Palwal Assembly

Showing posts with label Palwal. Show all posts

देखिये लिस्ट, फरीदाबाद की 6 और पलवल की 3 विधानसभा क्षेत्रों में किन किन का नामांकन हुआ रद्द

faridabad-election-2019-total-24-nomination-cancelled-palwal-faridabad

फरीदाबाद, 6 अक्टूबर: फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में 9 विधानसभा क्षेत्र हैं - NIT, बड़खल, फरीदाबाद, बल्लभढ़, तिगांव, पृथला, पलवल, होडल और हथीन।

कुल 9 विधानसभा क्षेत्रों में 24 उम्मीदवारों के नामांकन रद्द कर किये गए हैं. हम नीचे पूरी लिस्ट दे रहे हैं जिसे देखकर आपको पता चल जाएगा कि किसका नामांकन स्वीकार किया गया है और किसका रद्द, देखिये - 

फरीदाबाद - NIT - 86

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1जगजीत पन्नूINLD एफिडेविटAccepted
2देशराज सिंह राणाAAAPएफिडेविटAccepted
3नसरुद्दीनआजादएफिडेविटRejected
4जय प्रकाश सिंहजय महा भारत पार्टीएफिडेविटAccepted
5रविंदर गुप्तासमाजवादी पार्टीएफिडेविटAccepted
6मनोज शर्माABHMएफिडेविटAccepted
7दिनेश कुमारआजादएफिडेविटAccepted
8नानक चंद तलन आजादएफिडेविटAccepted
9नीरज शर्माकांग्रेसएफिडेविटAccepted
10तेजपालजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
11करामत अलीबहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
12जितेंदर कुमारआजादएफिडेविटAccepted
13नागेंद्र भड़ानाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
14राम प्रताप गौड़ लोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटAccepted
15संतोष कुमार यादवआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
16प्रमोद कुमार यादवआम आदमी पार्टीएफिडेविटRejected
17हरी रामआजादएफिडेविटAccepted
18वीरेंद्र सिंह डंगवालCPI(M)एफिडेविटAccepted
19चन्दर भाटियाआजादएफिडेविटAccepted
20प्रदीप कुमारआजादएफिडेविटAccepted

फरीदाबाद - 89
SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1नितिन कुमार सिंगलाकांग्रेसएफिडेविटRejected
2महेश चंद बसपाएफिडेविटAccepted
3सुशीला गौतमआजादएफिडेविटAccepted
4लखन कुमार सिंगलाकांग्रेसएफिडेविटAccepted
5सोमेश चंदीलाINLD एफिडेविटRejected
6रजनी गुप्ताभाजपाएफिडेविटRejected
7सुमन लताAAP एफिडेविटAccepted
8पंकजआजादएफिडेविटAccepted
9नरेंद्र गुप्ताभाजपाएफिडेविटAccepted
10सत्य देव यादवRBJJP एफिडेविटAccepted
11रेनूस्वराज इंडियाएफिडेविटAccepted
12कुलदीप तेवतियाJJPएफिडेविटAccepted

पृथला विधानसभा

jt
SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1बलजीत सिंहPPI (D)एफिडेविटRejected
2जोगिन्दर सिंहआजादएफिडेविटAccepted
3काली चरणआजादएफिडेविटAccepted
4शशि बालाजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
5सुरेंदर कुमारआजादएफिडेविटAccepted
6राजेशआजादएफिडेविटAccepted
7नैन पालआजादएफिडेविटRejected
8नरेंद्र सिंहINLDएफिडेविटAccepted
9नयनपाल रावतआजादएफिडेविटAccepted
10रघुवीर तेवतियाकांग्रेसएफिडेविटAccepted
11आशाआजादएफिडेविटAccepted
12प्रेमवती तेवतियाकांग्रेसएफिडेविटRejected
13कल्याण शर्मालोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटAccepted
14पंकज शर्मालोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटRejected
15सोहनपाल भारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
16सुरेंद्रबहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
17जीतेन्द्र कुमारआजादएफिडेविटRejected

तिगांव विधानसभा क्षेत्र

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1विशान चंद बहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
2ललित नगरकांग्रेसएफिडेविटAccepted
3रणधीर सिंहABKMP एफिडेविटAccepted
4ललित नागरआजादएफिडेविटAccepted
5दिलीप कुमार भारतीआम आदमी पार्टीएफिडेविटRejected
6महेश कुमार नागरकांग्रेसएफिडेविटRejected
7प्रदीप कुमार बांकुराजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
8मनोजलोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटAccepted
9सोनू कुमारआजादएफिडेविटAccepted
10बीरेश कुमार सिंहजनता दल यूनाइटेडएफिडेविटAccepted
11मंजूभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटRejected
12राजेश नागरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
13उमेश भाटी INLDएफिडेविटAccepted
14कृशन पाल सिंहभारतीय शक्ति चेतना पार्टीएफिडेविटAccepted
15श्याम मंडलबहुजन मुक्ति पार्टीएफिडेविटAccepted

बड़खल विधानसभा क्षेत्र

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1प्रेम कपूरआजादएफिडेविटAccepted
2इस्लामुद्दीनजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
3जमीन खानराष्ट्रीय लोकस्वराज पार्टीएफिडेविटAccepted
4अजय भड़ानाइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविटAccepted
5विजय प्रताप सिंहकांग्रेसएफिडेविटAccepted
6मुकेश पहलवानशिवसेनाएफिडेविटAccepted
7महेंद्र प्रताप सिंहकांग्रेसएफिडेविटRejected
8अश्वनी त्रिखाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटRejected
9सीमा त्रिखाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
10मनोहर लालबहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
11धर्मबीर भड़ानाआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
12जगरामCPIएफिडेविटAccepted

बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1सुरेश चंद जननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
2शैलेन्द्र सिंहआजादएफिडेविटAccepted
3आनंद कौशिककांग्रेसएफिडेविटAccepted
4बलजीत कौशिककांग्रेसएफिडेविटAccepted
5कोक चंद लोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटAccepted
6पूनम शर्माभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
7मूलचंद शर्माभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
8दीपक गौड़आरक्षण विरोधी पार्टीएफिडेविटAccepted
9अरुण बीसला बहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
10रोहताशइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविटAccepted
11दीपक चौधरीआजादएफिडेविटAccepted
12आदेश कुमारसमाजवादी पार्टीएफिडेविटAccepted
13हरिंदर भाटीआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
14अतुलआजादएफिडेविटAccepted

