Palwal Assembly

CIA सेंट्रल ने अलग अलग मामलों में 4 आरोपियों को दबोचकर 2 कट्टा और कारतूस किया बरामद

cia-central-arrested-4-accused-in-different-cases-25-april-2019

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए प्रभारी क्राईम ब्रांच सेंट्रल व उनकी टीम ने अलग अलग मामलों में चार आरोपियों को दबोचने में कामयाबी हासिल की है.

केस-1 

प्रभारी क्राईम ब्रांच सेंट्रल कंवलजीत सिंह व उनकी टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर 1 देशी कट्टा व 2 जिंदा कारतूस बरामद किए। 

गिरफ्तार आरोपियों का विवरण

1. हरी पुत्र धन्ना निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।
2. कन्हैया पुत्र किशन निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।

क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपियों को दिनांक 25.04.19 को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर ओल्ड फरीदाबाद एरिया से गिरफ्तार किया गया है।

सुलझाई गई वारदातः

1. मुकदमा न0 171 दिनांक 24.04.19  धारा 379A,201,411 आईपीसी 25.54.59 आर्मज एक्ट थाना ओल्ड फरीदाबाद।

बरामदगी:
दोनों आरोपियों से 1 देशी कट्टा व 2 जिंदा कारतूस बरामद किए। 

केस - 2

प्रभारी क्राईम ब्रांच सेंट्रल कंवलजीत सिंह व उनकी टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर 1 देशी कट्टा व 2 जिंदा कारतूस बरामद किए।

गिरफ्तार आरोपियों का विवरण

1. रमेश पुत्र हेमराज निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।
2. अमर पुत्र रानसिया निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।

क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपियों को दिनांक 25.04.19 को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर खेडी पुल सब्जी मण्डी फरीदाबाद से गिरफतार किया गया है।

सुलझाई गई वारदातः
1. मुकदमा न0 126 दिनांक 24.04.19 धारा 25.54.59 आर्मज एक्ट थाना खेडी पुल फरीदाबाद।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि उपरोक्त 4 आरोपियों से 2 देशी कट्टा व 4 जिंदा कारतूस बरामद किए। आरोपियो को अदालत पेश कर जेल भेज दिया गया।

कई विधायकों का भी कड़ा इम्तिहान, अपनी टिकट बचाने के लिए इन्होने शुरू किया ताबड़तोड़ प्रचार


फरीदाबाद: कृष्णपाल गुर्जर के लिए लोकसभा चुनाव जीतना बहुत जरूरी है तो भाजपा और भाजपा के सहयोगी विधायकों के लिए भी कठिन इम्तिहान है क्योंकि शीर्ष नेतृत्व विधायकों के काम काज पर भी कड़ी नजर रख रहा है. अगर भाजपा और भाजपा सहयोगी विधायकों ने अच्छा काम किया होगा तो उनकी विधानसभा में भाजपा को बढ़िया नतीजे मिलेंगे.

जिस विधानसभा में कृष्णपाल गुर्जर को बढ़िया नतीजे मिलेंगे तो शीर्ष नेतृत्व यह मान सकता है कि उस विधायक ने बढ़िया काम नहीं किया है, अगर बढ़िया नतीजे नहीं आये तो यह समझा जाएगा कि वहां की जनता उससे नाराज है. ऐसी हालत में वह विधायक विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट की दावेदारी नहीं जता पाएगा, अगर दावेदारी कर भी दी तो उसका टिकट काट दिया जा सकता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव में बडखल, फरीदाबाद शहर और बल्लभगढ़ विधानसभा सीट पर भाजपा के विधायकों की जीत हुई जबकि NIT-86 में इनेलो और पृथला विधानसभा में बसपा की जीत हुई, अपनी विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए पृथला विधायक टेकचंद और NIT विधायक नगेंदर भड़ाना ने भाजपा को समर्थन दिया और बदले में अगले विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने की मांग की.

दोनों विधायकों को भाजपा शीर्ष नेतृत्व ने टिकट का आश्वासन तो दिया है लेकिन दोनों को टिकट तभी दिया जाएगा जब जनता उनके काम से खुश होगी, जनता उनके काम से कितनी खुश है यह 23 मई को मतगणना के दिन पता चल जाएगा क्योंकि काउंटिंग के समय पता चल जाएगा कि किस विधानसभा में भाजपा का कैसा रिजल्ट है.

भाजपा विधायकों को भी इसका अहसास हो गया है इसलिए सभी विधायकों ने अपनी विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी के लिए चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है, सीमा त्रिखा ने भी कुछ दिनों से तेज चुनाव प्रचार शुरू किया है, फरीदाबाद शहरी विधानसभा के विधायक विपुल गोयल ने भी भाजपा प्रत्याशी के लिए वोट मांगने शुरू कर दिए हैं हालाँकि उनकी कृष्णपाल गुर्जर से बनती नहीं है, खैर भाजपा शीर्ष नेतृत्व यह नहीं देखेगा कि विपुल गोयल और कृष्णपाल गुर्जर की बनती है या नहीं, शीर्ष नेतृत्व सिर्फ यह देखेगा कि विपुल गोयल ने अपनी विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी को कितने वोट दिलवाए हैं, इसी तरह से बल्लभगढ़ में भी मूलचंद शर्मा की अग्निपरीक्षा होगी.

वहीं पृथला और NIT विधायकों की लोकप्रियता पर भी नजर रहेगी, वैसे दोनों विधायकों ने भाजपा प्रत्याशी के लिए चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है, अब देखते हैं कि ये कितना करिश्मा कर पाते हैं, अगर इन्होने अपना करिश्मा दिखा दिया तो इनकी टिकट कन्फर्म है, अगर ये लोग करिश्मा नहीं दिखा पाए तो कई उम्मीदवार तैयार कर लिए गए हैं.

पांच ब्राह्मणों द्वारा हवन यज्ञ करवाकर भाजपा ने खोला बडखल विधानसभा में कार्यालय

bjp-open-party-office-in-badkhal-vidhansbaha-krishan-pal-gurjar

फरीदाबाद। केंद्रीय राज्यमंत्री एवं भाजपा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर ने कहा है कि केंद्रीय राज्यमंत्री गुर्जर ने कहा कि नमो-मनो सरकार ने देश व प्रदेश में विकास के नए आयाम स्थापित किए हैं जिसे विपक्ष पचा नहीं पा रहा। उक्त विचार गुर्जर ने बडख़ल विधानसभा में चुनावी कार्यालय के शुभारंभ के अवसर पर कहे। 

शुभारंभ से पहले पांच ब्राह्मणों द्वारा हवन यज्ञ किया गया जिसका संचालान पंडित सुरेन्द्र शर्मा ने किया। इस अवसर पर सीमा त्रिखा ने लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी जनप्रिय श्री कृष्णपाल गुर्जर के लिए वोट की अपील की। सीमा त्रिखा ने इस अवसर पर उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए कहा कि इस हवन के आयोजन का इसलिए किया गया है ताकि कृष्णपाल गुर्जर को अधिक से अधिक मतों से विजयी बनाकर संसद में भेजा जा सके और हमारे जनप्रिय यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी दुबारा प्रधानमंत्री पद को सुशोभित करें। 

सीमा त्रिखा ने कहा कि हमें आज संकल्प लेकर भाजपा के पक्ष में वोट करने की जरूरत है ताकि विकास की यह गति थमने न पाए।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए लिखे गए एक गाने 'चौकीदारा' का भी विमोचन किया गया जिसे अमित मिगलानी एवं सोनू गिल ने लिखा और गाया है। यह सुंदर गाना लगभग 4 मिनट का है।

