को स्पांसर की तलाश

mission-jagriti-need-sponsor-for-2-october-chitrakala-pratiyogita

फरीदाबाद: मिशन जागृति के द्वारा हर साल गांधी जयंती 2 अक्टूबर पर एक चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है पहले साल जब इस चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया तो पहले ही वर्ष में दो हजार 600 बच्चों ने भाग लिया उसके बाद दूसरे वर्ष 5360 बच्चों ने इस जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता में भाग लिया.

इस बार मिशन जागृति की यह तीसरी चित्रकला प्रतियोगिता होगी जिसमें लगभग 11000 बच्चों के भाग लेने की संभावना है. इस बार भी कक्षा 3 से 5 तक का एक ग्रुप होगा कक्षा 6 से 9:00 तक का एक ग्रुप होगा. कक्षा 10 से 12 तक का एक ग्रुप है.

इस बार मिशन जागृति की इस चित्रकला प्रतियोगिता में एक और ग्रुप बनाया गया है जो कि सभी के लिए ओपन होगा चाहे वह किसी भी उम्र के व्यक्ति हो जो अपनी प्रतिभा को निखार ना चाहते हो अपनी प्रतिभा को दिखाना चाहते हो वह इस प्रतिभा चित्रकला प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं. इस बार विशेष यह होगा कि हर ग्रुप के  20 20  प्रतिभागियों की  चित्रकला को फ्रेम करवा कर उनको फरीदाबाद के अलग-अलग कार्यालयों में हॉस्पिटल्स में  लगाया जाएगा. प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रत्येक प्रतिभागी को  प्रमाण पत्र दिया जाएगा और जो प्रतिभागी  पहले दूसरे और तृतीय स्थान पर आएंगे उनके लिए नगद इनाम की राशि भी होगी  और पहले 20 प्रतिभागियों को अलग से  ट्रॉफी मोमेंटो सर्टिफिकेट भी दिए जाएंगे.

सभी प्रतिभागियों के लिए  सुबह का नाश्ते की भी कोशिश की जाएगी. इतने बड़े आयोजन करने के लिए मिशन जागृति के कार्यकर्ता दिन रात लगे हुए हैं. लेकिन कोई भी कार्य बिना अर्थ के संभव नहीं हो पाता इतने बड़े आयोजन के लिए मिशन जागृति को स्पॉन्सर की जरूरत है. समाज में जो साधन संपन्न लोग हैं उन्हीं के सहयोग से सामाजिक संस्थाएं अपना यह काम कर पाती है. इस चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन करने का उद्देश्य यह है कि बच्चों के अंदर छिपी हुई प्रतिभा को बाहर निकालना बच्चों के अंदर आत्मविश्वास पैदा करना और समाज में फैली हुई बुराइयों के प्रति बच्चों को संवेदनशील बनाना.

8 महीने बीत गए, शिक्षा मंत्री राम विलास शर्मा के 30 लाख सेहतपुर स्कूल तक नहीं पहुंचे: LN पाराशर

advocate-ln-parashar-slammed-education-minister-ram-vilas-sharma

फरीदाबाद: देश की तमाम जर्जर इमारतें मानसून सीजन में ढह रही हैं जिनमे अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है लेकिन सरकारें अब भी सो रहीं हैं खासकर हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा तो पूरी तरफ से गहरी नींद में सोये हुए हैं। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एलएन पाराशर का जिन्होंने कहा कि लगभग एक साल पहले मैंने मीडिया के माध्यम से शिक्षा मंत्री को फरीदाबाद स्थित एक मौत के स्कूल की जानकारी दी थी जहाँ कभी भी स्कूल की बिल्डिंग गिर सकती है और स्कूल में पढ़ रहे छात्रों की जान जा सकती है। पाराशर ने कहा कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेहतपुर की जर्जर इमारत के बारे में जब मैंने आवाज उठाया तो शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने स्कूल की मरम्मत के लिए 30 लाख रूपये देने की बात कही लेकिन 8 महीने से ज्यादा हो गए, शिक्षा मंत्री के 30 लाख रूपये अब तक स्कूल में नहीं पहुंचे। 

