Palwal Assembly

Showing posts with label Education. Show all posts

DC यशपाल यादव ने 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारियों के लिए किया मोटिवेट

faridabad-dc-yashpal-yadav-motivate-student-for-examination-news

फरीदाबाद 21 जनवरी: उपायुक्त यशपाल ने कहा कि बच्चों को लक्ष्य निर्धारित कर और दबाव रहित होकर परीक्षा के लिए तैयारी करनी चाहिए। पढ़ाई के साथ-साथ बच्चों को प्रतिदिन शारीरिक गतिविधियां में भी भाग लेना चाहिएं, ताकि स्वस्थ तन व मन एकाग्र रहे।

उपायुक्त यशपाल मंगलवार को सेक्टर-15 स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अरजौंदा में दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारियों के मद्देनजर उन्हें मोटिवेट कर रहे थे। उपायुक्त ने बच्चों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि इस बार इस स्कूल के सभी बच्चों ने बोर्ड परीक्षाओं में शत-प्रतिशत परिणाम लाना है। इसके लिए बच्चे योजनाबद्ध तरीके से तैयारी करना आरंभ कर दें। 

पढ़ाई के लिए समय का शैड्यूल बना लें तथा प्रतिदिन उस शैड्यूल को फाओ करते हुए नियत समय अवश्य निकालें। जब पढ़ाई कर रहे हों तो ध्यान कहीं और नहीं भटकना चाहिए, इसके लिए मन को एकाग्र रखें। परीक्षा की तैयारी जितनी एकाग्रता के साथ की जाएगी, सलेबस को उतना ही आसानी से याद किया जा सकेगा। पढ़ाई के दौरान बच्चे किसी भी प्रकार का तनाव बिल्कुल ना रखें।

उपायुक्त ने बच्चों से परीक्षा की तैयारी में मदद के लिए जो विडियो बनाकर भेजी गई थी, के बारे में पूछा तो बच्चों ने बताया कि उन विडियो से उन्हें काफी मदद मिल रही है। उपायुक्त ने स्कूल स्टाफ का आह्वान करते हुए कहा कि वे बच्चों की तैयारी अच्छी प्रकार से करवाएं तथा इस बार इस स्कूल का परीक्षा परिणाम तभी बेहतर आएगा, जब सभी मिलकर मेहनत करेंगे। उन्होंने कहा कि अध्यापक समय-समय पर बच्चों को मोटिवेट भी करते रहे हैं। इस बार बच्चे आपस में प्रतिस्पर्धी बने तथा एक-दूसरे से अधिक अंक लेने की होड़ लगाएं और मेहनत करें। उपायुक्त ने कहा कि लड़कियां अच्छी मेहनत कर रही हैं। 

अतः लड़कों को भी लड़कियों से सीख लेते हुए अच्छी तैयारी करनी है। उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश सरकार का प्रयास कि सरकारी स्कूलों का बोर्ड परीक्षा परिणाम बेहतर बनाया जाए। इसके लिए अधिकारी भी आगे आकर बच्चों को स्पोर्ट करें। उपायुक्त ने इस अवसर पर बच्चों से सीधा संवाद किया तथा बच्चों को भी पढ़ाई के प्रति काफी मोटिवेट पाया। इस अवसर पर स्कूल के प्रिंसीपल तुलसीराम व अन्य स्कूल स्टाफ उपस्थित थे।

PLR Groups of Institution में 'रोड सेफ्टी मेगा अवेरनेस प्रोग्राम' का हुआ समापन

plr-goups-of-institution-road-safety-awareness-news-in-faridabad

फरीदाबाद: पीटी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के प्रागण में चल रहे तीन दिवसीय नेशनल रोड सेफ्टी वीक अभियान के तहत " ए रोड सेफ्टी मेगा अवेरनेस प्रोग्राम " होण्डा मोटर साईकिल, स्कूटर इंडिया इंडिया प्रावेट लिमिटेड गुरुग्राम द्वारा चलाया जा रहा है जिसका शनिवार को तीसरा दिन रहा।

पीटी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के स्टाफ व छात्र छात्राओं को होण्डा मोटर साईकिल कम्पनी के असिस्टेंट मैनेजर संदीप गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया की गाड़ी या मोटर साईकिल को चलाने से पहले हमें फ्यूल, टायर, ब्रेक लाइट की जांच कर लेनी चाहिए। मोटर साईकिल व स्कूटी चलते समय आई एस आई मार्क का हेलमेट पहना व गाड़ी चलाते समय सीट बेल्ट लगाना अति आवश्यक होता है। मोटर साईकिल या स्कूटर चलाते समय हमेसा रिफ्लेक्टिव कपडे ही पहने। ड्रिविंग करते समय सड़क पर लगे सड़क सुरक्षा चिन्हो की हमेसा पालना करे यही सुरक्षा चिन्ह सड़क पर चलते समय हमारा मार्ग दर्शन करते है। गाड़ी या मोटर साईकिल चलाते समय सही तरीके से ब्रेक लगाने की जानकारी होना बहूत ही जरूरी है। और उन्होंने महिलाओ को मेन स्टेण्ड लगाना, किक से स्टार्ट करना, गाड़ी की बैलेंसिग और टर्निंग के बारे में भी जानकारिया दी। और उन्होंने बताया की नेशनल रोड सेफ्टी वीक पूरे भारत में 11 जनवरी से 17 जनवरी तक मनाया जायेगा।

पीटी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के चेअरमैन डॉ एल सी भारद्वाज व निदेशक आर पी आर्य ने रोड सेफ्टी वीक अभियान के तहत चल रहे कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा की होण्डा मोटर साईकिल कम्पनी के असिस्टेंट मैनेजर संदीप गुप्ता द्वारा दी गई सभी जानकारियों को हमें अपने जीवन में उतार कर हमेसा सड़क सुरक्षा नियमो की पलना करनी होगी। आपको सभी छात्र छात्राओं को ये अच्छी तरह समझना होगा की हमारी जरूरत हमारे परिवार और समाज को भी है और जब हम सुरक्षित होंगे तभी हम उनके लिए कुछ कर पाएंगे सड़क पर सेकड़ो जाने लापरवाही की वजह से चली जाती है।  

और उन्होंने कहा की विद्यार्थी देश का भविष्य होते है देश समाज व परिवार को विद्यार्थी से बहुत सारी उम्मीदे होती है। इस लिए आपको इस सेमिनार में रोड सेफ्टी जागरूक अभियान की दी गई सभी जानकारियों को अच्छी तरह समझ कर खुद भी सरकार द्वारा बनाये गए नियमो का पालन करना चाहिए और अपने मित्रो को भी इस तरह की जानकारियों से अवगत करना चाहिए

इस अवसर पर मुख्य रूप से संसथान के वाइस चेयरमेन गौरव भारद्वाज, डॉ रवि मालोह्त्रा, सुनीता खुराना, वीरेंदर शर्मा के अलावा संसथान के सभी अध्यापक भी उपस्थित रहे।

रावल के छात्रों ने कॉलेज प्रशासन व YMCA के खिलाफ विश्वविद्यालय के गेट पर किया प्रदर्शन

rawal-institute-student-protest-against-ymca-university-19-january

फरीदाबाद : एनएसयूआई के जिला उपाध्यक्ष विकास फागना ने नेतृत्व में सैकड़ों छात्रों ने कॉलेज प्रशासन व जे सी बॉस वाईएमसीए विश्वविद्यालय के खिलाफ विश्वविद्यालय  के गेट पर जोरदार प्रदर्शन किया। विकास फागना ने बताया कि फरीदाबाद जिले के सोहना रोड़ गाँव जक़ोपुर में रावल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कॉलेज है जिसमे कॉलेजों में छात्रों की पहले समेस्टर स्टाफ की कमी के चलते पढ़ाई नहीं हो पाई थी जिसके चलते उन्होंने जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया था जिसके चलते जिला प्रशासन की मदद से छात्रों का साल ख़राब होने से बच गया। लेकिन अब कॉलेज का दूसरा समेस्टर12 से चालू होना था लेकिन कॉलेज में पहले जैसे ही स्टाफ टीचर अभी भी कमी है और कॉलेज प्रशासन की मनमानी के चलते छात्रों का भविष्य ख़राब हो रहा है। छात्र कॉलेज जाते है लेकिन टीचर पढ़ाने नहीं आते।  

