Palwal Assembly

Showing posts with label NIT Faridabad. Show all posts

हुड्डा ने नीरज शर्मा को दिया ये पद, पढ़ें

hooda-appoint-neeraj-sharma-sachetak-of-congress-in-vidhansabha

फरीदाबाद: एनआईटी विधानसभा से कांग्रेस पार्टी के विधायक नीरज शर्मा को पार्टी की तरफ से व्हिप (सचेतक) की जिम्मेदारी दी गई है। 

कांग्रेस पाटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विपक्ष के नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने कांग्रेस पार्टी के चुने हुए विधायकों में से चौ. आफताब अहमद को उप नेता, राव दान सिंह को महासचिव, वरुण चौधरी को सचिव, धर्मसिंह छोकर को कोषाध्यक्ष, भारत भूषण बत्रा को मुख्य सचेतक एवं नीरज शर्मा, चिरंजीव राव एवं शीशपाल सिंह को विधानसभा में सचेतक नियुक्त किया है। 

अपनी नियुक्ति पर नीरज शर्मा ने विपक्ष के नेता चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा एवं कांग्रेस पार्टी की प्रदेश अध्यक्षा कुमारी शैलजा का आभार व्यक्त किया और कहा कि जो जिम्मेदारी उनको पार्टी द्वारा दी गई है, उसका वह पूरी ईमानदारी एवं तन्मयता के साथ पालन करेंगे। इसके अतिरिक्त प्रदेश की जनता की भलाई से सम्बंधित सभी मामलों एवं पाटी के हितों की रक्षा के लिए सदन की बैठक में हमेशा आवाज उठाता रहूंगा। 

BJP उम्मीदवार बदल दिया जाता, या उम्मीदवार अपना व्यवहार बदल लेता तो NIT में भी खिल जाता कमल

why-bjp-lost-election-in-nit-vidhansabha-86-faridabad-nagender-bhadana

फरीदाबाद, 29 अक्टूबर: हरियाणा में भाजपा की सरकार बन चुकी है, फरीदाबाद की 9 में से 7 सीटों पर कमल खिला है और निर्दलीय विधायक नयनपाल रावत के भाजपा को समर्थन देने के बाद 8 सीटों पर कमल खिल चुका है। अब सिर्फ NIT फरीदाबाद विधानसभा कांग्रेस के खाते में है। 

चुनाव से पहले हमने पूरी NIT विधानसभा का सर्वे किया। अधिकतर लोग कमल खिलाना चाहते थे लेकिन उन्हें उम्मीदवार और उनका व्यवहार पसंद नहीं था इसलिए यहाँ पर कांग्रेस की जीत हुई, अगर भाजपा ने उम्मीदवार बदल दिया होता या उम्मीदवार अपना व्यवहार बदल लेता तो यहाँ पर भी कमल खिल जाता। 

कोई भी विधायक अपने क्षेत्र का 100 फ़ीसदी विकास नहीं कर सकता, यहाँ तक कि अगर प्रधानमंत्री मोदी को किसी क्षेत्र का विधायक बना दिया जाए तो भी वह 100 फ़ीसदी विकास नहीं कर पाएंगे, कुछ ना कुछ कमी रह ही जाती है लेकिन विधायक को उस बात को स्वीकार करना चाहिए और जनता को भी यह बात समझानी चाहिए। 

नगेंदर भड़ाना इनेलो पार्टी से चुनाव जीतकर विधायक बने थे, कोई भी सत्ताधारी पार्टी विपक्षी पार्टी के विधायक को पैसे नहीं देती लेकिन नगेंदर भड़ाना ने भाजपा सरकार से तालमेल बिठाया, तालमेल बिठाने में डेढ़-दो साल निकल गए। तालमेल बिठाने के बाद क्षेत्र का विकास कराने के लिए नगेंदर भड़ाना के पास सिर्फ 3 साल बचे थे, इन तीन वर्षों में उन्होंने कई रोड बनवाये, कई गलियां भी बनवायीं, कई कॉलोनियों में सीवर बिछाने के लिए सड़कों को खोद दिया गया लेकिन तय समयानुसार काम नहीं हो पाया जिसकी वजह से जलभराव की समस्या पैदा हो गयी, नगेंदर भड़ाना जनता को यह भी नहीं समझा पाए कि ये सब काम आपके ही लिए किये जा रहे हैं। 

तीन वर्षो में भाजपा ने उन्हें करीब पौने 300 करोड़ रुपये दिए। अगर समझदारी से विचार करें तो NIT का विकास करने, सीवर, रोड, बिजली के खम्बे, लाइट, वाटर पाइपलाइन, गलियां पक्की करने, पार्क बनाने और जल निकासी की व्यवस्था करने के लिए कम से कम 5000 करोड़ रुपये रुपये चाहिए। इतना पैसा भाजपा दूसरी पार्टी के विधायक को कभी दे ही नहीं सकती। इसीलिए इस बार नगेंदर भड़ाना को भाजपा की टिकट दी गयी। 

नगेंदर भड़ाना ने कुछ महीनों पहले भाजपा ज्वाइन की थी। उन्होंने भाजपा तो ज्वाइन कर ली लेकिन NIT मंडल के भाजपा कार्यकर्ताओं को अपना नहीं बना पाए। अगर उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं, क्षेत्र के पार्षदों को अपना बना लिया होता तो ये कार्यकर्ता उन्हें चुनाव जिताने के लिए जी जान से जुट जाते और नगेंदर भड़ाना को हार का मुंह ना देखना पड़ता। 

चुनाव प्रचार के दौरान नगेंदर भड़ाना अकेले ही अपनी ढपली बजाते रहे, उनके साथ ना तो भाजपा कार्यकर्ता दिखे और ना ही संघ के कार्यकर्ता। इससे जनता में उनके प्रति निगेटिव सन्देश गया कि जब भाजपा कार्यकर्ता ही उनका साथ नहीं दे रहे हैं तो हम उन्हें वोट क्यों दें, नगेंदर भड़ाना कई क्षेत्रों में प्रचार करने गए ही नहीं। वह सिर्फ अपने पक्के वोट बैंक को साधने में लगे रहे। उन्हें गुर्जर वोटबैंक पर अधिक भरोसा था इसलिए गुर्जर महापंचायत करके अपने लिए समर्थन माँगा लेकिन उन्हें इसका सबसे अधिक नुकसान हुआ क्योंकि जाट सहित अन्य समाज के लोग उनसे नाराज हो गए। 

