होम समाचार गाजा शिविर पर इजरायली हमले के बाद नासेर अस्पताल में हड़कंप

गाजा शिविर पर इजरायली हमले के बाद नासेर अस्पताल में हड़कंप

18
0
गाजा शिविर पर इजरायली हमले के बाद नासेर अस्पताल में हड़कंप


बीबीसी के एक फ्रीलांसर द्वारा फिल्माए गए फुटेज में दक्षिणी गाजा में विस्थापित लोगों के शिविर पर इजरायली हवाई हमले के बाद नासेर अस्पताल में पहुंचे लोगों को दिखाया गया है।

अस्पताल अधिकारियों के अनुसार, हमले में कम से कम 29 फिलिस्तीनी मारे गए हैं और दर्जनों घायल हुए हैं।

गाजा के हमास संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हमला खान यूनिस शहर के पूर्व में अबासन अल-कबीरा कस्बे में अल-अवदा स्कूल के गेट के पास हुआ।

इज़रायली सेना ने कहा कि उसने पहले तीन हमले इसलिए किए क्योंकि हमास के राजनेता, पुलिस अधिकारी और लड़ाके उन्हें अपने ठिकानों के रूप में इस्तेमाल कर रहे थे।

और पढ़ें इस कहानी पर यहाँ.



Source link

पिछला लेखज़ावी सिमंस के परिवार के बारे में सब कुछ जानें – माता-पिता, भाई, बहन, गर्लफ्रेंड और नीदरलैंड के उभरते सितारे के बारे में सब कुछ
अगला लेखक्यूबा का कहना है कि उसने अमेरिकी जेट स्की सवार की आतंकवादी साजिश को विफल कर दिया, लेकिन विस्तृत जानकारी उपलब्ध नहीं है
जेनेट विलियम्स
जेनेट विलियम्स एक प्रतिष्ठित कंटेंट राइटर हैं जो वर्तमान में FaridabadLatestNews.com के लिए लेखन करते हैं। वे फरीदाबाद के स्थानीय समाचार, राजनीति, समाजिक मुद्दों, और सांस्कृतिक घटनाओं पर गहन और जानकारीपूर्ण लेख प्रस्तुत करते हैं। जेनेट की लेखन शैली स्पष्ट, रोचक और पाठकों को बांधने वाली होती है। उनके लेखों में विषय की गहराई और व्यापक शोध की झलक मिलती है, जो पाठकों को विषय की पूर्ण जानकारी प्रदान करती है। जेनेट विलियम्स ने पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन में अपनी शिक्षा पूरी की है और विभिन्न मीडिया संस्थानों के साथ काम करने का महत्वपूर्ण अनुभव है। उनके लेखन का उद्देश्य न केवल सूचनाएँ प्रदान करना है, बल्कि समाज में जागरूकता बढ़ाना और सकारात्मक परिवर्तन लाना भी है। जेनेट के लेखों में सामाजिक मुद्दों की संवेदनशीलता और उनके समाधान की दिशा में सोच स्पष्ट रूप से परिलक्षित होती है। FaridabadLatestNews.com के लिए उनके योगदान ने वेबसाइट को एक विश्वसनीय और महत्वपूर्ण सूचना स्रोत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जेनेट विलियम्स अपने लेखों के माध्यम से पाठकों को निरंतर प्रेरित और शिक्षित करते रहते हैं, और उनकी पत्रकारिता को व्यापक पाठक वर्ग द्वारा अत्यधिक सराहा जाता है। उनके लेख न केवल जानकारीपूर्ण होते हैं बल्कि समाज में सकारात्मक प्रभाव डालने का भी प्रयास करते हैं।