विकास फागना का कॉलेज प्रशासन व वाईएमसीए विश्वविद्यालय के ऊपर आरोप लगते हुए कहाकि वाईएमसीए विश्वविद्यालय ऐसे कॉलेज को मान्यता क्यों देता है जो छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ करते है। उन्होंने कहाकि वाईएमसीए विश्वविद्यालय को रावल कॉलेज की मान्यता रद्द कर देनी चाहिए और उन छात्रों को वाईएमसीए विश्वविद्यालय में एडमीशन देना चाहिए न की किसी और कॉलेज में। 

उन्होंने कहा की आज सुबह कॉलेज प्रशासन का सभी छात्रों के मोबाइल पर मैसेज आता है कि कॉलेज मामले को लेकर 17 जनवरी को बाटा पर एडमीशन ऑफिस पर एक मीटिंग राखी गई है लकिन जब छात्र वह गए तो वहां कोई नहीं था। इससे यह प्रतीत होता है की कॉलेज प्रशासन छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहा है। इस के चलते आज सैकड़ों छात्रों ने कॉलेज प्रशासन व जे सी बॉस वाईएमसीए विश्वविद्यालय के खिलाफ विश्वविद्यालय के गेट पर जोरदार प्रदर्शन किया। वाईएमसीए विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने छात्रों को आश्वाशन दिया की वह इस मामले को गंभीता से लेंगे और उन्होंने छात्रों को सोमवार तक का समय माँगा है। 

इस प्रदर्शन के मौके पर उनके साथ एनएसयूआई के छात्र नेता लोकेश चौधरी, विजय यादव, बिट्टू सिंह, जतिन,इंदरजीत, मोहित, साहिल खान, निखिल, विशु, रोहित, तरुण, सचिन रावत, नितेश गोस्वामी, अमानदीप, देवंश, संतोष, अमित, गौरव, नवीन, विवेक, आशिश,शुभम शर्मा,दीपका दलाल,रचना,पलवी, ईशा, नितीश कौशिक,सलमान ,अमित ,राहुल यादव, नितेश गोस्वामी ,राहुल राठौर ,गौरव आदि छात्र मौजूद थे।

PTLR ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स में तीन दिवसीय रोड सेफ्टी पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

faridabad-ptlr-groups-of-institution-road-safety-awareness-program

फरीदाबाद: पी टी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के प्रागण में तीन दिवसीय रोड सेफ्टी जागरूक अभियान के तहत " ए रोड सेफ्टी मेगा अवेरनेस प्रोग्राम " हौंडा मोटर साईकिल, स्कूटर इंडिया इंडिया प्रावेट लिमिटेड गुरुग्राम द्वारा चलाया जा रहा है जो वीरवार से शनिवार तक चलेगा इस अभियान का उदेश्य पी टी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के हजारो छात्र छात्राओं को जागरूक करना है।

इस तीन दिवसीय अभियान की शुरुआत पी टी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के निदेशक आर पी आर्य और हीरो मोटर साईकिल के अधिकारियो ने डीप प्रज्जलित कर की और इस अवसर पर मुख्य रूप से संसथान के वाइस चेयरमेन गौरव भारद्वाज, डॉ रवि मालोह्त्रा, सुनीता खुराना, वीरेंदर शर्मा उपस्थित रहे।  

पहले दिन ब्रह्स्पतिवार को रोड सेफ्टी जागरूक अभियान " ए रोड सेफ्टी मेगा अवेरनेस प्रोग्राम " के तहत छात्र छात्राओं को हीरो मोटरसाइकिल कम्पनी से आये अधिकारियो ने सड़क पर मोटर साईकिल व गाड़ी चलते समय किस प्रकार की सावधानी बरतनी चाहिए ये सब मोटर साईकिल चला कर समझाया। और कोहरे व बरसात में अपने वाहन को चलाते समय  गति और सावधानियों के बारे में भी समझाया।

पी टी एल आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स के चैयरमेन डॉ एल सी भारद्वाज ने रोड सेफ्टी जागरूक अभियान " ए रोड सेफ्टी मेगा अवेरनेस प्रोग्राम" के सेमिनार को सम्बोधित करते हुए कहा की विद्यार्थी देश का भविष्य होते है देश समाज व परिवार को विद्यार्थी से बहुत सारी उम्मीदे होती है। इस लिए आपको इस सेमिनार में रोड सेफ्टी जागरूक अभियान की दी गई सभी जानकारियों को अच्छी तरह समझ कर खुद भी सरकार द्वारा बनाये गए नियमो का पालन करना चाहिए और अपने मित्रो को भी इस तरह की जानकारियों से अवगत करना चाहिए। 

छात्राओं के यौन शोषण के आरोपी प्रोफेसर को किया गया बहाल, ABVP के विद्यार्थियों ने किया विरोध

abvp-students-protest-against-professor-cs-vishisht-faridabad-news

फरीदाबाद: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद फरीदाबाद के प्रतिनिधीयों ने महिला आयोग की सदस्य रेणु भाटिया जी से मिलकर सौंपा ज्ञापन सैक्टर 16 राजकीय महिला महाविद्यालय से निलंबित योन शोषण के आरोपी प्रोफेसर सीएस विशिष्ट को उच्च शिक्षा निदेशालय द्वारा बहाल कर दिया है। 

आरोपी प्रोफेसर को बल्लबगढ़ स्थित राजकीय महिला महाविद्यालय में रिक्त पद पर नियुक्ति भी कर दिया गया है। राजकीय कन्या महाविद्यालय में हुए छात्रा के साथ यौन उत्पीड़न के मामले में दोषी प्रोफेसर को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कराने को लेकर ज्ञापन सौंपा।

प्रीति नागर ने बताया कि राजकीय कन्या महाविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर और 2- अन्य नॉन टीचिंग स्टाफ सदस्यों पर कॉलेज की ही एक बीएससी तृतीया वर्ष की छात्रा का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगा था। एडमिशन के समय से ही इनका सिलसिला शुरू हो जाता। छात्रा ने आरोप लगाया था कि कॉलेज अध्यापक व नॉन टीचिंग स्टाफ एग्जाम में पास कराने की एवज में शारीरक शोषण करते थे। छात्रा ने अपनी शिकायत में कॉलेज की और भी छात्राओं के साथ भी यौन शोषण होने का जिक्र किया था। उपायुक्त महोदया एवं महिला आयोग की सदस्या से मिलकर आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने की माँग की थी। जिसके कारण आरोपी प्रोफेसर को तत्काल निलंबित कर दिया गया था, लेकिन दुबारा आरोपी प्रोफेसर को सैक्टर 2 महिला महाविद्यालय में रिक्त पदों पर नियुक्ति कर दिया गया है। 

विद्यार्थी परिषद महिला आयोग सदस्य रेणु भाटिया जी के माध्यम से हरियाणा सरकार से अनुरोध करती है कि फैसला आने तक आरोपी प्रोफेसर की बहाली पर रोक लगाई जाए, अभी मामला कोर्ट में है।  

