Followers

Showing posts with label Missing. Show all posts

जानिए, कौन है फरीदाबाद में जिला परिषद के 10 वार्ड, कौन से क्षेत्र हैं शामिल

faridabad-jila-parishad-10-ward-name

फरीदाबाद, 2 मई। उपायुक्त कम जिला निर्वाचन अधिकारी यशपाल ने हरियाणा पंचायती राज (निर्वाचन) नियम 1994 के नियम 4 के उप नियम पांच के तहत निर्धारित जिला फरीदाबाद में जिला परिषद के 10 वार्डो की सूची का प्रारंभिक ड्राफ्ट प्रकाशन कर दिया गया है। 

जिला में जिला परिषद के 10 वार्डो की अधिसूचना हरियाणा सरकार के विकास एवं पंचायत विभाग की हिदायतों अनुसार जारी की गई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी यशपाल ने बताया कि जिला में यदि किसी व्यक्ति को जिला परिषद के इन 10 वार्ड बंदियों के ड्राफ्ट पर ऐतराज है तो वे लोग अपना दावा तथा आपत्ति संबंधित उपमंडल अधिकारी (नागरिक) को जिला निर्वाचन कार्यालय जिला विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा जारी किए गए वार्ड बंदी कार्यक्रम के अनुसार आगामी 3 मई से 5 मई तक पेश कर सकता है।

जिला निर्वाचन अधिकारी यशपाल ने बताया कि जिला फरीदाबाद में जिला परिषद के 10 वार्ड बनाए गए हैं। जिला परिषद के इन 10 वार्डो की विस्तृत जानकारी दी.

Ward-1

वार्ड नंबर एक में गांव कोट, आलमपुर, कुरैशीपुर, सरूरपुर, नेकपुर, मांगर, पावटा, पाखल, जीएमबाद, पाली व खेड़ी गुजरान को शामिल किया गया है। इस वार्ड में कुल जनसंख्या 29 हजार 44 है। 

Ward-2

वार्ड नंबर 2 में गांव खोरी जमालपुर, सिरोही, धौज, टिकरी खेड़ा, फतेहपुर तगा और मादलपुर को शामिल किया गया है। इस वार्ड में कुल जनसंख्या 31 हजार 918 है। 

Ward-3

वार्ड नंबर 3 में गांव बीजोपुर, जकोपुर, फिरोजपुर कलां, सिकरोना, कबूलपुर बांगर, लघियापुर, करनेरा, समयपुर, भनकपुर, हरफला, मोहला व सीकरी को शामिल किया गया है। इस वार्ड में कुल जनसंख्या 29 हजार 130 है। 

Ward-4

वार्ड नंबर 4 में गांव नंगला जोगियान, खंदावली, प्याला, शाहपुर खुर्द, जाजरू, कैलगांव, डीघ, सागरपुर व सुनपेड़ को शामिल किया गया है। इस वार्ड में कुल जनसंख्या 24 हजार 590 है। 

Ward-5

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि वार्ड नंबर 5 में फतेहपुर बिल्लौच, बहबलपुर, लडोली, गडखेड़ा, दयालपुर, पीएम डीग व शाहपुर कलां को शामिल किया गया है। इस वार्ड में कुल जनसंख्या 31 हजार 601 है। 

Ward-6

वार्ड नंबर 6 में गांव जवां, नरियाला, अटेरना, मोहना, हीरापुर, महमदपुर, पन्हेड़ा कलां व पन्हेड़ा खुर्द को शामिल किया गया है। इस वार्ड की कुल जनसंख्या 30 हजार 782 है। 

Ward-7

वार्ड नंबर 7 में गांव मोठुका, शाहपुर खादर, शाहजहांपुर, छायसा, छायसा झुग्गी, नरहावली, अटाली व मौजपुर को शामिल किया गया है। इस वार्ड की कुल जनसंख्या 30 हजार 557 है। 

Ward-8

वार्ड नंबर 8 में गांव भैंसरावली, लहडोला, मंझावली, बहादपुर, अलीपुर, घरौडा, घुड़ासन, रायपुर कलां, चांदपुर, इमामुद्दीन पुर कौराली अरुवा व फैज्जुपुर खादर को शामिल किया गया है। इस वार्ड की कुल जनसंख्या 32 हजार 143 है। 

Ward-9

वार्ड नंबर 9 में गांव बदरोला, पीएम बदरोला, बुखारपुर, जुन्हैड़ा, तिगांव, सदपुरा व तिगांव अधाणा पट्टी को शामिल किया गया है। इस वार्ड में कुल जनसंख्या 30 हजार 678 है। 

Ward-10

जिला परिषद के वार्ड नंबर 10 में गांव कांवरा, ताजुपुर, बदरपुर सैद, जसाना, अल्लीपुर शिकारगाह, अमीपुर, राजपुर कला, सिडौला, भसकौला, दादासिया, किडावली, लालपुर, चिरसी, कबूलपूर पट्टी परवरिश, महमूदपुर, ढहकौला, भुआपुर, शाहाबाद व फत्तुपुरा को शामिल किया गया है। इस वार्ड की कुल जनसंख्या 30 हजार 211 है।

खेलते-खेलते 4 वर्षीय लड़का लड़की हुई लापता, पुलिस ने 3 घंटे में ढूंढकर परिजनों को सौंपा

faridabad-naveen-nagar-police-chowki-searched-missing-kid

फरीदाबाद, 17 अप्रैल: जिले की नवीन नगर पुलिस चौकी ने लापता हुए 4 वर्षीय दो बच्चों को ढूंढने में अहम भूमिका निभाई है।

कल सुबह बच्चों के माता-पिता ने चौकी में आकर शिकायत दी कि उनके 4 वर्षीय लड़का और 4 वर्षीय लड़की सुबह से लापता हैं।

उन्होंने बताया कि वह मेहनत मजदूरी का काम करते हैं और अपने बच्चों को घर पर छोड़ कर काम पर चले जाते हैं।