इस अवसर पर मुख्य रूप मेयर सुमनबाला, पार्षद जसवंत सिंह, मीना पाण्डेय, देव सिंह गुसाईं, जोगिन्दर चावला, रीटा गोसाईं, आनन्दकांत भाटिया,  मोहन सिंह भाटिया, मुकेश चौधरी, राधेश्याम भाटिया, कर्मबीर बैसला, तरनजीत सिंह, सुनील भाटिया, हरदयाल मदान, विक्रम भाटिया, टीआर डोबरियाल, हरिन्दर भड़ाना, महेन्द्र नागपाल, ओमप्रकाश भाटिया, जोगिन्दर झाम, जगदीश बिरमानी, किशनचंद भाटिया, ललित गोसाईं, रामपाल भारद्वाज, जनकराज शर्मा, प्रवीण चौधरी, जगत सिंह, मनजीत अबाना, चौ. रामसिंह, श्रीराम, जगन्नाथ शाह, प्रवीण पवार, तरसेन लाल शर्मा, गुलशन भाटिया, अनोख सिंह संधु, प्रे्रम दीवान, अशोक शर्मा, विश्मभर भाटिया, जगदीश भाटिया, मदन थापर, नीलम गुलाटी, राजवती, संजय महेन्द्रु, अमित अरोड़ा, रमन जेटली, अमित मिगलानी, कपिल शर्मा, नवजोत सिंह, विनोद सूरी, राजकुमार भगत जी, मनोज भड़ाना, हरिनिवास भड़ाना, संजीव भड़ाना, पार्टी कार्यकर्ता एवं विभिन्न सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

अवतार भड़ाना ने एक दर्जन स्थानों पर बैठक करके मांगे वोट

congress-loksabha-candidate-avtar-singh-bhadana-election-campaign

फरीदाबाद, 25 अप्रैल। कांग्रेस प्रत्याशी अवतार सिंह भड़ाना आज अपने पैतृक गांव अनंगपुर, शिवदुर्गा विहार, लक्कड़पुर, एन.एच.-3, 2, 1 के अलावा सेक्टर-9, सेक्टर-22, सेक्टर-16, सेक्टर-10, हथीन, उटावड, पलवल आदि में चुनाव प्रचार कर लोगों को अपने पक्ष में लामबंद किया। 

अवतार भड़ाना ने दावा किया है कि उनके पैतृक गांव अनंगपुर वासियों ने विश्वास दिलाया कि वह पूरे लोकसभा क्षेत्र में घर-घर जाकर उनके पक्ष में प्रचार और प्रसार करेंगे। 

अवतार सिंह भड़ाना ने कहा कि वह आज उन सभी लोगों के ऋणी हो गए है, जिन्होंने उन्हें खुलेआम समर्थन दिया है. उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला किया किया और कहा कि कांग्रेस सरकार में ही विकास कार्य होते हैं.

मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए प्रशासन शुरू करेगा अभियान

voters-will-be-inspired-to-vote-in-faridabad-loksabha-election-2019

फरीदाबाद, 25 अप्रैल। लोकसभा आम चुनाव में मतदाताओं की अधिक से अधिक भागीदारी हो, इसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल द्विवेदी के मार्ग दर्शन में अधिक से अधिक मतदान करने के लिए मतदाताओं को स्वीप एक्टीविटी के तहत  वोट के महत्व के बारे में जानकारी दे कर मतदान के लिए प्रेरित किया जा रहा है ।   
 
स्वीप गतिविधियो के नोडल अधिकारी एवं अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में वीरवार को  उनके कार्यालय में बैठक आयोजित की गई । उन्होंने बैठक में बताया कि चुनाव लोकतंत्र का महापर्व है, इस महापर्व में महिला एवं पुरूष, युवा एवं युवतियां, वृद्धजन मतदाताओं यानि सभी मतदाताओं की भागीदारी सुनिश्चित हो, इसके लिए भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार स्वीप कार्यक्रम चलाया जा रहा है। जिसके तहत लोकसभा आम चुनाव 2019 में मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

इस कार्यक्रम के तहत जिला के शिक्षण संस्थाओं,सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों,शहर के मालों,पैट्रोल पम्प,गैस एजेंसी,मेट्रो स्टेशनों,रेलवे स्टेशन,बस स्टैंड, टाउन पार्क, सामुदायिक केंद्रों, एमसीएफ,बङी-बङी इंडस्ट्रीज और शहरों के मुख्य मार्गों पर मतदाताओं को मतदान करने के लिए जागरूक करने बारे होर्डिग लगाए जाएंगे । इनमें मतदान करने के लिए मतदाताओं जागरूक किया जाएगा वही युवाओं को मतदान के बारे में प्रेरित किया जाएगा औ12 मई को होने वाले लोकसभा के चुनाव में मतदान करने के लिए आमजन को जागरूक किया जा रहा है।
 
उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में वोट के अधिकार को मौलिक अधिकार के रूप में प्रयोग किया जाता है। इस मौलिक अधिकार के कारण ही हम अपनी मनपसंद के उम्मीदवार या पार्टी को सत्ता में बिठा सकते हैं। मतदाताओं को निष्पक्ष रूप से एक अच्छे उम्मीदवार के पक्ष में मतदान करके अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।  
उन्होंने बताया कि मतदान के प्रति मतदाताओं में जागरूकता लाने के लिए स्वीप कार्यक्रम के अंतर्गत चुनाव आयोग की हिदायतों के अनुसार मतदाताओं को जागरूक किया जा रहा है।
उन्होंने बैठक एक -एक करके विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा अस्पतालों और संस्थानों के प्रतिनिधियो को जिम्मेदारी भी सौपी ।

बैठक में सीटीएम श्रीमती बैलीना,सीएमओ ,विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों तथा प्राइवेट अस्पतालों के प्रतिनिधियो सहित बैठक से जुड़े विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे । 

तहसील में गलत तरीके से करवाई गई थी बल्लबगढ़ के ऐतिहासिक मटियामहल की जमीन की रजिस्ट्री: LN पाराशर

advocate-ln-parashar-registry-scam-matiamahal-ballabhgarh-news

बल्लभगढ़: बल्लभगढ़ के अंबेडकर चौक के पास मटिया महल की करोड़ों रुपए कीमत की जमीन पर भूमािफ याओं द्वारा खडी की गई मल्टीस्टोरी बिल्डिंग के मामले में न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के प्रधान एडवोकेट एल. एन. पाराशर ने एक और सनसनीखेज खुलासा किया है। पाराशर ने बताया कि इस जमीन की भूमाफियाओं ने तहसील से भारी घपला कर रजिस्ट्री कराई है। उनके हाथ मटिया महल की इस 786 गज जमीन की रजिस्ट्री लगी है। इस रजिस्ट्री को ध्यान से देखने पर पता चला कि रजिस्ट्री कोर्ट केस चलने के दौरान ही कर दी गई। जबकि कोर्ट ने प्रदूमन सिंह को मालिक बाद में माना किंतु जमीन की रजिस्ट्री उससे पहले ही उसने निहाल सिंह के नाम कर दी थी। सबसे बडी बात इसमें यह है कि कोर्ट में प्रदूमन आदि का केस इस खसरा न. 195 के साथ लगते खसरा नम्बर 118 का चल रहा था। जिसमें कोर्ट ने खसरा न. 118 का फैसला प्रदूमन सिंह के हक में दिया किंतु उस फैसले की आड में प्रदूमन सिंह ने खसरा नं. 195 की 786 गज जगह जिसमें ऐतिहासिक मटियामहल खडा था,उसे भी बेच दिया। 

पाराशर का कहना है कि इसके बाद इस जमीन की कई और लोगों के नाम भी रजिस्ट्री हुई है। इस सबका रिकॉर्ड उन्होंने निकलवा लिया है। पाराशर ने बताया कि इस ऐतिहासिक धरोहर को सत्ताधरी संरक्षित भूमाफियाओं के हाथों में जाने से रोकने के लिए उन्होंने  हाईकोर्ट में भी अपील की हुई है। जल्द ही इस मामलें में हाईकोर्ट से उन अधिकारियों को नोटिस जारी होंगे, जिन्हें इसमें पार्टी बनाया गया है। 

