Followers

Showing posts with label Politics. Show all posts

एक साल में बढ़ा दिए 100 रुपये दाम तो पांच साल में तेल-रिफाइंड को कितना ऊपर ले जाएगा अदानी

adani-fortune-branch-refined-price-become-double-in-a-year
Fortune Brand Refind Price of Adani increase more than Rs 100 in a year. Adani become richer daily and food items being increase many times.

Faridabad News 12 June 2021: गौतम अदानी जिस बिजनेस में कूद जाते हैं वहां पर मुनाफ़ा ही मुनाफ़ा कमाते हैं, पहले वह पोर्ट और शिप इंडस्ट्री में थे और जमकर मुनाफ़ा कमाया, उसके बाद पॉवर एंड गैस इंडस्ट्री में कूदे तो वहां भी जमकर मुनाफ़ा कमाया और आज हर तरफ अदानी के ही पेट्रोल पंप और फिलिंग स्टेशन दिखाई देते हैं.

अब अदानी कृषि इंडस्ट्री में पूरी तरह से कूद गए हैं और हर तरफ उनके ही गोदाम बन रहे हैं, जमाखोरी करके खाद्य पदार्थों के दामों में खूब वृद्धि की जा रही है.

अदानी कंपनी का Fortune Brand Refind Price पिछले साल 90 रुपये के आसपास था लेकिन सिर्फ एक साल में वह इसे 190 रुपये में बेच रहे हैं, एक ही साल में 100 रुपये की वृद्धि की गयी है, इसी तरह से सरसों की जमाखोरी करके सरसों का तेल करीब 210 रुपये प्रति किलो में  बेचा जा रहा है.

अदानी से अब लोग डरने लगे हैं, ये जिन बिजनेस में कूदते हैं उन चीजों के दामों में बेतहाशा वृद्धि हो जाती है, सिर्फ के साल में तेल और रिफाइंड के दामों में 100 रुपये से भी अधिक वृद्धि हो गयी तो अगले चार पांच वर्षों में Fortune Brand Refind Price और तेल के दाम कितना ऊपर तक जाएंगे यह सोचकर गरीब आदमी के पैरों तले जमीन खिसक रही है.

ऐसा लगता है कि अदानी के सिर पर किसी ऐसे आदमी का हाथ है जो उसे मनमर्जी मुनाफ़ा खोरी और जमाखोरी करने की छूट दे रहा है, यही वजह है कि अदानी जमकर जमाखोरी कर रहे हैं और मंहगे दामों में खाद्य पदार्थों को बेच रहे हैं, अगर सब कुछ ठीक रहा तो भारत में दूसरे सबसे अमीर आदमी बन चुके अदानी जल्द ही मुकेश अम्बानी को पीछ छोड़कर भारत का सबसे अमीर आदमी बन जाएंगे।

महिलाओं को स्वरोजगार करने के लिए सरकार दे रही सस्ती ऋण रोजना का लाभ, डीसी यशपाल ने दी जानकारी

faridabad-dc-yashpal-yadav-aware-loan-for-self-employed-women
Faridabad DC Yashpal Yadav aware women about loan scheme for self-employed women by Haryana Government.

Faridabad News 10 June 2021: Faridabad DC Yashpal Yadav ने बताया कि  महिला विकास निगम द्वारा व्यक्तिगत ऋण स्कीम चलाई जा रही है। उन्होंने व्यक्तिगत ऋण स्कीम की जानकारी देते हुए  बताया कि वर्ष 2021-22 के लिए 49 केसों (24 सामान्य श्रेणी में व 20 अनुसूचित जाति) का लक्ष्य रखा गया है। 

Faridabad DC Yashpal Yadav ने बताया कि जिन महिलाओं की वार्षिक आय 1.50 लाख रुपए से अधिक ना हो तथा उसके परिवार का कोई सदस्य आयकर दाता ना हो इस ऋण योजना के अंतर्गत एक लाख रुपए तक आवेदन कर सकती हैं। इस पर निगम द्वारा 25 प्रतिशत (अधिकतम 10,000 रुपये  सामान्य श्रेणी व 25000 रुपये अनुसूचित जाति) की राशि दी जाती है। 

Faridabad DC Yashpal Yadav बताया कि 10 प्रतिशत लाभार्थियों का हिस्सा स्वंय वहन करना पड़ता है। शेष राशि की व्यवस्था राष्ट्रीयकृत/ सरकारी बैंकों से कराई जाती है। उन्होंने बताया कि विभिन्न व्यवसाय के लिए सिलाई ,कढ़ाई रेडीमेड गारमेंट ,कपड़े की दुकान स्टेशनरी, बुटीक , जरनल स्टोर इत्यादि ऋण शहरी/ ग्रामीण पात्रों के लिये उपलब्ध है। 

अधिक जानकारी हेतु निगम के जिला प्रबंधक कार्यालय हरियाणा महिला विकास निगम , कमरा नम्बर - 609, छटी मंजिल ,जिला सचिवालय सेक्टर- 12  फरीदाबाद व  फोन नंबर- 70154 87239 पर संपर्क किया जा सकता है।

Advocate LN Parashar को समय पर सूचना ना देना MCF को पड़ा मंहगा, 20 हजार रुपये का लगा जुर्माना

advocate-ln-parashar-faridabad-latest-news-8-june-2021
Advocate LN Parashar says SPIO put fine on Faridabad Nagar Nigam (MCF) for not giving Information on fixed time.

Faridabad News, 8 June: सूचना के अधिकार अधिनियम 2005 के तहत जानकारी न देने पर फरीदाबाद नगर निगम पर राज्य सूचना आयोग ने 20 हज़ार का जुर्माना लगाया। यह जानकारी बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष Advocate LN Parashar ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी। 

Advocate LN Parashar ने बताया की 16 अगस्त 2018 को भूमि की चकबंदी के  संबंध मे नगर निगम से जानकारी मांगी थी। लेकिन नगर निगम उन्हें जानकारी देने की बजाए लगातार टरकाता रहा। जिससे परेशान होकर उन्होंने इसकी अपील राज्य सूचना आयोग से की। जिस पर राज्य लोक सूचना अधिकारी ने कार्रवाई करते हुए नगर निगम पर 20 हजार का जुर्माना लगाया। 

Advocate LN Parashar ने बताया कि सरकारी विभाग में पारदर्शिता लाने के लिए सन् 2005 में सूचना का अधिकार आम जनता को दिया गया था। लेकिन आज भी सरकारी विभाग मे बैठे कुछ आधिकारिक सूचनाओं को जनता से छुपाना चाहते हैं। जिसके कारण आम आदमी तक सूचना नही पहुंचा पाती। इस सूचना के लिए उन्हें काफी लंबा संघर्ष करना पड़ा। फिर भी अधिकारियों ने उन्हें जानकारी नही दी। जिसके कारण उन्हें राज्य सूचना आयोग में अपील करनी पड़ी। आयोग के निर्देश पर भी जब निगम ने जानकारी नहीं दी तो आयोग ने सख्त कदम उठाते हुए फरीदाबाद नगर निगम पर 20 हजार का जुर्माना लगाया। ये जुर्माना अधिकारियों के वेतन से काटा जाएगा।

Advocate LN Parashar ने कहा कि नगर निगम के कारण फरीदाबाद शहर विकास में पिछड़ता जा  रहा है। तमाम बड़े घोटालों की ख़बरें नगर निगम से ही आतीं हैं और अरावली पर भूमाफियाओं ने जंगल नष्ट कर बड़े-बड़े महल नगर निगम की मेहरबानी से ही बना लिए। उन्होंने कहा नगर  निगम का जोर गरीबों पर ही चलता है। बड़े लोगों के गलत  कामों में निगम अधिकारियों की मिली भगत होती है। 

मंत्री Moolchand Sharma ने की बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा

haryana-transport-minister-moolchand-sharma-latest-news
Ballabhgarh MLA and Haryana Transport Minister Moolchand Sharma reviews development works in Ballabharh with MCF and Administrative Officers.