उनके काम पर जाने के पश्चात छोटे बच्चों की देखभाल उनके बड़े भाई बहनों द्वारा की जाती है। उन्होंने बताया कि बच्चे आपस में खेल रहे थे और खेलते खेलते उनके दो बच्चे जिसमें एक लड़का और एक लड़की शामिल है कहीं लापता हो गए।

बच्चों के परिजनों ने अपने बच्चों को ढूंढने के लिए आसपास के क्षेत्र में हर जगह पूछताछ की परंतु उन्हें उनकी कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई।

मामले की गंभीरता को देखते हुए थाना प्रभारी ने बच्चों को ढूंढने के लिए टीम का गठन किया और उन्हें आसपास के क्षेत्र में बच्चों की तलाश करने के निर्देश दिए।

पुलिस टीम ने आसपास के क्षेत्र में हर जगह बच्चों की तलाश की और करीब 3 घंटे कड़ी मशक्कत करने के पश्चात उन्हें बच्चों के घर से तकरीबन 3 किलोमीटर दूरी पर अजय नगर में बच्चों के मौजूद होने की सूचना मिली।

सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर गई और दोनों बच्चों को सकुशल बरामद करके उनके परिजनों के हवाले कर दिया।

चौकी प्रभारी ने बच्चों के माता-पिता से बच्चों का ध्यान रखने की हिदायत दी और कहा कि बच्चे खेलने में अक्सर इतने मशगूल हो जाते हैं कि उन्हें ध्यान ही नहीं रहता कि वह लापता हो चुके हैं। 

इस प्रकार लापता हुए बच्चों का अपराधिक प्रवृत्ति के लोग गलत फायदा उठाते हैं और उनके भविष्य को अंधेरे में धकेलने की कोशिश करते हैं। इसलिए वह अपने बच्चों का ख्याल रखें।

अपने बच्चों को वापस पाकर उनके परिजन बहुत खुश हुए और उन्होंने पुलिस टीम को उनके द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए तहे दिल से धन्यवाद किया।

पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह को जैसे ही मामले की सूचना प्राप्त हुई उन्होंने पुलिस टीम को शाबाशी देते हुए उन्हें इसी प्रकार लोगों की मदद करने के लिए प्रोत्साहित किया।

15 वर्षीय नाबालिक लड़की के परिजनों की तलाश करके फरीदाबाद पुलिस ने

faridabad-minor-girl-missing-police-recovered

फरीदाबाद, 12 अप्रैल: देहरादून की रहने वाली 15 वर्षीय नाबालिक लड़की के परिजनों को ढूंढकर उसके परिजनों तक पहुंचाने में फरीदाबाद पुलिस ने अहम भूमिका निभाई है।

थानाक्षेत्र में गश्त के दौरान पुलिस टीम को एक लड़की काफी परेशान अवस्था में दिखाई दी। महिला पुलिसकर्मी ने लड़की को परेशान देखकर उसकी मदद करने के उद्देश्य से लड़की को प्यार से अपने पास बैठाया और उसके बारे में पूछताछ की।

लड़की अपने परिजनों के बारे में कुछ भी बताने में असमर्थ थी। काफी देर तक लड़की के साथ बातचीत करने के पश्चात महिला पुलिसकर्मी ने उसे अपने विश्वास में लिया जिसके पश्चात लड़की ने देहरादून स्थित अपने स्कूल का पता महिला पुलिसकर्मी को बताया।

लड़की के स्कूल का पता चलने के पश्चात पुलिस टीम ने देहरादून स्थित लड़की के स्कूल में संपर्क किया और उन्हें लड़की के बारे में बताया जिसके पश्चात स्कूल से लड़की के परिजनों का पता व फोन नंबर प्राप्त हुआ।

पुलिस टीम ने लड़की के परिजनों को फोन करके लड़की के बारे में सूचना दी। लड़की की सूचना मिलते ही उसके परिजनों के चेहरे पर रौनक आ गई। उन्होंने बताया कि लड़की घर से नाराज हो कर चली गई थी और वह उसकी काफी समय से तलाश कर रहे थे।  

इसके पश्चात लड़की के परिजन उसे लेने के लिए फरीदाबाद आए और लड़की द्वारा उसके परिजनों की पहचान करने के पश्चात लड़की को सकुशल उनके परिजनों के हवाले किया गया।

 इसके साथ ही उन्हें हिदायत दी गई कि इस उम्र में बच्चे जल्दी किसी व्यक्ति के बहकावे में आ जाते हैं। अपराधिक व्यक्ति इसका फायदा उठाकर उन्हें गलत रास्ते पर धकेल सकते हैं इसलिए वह अपने बच्चों के साथ शांति पूर्वक तरीके से बात करें और उनका ख्याल रखें।

थाना BPTP की पुलिस टीम ने 14 वर्षीय नाबालिग लड़की को तलाशकर किया परिजनों के हवाले

faridabad-bptp-thana-news-missing-girl-find

फरीदाबाद, 12 अप्रैल: पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह ने सभी पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों को लापता बच्चे के मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करने और उनको बरामद करने के दिशा निर्देश दिए हुए है।

फरीदाबाद पुलिस हर क्षेत्र में नागरिकों की मदद करने का भरसक प्रयास करती रहती है,लापता बच्चो को ढूंढने में आजकल फरीदाबाद पुलिस अच्छी खासी सतर्क है, बच्चो के गमशुदगी के मामले पुलिस की प्राथमिकता पर है| घटना की सूचना मिलते ही प्रयास शरू कर दिए जाते है, इसमें तकनीकी मदद के साथ ही मुखबिरों की भी मदद ली जाती है।

तकनीकी मदद से हाल के दिनों में कई गुमशुदा बच्चो को पुलिस ने उनके परिजनों से मिलाया है।

जिसके तहत थाना बीपीटीपी की पुलिस टीम ने सराहनीय कार्य करते हुए लापता 14 वर्षीय नाबालिक लड़की को तलाश कर उसके परिजनों से मिलवाया है और परिजनों के चेहरे की खोई हुई मुस्कान वापस लौटाई है।