इस दौरान राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य माधव रावत, जिला संयोजक राहुल राणा, मिडिया प्रमुख रवि पाण्डेय, कंचन डागर, उर्वशी, हरसिता, निकी, संजीव अत्री, पुनित चौधरी, साहिल राजपूत, राहुल, साहिल, आदि अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

YMCA विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के फ्यूजन पर 8वें अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन की मेजबानी के लिए तैयार

ymca-university-ready-for-isft-seminar-in-faridabad-news-in-hindi

फरीदाबाद, 5 जनवरी: जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए फरीदाबाद 'फ्यूजन आफ साईंस एंड टैक्नाॅलोजी' पर 8वें अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन (आईएसएफटी-2020) की मेजबानी के लिए तैयार है।यह सम्मेलन सोसायटी फार फ्यूजन आफ साईंस एंड टैक्नाॅलोजी (एसएफएसटी) के संयुक्त तत्वावधान तथा युनिवर्सिटी आफ साउथ फ्लोरिडा, युनिवर्सिटी आफ साउथ टेक्सेज, इंस्टीट्यूशन आफ मैकेनिकल इंजीनियर्स और अन्य प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थानों के सहयोग से 6 से 10 जनवरी, 2020 तक आयोजन किया जा रहा है। सम्मेलन में देश और विदेशों से लगभग 400 प्रतिभागी हिस्सा ले रहे है।

यह जानकारी आज यहां कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने एक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए दी। इस अवसर पर कुलसचिव डाॅ. एस.के. गर्ग, टीईक्यूआईपी निदेशक डाॅ. विक्रम सिंह, सभी डीन एवं विभागाध्यक्ष और विश्वविद्यालय के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने बताया कि यह पहली बार है जब विश्वविद्यालय बड़े स्तर पर किसी अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है जोकि तकनीकी शिक्षा गुणवत्ता सुधार कार्यक्रम-3 (टीईक्यूआईपी) के अंतर्गत प्रयोजित है।

प्रो. दिनेश कुमार ने बताया कि आईएसएफटी-2020 के उद्घाटन सत्र में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के पूर्व चेयरमैन डाॅ. वेद प्रकाश मुख्य अतिथि होंगे। इसके अलावा, एआईसीटीई के वाइस चेयरमैन डाॅ. एम.पी. पुनिया, एनआईटी हमीरपुर के निदेशक डाॅ राकेश सहगल और डेकेन इंडिया के प्रबंध निदेशक एवं सीईओ कंवलजीत जावा सम्मानित अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे।

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के लिए फ्यूजन आफ साईंस एंड टैक्नाॅलोजी पर 8वें अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन की मेजबानी सम्मान की बात है। यह सम्मेलन अकादमिक एवं शोध संस्थानों, औद्योगिक विशेषज्ञों, प्रबंधकों, इंजीनियरों इत्यादि के लिए मंच उपलब्ध करवायेगा तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में मौजूदा चुनौतियों के लिए समाधान प्रदान करेगा। यह सम्मेलन शिक्षाविदों और उद्योग के बीच परस्पर सहभागिता को भी बढ़ावा देगा तथा हाल में विकसित नवीनतम प्रौद्योगिकीय अनुसंधानों को भी प्रदर्शित करेगा। उन्होंने कहा कि भविष्य की प्रौद्योगिकी का आधार विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी में फ्यूजन द्वारा नये अनुसंधान है। इसलिए, यह एक ऐसा विषय है, जिस पर व्यापक चर्चा और परस्पर संवाद की आवश्यकता है। सम्मेलन में अमेरिका, साउथ कोरिया, फ्रांस, थाईलैंड, इटली, जर्मनी सहित विभिन्न देशों से लगभग 50 प्रतिभागी आ रहे है।

सम्मेलन के दौरान कुल 17 सत्र आयोजित किये जायेंगे, जिसमें 11 तकनीकी सत्र, चार प्लेनरी (परिपूर्ण) सत्र तथा दो पोस्टर प्रस्तुति सत्र शामिल है। सभी तकनीकी सत्रों में लगभग 400 शोधकर्ताओें के 200 से ज्यादा शोध पत्र रखे जायेंगे, जिसमें भारत, अमेरिका, साउथ कोरिया, फ्रांस, थाईलैंड, इटली, जर्मनी, ईरान, नाइजीरिया, साउदी अरब तथा म्यांमार शामिल हैं।

सम्मेलन तकनीकी सत्रों के दौरान जिन विषयों पर चर्चा होंगे, उनमें ऊर्जा एवं ताप प्रणाली में उन्नति, कंप्यूटर विज्ञान एवं इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग के डिजाइन एवं विश्लेषण, सिविल एवं एनवायरमेंट इंजीनियरिंग, प्रोड्क्शन एवं इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्राॅनिक्स इंजीनियरिंग तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के अन्य क्षेत्र शामिल हैं।

प्लेनरी सत्र को विभिन्न देशों के 17 आमंत्रित वक्ता जोकि विभिन्न विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के विभिन्न क्षेत्रों में विशेषज्ञता रखते है, संबोधित करेंगे और सम्मेलन की विषयवस्तु को लेकर शोध कार्यों एवं शोध संभावनाओं के बारे में चर्चा करेंगे। इस सभी सत्रों की अध्यक्षता हरियाणा के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपति कर रहे है, जिसमें विश्वकर्मा विश्वविद्यालय के कुलपति राज नेहरू, इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय, मीरपुर रेवाड़ी के कुलपति डाॅ. एस.के. गखड़, गुरू जम्भेश्वर विश्वविद्यालय, हिसार के कुलपति डाॅ. टंकेश्वर कुमार तथा गुरूग्राम विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. मारकण्डेय अहूजा शामिल हैं।

निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार, पहले दिन शाम को तथा दूसरे दिन की सुबह सभी प्रतिभागियों का पंजीकरण किया जायेगा। दूसरे दिन उद्घाटन सत्र के बाद तकनीकी और प्लेनरी सत्र आयोजित किये जायेंगे, जोकि दो दिन तक चलेंगे। सम्मेलन के दौरान चैथे एवं पांचवें दिन प्रतिभागियों के लिए आगरा और दिल्ली के ऐतिहासिक स्थलों के भ्रमण का कार्यक्रम भी रखा गया है। इसके अलावा, प्रतिभागी विश्वविद्यालय में विभिन्न सुविधाओं एवं प्रयोगशालाओं का जायजा भी लेंगे और विश्वविद्यालय में इंजीनियरिंग, विज्ञान और प्रौद्योगिकी से संबंधित नये इनोवेशन एवं स्टार्ट-अप अवधारणाओं पर चर्चा करेंगे।

सम्मेलन के दौरान विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी पर आधारित नई तकनीकी एवं उपकरणों की एक प्रदर्शनी भी लगायी जायेगी, जोकि सम्मेलन का मुख्य आकर्षण होगी।

प्रतिभागियों को सम्मेलन के संबंधित सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध करवाने के लिए विश्वविद्यालय द्वारा एक मोबाइल एप भी विकसित की गई है। इसके अलावा, सम्मेलन से संबंधित जानकारी वेबसाइट www.isft.org.in के साथ-साथ विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर भी उपलब्ध करवाई गई है।

आईएसएफटी के संदर्भ मेंः 

फ्यूजन आफ साईंस एंड टैक्नाॅलोजी पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन की शुरूआत 2011 में हुई थी और अब तक सात अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन भारत सहित अन्य देशों में आयोजित हो चुके है। इस सम्मेलन के आयोजन में 12 देशों की सहभागिता रहती है। प्रतिवर्ष सम्मेलन में सैंकड़ों शोध पत्र एवं लेख रखे जाते है, जिस पर व्यापक चर्चा की जाती है। 

सोसायटी फॉर फ्यूजन ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के संदर्भ मेंः