फरीदाबाद (बल्लभगढ़), 7 जून। हरियाणा के Transport Minister Moolchand Sharma ने सोमवार दो अलग अलग समीक्षा बैठक आयोजित कर  प्रशासनिक अधिकारियों दिशा निर्देश देकर जबाबदेही तय की।

Transport Minister Moolchand Sharma ने अधिकारियों को आदेश दिए की वे जल्द से जल्द मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा की गई घोषणाओं के अलावा अन्य अधूरे पड़े हुए विकास कार्यों को जल्दसे जल्द पूरा करें। जिसका ब्यौरा अगली समीक्षा मीटिंग में लिया जाएगा।

बता दे कि आज सोमवार को हरियाणा के Transport Minister Moolchand Sharma ने पहले बल्लभगढ़ की एसडीएम आईएएस अपराजिता ,तहसीलदार व बल्लबगढ़ के पटवारियों के साथ बल्लबगढ़ के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाऊस में बैठक की। जिसमें शहर के अंदर विभिन्न प्रकार के चल रहे कार्यों पर निगरानी रखने के साथ साथ सरकारी जमीनों  पर अवैध कब्जों को लेकर समीक्षा की गई ।

इस बैठक में नगर निगम के सीनियर आर्केटेक्ट भूपेंद्र ढिल्लों, नायब तहसीलदार कन्हैया लाल सहित पटवारी भी मौजूद रहे।

 इसके अलावा नगर निगम मुख्यालय में नगर निगम कमिश्नर गरिमा मित्तल व संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर बल्लभगढ़ शहर में मुख्यमंत्री की घोषणाओं के तहत चल रहे विकास कार्यों को लेकर समीक्षा की गई। वहीं अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए हैं, कि वे जल्द ही इन चले हुए विकास कार्यों को पूरा किया जाए । इन विकास कार्यो में मुख्य रूप से बल्लबगढ़ के आडोटोरियम, सेक्टर- 22 के इनडोर स्टेडियम और हाडवेयर चौक से सेक्टर 22 शमशान घाट रोड के अलावा नालों की सफाई ,मोहना रोड के साथ नाले के निर्माण का कार्य, सेक्टर -22, मुजेसर एरिया में पीने के पानी की सप्लाई,बनिया बाड़ा की गलियों का निर्माण कार्य मुख्य विषय रहे।

Transport Minister Moolchand Sharma ने कहा कि जब यह कार्य पूरे होंगे, उसके बाद ही अन्य योजनाओं पर विचार किया जाएगा।

Transport Minister Moolchand Sharma ने कहा कि बल्लभगढ़ का विकास कराना ही उनकी पहली प्राथमिकता है। जिसके लिए किसी भी प्रकार की प्रशासनिक ढील बर्दास्त नही की जाएगी।

Transport Minister Moolchand Sharma ने इस मौके पर अधिकारियों को आदेश दिए हैं कि वे सरकारी जमीनों पर कब्जे न होने दे।

इस मीटिंग में निगम के मुख्य अभियंता रवि शर्मा,चीफ इंजीनियर रामजीलाल के अलावा अधीक्षण अभियंता मदनलाल और एसडीओ  मौजूद रहे।

पंकज सिंगला ने 'साई मित्र मंडल चैरिटेबल ट्रस्ट' के साथ बांटे खाने के पैकेट, मॉस्क व सैनीटाइजर

bjym-pankaj-singla-plantation-food-packet-mask-sanitization
Bhartiya Janta Yuva Morcha Faridabad President Pankaj Singla distributed mask, food packet, sanitizer and participated in plantation with Sai Mitra Mandal Charitable Trust NGO.

Faridabad News 6 June: साई मित्र मंडल चैरिटेबल ट्रस्ट की तरफ से रविवार को साई मंदिर, गड्ढा कॉलोनी में कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को खाने के पैकेट वितरित किए गए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में Bhartiya Janta Yuva Morcha BJYM Faridabad President Pankaj Singla ने शिरकत की। 

Bhartiya Janta Yuva Morcha BJYM Faridabad President Pankaj Singla ने स्वयं अपने हाथों से लोगों को खाने के पैकेट, मॉस्क एवं सैनीटाइजर वितरित किए। पंकज सिंगला ने संस्था के प्रयासों की भूरि-भूरि प्रशंसा की और कहा कि साई मित्र मंडल चैरिटेबल ट्रस्ट समय-समय पर लोगों की मदद के लिए आगे आकर कार्य करती रहती है। आज के समय में हम सबको जरूरत है गरीब एवं जरूरतमंद लोगों की सहायता करने की। आज जो विपदा का समय पूरे देश पर आया हुआ है, उसमेंं इसका महत्व और भी बढ़ जाता है। 

Bhartiya Janta Yuva Morcha BJYM Faridabad President Pankaj Singla ने अनेक सामाजिक संस्थाओं एवं निजी स्तर पर निरंतर रूप से लॉकडाउन पीरियड में लोगों की मदद करते आ रहे हैं। इसी के तहत आज वो साई मित्र मंडल चैरिटेबल ट्रस्ट के कार्यक्रम में पहुंचे, जहां 300 से अधिक लोगों को खाने के पैकेट बांटे गए। इस मौके पर उन्होंने वृक्षारोपण कर लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक भी किया। 

इस मौके पर साई मित्र चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक नरेन्द्र जैन ने बताया कि संस्था द्वारा संचालित साई मंदिर में गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के लिए नि:शुल्क एलोपैथिक डिस्पेेंसरी चलाई जाती है। इसके अलावा हर महीने भंडारे का आयोजन किया जाता है और समय-समय पर कैम्प लगाकर मोतियाबिंद का नि:शुल्क ऑपरेशन कराया जाता है। कार्यक्रम में ट्रस्ट के संस्थापक नरेन्द्र जैन, जतिन गर्ग, अरुण गोपाल गुप्ता, संदीप डागर, ओमप्रकाश वधवा, डॉ. महेन्द्र अरोड़ा, विनय पाण्डे आदि मौजूद रहे।

Faridabad: पुलिस कमिश्नर OP Singh ने 'जंगल का दंगल' शुरू करके 'हरे भरे फरीदाबाद' की रखी नींव

faridabad-police-op-singh-jungle-ka-dangal-world-evironmen-day
Faridabad Police started Jungle Ka Dangal on World Encironment Day, Faridabad Police Commissioner OP Singh take part in plantation of more than 4000 plants.

Faridabad News 5 June 2021: पुलिस कमिश्नर OP Singh ने World Environment Day के मौके पर पुलिस लाइन सेक्टर 30 में पौधारोपण कर फरीदाबाद की जनता को पर्यावरण के प्रति संवेदनशील होने का संदेश दिया है।

इस मौके पर Faridabad Police Commissioner OP Singh ने कहा कि World Environment Day एक अभियान है, जो प्रत्येक वर्ष 5 जून को, विश्वभर में पर्यावरण के नकारात्मक प्रभावों को रोकने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। इस अभियान की शुरुआत करने का उद्देश्य वातावरण की स्थितियों पर ध्यान केन्द्रित करने और हमारे ग्रह पृथ्वी के सुरक्षित भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए पर्यावरण में सकारात्मक बदलाव का भाग बनने के लिए लोगों को प्रेरित करना है।

इस मौके पर Faridabad Police Commissioner OP Singh के अलावा पुलिस उपायुक्त मुख्यालय डॉ अर्पित जैन, पुलिस उपायुक्त एनआईटी डॉक्टर अंशु सिंगला, EcoSikh NGO के अधिकारी व अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

पुलिस कमिश्नर OP Singh ने इस दौरान नीम का पेड़ रोपण करते हुए कहा कि नीम का पेड़ बहुत ही लाभदायक होता है यह कई तरह की बीमारियों को नष्ट करने में काम आता है और इसको मेडिकल लाइन में भी काफी इस्तेमाल किया जाता है।

कार्यक्रम के दौरान मौजूद डीसीपी एनआईटी श्रीमती अंशु सिंगला ने पीपल का पेड़ रोपण करते हुए कहा कि पीपल का पेड़ ऑक्सीजन देने में बहुत ही लाभदायक है और इसकी छाया भी काफी गहरी होती है और इसकी उम्र भी काफी बड़ी होती है।