प्रभारी थाना बीपीटीपी ने बताया कि लड़की किसी बात से नाराज होकर घर से बिना बताए कहीं चली गई है और गुम हो गई है जिस पर उन्होंने तुरंत एक पुलिस टीम का गठन किया और लड़की की खोजबीन शुरू कर दी।

पुलिस टीम ने 14 वर्षीय नाबालिक लड़की की फोटो सहित सारी जानकारी पुलिस संबंधित व्हाट्सएप ग्रुप में डाल दी और जगह-जगह जाकर पुलिस पीसीआर के द्वारा अनाउंसमेंट करा कर एवं सार्वजनिक जगहों पर लोगों से पूछताछ की गई।

जिसके उपरांत पुलिस टीम ने 14 वर्षीय नाबालिक लड़की को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम और सहपुलिसकर्मियों की मदद से ढूंढ लिया और आवश्यक कानूनी कार्रवाई पूरी करके लड़की को सकुशल परिजनों के हवाले कर दिया, माता-पिता लड़की को देखकर खुश हो गए और लड़की भी अपने माता-पिता के गले लग कर रोने लगी।

नाबालिक लड़की के परिजनों ने पुलिस को बताया कि उनकी लड़की किसी बात पर नाराज होकर घर से चली गई थी और लापता हो गई थी, तभी से लगातार हम अपनी बेटी की तलाश कर रहे थे।

अपनी 14 वर्षीय नाबालिक लड़की को वापस पाकर परिवार के मायूस चेहरो पर मुस्कान खिल उठी।  

पुलिस टीम के सराहनीय कार्य से खुश होकर परिजनों ने पूरी फरीदबाद पुलिस का तहे दिल से आभार व्यक्त किया है। 

चौकी चावला कॉलोनी की पुलिस टीम ने लापता 20 वर्षीय लड़की की तलाश कर परिजनों को सौंपा

faridabad-chawla-colony-police-find-missing-girl

फरीदाबाद, 11 अप्रैल 2021: पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने सभी पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों को लापता बच्चे के मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करने और उनको बरामद करने के दिशा निर्देश दिए हुए हैं।

जिसके तहत चौकी चावला कॉलोनी की पुलिस टीम ने सराहनीय कार्य करते हुए लापता 20 वर्षीय लड़की को तलाश कर उसके परिजनों से मिलवाया है और परिजनों के चेहरे की खोई हुई मुस्कान वापस लौटाई है।

प्रभारी चौकी चावला कॉलोनी ने बताया कि लड़की किसी बात से नाराज होकर घर से बिना बताए कहीं चली गई है और गुम हो गई है जिस पर उन्होंने तुरंत एक पुलिस टीम का गठन किया और लड़की की खोजबीन शुरू कर दी।

पुलिस टीम ने 20 वर्षीय लड़की की फोटो सहित सारी जानकारी पुलिस संबंधित व्हाट्सएप ग्रुप में डाल दी और जगह-जगह जाकर पुलिस पीसीआर के द्वारा अनाउंसमेंट करा कर एवं सार्वजनिक जगहों पर लोगों से पूछताछ की गई।

जिसके उपरांत पुलिस टीम ने 20 वर्षीय लड़की को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम और सहपुलिसकर्मियों की मदद से ढूंढ लिया और आवश्यक कानूनी कार्रवाई पूरी करके लड़की को सकुशल परिजनों के हवाले कर दिया, माता-पिता लड़की को देखकर खुश हो गए और लड़की भी अपने माता-पिता के गले लग कर रोने लगी।

नाबालिक लड़की की मां ने पुलिस को बताया कि उनकी लड़की किसी बात पर नाराज होकर घर से चली गई और लापता हो गई तभी से लगातार हम अपनी बेटी की तलाश कर रहे थे।

पुलिस ने परिजनों को समझाया कि बच्चों का ध्यान रखना चाहिए और ज्यादा से ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए ताकि भविष्य में इस तरह की स्थिति कभी उत्पन्न ना हो।

बीट प्रणाली ने 6 वर्षीय लापता लड़की के परिजनों को ढूंढने में निभाई अहम भूमिका

faridabad-police-chowki-searched-missing-girl

फरीदाबाद, 24 मार्च 2021: पुलिस चौकी सेक्टर 3 प्रभारी उप निरीक्षक विजेंदर सिंह की टीम ने 6 वर्षीय लापता बच्ची के परिजनों को ढूंढ कर उनके हवाले करने में सफलता हासिल की है।

लड़की के परिजनों को ढूंढने में बीट क्षेत्र में मौजूद पुलिसकर्मियों ने अहम भूमिका निभाई है।

पुलिस चौकी सेक्टर 3 के मुख्य सिपाही सुनील व सिपाही सुमित कल शाम करीब 7:00 बजे अपने थाना क्षेत्र में गश्त कर रहे थे।

गस्त करते समय जब वह खाटू श्याम मंदिर के पास से गुजर रहे थे कि उन्हें एक 6 वर्षीय लड़की अकेली घूमती हुई दिखाई दी।

बच्ची के पास उनके परिजनों को न पाकर पुलिसकर्मी लड़की के पास गए और उससे उनके परिजनों के बारे में पूछताछ करने की कोशिश की परंतु बच्ची कुछ भी बताने में असमर्थ थी।

पुलिसकर्मियों ने बच्ची का विश्वास जीतने के लिए उसे पास की दुकान से एक बिस्किट का पैकेट खरीद कर दिया जिसे खाने के पश्चात लड़की ने अपना नाम बताया और अपने परिजनों के बारे में पुलिस टीम को जानकारी दी परंतु उसे अपने घर का पता मालूम नहीं था।

लड़की को उसके परिजनों तक पहुंचाने के उद्देश्य से पुलिसकर्मियों ने आसपास के लोगों से लड़की के परिजनों के बारे में पूछताछ की परंतु उन्हें इसकी कोई जानकारी नहीं मिल पाई।

इसके पश्चात पुलिसकर्मियों ने लड़की के परिजनों का पता करने के लिए बीट क्षेत्र में मौजूद बीट कर्मचारियों की सहायता ली।