यह अकादमिक एवं अनुसंधान, उद्यम, इंजीनियरिंग जैसे पेशेवर से लोग का समूह है, जिनका उद्देश्य अंतःविषय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देना है। सोसाइटी शिक्षा और उद्योग के बीच परस्पर सहभागिता को बढ़ावा देने के साथ-साथ राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वैज्ञानिक प्रयासों में व्यवस्थित अध्ययन और अनुसंधान करती है। 

धौज पुलिस ने राहगीरों को लूटने वाले तीन कुख्यात अपराधी शकील, उमर मुहम्मद और उमरदीन को दबोचा

dhana-dhoj-police-arrested-badmash-shakeel-umar-muhammad-umardeen

फरीदाबाद:  धौज पुलिस ने राहगीरों को लूटने वाले तीन कुख्यात अपराधी शकील, उमर मुहम्मद और उमरदीन को दबोचा लिया है. इसके अलावा वारदात में लूटपाट एवं वाहन चोरी करने वाले शातिर आरोपी छिबा को भी दबोचा।

पुलिस आयुक्त के के राव के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए थाना धौज पुलिस ने राहगीरों से लूटपाट करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

गिरफ्तार आरोपियों का विवरण

1. शकील पुत्र मस्जिद निवासी देवला नंगली नूहू मेवात।
2. उमर मोहम्मद पुत्र ईश्वर निवासी देवला नंगली नूह मेवात।
3. उमरदीन उर्फ छिबा पुत्र मिशु निवासी देवला नंगली नूह मेवात।

थाना प्रभारी ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि 7 नौजवान लड़के सफेद रंग की स्विफ्ट गाड़ी लेकर हथियार सहित गांव सिरोही रोड जकोपुर बीजापुर तिराहे पर आने जाने वाले लोगों को लूटपाट की फिराक में खड़े हैं।

जिस पर थाना प्रभारी ने तुरंत रेड डालने के लिए पार्टी तैयार कर उपरोक्त बताई हुई जगह पर टीम सहित सरकारी जिप्सी लेकर रवाना हुए।

तिराहे पर पहुंचने से थोड़ी दूर पहले पुलिस ने अपनी जिप्सी की लाइट बंद कर आरोपियों तक पहुंची तो हथियार हाथ में लिए आरोपियों ने लूट के इरादे से पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया।

जैसे ही आरोपियों को यह भनक लगी कि गाड़ी में पुलिस है तो आरोपी भागने लगे।

जिस पर एसआई मदन गोपाल व उनकी टीम ने आरोपियों को भागकर दबोचा जिसमें तीनों उपरोक्त आरोपियों को दबोचने में कामयाब हुए।

बाकी चार आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में कामयाब हो गए।

एसआई मदन गोपाल ने बताया कि भगोड़े चारों आरोपियों की भी पहचान कर ली गई है उनको भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी छिबा ने फरीदाबाद जिला से 6 मोटरसाइकिल चोरी करना भी कबूल किया है।

आरोपी छिबा के खिलाफ फरीदाबाद, दिल्ली, पलवल, मेवात में करीब 19 मुकदमे दर्ज है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार तीन आरोपियों से स्विफ्ट गाड़ी, एक देसी कट्टा 315 बोर, चार जिंदा कारतूस, बरामद किए गए हैं।

बच्चे कड़कड़ाती ठंड से परेशान थे, CM खट्टर ने 15 जनवरी तक बंद करवाए सभी सरकारी-प्राइवेट स्कूल

haryana-sarkari-private-school-closed-till-15-january-2020-cm-khattar

फरीदाबाद, 29 दिसंबर: इस वर्ष ठंड ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिया है, स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे भी ठंड की वजह से परेशान थे, मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बच्चों  की परेशानी समझते हुए अगले महीनें 15 जनवरी तक सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों को बंद करने के आदेश दे दिए, जो स्कूल सरकार के आदेश का पालन नहीं करेंगे उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

आपको बता दें कि 1 जनवरी से 15 जनवरी तक विंटर वैकेशन होता है, 30 और 31 को अलग से छुट्टी दी गयी है, इस तरह से 17 दिन के लिए स्कूल बंद किये गए हैं. 16 जनवरी को फिर से सभी स्कूल खुलेंगे।
haryana-sarkari-private-school-closed

आपको बता दें कि फरीदाबाद के कई स्कूल मालिक सरकारी आदेश के बावजूद भी स्कूल खुला रखते हैं, अगर सबूतों के साथ उनकी शिकायत की जाएगी तो सरकार उनके खिलाफ कड़ा एक्शन लेगी। फरीदाबाद में अगर कोई भी प्राइवेट स्कूल 30 दिसंबर 2019 से 15 जनवरी 2020 के बीच में खुला दिखे तो जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती सतेंदर कौर के मोबाइल (9711185639), डॉ इन्दू गुप्ता के मोबाइल (9871084402) पर भी फोन कर सकते हैं.

आप चाहें तो हमारे नंबर (पत्रकार धर्मेंद्र प्रताप सिंह - 9953931171) पर फोटो और वीडियो भेज सकते हैं, सरकारी नियमों का उल्लंघन करने वाले स्कूलों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के लिए रिपोर्ट सरकार के पास भेजी जाएगी।

शर्मनाक, तिगांव बड़ोली गाँव के सरकारी स्कूल के बाहर लगा डेंजर जोन का बोर्ड, बाहर बैठते हैं बच्चे

tigaon-badoli-village-sarkari-school-become-danger-zone-news

फरीदाबाद: हरियाणा की खट्टर सरकार के लिए बहुत ही शर्मनाक खबर है, तिगांव बड़ोली गाँव के सरकारी स्कूल के बाहर डेंजर जोन का बोर्ड लगा है. मजबूरी में बच्चे स्कूल के बाहर बैठते हैं और बाहर ही उनकी क्लास लगती है. खट्टर सरकार का यह दूसरा कार्यकाल है. पांच साल में सरकार स्कूल के इमारत की मरम्मत भी नहीं हो पायी। पूर्व शिक्षा मंत्री राम विलास शर्मा को इन्हीं कारनामो की वजह से जनता ने चुनाव में हराकर करारा सबक सिखाया है.

तिगांव विधानसभा के अन्तर्गत आने वाले गाँव बडौली मे राजकीय उच्च विद्यालय का भवन बिल्कुल जर्जर होने और स्कूल सडक लैवल से 5 फुट नीचे होने के कारण गाँव वालो मे भारी रोष है। स्कूल की हालत ऐसी है की बच्चो की जान तक को खतरा बना हुआ है। बारिश मे स्कूल का सारा सामानह दूब जाता है। गाँव की तीन पीढियाँ इसी स्कूल मे पढती रही है। हालत ऐसी है की स्कूलभवन  मे DANGER ZONE  के  स्टिकर तक लग चुके है।

25000 से 30000 की आबादी होने के बावजूद भी और प्रसाशन  के हजारों आस्वसनो के बाद भी आज तक यह विद्यालय 12वीं  क्लास तक नही हो पाया है। गाँव की बेटियां पढ़ने के लिये पैदल 7 से 8 किलोमीटर तक का सफर तय करती है। गाँव के लोगो ने कल परेशान होकर स्कूल के गेट पर ताला जड़ दिया।

सूचना मिलने पर भाजपा विधायक राजेश नगर के घर वाले वहां पर आये और कार्यवाही का भरोस दिया।

एबीवीपी ने नेहरू कालेज में नवनियुक्त प्रिंसिपल सुनिधि चौहान का किया स्वागत

nehru-college-principal-sunidhi-chauhan-welcom-by-abvp-faridabad

फरीदबाद: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (एबीवीपी) की पंडित जवाहरलाल नेहरू कॉलेज इकाई ने छात्र नेता पुनीत चौधरी के नेतृत्व में कॉलेज की नवनियुक्त प्रिंसिपल सुनिधि चौहान का फूलों का गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया। 