इस दौरान उन्होंने पर्यावरण को बचाने के मकसद से "दंगल का जंगल" नाम से एक कार्यक्रम भी शुरू किया है।

कार्यक्रम के तहत फरीदाबाद पुलिस आने वाले 1 साल में फरीदाबाद जिले के सभी थाना, चौकी, आवासीय परिसर, सभी कार्यालयों में 1 लाख पौधा रोपण करेगी।

Faridabad Police Commissioner OP Singh ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस पौधारोपण कार्य पंजाब की एक EcoSikh NGO के साथ मिलकर करेगी।

जंगल का दंगल कार्यक्रम के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि हमने 1 साल में एक लाख पौधारोपण करने का संकल्प लिया है अगर कोई भी फरीदाबाद पुलिस को चैलेंज करना चाहता है कि वह Faridabad Police से ज्यादा पौधारोपण कर सकता है तो यह उनके लिए खुली छूट है कि वह आगे आए और हम से ज्यादा पौधरोपण करके दिखाए, इसलिए हमने इस कार्यक्रम का नाम जंगल का दंगल रखा है।

उन्होंने कहा कि जब हम कोई भी पेड़ लगाते हैं तो पेड़ को शुरुआती 1 साल में देखरेख करने की ज्यादा जरूरत होती है उसके बाद वह अपने आप पर निर्भर हो जाता है। शुरुआती 1 साल के लिए जो देखभाल होगी उसके लिए हम वक्त निकालेंगे और उनको अपना कीमती वक्त देंगे। हम पेड़ को बड़ा करने में केवल अपना एक वर्ष देंगे लेकिन पेड़ हमें सैकड़ों बरस तक ऑक्सीजन, छाया, फल के रूप में कुछ ना कुछ देता रहेगा।

Faridabad Police Commissioner OP Singh ने कहा कि जो भी पर्यावरण से दूर गया वह बीमारी के करीब गया क्योंकि पर्यावरण ही हमें रोग मुक्त रखने में सक्षम है पर्यावरण ही जीवन है पर्यावरण नहीं होगा तो ऑक्सीजन नहीं होगा और ऑक्सीजन नहीं होगा तो जीवन नहीं होगा।

इस दौरान Faridabad Police Commissioner OP Singh ने पुलिस उपायुक्त एनआईटी श्रीमती अंशु सिंगला और EcoSikh NGO का पौधारोपण कार्यक्रम की पहल करने के लिए धन्यवाद दिया।

फरीदाबाद के पूर्व सैनिक जमा करवाएँ अपना परिवार पहचान पत्र

faridabad-ex-army-men-appealed-to-submit-parivar-pahchan-patra
Faridabad Ex Armymen advised to make and submit Parivar Pahchan Patra including thier dependents in Sector-16 Sainik and Ardhyasainik Kalyan Office, Office

फरीदाबाद 2 जून।  जिला फरीदाबाद के सभी पूर्व सैनिकों व उनके आश्रितों एवं युद्ध वीरांगनाओं को सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण कार्यालय, फरीदाबाद की ओर से अपील की जाती है कि वे अपने परिवार का पहचान पत्र शीघ्र अति शीघ्र बनवा कर उसकी प्रति सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण कार्यालय, सैक्टर-  16 फरीदाबाद में भिजवाने का कष्ट करें। 

यह जानकारी जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण अधिकारी विंग कमांडर नरेश शर्मा ने आज यहाँ दी। इसके साथ ही उन्होंने सभी पूर्व सैनिकों से अपील की है कि पूर्व सैनिक एवं उनके आश्रितों कोविड-19 मानकों जैसे मास्क पहनना, 2 गज की दूरी रखना,  ठीक से सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना का आव्हान किया। 

उन्होंने कोविड से बचने के लिए इस संकट की घड़ी में जिला प्रशासन को यथासंभव सहयोग देने तथा अपने इलाके के सभी निवासियों को भी इस बाबत जागरूक करने में अपनी भूमिका का निर्वाह करने बारे भी अपील की।

दुकानदारों से DC ने कहा कोरोना महामारी में नियमों का पालन करना जरूरी, वरना होगी कार्यवाही

faridabad-dc-warn-shopkeeper-to-follow-mahamari-alert-rules

फरीदाबाद, 1 जून। महामारी अलर्ट के तहत नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मंगलवार को जिला प्रशासन ने सघन चेकिंग अभियान चलाया । इस अभियान के तहत 3:30 बजे के पश्चात बाजारों में दुकानें खोलने वाले दुकानदारों को चेतावनी देकर उनकी दुकानें बंद करवाई गई और कहा कि सरकार द्वारा कोविड-19 के नियमा अनुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी । मंगलवार को सबसे ज्यादा कार्रवाई ओल्ड फरीदाबाद क्षेत्र में की गई।  

जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण चेयरमैन एवं डीसी यशपाल ने कहा कि महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा को प्रभावी रूप से क्रियान्वित करने के लिए प्रशासनिक स्तर पर प्रशासन सजग एवं सतर्क है। पुलिस विभाग के माध्यम से आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी।

 आज मंगलवार को दोपहर बाद 3:00 बजे के बाद इंसीडेंट कमाण्डर इन्द्रजीत कुल्हड़िया ने ओल्ड फरीदाबाद क्षेत्र में दुकानों को बन्द करवाकर सख्त चेतावनी भी दी।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि वह दुकान  जो बिल्कुल अलग अलग है वह दिन भर खुले रहेंगे और रात्रि कर्फ्यू के दौरान बंद रहेंगी । उन्होंने कहा कि नेहरू ग्राउंड वह लोहा मंडी भी इसी तरह खुली रहेंगी । इसके अतिरिक्त सभी दुकाने सुबह 9:00 बजे से बाद दोपहर 3:00 बजे तक निम्नलिखित शब्दों के साथ खुली रहेंगी। 

इन शर्तों में उन्होंने बताया कि जिन बाजारों में सड़क के दोनों तरफ दुकान में हैं उनमें सोमवार बुधवार एवं शुक्रवार को दाएं तरफ की दुकानें तथा मंगलवार गुरुवार एवं शनिवार को बाएं तरफ की दुकानें खुली रहेंगी। दाएं और बाएं का निर्धारण उत्तर एवं पूर्व दिशा में देखते हुए करेंगे । उन्होंने कहा कि ऐसा करना इसलिए जरूरी है क्योंकि सभी दुकानों को नंबर नहीं दिए गए हैं अतः सम विषम का निर्धारण करना मुश्किल होगा । उन्होंने कहा कि सभी दुकानों पर नंबर लगाने में भी काफी वक्त लग जाएगा । 

उन्होंने कहा कि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण एवं अन्य बाजार जिसमें दुकानों को नंबर दिए गए हैं उनमें सोमवार बुधवार एवं शुक्रवार को चमन नंबर वाली दुकानें तथा मंगलवार बृहस्पति एवं शनिवार को विषम नंबर वाली दुकानें खुली रहेंगी। उन्होंने कहा कि शॉपिंग मॉल को सुबह 10:00 बजे से को 6:00 बजे शाम तक खोलने की इजाजत होगी। उन्होंने कहा कि माल में आगमन और निकासी में सामाजिक दूरी का ख्याल रखा जाएगा और प्रति व्यक्ति 25 वर्ग फीट स्थान की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि उपरोक्त पाबंदियां अस्पताल एवं दवाइयों की दुकानों तथा सरकारी कार्यालय पर लागू नहीं होंगी और वह 24 घंटे खुले रह सकते हैं। उन्होंने कहा कि होटल खोलने की इजाजत होगी लेकिन उसमें स्थित समारोह स्थल रेस्त्रां एवं बार बंद रहेंगे।

 उन्होंने कोरोना संक्रमण फैलाव को रोकने के उद्देश्य से जिला वासियों को अपने घरों में रहने को कहा है। किसी भी नागरिक को उक्त महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा नियमों के तहत उक्त निर्धारित अवधि में नियमों की अवहेलना नहीं करने दी जाएगी।

साथ ही व्यापारियो बन्धुओं को भी सरकार द्वारा जारी हिदायतो की पालना करके जिम्मेदार नागरिक बनकर कोराना बचाव के भगीदार बने।