बीट पुलिसकर्मियों ने अपने अपने क्षेत्र में लड़की के परिजनों के बारे में पूछताछ की और काफी देर पूछताछ करने के पश्चात उन्हें लड़की के परिजनों के बारे में जानकारी प्राप्त हो गई।

पूर्वी चावला कालोनी में रहने वाले लड़की के माता-पिता को उसकी बेटी के बारे में सूचना दी गई और उन्हें लड़की को लेने के लिए पुलिस चौकी सेक्टर 3 में बुलाया गया।

लड़की के परिजनों को जैसे ही उसकी सूचना मिली तो वह उसे लेने पुलिस चौकी पहुंचे जहां पर लड़की ने अपने माता-पिता की पहचान की।

लड़की के माता-पिता ने बताया कि लड़की खेलते खेलते अचानक लापता हो गई और वह उसकी ही तलाश कर रहे थे।

लड़की के परिजनों को लड़की का ध्यान रखने की हिदायत के साथ ही लड़की को सकुशल उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया।

बच्ची के परिजनों ने लड़की का ध्यान रखने का विश्वास दिलाया और पुलिस कर्मियों द्वारा किए गए इस सराहनीय कार्य के लिए उनका धन्यवाद किया।

पुलिस चौकी मांगर की टीम ने लापता 11 वर्षीय लड़की को परिवार से मिलाया

faridabad-mangar-police-chowki-find-missing-girl-news

फरीदाबाद, 18 मार्च 2021: पुलिस चौकी मांगर की टीम ने एक लापता मानसिक रूप से कमजोर नाबालिक 11 वर्षीय लड़की को उसके परिजनों से मिलाने में कामयाबी हासिल की है।

आपको बताते चलें पुलिस चौकी मांगर की टीम जब अपने एरिया में पैदल गश्त कर रही थी तो अचानक उनकी नजर एक नाबालिक लड़की पर पड़ी जो कि थोड़ी डरी सहमी सी दिखाई दे रही थी। 

प्रभारी चौकी मांगर उप निरीक्षक संतराम ने 11 वर्षीय नाबालिग लड़की से से गहनता से पूछताछ की तो वह अपना नाम पता बताने में असमर्थ थी और मानसिक रूप से कमजोर दिख रही थी।

प्रभारी चौकी मांगर ने तुरंत प्रभाव से एक टीम गठित की जिसमें सहायक उप निरीक्षक अनिल, महिला सहायक उप निरीक्षक मुनेश और सिपाही अरुण शामिल थे और गठित टीम ने तुरन्त नाबालिक 11 वर्षीय लड़की के परिजनों को तलाशना शुरू कर दिया व आने जाने वाले लोगो से पूछताछ की गई व आस पास के एरिया में तलाश किया गया। 

बहुत तलाश करने के बाद 11 वर्षीय नाबालिक लड़की को सुरक्षित हालत मे वन स्टॉप सेंटर बादशाह खान हॉस्पिटल में छोड़ दिया गया।

प्रभारी चौकी मांगर ने जानकारी देते हुए बताया कि जब वह मानसिक रूप से कमजोर नाबालिक 11 वर्षीय लड़की का सीडब्ल्यूसी का बयान कराने ले गए तो सीडब्ल्यूसी कर्मियों ने उस लड़की को पहचान लिया और पुलिस टीम ने सीडब्ल्यूसी कर्मियों से लड़की के परिजनों का मोबाइल नंबर लेकर उनको सूचना दी और नाबालिक 11 वर्षीय लड़की को सकुशल परिवारजनो को सौंप दिया।

प्रभारी चौकी मांगर ने परिवार वालो को समाज में बच्चों के प्रति बढ़ रहे अपराधों व उनकी रोकथाम बारे मे अवगत करवाया।

अपनी 11 वर्षीय नाबालिग लड़की को वापस पाकर परिजनों के खुशी के आंसू निकल गए और पूरे परिवार ने फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद किया है।

पुलिस टीम ने लापता 8 वर्षीय बच्चे को खोजा, परिवार के चेहरे पर लौटी ख़ुशी

faridabad-police-chowki-sector-8-find-missing-8-year-girl

फरीदाबाद, 16 मार्च 2021: पुलिस टीम चौकी सेक्टर 8 ने सराहनीय कार्य करते हुए लापता एक 8 वर्षीय बच्चे को बरामद करने में सफलता हासिल की है।

प्रभारी चौकी सेक्टर 8 ने जानकारी देते हुए बताया कि लापता 8 वर्षीय बच्चे के पिता ने खुद चौकी में आकर सूचना दी कि उसका 8 वर्षीय बच्चा खेलते खेलते घर से लापता हो गया है, सूचना मिलते ही तुरंत चौकी प्रभारी ने 8 वर्षीय बच्चे की खोजबीन जारी करने के निर्देश दिए और मौके पर सहायक उप निरीक्षक सुंदर व मुख्य सिपाही विक्रम ने तुरंत 8 वर्षीय बच्चे की खोजबीन जारी कर दी और बच्चे की फोटो खींचकर थाना क्षेत्र के बीच व्हाट्सएप ग्रुप में डाली और गाड़ी से अनाउंस किया।

पुलिस टीम ने 8 वर्षीय बच्चे की फोटो सहित सारी जानकारी पुलिस संबंधित व्हाट्सएप ग्रुप में भेज दी और उनको ढूंढने में सह-पुलिसकर्मियों की मदद मांगी। 

जिसके पश्चात फोटो देखकर सहपुलिसकर्मियों ने बच्चे को ढूंढ लिया और सही सलामत बच्चे को परिवारजनों के हवाले कर दिया। 

पुलिस टीम ने बच्चे को उनके परिजनों के हवाले करते हुए उनको कहा कि अपने बच्चों का ख्याल रखें और उन्हें अकेला नहीं छोड़े। 

बच्ची को वापस पाकर उनके परिवारजन बहुत खुश हुए और चौकी प्रभारी सेक्टर 8 का आभार व्यक्त किया एवं पुलिस टीम का खुशी के आंसुओं के साथ धन्यवाद किया।