पाराशर ने कहा कि अब वह इन फर्जी रजिस्ट्रीयों की भी जांच कराकर उन्हें कैंसिल कराऐंगे। बेशक इसके लिए उन्हें कोर्ट की शरण ही क्यों न लेनी पडे। कोर्ट में वह इन रजिस्ट्रीयों को जल्द ही चैलेंज करेंगे। उनका कहना है कि बडे ही शर्म की बात है कि प्रशासन इस मामले में बिल्कुल गूंगा व बहरा बना बैठा है। निगम कमिश्रर अनीता यादव से उन्हें बहुत उम्मीद थी कि वह इस मामले में संज्ञान जरूर लेंगी किंतु उन्होंने भी अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया। राजस्व रिकॉर्ड में भी स्पष्ट तौर पर यह जमीन हरियाणा सरकार के नाम पर दर्ज है। 

पाराशर ने बताया कि उन्हें पता चला है कि अंबेडकर चौक के पास मटिया महल प्राचीन काल से बना हुआ था। इसकी करीब हजार वर्गगज जगह खाली पड़ी हुई थी। बीजेपी सरकार आने के बाद नेताओं ने इस जमीन को कब्जाना शुरू कर दिया। देखते ही देखते मिलीभगत से यहां 550 वर्गगज पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग खड़ी हो गई। जबकि यह जमीन सरकारी थी। समय-समय पर इसकी कंप्लेंट की गई लेकिन अधिकािरयों ने मिलीभगत होने के चलते कार्रवाई नहीं की। आज इस जमीन की कीमत करीब 20 करोड़ रुपए से भी अधिक है। नहीं शुरू हुई विजिलेंस जांच: पाराशर ने बताया कि मटिया महल का मुद्दा नगर निगम सदन में स्थानीय पार्षद दीपक चौधरी ने भी कई बार उठाया था। सदन ने उनके दस्तावेज देख हैरानी भी जताई थी और इस मामले की जांच विजिलेंस से कराने को लेकर प्रस्ताव पास हो गया था। इसके बाद आज तक भी इसकी जांच शुरू नहीं हो सकी। इस मामले में बड़े स्तर पर गोलमाल हुआ है। यही कारण है कि निगम अधिकारी इसकी जांच भी नहीं कराते। 

कब्जाधारी पार्टी में अहम पद के नेता : एडवोकेट एल.एन. पाराशर ने आरोप लगाया कि इस जमीन पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाने वाले बीजेपी नेता पार्टी में अहम पद पर है। वहीं इसमें शराब का एक बहुत बडा ठेकेदार भी पार्टनर है जिसका मंत्रियों के साथ उठना बैठना है। 2015 में बीजेपी सरकार बनने के साथ ही इस नेता व शराब ठेकेदार ने मटिया महल की जमीन पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाने का काम शुरू कर दिया था। पुलिस व नगर निगम उक्त लोगो की पहुंच के सामने बौना साबित हो रहे हैं। यही कारण है कि आज सरकारी जमीन पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग खड़ी है। यदि इस मामले की सही प्रकार से जांच की जाए तो घपले की जांच मंत्रियों तक पहुंच सकती है।
9818379315 LN Parashar

क्राईम ब्राचं डीएलएफ ने कैसे सुलझाई शकुंतला मर्डर केस की गुत्थी, पढ़ें पूरी कहानी


फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच डीएलएफ को बड़ी कामयाबी मिली है, शकुंतला मर्डर केस में शामिल चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शकुंतला की बहू और उसके दोस्तों ने ही शकुंतला की हत्या की थी.

वारदात की डिटेल

आपको बताते चलेंं कि मृृतक शकुन्तला पत्नी भुवनेश निवासी बल्लबगढ की दिनांक 12.01.19 को सुबह दूध लेने के लिए जाते समय अज्ञात व्यक्तियो द्वारा गोली मारी गयी थी, उनके पति की शिकायत पर थाना आर्दश नगर बल्लभगढ में मुकदमा दर्ज किया गया था। ईलाज के दौरान दिनांक 15.01.19 को शकुन्तला की मृृत्यु होने पर मुकदमा मेंं हत्या की धारा 302 ईजाद की गई थी।

मृृतका शकुंतला की तेरहवींं के बाद मृृतका के पति भुवनेश के फोन पर दिनांक 28.01.19 को  50 लाख रुपये कि फिरौती की मांंग की गई थी जिस पर थाना शहर बल्लबगढ में मुकदमा न0 61 दिनांक 28.01.19 को फिरौती मांगने का मुकदमा दर्ज किया गया था।  

संजय कुमार पुलिस आयुक्त फरीदाबाद ने वारदात की गंभीरता को देखते हुए डीसीपी क्राईम को अपराधियों की जल्द धर पकड के लिए निर्देश दिय थे। जिसके फलस्वरुप राजेश कुमार डीसीपी क्राईम ने सहायक पुलिस आयुक्त अपराध अनिल कुमार फरीदाबाद की देख रेख मेंं अपराध शाखा डीएलएफ  की एक टीम का गठन किया गया।

आज दिनांक 25.04.19 को संजय कुमार पुलिस आयुक्त फरीदाबाद  ने अपने कार्यालय मेंं प्रैस वार्ता के दौरान बताया कि केस की प्रारम्भिक जांच पर अंदरुनी पहलुओं पर नजर रखते हुए पाया कि वारदात को अंजाम देने वाले लोग मृृतका शकुन्तला के काफी नजदीकी हो सकते र्है। तफतीश में सामने आया कि शकुन्तला व उसकी पुत्र वधु पूजा का आपसी लडाई झगडा रहता था जिस कारण पूजा अपनी सास से रंजिश रखती थी। बहू को लगता था कि उसकी सास अपनी प्रोपर्टी अपनी बेटी के नाम करने वाली है इसी वजह से बहू का सास के साथ मनमुटाव चलता रहता था। 

इस वारदात की तफतीश कई पहलुओ के आधार पर की गई। इसके साथ ही परिवारिक एंगल को मध्यनजर रखते हुए मृृतका की पुत्र वधू और उसके परिवार को तफतीश मे शामिल करने की कोशिश की गई। पूजा व उसका भाई नीरज कोई सहयोग नही कर रहा था। इसके बाद नीरज के दोस्तों को शामिल तफतीश किया गया है। 

मुखबर की सुचना पर व बाद में शकुंतला के पति के द्वारा शक जताने पर पाया कि इस केस में उनकी पुत्रवधु और उसके भाई का हाथ हो सकता है। जिस पर नीरज व उसके दोस्तों से सख्ती पुछताछ करने पर पाया कि शकुन्तला की हत्या नीरज ने अपने दोस्त अर्जुन के साथ मिलकर पूजा के कहने पर की थी।

पूजा ने ही अपनी सास को मरवाने केे लिए 50 हजार रुपये भी दिए थे। जिन पैसो से वारदात को अंजाम देने के लिए पिस्टल व कारतूस खरीदे गये थे।

आरोपी नीरज व अर्जुन निवासी गांव मलेरना ने बताया की हम वारदात को अंजाम देने के लिए अर्जुन के दोस्त भगत उर्फ भगतु निवासी मलेरना की मोटर साईकिल को लेकर शकुन्तला के घर बल्लबगढ पर जाकर उसके घर से निकलने के बाद उसकी रेकी करते थे व उन रास्तोंं की भी रेकी करते थे जहा पर कैमरे ना लगे हो, वारदात के दिन से करीब 15-20 दिन पहले से हमने रेकी शुरु की थी।