पाराशर ने कहा कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेहतपुर में करीब 9 साल पहले एक बिल्डिंग तैयार की गई थी। बिल्डिंग में बेहतर गुणवत्ता निर्माण सामग्री का प्रयोग नहीं किया गया है। यहाँ कंस्ट्रक्शन व शिक्षा विभाग के लोगों ने बड़ी  लापरवाही की थी जो कभी भी   विद्यार्थियों पर भारी पड़ सकती है, क्योंकि बनाए गए कमरों की छत व दीवारों से प्लास्टर गिरने की कगार पर है। दीवारों में जगह-जगह दरार पड़ गईं हैं।

वकील पाराशर ने बताया कि ये जिले का सबसे बड़ा सरकारी स्कूल है और इसमें लगभग ढाई हजार छात्र छात्राएं पढ़ते हैं और स्कूल की पुरानी ही नहीं नई बिल्डिंग भी जर्जर हो गई है और नई बिल्डिंग में भी दरारें पड़ गईं हैं और नई इमारत की दीवारें, खिड़किया भी टूटने लगीं हैं। वकील पाराशर ने बताया कि स्कूल की पुरानी और नई इमारत दोनों के निर्माण में बड़ा घोटाला हुआ है और स्कूल की इस इमारत में भी घटिया मैटेरियल लगा है।  उन्होंने कहा कि लगभग 8 महीने पहले जब मैंने आवाज उठाया था तब शिक्षा मंत्री ने 30 लाख रूपये पास करने की बात कही थी लेकिन स्कूल में अब तक वो पैसे नहीं पहुंचे हैं जिसे देख लगता है कि शिक्षा मंत्री ने भी झूंठ बोला था। 

पाराशर ने कहा कि हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद् से ने इस स्कूल को 24 जुलाई 2019 को इस स्कूल की ईमारत को अनसेफ इमारत घोषित कर चुका है लेकिन अब भी मजबूरी वश इसमें छात्र पढ़ रहे हैं। कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। इस स्कूल की इमारत की हालत दिन प्रतिदिन ख़राब होती जा रही है। 

राजकीय महाविद्यालय खेड़ी गुजरान में M.A/M.COM कोर्स इसी सत्र में चालू किया जाए: ABVP

abvp-demand-education-minister-ma-mcom-course-kheri-gujaran-collage

फरीदाबाद: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद फरीदाबाद इकाई ने एबीवीपी (फरीदाबाद, पलवल) विभाग संयोजक माधव रावत, छात्रा प्रमुख प्रिति नागर की अध्यक्षता में श्रीमति बलिना राणा, एच.सी.एस.नगराधीश, फरीदाबाद को शिक्षा मंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन। 

एवीबीपी मांग करती है कि राजकीय महाविद्यालय खेड़ी गुजरान में M.A/M.COM कोर्स इसी सत्र में चालू किया जाय ताकि ग्रेजुएशन के बाद छात्र एवं छात्राएं अपनी शिक्षा इसी कालेज में पूरी कर सकें। विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिए बाहर न जाना पड़े। 

कालेज में ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले विद्यार्थियों की संख्या बहुत है। एबीवीपी मांग करती है कि एमडीयू ने अपने सभी कॉलेजों के सभी कोर्स की फीस में 2000 से &3000 की वृद्धि हुई है। उसे वापस लिया जाए।इस कालेज में ग्रामीण क्षेत्रों के एवं आर्थिक रूप से गरीब छात्र पढ़ने के लिए आते हैं। उनके उपर इसका बोझ पड़ेगा। सरकार को शिक्षा के अस्तर में सुधार करना चाहिए। बढी हुई फीस एवं पीजी के लिए M.A/M.COM कोर्स चालू करने को लेकर लेकर कालेज कैम्पस में हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया। 