पुलिस टीम ने लापता हुई 8 वर्षीय नाबालिक लड़की को भहबलपुर सदर बल्लबगढ से किया बरामद

faridabad-police-find-missing-8-year-girl
 

फरीदाबाद, 15 मार्च 2021: पुलिस टीम थाना छायंसा ने सराहनीय कार्य करते हुए रात्रि गस्त व चेकिंग के दौरान नेहरावली गांव से लापता हुई गुरुग्राम निवासी 8 वर्षीय लड़की को भबलपुर से बरामद किया है।

पुलिस टीम के अधिकारी ASI हरकेश ने बताया कि पुलिस टीम रात्रि गस्त के लिए निकल रही थी कि थाना में एक महिला निवासी नरहावली ने सूचना दी की उसकी बहन जो चेनपुरा गुरुग्राम में रहती है। 

जिसकी लडकी को मेने अपने यहां पिछले एक महिने से बुला रखा है जो उम्र 8 साल रात्रि के समय घर से कही बिना बताए निकल गई है।

जिस सूचना पर पुलिस टीम ने तुरंत कार्रवाई करते हुए इलाके में PCR और SHO मोबाईल के साथ गस्त की गई। लेकिन लड़की का कोई पता नहीं चल सका।

8 वर्षीय लडकी को पूरे इलाके में तलाशा गया और आसपास के लोगों को इस बारे में सोशल मीडिया के माध्यम से एवं जनसंपर्क के माध्यम से सूचना दी गई। 

इसके उपरांत लडकी के बारे में सूचना मिली की एक लडकी भहबलपुर भट्टा पर है। तुरंत पुलिस टीम लड़की के माता-पिता के साथ भहबलपुर भट्टा पर गए।

पुलिस टीम ने भहबलपुर भट्टे पर पहुंचकर लड़की की आसपास तलाश की गई तो लड़की वहां पर बैठ कर रोती हुई मिली।

लड़की की मौसी ने लड़की को तुरंत पहचान लिया और लड़की को पाकर चेहरा खिल उठा।

लड़की की मौसी ने बताया कि वह बहुत घबरा गई थी क्योंकि जब हम अपने किसी संबंधी के बच्चे को अपने घर पर रखते हैं तो उनकी अतिरिक्त देखभाल करनी पड़ती है और जिम्मेदारी भी बढ़ जाती है। अगर लड़की नहीं मिल पाती तो यह अफसोस उनको पूरी जिंदगी रहता।

लड़की की मौसी ने नम आंखों से पुलिस टीम का हाथ जोड़कर धन्यवाद किया और कहा कि आज आप लोगों ने जो कार्य किया है उसके लिए हम आपके आभारी रहेंगे।

फिरोजाबाद से लापता 18 वर्षीय लड़की को फरीदाबाद पुलिस टीम ने बरामद करके भेजा घर

faridabad-ballabhgarh-bus-stand-police-chowki-find-missing-girl

फरीदाबाद, 14 मार्च 2021: पुलिस टीम चौकी बस स्टैंड बल्लभगढ़ ने सराहनीय कार्य करते हुए रात्रि गश्त व चेकिंग के दौरान फिरोजाबाद यूपी से लापता हुई एक लड़की को बरामद करने में सफलता हासिल की है।

प्रभारी चौकी बस स्टैंड बल्लभगढ़ ने जानकारी देते हुए बताया कि रात्रि गश्त व चेकिंग के दौरान सहायक उप निरीक्षक भूपेंद्र सिंह को एक मानसिक रूप से कमजोर 18 वर्षीय लड़की लावारिस हालत में मिली जो दो दिन से भूखी थी, जिसको खाना खिलाया गया।

महिला सिपाही द्वारा 18 वर्षीय लड़की से गहनता से पूछताछ की गई तो लड़की ने बताया कि वह थाना एका जिला फिरोजाबाद उत्तर प्रदेश की है, थाना प्रभारी एका से संपर्क करके लावारिस लड़की के बारे में पता किया गया तो मालूम हुआ कि लड़की मानसिक रूप से कमजोर है और 13 मार्च को सुबह 4:00 बजे  अपने घर से निकल गई थी, जिसके परिजन उसको तलाश रहे हैं। थाना प्रभारी से लावारिस लड़की के परिजनों का मोबाइल नंबर मांगा गया और लड़की के परिजनों से संपर्क करके लड़की को सकुशल उसके परिजनों के हवाले किया गया। 

प्रभारी चौकी बस स्टैंड बल्लभगढ़ ने बताया कि उनकी टीम ने सभी कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के उपरांत 18 वर्षीय लड़की को उसके परिजनों व थाना एका जिला फिरोजाबाद यूपी के सकुशल हवाले किया हैं, जिस पर  यूपी पुलिस ने फरीदाबाद पुलिस का शुक्रिया किया एवं लड़की के परिजनों ने नम आंखों से पूरी पुलिस टीम को धन्यवाद किया।

मेरठ से लापता 13 वर्षीय नाबालिक लड़की को फरीदाबाद पुलिस टीम ने किया बरामद

faridabad-police-find-missing-minor-girl-from-meerut

फरीदाबाद, 13 मार्च 2021: पुलिस टीम थाना ओल्ड फरीदाबाद ने सराहनीय कार्य करते हुए रात्रि गश्त व चेकिंग के दौरान मेरठ से लापता हुई एक लड़की को बरामद करने में सफलता हासिल की है।

प्रभारी थाना ओल्ड फरीदाबाद भीम सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि रात्रि गश्त व चेकिंग के दौरान एक नाबालिक 13 वर्षीय लड़की लावारिस हालत में मिली।

महिला सिपाही द्वारा नाबालिक 13 वर्षीय लड़की से गहनता से पूछताछ की गई तथा उससे उसका घर का पता पूछा गया व  लड़की ने अपनी मां का नंबर पुलिस टीम को बताया।