प्रिंसिपल सुनिधि चौहान ने अपने स्वागत के लिए एबीवीपी कार्यकर्ताओं सहित सभी विद्यार्थियों का धन्यवाद किया। इस मौके पर प्रिंसिपल सुनिधि चौहान जी ने कहा कि आप कॉलेज को प्रतिनिधित्व करते हो और अच्छे से संभालो।  

उन्होंने उन्होंने एबीवीपी कार्यकर्ताओं के साथ-साथ सभी विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए सभी को आशीर्वाद दिया। छात्र नेता पुनीत चौधरी ने प्राचार्य को हर संभव रचनात्मक सहयोग देने का आश्वासन दिया है। 

इस मौके पर एबीवीपी कार्यकर्ताओं में नेहरू कॉलेज छात्र नेता पुनीत चौधरी, संजीव अत्री, साहिल राजपूत, मोहित शर्मा, आकाश शर्मा, निरज, दीपक, अख्तर अली, रनिश, समेत अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

फरीदाबाद के युवाओं ने की "यूथ अगेंस्ट रेप' मुहीम की शुरुआत, सेक्टर-16 में निकाला प्रदर्शन मार्च

youth-against-rape-in-faridabad-started-by-youth-news

फरीदाबाद, 9 दिसंबर: फरीदाबाद में "यूथ अगेंस्ट रेप" नामक एक मुहिम की शुरुआत की गयी है। इस मुहिम का मुख्य लक्ष्य देश के युवा पीड़ी को एकजुट कर समाज से बलात्कार जैसी बीमारी को समाप्त करना है। इसके लिए इंस्टाग्राम , ट्विटर और टेलीग्राम के माध्यम से देश की युवा पीड़ी को एकजुट कर विभिन्न राज्यो में अलग अलग टीमें  बनाई गई.

इस मुहिम में साक्षी का साथ 15 से 25 साल के युवा दे रहे है, जो अपने देश को बलात्कार और बलात्कार के झूठे आरोप लगाकर मासूमों को फसाने वालो से आज़ाद करना चाहते है। 

इस टीम की खासियत यह है कि ये लोग अपनी  पढ़ाई और नोकरी छोड़ कर, खाने ओर रहने की व्यवस्था के बारे में सोचे बिना देश सेवा करने निकले है। 

इसी मुद्दे को लेकर 8 दिसंबर को "यूथ अगेंस्ट रेप" के    हरियाणा टीम अध्यक्ष साक्षी के साथ मोनिका, वैशाली, प्रज्ञा, स्पर्श, अंकित, भावुक और अन्य सदस्यों ने एक साइलेंट प्रोटेस्ट का आयोजन किया sector 16 Faridabad me  जिसमें उन्होंने मुंह पर कपड़ा बांध कर पोस्टर लेकर जनता को रोज़ होने वाले रेप और झूठे रेप के इल्जामों के बारे में जगुरक किया। उन्होंने प्रधान मंत्री ऑफिस को भारी मात्रा में पत्र भी लिखें जिसमें "यूथ अगेंस्ट रेप" की तरफ से 8 मांगे हैं।

1. रेप के दोषियों को फांसी की सज़ा दी जाए।
2. झूठे रेप के आरोप लगाने वालों को कम से कम 14 वर्ष की सज़ा दी जानी चाहिए।
3. स्कूलों में एक्सपर्ट्स द्वारा सेक्स एजुकेशन।
4. रेप के केस को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलना चाहिए।
5. रेप पीड़ितों और गवाहों को सुरक्षा दी जाने चाहिए।
6. हर शहर में "फोरेंसिक लैब" होने चाहिए।
7. रेप के अपराधियों के लिए राष्ट्रपति दया शासन नहीं होना चाहिए।
8. रेप अपराधियों के बचे हुए सभी 64 को फांसी की साझा का क्रियान्वयन होना चाहिए।

जनता को लूटने के लिए नर्सरी, LKG, UKG कक्षाएं चलाते हैं प्राइवेट स्कूल, हो सकती है कार्यवाही

play-lkg-ukg-classes-may-be-closed-in-haryana-private-schools

चंडीगढ़: सरकार कक्षा 1 से ही शिक्षा को मान्यता देती है और सरकारी स्कूलों में भी कक्षा 1 से ही दाखिला होता है लेकिन प्राइवेट स्कूलों ने जनता को लूटने के लिए प्ले, नर्सरी, LKG और UKG कक्षाएं शुरू कर दीं और जनता भी इनके जाल में फंसकर अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाने लगी, प्राइवेट स्कूल प्ले, नर्सरी, LKG और UKG अवैध रूप से चलाते हैं और जनता को जमकर लूटते हैं लेकिन अब इनके खिलाफ कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं.

भिवानी के RTI कार्यकर्ता ब्रजपाल सिंह ने इसके खिलाफ शिक्षा निदेशालय में शिकायत की थी, इस मामले में निदेशक मौलिक शिक्षा, पंचकूला हरियाणा ने जिले के सभी मौलिक शिक्षा अधिकारियों को कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं.

private-school-loot

इस मामले में अगर कार्यवाही की गयी तो हरियाणा में मान्यता प्राप्त 8500 निजी स्कूलों में नर्सरी, LKG और UKG कक्षाएं बंद हो जाएंगी, अगर ऐसा हुआ तो जनता के ना सिर्फ लाखों रुपये बचेंगे, बच्चों को मेंटल टॉर्चर करना भी बंद हो जाएगा, कार्यवाही के बाद प्राइवेट स्कूलों में सिर्फ कक्षा 1 से दाख़िला होगा और शिक्षा माफियाओं का आधा खेल बंद हो जाएगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सरकारी स्कूलों में कक्षा 1 से दाखिला होता है लेकिन प्राइवेट स्कूलों में प्ले, नर्सरी, LKG और UKG की कक्षाएं चलती है, माँ-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों  के बच्चों से आगे निकालने के लिए अपने बच्चों को नर्सरी, LKG और UKG भी पढ़ाते हैं लेकिन नर्सरी, LKG और UKG कक्षाएं बंद होने से सिर्फ कक्षा 1 में दाखिला होता और लोग सरकारी स्कूलों में भी अपने बच्चों को पढ़ाना शुरू करेंगे, जिस दिन माँ-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाना शुरू करेंगे उसके बाद प्राइवेट स्कूलों की फीस अपने आप कम हो जाएगी और उनकी लूट भी बंद हो जाएगी।

बृजपाल परमार  के लिए यह लड़ाई आसान नहीं थी, उन्होंने अवैध रूप से चलाई जा रही कक्षाओं को बंद कराने का आग्रह किया था। जल्दी कार्रवाई न होने पर परमार ने मौलिक शिक्षा निदेशालय में बीते 22 अक्टूबर को आरटीआई लगाकर जानकारी मांगी थी। इसके बाद मौलिक शिक्षा निदेशालय हरकत में आया। 

पंडित LR कॉलेज ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन के विद्यार्थियों ने लिया अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग

pandit-lr-college-student-participate-international-conference-agra

फरीदाबाद: पंडित एल आर कॉलेज ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन के फार्मेसी विभाग के विद्यार्थि दिनांक 28 - 29 नवम्बर को डॉ रवि मलहोत्रा की देख रेख में दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का हिस्सा बने। 

आगरा स्थित राजा बलवंत सिंह कालेज द्वारा अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन का विषय ग्रीन टेक्नोलॉजी, सरकुलर इकनॉमी, एवं रीइस्टोरेशन ऑफ़ कल्चरल हैरिटेज था। 

