होम समाचार दुबई में आरोप हटाए जाने के बाद टोरी टोवे आयरलैंड लौटीं

दुबई में आरोप हटाए जाने के बाद टोरी टोवे आयरलैंड लौटीं

33
0
दुबई में आरोप हटाए जाने के बाद टोरी टोवे आयरलैंड लौटीं


दुबई में हिरासत में लिए गए समूह टोरी टोवे कैमरे की तरफ देखकर मुस्कुरा रही हैं। उनके बाल और भौंहें भूरे रंग की हैं। उन्होंने लाल लिपस्टिक और हीरे की स्टड इयररिंग्स पहन रखी हैं।दुबई में हिरासत में लिया गया समूह

टोरी टोवे को यह कष्ट शुरू होने के लगभग दो सप्ताह बाद घर वापस आना पड़ा है

दुबई में घरेलू हिंसा की कथित शिकार एक महिला पर आपराधिक आरोप लगाए गए थे और वह आयरलैंड लौट आई है।

28 वर्षीय टोरी टोवे पर आत्महत्या का प्रयास करने, शराब पीने जैसे आरोप लगाए गए तथा उनका पासपोर्ट भी नष्ट कर दिया गया।

इस सप्ताह के प्रारम्भ में उनके मामले को डैल (आयरिश संसद का निचला सदन) में उठाए जाने के बाद ताओसीच (आयरिश प्रधानमंत्री) साइमन हैरिस ने हस्तक्षेप किया।

वकील और मानवाधिकार अधिवक्ता राधा स्टर्लिंग, जो डिटेन्ड इन दुबई समूह चलाती हैं, ने कहा कि सुश्री टोवे ने सोशल मीडिया पर कहा था कि “वह घर पर हैं।”

दुबई से एक उड़ान 12:21 बजे डबलिन में उतरी।

काउंटी रोसकॉमन की सुश्री टोवे संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के दुबई स्थित एक एयरलाइन में फ्लाइट अटेंडेंट के रूप में काम कर रही थीं, जब उन पर आत्महत्या का प्रयास करने और शराब पीने का आरोप लगाया गया था।

संयुक्त अरब अमीरात में पुलिस ने आरोप वापस ले लिए बुधवार को सुश्री टोवे के खिलाफ मामला दर्ज किया गया और यात्रा प्रतिबंध हटा लिया गया।

‘जब वह तैयार होंगी, तब बोलेंगी’

आयरलैंड में उनके मामले ने तब ध्यान आकर्षित किया जब सिन फेन नेता मैरी लू मैकडोनाल्ड ने डैल में इस मुद्दे को उठाया।

श्री हैरिस ने कहा कि उनके साथ किया गया व्यवहार “पूरी तरह से अस्वीकार्य” था।

रोसकॉमन की सिन फेन टीडी क्लेयर केरेन ने कहा कि उन्होंने सुश्री टोवे से बात की है।

उन्होंने कहा, “वह काउंटी रोसकॉमन में अपने घर जाकर आराम करना चाहती हैं। मैं मीडिया से अनुरोध करूंगी कि वह उनकी निजता का सम्मान करें, जब वह तैयार होंगी, तब बोल देंगी।” X पर लिखापूर्व में ट्विटर।

सुश्री केरेन ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि मीडिया इसका सम्मान करेगा और सुश्री टोवे को “वह स्थान दिया जाएगा”।

इस बिंदु तक क्या हुआ?

28 जून – कथित तौर पर हमला किए जाने के बाद, सुश्री टोवे पर आत्महत्या का प्रयास करने का आरोप लगाया गया

9 जुलाई – सिन फेन नेता मैरी लू मैकडोनाल्ड ने डैल में अपनी स्थिति को उठाया और कहा कि उनका पासपोर्ट नष्ट कर दिया गया है और उन पर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है

ताओसीच साइमन हैरिस ने कहा कि आयरिश सरकार सुश्री टोवे की मदद के लिए हर संभव प्रयास करेगी

10 जुलाई – श्री हैरिस ने कहा कि उन्होंने सुश्री टोवे से बात की है और वह स्थिति के बारे में सकारात्मक हैं।

ताओसीच ने बाद में पुष्टि की कि यात्रा प्रतिबंध हटा लिया गया है और वह हवाई अड्डे और आयरलैंड के लिए घर की यात्रा की तैयारी कर रही है

दुबई पब्लिक प्रॉसिक्यूशन ने पुष्टि की है कि सुश्री टोवे के खिलाफ मामला वापस ले लिया गया है

11 जुलाई – सुश्री टोवी और उनकी मां आयरलैंड गणराज्य में अपने घर लौट आईं

  • यदि आप इस कहानी में उठाए गए किसी भी मुद्दे से प्रभावित हुए हैं तो आप यहां जा सकते हैं बीबीसी एक्शन लाइन.



Source link

पिछला लेखएमएलबी हाइलाइट्स: ब्लू जेज़ 10, जायंट्स 6
अगला लेखदीर्घायु की कुंजी है उबाऊपन
जेनेट विलियम्स
जेनेट विलियम्स एक प्रतिष्ठित कंटेंट राइटर हैं जो वर्तमान में FaridabadLatestNews.com के लिए लेखन करते हैं। वे फरीदाबाद के स्थानीय समाचार, राजनीति, समाजिक मुद्दों, और सांस्कृतिक घटनाओं पर गहन और जानकारीपूर्ण लेख प्रस्तुत करते हैं। जेनेट की लेखन शैली स्पष्ट, रोचक और पाठकों को बांधने वाली होती है। उनके लेखों में विषय की गहराई और व्यापक शोध की झलक मिलती है, जो पाठकों को विषय की पूर्ण जानकारी प्रदान करती है। जेनेट विलियम्स ने पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन में अपनी शिक्षा पूरी की है और विभिन्न मीडिया संस्थानों के साथ काम करने का महत्वपूर्ण अनुभव है। उनके लेखन का उद्देश्य न केवल सूचनाएँ प्रदान करना है, बल्कि समाज में जागरूकता बढ़ाना और सकारात्मक परिवर्तन लाना भी है। जेनेट के लेखों में सामाजिक मुद्दों की संवेदनशीलता और उनके समाधान की दिशा में सोच स्पष्ट रूप से परिलक्षित होती है। FaridabadLatestNews.com के लिए उनके योगदान ने वेबसाइट को एक विश्वसनीय और महत्वपूर्ण सूचना स्रोत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जेनेट विलियम्स अपने लेखों के माध्यम से पाठकों को निरंतर प्रेरित और शिक्षित करते रहते हैं, और उनकी पत्रकारिता को व्यापक पाठक वर्ग द्वारा अत्यधिक सराहा जाता है। उनके लेख न केवल जानकारीपूर्ण होते हैं बल्कि समाज में सकारात्मक प्रभाव डालने का भी प्रयास करते हैं।