पुलिस टीम द्वारा लड़की की मां से फोन द्वारा संपर्क किया गया लड़की की मां ने बताया कि उसकी लड़की अपने परिवार वालों से किसी बात पर गुस्सा होकर बिन बताए घर से चली गई और लापता हो गई। 

जिस पर 363 आईपीसी के तहत थाना ब्रह्मपुरी मेरठ में मामला दर्ज कर नाबालिग लड़की की तलाश शुरू की गई थी।

प्रभारी थाना ओल्ड फरीदाबाद भीम सिंह ने बताया कि उनकी टीम ने सभी कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के उपरांत 13 वर्षीय नाबालिक लड़की को उसकी मां व थाना ब्रह्मपुरी पुलिस मेरठ यूपी के सकुशल हवाले किया हैं, जिस पर मेरठ पुलिस ने फरीदाबाद पुलिस का शुक्रिया किया एवं लड़की की मां ने नम आंखों से पूरी पुलिस टीम को धन्यवाद किया।

पुलिस चौकी 19 ने 5 साल के लावारिस घुम रहे बच्चे को परिवार से मिलाकर लौटाई परिवार की खुशी

faridabad-news-sector-19-police-chowki-find-missing-girl

फरीदाबाद, 9 मार्च 2021: पुलिस चौकी सेक्टर 19 टीम को गस्त के दौरान कंट्रोल रुम से सूचना प्राप्त हुई की एक बच्चा उम्र 5 साल लावारिस हालत में टाटा मोटर्स ओल्ड चौक पर घूम रहा है। जिस सूचना पर कार्यवाही करते हुए बच्चे को बरामद कर लिया गया।

बच्चे के फोटो फरीदाबाद पुलिस के सोशल मीडिया ग्रुप पर भेजा। बच्चे से नाम पता पूछा गया तो बच्चे ने अपना नाम पता गांव समैडा खुर्जा उत्तर प्रदेश बताया। पुलिस टीम ने समैडा खुर्जा पुलिस से सम्पर्क किया। बच्चे के फोटो व्हाट्सएप के द्वार भेजे गये। जिस पर बच्चे का पता ठीक था जो बच्चा अपने नाना के पास अभी 2 दिन पहले फरीदाबाद आया था। बच्चे के पिता से बात कर बच्चे के नाना का फोन नम्बर पता पूछा तो उसने पता एसी नगर फरीदाबाद बताया।

फोन के द्वारा सम्पर्क करने पर बच्चे के मामा से बात हुई जिस पर वह सूचना पर तुरंत चौकी सेक्टर-19 आया जो बच्चे को देख खुश हुआ। बच्चे के मामा को हिदायात दि की बच्चे का ध्यान रखे। बच्चे किसी गलत आदमी के हाथ लग गया था बच्चे की जान को खतरा हो सकता है।

चौकी प्रभारी ने बताया कि कंट्रोल रुम से एक सूचना लावारिस बच्चे के बारे में मिली जिस पर कार्यवाही करते हुए एक टीम मुख्य सिपाही अनिल कुमार, सिपाही नवीन, सिपाही अनूज को नियुक्त किया जिन्होने तुरंत कार्यवाही की।

पुलिस टीम ने बच्चे को बाद कानूनी कार्यवाही उसके परिजनो के हवाले कर दिया। उसी समय बच्चे का पिता भी मौका पर पहूंच गया। बच्चे के पिता ने पुलिस टीम का धन्यवाद किया।

पुलिस ने 7 वर्षीय लापता बच्चे के परिजनों को ढूंढकर बच्चे को किया उनके हवाले

faridabad-police-chowki-find-missing-7-year-kid
 

फरीदाबाद, 8 मार्च 2021: पुलिस चौकी संजय कॉलोनी प्रभारी उप निरीक्षक रामवीर सिंह की टीम ने 7 वर्षीय बच्चे को उनके परिजनों तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है।

पुलिस टीम अपने थाना क्षेत्र में गश्त कर रही थी कि सोहना रोड पर एक 7 वर्षीय बच्चा लावारिस अवस्था में घूमता हुआ दिखाई दिया।

पुलिस टीम ने बच्चे की सुरक्षा को देखते हुए उससे उसका नाम और परिजनों के बारे में पूछताछ की। बच्चे ने अपना नाम और परिजनों के बारे में तो बता दिया परंतु वह अपने घर का पता बताने में असमर्थ था।

पुलिस टीम द्वारा आसपास के लोगों से बच्चे के बारे में पूछताछ की गई परंतु उन्हें बच्चे के घर का कोई पता नहीं चला।

इसके पश्चात चौकी प्रभारी व सहायक उप निरीक्षक सुरेंद्र बच्चे को अपने साथ गाड़ी में लेकर संजय कॉलोनी इलाके में निकल गए और इलाके में बच्चे की शिनाख्त के लिए सरकारी गाड़ी में अनाउंसमेंट की।

काफी समय तक इलाके में पूछताछ करने के पश्चात बच्चे के परिजनों का पता चल गया।

बच्चे की मां ने बताया कि उसके दो लड़के और दो लड़कियां हैं। वह अपने बच्चों को घर पर छोड़ कर ड्यूटी चली जाती है इसलिए उसका 7 वर्षीय बच्चा रास्ता भटकने के कारण लापता हो गया था और वह उसी की तलाश कर रहे थे।

अपने बच्चों को अकेला ना छोड़ने की हिदायत देकर बच्चे को उसकी मां के हवाले कर दिया गया।

अपने बच्चे को वापस पाकर उसके परिजन बहुत खुश हुए और तहे दिल से पुलिस टीम का धन्यवाद किया।

सेक्टर-11 पुलिस टीम ने एक औरत की 10 माह की बच्ची को आगरा से बरामद कर, किया परिवार के हवाले

faridabad-police-chowki-sector-11-news

फरीदाबाद, 5  मार्च 2021: चौकी सेक्टर-11 में सुनीता निवासी सैक्टर-20 बी फरीदाबाद ने सूचना दी की उसका पति उसकी 10 माह की बच्ची को अपने साथ बिना बताये कही लेकर चला गया है। जिस सूचना पर कार्यवाई करते हुए चौकी प्रभारी ने ASI दर्शन व मुख्य सिपाही अंजु की पुलिस टीम बना कर तुरंत कार्यवाही के लिए आदेश दिए। 