पंडित एल आर कॉलेज के फार्मेसी विभाग की मुख्य अध्यापिका रीना कौशिक, असीस्टेंट प्रोफेसर रेमसी टी आर, आभास चौधरी, कुमारी श्रुति त्यागी, के अलावा 19 विद्यार्थीयो ने इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लिया। 

अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में पंडित एल आर कॉलेज ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन की तरफ से आभास चौधरी ने क्लाइमेंट स्मार्ट एग्रीकल्चर पर पोस्टर पप्रस्तुति की एवं अपने विचार साझा किये। जीव रसायन विभाग की मुख्य अध्यापिका डॉ उदिता तिवारी ने विधयर्थियो को खंदारी केम्पस, डॉ भीम राव अम्बेडकर विश्वविधालय का भी दौरा कराया। इस मोके पर जीव रसायन विभाग के असीस्टेंट प्रोफेसर योगेंदर प्रताप सिंह भी उपस्थित रहे। विद्यार्थियों को विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार के उपकरणों के बारे मै जानकारी दी गई। 

राजा जैत सिंह पॉलिटेक्निक में अव्यवस्थाओं के खिलाफ छात्रों का प्रदर्शन, ABVP ने सुनी छात्रों की समस्याएँ

faridabad-raja-jait-singh-polytechnic-abvp-meeting-with-student-news

फरीदाबाद: राजा जैत सिंह पॉलिटेक्निक में विद्यार्थियों ने किया प्रर्दशन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद फरीदाबाद के कार्यकर्ताओं ने मौके पर पहुंच कर सुनीं छात्रों की समस्या विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं को देख मौके से भाग गए कालेज प्रबंधक जिला विभाग संयोजक माधव रावत को छात्रों को बताया कि पॉलिटेक्निक कॉलेज में छात्रों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मूलभूत सुविधाओं का अभाव रहता है। 

कालेज में टॉयलेट, फर्स्ट-एड, स्पोर्ट्स, अटेंडेंस, पार्किंग की सुविधा, लाइब्रेरी में बुक, कैंटीन की सुविधा भी उपलब्ध नहीं हैं, पॉलिटेक्निक कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों ने बताया कि आईडी कार्ड, स्कॉलरशिप, ड्रेस, समेत बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 

दूर दराज से आने वाले छात्र पांच मिनट की देरी से पहुंचते हैं तो उन्हें अन्दर प्रवेश भी करने नहीं दिया जाता, माधव रावत ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि एबीवीपी हमेशा छात्र हितों के लिए संघर्ष करती है, आप सभी की समस्याओं को समाधान के लिए संघर्ष करेंगी तथा जल्द से जल्द समस्याओं का समाधान करवाया जाएगा। 

इस अवसर पर केशव मुजेड़ी, आकाश नागर, कुंदन, गौरव, हरिन्द्र, अनुप, सचिन, आजाद, समेत अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

फरीदाबाद और गुरुग्राम के 12 तक के सभी स्कूल 4-5 नवंबर तक बंद रखे जांय: हरियाणा सरकार

faridabad-gurugram-private-government-school-closed-4-5-november

फरीदाबाद, 3 नवंबर: जहरीली हवा ने दिल्ली के अलावा फरीदाबाद और गुरुग्राम का भी बुरा हाल है, दिल्ली में सभी स्कूल 6 नवंबर तक बंद कर दिए गए हैं लेकिन फरीदाबाद के स्कूल अब तक खुले थे। आज हरियाणा सरकार के शिक्षा विभाग ने 12वीं तक के सभी स्कूल 4-5 नवंबर तक बंद रखने के आदेश दिए हैं। 

सरकारी आदेश में कहा गया है कि भीषण स्मोग की वजह से सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूल 4 से 5 नवंबर तक बंद रखे जांय, इस आदर्श का कड़ाई से पालन किया जाय। यह नियम सिर्फ 12 तक के स्कूलों तक लागू होगा। देखिये आदेश की कॉपी - 

faridabad-gurugram-school-closed-4-5-november

मिशन जागृति द्वारा 2 अक्टूबर को चित्रकला प्रतियोगिता में 11000 विद्यार्थी लेंगे भाग, आप भी आएं

mission-jagriti-chitrakala-pratiyogita-2-october-huda-office-faridabad

फरीदाबाद, 29 सितम्बर: शहर की नामी सामाजिक संस्था मिशन जागृति आगामी 2 अक्टूबर को चित्रकला प्रतियोगिता कार्यक्रम आयोजित किया है जिसमें करीब 11000  विद्यार्थियों के भाग लेने की संभावना है. इस कार्यक्रम से जुड़ने के लिए संस्था के संस्थापक परवेश  मालिक ने एक सन्देश जारी किया है - 

नमस्कार सभी को, आपको यह जानकर अति प्रसन्नता होगी कि मिशन जागृति *2 अक्टूबर को तीसरी जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता* का आयोजन करने जा रही है। पिछले साल इस प्रतियोगिता  *5500 विधार्थियो* ने भाग लिया था। अब की बार हमारा टारगेट *11000 विधार्थियो* का हैं। यह तभी संभव हैं जब आप लोग इसमे बढ़ चढ़ कर भाग लेंगे।

यह प्रतियोगिता इस प्रकार रहेगी।

1 कक्षा तीसरी से पांचवी तक - पॉलीथिन हटाओ पर्यावरण बचाओ।
2 कक्षा छठी से आठवीं तक - जल संरक्षण।
3 कक्षा नौवीं से बारहवीं तक - बिटिया।
4 बड़ों के लिए - सामाजिक जनचेतना विषय रहेगा।

आप सभी से अनुरोध है कि अधिक से अधिक संख्या मैं आकर मिशन जागृति कि इस मुहिम का हिस्सा बने।
स्थान: हुड्डा ऑफिस के सामने।
समय: सुबह 6:00 बजे से 8:00 बजे तक।
दिनांक: 2 अक्टूबर 2019
कृपया रजिस्ट्रेशन के लिए हमारी वेबसाइट www.missionjagriti.org पर जाए। अधिक जानकारी के लिए हमारे मिशन जागृति के किसी भी वालंटियर से भी संपर्क कर सकते हैं।

Pravesh malik
9555288288

मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने स्किल डेवलपमेंट सेंटर/ लैब का किया लोकार्पण

minister-krishan-pal-gurjar-inaugurated-skiil-development-lab-center

फरीदाबाद, 20 सितंबर।   केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि भारत सरकार के कौशल भारत- कुशल भारत और हरियाणा सरकार के हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद कार्यक्रम के तहत युवाओं को उनके कौशल के अनुरूप शिक्षा देकर तैयार किया जा रहा है, ताकि वे अपने हुनर के हिसाब से जीवन जीने के लिए स्वयंरोजगार करें या रोजगार करके अपने आप आत्मनिर्भर बन सकें।
  