एबीवीपी की मांग है कि छात्रों की समस्या का जल्द से जल्द समाधान किया जाएं नहीं तो एवीबीपी विरोध प्रर्दशन करेंगी। इस अवसर पर रवि पाण्डेय, गौरव रोहिल्ला, सम्राट अशोक, दलवीर, किरशन कुमार, रश्मि, रिणा, शंकी, नेहा, पूजा, राधा, निकिता, पिंकी, आदि अनेक छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में छात्राओं का एडमिशन होगा निशुल्क

vidyasagar-international-school-result-12-th-100-parcent-news-hindi

फरीदाबाद: विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल का 12वीं साइंस स्ट्रीम का रिजल्ट 100 फ़ीसदी आया.
  1. सुलेखा ने 90 प्रतिशत अंक प्राप्त किए (साइंस)
  2. आंचल दीक्षित ने 86.8 (साइंस)
  3. रिषिका ने 84.2 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। (साइंस)
  4.  कॉमर्स स्ट्रीम के जतिन ने 83 प्रतिशत (कॉमर्स)
  5. आकाश ने 80 प्रतिशत अंक प्राप्त किए।  (कॉमर्स)
  6. आटर्स स्ट्रीम से साक्षी ने 88.5, (आटर्स)
  7. शिवानी ने 88.2,  (आटर्स)
  8. कीर्ति ने 88.2 प्रतिशत,  (आटर्स)
  9. नेनसी दीक्षित ने 88 व  (आटर्स)
  10. नेंसी नागर ने 80 प्रतिशत प्राप्त किए।  (आटर्स)
इस अवसर पर स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव एवं डॉयरेक्टर दीपक यादव ने सभी छात्रों को शुभकामनाएं दीं। धर्मपाल यादव ने कहा कि यह परीक्षा परिणाम समस्त अध्यापक/ अध्यापिकाओं एवं बच्चों के कठिन परिश्रम का फल है। उन्होंने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि सभी अध्यापक एवं छात्र और अधिक श्रम करके आने वाले समय में और अच्छा प्रदर्शन करेंगे और शिक्षा के क्षेत्र में स्कूल का नाम रोशन करेंगे। 

उन्होंने कहा कि मेरिटोरियस छात्रों को छात्रवृति की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही उनका प्रयास है कि क्षेत्र में छात्राओं के शिक्षा के स्तर को सुधारा जा सके इसके लिए स्कूल द्वारा छात्राओं का एडमिशन नि:शुल्क रखा गया है। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में शिक्षा के साथ-साथ खेलों की विश्वस्तरीय सुविधाओं का भी बेहतर प्रबंध है।

MVN स्कूल के 60% छात्रों का JEE Main परीक्षा में शानदार प्रदर्शन, नकुल जिंदल को 27वीं रैंक

faridabad-mvn-school-sector-17-good-result-in-jee-main-examination

फरीदाबाद: मॉडर्न विद्या निकेतन, एमवीएन स्कूल के 60 प्रतिशत छात्रों ने हाल ही में सीबीएसई द्वारा जेईई की परीक्षा में शानदार प्रदर्शन देकर फरीदाबाद में ही नहीं बल्कि पूरे देश में नाम रोशन कर दिया है। इस वर्ष एमवीएन सेक्टर 17 और एमवीएन अरावली हिल्स के 371 छात्रों में से 223 छात्रों ने जेईई एडवांस के लिए क्वालीफाई किया है। वहीँ एमवीएन सेक्टर 17 के छात्र नकुल जिंदल ने ऑल इंडिया रैंक 27 हासिल कर फरीदाबाद में अपनी श्रेष्ठता का परचम लहराया है। एमवीएन अरावली हिल्स के धैर्य गुप्ता ने ऑल इंडिया 66 रैंक हासिल की है।

इस ख़ुशी के मौके पर एमवीएन स्कूल सेक्टर 17 में छात्रों और उनके अविभावकों के लिए सम्मान समारोह और एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। इस मौके पर छात्रों को सर्टिफिकेट देकर उन्हें सम्मानित किया गया। 