पुछताछ पर आरोपियों ने बताया कि हम रेकी करते समय अपने मोबाईल फोन को घर पर ही छोड जाते थे और हमने मौका देखकर पूजा व हमारी बनाई गई योजना के अनुसार शकुन्तला को दिनांंक 12.01.19 को सुबह दुध लाते वक्त गोली मारी और फरार हो गये थे।

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि आरोपी पढे-लिखे है। पूजा एमबीए और नीरज बीटेक है। जिन्होंने पुलिस की नजर में अपने-आप को पाक-साफ दिखाने की नियत से अपने शातिर दिमाग का इस्तेमाल करते हुए और पुलिस को गुमराह करने के लिए दिनांक 28.01.19 को अर्जुन के माध्यम से ससुर भूवनेश से 50 लाख की फिरौती मांगी गई थी।  

आरोपी अर्जुन ने बताया कि मैने दिनांक 28.01.19 को नीरज के कहने पर अपना फोन अपने घर पर छोडकर यु0पी0 मेंं जाकर चाय वाले का फोन लेकर पुलिस को गुमराह करने की नीयत से भुवनेश गोयल के पास 50 लाख रुपये की मांंग की थी।  

सहायक पुलिस आयुक्त अपराध, अनिल कुमार ने बताया कि क्राईम ब्राचं डीएलएफ प्रभारी, निरिक्षक संजीव कुमार और उसकी टीम के उपनिरिक्षक जमील अहमद, उपनिरक्षक अशवनी कुमार उपनिरक्षक असरुदीन, सहायक उपनिरक्षक कप्तान सिह, मु0सि0 कुलदीप सिह, मु0सि0 आन्नद, मु0सि0 ईश्वर, मु0सि0 कृष्ण, सिपाही नितिन, सिपाही प्रितम  ने  वारदात में शामिल निम्नलिखित मुख्य आरोपी सहित गिरफतार करने में सफलता हासिल की हैः
1. निरज पुत्र दिनेश कुमार निवासी गाँव मलेरना थाना सदर बल्लबगढ फरीदाबाद
2. अर्जुन कुमार पुत्र कर्मबीर निवासी गाँव मलेरना थाना सदर बल्लबगढ फरीदाबाद
3. भगत उर्फ भगतु पुत्र रामफल निवासी गाँव मलेरना थाना सदर बल्लबगढ फरीदाबाद
4. निरज तवर पुत्र दारासिह निवासी गाँव जटोला थाना सदर पलवल जिला पलवल।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि उपरोक्त 4 आरोपियों को गिरफतार कर, आज अदालत में पेश किया गया जिसमें मुख्य आरोपी नीरज पुत्र दिनेश कुमार निवासी गाँव मलेरना व आरोपी अर्जुन कुमार पुत्र कर्मबीर निवासी गाँव मलेरना का 4 दिन का पुलिस रिमांड पर लिया गया है।  पुलिस रिमांड के दौरान वारदात मे प्रयोग पिस्टल, मोटर साइकिल बरामद की जाऐगी।

आरोपी भगत उर्फ भगतु पुत्र रामफल निवासी गाँव मलेरना, जिसने अपनी मोटरसाईकिल वारदात में प्रयोग करने के लिए दी थी व आरेापी निरज तंवर पुत्र दारासिंंह निवासी गाँव जटोला, जिसने को गोली मारने के लिए पिस्टल व कारतुस उपलब्ध करवाये थे, इन दोनो को आज अदालत पेश कर निमका जेल भेजा गया है। आरोपीया पुजा कि गिरफतारी के प्रयास जारी है जल्द गिरफतार कर लिया जाऐगा। PRO

शकुंतला देवी मर्डर केस में बड़ा खुलासा, बहू ने दी थी सास की सुपारी, सर में मरवाई गोलियां

shakuntala-devi-murder-case-bahu-pooja-and-three-other-arrested

फरीदाबाद: अपराधी अपराध करके कहीं भी छुप जाएं पुलिस उन्हें ढूंढ ही निकालती है, शकुंतला देवी मर्डर केस भी फरीदाबाद पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. बल्लभगढ़ की रहने वाली शकुंतला देवी की ह्त्या 12 जनवरी को गोली मारकर की गयी थी.

आज पुलिस कमिश्नर ने प्रेस वार्ता करके शकुन्तला देवी मर्डर केस का खुलासा किया. इस हत्याकांड में शकुंतला देवी की बहू, उसका भाई और उसके दोस्त शामिल थे. आरोपी पूजा ने अपनी सास की हत्या करने के लिए बदमाशों को 50 हजार रुपये की सुपारी दी थी, बदमाशों ने 12 जनवरी को इस हत्याकाण्ड को अंजाम दिया था हालाँकि शकुंतला ने गोली मारे जाने के तीन दिन बाद 15 जनवरी को अस्पताल में दम तोडा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने के लिए 23 जनवरी को पुलिस कमिश्नर  संजय कुमार ने बड़ा कदम उठाते हुए हत्यारोपियों का सुराग देने वाले को ₹100000 इनाम की घोषणा की थी.

आपको बताते चले कि दिनांक 12 जनवरी को आदर्श नगर थाना क्षेत्र में कुछ अज्ञात बाईक सवारों ने डेयरी पर दूध लेने गई महिला शुकंतला देवी पत्नी भुवनेश उम्र 50 साल, को मारने की नियत से गोली मार कर फरार हो गए थे।

महिला को घायल अवस्था में मेट्रो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था जिनकी बाद में 15 जनवरी को इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी.

इस संबंध में थाना आदर्श नगर में मुकदमा नं0 17 दिनांक 12.01.2019 धारा 307,323,341,34,302 आई.पी.सी के तहत दर्ज किया गया था।

आरोपियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने, क्राइम ब्रांच Sec 30, डीएलएफ, ऊंचा गांव व थाना आदर्श नगर सहित कई टीमें लगाई हुई थी।

बल्लभगढ़ शकुंतला देवी मर्डर केस में चार आरोपी गिरफ्तार

ballabhgarh-shakuntala-devi-murder-case-4-accused-arrested-news

फरीदाबाद: अपराधी अपराध करके कहीं भी छुप जाएं पुलिस उन्हें ढूंढ ही निकालती है, शकुंतला देवी मर्डर केस भी फरीदाबाद पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, बल्लभगढ़ की रहने वाली शकुंतला देवी की गोली मारकर ह्त्या की गयी थी, आज पुलिस कमिश्नर संजय कुमार प्रेस वार्ता करके पूरे मामले का खुलासा करेंगे.

इससे पहले 23 जनवरी को बल्लभगढ़ में हुए शकुंतला देवी मर्डर केस को सुलझाने के लिए पुलिस कमिश्नर  संजय कुमार ने बड़ा कदम उठाते हुए हत्यारोपियों का सुराग देने वाले को ₹100000 इनाम की घोषणा की थी.

आपको बताते चले कि दिनांक 12 जनवरी को आदर्श नगर थाना क्षेत्र में कुछ अज्ञात बाईक सवारों ने डेयरी पर दूध लेने गई महिला शुकंतला देवी पत्नी भुवनेश उम्र 50 साल, को मारने की नियत से गोली मार कर फरार हो गए थे।

महिला को घायल अवस्था में मेट्रो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था जिनकी बाद में 15 जनवरी को इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी.

इस संबंध में थाना आदर्श नगर में मुकदमा नं0 17 दिनांक 12.01.2019 धारा 307,323,341,34,302 आई.पी.सी के तहत दर्ज किया गया था।

आरोपियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने, क्राइम ब्रांच Sec 30, डीएलएफ, ऊंचा गांव व थाना आदर्श नगर सहित कई टीमें लगाई हुई थी।

बल्लभगढ़ में बदमाशों का कहर जारी, युवक पर लोहे की रॉड से किया हमला, पुलिस भी नहीं आयी बचाने

ballabhgarh-subedar-colony-deepak-attack-by-badmash-video-viral

बल्लभगढ़: बल्लभगढ़ में बदमाशों का कहर जारी है, कल रात 10 बजे के करीब कुछ बदमाशों ने एक युवक पर हमला करके बुरी तरह से घायल कर दिया. यही नहीं बदमाशों ने हमला करते वक्त खुद ही वीडियो बनायी, पीड़ित पक्ष ने हमारे पास यह वीडियो भेजी है.