कोरोना महामारी में अनाथ हुए बच्चों के लिए शुरू की गयी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना : यशपाल

haryana-sarkar-cm-balseva-yojna-started-news

फरीदाबाद, 1 जून। कोरोना महामारी के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को सुरक्षित भविष्य देने के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत पालन-पोषण और पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

उपायुक्त यशपाल ने यह जानकारी देते हुए बताया है कि इस योजना से कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों के हितों की रक्षा होगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का उद्देश्य 18 वर्ष से कम उम्र का बालक, जो कोविड महामारी के कारण अपने माता या पिता अथवा माता-पिता दोनों या कानूनी अभिभावकों को खो चुका है, उसकी सहायता करना है। 

इस घोषणा के अनुसार माता-पिता की मृत्यु के बाद बच्चों की देखभाल कर रहे परिवार के अन्य सदस्यो को उनके पालन पोषण के लिए 18 वर्ष तक 2500 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे। इतना ही नहीं 18 वर्ष तक की आयु होने तक, जब तक बच्चा पढ़ाई करेगा, तब तक 12 हजार रुपए प्रति वर्ष अन्य खर्चों के लिए भी दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि संस्थागत देखभाल के लिए भी बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान की  जाएगी। जिन बच्चों की देखभाल करने के लिए परिवार का कोई सदस्य नहीं है, उनकी परवरिश बाल संरक्षण संस्थान करेंगे। ऐसे बच्चों के लिए बाल संरक्षण संस्थान को आर्थिक सहायता के रूप में 1500 रुपए प्रति माह दिए जाएंगे। यह राशि आवर्ती जमा के रूप में बैंक खाते में डाल दी जाएगी और 21 वर्ष की आयु होने पर बच्चे को मैच्योरिटी राशि दे दी जाएगी। अन्य पूरा खर्चा बाल देखभाल संस्थान द्वारा वहन किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा किशोरियों के लिए संस्थागत देखभाल और शिक्षा के लिए भी आवश्यक कदम उठाए है। जिन लड़कियों ने किशोरावस्था में अपने माता-पिता को खोया है, उन्हें कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में आवासीय शिक्षा मुफ्त दी जाएगी। मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के तहत 51 हजार रुपए भी इन बालिकाओं के बैंक खाते में डाल दिए जाएंगे और विवाह के समय उन्हें ब्याज सहित पूरी राशि दी जाएगी। इसके साथ-साथ सरकार द्वारा कक्षा 8वीं से 12वीं व व्यवसायिक पाठ्यक्रम में पढऩे वाले बच्चों को शिक्षा में सहायता के लिए एक-एक टैबलेट प्रदान किया जाएगा।  

सरकारी अस्पतालों, CHC, PHC, UHC में की जा रही कोरोना टेस्टिंग, लक्षण दिखने पर जरूर कराएं: DC

faridabad-corona-testing-in-sarkari-asptal-chc-phc-uhc

फरीदाबाद, 31 मई। उपायुक्त यशपाल के दिशानिर्देशों पर सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार जिला में आरटी पीसीआर कोरोना संक्रमण टेस्टिंग और रैपिड एंटीजन कोरोना वायरस टेस्टिंग का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है।

 इसके लिए जिला के स्थानीय नागरिक अस्पताल बीके, नागरिक अस्पताल बल्लभगढ़ सहित जिला के सभी पीएचसी, सीएचसी और यूएचसी स्वास्थ्य केंद्रों सहित अन्य स्वास्थ्य केंद्रों तथा सार्वजनिक स्थानों पर कैम्पों के जरिये लोगों की वैश्विक कोविड-19 वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण की टेस्टिंग की जा रही है।

वैश्विक महामारी कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए जिला प्रशासन और चिकित्सा विभाग आपस में तालमेल बनाकर बेहतर कार्य कर रहा है।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार जिला के प्रत्येक नागरिक का कोविड-19 संक्रमण का टेस्ट किया जाएगा।जो लोग पॉजिटिव आ रहे हैं। उनका इलाज जरूरत के अनुसार होम आइसोलेशन, कोविड-19 केयर सैन्टर में चिकित्सकों की सलाह पर किया जा रहा है। इसके अलावा सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार शहरों व ग्रामीण क्षेत्रों में गली गली और मौहल्लों में एनाऊंसमैंट के जरिये आमजन को कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

 उपायुक्त यशपाल ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि वे अपने मुंह पर मास्क अवश्य लगाएं। एक दूसरे से 2 गज की दूरी का सोशल डिस्टेंस रखें और अपने हाथों को साबुन से या बार-बार सैनिटाइजर करते रहें। ताकि कोरोना के संक्रमण से बचा जा सके।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ रणदीप सिहं पुनिया ने बताया कि स्थानीय नागरिक अस्पताल बीके में प्रतिदिन 500 लोगों की आरटी पीसीआर और 1500 से 2000 लोगों के प्रति दिन रैपिड एंटीजन  कोरोना वायरस टेस्टिंग की जा रही हैं। इसी प्रकार बल्लभगढ़ के नागरिक अस्पताल में भी प्रतिदिन ढाई सौ से 300 लोगों के कोविड-19 किए संक्रमण के टेस्ट किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि रैपिड एंटीजन टेस्टिंग का रिजल्ट तुरंत दे दिया जाता है। जबकि आरटीपीसीआर के टेस्टिंग सैम्पलिंग लैब के माध्यम से बाद में आती है। उन्होंने बताया कि आरटीपीसीआर  के सैंपल ईएसआई और जिला मौलिक कुला लैब, टीएचएसटीआई लैब भेजे जाते हैं और वहीं से सेंपलिंग की टेस्टिंग आती है। उन्होंने बताया कि  जिला में रैपिड एंटीजन  और आरटी पीसीआर  के रविवार तक 839916 टेस्ट किए जा चुके है। प्रकार ग्रामीण क्षेत्र में आज सोमवार को गांव लाडौली, बहलपूर, पखेल,नेकपुर, खण्डावली, लालपुर,याकुबपूर,ओल्ड सोतई, डुग्गरपुर,लालपुर, भुआपुर,प्रलादपूर, जुन्हैड़ा, बुखार पुर,भनकपूर, सिकरौना,बहादुर पुर,कबुलपुर व रायपुर लोगों के कोविड-19 के संक्रमण की आरटीपीसीआर टेस्टिंग की गई।

मेवाती मेडिकल कॉलेज में खराब वेंटीलेटर की वजह से माँ को खोने वाले युवक ने की कार्यवाही की मांग

nuh-mewati-medical-college-news-ventilator-patient-death

हथीन: एक युवक हेमंत कुमार पुत्र श्री बिहारी लाल, निवासी वार्ड-2, मोहल्ला-बासजटवाड़ा, हथीन, जिला पलवल,हरियाणा मोबाइल नम्बर-9896911736  ने अपनी पीड़ा सुनायी है और सरकार ने कार्यवाही की मांग की है, मेवाती मेडिकल कॉलेज में एक वेंटीलेटर पर उसकी माँ की मौत हो गयी, इससे पहले भी उस वेंटीलेटर पर कई मरीजों की मौत हो चुकी है इसलिए युवक ने वेंटिलेटर को ठीक करने की मांग की है.

