Followers

Showing posts with label Missing. Show all posts

लावारिस हालत में मिले 3 बच्चों को उनके परिजनों तक पहुंचा कर पुलिस ने लौटाई परिवार की खुशियां

ballabhgarh-bus-stand-police-chowki-find-3-missing-kids

फरीदाबाद, 26 फरवरी 2021: फरीदाबाद: बल्लभगढ़ बस स्टैंड पुलिस चौकी की टीम ने लावारिस हालत में मिले तीन बच्चों को उनके परिजनों से मिलवाकर उनकी खुशियां वापस लौटाने में अहम भूमिका निभाई है।

गश्त के दौरान एएसआई भूपिंदर व उनकी टीम को बल्लभगढ़ बस स्टैंड के पास तीन बच्चे लावारिस हालत में मिले। 

तीनों बच्चों में एक लड़की और दो लड़के थे। लड़की की उम्र करीब 10 साल और दोनों लड़कों की उम्र 3-4 वर्ष थी।

बच्चे मन के चंचल होते हैं और उन्हें सही-गलत की समझ नहीं होती। बच्चे लालच में आकर किसी गलत व्यक्ति के हाथ न लग जाएं इसलिए उन्होंने बच्चों से उनके परिजनों के बारे में पूछताछ की परंतु बच्चे कुछ भी बताने में असमर्थ थे।

इसके बाद पुलिस टीम द्वारा आसपास के लोगों से बच्चों और उनके परिजनों के बारे में पूछताछ की गई परंतु आसपास के लोगों में किसी को भी बच्चों के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।

बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस टीम बच्चों को अपने साथ पुलिस चौकी में ले आई और इसकी सूचना चौकी प्रभारी को दी। 

चौकी प्रभारी ने बच्चों को प्यार से अपने पास बैठाया और उन्हें फल खिलाए ताकि बच्चे उनके साथ घुल-मिल जाएं और उनके परिजनों के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त हो सके।

काफी समय बच्चों के बातचीत करने के पश्चात 10 वर्षीय लड़की ने अपने परिजनों का फोन नंबर चौकी प्रभारी को दिया जिस पर संपर्क करके बच्चों के परिजनों को उनके बच्चों के बारे में सूचना दी गई।

इसके पश्चात तिगांव निवासी बच्चों के पिता अपने बच्चों को लेने पुलिस चौकी आए और बताया कि वह अपने काम पर चला गया था और उसकी पत्नी दवाई लेने के लिए सीकरी चली गई थी। इसके साथ ही बच्चों की दादी भी बच्चों को 10-10 रुपए देकर आधार कार्ड लेने घर से बाहर चली गई।

परिजनों के बाहर जाते ही बच्चे भी अपनी नानी के घर जाने के लिए ऑटो में बैठ कर निकल गए जिसे पुलिस टीम ने उनकी सुरक्षा हेतु अपने पास रख लिया।

अपने बच्चों को वापस पाकर उनके परिजन बहुत खुश हुए और कहा कि यदि पुलिस नहीं होती तो उनके बच्चों के साथ कोई भी अप्रिय घटना घटित हो सकती थी इसलिए वह तहे दिल से पुलिस टीम के साथ-साथ फरीदाबाद पुलिस का तहे दिल से धन्यवाद करते हैं।

पुलिस आयुक्त ने पुलिस टीम को उनके द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए प्रोत्साहित किया और नागरिकों को अपने बच्चों का ध्यान रखने की हिदायत दी।

उन्होंने कहा कि बच्चे मन के चंचल होते हैं। लालच में किसी भी अपराधिक व्यक्ति की बातों में आ सकते हैं। इसलिए उनका नागरिकों से अनुरोध है कि अपने बच्चों का खास ध्यान रखें और उन्हें शिक्षित बनाकर एक अच्छे समाज निर्माण में अपना अहम योगदान दें।

लावारिस हालत में मिली 11 वर्षीय नाबालिग लड़की को मेट्रो पुलिस ने घर पहुँचाया

faridabad-news-metro-police-chowki-find-missing-minor-girl

फरीदाबाद, 7 फरवरी 2021: मेट्रो पुलिस टीम ने लावारिस हालत में मिली 11 वर्षीय नाबालिग लड़की को उसके परिजनों के हवाले करने का सराहनीय कार्य किया है।

आपको बता दें कि कल दिनांक 6 फरवरी 2021 को रात के समय परिजनों से रूठ कर 11 वर्षीय नाबालिग लड़की राजा नाहर सिंह मेट्रो स्टेशन पर आ गई थी।