पीड़ित पक्ष ने बताया कि यह वारदात कल रात 9.55 PM की है, हथियारों से लैस बदमाशों ने लोहे की रॉड से दीपक नाम के युवक पर हमला कर दिया, कई लोगों ने बदमाशों को रोकने की कोशिश की लेकिन वह लोहे की रॉड से दीपक के हाथ और पैरों पर वार करते रहे.

पीड़ित पक्ष ने बताया कि वारदात के वक्त पुलिस को फोन किया लेकिन कोई मुलाजिम नहीं पहुंचा और बदमाश रात भर राज नर्सिंग होम वाले रोड पर हथियारों के साथ घुमते रहे. हमले में घायल दीपक का राज नर्सिंग होम में इलाज चल रहा है.

deepak-admitted-in-raj-nursing-home

देखिये MLR की कॉपी - 

deepak-mlr-ballabhgarh

पीड़ित पक्ष ने हमारे पास वारदात का वीडियो भेजा है जिसमें बदमाश खतरनाक तरीके से दीपक पर हमला करते दिख रहे हैं - देखिये -

3 उम्मीदवारों के नामांकन खारिज, बचे सिर्फ 27, देखिये खारिज किये गए और बचे उम्मीदवारों की लिस्ट

faridabad-loksabha-election-three-candidate-nomination-cancelled

फरीदाबाद , 24 अप्रैल। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल द्विवेदी ने बुधवार को नामांकन पत्रों की छंटनी चुनाव आब्जर्वर संजय कुमार की मौजूदगी में की। छंटनी के दौरान तीन उम्मीदवारों के नामांकन में कमीं पायी गयी जिसकी वजह से उनके नामांकन को खारिज कर दिया गया.

रद्द किये गए नामांकन
  1. योगेश चौहान (इंडियन नेशनल लोकदल)
  2. गिरराज (आम आदमी पार्टी)
  3. सुशीला (निर्दलीय)
उपरोक्त तीनों उम्मीदवार सिर्फ कवरिंग उम्मीदवार थे, योगेश इनेलो से हैं, गिरिराज आप पार्टी से 

जबकि सुशीला निर्दलीय उम्मीदवार थीं जो मानधीर सिंह मान की पत्नी हैं. इनके नामांकन ख़ारिज होने से किसी को फर्क नहीं पड़ेगा, अगर इनके नामांकन सभी भी पाए जाते तो ये उसे 26 से पहले वापस ले लेते.

बचे हुए उम्मीदवारों की लिस्ट

  1. कृष्ण पाल पुत्र हंसराज (भारतीय जनता पार्टी से)
  2. एडवोकेट हरिशंकर राजवंश (आदिम भारतीय दल)
  3. रामकिशन पुत्र रूप कुमार (आल इंडिया फार्वड ब्लाक पार्टी)
  4. मुकेश कुमार सिंह पुत्र गणेश प्रसाद्ध सिंह (लोकप्रिय समाज पार्टी)
  5. मनधीर पुत्र रत्न  सिंह  (बहुजन समाज पार्टी)
  6. मनोज कुमार पुत्र कपिल देव  (निर्दलीय)
  7. बिजेन्द्र कुमार कसाना  (भारतीय किसान पार्टी)
  8.  महेश प्रताप शर्मा (राष्ट्रीय विकास पार्टी)
  9. दयाचन्द पुत्र बलबीर सिंह  (भारतीय शक्ति चेतना पार्टी)
  10. महेंद्र सिंह चौहान पुत्र किशन सिंह (इण्डियन नैशनल लोकदल पार्टी)
  11. खजान पुत्र बुध सिहं ने (रिपब्लिक पार्टी आफॅ इण्डिया (एकता वादी) पार्टी),
  12. अवतार सिंह  भड़ाना पुत्र स्वर्गीय नाहर सिंह (इण्डियन नैशनल काग्रेस पार्टी)
  13. सी ए शुक्ला पुत्र अशर्फी लाल शुक्ला (निर्दलीय)
  14. राकेश कुमार पुत्र पूर्ण सिंह (आपकी अपनी पार्टी पीपुल्स)
  15. नवीन पुत्र धर्मप्रकाश (आम आदमी पार्टी),
  16. हरिचन्द पुत्र धर्म सिंह (पीपुल्स पार्टी आफॅ इण्डिया (डेमोक्रेटिक))
  17. टीका राम पुत्र ज्वाहर लाल (निर्दलीय)
  18. श्यामबीर पुत्र श्यामलाल (राष्ट्रीय लोक स्वराज पार्टी से)
  19. के पी सिंह पुत्र  रामप्रसाद ने (निर्दलीय)
  20. लेखराम पुत्र चिरंजी लाल ने (बहुजन मुक्ति पार्टी से)
  21. प्रदीप कुमार पुत्र हरिसिंह ने (राष्ट्रीय संयोजक टोला पार्टी),
  22. सही राम रावत पुत्र किशन रावत (निर्दलीय)
  23. बलवन्त कटारिया पुत्र नरेन्द्र कटारिया (निर्दलीय)
  24. अमित सिंह पटेल पुत्र चन्द पटेल (निर्दलीय)
  25. रूबी पत्नी शरीफ बेग (हिन्द काग्रेस पार्टी),
  26. दीपक गौड (आरक्षण विरोधी पार्टी)
  27. संजय माथुरिया (निर्दलीय)
लोकसभा चुनाव लङने के लिए दाखिल किये गये नामांकन पत्र आगामी 26 अप्रैल तक वापस लिए जा सकते हैं.

आचार संहिता के दायरे में हो चुनाव, सतर्क रहें सभी अधिकारी: संजय कुमार

ips-ashok-rathore-office-tahseel-room-number-1-news-in-hindi

फरीदाबाद, 24 अप्रैल। फरीदाबाद लोकसभा आम चुनाव के लिए भारत निर्वाचन आयोग की ओर से नियुक्त किए गए चुनाव पर्यवेक्षक भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी संजय कुमार ने चुनाव प्रक्रिया से जुडे अधिकारियों की बैठक ली तथा उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में नोडल अधिकारी ख़र्च, एफ एस टी, एस एस टी, अकाउंट टीम, सहायक एक्सपैन्डीचर आब्जर्वर उपस्थित थे ।
लघु सचिवालय स्थित सभागार में उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान आदर्श आचार संहिता की अनुपालना सुनिश्चित करने के साथ-साथ निष्पक्ष चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने वाली संदिग्ध गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जाए। अवैध शराब, अवैध कैश जैसी गतिविधियों पर पूरी नजर रखी जाए। फ्लाइंग स्क्वाइड टीमें  जिला के सभी  विधानसभा क्षेत्रों में तत्परता से कार्य करती रहें। कोई भी संदिग्ध गतिविधि मिलने पर उसकी सूचना उन्हें तुरंत दें तथा साथ ही चुनाव आयोग को भी भेजी जाए। 

उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान किसी भी प्रकार की आचार संहिता के उल्लंघन या संदिग्ध गतिविधि से संबंधित उनके मोबाइल नंबर 9817755167 व ईमेल- sanjaybhopal@gmail.com पर दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों की जिम्मेवारी पारदर्शी व निष्पक्ष चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न कराने की है, इसलिए अपनी डयूटी को गंभीरता से निभाएं। उन्होंने कहा कि मतदाताओं को जागरूक करने के लिए स्वीप की गतिविधियां निरंतर जारी रखें। पोलिंग पार्टियों की पायलेट रिहर्सल समय पर पूर्ण कराई जाए।