2014 में नगेंदर भड़ाना का स्वभाव जनता को बहुत पसंद था। सबसे मिलना, सबसे राम राम करना। जनता को उनका सिंपल और साधारण स्वरूप बहुत पसंद था। पानी सप्लाई करके उन्होंने पहले ही जनता का दिल जीत लिया था। 2019 चुनाव में वह एक विधायक के रूप में चुनाव प्रचार करने गए। जनता को उनसे उम्मीद थी कि उनकी गली में आकर वह वोट जरूर मांगेगे और काम में जो कुछ कमी रह गयी है उसके लिए माफी मांगेंगे लेकिन नगेंदर भड़ाना ने कई कॉलोनियों में प्रचार ही नहीं किया। कमी-बेसी के लिए जनता से माफी भी नहीं मांगी। अपने ही गुरूर में पड़े रहे, भाजपा कार्यकर्ताओं और संघ को भी अपने साथ नहीं लिया  जो घर घर जाकर उनके काम का प्रचार करें और जनता को भाजपा सरकार का फायदा बताएं। 

यही सब वजहें उनकी हार का कारण बनी। अगर वह अपना स्वभाव बदल लेते और विकास कार्यों में कमी-बेसी के लिए जनता से माफी मांग लेते तो न सिर्फ उनकी जीत होती, हो सकता है कि उन्हें कोई मंत्री पद भी मिल जाता। अब सरकार भाजपा की है, विधायक कांग्रेस का है। पता नहीं कोंग्रेसी विधायक को विकास के लिए पैसे मिलेंगे या जनता को पांच साल इसी हालत में गुजारने पड़ेंगे। 

चुनाव से 2 दिन पहले मूलचंद शर्मा ने खोद दी नगेंदर भड़ाना की गोभी, वरना उनकी भी होती जीत

why-nagender-bhadana-lost-in-nit-vidhansabha-faridabad-news

फरीदाबाद, 27 अक्टूबर: ऐसा कोई सपने में भी नहीं सोच सकता कि एक भाजपा प्रत्याशी अपने क्षेत्र में विकास की तारीफ करे लेकिन दूसरे भाजपा प्रत्याशी के क्षेत्र में विकास की गोभी खोदे लेकिन फरीदाबाद में ऐसा ही हुआ।

बल्लभगढ़ के विधायक मूलचंद शर्मा अपने क्षेत्र में विकास की तारीफ करने के लिए पडोसी विधानसभा क्षेत्र NIT में विकास की गोभी खोदते थे। जनता से कहते थे - NIT खुदी पड़ी है सारी लेकिन बल्लभगढ़ की जनता है भाग्यशाली।

चुनाव से दो दिन पहले मूलचंद शर्मा का वीडियो वायरल हुआ जो NIT के भाजपा प्रत्याशी नगेंदर भड़ाना के लिए बहुत ही नुकसानदायक साबित हुआ और 3242 वोटों से उनकी हार हो गई।

बात दरअसल ये हुई कि, नगेंदर भड़ाना ने अपने क्षेत्र में विकास कराने का कफी प्रयास किया। उन्होंने सीवर लाइन बिछाने के लिए कई कॉलोनियों की सड़कों को खुदवा दिया लेकिन रोड बनाने में कुछ देरी हो गयी, कई कॉलोनियों में जलभराव की समस्या पैदा हो गयी कर कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा को मुद्दा मिल गया। 

इतना तो सब समझते हैं कि विपक्षी नेता सत्ताधारी नेता के काम की तारीफ नहीं करते लेकिन जब सत्ताधारी विधायक ही कह रहा है कि - NIT तो खुदी पड़ी है सारी। तो जनता यकीन करेगी ही। देखें वीडियो - 



यह वीडियो इतना अधिक वायरल हुआ कि देखते ही देखते नगेंदर भड़ाना की गोभी खुद गयी और कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा की जीत हो गयी। कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा अपनी जीत के लिए बल्लभढ़ के विधायक मूलचंद शर्मा को धन्यवाद बोलना चाहिए। 

NIT की जंग जीतकर घर से निकले पंडितजी के तीनों लाल

neeraj-sharma-win-faridabad-nit-86-vidhansabha-agaist-nagender-bhadana

फरीदाबाद, 24 अक्टूबर: हरियाणा विधानसभा चुनाव में भाजपा को भले ही बहुमत ना मिला हो लेकिन फरीदाबाद की 9 विधानसभा सीटों में भाजपा को बहुत मिला है और 7 सीटों पर सीट हुई है। फरीदाबाद में भाजपा लहर के बावजूद भी NIT विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा की जीत हुई है। 

नीरज शर्मा ने भाजपा प्रत्याशी नगेंदर भड़ाना को करीब 3500 वोटों से हरा दिया है। चुनाव जीतने के बाद पंडितजी के तीनों लाल घर से बाहर निकले और विक्ट्री शाइन दिखाकर समर्थकों को धन्यवाद दिया। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नीरज शर्मा को 61697 वोट मिले हैं जबकि नगेंदर भड़ाना को 58455 वोट मिले हैं। तीसरे नंबर पर हाजी करामात अली हैं जिन्हें 17574 वोट मिले हैं। 

सीक्रेट रिपोर्ट, फरीदाबाद की 6 सीटों में नीरज शर्मा भाजपा पर भारी, बाकी जगह कांटे की टक्कर

secret-report-on-faridabad-election-congress-may-win-nit-86-neeraj-sharma

फरीदाबाद, 23 अक्टूबर: कल हरियाणा चुनाव के फाइनल नतीजे आ जाएंगे और पता चल जाएगा कि हरियाणा में किसकी सरकार बन रही है लेकिन अलग अलग एग्जिट पोल ने राजनीतिक पार्टियों के खेमे में खलबली मचा रखी है। आज हमारे पास फरीदाबाद की एक सीक्रेट रिपोर्ट आयी है। 

सीक्रेट रिपोर्ट के अनुसार फरीदाबाद जिले की 6 विधानसभा सीटों में सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी भाजपा पर भारी दिख रहे हैं और वो है NIT-86 विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा। यहाँ पर कांग्रेस की जीत तय मानी जा रही है और इसकी वजह हो सकती है पूर्व मंत्री शिवचरण लाल शर्मा के प्रति जनता की सहानुभूति और वर्तमान विधायक नागेंद्र भड़ाना के प्रति भारी नाराजगी।

नीरज शर्मा के भारी पड़ने की यह भी वजह है कि उन्होंने सिर्फ अपने दिवंगत पिता शिवचरण लाल शर्मा के काम पर जनता से वोट माँगा, उन्होंने ना तो मुख्यमंत्री मनोहर पर अटैक किया कर ना ही प्रधानमंत्री मोदी पर और ना ही हरियाणा की भाजपा सरकार पर, उन्होंने सिर्फ विधायक नागेंद्र भड़ाना को टारगेट किया इसलिए उन्हें टिकट बंटवारे से नाराज भाजपा कार्यकर्ताओं का भी समर्थन मिला है, यही नहीं उन्होंने कांग्रेस के किसी भी बड़े नेता से रैलियां नहीं करवाईं क्योंकि ये नेता रैलियों में मोदी-खट्टर के बारे में उल्टा सीधा बोलकर जनता को नाराज कर सकते थे। नीरज शर्मा की यह चालाकी भी उनके काम आयी है। 