यह जानकारी केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज शुक्रवार को स्थानीय सेक्टर-28 के राजकीय मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल में पत्रकारों  के साथ बातचीत में दी। इससे पूर्व उन्होंने स्किल डेवलपमेंट के तहत मानव रचना विश्वविद्यालय द्वारा बनाए गए स्किल डेवलपमेंट सेंटर/ लैब का उद्घाटन/लोकार्पण भी किया। केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कौशल भारत- कुशल भारत के सपनों को साकार करने का बीड़ा उठाया है । इसके लिए 5 साल पहले स्किल डेवलपमेंट विभाग की स्थापना की थी। जिसके माध्यम से युवाओं को उनके हुनर का काम मिले जिसे वे स्वयं रोजगार करें या सरकारी और प्राइवेट क्षेत्र में रोजगार करके आत्मनिर्भर बन सके । युवाओं  को उनके हुनर के अनुरूप काम मिले।  उन्होंने कहा कि हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शिक्षा विभाग के हरियाणा स्कूल शिक्षा प्रायोजन परिसर कार्यक्रम के तहत युवाओं को नौवीं कक्षा से उनके हुनर के अनुरूप प्रशिक्षित किया जा रहा है, ताकि बारहवीं कक्षा के बाद वे आगे पढ़ाई नहीं करना चाहे तो उनके हुनर के अनुरूप स्वयं का रोजगार स्थापित करें या विभिन्न कंपनियों और सरकारी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करके आत्मनिर्भर बने।

minister-krishanpal-gurjar

कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि हुनर/ कौशल विकास के तहत आईटी, फैशन, ब्युटी ,वैलनेस सहित अनेक और कोर्स शुरू किए गए हैं, जो युवाओं को उनके स्वरोजगार  स्थापित करने या रोजगार प्राप्त करने में सहायक सिद्ध होंगे। उन्होंने कहा कि प्रति वर्ष 47 लाख  बच्चे स्कूलों में शिक्षा पास करके उच्च शिक्षा के लिए जाते हैं। इनमें से 40 परसेंट बच्चे स्किल डेवलपमेंट का कोर्स कर रहे हैं ।  कौशल विकास का कोर्स करने वाले बच्चों में से रोजगार चलाने के लिए उनमें से 60 प्रतिशत बच्चे कामयाब होते हैं। विद्यार्थियों को उनके पैरामीटर भी पूरे करने पड़ते हैं, ताकि वे स्वयं का रोजगार या प्राइवेट और  सरकारी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त कर सके । कौशल विकास के तहत कोर्स करके विद्यार्थी विदेशों में भी नौकरियां प्राप्त कर रहे हैं और अपना रोजगार भी चला रहे हैं । प्रदेश में सरकार ने यह योजना एक हजार स्कूलों में शुरू की है और देश में 7000 स्कूलों में इसका क्रियान्वयन किया जाएगा । प्रथम चरण में हरियाणा में 100 स्कूलों में कौशल विकास का क्रियान्वयन किया गया है। 

केंद्रीय मंत्री ने एफआइए और मानव रचना विश्वविद्यालय के अधिकारियों से कहा कि वे फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में स्किल डेवलपमेंट के तहत किसी भी योग्य हुनरमंद युवा को बेरोजगार ना रहने दें। हुनरमंद युवाओं को रोजगार देने में सरकार की यह योजना कारगर सिद्ध हो रही है । उन्होंने कहा कि यह एक सामाजिक सरोकार का कार्य भी है, जिसे फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के युवा आत्मनिर्भर बन सकेंगे । 

मानव रचना के चेयरमैन श्री प्रशांत भल्ला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए बताया कि म देश के युवाओं में बदलाव देखने को मिल रहा है। भारत सरकार और हरियाणा सरकार ने स्कूलों में युवाओं को कौशल के अनुरूप हुनर शिक्षा देकर उन्हें स्वयं रोजगार करने या प्राइवेट या सरकारी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करने में बेहतर कारगर सिद्ध हो रहे हैं।
    
ओरीफ्लेम स्वीडन के कोर्पोरेट अफेयर डायरेक्टर विवेक कटोच ने प्रेस वार्ता में बताया कि भारत सरकार ने कंपनी एक्ट के एससीआर में  बदलाव किया है । इसमें हुनरमंद युवाओं को नौकरी देने का प्रावधान किया गया है। स्किल डेवलपमेंट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक सराहनीय कदम है । इससे वर्ष 2022 तक भारत वर्ष आर्थिक रूप से विश्व में नंबर वन होगा । भारत की 5 मिलियन डॉलर तक आर्थिक स्थिति पहुंच जाएगी । अगले कुछ ही वर्षों में रिटेल तथा सर्विस सेंटर में रोजगार के नए अवसर युवाओं को मिलेंगे ।

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी शशि अहलावत ने हुनर कौशल विकास के बारे में सरकार की क्रियान्वित बारे विस्तार पूर्वक जानकारी दी । 

इस अवसर पर मानव रचना के चैयरमैन  प्रशांत भल्ला, वाइस चेयरमैन डॉक्टर अमित भल्ला, नवदीप चावला, फरीदाबाद एफआईए के चेयरमैन बीआर भाटिया ,डीईईओ शशि अहलावत, उप जिला मौलिक शिक्षा शिक्षा अधिकारी मुनेश चौधरी ,डॉक्टर कौशल बाटला, मंत्री जी के निजी सचिव विकास शुक्ला, राजीव माथुर, स्कूल की प्रिंसिपल डॉ वीणा वासुदेव सहित  कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। 

रतन कान्वेंट स्कूल के छात्रों ने स्वच्छता अभियान रैली निकालकर साफ़-सफाई के लिए फैलाई जागरूकता

rattan-convent-school-village-harfali-faridabad-swachh-abhiyan-rally

फरीदाबाद, 20 सितम्बर: भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी द्वारा देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के एक सौ पचासवें जन्मदिन पर ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत बल्लभगढ़ तहसील गाँव हरफली स्थित रतन कान्वेंट विद्यालय के छात्र छात्राओं व अध्यापक अध्यापिकाओं ने जोर शोर से एक अभियान शुरू किया, जिसके तहत स्वच्छता के प्रति जागरूकता फैलाते हुए रैली निकली.

इस रैली का मुख्य उद्देश्य आस-पास के क्षेत्र को स्वच्छ बनाना तथा लोगों को सफाई के प्रति जागरूक करना था। इस गतिविधि का शुभारम्भ स्कूल के प्रधानाचार्य मनोज कुमार ने अपने कर-कमलों  द्वारा अपने ही विद्यालय के प्रांगण से किया जिसमें उन्होंने अपने सभी छात्र छात्राओं व अध्यापक अध्यापिकाओं की सहायता से स्कूल के पूरे प्रांगण को स्वच्छ बनाते हुए आस-पास के क्षेत्र की समूची सफाई करते हुए गाँव हरफली में स्वच्छता अभियान जारी किया। 

जिसमें गाँव के सपंच देवेंदर चौहान व अन्य माननीय व्यक्ति अडवोकेट रवि , ब्लॉक मेम्बर सुरजीत, नुम्बेरदार गिरराज, सतबीर मेम्बर, राज सिंह, देवेंदर, सुशील, इंद्रा राज, रतन लाल , पी पी सिंह, बुद्ध सिंह, यशवीर मेम्बर की सहभागीदारी रही। 

इस अभियान के तहत सभी को संदेश दिया गया कि सभी लोगों का कर्तव्य है कि वे अपने आप को, अपने घर को व अपने आस-पास के क्षेत्र को साफ रखें। इससे रोग पास नही फटकते। शरीर स्वस्थ रहता है व शुद्ध हवा का प्रवाह रहता है। यह व्यक्ति विशेष का कार्य नहीं है बल्कि सभी लोगों की जिम्मेदारी है.