चुनाव पर्यवेक्षक संजय कुमार ने मीडिया मानिटरिंग रूम तथा मीडिया मानिटरिंग कमेटी के कार्यो का भी निरीक्षण किया। तत्पश्चात उन्होंने एन आई सी कार्यालय में पहुंच कर चुनाव प्रक्रिया में  लगाए गई अधिकारियों तथा कर्मचारियों की ड्यूटियो के रैण्डेमाइजेशन की भी जांच की ।
इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती बैलीना ने चुनाव पर्यवेक्षक को निष्पक्ष चुनाव कराने के संबंध में आज तक की गई कार्यवाही के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि स्वीप गतिविधि के तहत लगातार मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए जागरूक किया जा रहा है। आदर्श चुनाव आचार संहिता, स्वीप के संबंध में जानकारी दी कि स्वीप गतिविधि के तहत स्कूलों व कॉलेजों में बच्चों को जागरूक किया गया है। गैस सिलेंडर पर मतदान के लिए अपील संदेश का स्टीकर चस्पा करके भिजवाया जा रहा है। सहायक रिटर्निंग  विधानसभा क्षेत्र के  मतदान केंद्रों पर सभी प्रकार की जरूरी सुविधाओं तथा उम्मीदवारों को चुनाव प्रचार के लिए दी जाने वाले विभिन्न प्रकार की अनुमति के संबंध में की गई कार्यवाही के बारे में जानकारी दी। 
इस अवसर पर नगराधीश बैलीना , जिला राजस्व अधिकारी डॉ नरेश कुमार, आब्जर्वर नोडल अधिकारी सूरत सिंह मलिक  सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

IPS अशोक राठौर का तहसील में कमरा नम्बर एक में कार्यालय

पुलिस पर्यवेक्षक अशोक राठौर के लिए स्थानीय तहसील में कमरा नम्बर एक में कार्यालय बनाया गया है। इस कार्यालय में दोपहर 12:00 से एक बजे तक चुनाव पर्यवेक्षक पुलिस लोगों की चुनाव प्रक्रिया के दौरान कानून व्यवस्था सम्बंधित शिकायतें सुनेंगे । यह जानकारी सरकारी प्रवक्ता ने दी।

उन्होंने बताया कि स्थानीय लोकसभा क्षेत्र में चुनाव प्रक्रिया के दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित आदर्श आचार संहिता की पालना और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए आईपीएस अधिकारी अशोक राठौर को पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है। 

उन्होंने आगे बताया कि पुलिस पर्यवेक्षक श्री राठौर को उनके मोबाइल नम्बर 8287090445 पर भी संपर्क करके चुनाव सम्बंधी गङबङी तथा  कानून व्यवस्था की गङबङी आदि आशंका की सूचना दे सकते हैं।

नवादा कोह गाँव में फंदे पर लटकी मिली युवक की लाश, पीड़ित परिवार ने की कार्यवाही की मांग

faridabad-nawada-koh-umesh-murder-case-23-april-2019

फरीदाबाद: बडखल विधानसभा के नवादा कोह गाँव में कल उमेश नामक एक युवक की लाश केबल के तार से बनाए गए फंदे से लटकी हुई मिली. पुलिस ने लाश को बरामद करके पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया.

इस मामले में उमेश के पिता सतपाल एवं परिवार के अन्य सदस्यों ने ह्त्या की आशंका जताई है और पुलिस से कार्यवाही की मांग की है लेकिन पुलिस इसे आत्महत्या का केस बता रही है जिसकी वजह से पीड़ित परिवार में रोष है.

पीड़ित परिवार ने कहा कि पुलिस इस मामले की ना तो सही से जांच कर रही है और ना ही सीसी स्टैंड सीसीटीवी कैमरों की जांच कर रही है, अगर CCTV कैमरों की जांच की जाए तो हत्या का सुराग हाथ लग सकता है.

MCF अधिकारी, तहसीलदार और भू-माफिया मिलकर कर रहे रजिस्ट्री घोटाला, सरकार करवाए जांच: LN पाराशर

advocate-ln-parashar-accused-mcf-tahsildar-bhu-mafia-registry-scam

फरीदाबाद: वकील एल एन पाराशर ने फरीदाबाद नगर निगम के अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा है कि अधिकारी, तहसीलदार और भूमाफिया मिलकर रजिस्ट्री घोटाला कर रहे हैं और हरियाणा सरकार को करोड़ों रुपये का चूना लगा रहे हैं.

पाराशर का कहना है कि हल में मैंने सैनिक कालोनी के पास 12th एवेन्यू के बारे में कंप्लीशन घोटाले का खुलासा किया था जिसमे नगर निगम अधिकारियों ने फ़्लैट बनने के पहले ही कंप्लीशन सर्टीफिकेट बना दी थी। अब निगम के कुछ अधिकारियों और फरीदाबाद के तहसीलदारों के कई और काले कारनामों के बारे में खुलासा हुआ है। 

पाराशर ने कहा कि मुझे आरटीआई के माध्यम से जानकारी मिली है कि 12th एवेन्यू  के भूमाफियाओं ने कई और काले कारनामें  भ्रष्ट अधिकारियों से मिलकर किये हैं। पाराशर ने बताया कि रजिस्ट्री नमबर 7723, 20 दिसंबर 2018 को हुई थी और ये खाली प्लाट 18 जुलाई 2018 को लिया गया था जिसकी रजिस्ट्री का नंबर 3467 है। इस पर बनी हुई बिल्डिंग का कंप्लीशन 29 दिसंबर 2012 का दिखाया गया है यानि लगभग एक साल पहले ये खाली प्लाट था और इसकी कंप्लीशन सर्टीफिकेट 7 साल पहले की दिखाई गई है। 

पाराशर ने कहा कि नगर निगम अधिकारियों और तहसीलदारों से मिलकर माफियाओं ने एक बड़ी जालसाजी की है और ये जालसाजी बिना मिलीभगत  हो ही नहीं सकती। पराशर ने कहा कि आशीष मनचंदा, वरुण मनचंदा और दीपक विरमानी जो तीनों वीपी स्पेसेज मालिक हैं और इन तीनों ने अधिकारियों से मिलकर फर्जी कॉम्पीशन, फर्जी रजिस्ट्री, और एक एक स्टाम्प से कई कई रजिस्ट्री का खेल खेलते हैं।



पाराशर ने कहा कि इन पर एक नेता का हाँथ है और हो सकता है वो नेता भी इस फर्जीवाड़े में हिस्सा लेता हो। पाराशर ने कहा कि यहाँ सरेआम धोखाधड़ी की जा रही है। स्टाम्प चोरी, आयकर चोरी, जीएसटी चोरी जैसे कई चोरियां कर रहे हैं। पाराशर ने कहा कि इन भ्रष्टों के काले कारनामों के बारे में मैं डीजीपी हरियाणा और पुलिस कमिश्नर फरीदाबाद को पत्र लिख रहा हूँ और हरियाणा के सीएम को पत्र लिख मैं सीबीआई जांच की मांग कर रहा हूँ। वकील पाराशर ने कहा कि  इन भ्रष्टो ने मिलकर सरकार को कई करोड़ का चूना लगाया है।

registry-scam-news

registry-scam-news

registry-scam-news

अब फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस के चालान का तुरंत कर सकते हैं पेटीएम से भुगतान, पढें

faridabad-traffic-police-chalane-by-paytm-started

फरीदाबादः- आज दिनांक 24.04.19 को पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने पेटीएम कंपनी के अधिकारियों के साथ एक एमओयू साईन कर ट्रैफिक पुलिस के साथ एक कार्यनीतिक साझेदारी शुरु की जिस पर डिजिटल चालान भुगतान को सक्षम बनाया जा सके। इस साझेदारी के साथ, फरीदाबाद के यूजर पेटीएम वेबसाइट और मोबाइल ऐप का उपयोग करके ई-चालान का भुगतान कर सकेंगे।