युवक ने बताया मेरी माता श्रीमती माया देवी पत्नी बिहारी लाल,आयु-59 साल, निवासी वार्ड नंबर 2, मोहल्ला जटवाड़ा, हथीन जिला पलवल को पोस्ट कोविड सांस की समस्या के चलते दिनांक 22 मई को दोपहर बाद नूंह के नलहड़ स्थित शहीद हसन खां मेवाती मेडिकल कॉलेज के एमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया था। शाम को माता जी को आईसीयू-1 (प्रथम तल) के बेड नंबर 13 पर शिफ्ट किया गया। रात करीब 11:15 बजे के लगभग तक आईसीयू वन में मैं (हेमंत कुमार) अस्पताल प्रशासन के निर्देशानुसार पीपीई किट पहनकर माँ की देखरेख के लिए मौजूद रहा। तत्पश्चात मेरा भाई दिनेश कुमार पीपीई किट पहनकर माँ की देखरेख में आईसीयू में गया। 22-23 मई की देर रात करीब 12:00 बजे मेरा भाई ग्लब्स लेने के लिए वार्ड के अंदर ही बने नर्सिंग स्टेशन की तरफ गया। जब लगभग दो मिनट बाद माँ के पास गया तो पाया कि माँ के शरीर में कोई क्रिया प्रतिक्रिया (हलचल) नहीं हो रही थी। दिनेश ने तुरंत नर्सिंग स्टाफ को पुकारा और वेंटिलेटर/बायपेप अर्थात साँस देने वाली मशीन की तरफ देखा तो वह बंद पड़ी हुई थी। उन्होंने सीपीआर इत्यादि किया किंतु हमारी माता को नहीं बचाया जा सका। 

यह वेंटिलेटर/बायपेप अर्थात साँस देने वाली मशीन तब भी बन्द हुई थी जब मेरे भाई दिनेश की उपस्थिति में माता जी(मम्मी) को आईसीयू में शिफ्ट किया गया था। भाई दिनेश ने तब भी इस विषय पर डॉक्टरों से कहा था कि इस मशीन में खराबी लग रही है, और भी बेड खाली पड़े हुए हैं कृपया माताजी को सही मशीन वाले बेड पर शिफ्ट कर देवें, खराब मशीन वाले बेड पर ना रखें लेकिन, डॉक्टरों ने उसे यह कर चुप करा दिया और डांटते हुए कहा कि तू डॉक्टर है या हम। कुछ देर बाद में माता जी बड़ी मुश्किल से नार्मल हो पाई थी।

श्रीमान जी माँ के दोनों हाथ भी नर्सिंग स्टाफ ने बांध हुए थे।हमने जब इसके बारे में नर्सिंग स्टाफ से कहा तो बोले कि ये हमारा अपना ही तरीका है।

श्रीमान जी माँ को मशीन के साथ ऑक्सीजन देने के लिए एयरटाइट मास्क लगाया गया था, रात को अचानक मशीन बंद होने से ऑक्सीजन आपूर्ति बंद हो गई, एयरटाइट मास्क में से बाहर से नॉर्मल सांस भी मेरी माँ नहीं ले पाई, चिल्लाने की आवाज भी बाहर नहीं आ पाई, दोनों हाथ बंधे होने के कारण मास्क भी नहीं हटा पाई जिसके चलते मेरी माँ का दम घुट गया, अस्पताल प्रशासन व अस्पताल के कारिंदों की जानबूझकर की गयी इस घोर लापरवाही के चलते अंततः मेरी माँ की मृत्यु हो गयी। 

जब अंदर से दिनेश ने हमें फोन कर घटना की सूचना दी तो हम दौड़कर अंदर पहुंचे तो पाया कि नर्सिंग स्टाफ सीपीआर कर रहा था, तथा अमुक मशीन बंद पड़ी थी।

फिर हमें बाहर निकाल दिया गया तो हम दुखी होकर रोने लगे तो अन्य मरीजों के तीमारदार हमारे पास आए, व एक तीमारदार ने पूछा कि ये किस बेड़ की घटना है तो हमने बताया कि तेरह नंबर बेड की है तो अमुक तीमारदार ने बोला कि सप्ताह भर में ही इसी बेड पर यह आठवीं-दसवीं मौत है, सबसे ज्यादा मौतें इसी बेड पर हुई हैं, क्योंकि इस पर जो ऑक्सीजन देने वाली मशीन है वह कभी भी ठप्प हो जाती होगी तथा अस्पताल प्रशासन व इंचार्ज अस्पताल को यह भली भांति पता है कि इस बेड पर किसी भी मरीज को रखना उसकी जान जोखिम में डालना है। 

नर्सिंग स्टाफ, डॉक्टर द्वारा भाई दिनेश कुमार के सामने तेरह नम्बर बेड पर माताजी को शिफ्ट करते समय भी अमुक ऑक्सीजन/वेंटिलेटर  मशीन में खराबी आ चुकी थी, और उन्हें पता था कि इस बेड पर ऑक्सीजन मशीन कभी भी बंद हो सकती है, मेरे भाई दिनेश ने खाली पड़े अन्य बेड पर शिफ्ट करने के लिए भी गुहार लगाई थी, फिर भी मेरी माता जी को फिर भी जोखिम भरी स्थिति में हाथ बांध कर अमानवीय तरीके से  रखा गया। रात के समय जब ऑक्सीजन मशीन बन्द होने से ऑक्सीजन की आपूर्ति ठप्प हुई तो उस समय अस्पताल का कोई भी कर्मचारी या डॉक्टर ने ध्यान नहीं दिया था। अस्पताल के कारिन्दों व अस्पताल इंचार्ज और डॉक्टरों की जानबूझकर की गई गलती के कारण मेरी माँ को मृत्यु हो गई। जो अमानवीय कृत्य द्वारा मानवीय हत्या है। 

श्रीमान जी आप से न्याय की अपेक्षा करता हूं और आशा करता हु की इस मानवीय हत्या को करने वाले अस्पताल प्रशासन व नर्सिंग स्टाफ व सभी दोषी लोगों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाए व उच्च स्तरीय जाँच कराई जाए और हमें इंसाफ दिलाया जाए।

दोबारा से अनाथ हुए मानसिक व शारीरिक रूप से दिव्यांग विशाल को हरियाणा सरकार ने लिया गोद

haryana-cm-meet-vishal-sarkar-taken-god-in-gurugram

गुरुग्राम/फरीदाबाद, 31 मई। फरीदाबाद का 16 वर्षीय मानसिक व शारीरिक रूप से दिव्यांग विशाल, जिसे गोद लेने वाले माता-पिता कोविड के कारण नहीं रहे और वह मानसिक रूप से दिव्यांग होने के साथ-साथ दोबारा से अनाथ हो गया, उसे आज हरियाणा सरकार ने गोद ले लिया । हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल आज चंडीगढ़ से दिल्ली जाते समय बीच में ही अचानक गुरुग्राम आए और दीप आश्रम पहुंचे, जहां पर उन्होंने विशाल को देखा और कहा कि उसके पालन पोषण और देखभाल का खर्च हरियाणा सरकार वहन करेगी। मुख्यमंत्री इस आश्रम में विशेष शिक्षा प्राप्त कर रहे अन्य मानसिक रूप से दिव्यांग विद्यार्थियों से भी मिले।

विशाल को देखने तथा दीपाश्रम में रह रहे अन्य दिव्यांग विद्यार्थियों से मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए कल ही हरियाणा सरकार ने 'मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना' की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भी पीएम केयर्स फंड के माध्यम से ऐसे बच्चों का पालन पोषण आदि 23 साल तक की उम्र तक करने के लिए योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी का सेवा दिवस भी है, इस नाते से आज उन्हें अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से विशाल के बारे में पता चला कि वह बचपन से अनाथ था, जिस माता-पिता ने उसे गोद लिया था, वे भी दुर्भाग्यवश नहीं बच पाए। कोविड-19 के कारण पहले पिता का देहांत हुआ और उसके बाद माता भी चली गई। वह बालक विशाल फिर से अनाथ  हो गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे बच्चों की सहायता के लिए हरियाणा सरकार ने मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना बनाई है ताकि इन बच्चों का जीवन आगे भी ठीक से चले, इनका पालन पोषण सही ढंग से हो। उन्होंने कहा कि यह बालक विशाल मानसिक रूप से दिव्यांग और दृष्टिहीन भी है, वह बोल भी नहीं सकता। यहां दीपाश्रम नामक यह संस्था  ऐसे दिव्यांग बच्चों की सेवा कर रही है जो कि बहुत ही सराहनीय काम है। उन्होंने इस संस्था को शुभकामनाएं भी दी और कहा कि ऐसी संस्थाओं और आश्रम की भी हरियाणा सरकार निश्चित रूप से सहायता करेगी ताकि ऐसे बच्चों के पालन पोषण में कोई कठिनाई ना आए।