मेट्रो स्टेशन पर तैनात मेट्रो पुलिस थाने की टीम के सिपाही नसीब तिलक और सिपाही नरेंद्र को मिली जिसके पास करीब ₹475 रुपए भी थे। लड़की को मायूस देखकर पुलिस टीम ने लड़की से पूछा तो उसने बताया कि वह परिजनों से रूठ कर आ गई है। 

बच्ची से उसके घर का पता पूछा तो उसने बताया कि वह राजीव कॉलोनी बल्लभगढ़ की रहने वाली है। पुलिसकर्मी बच्ची को अपने साथ लेकर उसके घर छोड़ने के लिए गए और परिजनों को बच्चों के बारे में केयर करने के लिए कहा।

परिजनों ने अपनी बच्ची को पाकर फरीदाबाद पुलिस का आभार भी व्यक्त किया है।

सेक्टर-49, सैनिक कॉलोनी योगराज (योगी) हुए गायब, परिवार वालों ने मांगी

faridabad-sector-49-sainik-colony-yograj-missing

फरीदाबाद, 5 फरवरी: फरीदाबाद सेक्टर-49, सैनिक कॉलोनी, C-954 के रहने वाले योगराज (योगी) जिनकी उम्र 65 साल है, वह अपने घर से लापता हो गए हैं

उनके परिजनों ने बताया कि वह 3 फरवरी 2021 से लापता है, जिनकी दिमागी संतुलन ठीक नहीं है, अगर किसी को योगराज दिखाई दें तो 9899982422/ 9811069153 तो सूचना दें.

सेक्टर-10 के रहने वाले महेंद्र कपूर गायब, घर वाले ढूंढ-ढूंढ कर परेशान, मांगी मदद

mahendra-kapoor-missing-from-sector-10-news

फरीदाबाद, 4 जनवरी: फरीदाबाद सेक्टर-10, हाउस नंबर-487 के रहने वाले महेंद्र कपूर, उम्र करीब 51 साल, अपने घर से लापता हो गए हैं जिसकी शिकायत सेक्टर-11 पुलिस चौकी में दी गयी है.

महेंद्र कपूर ने हरे रंग की पैंट, शर्ट, और पीले रंग का चेक स्वेटर पहना है, काली टोपी भी पहनी है. घर वालों ने उनकी तलाश की लेकिन जब वह नहीं मिले तो पुलिस चौकी में शिकायत दी है.

अगर महेंद्र कपूर किसी को दिखाई दें तो 9818024019, 9810946212 मोबाइल नंबर पर सूचित करें। वह 2 फरवरी को गायब हुए थे. उनका कद 5 फ़ीट 5 इंच है.

NIT-3 पुलिस चौकी की टीम ने गुमशुदा लडकी को ढूंढकर किया परिजनो के हवाले

faridabad-police-chowki-nit-3-find-missing-girl

फरीदाबाद, 30 जनवरी 2021: आपको बताते चले कि दिनांक 13 दिसम्बर को PP NO.-3  में एक सूचना संजय कुमार निवासी राहुल कालोनी फरीदाबाद ने दी की उसकी लडकी  घर से बिना बताये कही चली गई है। जिसपर थाना SGM नगर में मुकदमा दर्ज तलाश शुरु कर दी थी।

पुलिस टीम ने गुप्त सुत्रों, तकनीकी एवं साइबर सैल की सहायता से गुमशुदा लडकी को चिमनी बाई चौक NIT-3 से पुलिस टीम द्वारा सुरक्षित वरामद किया है।

पुलिस टीम औरत और दोनो बच्चों को थाना में लेकर आये बाद कानूनी कार्यवाही लीगल एड के बयान करा कर औरत को उसके दोनों बच्चों सहित परिवार के हवाले सकुशल किया गया।

औरत के पति ने फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद किया।

घर से नाराज होकर निकली 17 वर्षीय युवती को बल्लभगढ़ बस स्टैंड पुलिस ने परिजनों को सौंपा

 faridabad-police-bus-stand-police-chowki-missing-case

फरीदाबाद, 21 जनवरी: पुलिस चौकी बल्लभगढ़ बस स्टैंड प्रभारी उप निरीक्षक उमेश कुमार व उनकी टीम ने घर से नाराज होकर निकली 17 वर्षीय युवती को उनके परिजनों तक पहुंचाया है। 