अन्य विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा और कांग्रेस में कांटे की टक्कर है। फरीदाबाद विधानसभा से लखन सिंगला की जीत पहले आसान लग रही थी लेकिन उन्होंने कुमारी शैलजा, दीपेंद्र हुड्डा और अन्य कोंग्रेसी नेताओं से रैलियां करवाकर भाजपा, मोदी, खट्टर के बारे में अनाप शनाप बयान दिलवाया जिसकी वजह से टिकट बंटवारे से नाराज भाजपा कार्यकर्ता जो उनकी तरफ मुड़ रहे थे, उन्हें भी थोड़ा सा बुरा लगा और लखन की एकतरफा जीत कांटे की टक्कर में बदल गयी है। हार-जीत में ज्यादा वोटों का अंतर नहीं होगा। जीत किसी की भी हो सकती है। अगर लखन अपनी 30 साल की समाजसेवा पर भरोसा करते तो उनकी एकतरफा जीत हो सकती थी। अब वहां भाजपा और कांग्रेस किसी भी पार्टी की जीत तय नहीं मानी जा रही है।

तिगांव विधानसभा में भी ललित नागर की जीत तय मानी जा रही थी लेकिन चुनाव के कुछ दिन पहले कृष्णपाल गुर्जर की सेना पूरी तरह से एक्टिव होकर राजेश नागर को जिताने में लग गयी। इसके बाद ललित और राजेश नागर के बीच कांटे की टक्कर हो गयी। यहाँ भी जीत-हार में अधिक वोटों का अंतर नहीं होगा।

पृथला विधानसभा में नयनपाल सोहनपाल का काम बिगाड़ सकते थे लेकिन सुरेंद्र वशिष्ठ और रघुबीर तेवतिया ने भी अच्छे खासे वोट हासिल करके मुकाबला चतुर्कोणीय बना दिया है। भाजपा के परंपरागत मतदाता भाजपा को जीत की तरफ ले जाते दिख रहे हैं। अगर सुरेंद्र वशिष्ठ और रघुवीर तेवतिया कमजोर प्रत्याशी होते तो एंटी-बीजेपी वोटर नयनपाल के साथ हो जाते और उनकी जीत हो सकती थी। पृथला में एंटी-बीजेपी वोट तीन प्रत्याशियों में बंटने से तीनों को नुकसान हुआ है, वोट बंटने का फायदा भाजपा को मिला है।

बड़खल विधानसभा में भी भाजपा बढ़त में दिखाई दे रही है। बल्लभगढ़ विधानसभा में दीपक और मूलचंद शर्मा के बीच कांटे की टक्कर है।

खुफिया रिपोर्ट के अनुसार हरियाणा में भाजपा की ही सरकार बनेगी। खुफिया रिपोर्ट के अनुसार जनता ने भले ही मतदान में उत्साह नहीं दिखाया लेकिन भाजपा और कांग्रेस के परंपरागत वोटरों ने मतदान किया है, भाजपा को मोदी-खट्टर फैक्टर को ध्यान में रखकर मतदान किया गया है. जहाँ जहाँ भाजपा विधायकों ने अच्छा काम नहीं किया वहीं पर कांटे की टक्कर है, बाकी जगह भाजपा के पक्ष में माहौल है। 

वोटकटवों से बचें, अपना कीमती वोट कांग्रेस को दें और मुझे एक बार सेवा का मौका दें: नीरज शर्मा

congress-candidate-neeraj-sharma-appeal-to-aware-vote-katwa-candidate

फरीदाबाद, 12 अक्टूबर: NIT विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व मंत्री शिवचरण लाल शर्मा ने क्षेत्र के मतदाताओं से अपील करते हुए कहा है कि पंडित परिवार ने हमेशा क्षेत्र के लोगो की सेवा की है, हमें एक बार फिर सेवा का मौक़ा दें और 21 अक्टूबर को पंजे का बटन दबाकर मुझे विजयी बनाएं। 

नीरज शर्मा ने क्षेत्रवासियों से वोटकटवों से बचने की अपील की है। उन्होंने कहा कि वोटकटवा प्रत्याशी ना तो खुद जीतेंगे और हमारे रास्ते में भी मुश्किल खड़ी करेंगे, इसलिए इन्हें वोट देकर अपने कीमती वोटों को खराब ना करें, आप लोग अपना कीमती वोट सिर्फ कांग्रेस को दें। 

नीरज शर्मा ने कहा कि अगर 21 अक्टूबर को आपका आशीर्वाद मिला तो क्षेत्र में तेज गति से विकास शुरू होगा और बंद पड़े स्कूल, सरकारी अस्पताल फिर से शुरू करवाकर जनता को बिजली-पानी और अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने यह भी कहा कि बंद पड़े सीवर, टूटी सड़कों को जल्द से जल्द सही करवाकर जनता को इन समस्याओं से मुक्त किया जाएगा। 

नीरज शर्मा ने कहा कि पंडित शिवचरण लाल शर्मा हमेशा जनता के भविष्य के बारे में सोचते थे, इसीलिए उन्होंने डबुआ में लेजर वैली पार्क बनवाया, सेक्टर-55 में अस्पताल बनवाया, कई अन्य पार्क बनवाए, गौंछी नाला बनवाकर जनता को नरक से आजादी दिलावाई, स्कूल, कॉलेज बनवाएं लेकिन वर्तमान विधायक ने इन चीजों की देखभाल नहीं की। अगर आपने हमें आशीर्वाद दिया तो पंडित जी के अधूरे सपने को पूरा करवाकर क्षेत्र का सम्पूर्ण विकास करवाया जाएगा। इसलिए वोट कटवा प्रत्याशियों से बचें और हमें वोट देकर भरी मतों से विजयी बनवाएं। 

बढ़ता जा रहा नीरज शर्मा के समर्थकों का कुनबा, राजीव कॉलोनी में वैष्णव समाज ने दिया समर्थन

nit-86-congress-candidate-neeraj-sharma-get-vashnav-samaj-support

फरीदाबाद, 10 अक्टूबर: पूर्व मंत्री दिवंगत पंडित शिवचरण लाल शर्मा के पुत्र और NIT-86 से कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा के समर्थकों का कुनबा रोजाना बढ़ता ही जा रहा है, आज राजीव कॉलोनी वार्ड-1 में एक सभा में वैष्णव समाज ने उन्हें समर्थन देकर 21 अक्टूबर को पंजे का बटन दबाकर नीरज शर्मा को चुनाव जिताने का वादा किया। 