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने कहा कि यह नई सुविधा उन यूजर्स के समय और मेहनत को बचाने में मदद करेगी, जिन्हें अन्यथा अपने चालान भुगतान के लिए नामित यातायात विभाग केंद्रो के चक्कर लगाने पडते हैं। दूसरी ओर, यह ट्रैफिक विभाग के संसाधनों को चालान लेने की गतिविधियों से मुक्त करने में भी मदद करेगा। इसके अलावा यह चालान कलेक्शन में अधिक स्पष्टता उत्पन्न करेगा और उनकी प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करनेे में यातायात विभाग की मदद करेगा।

सीनियर वाईस प्रेजीडेंट अभय शर्मा ने कहा कि चालान भुगतान करना यूजर्स के लिए हमेशा असुविधाजनक रहा है। पेटीएम ऐप पर यह ई-चालान सुविधा इस तरह के भुगतान को परेशानी मुक्त बनाती है। हम शहर के अन्य अधिकारियों के साथ भागीदारी करते रहेंगे और उनके ट्रैफिक चालान के भुगतान को डिजिटल बनाएंगे।

डीसीपी ट्रैफिक लोंकेद्र सिंह ने बताया कि पेटीएम द्वारा भुगतान करने की सुविधा प्रयोग के रुप में आज से ही शुरुआत की जा रही है। इसके लिए हमनेे ट्रैफिक पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया गया है। इस सुविधा के प्रयोग में कोई समस्या आऐगी तो उसमें समयानुसार सुधार किया जाऐगा।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि मौके पर चालान के समय जिनके पास कैश नहीं होता उनको अब चालान भरने मे आसानी रहेगी। कैश चालान की सुविधा भी सिस्टम में मौजूद रहेगी।

कृष्णपाल गुर्जर ने अवतार भडा़ना पर बोला जोर दार हमला, बताया कच्ची-पक्की शराब पहचानने का एक्सपर्ट

krishan-pal-gurjar-attack-avtar-singh-bhadana-in-palwal-speech

पलवल, 24 अप्रैल। केंद्रीय राज्यमंत्री एवं भाजपा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर ने बुधवार को अपने चुनावी अभियान के तहत पलवल क्षेत्र के लक्खी विहार, बड़ा मोहल्ला वाल्मीकि मोहल्ला, शेखपुरा-बघेल चौपाल, गांव कुसलीपुर, असावटा, रसूलपुर रोड, आदर्श कालोनी आदि में सभाओं को संबोधित कर लोगों से भाजपा के पक्ष में मतदान करने की अपील की। 

कृष्णपाल गुर्जर ने कांग्रेस उम्मीदवार एवं पूर्व सांसद अवतार सिहं भड़ाना पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अवतार सिंह भड़ाना 3 बार सांसद रहे लेकिन उन्होंने केवल झूठ बोलने का काम किया। संसद में कभी भी क्षेत्र की आवाज को नहीं उठाया। इतना ही नहीं बल्कि उन्हें जीडीपी और एफडीआई के बारे में भी कोई जानकारी नहीं कि किस तरह से से देश में पैसा आता है और उस राशि से किस तरह से विकास किया जाता है, भला ऐसा व्यक्ति लोगों का क्या भला करेगा। उन्होंने कहा कि अवतार भड़ाना को केवल कच्ची व पक्की शराब के बारे में ही जानकारी है। भड़ाना को यदि कह दिया जाए कि एक कोरे कागज पर अपने एक जैसे हस्ताक्षर कर दो तो वह एक भी हस्ताक्षर एक जैसा नहीं कर पाएगा इसीलिए कांग्रेस की सरकार ने भड़ाना को केंद्र में मंत्री नहीं बनाया।

इस दौरान जगह-जगह भाजपा प्रत्याशी गुर्जर का लोगों ने फूल मालाओं से स्वागत करते हुए उन्हें भारी मतों से विजयी बनाकर पुन: संसद में भेजने का आश्वासन दिया। सभाओं को संबोधित करते हुए कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में गांव, गरीब, मजदूर, किसान व कर्मचारियों के लिए विकास कार्य किए गए है। फरीदाबाद के साथ-साथ पलवल जिले में सडक़ों का जाल बिछाया गया है और नेशनल हाईवे पर जाम से निजात दिलाने के लिए फ्लाईओवर बनाए गए है और पलवल को सही मायनों में भाजपा ने विकास की सौगात दी है। 

उन्होंने भाजपा सरकार के 5 वर्षाे में हुए विकास का ब्यौरा प्रस्तुत करते हुए कहा कि पलवल शहर में लोगों को जाम से निजात दिलाने के लिए एलिवेटिड़ पुल बनाया जा रहा है, जिसके बनने के बाद यातायात सुगम और सरल हो जाएगा। वहीं भाजपा सरकार ने केएमपी व केजीपी एक्सप्रेस वे का निर्माण किया गया। साथ ही साथ पलवल में रसूलपुर रोड व बामनीखेड़ा में आरओबी का निर्माण किया जा रहा है। प्रदेश में शिक्षा के स्तर को बढाने के लिए 20 किलोमीटर के दायरे में कॉलेज बनाने का कार्य किया गया है। पलवल जिला के सभी ब्लॉक में महिला कॉलेज बनाए जा रहे है। गांव दुधौला में श्री विश्वकर्मा कौशल विकास यूनिवर्सिटी बनाने का काम भाजपा सरकार ने किया है। भाजपा सरकार ने पांच वर्षों में रिकॉर्ड तोड़ विकास कार्य किए है। भाजपा सरकार ने किसानों को गेहंू,जीरी,कपास, मक्का, बाजरा,सरसों आदि फसलों का उचित मूल्य दिया है। पलवल में प्राकृतिक आपदा के दौरान नष्टï हुई फसलों के लिए 200 करोड़ रूपए का मुआवजा किसानों को दिया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, पूर्वमंत्री सुभाष कत्याल, भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सौरोत, हेतराम बघेल, चेतराम बघेल, श्यामबीर वाल्मिकी, योगेश सरपंच, नरेंद्र नंबरदार, पवन पोसवाल, प्रमोद पोसवाल, रामपाल सरपंच, मेहचंद गहलोत, जयसिंह चौहान सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे। 

EWS गरीबों को एडमिशन नहीं दे रहे प्राइवेट स्कूल, 1 हप्ते में कड़ा सबक सिखाएगी हरियाणा सरकार

faridabad-private-school-may-have-to-allot-ews-seats-in-a-week-news

फरीदाबाद: फरीदाबाद के प्राइवेट स्कूलों को EWS कोटे के तहत खाली सीटों का व्योरा देने के लिए एक हप्ते का समय दिया गया है, अगर एक हप्ते में प्राइवेट स्कूलों ने सीटों का व्योरा नही दिया तो उनकी मान्यता रद्द कर दी जाएगी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम 134A सभी मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों पर लागू होता है, बदले में प्राइवेट स्कूल सरकार से सस्ती जमीनों के अलावा कई अन्य लाभ लेते हैं. नियमानुसार आर्थिक रूप से पिछड़े और वंचित बच्चों को दाखिला देना प्राइवेट स्कूल स्कूलों के लिए अनिवार्य है लेकिन पैसे कमाने की हवस में ये गरीब बच्चों को दाखिला नहीं देते.

अबकी बार सरकार ने प्राइवेट स्कूलों से सीधा बोल दिया कि इस बार आपको EWS कोटे के तहत खाली सीटों का ब्यौरा देना ही होगा और गरीब बच्चों को दाखिला देना होगा, इसके लिए बच्चों से आवेदन मांगे गए, हजारों बच्चों ने परीक्षा दी लेकिन अधिकतर प्राइवेट स्कूलों ने EWS सीटों का ब्यौरा नहीं दिया जिसकी वजह से गरीब बच्चों का दाखिला नहीं हो पा रहा है.