कल दोपहर 3:00 बजे चौकी प्रभारी अपने टीम के साथ थाना क्षेत्र में गश्त कर रहे थे की बल्लभगढ़ बस स्टैंड पर उन्हें एक लड़की लावारिस हालत में मिली।

पुलिस ने जब उसके बारे में पूछताछ की तो उसने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया।

काफी देर पूछताछ करने के बाद लड़की ने अपना नाम ज्योति (बदला हुआ नाम) बताया।

लड़की ने कहा कि उसका उसके भाई के साथ झगड़ा हो गया था इसीलिए वह नाराज होकर आ गई है और वापस अपने घर नहीं जाना चाहती।

चौकी प्रभारी द्वारा बहुत समझाने के पश्चात लड़की ने अपने परिजनों का फोन नंबर चौकी प्रभारी को दिया जिस पर संपर्क करने के पश्चात लड़की के घरवाले लड़की को लेने वहां पर आ गए।

वहां पहुंचकर लड़की के परिजनों ने बताया कि उनकी लड़की सुबह से गायब थी और वह उसकी तलाश कर रहे थे। वह थाना सदर बल्लभगढ़ में इसकी शिकायत दर्ज करवाने ही वाले थे कि चौकी प्रभारी ने उन्हें फोन कर दिया।

लड़की के साथ शांति पूर्ण व्यवहार करने की हिदायत देकर लड़की को उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया।

लड़की के परिजनों ने पूरे पुलिस टीम का धन्यवाद किया और अपनी लड़की को लेकर अपने घर चले गए।

पुलिस आयुक्त ने पुलिस टीम को प्रोत्साहित करते हुए प्रशंसा पत्र दिया और इसी प्रकार लोगों की मदद करते रहने के लिए प्रेरित किया। 

परिवार से नाराज होकर घर से निकली 17 वर्षीय नाबालिग को पुलिस ने तलाश कर परिवार को सौंपा

faridabad-saran-thana-police-find-out-missing-minor-girl

फरीदाबाद, 8 जनवरी: थाना सारन पुलिस ने घर से नाराज होकर निकली 17 वर्षीय नाबालिग लड़की को परिवार को सौंपने का सराहनीय कार्य किया है।

आपको बता दें कि मामला 5 जनवरी 2021 का है थाना सारण एरिया में रहने वाली एक महिला ने शिकायत दी कि उसकी नाबालिग 17 वर्षीय लड़की, किसी बात से नाराज होकर घर से बिना बताए कहीं चली गई है।

जिस पर थाना सारण में मामला 363, 366A आईपीसी के तहत दर्ज कर नाबालिग लड़की की तलाश शुरू कर दी थी।

पुलिस ने अपने गुप्त सूत्रों और इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से आज दिनांक 8 जनवरी 2021 को नाबालिग लड़की को पर्वतीय कॉलोनी फरीदाबाद से तलाश करने में सफलता मिली।

पुलिस ने तलाश की गई नाबालिग लड़की को उसके परिवार के हवाले कर दिया है।

पति से नाराज होकर 3 बच्चों के साथ घर से निकल गयी थी पत्नी, पुलिस ने ढूंढकर घर पहुँचाया

faridabad-police-help-find-missing-women-three-kids

फरीदाबाद, 6 जनवरी: छोटे-मोटे झगड़े को लेकर पति से नाराज होकर घर से 3 बच्चों को लेकर निकली 35 वर्षीय महिला को पुलिस ने बाटा पुल से ढूंढकर सकुशल बरामद किया है।

दिनांक 4 जनवरी 2021 को सेक्टर 20 के निवासी धर्मपाल ने आकर पुलिस चौकी सेक्टर 11 में शिकायत दी कि उसकी अपनी पत्नी के साथ किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी इसलिए वह नाराज होकर हमारे तीनों बेटों को अपने साथ लेकर कहीं चली गई है।

उसने बताया कि उसने हर जगह अपनी पत्नी को ढूंढने की कोशिश की लेकिन उसकी कोई खबर अभी तक नहीं लग पाई है। 

उसने बताया कि उसकी पत्नी हमारे तीन बच्चों जिनकी उम्र क्रमशः 3 साल, डेढ़ साल और डेढ़ महीना है को साथ लेकर गई है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए सेक्टर 11 चौकी प्रभारी उप निरीक्षक प्रदीप कुमार ने उनकी तलाश के लिए दो टीमों का गठन किया और उन्हें आसपास की स्लम बस्ती, अस्पताल, मंदिर व रेलवे स्टेशन पर उनकी तलाश करने के आदेश दिए।