इस अवसर पर डॉक्टर राजेंदर वैष्णव, जगवीर वैष्णव, कृपाल वैष्णव, छगन वैष्णव, गोवर्धन वैष्णव, खेमचंद वैष्णव, कृष्ण वैष्णव, परमा वैष्णव, शुकपाल वैष्णव, डब्बू वैष्णव, संदीप वैष्णव, गजेंदर वैष्णव, दयाराम वैष्णव, विश्राम वैष्णव, गिरधारी वैष्णव, हरीचंद वैष्णव मौजूद थे। 

इस अवसर पर पंडित मुनेश शर्मा ने कहा कि पंडित परिवार ने हमेशा विधानसभा क्षेत्र की जनता की सेवा की है, अगर आप लोगों ने 21 अक्टूबर को पंजे का बटन दबाकर नीरज शर्मा को जिताया तो  आपको शिकायत का मौका नहीं मेलगा और क्षेत्र की सभी समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करवाया जाएगा। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि NIT-86 में मुख्य मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा और भाजपा प्रत्याशी नगेंदर भड़ाना के बीच में है, चन्दर भाटिया भाजपा का वोट काटने का काम करेंगे तो करामात अली कांग्रेस का वोट बांटने का काम करेंगे अगर नीरज शर्मा के पक्ष में अल्पसंख्यक समाज के वोट पड़े तो उनकी जीत तय है। 

NIT मे मुख्यमंत्री की रैली भी नहीं कर पायी कोई करिश्मा, वैश्य समाज ने दिया नीरज शर्मा को समर्थन

neeraj-sharma-get-support-of-vaishya-samaj-in-nit-86-vidhansabha

फरीदाबाद, 9 अक्तूबर। जब जनता किसी प्रत्याशी को हारने का मन बना लेती है तो चाहे मुख्यमंत्री रैली करें या प्रधानमंत्री रैली करें, जतना का मूंड नहीं बदल पाती, NIT विधानसभा के पर्वतीया कॉलोनी, जवाहर कॉलोनी, नंगला, डबुआ आदि क्षेत्रों के लोग पिछले तीन चार वर्षों से जिस तरह से नरक जैसा जीवन जी रहे हैं उसके बाद जनता का मूंड बदल गया है, अब पंडित शिवचरण लाल शर्मा के पुत्र और कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा के पक्ष में माहौल बनने लगा है। आज वैश्य समाज ने भी उन्हें समर्थन देकर अगला विधायक बनाने का ऐलान किया। 

neeraj-sharma-nit-vidhansabha

एनआईटी 86 विधानसभा से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ रहे पूर्व मंत्री स्व. शिवचरण लाल शर्मा के सुपुत्र नीरज शर्मा को उस समय भारी ताकत मिली जब नंगला रोड व्यापार मंडल ने अपना पूर्ण समर्थन उनको दिया। 

नंगला रोड मार्किट कमेटी के प्रधान प्रेम सिंह नैन उर्फ भूरी ने जैसे ही माइक संभाला तो नीरज शर्मा के पक्ष में एकतरफा समर्थन की घोषणा करते ही आसमान तालियों से गुंजायमान हो गया। सैकड़ों दुकानदारों ने एक स्वर में कहा कि उनका पूर्ण समर्थन कांग्रेस प्रत्याशी पं. नीरज शर्मा, पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर मुकेश शर्मा व उनके परिवार को है। 

neeraj-sharma-nit-vidhansabha-news

विभिन्न वक्ताओं ने कहा कि वर्तमान पार्षद नगेन्द्र भडाना ने विकास के नाम पर विनाश किया है और वह निजी रंजिश के चलते क्षेत्र के दुकानदारों को परेशान करने में लगे रहे। सालों गुजर जाने के बाद भी नंगला रोड किसी मलिन बस्ती में तब्दील होकर रह गया, जिससे यहां दुकानदारों का भारी नुकसान हुआ। 

नंगला रोड मार्किट एसोसिएशन की बैठक मे बाबूलाल प्रधान, रघुवीर सिंह गर्ग, नैनचंद बठैनिया, अमरचंद मंगला, रमेशचंद सिंगला, बबलू गर्ग, लक्ष्मीनारायण गर्ग, पं. सुभाषचंद, शिक्षाविद त्रिलोकचंद तंवर, खालिद अहमद, इस्लामुदीन खान, अशोक अग्रवाल, अशोक अग्रवाल, प्रेमप्रकाश गुप्ता, विकास नैन, सतबीर नैन, बिजेन्द्र सिंगला व प्रकाशचन्द्र वाष्र्णेय सहित सैंकड़ों दुकानदारों ने फूल-मालाएं डालकर कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा का स्वागत किया।

नंगला रोड मार्किट एसोसिएशन के दुकानदारों को सम्बोधित करते हुए नीरज शर्मा ने कहा कि वह वादा ही नहीं, अपितु विश्वास दिलाते हैं कि 2 माह के अंदर नंगला रोड की सड़क और सीवरेज व्यवस्था सदृढ करा दी जाएगी। उन्हांेने इस मौके पर प्रण लिया कि जिन विकास कार्यों को उनके पिताश्री पूर्व मंत्री शिवचरण लाल शर्मा अधूरा छोड़ गए थे, उन्हंे पूरा कराएंगे। कांग्रेस प्रत्याशी ने उदाहरण देते हुए बताया कि नंगला रोड बूस्टिंग पर उनके पिताजी ने पानी की टंकी बनवाई थी, जिसका कनैक्शन 5 वर्षों में वर्तमान विधायक ने नहीं किया है। इसके चलते क्षेत्र की जनता एक-एक बूंद पानी के लिए तरस रही है और टैंकरों का सहारा लेने को विवश हैं। 

युवा उम्मीदवार नीरज शर्मा ने कहा है कि इस विधानसभा क्षेत्र की जनता को कुछ लोग पागल समझते हैं कि वह रंग रुप बदल कर आ जाएंगें और इस क्षेत्र के लोग उनको पहचान नहीं पाएंगे। उन्हांेने लोगों से आह्वान किया कि अब यदि चूक गए तो फिर 5 साल बाद ही मौका मिलेगा। इस कारण आगामी 21 अक्तूबर को बिना चूके हाथ वाला बटन दबाना और मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि पं. शिवचरणलाल शर्मा जी का सुशासन आपको फिर से लौटाउंगा।

neeraj-sharma-nit-vidhansabha-86-news

जनता का समर्थन पाकर भावुक हुए नीरज शर्मा बोले, आशीर्वाद मिलने पर शिकायत का मौका नहीं दूंगा

neeraj-sharma-congress-candidate-getting-support-of-public-news

फरीदाबाद, 8 अक्टूबर। NIT विधानसभा में कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा के लिए जन-समर्थन बढ़ता ही जा रहा है, आज उन्हें पर्वतीया में जतना ने विधायक बनाने का ऐलान किया जिसे सुनकर नीरज शर्मा ख़ुशी से गदगद हो गए और भावुक होते हुए कहा कि अगर 21 अक्टूबर को NIT विधानसभा के लोगों ने पंजे का बटन दबाया और मुझे सेवा का मौक़ा मिला तो आपको शिकायत का मौका नहीं मिलेगा। 