इस गतिविधि में विद्यालय की नर्सरी से लेकर बारहवीं के छात्र छात्राओं  ने बढ़ चढ़कर भाग लिया जिसमें उन्होंने भीं भिन्न प्रकार के आकर्षक पोस्टर स्लोगन तैयार किए इस गति विधि के तहत प्रधानाचार्य मनोज कुमार ने बताया कि इस तरह की भागीदारी करके हमारा उद्देश्य इस अभियान का लक्ष्य खुले में शौच की प्रव्रति से मुक्ति दिलाना, नगर निकाय में कूड़ा प्रबंधन अभिक्रियाओं को बढ़ावा देना व साफ़ सफाई को लेकर निजी क्षेत्रों की भागीदारी को सुगम बनाना है क्योंकि स्वच्छता में ही स्वास्थ्य है। हमारा प्रयास है कि हम सभी भारतीय मिलकर गांधी जी के इस जन्मदिवस पर उनके गंदगी मुक्त भारत के सपने को साकार करेंगे। यह अभियान ना केवल स्वास्थ्य सुधार करेगा बल्कि पर्यटन को बढ़ावा देगा व्यापार में उन्नति करवाएगा और जीवन स्तर  की गति को तीव्र करेगा। 

उन्होने अंत में गाँव हरफली के सरपंच व अन्य माननीय व्यक्तियों की इस प्रकार की भागीदारी के लिए आभार प्रकट करते हुए उनका धन्यवाद किया और कहा कि गाँव हरफली के साथ-साथ अन्य आस- पास के 20 गाँवों में भी इसी प्रकार सफाई अभियान चलाएँगे।

रावल इंस्टिट्यूशन में शिक्षकों का टोटा, मोटी फीस देकर भी छात्र नही कर पा रहे पढ़ाई, DC को शिकायत

rawal-instution-no-teacher-student-protest-and-complaint-to-dc-faridabad

फरीदाबाद: रावल इंस्टिट्यूशन में पिछले कुछ महीनों से शिक्षक पढ़ाने नहीं आ रहे हैं जिसकी वजह से छात्रों की पढ़ाई को नुकसान हो रहा है, आज डीसी ऑफिस में प्रदर्शन करके लोगों ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ शिकायत की और जल्द से जल्द एक्शन लेने की मांग की.

NSUI छात्र नेता विकास फागना ने बताया कि फरीदाबाद जिले के सोहना रोड़ गाँव जक़ोपुर में रावल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कॉलेज है जिसमे कॉलेजों में छात्रों को पढ़ाने के लिए स्टाफ की कमी के चलते छात्रों का भविष्य अंधकार की ओर जा रहा है। फरीदाबाद व आसपास और अन्य जिलों के कई छात्र शिक्षा ग्रहण करते हैं। इस कालेज में मात्र कुछ ही अध्यापक नियुक्त हैं। जिस वजह से छात्रों की पढ़ाई पर असर पड़ रहा है और वह पूरी तरह से अपनी शिक्षा ग्रहण नहीं कर पा रहे हैं। अध्यापक की कमी के चलते कॉलेज प्रशासन छात्रों की छुट्टी घोषित कर देता है और  अगले दो महीने बाद छात्रों की परीक्षा भी है ना तो उनकी कोई पेपर को लेकर तैयारी है।विकास फागना ने बताया कि कॉलेज के मौजूदा अध्यापक व स्टाफ भी हड़ताल पर है।  

इस समस्या को लेकर रावल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कॉलेज के छात्रों ने एनएसयूआई फरीदाबाद के जिला उपाध्यक्ष विकास फागना के  नेतृत्व में  दिनांक 5 सितंबर को छात्रों ने कॉलेज के गेट पर प्रदर्शन किया था। प्रदर्शन को देखकर कालेज के डीन बी.के. सिंह, अनिल प्रताप विकास फागना को आश्वासन दिया कि दो-चार दिन में हम इस समस्या का निवारण कर देंगे ओर अध्यापकों की नियुक्ती करवाऐंगे तांकि भविष्य में छात्रोंं की पढ़ाई पर असर ना पड़े। वहीं विकास ने कालेज के डीन से कहा कि यदि जल्द ही इस समस्या का निवारण कालेज प्रबंधन ने नहीं किया और कोई उचित निर्णय नहीं लिया और अध्यापकों की भर्ती नहीं की तो रावल इंस्टिट्यूशन के खिलाफ वह एक बड़ा प्रदर्शन करेंगे और और प्रदेश सरकार के शिक्षा मंत्री को कॉलेज के खिलाफ एक्शन लेने की मुहिम छेड़ देंगे। लेकिन एक साप्ताह बीतने के बाद अभी तक अध्यापकों की कोई भर्ती नहीं हुई। 

इस के चलते आज सेक्टर 12 लघुसचिवालय पर  जिला उपायुक्त के नाम ज्ञापन सौंपा लेकिन उनकी गैर मौजूदगी में फरीदाबाद के एस डी एम को ज्ञापन दिया गया।  

इस प्रदर्शन के मौके पर उनके साथ मनीषा , पुनीत पंडित ,एनएसयूआई के लोकेश, बिट्टू सिंह,देव,जतिन,गौरवफागना,अंकित,प्रदीप,साहिल,नीतीश,निखिल,ऋषि,विवेक,तुषार,अभिषेक,राघव,सचिन,सुनील,संतोषअवधेश, इंदरजीत, मोहित, साहिल खान, निखिल, विशु, रोहित, तरुण, सचिन रावत, नितेश गोस्वामी, अमानदीप, देवंश, संतोष, अमित, गौरव, नवीन, विवेक, आशिश ,आदि सदस्य मौजूद रहे।

2 अक्टूबर चित्रकला प्रतियोगिता में 11 हजार बच्चों का इंतजाम, मिशन जागृति को स्पांसर की तलाश

mission-jagriti-need-sponsor-for-2-october-chitrakala-pratiyogita

फरीदाबाद: मिशन जागृति के द्वारा हर साल गांधी जयंती 2 अक्टूबर पर एक चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है पहले साल जब इस चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया तो पहले ही वर्ष में दो हजार 600 बच्चों ने भाग लिया उसके बाद दूसरे वर्ष 5360 बच्चों ने इस जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता में भाग लिया.

इस बार मिशन जागृति की यह तीसरी चित्रकला प्रतियोगिता होगी जिसमें लगभग 11000 बच्चों के भाग लेने की संभावना है. इस बार भी कक्षा 3 से 5 तक का एक ग्रुप होगा कक्षा 6 से 9:00 तक का एक ग्रुप होगा. कक्षा 10 से 12 तक का एक ग्रुप है.

इस बार मिशन जागृति की इस चित्रकला प्रतियोगिता में एक और ग्रुप बनाया गया है जो कि सभी के लिए ओपन होगा चाहे वह किसी भी उम्र के व्यक्ति हो जो अपनी प्रतिभा को निखार ना चाहते हो अपनी प्रतिभा को दिखाना चाहते हो वह इस प्रतिभा चित्रकला प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं. इस बार विशेष यह होगा कि हर ग्रुप के  20 20  प्रतिभागियों की  चित्रकला को फ्रेम करवा कर उनको फरीदाबाद के अलग-अलग कार्यालयों में हॉस्पिटल्स में  लगाया जाएगा. प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रत्येक प्रतिभागी को  प्रमाण पत्र दिया जाएगा और जो प्रतिभागी  पहले दूसरे और तृतीय स्थान पर आएंगे उनके लिए नगद इनाम की राशि भी होगी  और पहले 20 प्रतिभागियों को अलग से  ट्रॉफी मोमेंटो सर्टिफिकेट भी दिए जाएंगे.

सभी प्रतिभागियों के लिए  सुबह का नाश्ते की भी कोशिश की जाएगी. इतने बड़े आयोजन करने के लिए मिशन जागृति के कार्यकर्ता दिन रात लगे हुए हैं. लेकिन कोई भी कार्य बिना अर्थ के संभव नहीं हो पाता इतने बड़े आयोजन के लिए मिशन जागृति को स्पॉन्सर की जरूरत है. समाज में जो साधन संपन्न लोग हैं उन्हीं के सहयोग से सामाजिक संस्थाएं अपना यह काम कर पाती है. इस चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन करने का उद्देश्य यह है कि बच्चों के अंदर छिपी हुई प्रतिभा को बाहर निकालना बच्चों के अंदर आत्मविश्वास पैदा करना और समाज में फैली हुई बुराइयों के प्रति बच्चों को संवेदनशील बनाना.