गरीब बच्चों के माँ-बाप अपने बच्चों के भविष्य को लेकर परेशान हैं, गरीबों की परेशानी देखते हुए हरियाणा सरकार का मौलिक शिक्षा निदेशालय सख्त हो गया है, प्राइवेट स्कूलों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा गया है कि एक हप्ते में खाली सीटों का ब्यौरा दें वरना सख्त कार्यवाही की गयी है, अगर खाली सीटों का ब्यौरा नहीं दिया गया तो सरकार यह समझेगी कि स्कूल नियमानुसार जरूरतमंद छात्रों को दाखिला देना नहीं चाहते हैं.

इस सम्बन्ध में मौलिक शिक्षा निदेशालय ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों एवं मौलिक शिक्षा अधिकारियों को दिशा निर्देश दिया हैं और सरकारी आदेश का उल्लंघन करने वाले प्राइवेट स्कूलों की लिस्ट बनाने के आदेश दिए हैं.

होली पर पड़ोसी से हुई थी बहस, हरिओम को मारी गयी सिर में दो गोलियां, पड़ोसी हुए फरार, FIR दर्ज

faridabad-sector-56-hariom-murder-case-accuse-farar-fir-187-lodged

फरीदाबाद: फरीदाबाद: बल्लभगढ़ क्षेत्र के Sector 56A, राजीव कॉलोनी, समय पुर रोड पर कल हरिओम 22 अप्रैल की देर शाम हरिओम नाम के एक युवक को गोली मार दी गई. इस मामले में सेक्टर-58 थाने में IPC की धारा 302, 120B और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत FIR नंबर 187 दर्ज कर ली गयी है.


इस मामले में पड़ोसियों पर हत्या का शक जताया गया है, पीड़ित पक्ष का कहना है कि हरिओम की होली के त्यौहार पर उसके पड़ोसियों से बहस हुई थी जिसके बाद उसे जान से मारने की धमकी दी गयी थी, इसीलिए हरिओम की हत्या की गयी है.

FIR में मृतक हरिओम के पड़ोसियों - सुभाष, संदीप और दोनों की माँ राजवती को आरोपी बनाया गया है, तीनों आरोपी घर छोड़कर फरार हैं.

जानकारी के अनुसार  24 वर्षीय हरि ओम  की आगामी 28 अप्रैल को शादी होने वाली थी, 22 अप्रैल को वह गुर्जर चौक पर अपनी मिठाई की दुकान पर बैठा था, उसी वक्त दो बदमाश आए, एक मोटरसाइकिल स्टार्ट करके खड़ा रहा और दूसरे ने दूकान में घुसकर हरिओम को गोली मार दी, इसके बाद हमलावर वहां से फरार हो गए.

हरिओम को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया. पीड़ित पक्ष आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही चाहता है, इसके लिए कल प्रदर्शन भी किया गया था. आरोपियों को पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच की टीमें लगी हुई हैं, जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार करने का भरोसा दिया गया है.

कृष्णपाल गुर्जर के पक्ष में लहर, अवतार भड़ाना की हो सकती है करारी हार, देखिये ऑनलाइन पोल रिजल्ट

krishanpal-gurjar-win-against-avtar-singh-bhadana-in-online-poll-news

फरीदाबाद: निर्दलीय भी अपनी जीत को तय मानकर चुनाव लड़ते हैं और वह उम्मीदवार भी अपनी जीत को तय मानकर चुनाव लड़ता है जिसे उसके कसबे से बाहर कोई नहीं जानता, चुनाव में हर कोई अपनी जीत को तय मानकर चलते हैं, कांग्रेस प्रत्याशी अवतार सिंह भड़ाना भी अपनी जीत को तय मानकर चल रहे हैं, उनका तो यह भी कहना है कि फरीदाबाद में उनकी लहर बह रही है.

इसी लहर को देखने के लिए हमने अपने फरीदाबाद लेटेस्ट न्यूज़ फेसबुक पेज पर एक ऑनलाइन पोल किया जिसमें पाठकों से पूछा - बता दो कौन कितने पानी में है, फरीदाबाद में किसकी होगी जीत, अवतार भड़ाना या कृष्णपाल गुर्जर.

इस सर्वे में 15700 लोगों ने भाग लिया जिनमें से सिर्फ 35 फ़ीसदी लोगों ने अवतार भड़ाना का समर्थन किया जबकि 65 फ़ीसदी लोगों ने कृष्णपाल गुर्जर का समर्थन किया.

अगर नतीजे पर गौर किया जाए तो फरीदाबाद में कृष्णपाल गुर्जर के पक्ष में लहर बह रही है लेकिन अवतार भडाना को पहले से अधिक समर्थन मिलता दिख रहा है, पिछली बार कृष्णपाल गुर्जर ने उनकी जमानत जब्त करवा दी थी लेकिन इस बार अवतार भडाना अपनी जमानत बचा सकते हैं. जमानत बचाने के लिए वैलिड वोटों का 16.66 फ़ीसदी (1/6) वोट पाना जरूरी होता है. देखिये सर्वे रिजल्ट - 

केजरीवाल की पिटाई पर कपिल मिश्रा ने दिखाया बनावटी दुःख, कुमार विश्वास ने भी ली चुटकी, पढ़ें

arvind-kejriwal-beaten-by-aap-mla-in-delhi-news-viral

नई दिल्ली: आज सुबह एक खबर आयी, आप विधायकों ने अरविन्द केजरीवाल के घर के अन्दर ही उनकी कुटाई कर दी, चार दिनों से केजरीवाल घर से बाहर नहीं निकले हैं, आज वह नवीन जयहिन्द के नामांकन में फरीदाबाद भी आने वाले थे लेकिन वह पिटाई से इतनी दुखी हैं कि घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं, कपिल मिश्रा ने यह खबर दी थी लेकिन पहले ऐसा लग रहा था कि यह सिर्फ अफवाह है, अब इसकी पुष्टि आप के ही पूर्व नेता कुमार विश्वास ने कर दी है.
दिल्ली के करावल नगर से विधायक कपिल मिश्रा ने सुबह ट्विटर पर लिखा - यह बड़ी खबर है अगर सच है तो. 

चर्चा है कि तीन दिन पहले कुछ AAP MLAs ने केजरीवाल से हाथापाई की, घटना केजरीवाल के घर में ही घटी, इसीलिए तीन दिन से केजरीवाल घर से नहीं निकले ना किसी उम्मीदवार के नॉमिनेशन में गए, क्या ये सच हैं कि AAP MLAs ने ही केजरीवाल को पीट दिया ? 

kapil-mishra-tweet

जैसे ही कपिल मिश्रा को केजरीवाल के पीटे जाने की पुख्ता सूचना मिली, उन्होंने फिर से ट्वीट किया - केजरीवाल जी की उन्हीं के विधायकों द्वारा पिटाई की खबरों से मैं दुःखी हूँ। मेरा मानना हैं राजनीति में हिंसा का कोई स्थान नहीं हैं। जो चोट जनता द्वारा उंगली से एक बटन दबाकर दी जा सकती हैं, उससे बड़ी चोट किसी विधायक के मुक्के या थप्पड़ द्वारा नहीं दी जा सकती।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अरविन्द केजरीवाल ने कांग्रेस को सबसे भ्रष्ट पार्टी बताकर आम आदमी पार्टी बनायी थी लेकिन आज उसी पार्टी से गठबंधन के लिए गिडगिडा रहे हैं. इससे ना सिर्फ आप की छवि खराब हुई है बल्कि अरविन्द केजरीवाल की भी असलियत दुनिया को पता चल गयी है, हो सकता है कि आप विधायकों ने इसी बात पर केजरीवाल को पीट दिया हो.