पलवल विधानसभा क्षेत्र

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1चंद्री देवीजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
2दीपकआजादएफिडेविटAccepted
3देवेंदरबहुजन समाज पार्टीएफिडेविटRejected
4कुलदीप कौशिकआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
5कृष्णआजादएफिडेविटAccepted
6गया लालजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
7सुनील कुमारबहुजन मुक्ति पार्टीएफिडेविटAccepted
8मोनिकाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटRejected
9सतपालइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविटAccepted
10कमल मंगलाआजादएफिडेविटAccepted
11करण वीरआजादएफिडेविटAccepted
12ज्योति दलालकांग्रेसएफिडेविटRejected
13पुनीत भारद्वाजलोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटAccepted
14करण दलालकांग्रेसएफिडेविटAccepted
15दीपक मंगलाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
16डॉ केपी सिंहआजादएफिडेविटAccepted
17कुलदीप कौशिकआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
18 संगीता रानीइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविटRejected

हथीन विधानसभा क्षेत्र

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1यामीन खानआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
2असमीनाआम आदमी पार्टीएफिडेविटRejected
3प्रवीण डागरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
4सतीश कुमारआजादएफिडेविटAccepted
5सुरेंदरस्वराज इंडियाएफिडेविटAccepted
6जवाहर दत्तआजादएफिडेविटAccepted
7मोहम्मद इसराइल कांग्रेसएफिडेविटAccepted
8नाजिमकांग्रेसएफिडेविटRejected
9सविता चौधरीआजादएफिडेविटAccepted
10प्रेम सिंहआजादएफिडेविटAccepted
11प्रियंकरआजादएफिडेविटAccepted
12सोनूलोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविटAccepted
13 रानी देवीइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविटAccepted
14तैयब हुसैन उर्फ़ नजीर अहमदबहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
15हर्ष कुमारजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
16मुहम्मद आसिफ खानबहुजन समाज पार्टीएफिडेविटRejected
17दिनेश सिंगलासर्व हित पार्टीएफिडेविटAccepted
18सतीश कुमारभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटRejected

होडल विधानसभा क्षेत्र

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीएफिडेविटStatus
1जगदीश नायरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
2कमला नायरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविटRejected
3महेन्दर कुमारआजादएफिडेविटAccepted
4करन सिंहआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
5उदय भानकांग्रेसएफिडेविटAccepted
6यशवीरजननायक जनता पार्टीएफिडेविटAccepted
7बुधरामAPI एफिडेविटAccepted
8सतवीरआजादएफिडेविटAccepted
9दीन दयालPPI (D)एफिडेविटAccepted
10राजूटोला पार्टीएफिडेविटAccepted
11राजपालआजादएफिडेविटAccepted
12जगदीशआजादएफिडेविटAccepted
13देवेश कुमारकांग्रेसएफिडेविटRejected
14गया लाल बहुजन समाज पार्टीएफिडेविटAccepted
15राम लालइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविटAccepted
17करन सिंहआम आदमी पार्टीएफिडेविटAccepted
18धर्मेंद्रआजादएफिडेविटAccepted
19रविंदरआजादएफिडेविटAccepted

जरूर देखिये, फरीदाबाद की 9 विधानसभा सीटों पर सभी पार्टियों के उम्मीदवारों की लिस्ट और एफिडेविट

list-of-candidates-faridabad-9-vidhansabha-all-parties-2019-election

फरीदाबाद, 5 अक्टूबर: फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में 9 विधानसभा क्षेत्र हैं - NIT, बड़खल, फरीदाबाद, बल्लभढ़, तिगांव, पृथला, पलवल, होडल और हथीन। हम इस पोस्ट में 2019 विधानसभा चुनाव में नामांकन दाखिल करने वाले सभी विधानसभा क्षेत्रों में सभी पार्टियों एवं आजाद उम्मीदवारों की लिस्ट दे रहे हैं, साथ में उनके एफिडेविट का लिंक भी हैं जिसपर क्लिक करके उनके  से अधिक जानकारी हासिल की जा सकती है. इससे वोटरों को खुद समझ में आ जाएगा कि किसे वोट देना चाहिए और किसे नहीं।

(कुछ लोगों ने अपने परिजनों से भी डबल नामांकन करवाएं हैं ताकि  किसी कारणवश उनका नामांकन रद्द होने पर दूसरा व्यक्ति चुनाव लड़ सके, अगर उनका नामांकन सही पाया गया तो दूसरा उम्मीदवार अपना नामांकन वापस ले लेगा). 

फरीदाबाद - NIT - 86 विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1जगजीत पन्नूINLD एफिडेविट
2देशराज सिंह राणाAAAPएफिडेविट
3नसरुद्दीनआजादएफिडेविट
4जय प्रकाश सिंहजय महा भारत पार्टीएफिडेविट
5रविंदर गुप्तासमाजवादी पार्टीएफिडेविट
6मनोज शर्माABHMएफिडेविट
7दिनेश कुमारआजादएफिडेविट
8नानक चंद तलन आजादएफिडेविट
9नीरज शर्माकांग्रेसएफिडेविट
10तेजपालजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
11करामत अलीबहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
12जितेंदर कुमारआजादएफिडेविट
13नागेंद्र भड़ानाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
14राम प्रताप गौड़ लोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
15संतोष कुमार यादवआम आदमी पार्टीएफिडेविट
16प्रमोद कुमार यादवआम आदमी पार्टीएफिडेविट
17हरी रामआजादएफिडेविट
18वीरेंद्र सिंह डंगवालCPI(M)एफिडेविट
19चन्दर भाटियाआजादएफिडेविट
20प्रदीप कुमारआजादएफिडेविट