 फरीदाबाद के जयपाल और जगवंती के कोई औलाद नहीं थी, उन्होंने बचपन में ही विशाल को गोद लिया था। जयपाल की गत 14 मई को कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई और उसके बाद मानसिक रूप से तनावग्रस्त उसकी पत्नी जगवंती भी 21 मई को चली गई। विशाल फिर अकेला रह गया, वह बोल भी नहीं सकता। उसे गुरुग्राम की दीपाश्रम नामक संस्था बाल कल्याण परिषद से ऑनलाइन मंजूरी लेकर फरीदाबाद से अपने यहां ले आई थी। उसकी हालत का पता लगते ही मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल रविवार को उसे देखने पहुंचे और सरकार की ओर से उसे गोद लेने का निर्णय लिया।

इस मौके पर दीप आश्रम के इंचार्ज फादर शाजी , मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य, पुलिस आयुक्त केके राव, उपायुक्त डॉ यश गर्ग, नगर निगम आयुक्त विनय प्रताप सिंह, डीसीपी दीपक, जिला बाल कल्याण अधिकारी वीरेंद्र यादव भी उपस्थित थे।

प्राइवेट टीवी चैनलों को सरकार का निर्देश, इन चार हेल्पलाइन नंबरों को जनता तक पहुंचाएं

government-directed-private-tv-channel-4-helpline-number
 

फरीदाबाद, 30 मई: केंद्र सरकार ने प्राइवेट टीवी चैनलों को निर्देश दिया है कि चार हेल्पलाइन नंबरों के बारे में जनता को अधिक से अधिक जागरूक करें। ये नंबर स्टिकर के रूप में कुछ अंतराल पर चलाए जाने चाहिए, खासकर प्राइम टाइम में.

1075: National Helpline no. of Health & Family Welfare Ministry

1098: Child Helpline no. of Women & Child Development  Ministry

14567: Senior Citizens Helpline of Ministry of Social Justice & Empowerment (Delhi, Karnataka, MP, Rajasthan, TN, Telangana, UP & Uttarakhand)

08046110007: Helpline number of National Institute of Mental Health and Neurosciences (NIMHANS) for psychological support

भाजपा जनता युवा मोर्चा फरीदाबाद के अध्यक्ष पंकज सिंगला ने किया रक्तदान

pankaj-singla-blood-donation-faridabad-bjym-chief

फरीदाबाद, 29 मई। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा है कि संसार में रक्तदान करना सबसे बड़ा पुण्य का कार्य है और कोरोना महामारी के इस दौर में रक्त की आवश्यकता बढ़ गई है, ऐसे में हम सभी का दायित्व बनता है कि रक्तदान शिविरों में बढ़-चढक़र हिस्सा लेकर अधिक से अधिक रक्तदान करें ताकि आपातकाल स्थिति में लोगों की जान बचाई जा सके। श्री गुर्जर शनिवार को ओल्ड फरीदाबाद व गाजीपुर रोड़ स्थित केडी पब्लिक स्कूल के परिसर मेंं युवा भाजपा मोर्चा द्वारा आयोजित रक्तदान शिविरों का उद्घाटन करने के उपरांत उपस्थितजनों को संबोधित कर रहे थे। 

इस अवसर पर मुख्य रूप से फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता, विधायक श्रीमती सीमा त्रिखा, भाजपा नेत्री रेनू भाटिया मौजूद रहे। वहीं शिविर की अध्यक्षता गोपाल शर्मा द्वारा की गई तथा शिविर का संयोजन भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष पंकज सिंगला, जिला महामंत्री गोल्डी अरोड़ा, मंडल अध्यक्ष मनीष बत्रा ने किया। 

केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर युवा भाजपा मोर्चा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि समाजसेवा के कार्यो में युवाओं की बढ़ती भागेदारी देश व प्रदेश के लिए अच्छा संकेत है क्योंकि आज के युवा कल देश का भविष्य होंगे, ऐसे में हम सभी को युवाओं के कार्यो की हौंसला अफजाई करनी चाहिए। इस अवसर पर विधायक नरेंद्र गुप्ता व जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा ने भी संयुक्त रूप से कहा कि कोरोना महामारी में भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता अपने कत्र्तव्य का निर्वहन कर रहा है, चाहे लोगों को आक्सीजन उपलब्ध करवा रहा होए या फिर बैड या फिर अन्य कार्य, भाजपा कार्यकर्ता कभी पीछे नहीं हटें और लोगों की कोरोना महामारी में भरपूर सेवा व सहयोग कर रहे है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में युवा भाजपा का एक मजबूत संगठन हैए जिसने इस महामारी में लोगों की हरसंभव मदद की है और आगे भी यह सिलसिला जारी रहेगा। 

इस अवसर पर भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष पंकज सिंगला व जिलामंत्री गोल्डी अरोड़ा, आदर्श यादव ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर, विधायक नरेंद्र गुप्ता व जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा का स्वागत करते हुए उनका शिविर में पहुंचने पर आभार जताया। उन्होंने कहा कि युवा भाजपा संगठन आगे भी जनसेवा के कार्यो में अग्रणी रहेगाए स्वास्थ्य जांच शिविर हो या फिर रक्तदान शिविर या फिर गरीबों को राशन उपलब्ध करवाना या फिर लोगों को वैक्सीनेशन करवाना सहित अन्य प्रकार के कार्यो में संगठन कोई कोर कसर बाकि नहीं छोड़ेगा। शिविरों में लगभग 200 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। 

उपस्थित रक्तदाताओं को सम्बोधित करते हुए भाजपा युवा मोर्चा के नंगला मंडल अध्यक्ष आदेश यादव ने कहा कि आज हरियाणा में भाजपा सरकार के सात वर्ष पूरे हुए है। इन सात सफल वर्षों में प्रदेश की जनता को एक ईमानदार और सफल सरकार मिली है। जो प्रत्येक गरीब आवाज सुनती है। एक तरफ जहां देश में ऑक्सीजन की कमी को हंगामा हो रहा था। मगर प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल की सूझ-बूझ से प्रदेश के सभी अस्पतालों को उपलब्धता के आधार पर ईमानदारी से ऑक्सीजन उपलब्ध करवाई। जिससे प्रदेश वासियों को काफी राहत मिली।

इस अवसर पर पार्षद विजेंद्र शर्मा, नंगला मंडल के अध्यक्ष कविन्द्र फागना, सचिन ठाकुर, युवा भाजपा नेता रंजीत रावल, ज्ञानेंद्र भारद्वाज, सुरेंद्र नटनागर, मनीष यादव, सौरभ गौड़, अनिकेत पांडे, आशीष छिकारा, पूरव भडाना, जगबीर शर्मा, कपिल दीक्षित, दीपक यादव, कार्तिक वशिष्ठ, ऋषिकेश मिश्रा, नवीन सैनी, आदेश यादव, सहित समस्त भाजपा युवा कार्यकर्ता मौजूद थे।

करोना महामारी में हुई रक्त की कमी को पूरा करने के लिए आगे आए नागरिक: कृष्ण पाल गुर्जर

faridabad-mp-minister-krishanpal-gurjar-appeal-vaccination

फरीदाबाद,28 मई। भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि रक्तदान से बढ़कर कोई दान नहीं है। यह रक्त किसी जरूरतमंद व्यक्ति को जीवनदान दे सकता है। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर शुक्रवार प्रातः बड़खल विधानसभा क्षेत्र की सैनिक कॉलोनी के सामुदायिक केन्द्र में भाजपा पदाधिकारियों द्वारा लगाए गए रक्तदान शिविर का शुभारंभ करते हुए संबोधित कर रहे थे।

 केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के दिशा निर्देशों अनुसार भाजपा के सभी मोर्चा, युवा मोर्चा, पिछड़ा वर्ग मोर्चा, महिला मोर्चा के पदाधिकारी तथा अन्य समाजसेवी संगठनों के सहयोग से रक्तदान शिविरों का आयोजन कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से आज पूरा विश्व ग्रस्त है। इसके लिए थैलीसिया ग्रस्त बच्चों, गर्भवती महिलाओं,  दुर्घटनाग्रस्त लोगों और कोराना वायरस से ग्रस्त लोगों के लिए प्लाज्मा व रक्त की अति आवश्यकता होती है। इसके लिए भाजपा पदाधिकारियों द्वारा शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के बचाव के लिए भागीदार बनें। इसके लिए वे जरूरी काम से ही घर से बाहर निकले। जब वे घर से बाहर निकले तो अपने मुंह के ऊपर मास्क लगाएं, एक दूसरे से 2 गज की दूरी बनाए रखें, हाथों को बार-बार साबुन के साथ धौए या सैनिटाइजर करते रहे।