छात्रों और उनके अविभावकों ने स्कूल और पढाई पर अपने-अपने विचार भी साझा किए। एमवीएन की मैनेजिंग डायरेक्टर कांता शर्मा ने सभी छात्रों को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी और एक महत्वपूर्ण घोषणा की, उन्होंने बताया कि एमवीएन स्कूल गरीब और असमर्थ बच्चों के लिए 100 प्रतिशत स्कालरशिप ला रहा है जिसके तहत बच्चों की पूरी पढाई का खर्च एमवीएन सोसाइटी उठाएगी। इसके लिए स्कूल 19 मई को एक कॉमन एग्जाम करवा रहा है जिसे क्लियर करने वाले छात्रों को यह स्कालरशिप दी जाएगी। 

इस मौके पर एमवीएन स्कूल सेक्टर 17 की प्रिंसिपल अगल्या वेनकटेश ने कहा कि एमवीएन सदैव अपने छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए सर्वश्रेष्ठ सुविधा, शिक्षण, एवं वातावरण उपलब्ध कराता है। इस सफलता का श्रेय जहां एक तरफ संसथान के छात्रों को प्राप्त है वहीँ दूसरी तरफ एमवीएन के प्रेसिडेंट वरुण शर्मा, संस्थान के योग्य अध्यापकों, प्राचार्यों, प्रबंधकों, तथा व्यवस्थापकों को भी है जिन्होंने छात्रों के कंधे से कंधा मिलाकर इस संस्था को नई उंचाई प्रदान की है। 

EWS गरीबों को एडमिशन नहीं दे रहे प्राइवेट स्कूल, 1 हप्ते में कड़ा सबक सिखाएगी हरियाणा सरकार

faridabad-private-school-may-have-to-allot-ews-seats-in-a-week-news

फरीदाबाद: फरीदाबाद के प्राइवेट स्कूलों को EWS कोटे के तहत खाली सीटों का व्योरा देने के लिए एक हप्ते का समय दिया गया है, अगर एक हप्ते में प्राइवेट स्कूलों ने सीटों का व्योरा नही दिया तो उनकी मान्यता रद्द कर दी जाएगी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम 134A सभी मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों पर लागू होता है, बदले में प्राइवेट स्कूल सरकार से सस्ती जमीनों के अलावा कई अन्य लाभ लेते हैं. नियमानुसार आर्थिक रूप से पिछड़े और वंचित बच्चों को दाखिला देना प्राइवेट स्कूल स्कूलों के लिए अनिवार्य है लेकिन पैसे कमाने की हवस में ये गरीब बच्चों को दाखिला नहीं देते.

अबकी बार सरकार ने प्राइवेट स्कूलों से सीधा बोल दिया कि इस बार आपको EWS कोटे के तहत खाली सीटों का ब्यौरा देना ही होगा और गरीब बच्चों को दाखिला देना होगा, इसके लिए बच्चों से आवेदन मांगे गए, हजारों बच्चों ने परीक्षा दी लेकिन अधिकतर प्राइवेट स्कूलों ने EWS सीटों का ब्यौरा नहीं दिया जिसकी वजह से गरीब बच्चों का दाखिला नहीं हो पा रहा है.

गरीब बच्चों के माँ-बाप अपने बच्चों के भविष्य को लेकर परेशान हैं, गरीबों की परेशानी देखते हुए हरियाणा सरकार का मौलिक शिक्षा निदेशालय सख्त हो गया है, प्राइवेट स्कूलों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा गया है कि एक हप्ते में खाली सीटों का ब्यौरा दें वरना सख्त कार्यवाही की गयी है, अगर खाली सीटों का ब्यौरा नहीं दिया गया तो सरकार यह समझेगी कि स्कूल नियमानुसार जरूरतमंद छात्रों को दाखिला देना नहीं चाहते हैं.

इस सम्बन्ध में मौलिक शिक्षा निदेशालय ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों एवं मौलिक शिक्षा अधिकारियों को दिशा निर्देश दिया हैं और सरकारी आदेश का उल्लंघन करने वाले प्राइवेट स्कूलों की लिस्ट बनाने के आदेश दिए हैं.