बहुत देर तक बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, मंदिरों में तलाश करने के पश्चात महिला अपने 3 बच्चों सहित बाटा पुल के नीचे ठंड में ठिठुरते हुए मिली।

महिला व छोटे बच्चों को ठंड से बचाने के लिए पुलिस टीम ने उन्हें कंबल औढाया और खाना खिलाकर महिला व तीनों बच्चों को सकुशल उनके परिवार के हवाले कर दिया।

चौकी प्रभारी ने धर्मपाल को भविष्य में अपने परिवार के साथ लड़ाई झगड़ा न करने और उन्हें अपनी पत्नी और बच्चों का ध्यान रखने की हिदायत भी दी।

अपनी पत्नी व बच्चों को वापस पाकर धर्मपाल की चिंता दूर हुई। धर्मपाल व कॉलोनी वासियों ने पुलिस द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

30 दिसंबर से गायब है शाहपुर कलां गाँव का युवक आकाश, परिवार वालों ने मांगी मदद, शेयर करें

faridabad-shahpur-kalan-village-akash-missing-case

फरीदाबाद, 3 जनवरी: शाहपुर कलां गाँव का युवक आकाश 30 दिसंबर को शाम 7.20 बजे से लापता है जिसे ढूंढ ढूंढकर परिवार वाले परेशान हैं लेकिन अभी तक आकाश का पता नहीं चल पाया है.

आकाश के पिता का नाम रामफल है, शाहपुर कलां गाँव फतेहपुर बिलौच, बल्लभगढ़-फरीदाबाद के रहने वाले हैं.

आकाश अपने घर से फरीदाबाद IMT प्लाट नंबर 40, ओमेगा कंपनी जाने के लिए निकला था लेकिन उससे पहले ही लापता हो गया.

आकाश की उम्र करीब 21 साल है, रंग सांवला है, 12वीं पास है, हाइट 5.5 फ़ीट है.

अगर आकाश कहीं दिखाई दे तो मोबाइल नंबर - 9650147953, 9773802426, 8744967208 पर जरूर सूचित करें।

सराय ख्वाजा थाना की मदद से घर पहुंचा 7 साल का लापता बच्चा

faridabad-saray-khwaja-thana-help-find-out-missing-boy

फरीदाबाद, 2 जनवरी: थाना प्रबन्धक ने बताया कि थाना में एक बच्चे के लावारिस होने की सूचना मिली जिसपर तुरन्त कार्यवाही करते हुए एक टीम गठीत कर बच्चे को ढूंढना चालू कर दिया। 

लापता बच्चे को सेक्टर 37 थाना  सराय ख्वाजा के एरिया से ढूंढ कर उसके परिजनों के हवाले किया गया.

बच्चे के पिता पवन सलूजा ने पुलिस थाना में सूचना दी कि उनका लडका उम्र 7 साल का, करीब 6.00 बजे कहीं चला गया है.

जिसपर कार्यवाही करते हुऐ पुलिस टीम ने बीट आफिसरों में सूचना फोन के माध्यम से फैलाई जिस पर बीट आफिसर की मद्द से और पुलिस टीम की कोशिश से बच्चे को करीब 1.30 बजे सकुशल ढुंढ कर परिजनों के हवाले कर दिया।

बच्चे  के परिजनों ने पुलिस टीम का धन्यवाद किया।

6 वर्षीय लावारिस बच्चे को पुलिस टीम संजय कॉलोनी चौकी ने घर पहुंचाया

faridabad-sanjai-colony-police-chowki-find-missing-kid

फरीदबाद, 2 जनवरी 2021: पुलिस चौकी  संजय कॉलोनी ने लावारिस हालत में मिले 6 वर्षीय  बच्चे को उसके परिवार को सौंपकर बड़ा ही प्रशंसा योग्य कार्य किया है।

आपको बता दें कि पुलिस चौकी  संजय कॉलोनी टीम को गश्त के दौरान गोछी लावारिस हालत में एक बच्चा मिला था। 

पुलिस ने जब बच्चे से उसके बारे में पूछने पर अपना नाम  आयुष  व पिता का नाम  विनय बताया और बच्चा पता बताने में असमर्थ था

इस परिस्थिति में पुलिस को उसके परिवार वालों तक पहुंचने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी।

पुलिस ने बच्चे को पीसीआर में बैठा कर कालोनियों में उसके परिवार को तलाशना शुरू किया और सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए बच्चे का फोटो पुलिस ग्रुप और पब्लिक ग्रुप में भेजा गया।