चौकी पुलिस ने बच्ची औऱ व्यक्ति के बारे कंट्रोल रुम को सूचना दि और पुलिस के व्हाट्सएपों ग्रुप में व्यक्ति के साथ बच्ची फोटो डाली गई। 

संदीप के फोन को साइबर सेल में ट्रेस पर लगाकर पता किया जिस का पता आगरा का लगा जिस पर तुरंत कार्यवाई करते हुए पुलिस टीम आगरा के लिए रवाना हो गई जो व्यक्ति को बच्ची सहित आगरा से बरामद कर फरीदाबाद लाया गया। पुलिस टीम ने परिजनो को सूचना देकर बुलाया बाद कानूनी कार्यवाही बच्ची को परिजनो के हवाले किया। 

संदीप की पत्नी ने बताया कि हमारा पति पत्नी का आपस में किसी बात को लेकर लडाई झगडा हो गया था।  

पुलिस ने बताया कि बच्ची के बारे सूचना मिलते ही पुलिस के शिकायत कुंजी में दर्ज कर तलाश जारी कर दी। जो बच्ची को बरामद कर परिजनो के हवाले कर लडाई झगडा न कर प्यार से रहने बारे हिदायात दी। 

संदीप के परिजनो ने पुलिस टीम का तह दिल से धन्यवाद किया 

लावारिस हालत में मिले 3 बच्चों को उनके परिजनों तक पहुंचा कर पुलिस ने लौटाई परिवार की खुशियां

ballabhgarh-bus-stand-police-chowki-find-3-missing-kids

फरीदाबाद, 26 फरवरी 2021: फरीदाबाद: बल्लभगढ़ बस स्टैंड पुलिस चौकी की टीम ने लावारिस हालत में मिले तीन बच्चों को उनके परिजनों से मिलवाकर उनकी खुशियां वापस लौटाने में अहम भूमिका निभाई है।

गश्त के दौरान एएसआई भूपिंदर व उनकी टीम को बल्लभगढ़ बस स्टैंड के पास तीन बच्चे लावारिस हालत में मिले। 

तीनों बच्चों में एक लड़की और दो लड़के थे। लड़की की उम्र करीब 10 साल और दोनों लड़कों की उम्र 3-4 वर्ष थी।

बच्चे मन के चंचल होते हैं और उन्हें सही-गलत की समझ नहीं होती। बच्चे लालच में आकर किसी गलत व्यक्ति के हाथ न लग जाएं इसलिए उन्होंने बच्चों से उनके परिजनों के बारे में पूछताछ की परंतु बच्चे कुछ भी बताने में असमर्थ थे।

इसके बाद पुलिस टीम द्वारा आसपास के लोगों से बच्चों और उनके परिजनों के बारे में पूछताछ की गई परंतु आसपास के लोगों में किसी को भी बच्चों के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।

बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस टीम बच्चों को अपने साथ पुलिस चौकी में ले आई और इसकी सूचना चौकी प्रभारी को दी। 

चौकी प्रभारी ने बच्चों को प्यार से अपने पास बैठाया और उन्हें फल खिलाए ताकि बच्चे उनके साथ घुल-मिल जाएं और उनके परिजनों के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त हो सके।

काफी समय बच्चों के बातचीत करने के पश्चात 10 वर्षीय लड़की ने अपने परिजनों का फोन नंबर चौकी प्रभारी को दिया जिस पर संपर्क करके बच्चों के परिजनों को उनके बच्चों के बारे में सूचना दी गई।

इसके पश्चात तिगांव निवासी बच्चों के पिता अपने बच्चों को लेने पुलिस चौकी आए और बताया कि वह अपने काम पर चला गया था और उसकी पत्नी दवाई लेने के लिए सीकरी चली गई थी। इसके साथ ही बच्चों की दादी भी बच्चों को 10-10 रुपए देकर आधार कार्ड लेने घर से बाहर चली गई।

परिजनों के बाहर जाते ही बच्चे भी अपनी नानी के घर जाने के लिए ऑटो में बैठ कर निकल गए जिसे पुलिस टीम ने उनकी सुरक्षा हेतु अपने पास रख लिया।

अपने बच्चों को वापस पाकर उनके परिजन बहुत खुश हुए और कहा कि यदि पुलिस नहीं होती तो उनके बच्चों के साथ कोई भी अप्रिय घटना घटित हो सकती थी इसलिए वह तहे दिल से पुलिस टीम के साथ-साथ फरीदाबाद पुलिस का तहे दिल से धन्यवाद करते हैं।

पुलिस आयुक्त ने पुलिस टीम को उनके द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए प्रोत्साहित किया और नागरिकों को अपने बच्चों का ध्यान रखने की हिदायत दी।

उन्होंने कहा कि बच्चे मन के चंचल होते हैं। लालच में किसी भी अपराधिक व्यक्ति की बातों में आ सकते हैं। इसलिए उनका नागरिकों से अनुरोध है कि अपने बच्चों का खास ध्यान रखें और उन्हें शिक्षित बनाकर एक अच्छे समाज निर्माण में अपना अहम योगदान दें।

लावारिस हालत में मिली 11 वर्षीय नाबालिग लड़की को मेट्रो पुलिस ने घर पहुँचाया

faridabad-news-metro-police-chowki-find-missing-minor-girl

फरीदाबाद, 7 फरवरी 2021: मेट्रो पुलिस टीम ने लावारिस हालत में मिली 11 वर्षीय नाबालिग लड़की को उसके परिजनों के हवाले करने का सराहनीय कार्य किया है।

आपको बता दें कि कल दिनांक 6 फरवरी 2021 को रात के समय परिजनों से रूठ कर 11 वर्षीय नाबालिग लड़की राजा नाहर सिंह मेट्रो स्टेशन पर आ गई थी।