  उन्होंने जिला प्रशासन, समाज समाजसेवी संगठनों, चिकित्सा विभाग के सभी अधिकारियों कर्मचारियों, आशा वर्करों, एएनएम, जीएनएम सहित तमाम विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों का जिला फरीदाबाद में करोना वायरस की दूसरी लहर के नियंत्रण का करने में अहम भूमिका निभाने पर धन्यवाद किया। 

उन्होंने कहा कि हर अधिकारी व कर्मचारी तथा समाजसेवी संगठनों के प्रतिनिधियों, जनप्रतिनिधियों व आमजन ने पूरी भागीदारी के साथ कोरोना वायरस की दूसरी वेव पर जो काबू पाने में अपनी भागीदारी निभाई है उसके लिए मैं उन्हें बधाई देता हूं। जिला के वे पांचों गांव जहां पर आज तक कोरोना का कोई भी पॉजिटिव केस नहीं आया और शहर की ऐसी कई कालोनियां जहां कोरोना के पॉजिटिव केस नही आए हैं वहां की ग्राम पंचायतों के जनप्रतिनिधियों और कॉलोनियों के आरडब्लूए के के पदाधिकारियों को बधाई देता हूं।

 रक्तदान शिविर के अवसर पर बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा, हरेंद्र भडाणा, प्रवीण चौधरी, भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिला अध्यक्ष भगवान सिंह, हरीश खुराणा, अमित आहूजा, सैनिक कॉलोनी के प्रधान महावीर सिंह, पूनम पांडे, मंदीप वालिया, बलबीर सिंह सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। फोटो कैप्शन- केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर रक्तदान शिविर का शुभारंभ करते हुए। साथ में है विधायक सीमा रेखा व अन्य गणमान्य नागरिक।

अस्पताल में बिस्तरों की सूचना उपलब्ध करवाने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त: यशपाल

faridabad-hospital-bed-avaitability-nodal-officer

फरीदाबाद, 28  मई: जिलाधीश यशपाल ने जिला के विभिन्न निजी अस्पतालों को कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के लिए आरक्षित  बिस्तरों की सूचना संबंधित नोडल अधिकारी को रोजाना नियमित रूप से देने के संबंध में आदेश जारी किए हैं। 

उन्होंने यह आदेश 22 अप्रैल 2021 को जारी किए गए 410-430 एफआरए आदेश की कड़ी को ही आगे बढ़ाते हुए जारी किए हैं । इसके साथ ही उन्होंने इस संबंध में ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज की नोडल अधिकारी रूबल रवीश ईटीओ  (पूर्व) मोबाइल नंबर 78 38 3138 31  को संजीता कोचर ईटीओ (नार्थ) मोबाइल नंबर 70 15910 803 के स्थान पर बदलने के आदेश भी आगामी आदेशों तक जारी किए हैं.  

जिलाधीश द्वारा जारी इन आदेशों में कहा गया है कि इस संबंध में आयोजित जिला टास्क फोर्स की कई बैठकों में चर्चा की जा चुकी है कि कई निजी अस्पताल इस संबंध में नियमित रूप से सूचना उपलब्ध नहीं करवा रहे हैं। अतः आदेशों के मुताबिक अब  नोडल अधिकारी सुनिश्चित करेंगे कि अस्पतालों द्वारा संबंधित सूचना  निर्धारित वेबपोर्टल लिंक पर नियमित रूप से दी जा रही है। 

इस कार्य के लिए आरक्षित अधिकारीगण चारू चित्रा ईटीओ (नार्थ) मोबाइल नंबर 95 780 1771 रेनू यादव ईटीओ (साउथ) मोबाइल नंबर 99 1011 9595  श्वेता ईटीओ (पश्चिम) मोबाइल नंबर 94 16 92 9506 तथा  जया सोलंकी ईटीओ (पश्चिम) मोबाइल नंबर 98 99 11 4291 नोडल अधिकारियों   का सहयोग  करेंगी। 

आदेशों का उल्लंघन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के अंतर्गत संबंधित प्रोविजंस एवं आईपीसी की धारा-188  में निर्धारित प्रावधानों के अनुसार संबंधित अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ नियमानुसार आवश्यक दंडात्मक कार्यवाही अमल में लाई जा सकेगी।

फाइजर चाहता है Indemnity Against Liability (दायित्व से मुक्ति), जुलाई तक टीका: केंद्र सरकार

pfizer-want-indemnity-against-liability-says-indian-government

नई दिल्ली, 28 अप्रैल: भारत सरकार सभी भारतीयों को कोरोना का टीका लगवाना चाहती है लेकिन भारत में टीके की कमी पड रही है इसलिए विदेशी कंपनियों से भी टीके को लेकर बातचीत की जा रही है.

अमेरिकी कंपनी फाइजर से भी टीके को लेकर बातचीत की जा रही है लेकिन फाइजर ने भारत सरकार के सामने एक मांग रख दी है, मांग यह है कि उसे Indemnity Against Liability दी जाय, मतलब टीके से किसी को नुकसान या मौत होने पर  कोई मुआवजा ना देना पड़े, कोई केस ना हो, हर तरह से पचड़े से उसे दूर रखा जाय.

भारत सरकार के सामने फाइजर कंपनी ने अपनी एप्लीकेशन भेजी है, सरकार एप्लीकेशन पर विचार कर रही है हालाँकि अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है.

नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने इसकी जानकारी देते हुए बताया फाइजर ने हमें बताया है कि टीके का स्टॉक जुलाई में उपलब्ध होगा लेकिन हमें Indemnity Against Liability चाहिए। हम एप्लीकेशन पर विचार कर रहे हैं, अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है, देखिये ट्वीट - 

कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों को बीके नागरिक अस्पताल में मिल रही है नई 'उमंग': यशपाल

umang-opd-started-bk-hospital-faridabad-for-covid-patient
      

फरीदाबाद, 27 मई। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला के स्थानीय नागरिक अस्पताल बीके में जो लोग कोराना को मात देकर ठीक हो गए हैं और उन्हें अब शारिरीक परेशानी या मानसिक तनाव होता है तो उन लोगों के लिए उमंग ओपीडी शुरू की गई है। ओपीडी में आज वीरवार को 8 लोगों का उपचार किया गया।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि कोरोना संक्रमण के इस दौर का नकारात्मक प्रभाव व्यक्ति को जितना शारीरिक तौर पर पड़ रहा है उतना ही दुष्प्रभाव व्यक्ति की मानसिक स्थिति पर भी देखा जा रहे है। कोरोना संक्रमण से ठीक होने में व्यक्ति की सोच और मानसिक स्थिति का महत्वपूर्ण योगदान होता है। कई मरीज तो ठीक होने के उपरांत भी इस बीमारी से उबर नहीं पा रहे हैं । 

फरीदाबाद जिला प्रशासन द्वारा बार- बार यह आग्रह किया जा रहा है कि कोरोनावायरस से हमें डरना नहीं है बल्कि इससे बचाव को लेकर आवश्यक सावधानियां बरतनी है। यदि फिर भी संक्रमित हो गए तो मानसिक स्थिति मजबूत रखते हुए चिकित्सकों के परामर्श से दवा इत्यादि लेकर कोरोना को मात देनी है।

उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीजों में भय की स्थिति उत्पन्न ना हो, इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा यह एक नई पहल की शुरुआत की गई है। इस अनूठी पहल के तहत मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट्स द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों की काउंसलिंग की जाती है ताकि वे घबराए नहीं और उनका मानसिक संतुलन बना रहे, औऱ वे जल्द स्वस्थ हो जाएं। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए कोई भी व्यक्ति जिला प्रशासन द्वारा शुरू किए गए टोल फ्री नंबर 1800 891 1008 पर संपर्क कर सकते हैं। इसके साथ ही मेंटल हेल्थ सपोर्ट के लिए 011-41219298 पर किसी भी समय संपर्क कर सकते हैं।