फरीदाबाद - 89 विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1नितिन कुमार सिंगलाकांग्रेसएफिडेविट
2महेश चंद बसपाएफिडेविट
3सुशीला गौतमआजादएफिडेविट
4लखन कुमार सिंगलाकांग्रेसएफिडेविट
5सोमेश चंदीलाINLD एफिडेविट
6रजनी गुप्ताभाजपाएफिडेविट
7सुमन लताAAP एफिडेविट
8पंकजआजादएफिडेविट
9नरेंद्र गुप्ताभाजपाएफिडेविट
10सत्य देव यादवRBJJP एफिडेविट
11रेनूस्वराज इंडियाएफिडेविट
12कुलदीप तेवतियाJJPएफिडेविट

पृथला विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1बलजीत सिंहPPI (D)एफिडेविट
2जोगिन्दर सिंहआजादएफिडेविट
3काली चरणआजादएफिडेविट
4शशि बालाजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
5सुरेंदर कुमारआजादएफिडेविट
6राजेशआजादएफिडेविट
7नैन पालआजादएफिडेविट
8नरेंद्र सिंहINLDएफिडेविट
9नयनपाल रावतआजादएफिडेविट
10रघुवीर तेवतियाकांग्रेसएफिडेविट
11आशाआजादएफिडेविट
12प्रेमवती तेवतियाकांग्रेसएफिडेविट
13कल्याण शर्मालोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
14पंकज शर्मालोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
15सोहनपाल भारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
16सुरेंद्रबहुजन समाज पार्टीएफिडेविट

तिगांव विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1विशान चंद बहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
2ललित नगरकांग्रेसएफिडेविट
3रणधीर सिंहABKMP एफिडेविट
4ललित नागरआजादएफिडेविट
5दिलीप कुमार भारतीआम आदमी पार्टीएफिडेविट
6महेश कुमार नागरकांग्रेसएफिडेविट
7प्रदीप कुमार बांकुराजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
8मनोजलोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
9सोनू कुमारआजादएफिडेविट
10बीरेश कुमार सिंहजनता दल यूनाइटेडएफिडेविट
11मंजूभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
12राजेश नागरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
13उमेश भाटी INLDएफिडेविट
14कृशन पाल सिंहभारतीय शक्ति चेतना पार्टीएफिडेविट
15श्याम मंडलबहुजन मुक्ति पार्टीएफिडेविट

बड़खल विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1प्रेम कपूरआजादएफिडेविट
2इस्लामुद्दीनजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
3जमीन खानराष्ट्रीय लोकस्वराज पार्टीएफिडेविट
4अजय भड़ानाइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविट
5विजय प्रताप सिंहकांग्रेसएफिडेविट
6मुकेश पहलवानशिवसेनाएफिडेविट
7महेंद्र प्रताप सिंहकांग्रेसएफिडेविट
8अश्वनी त्रिखाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
9सीमा त्रिखाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
10मनोहर लालबहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
11धर्मबीर भड़ानाआम आदमी पार्टीएफिडेविट
12जगरामCPIएफिडेविट

बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1सुरेश चंद जननायक जनता पार्टीएफिडेविट
2शैलेन्द्र सिंहआजादएफिडेविट
3आनंद कौशिककांग्रेसएफिडेविट
4बलजीत कौशिककांग्रेसएफिडेविट
5कोक चंद लोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
6पूनम शर्माभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
7मूलचंद शर्माभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
8दीपक गौड़आरक्षण विरोधी पार्टीएफिडेविट
9अरुण बीसला बहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
10रोहताशइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविट
11दीपक चौधरीआजादएफिडेविट
12आदेश कुमारसमाजवादी पार्टीएफिडेविट
13हरिंदर भाटीआम आदमी पार्टीएफिडेविट
14अतुलआजादएफिडेविट

पलवल विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1चंद्री देवीजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
2दीपकआजादएफिडेविट
3देवेंदरबहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
4कुलदीप कौशिकआम आदमी पार्टीएफिडेविट
5कृष्णआजादएफिडेविट
6गया लालजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
7सुनील कुमारबहुजन मुक्ति पार्टीएफिडेविट
8मोनिकाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
9सतपालइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविट
10कमल मंगलाआजादएफिडेविट
11करण वीरआजादएफिडेविट
12ज्योति दलालकांग्रेसएफिडेविट
13पुनीत भारद्वाजलोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
14करण दलालकांग्रेसएफिडेविट
15दीपक मंगलाभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
16डॉ केपी सिंहआजादएफिडेविट
17कुलदीप कौशिकआम आदमी पार्टीएफिडेविट
18 संगीता रानीइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविट

हथीन विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1यामीन खानआम आदमी पार्टीएफिडेविट
2असमीनाआम आदमी पार्टीएफिडेविट
3प्रवीण डागरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
4सतीश कुमारआजादएफिडेविट
5सुरेंदरस्वराज इंडियाएफिडेविट
6जवाहर दत्तआजादएफिडेविट
7मोहम्मद इसराइल कांग्रेसएफिडेविट
8नाजिमकांग्रेसएफिडेविट
9सविता चौधरीआजादएफिडेविट
10प्रेम सिंहआजादएफिडेविट
11प्रियंकरआजादएफिडेविट
12सोनूलोकतंत्र सुरक्षा पार्टीएफिडेविट
13 रानी देवीइंडियन नेशनल लोकदलएफिडेविट
14तैयब हुसैन उर्फ़ नजीर अहमदबहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
15हर्ष कुमारजननायक जनता पार्टीएफिडेविट
16मुहम्मद आसिफ खानबहुजन समाज पार्टीएफिडेविट
17दिनेश सिंगलासर्व हित पार्टीएफिडेविट
18सतीश कुमारभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट

होडल विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार

SN उम्मीदवारराजनीतिक पार्टीबायोडाटा/एफिडेविट
1जगदीश नायरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
2कमला नायरभारतीय जनता पार्टीएफिडेविट
3महेन्दर कुमारआजादएफिडेविट
4करन सिंहआम आदमी पार्टीएफिडेविट
5उदय भानकांग्रेसएफिडेविट

CM मनोहर लाल बोले, फरीदाबाद और पलवल की जनता फिर से बनाएगी BJP सरकार, पूरा होगा 75 मिशन

cm-manohar-lal-jan-ashirvad-yatra-in-faridabad-palwal-completed

फरीदाबाद: मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 28 अगस्त 2019 को फरीदाबाद के सभी विधानसभा क्षेत्रों और पलवल में जन आशीर्वाद यात्रा निकाली. इस दौरान उन्हें सभी कार्यक्रमों में भीड़ ही भीड़ नजर आयी, इसी से उत्साहित होकर मुख्यमंत्री ने कहा - 

जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान बादशाहपुर, सोहना, NIT फरीदाबाद, बड़खल, तिगांव, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, पृथला, पलवल की जनता से संवाद किया। यात्रा के दौरान उमड़ रहा अपार जनसमूह यह दर्शा रहा है कि हरियाणा में BJP के नेतृत्व में  मिशन 75 पूर्ण करके पुनः सरकार बनेगी।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस बार भाजपा फरीदाबाद की सभी विधानसभा सीटें जीतना चाहती है. पलवल में पिछली बार भाजपा की हार हुई थी लेकिन इस बार भाजपा पलवल ने भी जीतना चाहती है.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा, भाजपा में आपका स्वागत है शारदा राठौर जी

congress-leader-sharda-rathore-join-bjp-on-palwal-cm-manohar-lal

पलवल: पलवल की जनसभा में बल्लभगढ़ से दो बार कांग्रेस की विधायक रही और हुड्डा सरकार में दो बार मुख्य संसदीय सचिव रही शारदा राठौर  भारतीय जनता पार्टी शामिल हो गई हैं। 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के समस्त शारदा राठौर ने भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की घोषणा की मुख्यमंत्री ने शारदा राठौर का भाजपा में शामिल होने पर स्वागत किया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिनों से विपक्षी पार्टियों के नेता भाजपा में शामिल हो रहे हैं, ऐसा लगता है कि इन नेताओं को फिर से भाजपा के पक्ष में लहर दिखाई दे रही है, शारदा राठौर ने भी भाजपा के पक्ष में लहर महसूस की और पार्टी में शामिल हो गयीं, उन्हें पलवल, पृथला या बल्लभगढ़ से टिकट दी जा सकती है. वैसे बल्लभगढ़ में उनके जीतने के अधिक चांसेज हैं.

कालीरमन के हत्यारे 10 महीनें बाद भी पलवल-पुलिस से दूर, अब CM खट्टर को दिखाए जाएंगे काले झंडे

kaliraman-murder-case-no-action-by-palwal-police-in-10-month

पलवल: 28 अगस्त को मुख्यमंत्री मनोहर लाल फरीदाबाद और पलवल जिले में जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे लेकिन उन्हें पलवल में काले झंडे दिखाए जा सकते हैं, कालीरमन मर्डर केस में 10 महीनें बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है इसलिए पीड़ित परिजन पुलिस कार्यवाही से नाराज हैं. कल डीसी ऑफिस का घेराव करके परिजनों ने आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की और कोई ठोस आश्वासन ना मिलने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को काले झंडे दिखाने की चेतावनी दी.

चांदहट थाना क्षेत्र के अलावलपुर में नवम्बर 2018 में  यस बैंक की दिल्ली शाखा में कार्यरत कालीरमन की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारोपितों ने मृतक के पास से करीब 30000 कैश और ATM कार्ड छीन लिया था जिसमें से बाद में 10 हजार रुपये निकाले गए थे।  बदमाश इसपर भी नहीं माने, उन्होंने जाते जाते कालीरमन को गोली मार दी, कालीरमन के भाई लोकेश ने हत्यारों को अपनी आँखों से कालीरमन पर गोली चलाते हुए देखा, गंभीर रुप से घायल अवस्था में कालीरमन को परिजन फरीदाबाद के निजी अस्पताल में ले गए थे जहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

पुलिस ने मृतक के पिता के बयान पर दिनेश व अजीत सहित तीन-चार अन्य के खिलाफ हत्या का मामला (Fir No 411, Date 4.11.2018) दर्ज किया था लेकिन 10 महीने बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से नाराज  मृतक कालीरमन के परिजन और गांव के सैकड़ों लोगों ने सोमवार को पलवल के एसपी आफिस के बाहर कई घंटे प्रदर्शन किया और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की लोगों ने भाजपा सरकार और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और कहा कि 28-29 अगस्त को मुख्यमंत्री मनोहर लाल की जन आशीर्वाद यात्रा का विरोध किया जाएगा और उन्हें काले झंडे दिखाए जाएंगे और इसकी जिम्मेदार पलवल पुलिस होगी क्यू कि पुलिस की लापरवाही के कारण हत्यारे अब तक आजाद घूम रहे है। 

मृतक कालीरमन के भाई लोकेश डागर ने बताया कि वो 10 महीने से थाने चौकी के चक्कर काटते-काटते थक गया है। पुलिस के बड़े अधिकारियों से कई बार मिला लेकिन सिर्फ आश्वासन मिला। कोई कार्यवाही नहीं हुई, केस अब भी पुलिस चौकी में ही है। न क्राइम ब्रांच को दिया गया न ही अन्य किसी बड़े अधिकारी से जांच करवाई गई। 

लोकेश ने बताया कि उसके भाई के हत्यारों से उसे और उसके परिवार को जान का खतरा है और वो और उसका परिवार हमेशा दहशत के साये में रहते हैं। शाम होने के बाद कोई घर से नहीं निकलता और दिन में कहीं भी घर के लोग जाते हैं तो डर लगता रहता है कि कहें हत्यारे कोई वारदात न कर दें। लोकेश डागर ने बताया कि लगता है पुलिस हत्यारों से मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि 10 माह का समय बहुत होता है। 

कई घंटे तक कोर्ट के बाहर प्रदर्शन करने के बाद पलवल के एसपी नरेन्द्र बुज्रानिया बाहर आये और नाराज लोगों से कहा कि हमने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की है और आगे भी कोशिश करेंगे, हम आप लोगों से भी कहना चाहते हैं कि आप भी उनकी तलाश करो, आप लोग जिस स्थान पर कहोगे हम तुम्हारे साथ टीम भेजगें और अगर आरोपी मिले तो उन्हें अरेस्ट करेंगे.