मेट्रो स्टेशन पर तैनात मेट्रो पुलिस थाने की टीम के सिपाही नसीब तिलक और सिपाही नरेंद्र को मिली जिसके पास करीब ₹475 रुपए भी थे। लड़की को मायूस देखकर पुलिस टीम ने लड़की से पूछा तो उसने बताया कि वह परिजनों से रूठ कर आ गई है। 

बच्ची से उसके घर का पता पूछा तो उसने बताया कि वह राजीव कॉलोनी बल्लभगढ़ की रहने वाली है। पुलिसकर्मी बच्ची को अपने साथ लेकर उसके घर छोड़ने के लिए गए और परिजनों को बच्चों के बारे में केयर करने के लिए कहा।

परिजनों ने अपनी बच्ची को पाकर फरीदाबाद पुलिस का आभार भी व्यक्त किया है।

सेक्टर-49, सैनिक कॉलोनी योगराज (योगी) हुए गायब, परिवार वालों ने मांगी

faridabad-sector-49-sainik-colony-yograj-missing

फरीदाबाद, 5 फरवरी: फरीदाबाद सेक्टर-49, सैनिक कॉलोनी, C-954 के रहने वाले योगराज (योगी) जिनकी उम्र 65 साल है, वह अपने घर से लापता हो गए हैं

उनके परिजनों ने बताया कि वह 3 फरवरी 2021 से लापता है, जिनकी दिमागी संतुलन ठीक नहीं है, अगर किसी को योगराज दिखाई दें तो 9899982422/ 9811069153 तो सूचना दें.

सेक्टर-10 के रहने वाले महेंद्र कपूर गायब, घर वाले ढूंढ-ढूंढ कर परेशान, मांगी मदद

mahendra-kapoor-missing-from-sector-10-news

फरीदाबाद, 4 जनवरी: फरीदाबाद सेक्टर-10, हाउस नंबर-487 के रहने वाले महेंद्र कपूर, उम्र करीब 51 साल, अपने घर से लापता हो गए हैं जिसकी शिकायत सेक्टर-11 पुलिस चौकी में दी गयी है.

महेंद्र कपूर ने हरे रंग की पैंट, शर्ट, और पीले रंग का चेक स्वेटर पहना है, काली टोपी भी पहनी है. घर वालों ने उनकी तलाश की लेकिन जब वह नहीं मिले तो पुलिस चौकी में शिकायत दी है.

अगर महेंद्र कपूर किसी को दिखाई दें तो 9818024019, 9810946212 मोबाइल नंबर पर सूचित करें। वह 2 फरवरी को गायब हुए थे. उनका कद 5 फ़ीट 5 इंच है.

NIT-3 पुलिस चौकी की टीम ने गुमशुदा लडकी को ढूंढकर किया परिजनो के हवाले

faridabad-police-chowki-nit-3-find-missing-girl

फरीदाबाद, 30 जनवरी 2021: आपको बताते चले कि दिनांक 13 दिसम्बर को PP NO.-3  में एक सूचना संजय कुमार निवासी राहुल कालोनी फरीदाबाद ने दी की उसकी लडकी  घर से बिना बताये कही चली गई है। जिसपर थाना SGM नगर में मुकदमा दर्ज तलाश शुरु कर दी थी।

पुलिस टीम ने गुप्त सुत्रों, तकनीकी एवं साइबर सैल की सहायता से गुमशुदा लडकी को चिमनी बाई चौक NIT-3 से पुलिस टीम द्वारा सुरक्षित वरामद किया है।

पुलिस टीम औरत और दोनो बच्चों को थाना में लेकर आये बाद कानूनी कार्यवाही लीगल एड के बयान करा कर औरत को उसके दोनों बच्चों सहित परिवार के हवाले सकुशल किया गया।

औरत के पति ने फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद किया।

घर से नाराज होकर निकली 17 वर्षीय युवती को बल्लभगढ़ बस स्टैंड पुलिस ने परिजनों को सौंपा

 faridabad-police-bus-stand-police-chowki-missing-case

फरीदाबाद, 21 जनवरी: पुलिस चौकी बल्लभगढ़ बस स्टैंड प्रभारी उप निरीक्षक उमेश कुमार व उनकी टीम ने घर से नाराज होकर निकली 17 वर्षीय युवती को उनके परिजनों तक पहुंचाया है। 

कल दोपहर 3:00 बजे चौकी प्रभारी अपने टीम के साथ थाना क्षेत्र में गश्त कर रहे थे की बल्लभगढ़ बस स्टैंड पर उन्हें एक लड़की लावारिस हालत में मिली।

पुलिस ने जब उसके बारे में पूछताछ की तो उसने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया।

काफी देर पूछताछ करने के बाद लड़की ने अपना नाम ज्योति (बदला हुआ नाम) बताया।

लड़की ने कहा कि उसका उसके भाई के साथ झगड़ा हो गया था इसीलिए वह नाराज होकर आ गई है और वापस अपने घर नहीं जाना चाहती।

चौकी प्रभारी द्वारा बहुत समझाने के पश्चात लड़की ने अपने परिजनों का फोन नंबर चौकी प्रभारी को दिया जिस पर संपर्क करने के पश्चात लड़की के घरवाले लड़की को लेने वहां पर आ गए।

वहां पहुंचकर लड़की के परिजनों ने बताया कि उनकी लड़की सुबह से गायब थी और वह उसकी तलाश कर रहे थे। वह थाना सदर बल्लभगढ़ में इसकी शिकायत दर्ज करवाने ही वाले थे कि चौकी प्रभारी ने उन्हें फोन कर दिया।

लड़की के साथ शांति पूर्ण व्यवहार करने की हिदायत देकर लड़की को उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया।

लड़की के परिजनों ने पूरे पुलिस टीम का धन्यवाद किया और अपनी लड़की को लेकर अपने घर चले गए।

पुलिस आयुक्त ने पुलिस टीम को प्रोत्साहित करते हुए प्रशंसा पत्र दिया और इसी प्रकार लोगों की मदद करते रहने के लिए प्रेरित किया।