जिस पर पुलिस टीम को पता चला कि बच्चे के माता पिता  के हवाले किया।  बच्चे को मिलते ही उसके पिता ने बच्चे को गले  लगा लिया।

पुलिस ने बच्चे के घर वालों को हिदायत दी की वह अपने बच्चों को अकेला ने थोडे और उनकी निगरानी रखें।

परिवार ने पुलिस का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया है।

पुलिस चौकी सैक्टर-19 की टीम ने गुमशुदा लडकी को तलाश कर किया परिवार के हवाले

faridabad-sector-19-police-chowki-searched-missing-girl

फरीदाबाद, 31 दिसंबर: आपको बताते चले कि दिनांक 24 दिसम्बर को पुलिस चौकी सैक्टर-19 में प्रेमा देवी ने पुलिस को बताया कि उसकी लडकी घर से बिना बताये कही चली गई है। 

जिसपर पुलिस ने तुरन्त कार्यवाही करते हुए गुमशुदगी का मुकदमा थाना ओल्ड में दर्ज कर कार्यवाही शुरु कर दी।

पुलिस के द्वारा अखब़ार में इश्तेहार के जरिये जन सूचना दी गई थी। जो अखबार में इश्तेहार को देखकर लडकी के गांव के एक व्यक्ति हमीरपुर उत्तर प्रदेश निवासी ने फोन के द्वारा सूचना दि थी। 

जिसपर पुलिस ने तुरन्त कार्यवाही करते हुए लडकी को हमीरपुर उत्तर प्रदेश से लडकी को बरामद कर परिवारजनों के हवाले सकुशल कर दिया।

लडकी ने बताया कि उसकी,उसकी माता के साथ किसी बात को लेकर कहा सुनी हो गई थी जिसपर वह नाराज होकर अपने गांव हमीरपुर चली गई थी।

लडकी के परिजनो ने पुलिस का धन्यवाद किया।

लावारिस हालत में मिले 8 वर्षीय बच्चे को मिसिंग पर्सन सेल सेक्टर 30 की टीम ने परिजनों को सौंपा

faridabad-sector-30-missing-handover-missing-kid-family

फरीदाबाद, 27 दिसंबर: मिसिंग पर्सन सेल सेक्टर 30 की टीम ने लावारिस हालत में मिले 8 वर्षीय बच्चे को उसके परिजनों को सौंपने का बेहतरीन कार्य किया है।

आपको बता दें कि दिनांक 25 दिसंबर रात करीब 8:00 बजे पुलिस चौकी सेक्टर 16 की टीम गश्त कर रही थी गश्त के दौरान पुलिस टीम को ओल्ड चौक के पास लावारिस हालत में एक 8 वर्षीय बच्चा रोते हुए मिला।

पुलिस टीम ने बच्चे से रोने का कारण पूछा तो उसने बताया कि वह अपने मामा के घर पर रहता है और खेलने के लिए घर से बाहर आया था और रास्ता भूल गया अब वह अपने घर जाना चाहता है। 

नाम पूछने पर बच्चे ने अपना नाम हिमांशु बताया जब पुलिस टीम ने उससे उसका पता पूछा तो उसने उत्तर प्रदेश बताया।

बच्चे का पता नहीं मिलने पर पुलिस टीम ने बच्चे को मिसिंग पर्सन सेल सेक्टर 30 को सौंपा।

मिसिंग पर्सन सेल ने बच्चे का कोविड-19 टेस्ट कराया और नेगेटिव आने के उपरांत बच्चे को सीडब्ल्यूसी के माध्यम से SOS आश्रम सेक्टर 29 में छोड़ा गया।

मिसिंग पर्सन टीम ने बच्चे की दोबारा काउंसलिंग की तो बच्चे ने बताया कि वह खेड़ी पुल के नजदीक रहता है।

बच्चे को गाड़ी में बैठा कर पुलिस टीम ने खेड़ी पुल के आसपास इलाके में पूछताछ की तो पता चला कि बच्चा वजीरपुर का रहने वाला है।

जो मिसिंग पर्सन टीम ने आज बच्चे को उसके मामा निवासी वजीरपुर के हवाले किया है।

बच्चे के मामा ने मिसिंग पर्सन की टीम का धन्यवाद किया है।

तीन बच्चों को थाना छायंसा पुलिस टीम ने तलाश कर परिजनों के हवाले किया

faridabad-chhainsa-thana-police-searched-3-missing-child

फरीदाबाद, 27 दिसंबर: पुलिस टीम थाना छायंसा ने खेल-खेल में घर से लापता हुए 3 बच्चों को सकुशल बरामद कर परिजनों के हवाले किया है।