नीरज शर्मा ने कहा कि  - एनआईटी 86 विधनसभा के लोग यह बात अच्छी तरह से जानते हैं कि पंडित शिवचरण लाल शर्मा का परिवार राजनीति में केवल सेवा करने के लिए आया है और पिछले पांच साल में इस विधानासभा क्षेत्र के लोगों को नरकीय जीवन इस बात का प्रमाण है कि पंडित शिवचरण लाल शर्मा का परिवार जो सेवा कर सकता है, वह दूसरा कोई नहीं कर सकता। 

नीरज शर्मा ने कहा - आप लोग याद कर लो पंडित शिवचरण लाल के शासन के पांच साल जब लोगों ने सैक्टरों के अपने मकानो को छोड़ इन कालोनियों में रहना उचित समझा था और आज इन कालोनियों में लोगों का जीना दूभर हो गया है। 

उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि बहरुपियों से सावधान रहें, जोकि अलग अलग निशान लेकर आपको धोखा देने आ जाते हैं। आपने याद रखना है कि हाथ के निशान के सामने वाला बटन दबाना मतलब खुशहाली लाना है। उल्लेखनीय है कि नीरज शर्मा आज एनआईटी 86 विधानसभा के क्षेत्रों का दौरा कर लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। इस मौके पर उनका अपने मौहल्ले में पहुंचने पर आदि लोगों नेजोरदार स्वागत किया तथा नीरज शर्मा को आश्वत किया कि पिछले विधानसभा में जो गलती उनसे हुई थी वह दोहराई नहीं जाएगी और इस बार हाथ के सामने वाला बटन दबा कर हम पंडित शिवचरण लाल शर्मा को अपना समर्थन व श्रंदाजली देगें। 

इस मौके पर नीरज शर्मा ने सभी लोगों का आह्वान किया कि पंडित परिवार आप के बीच का परिवार है और आम पंडित परिवार और पंडित परिवार आप को जानता है इस कारण अब बहकावे में आने के स्थान पर केवल अपने विकास के लिए वोट करें। इसी प्रकार से क्षेत्रों में जनसम्पर्क के दौरान नीरज शर्मा को लोगों ने खुला समर्थन देने की घोषणा करते हुए कहा कि पिछले पांच साल से जो नरकीय जीवन वह जी रहे हैं उसके बाद अब कोई प्रश्र ही पैदा नहीं होता कि वह पंडित शिवचरण शर्मा परिवार को हाथ के पंजे के निशान पर वोट देने के अतिरिक्त दूसरी तरफ देखें भी। इन लोगों को सम्बोधित करते हुए नगर निगम के पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेश शर्मा ने कहा कि पंडित परिवार लोगों को सुविधा देने की राजनीति करता है न कि दलों में उछल कूदकर अपने घर भरने की राजनीति। 

आज के जनसम्पर्क अभियान के दौरान युवा समाजसेवी मुनेश पंडित ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि पिछले पांच साल में जिस व्यक्तिने एनआईटी 86 क्षेत्र की सुध नहीं ली वह अब अपने कपडों का रंग बदलकर आप लोगों के बीच आ रहा है, आपको इस बात से चौकन्ना रहना है कि आदमी की नीयत व आदत कपडे बदलने से नहीं होती, क्योंकि जो कल किसी के साथ, परसों किसी के साथ, तरसों किसी के साथ तो आप खुद अंदाजा लगाओ कि वह आप के साथ कैसे रह सकता है। 

आज के जनसम्पर्क अभियान के दौरान पर्वतीय कॉलोनी नैन वाटिका में नीरज शर्मा का भव्य स्वागत किया गया। इस मौके पर सत्यदेव नैन, राकेश वर्मा, हरजिन्दर शर्मा, धर्म प्रकाश, सतबीर डांगी, सिकंदर सिंह, चौ. हरपाल सिंह, भोजराज पंडित, राजीव शर्मा, राम अवतार, चन्द्रभान त्यागी, महाशय तुली नैन, गजे शर्मा, चरणजीत सिंह, चौ. राममेहर सिंह ने प्रत्याशी नीरज शर्मा का जोरदार स्वागत किया। नीरज शर्मा ने इसके अतिरिक्त मंगलवार को एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के कुरैशीपुर, मादलपुर, फतेहपुर, खोरी जमालपुर, फतेहपुर तगा, धौज, आलमपुर आदि गांवों के सरपंच एवं सरदारी प्रमुख रुप से उपस्थित रहे। 

राजीव कॉलोनी में नुक्कड़ सभा करने गए थे नीरज शर्मा, वहां हो गयी जनसभा, जनता ने गोद में उठा लिया

neeraj-sharma-nit-86-vidhansabha-congress-candidate-getting-support

फरीदाबाद, 7 अक्तूबर। NIT विधानसभा में इस बार भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर दिखाई दे रही है, भाजपा ने नगेंदर भड़ाना को और कांग्रेस ने पंडित शिवचरण लाल शर्मा के बेटे नीरज शर्मा को टिकट दी है, नीरज शर्मा को प्रशासन का काफी अनुभव है क्योंकि वह झारखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री के OSD रह चुके हैं. NIT विधानसभा में अब नीरज शर्मा की जमकर चर्चा हो रही है, उनके भाषण सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, वह ना सिर्फ अच्छे वक्ता हैं, व्यवहार में भी पंडित शिवचरण शर्मा जैसे ही हैं.