MVN यूनिवर्सिटी में कंटिन्यूइंग फार्मेसी एजुकेशन प्रोग्राम का आयोजन

continuing-pharmacy-education-programme-in-mvn-university-faridabad

फरीदाबाद: हरियाणा स्टेट फार्मेसी काउंसिल पंचकूला द्वारा एमवीएन विश्वविद्यालय में एमवीएन स्कूल आफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज के सहयोग से सीपीई कंटिन्यूइंग फार्मेसी एजुकेशन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर (डॉ0) जे बी देसाई, सी पी ई (कॉन्टिनयिंग फार्मेसी एजुकेशन) के चेयरमैन कैलाश चंद खन्ना एवं हरियाणा स्टेट फार्मेसी काउंसिल के अध्यक्ष धनेश अदलखा द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर के किया गया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में विश्वविद्यालय के कुलपति  (डॉ0) जे बी देसाई ने बताया कि दुनिया भर में फार्मास्युटिकल्स साइंस बहुत तेजी से बढ़ रहा है, अतः दवाओं के विनिर्माण, गुणवत्ता भंडारण एवं वितरण की तकनीकों से संबंधित जानकारी भी फार्मेसी प्रोफेशनल प्रशिक्षण के दौरान दिया जाना अत्यंत ही आवश्यक है। इसके लिए शैक्षणिक संस्थानों में अंतरराष्ट्रीय मानकों का पालन करने के साथ-साथ विशाल सुधार की आवश्यकता है। 

इसी क्रम में हरियाणा स्टेट फार्मेसी काउंसिल के अध्यक्ष धनेश अदलखा ने बताया कि हरियाणा राज्य फार्मेसी काउंसिल सार्वजनिक और पेशेवर सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है जो स्वास्थ्य देखभाल एवं रोगी देखभाल अभ्यास के लिए सतत शिक्षा प्रदान करती है।

विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ राजीव रतन ने कहां की एमवीएन विश्वविद्यालय उद्योग एवं अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के साथ मिलकर उच्च शिक्षा प्रदान करने के लिए एक प्रमुख शैक्षणिक संस्थान के रूप में उभरने की दिशा में लगातार काम कर रही है। 

इस अवसर पर सचिन गांधी (श्री मेडिसिन बाबा ट्रस्ट) ने दवाइयों एवं अंग अवशेषों के सुबद्ध एवं सुरक्षित निस्तारण का महत्व विस्तार से  बताते हुए कहा कि  असुरक्षित तरीके से फेंकी गई दवाइयां व अवशेष हमारे पर्यावरण, खेतों व तालाबों को प्रदूषित करती हैं जो हमारे पशुओं के साथ-साथ मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए भी अत्यंत ही हानिकारक है। 

इस कार्यक्रम में डॉ तनवीर अहमद ने न्यूट्रास्यूटिकल उत्पाद के संभावित स्वास्थ्य लाभ के बारे में विस्तार से बताया। इसी क्रम में फार्मेसी विभाग की डीन डॉ0 ज्योति गुप्ता ने कहा कि एम वी एन विश्वविद्यालय अपने छात्रों को उनकी पूरी क्षमता के साथ-साथ उनके सतत विकास पर अपना ध्यान केंद्रित करती है। फार्मेसी विभाग अध्यक्ष डॉ0 तरुण विरमानी ने कहां कि फार्मेसी अधिनियम 1948 के पहले फार्मेसी व्यवसाय में व्यक्तियों के प्रवेश पर व्यावहारिक रूप से कोई प्रतिबंध नहीं था कोई भी व्यक्ति जो डॉक्टर के पर्चे पढ़ सकता था, वह फार्मासिस्ट बन सकता था। फार्मेसी अधिनियम, 1948 के पश्चात गुणवत्ता युक्त फार्मासिस्ट के रूप में अर्हता प्राप्त करने के लिए आवश्यक मानक शिक्षा का निर्धारण किया गया है।