आपको बता दें कि अलावलपुर निवासी कालीरमन यस बैंक में फाइनेंस विभाग में नौकरी करते थे।  3 नवंबर 2018  को रात करीब 11 बजे जब वह अपने गांव अलावलपुर आ रहे थे तो गांव से मात्र 200 मीटर की दूरी पर उनसे लूटपाट कर गोली मार दी गई। परिजन तुरंत ही कालीरमन को पलवल एक निजी अस्पताल में ले गए, जहां उसकी हालत को गंभीर देखते हुए उसे फरीदाबाद के एशियन अस्पताल में ले गए। वहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।  हत्यारे आज तक अरेस्ट नहीं हुए हैं। इस कारण सोमवार को लोगों ने बड़ा प्रदर्शन किया। 

मौके पर भारी पुलिस बुलाई गई और मृतक के भाई लोकेश डागर ने बताया कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज करने की धमकी भी दी। लोकेश ने कहा कि अब यात्रा के दौरान हम सैकड़ों लोगों संग सीएम का घेराव करेंगे और उन्हें काले झंडे दिखाएंगे।  सोमवार प्रदर्शन के दौरान लोगों की पुलिस से जमकर बहस हुई और बहस के बाद एसपी पलवल नाराज होकर मौके से चले गए जिसके बाद लोगों का गुस्सा और बढ़ गया और पुलिस के खिलाफ कई  घंटे तक नारेबाजी होती रही।

कालीरामन मर्डर केस, नाराज परिजनों से बोले SP साहब, हत्यारों की तलाश तुम करो, टीम हम भेजेंगे

kaliraman-murder-case-sp-narendra-bujrania-and-victim-dc-office

पलवल: चांदहट थाना क्षेत्र के अलावलपुर में नवम्बर 2018 में  यस बैंक की दिल्ली शाखा में कार्यरत कालीरमन की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारोपितों ने मृतक के पास से करीब 30000 कैश और ATM कार्ड छीन लिया था जिसमें से बाद में 10 हजार रुपये निकाले गए थे।  बदमाश इसपर भी नहीं माने, उन्होंने जाते जाते कालीरमन को गोली मार दी, कालीरमन के भाई लोकेश ने हत्यारों को अपनी आँखों से कालीरमन पर गोली चलाते हुए देखा, गंभीर रुप से घायल अवस्था में कालीरमन को परिजन फरीदाबाद के निजी अस्पताल में ले गए थे जहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 


पुलिस ने मृतक के पिता के बयान पर दिनेश व अजीत सहित तीन-चार अन्य के खिलाफ हत्या का मामला (Fir No 411, Date 4.11.2018) दर्ज किया था लेकिन 10 महीने बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से नाराज  मृतक कालीरमन के परिजन और गांव के सैकड़ों लोगों ने सोमवार को पलवल के एसपी आफिस के बाहर कई घंटे प्रदर्शन किया और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की लोगों ने भाजपा सरकार और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और कहा कि 28-29 अगस्त को मुख्यमंत्री मनोहर लाल की जन आशीर्वाद यात्रा का विरोध किया जाएगा और उन्हें काले झंडे दिखाए जाएंगे और इसकी जिम्मेदार पलवल पुलिस होगी क्यू कि पुलिस की लापरवाही के कारण हत्यारे अब तक आजाद घूम रहे है। 

मृतक कालीरमन के भाई लोकेश डागर ने बताया कि वो 10 महीने से थाने चौकी के चक्कर काटते-काटते थक गया है। पुलिस के बड़े अधिकारियों से कई बार मिला लेकिन सिर्फ आश्वासन मिला। कोई कार्यवाही नहीं हुई, केस अब भी पुलिस चौकी में ही है। न क्राइम ब्रांच को दिया गया न ही अन्य किसी बड़े अधिकारी से जांच करवाई गई। 

लोकेश ने बताया कि उसके भाई के हत्यारों से उसे और उसके परिवार को जान का खतरा है और वो और उसका परिवार हमेशा दहशत के साये में रहते हैं। शाम होने के बाद कोई घर से नहीं निकलता और दिन में कहीं भी घर के लोग जाते हैं तो डर लगता रहता है कि कहें हत्यारे कोई वारदात न कर दें। लोकेश डागर ने बताया कि लगता है पुलिस हत्यारों से मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि 10 माह का समय बहुत होता है। 


कई घंटे तक कोर्ट के बाहर प्रदर्शन करने के बाद पलवल के एसपी नरेन्द्र बुज्रानिया बाहर आये और नाराज लोगों से कहा कि हमने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की है और आगे भी कोशिश करेंगे, हम आप लोगों से भी कहना चाहते हैं कि आप भी उनकी तलाश करो, आप लोग जिस स्थान पर कहोगे हम तुम्हारे साथ टीम भेजगें और अगर आरोपी मिले तो उन्हें अरेस्ट करेंगे.

आपको बता दें कि अलावलपुर निवासी कालीरमन यस बैंक में फाइनेंस विभाग में नौकरी करते थे।  3 नवंबर 2018  को रात करीब 11 बजे जब वह अपने गांव अलावलपुर आ रहे थे तो गांव से मात्र 200 मीटर की दूरी पर उनसे लूटपाट कर गोली मार दी गई। परिजन तुरंत ही कालीरमन को पलवल एक निजी अस्पताल में ले गए, जहां उसकी हालत को गंभीर देखते हुए उसे फरीदाबाद के एशियन अस्पताल में ले गए। वहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।  हत्यारे आज तक अरेस्ट नहीं हुए हैं। इस कारण सोमवार को लोगों ने बड़ा प्रदर्शन किया। 

मौके पर भारी पुलिस बुलाई गई और मृतक के भाई लोकेश डागर ने बताया कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज करने की धमकी भी दी। लोकेश ने कहा कि अब यात्रा के दौरान हम सैकड़ों लोगों संग सीएम का घेराव करेंगे और उन्हें काले झंडे दिखाएंगे।  सोमवार प्रदर्शन के दौरान लोगों की पुलिस से जमकर बहस हुई और बहस के बाद एसपी पलवल नाराज होकर मौके से चले गए जिसके बाद लोगों का गुस्सा और बढ़ गया और पुलिस के खिलाफ कई  घंटे तक नारेबाजी होती रही।

कालीरमन डागर हत्याकांड में 10 महीने बाद भी कोई गिरफ्तारी नहीं, पलवल पुलिस से पीड़ित परिवार नाराज

kaliraman-murder-case-alawalpur-palwal-police-not-arrested-accused

पलवल: कालीरमन मर्डर केस हुए 10 महीनें बीत चुके हैं लेकिन अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है. पीड़ित परिवार पुलिस थाने, क्राइम ब्रांच, एसपी और डीएसपी के दफ्तरों के चक्कर काट-काटकर परेशान हैं लेकिन उसका कोई फायदा नहीं मिला है. हत्यारे अलावलपुर गाँव के ही बताये जा रहे हैं लेकिन 10 महीनों से वे फरार हैं, पता नहीं उन्हें धरती खा गयी या आसमान निगल गया, पलवल पुलिस उन्हें गिरफ्तार ही नहीं कर पा रही है.