रविवार को नीरज शर्मा वार्ड 1, राजीव काॅलोनी में प्रचार करने पहुंचे, तो वह यह देखकर दंग रह गए कि यहां के लगभग 25 हजार से भी ज्यादा निवासी पलक पावड़ा बिछाए उनका इंतजार कर रहे थे। यह देख सभी दंग रह गए कि यहां यह चुनावी कार्यक्रम 36 बिरादरियों की महासभा में तब्दील हो गया। सैंकड़ों की तादाद में छोटे-बड़े नेता स्टेज पर मौजूद थे, जिससे स्टेज भी छोटा पड़ गया और आयोजकों को स्टेज पर चढ़ने वालों को शांत कराना पड़ा। मैरिज गार्डन में आयोजित इस कार्यक्रम में पांव रखने की जगह नहीं थी और हर तरफ एक ही नारा ‘नीरज तुम आगे बढ़ो, हम तुम्हारे साथ हैं’ ‘अबका विधायक नीरज प्यारा, सबसे न्यारा’ गूंज रहा था। 

महासभा में सभी वर्ग और सभी जाति के वक्ताओं ने जोश भरे अंदाज में अपने मन की भड़ास निकालते हुए कहा कि पिछले 5 वर्षों से वह खुद को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। कारण एक ही है कि यहां विकास के नाम पर सिर्फ विनाश ही हुआ है। वक्ताओं ने यह भी कहा कि जब एनआईटी 86 विधानसभा से पूर्व मंत्री स्व0 पं0 शिवचरणलाल शर्मा विधायक थे, तब यहां विकास की झड़ी लगी। उनके 2014 में हारने के उपरांत राजीव काॅलोनी का हजारों की आबादी वाला यह क्षेत्र विकास विहीन हो गया है। 

वक्ताओं ने कहा कि वह आने वाले समय में कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा को भारी मतों से जिताकर विधानसभा में भेजेंगे, ताकि वह अपने पिताश्री पं. शिवचरणलाल शर्मा के पदचिन्हों पर चलते हुए क्षेत्र का सर्वांगीण विकास करा सकें। अपने सम्बोधन में कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा ने कहा कि राजनीति उन्होंने अपने पिता से सीखी है और वह आज जनसमूह के समक्ष एक ही शपथ लेते हैं कि जो पगड़ी उन्होंने पहनाई है, उसके सम्मान को वह कम नहीं होने देंगे। क्षेत्र  में वर्ष 2009 की भांति फिर से विकास तो कराएंगे ही साथ ही साथ युवाओं को रोजगार भी मुहैया कराएंगे। 

नीरज शर्मा ने कहा कि मेरी लड़ाई विकास विहीन नगेन्द्र भडाना से नहीं, मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से है। क्योंकि फरीदाबाद में सभी जगह कांग्रेस प्रत्याशी भारी मतों से चुनाव जीतेंगे और फिर एक बार प्रदेश की कमान पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के हाथों में होगी। नीरज शर्मा ने कहा कि जनता का उमड़ा सैलाब यह संकेत दे रहा है कि आने वाला समय बहुत अच्छा है, जनता बदलाव चाहती है। इसी के चलते इतनी भारी संख्या में यहां बूढे, बच्चे और जवान इकट्ठा हुए हैं। इस महासभा को निगम के पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर मुकेश शर्मा एवं समाजसेवी मुनेश शर्मा ने भी सम्बोधित किया।

नगेंद्र भड़ाना ने NIT विधानसभा में आजादी के बाद पहली बार कमल खिलाने के लिए भरा नामांकन

nagender-bhadana-file-nomination-nit-vidhansabha-from-bjp-news

फरीदाबाद, 3 अक्टूबर: NIT-86 विधानसभा में आजादी के बाद से अब तक कमल नही खिला है, पहली बार कमल खिलाने की जिम्मेदारी पूर्व इनेलो विधायक नगेंदर भड़ाना को मिली है. उन्हें इस बार भाजपा प्रत्याशी बनाया गया है.

विधायक नगेंद्र भड़ाना ने 3 अक्टूबर को दोपहर 2 बजे सेक्टर 12 में  स्थित एनआईटी 86 निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में आज बहुत ही सादगीपूर्ण तरीके से एनआईटी 86 विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी के रूप में केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर की मौजूदगी में अपना नांमाकन पत्र भरा।

इस अवसर पर उपस्थित पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने दावा किया कि हरियाणा में भाजपा 75 पार का आँकड़ा पार करेगी और फरीदाबाद में 9 की 9 विधानसभा सीटें जीतकर हम मोदीजी और मनोहर लाल के हाथों को मजबूत करेंगे। 

इस अवसर पर नगेंद्र भड़ाना ने कहा कि एनआईटी विधानसभा 86 में इस बार कमल जरूर खिलेगा। मैं जब पिछली बार जीतकर आया तो दूसरी पार्टी से होने के बावजूद पिछले पांच वर्षों में क्षेत्र के विकास के लिए करीब 350 करोड़ रुपये दिए हैं इसलिए जनता अबकी बार आने वाली 21 तारीख को वोट देकर कमल खिलाएगी। एनआईटी क्षेत्र के चौतरफा विकास कराने के लिए अपनी भागीदारी देगी। 

नगेंद्र भड़ाना ने कहा कि भाजपा ने मुझें इस बार विधानसभा क्षेत्र से टिकट देकर ना सिर्फ मेरा मान-सम्मान बढ़ाया है बल्कि मेरे क्षेत्र की जनता का भी मान-सम्मान बढ़ाया है। मैं मुख्यमंत्री मनोहर लाल और केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर के आशीर्वाद एवं सहयोग से एनआईटी 86 क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं रहने दूंगा। और जो भी काम हमारे पिछले 5 साल के कार्यकाल में रह गए थे उनको जल्दी से जल्दी पूरा करने के लिए तत्पर रहूंगा।

सिर्फ 8वीं पास हैं चन्दर भाटिया, फिर भी NIT विधानसभा में दिखा रहे दम

chander-bhatia-nit-vidhansabha-86-independent-candidate-news

फरीदाबाद, 2 अक्टूबर: भाजपा के पूर्व विधायक चन्दर भाटिया सिर्फ आठवीं पास हैं लेकिन NIT - 86 विधानसभा में पूरी ताकत दिखा रहे हैं, उनकी रैलियों में भीड़ भी दिखाई दे रही है.

चन्दर भाटिया ने NIT विधानसभा से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है, वह जीत के दावे भी कर रहे हैं लेकिन बड़ा सवाल ये है कि क्या जनता एजुकेशनल क्वालिफिकेशन देखकर वोट देगी या चन्दर भाटिया की समाजसेवा देखकर, अगर जनता ने  एजुकेशनल क्वालिफिकेशन देखा तो शायद उन्हें वोट ना दे लेकिन समाज सेवा में चन्दर भाटिया आगे रहते हैं, जनता को जब भी उनकी जरूरत होती है वह खड़े दिखाई देते हैं.

chander-bhatia-news

अगर NIT विधानसभा की बात करें तो यहाँ पर त्रिकोणीय लड़ाई दिख रही है, भाजपा से नगेंदर भड़ाना चुनाव लड़ रहे हैं, कांग्रेस से नीरज शर्मा को शायद टिकट मिले, अगर नहीं मिली तो वह निर्दलीय लड़ सकते है, चन्दर भाटिया भी निर्दलीय लड़ रहे हैं.