आपको बता दें कि मामला कल रात का है पुलिस टीम को सूचना मिली कि 3 बच्चे गांव अटाली से गायब हो गए हैं। पूरे गांव में इस बात को लेकर हैरानी थी कि आखिर तीनों बच्चे कहां चले गए हैं। 

इंस्पेक्टर कुलदीप और उनकी टीम रात भर खेतों में बच्चे को ढूंढती रही।

पुलिस टीम की इस कार्य के लिए जितनी सराहना की जाए उतनी ही कम है।

पुलिस टीम ने बच्चों को सुबह के समय धान के खेतों से बरामद करने में सफलता हासिल की।

पुलिस टीम के द्वारा जब बच्चों की काउंसलिंग की गई तो मालूम हुआ कि बच्चे खेलते समय घर से खेतों में चले गए थे और फिर रास्ता भटक गए थे।

रास्ता भटकने के कारण बच्चे घर वापस नहीं आ पाए और इस दौरान रात हो गई। ठंड और डर के कारण तीनों बच्चे धान के खेतों में पराली में छिपकर सो गए। 

पुलिस टीम ने तीनों बच्चों को उनके परिजनों के हवाले कर उनके चेहरे पर मुस्कान लौट आई है।

बच्चों के परिजनों ने और ग्राम वासियों ने थाना छायंसा एसएचओ कुलदीप और उनकी टीम को धन्यवाद किया है।

पुलिस चौकी संजय कॉलोनी की टीम ने 14 वर्षीय नाबालिक बच्चे को तलाशकर किया परिजनों के हवाले

faridabad-sanjay-colony-police-chowki-find-missing-boy

फरीदाबाद, 17 दिसंबर: फरीदाबाद पुलिस हर क्षेत्र में नागरिकों की मदद करने का भरसक प्रयास करती रहती है,  पुलिस टीम ने 14 वर्षीय नाबालिग बच्चे को तलाश कर सकुशल उसके परिजनों के हवाले किया है।

जैसा कि आप जानते हैं कि माता-पिता अपने बच्चों के भविष्य के लिए दिन-रात मेहनत करके उनकी सारी आवश्यकताओं को पूरा करते हैं। बच्चे अपने माता-पिता की आँख का तारा होते हैं। परन्तु वो आँख के तारे लापता होने के बाद जब आँखों से औझल हो जाते हैं तो उन्हें तलाश करने के लिए उनके परिजन दिन-रात एक कर देते हैं।

पुलिस चौकी संजय कॉलोनी की टीम ने 14 वर्षीय नाबालिक बच्चे को तलाश कर परिवार को सौंपने का सराहनीय कार्य किया है।

आपको बता दें कि दिनांक 13 दिसंबर को नाबालिक बच्चे के परिजनों ने पुलिस को बताया कि उनका 14 वर्षीय बच्चा घर से लापता है। जिस पर पुलिस ने कार्यवाही कर नाबालिक बच्चे की तलाश शुरू की।

पुलिस ने आसपास की जगह पर 14 वर्षीय बच्चे की फोटो दिखाकर तलाश की, इश्तहार छपवा कर बांटे, अनाउंसमेंट कराई गई, मिसिंग सेल की मदद ली गई, लोगों से पूछताछ की और मुनादी कराई।

पुलिस टीम के अथक प्रयास के बाद बच्चे को बरामद किया गया और पुलिस ने जरूरी कार्यवाही कर 14 वर्षीय नाबालिक बच्चे को उसके परिजनों के हवाले किया है।

पर्वतीय कॉलोनी पुलिस चौकी ने 5 वर्षीय मूक बधिर बच्चे को घर पहुंचाया

faridabad-parvatia-colony-police-chowki-news

फरीदाबाद, 13 दिसंबर: फरीदाबाद: पुलिस चौकी पर्वतीय कॉलोनी ने लावारिस हालत में मिले 5 वर्षीय मूक बधिर बच्चे को उसके परिवार को सौंपकर बड़ा ही प्रशंसा योग्य कार्य किया है।

आपको बता दें कि पुलिस चौकी पर्वतीय कॉलोनी टीम को गश्त के दौरान नियर नैन चौक के पास लावारिस हालत में एक बच्चा मिला था। 

पुलिस ने जब बच्चे से उसके बारे में पूछताछ करना चाहा तो पता चला कि बच्चा मूक बधिर है जोकि ना सुन सकता है ना बोल सकता है।