परिजनों ने पलवल पुलिस से नाराज होकर प्रदर्शन करने का फैसला लिया है, सोमवार को प्रदर्शन करके न्याय की मांग की जाएगी.

क्या है मामला

4 नवम्बर 2019 को चाँदहट पुलिस थाने में ह्त्या का मामला दर्ज किया गया था. गाँव के ही हत्यारोपियों के खिलाफ IPC की धारा 302, 34, 392, आर्म्स एक्ट 25.54, 59 के तहत मुकदमा नंबर 411 दर्ज हुआ था लेकिन अभी आरोपियों दिनेश और अजीत की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है.

रिपोर्ट के अनुसार मृतक कालीरमन एक्सिस बैंक में मैनेजर पद पर नौकरी करता था, 3 नवम्बर 2018 को वह अपने बॉस सिद्धार्थ के सेक्टर-85 फरीदाबाद स्थित आवास से अपनी वैगन आर कार से अपने घर अलावलपुर गाँव पलवल के लिए निकला था.

अलावलपुर गाँव पहुँचने पर बलदेव के घर के सामने बड़े ब्रेकर के पार उसे रोककर उसके साथ लूटपाट शुरू हो गयी. उसनें तुरंत अपने भाई लोकेश को फोन किया, लोकेश अपने दोस्त महेंद्र के साथ वारदात स्थल पर पहुंचा तो बदमाशों ने उसके भाई पर उसके सामने गोली चला दी, बदमाशों ने कालीरमन से 40 हजार रुपये भी लूट लिए गए. कालीरमन को तुरंत अपेक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ से उसे एशियन हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया. अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया गया.


मृतक के भाई लोकेश डागर ने बताया कि हत्यारों से मेरी और मेरे परिवार की जान को खतरा है, जब ये लोग रात चलते मेरे भाई की ह्त्या कर सकते हैं तो हमारे साथ भी कुछ बुरा हो सकता है इसलिए पुलिस इन्हें जल्द गिरफ्तार करे और इन्हें जेल भेजे ताकि हम लोग अपनी सामान्य जिंदगी जी सकें, मेरे निर्दोष भाई की ह्त्या करने वाले आजाद घूम रहे हैं जो पलवल पुलिस के लिए शर्मनाक बात है. पुलिस चाहे तो हत्यारोपियों को दो दिन में गिरफ्तार कर सकती है लेकिन पुलिस शांत बैठी है.

ससुराल से परेशान महिला ने बच्ची के साथ ट्रेन से लगाई छलांग, महिला की मौत, बच्ची गंभीर

uncha-gaon-women-jump-from-from-train-dead-daughter-injured

फरीदाबाद: फरीदबाद ऊंचा गाँव की एक रेखा नाम की महिला जिसकी शादी पलवल में हुई थी, उसनें ट्रेन से कूदकर अपनी जान दे दी, महिला के साथ एक बच्ची भी थी जिसकी हालत गंभीर है, बच्ची के सर में गंभीर चोट है जिसे इलाज के लिए रोहतक PGI रेफर किया गया है.

जानकारी के बाद अभी सिर्फ इतना पता चल पाया है कि महिला की शादी अनिल नाम के सख्श से हुई थी, महिला अपने ससुराल वालों से परेशान थी इसलिए उसनें ट्रेंड से कूदकर अपनी जान दे दी. पुलिस मामले की जांच कर रही है. जल्द ही पूरी घटना का अपडेट दिया जाएगा.

पलवल में गौ-तस्करों द्वारा क़त्ल किये गए गोपाल सोरौत के लिए खूब दान कर रहे हैं लोग, 18 लाख जुटे


फरीदाबाद: गौ-तस्करों द्वारा 29 जुलाई 2019 को क़त्ल किये गए गौ-रक्षक गोपाल सोरौत के परिवार की आर्थिक मदद के लिए पूरा देश आगे आया है, गोपाल के परिवार की आर्थिक मदद के लिए ऑनलाइन फण्ड इकठ्ठा किया जा रहा है, कल से चलाये जा रहे इस अभियान के अंतर्गत अब तक 18.21 रुपये इकठ्ठे हो चुके हैं. तेजी से लोग गोपाल की मदद के लिए आगे आ रहे हैं इसलिए और फण्ड इकठ्ठा होने की उम्मीद है. नीचे लिंक पर क्लिक करके आर्थिक मदद की जा सकती है - 


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लोकसभा क्षेत्र फरीदाबाद के अंतर्गत होडल के सौंध गाँव में गौ-रक्षक गोपाल सोरौत को गौ-तस्करों ने गोली मार दी, गौ-रक्षक गोपाल सोरौत हमेशा गौ-तस्करों से गायों की जान बचाने का काम करता था. कई बार गायों से भरी गाड़ियों को पकडवा चुका था इसलिए गौ-तस्कर उसकी जान के पीछे पड़े थे और कई बार धमकियाँ दी थी, 29 जुलाई 2019 को भी गोपाल सोरौत ने गायों से भरी एक ट्रक का पीछा किया, जब गौ-तस्करों को लगा कि हम पकड़ लिए जाएंगे तो उन्होंने गौ-रक्षक गोपाल को गोली मार दी.

गोली लगने के बाद बाइक सवार गोपाल किसी तरह अपने घर पहुंचा और अपने घर वालों से सिर्फ इतना बोल पाया - मुझे गौ-तस्करों ने गोली मार दी है, मेरी जान बचा लो. इतना कहते ही गोपाल बेहोश हो गया लेकिन उसे दोबारा होश नहीं आया. गोली उसके गुप्तांग के पास लगी थी. उसे आनन फानन में अस्पताल पहुंचाया गया जहाँ डॉक्टरों से उसे मृत घोषित कर दिया.