NIT -86 विधानसभा से नागेंद्र भड़ाना को मिली भाजपा टिकट

nagender-bhadana-get-bjp-ticket-from-nit-86-vidhansabha-news-hindi

फरीदाबाद, 29 सितम्बर: इन्तजार की घड़ियाँ ख़त्म हो चुकी हैं, भाजपा ने हरियाणा के भाजपा उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है. आज पार्लियामेंट बोर्ड की मीटिंग के बाद उम्मीदवारों के नाम पर अंतिम मुहर लगी, बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, हरियाणा के चुनाव प्रभारी नरेंद्र सिंह तोमर, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, हरियाणा प्रभारी अनिल जैन, प्रदेश अध्यक्ष शुभाष बराला सहित अन्य भाजपा नेता मौजूद थे.

हरियाणा के 78  उम्मीदवारों के नाम फाइनल हो चुके हैं, NIT 86 विधानसभा से नागेंद्र भड़ाना को टिकट मिली है -  देखिये लिस्ट -
haryana-bjp-candidate-list-1

haryana-bjp-candidate-list-2

haryana-bjp-candidate-list-3


LIST देखने के लिए देखिये लाइव प्रेस कॉन्फ्रेंस



धौज गाँव में जोरदार स्वागत से गदगद होकर बोले यशवीर डागर, नेता नहीं बेटा बनकर करूँगा काम

yashvir-dagar-ward-welcome-in-dhoj-village-support-for-election-news

फरीदाबाद: NIT-86 विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी और भावी प्रत्याशी यशवीर डागर का आज धौज गाँव में जोरदार स्वागत हुआ. सैकड़ों लोगों का समर्थन पाकर यशवीर डागर ख़ुशी से गदगद हो गए और उन्होंने कहा - अगर आप लोगों का मुझे आशीर्वाद मिला तो नेता नहीं बेटा बनकर करूँगा काम और आप लोगों की सभी समस्याओं का समाधान करूंगा।

आपको बता दें, आज एन.आई.टी - 86 क्षेत्र से भाजपा के मंडल अध्यक्षों के साथ जिले व प्रदेश के समस्त पदाधिकारियों व सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर  भाजपा नेता व पूर्व प्रत्याशी  यशवीर डागर के नेतृत्व में गाँव धौज में अजहर जिम क्लब से शुरू करके धौज मार्किट से होते हुए धौज गाँव के चौक तक पदयात्रा निकालकर जनसम्पर्क किया। 

पद यात्रा के दौरान गाँव धौज में जगह-जगह फुल माला पहनाकर यशवीर डागर को जनता ने आशीर्वाद दिया।इस मौके पर युवा नेता आसीफ़ अली, राहुल पहलवान, नसीम खान व गाँव की समस्त सरदारी ने मिलकर हमारे यशवीर डागर का पगडी पहनाकर स्वागत किया।

यशवीर डागर की पत्नी दर्शना ने सारन गाँव में माँगा समर्थन, महिलाऐं बोलीं, हम आपके साथ हैं

yashvir-dagar-wife-darshna-dagar-jansampark-saran-gaon-nit-86

फरीदाबाद, 28 सितम्बर: भाजपा नेताओं ने अपनी अपनी विधानसभा क्षेत्रों में महाजनसंपर्क अभियान शुरू किया है, टिकट के बड़े दावेदारों ने गली गली प्रचार शुरू कर दिया है, यशवीर डागर और उनकी पत्नी पूरे विधानसभा क्षेत्र में घूमकर अपनी पार्टी की नीतियों का प्रचार कर रहे हैं ताकि 75 पार का सपना पूरा हो सके.

इसी अभियान के तहत भाजपा नेता व पूर्व प्रत्याशी यशवीर डागर की धर्म पत्नी दर्शना डागर ने सारन गाँव में जनसंपर्क किया और अपनी पार्टी की नीतियों का प्रचार किया.

इस मौके पर जवाहर मंडल महिला अध्यक्ष रेखा नैन के घर पर दर्शना डागर का फूलों की माला पहना कर भव्य-स्वागत किया गया। जिसमें डबुआ मंडल महिला अध्यक्ष गीता शर्मा, व जवाहर मंडल की भाजपा पदाधिकारी व अन्य सैकड़ों महिलाएं मौजुद रही। 

दर्शना डागर के साथ युवा नेता भीम पहलवान, रवि, मौजुद रहे। इस मौके पर स्वागत और सम्मान पाने पर जनता ने तमाम जनता का धन्यवाद किया और वादा किया कि अगर यशवीर डागर को आपका आशीर्वाद मिला तो विधानसभा क्षेत्र की तमाम समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करवाया जाएगा, सभी कॉलोनियों में जलभराव की समस्या जल्स से जल्द ख़त्म की जाएगी, सीवर सिस्टम सही करवाया जाएगा, सभी रोड जल्द से जल्द बनवाकर जनता के जीवन को सुखमय बनाया जाएगा.

पूर्व मंत्री महेंद्र प्रताप सिंह ने NIT-86 विधानसभा में बढ़ाई दो नेताओं की टेंशन

mahender-pratap-singh-nit-86-vidhansabha-congress-ticket-2019

फरीदाबाद, 28 सितम्बर: फरीदाबाद NIT-86 विधानसभा में दो नेताओं के लिए सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन महेंद्र प्रताप सिंह ने आकर दोनों नेताओं का गणित बिगाड़ दिया है.

आपको बता दें कि पंडित शिवचरण लाल शर्मा के पुत्र नीरज शर्मा कांग्रेस की टिकट पर दावा कर रहे हैं जबकि नगेंदर भड़ाना भाजपा की टिकट पर दावा कर रहे हैं. महेंद्र प्रताप सिंह ने दोनों नेताओं की टेंशन बढ़ा दी है क्योंकि उन्होंने NIT विधानसभा से चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है.

महेंद्र प्रताप सिंह गुर्जर समाज से आते है, अगर कांग्रेस ने उन्हें टिकट दिया और दूसरी तरफ भाजपा ने नगेंदर भडाना को टिकट दिया तो वोट कटेंगे और भाजपा को नुकसान होगा.

नीरज शर्मा की बात करें तो अगर महेंद्र प्रताप सिंह को कांग्रेस की टिकट मिली तो नीरज शर्मा को कांग्रेस टिकट नहीं मिलेगी और उन्हें निर्दलीय या किसी अन्य पार्टी से चुनाव लड़ना पड़ेगा.