इस परिस्थिति में पुलिस को उसके परिवार वालों तक पहुंचने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी।

पुलिस ने बच्चे को पीसीआर में बैठा कर कालोनियों में उसके परिवार को तलाशना शुरू किया और सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए बच्चे का फोटो पुलिस ग्रुप और पब्लिक ग्रुप में भेजा गया।

जिस पर पुलिस टीम को पता चला कि बच्चे के माता पिता राहुल कॉलोनी एनआईटी में रहते हैं। 

पुलिस टीम ने बच्चे को राहुल कॉलोनी ले जाकर उसके परिवार जनों के हवाले किया है। बच्चे के दादा ने बताया कि बच्चा खेलते समय घर से निकल गया था जिसकी काफी तलाश की लेकिन नहीं पता लगा था। परिवार ने पुलिस का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया है।

3 वर्षीय बच्ची हुई लापता तो संजय कॉलोनी पुलिस चौकी ने ढूढ़कर माँ-बाप को सौंपा

faridabad-sanjay-colony-police-searched-missing-girl

फरीदाबाद, 13 दिसंबर: पुलिस चौकी संजय कॉलोनी ने 3 वर्षीय बच्ची को तलाश कर उसके परिवार को सौंपने का सराहनीय कार्य किया है।

आपको बता दें कि पुलिस को सूचना मिली थी कि बाजार में एक बच्ची लावारिस हालत में घूम रही है।

पुलिस ने बच्ची को अपनी पीसीआर गाड़ी में बैठा कर आसपास के एरिया में मुनादी कराई।

मुनादी कराने के बाद पता चला की बच्ची आदर्श नगर इलाके की है जिसको उसके परिजनों के हवाले किया गया है.

बच्ची के पिता ने बताया कि जब वह सब्जी लेने के लिए बाजार गया था तब बच्ची उसके पीछे आ गई थी और लापता हो गई थी.

परिवार ने संजय कॉलोनी पुलिस टीम का आभार व्यक्त किया है।

8 साल का बच्चा हुआ लापता तो परिवार वालों का रो रो कर हुआ बुरा हाल, पुलिस ने ढूंढ निकाला

faridabad-police-find-out-missing-8-year-boy

फरीदाबाद, 4 दिसंबर: फरीदाबाद पुलिस लगातार एक से बढ़कर एक उपलब्धियां हासिल कर रही है जो कि सिर्फ पुलिस आयुक्त ओपी सिंह के मार्गदर्शन में बने बीट सिस्टम द्वारा ही संभव हो पाया है।

फरीदाबाद पुलिस ने चंद ही घंटों में लापता एक 11 वर्षीय बच्चे को  ढूंढकर उसके स्वजनों के हवाले किया है।

बीट अधिकारियों को सूचना मिली कि थाना ओल्ड फरीदाबाद क्षेत्र के अंतर्गत बसेलवा कॉलोनी से एक 11 वर्षीय बच्चा गुम हुआ है जिस पर तुरंत प्रभाव से मौके पर थाना ओल्ड फरीदाबाद की पुलिस टीम मौके पर गई और   परिजनों से बच्चे की फोटो ली और बच्चे की फोटो खींचकर थाना क्षेत्र के बीच व्हाट्सएप ग्रुप में डाली।

बीट अधिकारियों ने बच्चे की फोटो सहित सारी जानकारी पुलिस संबंधित व्हाट्सएप ग्रुप में भेज दी और उनको ढूंढने में सह-पुलिसकर्मियों की मदद मांगी। जिसके पश्चात फोटो देखकर सहपुलिसकर्मियों ने बच्चे को ढूंढ लिया और सही सलामत परिवारजनों के हवाले कर दिया। 

बच्चे को वापस पाकर परिवार के मायूस चेहरे पर खिल उठी मुस्कान।

पुलिस के सराहनीय कार्य को लेकर परिजनों ने फरीदाबाद पुलिस को किया धन्यवाद।

इसकी सूचना जैसे ही पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह को मिली उन्होंने पुलिस टीम को उनके द्वारा किए गए कार्य से खुश होकर उन्हें शाबाशी दी और प्रशंसा पत्र देने की घोषणा की।

गुरुग्राम से भटककर फरीदाबाद आ गए थे दो बच्चे, बल्लभगढ़ बसअड्डा पुलिस चौकी ने घर पहुँचाया

ballabhgarh-bus-stand-police-chowki-news-missing-case

फरीदाबाद, 28 नवंबर: पुलिस चौकी बस स्टैंड बल्लबगढ़ प्रभारी सुरेंद्र कुमार ने गश्त के दौरान बस स्टैंड बल्लबगढ़ के पास मिले 2 बच्चों को गुरुग्राम के उनके घर पहुँचाया है.