इस अवसर पर अनेकों फार्मासिस्ट, डॉ ज्योति गुप्ता, सतबीर सौरौत, गिरीश मित्तल, विकास जोगपाल, रेशू विरमानी, गीता मेहलावत, मोहित संधूजा, मोहित मंगला, माधुरी ग्रोवर, सादाब आलम, कपिल चौहान, किशोर कुमार झा, राम कुमार आदि अध्यापकगणों ने विद्यार्थियों के सफल भविष्य की कामना की।

क्या है फरीदाबाद के लुटेरे प्राइवेट स्कूलों का इलाज, आखिर कब तक लुटती रहेगी जनता, इनसे सब दुखी

faridabad-private-school-loot-how-sarkar-may-stop-this-save-parents

फरीदाबाद: सरकारी स्कूलों को सरकार ने नरक और गन्दगी का ढेर बना रखा है, आम लोगों के पास प्राइवेट स्कूलों में अपने बच्चों को पढ़ाने के अलावा कोई चारा नहीं है, लोग मजबूर हैं और इसी मजबूरी का फायदा प्राइवेट स्कूल उठा रहे हैं.

प्राइवेट स्कूल लूट और ब्लैकमेलिंग एक साथ करते हैं, पहले तो एडमिशन के नाम पर मोटी फीस ली जाती है, कई स्कूल वाले तो पहले कहते हैं कि एक बार ही एडमिशन फीस देना है, अगले साल वे फिर से एडमिशन फीस मांगते हैं, उन्हें पता है कि अगर बच्चे को कहीं और ले जाएंगे तो वहां भी एडमिशन फीस देनी पड़ेगी, माँ बाप भी यही सोचते हैं और मजबूरी वश फिर से एडमिशन फीस देते हैं, एक तरह से प्राइवेट स्कूल पैरेंट्स को ब्लैकमेल करते हैं और पेरेंट्स भी ब्लैकमेल होते हैं क्योंकि इसके अलावा उनके पास कोई रास्ता नहीं है.

कॉपी-किताब, ड्रेस और बैग में भी लूट

यह तो कुछ भी नहीं है, बच्चे के एडमिशन के बाद स्कूल वाले कहते हैं - उस दुकान पर जाओ और ड्रेस, बैग, कॉपी किताब ले लो, ये सब सामान कई गुना मंहगे मिलते हैं क्योंकि स्कूल वाले यहाँ भी लूट करते हैं. 50 की कॉपी 200-300 रुपये में मिलती है, 100 की किताब 500 रुपये में मिलती है. सर्दी गर्मी की ड्रेस में भी जमकर लूट की जाती है, 200-300 रुपये की ड्रेस 1000-1500 रुपये में बेचीं जाती है.

लूट के लिए हर साल बदलते हैं किताबें

प्राइवेट स्कूल वालों ने लूट का एक और तरीका ढूंढा है, ये हर क्लास की हर साल किताबें बदल देते हैं ताकि उन्हें कोई अन्य बच्चा इस्तेमाल ना कर सके. अगर एक ही किताब रिपीट होगी तो वो किताब कोई अन्य बच्चा इस्तेमाल कर सकता है, अगर ऐसा होगा तो प्राइवेट स्कूल लूटेंगे कैसे, इसीलिए वे हर साल किताबें बदल देते हैं ताकि दोबारा इस्तेमाल होने की कोई संभावना ही ना बचे.

क्या है इनका इलाज

प्राइवेट स्कूलों की लूट रोकने के लिए सरकार को पालिसी बनानी पड़ेगा वरना यह लूट कभी नहीं रुक पाएगी, सभी स्कूलों का सिलेबस एक करना चाहिए, हर स्कूल की किताबें सेम करनी चाहिए, सरकारी स्कूलों की हालत में सुधार करना चाहिए, प्ले स्कूल पर बैन लगाना चाहिए या सरकारी स्कूलों में भी प्ले स्कूल खोलना चाहिए. नर्सरी, प्री-नर्सरी, LKG-UKG क्लासेस पर बैन लगाना चाहिए या सरकारी स्कूलों में भी इसे शुरू करना चाहिए, सरकारी स्कूलों के इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार करके प्राइवेट स्कूलों जैसा करना चाहिए. अगर ऐसा नहीं किया गया तो प्राइवेट स्कूलों की लूट ख़त्म नहीं होगी और जनता परेशान रहेगी.