कुल मिलाकर कहें तो महेंद्र प्रताप सिंह ने दोनों नेताओं का गणित बिगाड़ दिया है. पूर्व मंत्री होने के नाते उनका दावा मजबूत है, इसके अलावा लोकसभा की टिकट के समय भी उनका नाम चर्चा में था लेकिन टिकट ना मिलने से उनकी नाराजगी सामने आयी है. ऐसा तो होगा नहीं कि कांग्रेस उन्हें टिकट ना देकर दोबारा नाराज करे. 

संजय कॉलोनी वाले बोले, पिछली बार वाली गलती नहीं दोहराएंगे, अबकी यशवीर को ही विधायक बनाएंगे

yashvir-dagar-sanjay-colony-chunav-prachar-get-full-support-news

फरीदाबाद, 26 सितम्बर: यशवीर डागर को 2014 में NIT-86 से भाजपा उम्मीदवार बनाया गया था, उन्होंने NIT के सम्पूर्ण विकास का सपना देखा था, लेकिन जनता ने उन्हें पूरा आशीर्वाद नहीं दिया जिसकी वजह से उनकी हार हो गयी और NIT के विकास का उनका सपना टूट गया, इस बार उन्होंने फिर से टिकट की दावेदारी की है, उनका कहना है कि अगर इस बार मुझे टिकट मिली तो जनता पिछली बार वाली गलती नहीं दोहराएगी और मेरी ही जीत होगी.

आज संजय कॉलोनी की जनता भी यही बोल रही थी. लोगों ने कहा कि पिछली बार हमसे गलती हो गयी जो यशवीर डागर को विधायक नहीं बनाया, इस बार यशवीर डागर को ही विधायक बनाएंगे क्योंकि यशवीर डागर पढ़ा लिखा और समझदार नेता है. इस बार हम यहाँ से भाजपा उम्मीदवार को ही जिताएंगे.

आज संजय कॉलोनी मे पाली मंडल अध्यक्ष राजपाल दहिया के नेतृत्व मे भाई राम डागर घर भाजपा नेता व पूर्व प्रत्याशी यशवीर डागर का फुल माला व पगडी पहनाकर स्वागत किया.

इस कार्यक्रम में कॉलोनी से दशरथ डागर, इन्द्र्जीत चौधरी, सतीश दीक्षित, चुननी महाशय, रघुराज प्रधान, मेघश्याम, गुड्डू, मोहन रावत व समस्त सरदारी मौजूद रही।

इस कार्यक्रम में कॉलोनी के सैकड़ों लोगो ने यशवीर डागर को आगामी विधनसभा चुनावों मे भरपूर सहयोग व साथ रहने का वादा किया। समर्थन और आशीर्वाद मिलने पर यशवीर डागर ने जनता का धन्यवाद अदा किया.

NIT-86 विधानसभा कार्यालय पर यशवीर डागर ने किया पंडित दीनदयाल की प्रतिमा पर पुष्पार्पण

nit-86-yashvir-dagar-celebrate-pandit-deen-dayal-jayanti-25-september

फरीदाबाद, 26 सितम्बर: भाजपा नेता व पूर्व प्रत्याशी यशवीर डागर के एन आई टी 86 विधनसभा क्षेत्र कार्जयालय वाहर कॉलोनी में पण्डित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मदिन पर उनकी प्फुरतिमा पर पुष्पार्पण किया गया.

इस मौके पर यशवीर डागर, भाजपा से एन आई टी 86 के चुनाव प्रभारी विनोद, वरिष्ठ नेता डाल चंद डागर के साथ एन आई टी 86 के भाजपा पदाधिकारी मौजूद रहे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पंडित दीन दयाल उपाध्याय आरएसएस के प्रचारक थे जो 1967 में जन संघ के अध्यक्ष बने, बाद में जन संघ को बदलकर भारतीय जनता पार्टी कर दिया गया.

इस मौके पर यशवीर डागर ने कहा कि पंडित दीन दयाल का भारतीय जनता पार्टी के यहाँ तक पहुँचने में बहुत बड़ा योगदान है. उनकी प्रेरणा से हम लोगों में पार्टी के लिए काम करने की ताकत मिलती है.

NIT-86 विधानसभा के नेता यशवीर डागर और उनकी पत्नी को मिला जीत का आशीर्वाद

yashvir-dagar-wife-darshna-dagar-blessed-jawahar-colony-nit-86

फरीदाबाद 25 सितंबर 2019: NIT-86 विधानसभा के पूर्व भाजपा प्रत्याशी और भावी भाजपा प्रत्याशी यशवीर डागर का जवाहर कॉलोनी में जोरदार स्वागत किया गया.

जवाहर कॉलोनी वार्ड नंबर 7 में निरंजन सिंह पंचाल के घर पर भागवत कथा के आयोजन में मुख्य अतिथि यशवीर डागर व उनकी धर्मपत्नी दर्शना डागर उपस्थित हुए, भगवान कृष्ण का आशीर्वाद लिया, निरंजन सिंह पंचाल और उनकी धर्मपत्नी ने उनको प्रसाद रुपी जीत का आशीर्वाद दिया उनके साथ प्रवीण शर्मा मुख्य रूप से उपस्थित थे.

इस मौके पर ओम प्रकाश पंचाल, जितेंद्र पांचाल, कृष्ण पंचाल, करमजीत, कर्म, गोपाल पंचाल, हरिंदर सिंह, बलबीर पंचाल, पवन गुलाटी, जवाहर मंडल अध्यक्ष रमेश, भारत धनखड, हरेनद्र तोमर, भीम पहलवान, रवि, मुख्य रूप से उपस्थित थे और सभी ने भागवत गीता का आनंद लिया.

जवाहर कॉलोनी की महिलाओं ने किया यशवीर डागर की पत्नी दर्शना डागर का स्वागत

faridabad-nit-86-vidhansahba-yashvir-dagar-wife-darshna-dagar-news

फरीदाबाद: भाजपा नेता व NIT-86 पूर्व प्रत्याशी यशवीर डागर की पत्नि दर्शना डागर का हमारी जवाहर कॉलोनी, वार्ड नं 7 मे हमारे वरिष्ठ कार्यकर्ता अनिल गुप्ता व बहन सुनीता गुप्ता के घर पर फूलों की माला पहना कर भव्य-स्वागत किया। 

इस कार्यक्रम में जवाहर  मंडल की सैकड़ों महिलाएं मौजुद रहीं। दर्शना डागर के साथ युवा नेता भीम पहलवान, रवि, मौजुद रहे। 

इस कार्यक्रम के माध्यम से दर्शना डागर ने भाजपा पार्टी की नीतियो को जनता तक पहुंचाया एवं उनका धन्यवाद दिया. उनके विचारों को सुनकर जनता ने आगामी चुनाव में यशवीर डागर को समर्थन देने का भरोसा दिया.