कल शाम पुलिस चौकी बस स्टैंड प्रभारी अपनी चौकी क्षेत्र में बस स्टैंड के पास गश्त कर रहे थे तभी बस स्टैंड के पास मंडी में उन्हें 2 बच्चे जिनकी उम्र लगभग 10-11 साल थी को रोते हुए पाया। चौकी प्रभारी दोनों बच्चों के पास गए और उनसे उनके रोने का कारण पुछा।

दोनों में से एक बच्चे ने बताया कि उसका नाम शुभम है और उसके साथी का नाम जीवन है. शुभम बिहार व जीवन नेपाल का रहने वाला है. दोनों बच्चे दोस्त हैं और गुड़गांव के मोहम्मदपुर गाँव में रहते हैं. दोनों घुमने के चक्कर में किसी वाहन पर बैठकर बल्लबगढ़ आ गये थे और अब रास्ता भटक गए हैं.

चौकी प्रभारी सुरेन्द्र कुमार ने बच्चों को उनके घर पहुँचाने के लिए गुरुग्राम के थाना सेक्टर 37 प्रभारी से संपर्क किया और मोहम्मदपुर गाँव में इन दोनों बच्चों के परिवारजनों के बारे में पता लगाने का अनुरोध किया। गुरुग्राम के थाना सेक्टर 37 प्रभारी ने अपनी पुलिस टीम भेजकर दोनों बच्चों के घर का पता करवाया और इसकी जानकारी चौकी प्रभारी सुरेन्द्र कुमार को दी.

इसके पश्चात् दोनों बच्चों के परिजनों से सम्पर्क करके बच्चों को सकुशल उनके हवाले कर दिया गया. बच्चों के परिजनों ने बताया कि वह पिछले 1 दिन से घर से लापता हैं और इनकी तलाश कर रहे थे.

अपने बच्चों को वापिस पाकर उनके परिजनों ने पुलिस टीम द्वारा किए गए कार्य के लिए पुलिस चौकी प्रभारी सुरेन्द्र कुमार व पूरी फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद् दिया।

3 बच्चे लापता थे, परिवार परेशान था, SGM नगर थाना पुलिस ने ढूंढ लिया

faridabad-sgm-nagar-thana-police-news-26-november

फरीदाबाद, 26 नवंबर: थाना एस जी एम नगर ने 3 लापता बच्चो को उनके परिवार से मिलाया है। थाना में एक लिखित सूचना मिली जिसपर थाना प्रबन्धक ने एक पुलिस टीम गठित की टीम ने बच्चो को एक घंटे में ढुडने में कामयाबी मिली है।

थाना पुलिस ने बताया कि अमर सिहं निवासी कल्याणपुर झुग्गी एनआईटी फरीदाबाद ने थाना मे आकर आपने 2 लडकी 1 लडका शादी में आये थे जो तीनों बच्चे भीड में गुम हो गये है । जो वहा पर मौजूद बीट ऑफिसर ने व्टसअप ग्रुप में इसकी सुचना अपनी टीम को दी जिसपर पुलिस टीम ने तीनों बच्चों को पटेल चौक एस जी एम नगर से सकुशल बरामद करके बच्चों को उनके परिजनों को हवाले कर दिया।

अक्सर देखने को मिलता है कि भीड़-भाड़ वाली जगह पर बच्चे अपने माता पिता से बिछड़ जाते है और गलत लोगो के हत्थे चढ़ जाते है। इसलिए सभी नागरीको से अनुरोध है कि अपने बच्चो का ध्यान रखे ताकि वह गलत लोगो कि पहुंच से दुर रहे। 

पुलिस ने परिजनो को बच्चों के साथ हो रहे अपराध के बारे में अवगत कराया है और हिदायत दी कि वह अपने बच्चों का ध्यान रखे। अपने बच्चों को वापिस पाकर उनके माता पिता बहुत खुश हुए और पूरी पुलिस टीम को उनके द्वारा किये गये कार्य के लिये धन्यवाद किया।

पुलिस आयुक्त ने पुलिस टीम की प्रशंसा की और उन्हे प्रशंसा पत्र से सम्मानित करने का फैसला किया।