अरावली स्कूल ने पुलवामा हमले में शहीदों को दी श्रद्धांजलि, अध्यापक करेंगे 1 दिन की सैलरी दान

aravali-school-tribute-pulwama-martyr-sector-12-town-park-faridabad

फरीदाबाद: अरावली इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों ने शहीद सैनिकों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी व अध्यापकों के साथ कैंडल मार्च निकाला। 

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर गुरुवार को हुए हमले में शहीद 42 जवानों की शहादत पर बुधवार को सेक्टर-12 स्थित टाउन पार्क पर सभी विद्यार्थीयों  ने एकत्रित होकर प्रधानाचार्या व समस्त स्टाफ के साथ मिलकर शहीद सैनिकों को 2 मिनट  मौन धारण कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी वहीं पार्क में उपस्थित लोगों और विद्यार्थीयों के अभिभावकों ने भी आकर सैनिकों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी साथ ही स्कूल के सभी अध्यापकों ने मिलकर शहीदों की याद में अपनी एक दिन की तनखवाह को शहीद जवानों के परिवार की सहायता के लिए एकत्र कर शहीदों के परिवार तक पहुंचाया। 

निदेशक यशवंत भड़ाना ने आतंकियों के इस कायरतापूर्ण हमले की कड़े शब्दों में निंदा की तथा शहीदों की आत्मा की शांति के लिए स्कूल में दो मिनट का मौन रखवाया गया।

विद्यालय के अध्यक्ष धनसिंह भड़ाना ने सैनिकों के परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहने का आश्वासन दिया साथ ही उन्होंने सरकार से इस हमले को अंजाम देने वाले  आतंकवादियों को जल्द से जल्द उनके किए की सजा देने की अपील की।

DAV पब्लिक स्कूल NIT-3 में धूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस, रंगारंग कार्यक्रमों की झड़ी

republic-day-celebration-in-dav-public-school-nit-3-faridabad

फरीदाबाद: 69वें गणतंत्र दिवस के उपलक्ष में डी.ए.वी. NIT-3 में एक समारोह आयोजित किया गया. गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर विद्यालय में विभिन्न रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये. कार्यक्रम का आरम्भ देश भक्ति से भरे गीत द्वारा हुआ जिसे कक्षा सातवीं की छात्रा एंजलीना  द्वारा प्रस्तुत किया गया.  कक्षा  दूसरी के विद्यार्थी मुदित ने गणतंत्र दिवस पर एक भाषण दिया.

तत्पश्चात कक्षा तीसरी, चौथी के सभी नन्हे-मुन्नों द्वारा राष्ट्रीय एकता पर आधारित एक सुन्दर नृत्य गीत पेश किया गया. विद्यालय की प्रथम के  छात्रों  द्वारा इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए भारतीय  महिमा को बढ़ाते हुए नृत्य ‘फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी” प्रस्तुत किया गया.

कक्षा दूसरी  के विद्यार्थियों द्वारा एक सुंदर नृत्य ‘कर हर मैदान फ़तेह’ प्रस्तुत किया गया.

कक्षा नवीं के छात्रों ने स्फूर्ति दायक गीत  ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’ पर प्रभावशाली प्रस्तुति  दी गयी. सम्पूर्ण वातावरण मधुर भाव से भर उठा. कार्यक्रम का समापन कक्षा दूसरी के छात्र द्वारा देश प्रेम पर आधारित नृत्य से हुआ.

अंत में प्रधानाचार्या ने सभी को 69वें गणतंत्र दिवस की बधाई दी. तथा बच्चो में देश प्रति कर्त्तव्य भाव जगाते हुए कहा कि “प्रत्येक भारतीय के लिए सर्वोपरि उसका देश होना चाहिए, और हमें अपने शहीदों तथा सैनिको के बलिदान को भूलना नहीं चाहिए.