होम समाचार मस्क ने पूर्व ट्विटर कर्मचारी को हराया, जिसने 500 मिलियन डॉलर का...

मस्क ने पूर्व ट्विटर कर्मचारी को हराया, जिसने 500 मिलियन डॉलर का विच्छेद भत्ता मांगा था

18
0
मस्क ने पूर्व ट्विटर कर्मचारी को हराया, जिसने 500 मिलियन डॉलर का विच्छेद भत्ता मांगा था


एक अमेरिकी न्यायाधीश ने ट्विटर के पूर्व कर्मचारी द्वारा दायर मामले को खारिज कर दिया है, जिन्होंने अरबपति एलन मस्क पर कंपनी के अधिग्रहण के बाद निकाले गए कर्मचारियों को लगभग 500 मिलियन डॉलर का विच्छेद भुगतान देने से अवैध रूप से इनकार करने का आरोप लगाया था।

न्यायाधीश ट्रिना थॉम्पसन ने कहा कि कर्मचारी यह साबित नहीं कर पाए हैं कि उनके दावे संघीय कानून द्वारा संरक्षित हैं।

यह फैसला श्री मस्क के लिए एक जीत है, जिन्होंने 2022 में ट्विटर खरीदा था और तुरंत ही इसमें बदलाव करना शुरू कर दिया था, जिसमें हजारों कर्मचारियों को बर्खास्त करना भी शामिल था।

इस कदम के कारण पूर्व कर्मचारियों और विक्रेताओं ने कई मुकदमे दायर कर दिए, जिनमें कंपनी पर वादा किए गए भुगतान को रोकने का आरोप लगाया गया।

यह शिकायत 2023 में दायर किया गया था सैन फ्रांसिस्को में एक संघीय अदालत में सोशल मीडिया साइट के पूर्व “टोटल रिवॉर्ड्स प्रमुख” कोर्टनी मैकमिलियन द्वारा यह मामला दर्ज किया गया है, जिसका नाम बदलकर श्री मस्क ने एक्स कर दिया था।

शिकायत में उन्होंने कहा कि कंपनी ने कर्मचारियों को केवल एक महीने का वेतन ही विच्छेद भत्ते के रूप में दिया है, जबकि वादा किया गया था कि उन्हें कम से कम दो महीने का वेतन और स्वास्थ्य बीमा के लिए अंशदान सहित अन्य उदार लाभ दिए जाएंगे।

श्री मस्क की टीम ने न्यायाधीश से शिकायत को खारिज करने का आग्रह करते हुए कहा था कि अमेरिका का कर्मचारी सेवानिवृत्ति आय सुरक्षा अधिनियम दावे के अनुसार लागू नहीं होता।

यह अधिनियम निजी स्वास्थ्य और पेंशन योजनाओं के लिए मानक निर्धारित करता है।

सुश्री मैकमिलियन की टीम के प्रवक्ता ने कहा, “हम इस फैसले से निराश हैं और आगे बढ़ने के लिए अपने विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।”

अन्य मामले, जिनमें कंपनी के पूर्व नेताओं द्वारा लाया गया मामला भी शामिल है, अभी भी अदालतों में विचाराधीन हैं।

अपने फैसले में न्यायाधीश थॉम्पसन ने उन विवादों की ओर इशारा करते हुए कहा कि श्रमिकों को अपने दावों को साबित करने के लिए अन्यत्र अवसर मिल सकते हैं।

उन्होंने लिखा, “न्यायालय के पास अधिकार क्षेत्र का अभाव है। हालांकि, वादी के पास भी कोई विकल्प नहीं है। वास्तव में, ट्विटर के खिलाफ़ अन्य मामले भी हैं, जिनमें समान या ओवरलैपिंग अवधि के दौरान वेतन का भुगतान करने या कर्मचारी विच्छेद लाभ प्रदान करने में विफलता शामिल है।”



Source link

पिछला लेखफिल मिकेलसन अप्रत्याशित नायक बन गए हैं, ‘महान’ कीगन ब्रैडली ने प्रशंसकों का दिल जीत लिया: ‘क्लास एक्ट’
अगला लेखअमेरिका में गर्मी ने लाखों लोगों को झुलसाया, ह्यूस्टन में कई लोग बिना बिजली के तप रहे हैं
जेनेट विलियम्स
जेनेट विलियम्स एक प्रतिष्ठित कंटेंट राइटर हैं जो वर्तमान में FaridabadLatestNews.com के लिए लेखन करते हैं। वे फरीदाबाद के स्थानीय समाचार, राजनीति, समाजिक मुद्दों, और सांस्कृतिक घटनाओं पर गहन और जानकारीपूर्ण लेख प्रस्तुत करते हैं। जेनेट की लेखन शैली स्पष्ट, रोचक और पाठकों को बांधने वाली होती है। उनके लेखों में विषय की गहराई और व्यापक शोध की झलक मिलती है, जो पाठकों को विषय की पूर्ण जानकारी प्रदान करती है। जेनेट विलियम्स ने पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन में अपनी शिक्षा पूरी की है और विभिन्न मीडिया संस्थानों के साथ काम करने का महत्वपूर्ण अनुभव है। उनके लेखन का उद्देश्य न केवल सूचनाएँ प्रदान करना है, बल्कि समाज में जागरूकता बढ़ाना और सकारात्मक परिवर्तन लाना भी है। जेनेट के लेखों में सामाजिक मुद्दों की संवेदनशीलता और उनके समाधान की दिशा में सोच स्पष्ट रूप से परिलक्षित होती है। FaridabadLatestNews.com के लिए उनके योगदान ने वेबसाइट को एक विश्वसनीय और महत्वपूर्ण सूचना स्रोत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जेनेट विलियम्स अपने लेखों के माध्यम से पाठकों को निरंतर प्रेरित और शिक्षित करते रहते हैं, और उनकी पत्रकारिता को व्यापक पाठक वर्ग द्वारा अत्यधिक सराहा जाता है। उनके लेख न केवल जानकारीपूर्ण होते हैं बल्कि समाज में सकारात्मक प्रभाव डालने का भी प्रयास करते हैं।