उपायुक्त यशपाल ने कोविड-19 जैसी बीमारी से ठीक होने के बावजूद व्यक्ति में डर की स्थिति उत्पन्न होना स्वाभाविक है। ईलाज के लिए मरीज के पास सही जानकारी होना अत्यंत आवश्यक है। यदि मरीज इस दौरान घबरा जाए तो उसका स्वास्थ्य और ज्यादा बिगड़ सकता है। इन सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन तथा जीविषा नामक एनजीओ ने संयुक्त रूप से मेंटल हेल्थ विशेषज्ञों की टीम तैयार की है। इसमें आईएमए के कई चिकित्सक भी अपनी नि:शुल्क अपनी सेवा प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके कोई भी व्यक्ति विशेषज्ञों मनोचिकित्सकों वे चिकित्सकों की टीम से जुड़ सकता है और कोरोना संक्रमण संबंधी अपनी शंकाओं को दूर कर सकता है।

  सीएमओ डा रणदीप सिहं पूनिया ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बाद मरीजों की मानसिक स्थिति को मजबूत करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा हैल्पलाइन नंबर शुरू किया है। इस हेल्पलाइन नंबर पर जिला के नागरिक फोन कर मेंटल हैल्थ एक्सपर्ट्स से स्वास्थ्य संबंधी परामर्श लेकर स्वास्थ्य लाभ उठा रहे हैं। इसके साथ ही अगर उन्हें कोई स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत है तो इसके लिए भी वह इस हेल्पलाइन नंबर पर एक्सपोर्ट चिकित्सकों से सलाह भी ले सकते हैं।

उमंग ओपीडी के नोडल अधिकारी डॉक्टर योगेंद्र सरधाना ने बताया कि उमंग ओपीडी जिला में उन लोगों के लिए चालू की गई है, जो वैश्विक महामारी कोविड-19  कोरोना के सक्रमित होकर वे ठीक हो गए है। उसके बाद उनके शरीर में जो भी कोई तकलीफ होती है। मानसिक या शारीरिक रूप से जो भी परेशानी होती उसको काउंसलिंग के जरिए दूर किया जाता है। जरूरत के अनुरूप दवाइयां भी दी जाती है।

 डॉक्टर योगेंद्र सरधाना ने बताया कि जो लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए थे और अब ठीक हो गए हैं। वे कई बार शरीर में भूख न लगना ,थकान ज्यादा महसूस करना, नींद कम आना सहित मानसिक तनाव में जो लोग रहते हैं। उनके लिए उमंग ओपीडी के माध्यम से उपचार किया जाता है। ऐसे मरीजों को की काउंसलिंग करके उन्हें टिप्स दिए जाते हैं और जरूरत के अनुसार दवाइयां भी दी जाती है। इसके अलावा ऐसे मरीजों को संतुलित आहार, नियमित योगा सहित हंसमुख दिनचर्चा के टिप्स सहित अन्य जानकारी विस्तार पूर्वक दी जाती है।

कोरोना लहर 2 खात्मे की तरफ, Oxygen Gas की डिमांड में लगातार आ रही कमी

oxygen-demand-dicreasing-in-faridabad-corona-gone

फरीदाबाद, 27 मई । फरीदाबाद में कोरोना की दूसरी लहर खात्में की कगार पर पहुँच चुकी है, नए केसों की संख्या भी लगातार घट रही है और ऑक्सीजन गैस की डिमांड भी लगातार कम होती जा रही है.

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में जरूरतमंद लोगों को तुरंत ऑक्सीजन गैस उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्होंने बताया कि वीरवार को 68 लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया करवाए गए।  उपायुक्त ने बताया कि फरीदाबाद जिले मे पर्याप्त मात्रा मे आक्सीजन गैस उपलब्ध है जिसको भी ऑक्सीजन की आवश्यकता है वह सरकार द्वारा जारी पोर्टल oxygenhry.in पर अपना पंजीकरण करवा सकता है ।

फरीदाबाद जिले जरूरतमंद को आक्सीजन गैस की आपूर्ति का कार्यभार नोडल अधिकारी एसडीएम बल्लभगढ़   अपराजिता को बनाया हुआ है जिनकी रेख देख मे  प्रदीप कुमार ,खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी, बल्लभगढ़ , जिला रैड क्रॉस सोसाइटी, फरीदाबाद व्  विभिन्न विभागों के अधिकारियों व् कर्मचारियों की विभिन्न टीम   बिना को कोताही बरते जरुरतमंदो को मांग अनुसार जल्द से जल्द आक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध करवा रही है ।

रेडक्रॉस सचिव विकास कुमार ने बताया कि रेडक्रॉस सोसाइटी के सहसचिव बिजेंद्र सौरोत,  कोऑर्डिनेटर विमल खंडेलवाल एवं अभिषेक देशवाल  की टीम के द्वारा ऑक्सीजन गैस आवेदक को भरपूर सहयोग किया जा रहा है। कॉल सेंटर के माध्यम से लोगों के साथ संवाद स्थापित किया जाता है। उसके उपरांत सरलता के साथ लोगों को गैस मुहैया  करवाने के लिए जिला रेडक्रॉस सोसायटी एवं उसके स्वयंसेवक  इस कार्य के लिए प्रतिबद्ध हैं। जब भी कभी भी इस प्रकार की वैश्विक महामारी आती है तो स्वयंसेवको  ने  अन्य  लोगों के सहयोग से रेड क्रॉस सोसाइटी में बड़े से बड़ा कार्य कर दिखाया है।  

आज 68 लोगों को पारदर्शिता के आधार पर  ऑक्सीजन मुहैया  कराई गई। फरीदाबाद में जितने लोगों का अब रोज आवेदन आ रहा है उन सभी को प्राथमिकता के आधार रोजाना ऑक्सीजन गैस सिलेंडर  उपलब्ध कराया  जा रहां  है ।

शनिवार से शुरू होगा ऑनलाइन योग एवं जुम्बा कैम्प: सोरोत

faridabad-online-zumba-yoga-camp-from-29-may
 

फरीदाबाद, 27 मई। जिला प्रशासन और रैड क्रॉस  सोसाइटी फरीदाबाद के संयुक्त तत्वाधान में 7 दिवसीय ऑनलाइन योग और जुम्बा कैम्प की शुरुवात शानिवार सुबह 9:30 ऑनलाइन @sambharye.foundation फेसबुक पेज से की जाएगी।  

कार्यक्रम की देख रेख रेडक्रोस सोसाइटी के सहायक सचिव बिजेन्द्र  सौरोत की निगरानी में करवाई  जाएगी। बिजेंद्र  सौरोत ने बताया कार्यक्रम में ऑनलाइन योग, एरोबिक्स, और जुम्बा करवाया जाएगा जिसमे शहर की संस्था योगा ऑफ द डे, संभार्य फाउंडेशन, सोनू नव चेतना फाउंडेशन और  जस्ट डांस कंपनी के वालंटियर निशुल्क प्रशिक्षण देंगे। 

उन्होंने बताया  कि शनिवार से शुक्रवार सुबह 9:30 @sambharye.foundation पर योग प्रशिक्षण दिया जाएगा, शनिवार से प्रत्येक  दिन 10 बजे से @sonunavchetnafoundation पर एरोबिक्स करवाया जाएगा और शनिवार, मंगलवार और गुरुवार को स्याम 5:30 @justdancecompany पर जुम्बा की क्लास दी जाएगी।

बिजेंद्र  सौरोत ने बताया जिला उपायुक्त यशपाल जी के आहवान पर संस्थाओ के माध्यम से फरीदाबाद के लोगो को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रखने के उद्देश्य से  ये निशुल्क कैम्प शनिवार से शुरू किया जाएगा ताकि फरीदाबाद की जनता को फिट और फरीदाबाद को हिट बनाया जा सके, किसी प्रकार की अन्य जानकारी के लिए संभार्य फॉउंडेशन के टोल फ्री नंबर 9050881888 पर सम्पर्क करें।