नेता लोग भले ही गोपाल मर्डर केस में अब तक खामोश हों लेकिन देश भरा के लोग गोपाल के लिए न्याय मांग रहे हैं, सोशल मीडिया पर गोपाल की पोस्ट वायरल की जा रही है. गोपाल को शहीद बताकर उसके परिवार की आर्थिक मदद की अपील की जा रही है और हजारों लोग गोपाल के परिवार की आर्थिक मदद कर भी चुके हैं.

पलवल के SP के पास की गयी अवैध खनन और जमुना रेती की चोरी की शिकायत, पढ़ें

palwal-sp-complained-illegal-mining-and-yamuma-reti-chori-news

पलवल: पलवल के एसपी के पास यमुना रेती के अवैध खनन की शिकायत की गयी है, शिकायतकर्ता विजयपाल ने अपनी शिकायत में लिखा है - मैं विजयपाल गाँव मुस्तफाबाद (खटका) तहसील एवं जिला पलवल थाना चांदहट का रहने वाला हूँ.

श्रीमान जी, मैंने पहले भी कई बार गाँव तथा आसपास के लोगों के द्वारा किये जा रहे खनन की शिकायत आपके थाने में दी थी प्रांत आज तक किसी भी शिकायत पर कोई भी कार्यवाही नहीं हुई, कोई FIR दर्ज नहीं हुई.

श्रीमानजी, हमारे गाँव के पास तथा जमना के भीतर से अवैध खनन का काम किया जा रहा है तथा जमुना रेती चोरी को बड़े पैमाने पर किया जा रहा है जिसके कारण पर्यावरण भूमि तथा गाँव के रास्ते तथा गाँव के लोगों को रोजाना ट्रेक्टर, JCB, हाइवा से खतरा बना रहता है.

पिछले दिनों फरीदाबाद माइनिंग की टीम भी मौके पर पहुंची और निरीक्षण करते हुए कुछ लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराई थी लेकिन उसके बाद कोई कार्यवाही नहीं हुई.

श्रीमानजी, अब रोजाना महाबलीपुर की जमना रेती की चोरी करके गाँव के खेतों में स्टॉक किया जा रहा है, रोजाना 24 घंटे अवैध खनन और रेती की चोरी की जा रही है, कृपा करके कानूनी कार्यवाही की जाय.

घुघेरा-आमरू रोड पर बदमाशों ने गोली चलाकर लूटी बाइक, फोन और पर्स, बाइक सवार युवक को पीटा

palwal-amru-ghughera-road-loot-case-cd-diluxe-purse-mobile-looted

पलवल: पलवल जिले में आमरू-घुघेरा रोड पर 18 जून को शाम 8.30 बजे  बन्दूक के दम पर लूट की वारदात सामने आयी है. एक बाइक पर आये चार बदमाशों ने सीडी डिलक्स बाइक सवार गजेन्द्र को पीछे से टक्कर मारी, जब गजेन्द्र बाइक लेकर गिर पडा तो बदमाशों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी और हवाई फायरिंग की.

उसके बाद बदमाशों ने गजेंदर से उसका पर्स, मोबाइल और बाइक छीन लिया और वहां से फरार हो गए.

इस वारदात के बाद पुलिस को 100 नंबर पर फोन किया गया. पुलिस ने फोन नहीं उठाया तो पलवल सदर थाने को सूचना दे दी गयी, पलवल सदर से हथीन गेट चौकी का नंबर दिया.

पीड़ितों ने हथीन गेट पुलिस चौकी में जाकर इस वारदात की शिकयत की. पुलिस ने वारदात स्थल का दौरा किया और आसपास के लोगों से फायरिंग की बात पूछी, लोगों ने बताया कि हमने फायरिंग की आवाज सुनी थी.

पुलिस ने FIR दर्ज करके कार्यवाही शुरू कर दी है.

पलवल में दुकानदार ने युवक पर लगाया दुकान में घुसकर लूटने, मारपीट का आरोप, पुलिस में शिकायत

palwal-police-complaint-shoper-allege-youth-loot-and-maarpeet

पलवल: पलवल के एक दुकानदार ने एक युवक पर दुकान में घुसकर पैसे छीनने और मारपीट का आरोप लगाया है. पुलिस में शिकायत भी दी गयी है हालाँकि अभी तक FIR दर्ज नहीं की गयी है.

शिकायत में दी गयी सूचना के अनुसार - मैं अंशुल गर्ग पुत्र राजकुमार गर्ग, निवासी सब्जी मंडी पलवल का रहने वाला हूँ, मेरी सब्जी मंडी में परचून की दुकान है, दिनाक 4 जून 2019 को करीब 4.30 बजे शाम को जब मैं अपनी दुकान पर बैठा हुआ था तो इसी दौरान रिषभ पुत्र बिल्लू निवासी अनाज मंडी पलवल दो अज्ञात व्यक्तियों के साथ आया, दोनों व्यक्ति दुकान के बाहर खड़े हो गए और रिषभ ने मेरी दुकान में घुसकर मेरे साथ मारपीट की और मेरी जेब से 10 हजार रुपये छीन लिए.

police-complaint-news

पहले इस वारदान की सूचना कैम्प पलवल थाना में दी गयी लेकिन पुलिस कार्यवाही नहीं हुई, अब उसकी शिकायत ACP पलवल को दी गयी थी जिसे वापस कैम्प पलवल थाने में मार्क कर दिया गया है.

police-complaint-news

युवती के रेप-मर्डर केस में GRP पुलिस की कार्यवाही से नाराज परिजनों की मदद को आगे आये करण दलाल

rape-murder-case-in-palwal-karan-dalal-meet-grp-police-station

फरीदाबाद: पलवल के विधायक करण दलाल ने आज पलवल GRP पुलिस से मुलाकात करके रेप-मर्डर केस में कार्यवाही की जानकारी हासिल की, वारदात की शिकर मृतक युवती का परिवार पुलिस की कार्यवाही से संतुष्ट नहीं है, हाल ही में पीड़ित परिवार ने करण दलाल से मुलाकात की और उनसे मदद मांगी, करण दलाल ने आज पलवल GRP पुलिस थाने में जाकर पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाया और उनके खिलाफ एक्शन लेने की चेतावनी दी.

जानकारी के अनुसार यह मामला गाँव सुनेहरी पलवल का है, बाहुबलियों के चार पांच लड़कों ने एक गरीब माँ-बाप की लड़की का अपहरण कर लिया, उसे सूनसान इलाके में ले जाकर गैंगरेप किया और उसे मारकर असावती रेलवे स्टेशन के पास रेल की पटरियों पर लिटा दिया.

इस मामले में GRP पुलिस ने दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. आरोपी काफी प्रभावशाली परिवार से हैं, पीड़ित परिवार से आरोप लगाया कि पुलिस चौकी में आरोपियों को बिठाकर उनकी मेहमानों जैसी खातिरदारी की जा रही है. पुलिसवाले मामले को रफा दफा करना चाहते हैं.

पीड़ित परिवार ने इस मामले में SIT जांच की मांग की है. अब देखते हैं कि पीड़ित परिवार को न्याय मिलता है या इस जघन्य रेप और हत्याकांड को दबा दिया जाता है.

दिघोट गाँव में कांड, उधार नहीं दिया तो दबंगों ने पूरे परिवार को बुरी तरह मारा, पुलिस में शिकायत

palwal-dighot-village-hindpal-family-attack-by-pritam-ram-lal-others

पलवल: पलवल के दिघोट गाँव में मारपीट की वारदात सामने आयी है, स्थानीय पुलिस चौकी में शिकायत दी गयी है लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही सामने नहीं आयी है.

पुलिस में दी गयी शिकायत के अनुसार - मैं हिन्दपाल पुत्र बालूलाल गाँव दिघोट का स्थायी निवासी हूँ, 5 जून 2019 को शाम 8 बजे के करीब मैं अपनी दुकान पर बैठा था, तभी प्रीतम एवं पप्पू दूकान पर शराब पीकर आये और उधार सामान मांगने लगे, मेरे पापा ने उधार देने से मना कर दिया, इसके बाद वे तीनों बहन बेटी की गाली देने लगे. प्रीतम ने फोन करके अपने बेटे रामलाल को बुला लिया, उनसे साथ में हरवीर, भागो, करन भी आये.

शिकायत में आगे लिखा गया है - रामलाल के हाथ में लाठी, करन के हाथ में कुल्हाड़ी, हरवीर एवं प्रीतम के हाथ में लाठी एवं फरसा था, एक महिला जिसका नाम भागो है उसके हाथ में भी लाठी थी.

उपरोक्त सभी आरोपियों ने वहां पहुँचते ही हम पर वार कर दिया, मैंने अपने माता-पिता को बचाने की कोशिश की तो हमपर भी वार कर दिया. हम लोगों को आसपास के लोगों ने बीच बचाव करके बचाया, जाते जाते वे लोग कह गए कि अगर पुलिस को सूचना दी तो जान से मार देंगे. 

पुलिस से मुकदमा दर्ज करके कार्यवाही करने की अपील की गयी है. हमले में घायल तीनों लोगों को पहले सिटी पलवल अस्पताल ले जाया गया, हालत गंभीर होने के कारण तीनों को सफदरजंग रेफर कर दिया गया. अब तीनों खतरे से बाहर हैं और अपने गाँव दीघोट वापस आ गए हैं, पुलिस ने अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है.

मोदी के मंत्री कृष्णपाल गुर्जर को अब तेजी से कराना होगा फरीदाबाद-पलवल का विकास, जनता चाहती है..

minister-krishan-pal-gurjar-should-start-development-faridabad-palwal

फरीदाबाद: देश में तीसरी सबसे बड़ी जीत हासिल करने वाले फरीदाबाद के सांसद कृष्णपाल गुर्जर ने 30 मई 2019 को मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में मंत्री पद की शपथ ली है, फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र की जनता ने उन्हें तीसरी सबसे बड़ी जीत दिलाई इसलिए कृष्णपाल गुर्जर की जिम्मेदारी भी बढ़ गयी है. कृष्णपाल को अब फरीदाबाद और पलवल जिले का तेजी से विकास कराना होगा ताकि तीसरी बार उन्हें फिर से जनता का आशीर्वाद मिल सके.

कृष्णपाल गुर्जर इससे पहले पार्ट-1 में भी केंद्रीय राज्य मंत्री थे, पार्ट-2 में भी उन्हें राज्य मंत्री का पद मिला है.

आपको बता दें कि कृष्णपाल गुर्जर को उनके विरोधियों ने टिकट पाने और उसके बाद चुनाव जीतने से रोकने के लिए साम दाम दंड भेद सब रणनीति अपना ली लेकिन कृष्णपाल गुर्जर ने ना सिर्फ टिकट हासिल की बल्कि तीसरे सबसे बड़े अंतर से जीत दर्ज की. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें इसका इनाम दिया और अपने मंत्रिमंडल में शामिल किया है.

कृष्णपाल गुर्जर ने फरीदाबाद में 6.38 लाख के अंतर से कांग्रेस प्रत्याशी अवतार भडाना को हराया था. उन्होंने देश में तीसरी सबसे बड़ी जीत दर्ज की थी.

कृष्णपाल गुर्जर पर फरीदाबाद के विकास की जिम्मदारी के साथ साथ भ्रष्टाचार, घोटाले, कमीशनखोरी और अन्य समस्याओं को भी ख़त्म करने की जिम्मेदारी है, लोकसभा क्षेत्र में कई विधानसभाओं में घटिया सीमेंटेड रोड बनाकर मोटा कमीशन लूटा जा रहा है, पार्कों के नवीनीकरण और सौन्दर्यीकरण के नाम पर लूट चल रही है, ग्रीन बेल्ट पर कब्जे किये जा रहे हैं, अवैध ठेके खोले जा रहे हैं. हर चौराहों पर ठेके खुल गए हैं, शहर में शराब माफियाओं का राज चल रहा है, अगर कृष्णपाल गुर्जर इन बुराइयों को ना ख़त्म कर सके तो तीसरी बार उन्हें जीतने में मुश्किल होगी.