Palwal Assembly

Showing posts with label India News. Show all posts

बजट 2019-20, वित्त मंत्री का दावा, हमने 5 साल में किया कांग्रेस के 45 साल से अधिक आर्थिक विकास

modi-sarkar-india-arthik-budget-2019-20-proposed-in-loksabha-news

फरीदाबाद: मोदी सरकार ने आज पूर्ण रूप से बजट 2019-20 पेश किया. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बड़े बड़े दावे किये. उन्होंने कहा कि 2014 में भारत की इकॉनमी 1.85 ट्रिलियन यूएस डॉलर थी, हमने सिर्फ पांच साल में भारत की इकॉनमी 2.7 ट्रिलियन यूएस डॉलर बढ़ा दी और अगले कुछ वर्षों में भारत की इकॉनमी 5 ट्रिलियन यूएस डॉलर हो जाएगी.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में आजादी के बाद भारत की इकॉनमी सिर्फ 1.85 ट्रिलियन डॉलर तक बढ़ी लेकिन हमने पांच साल में ही इसे 2.7 ट्रिलियन डॉलर पहुंचा दिया, अगर आंकड़ों पर गौर किया जाए तो हमने पांच वर्षों में 1 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी बढ़ाई है और कांग्रेस के 60 वर्षों से अधिक विकास किया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मोदी सरकार का यह पूर्ण बजट देश की अर्थव्यवस्था को नयी गति देगा. मोदी सरकार ने भारत को दुनिया की सबसे बड़ी आर्थिक ताकत बनाने का दावा किया है, अब देखते हैं कि यह बजट देश को किस रास्ते पर ले जाता है.

नरेन्द्र मोदी ने ली प्रधानमंत्री पद की शपथ, फिर से मोदी-राज शुरू

narendra-modi-take-oath-as-prime-minister-of-india-second-term

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अपने पद और गोपनीयता की शपथ ली. वह लगातार दूसरी बार भारत के प्रधानमंत्री बने हैं, राष्ट्रपति भवन में मोदी सरकार के दूसरे शपथग्रहण समारोह में नरेन्द्र मोदी के अलावा 40 मंत्रियों ने शपथ ली. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा और NDA की बड़ी जीत हुई है, अकेले भाजपा के 303 सांसद चुनकर आये हैं.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी यूनियन मिनिस्टर के रूप में शपथ ली है, अब भाजपा अध्यक्ष की जिम्मेदारी कोई और निभाएगा.

फरीदाबाद के सांसद कृष्णपाल गुर्जर को भी मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में जगह मिली है, वह लगातार दूसरी बार मंत्री बन रहे हैं.

कई मंत्रियों के नाम की कल ऑन द स्पॉट हो सकती है घोषणा

modi-sarkar-shapath-grahan-30-may-2019-news

फरीदाबाद: कल मोदी सरकार का दूसरा शपथग्रहण होगा. शाम पांच बजे के आस पास आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में दुनिया के कई नेताओं को निमंत्रण दिया गया है. 

इस बार भाजपा के 303 सांसद चुनकर आये हैं, 50 के आसपास सहयोगी पार्टियों के सांसद हैं. मंत्रियों के विभागों का बंटवारा करने में काफी समय लगेगा लेकिन कल मंत्रियों को शपथ दिला दिया जाएगा, उनके विभागों का बँटवारा बाद में किया जाएगा.

कई सांसदों को फोन करके शपथग्रहण के लिए तैयार रहने को बोल दिया गया है, कई मंत्रियों के नामों का ऐलान ऑन द स्पॉट किया जाएगा, या हो सकता है कि उन्हें आधे एक घंटे पहले शपथग्रहण के बारे में बताया जाए.

इस बार प्रधानमंत्री मोदी ने सभी सांसदों को पहले ही आगाह कर दिया था कि हम सभी को मंत्री नहीं बना सकते इसलिए मंत्री बनने के चक्कर में ना रहें, कई चीजों को देखकर मंत्रिमंडल तय किया जाएगा.

अब देखते हैं कि मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में कल कौन कौन शपथ लेता है.

राहुल गाँधी के लिए खुशखबरी, अब उन्हें बुद्धू और बोम्बिनो नहीं बोलेंगे सुब्रमनियम स्वामी

subramanian-swamy-will-not-told-buddhu-bombino-to-rahul-gandhi

फरीदाबाद: भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमनियम स्वामी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी को बुद्दू और बोम्बिनो बोलते थे लेकिन आज उन्होंने सबको चौंकाते हुए ट्वीट किया कि - मैंने निर्णय लिया है, अब बुद्धू और बोम्बिनों नहीं लिखूंगा, अब RG लिखूंगा.
जब ट्विटर पर लोगों ने सुब्रमनियम स्वामी से इसकी वजह पूछी तो उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी अपनी माँ TDK यानी TaDaKa से अधिक स्मार्ट हैं. उन्हें दूसरे मामलों में सुप्रीम कोर्ट में माफी मांगनी पड़ेगी.
सुब्रमनियम स्वामी ने यह भी कहा - राहुल गाँधी पार्टी के अध्यक्ष हैं और उन्होंने लोकसभा चुनावों में अपनी माँ से अच्छा प्रदर्षन किया है.

केपी यादव ने 3 साल पहले सिंधिया से सेल्फी मांगी तो थप्पड़ मार दिया, केपी यादव ने चुनाव हरा दिया

kp-yadav-win-guna-seat-from-jyotiraditya-scindia-from-bjp-ticket-news

गुना: मोदी लहर में कल बड़े बड़े धुरंधर भी चुनाव हार गए. ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस का भविष्य बताया जा रहा था लेकिन कल मोदी लहर में वह भी उड़ गए. उनकी 1.25 लाख वोटों से करारी हार हुई.


बहुत दिलचस्प है गूना सीट की लड़ाई

दरअसल गुना सीट की लड़ाई बहुत दिलचस्प थी, एक कांग्रेसी कार्यकर्ता केपी यादव ने तीन साल पहले ज्योदितादित्य सिंधिया से सेल्फी मांगी थी, बदले में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केपी यादव को थप्पड़ मारकर वहां से हटा दिया था.

इसके बाद केपी यादव ने गुना सीट से मेहनत शुरू की. चुनाव से पहले वह अमित शाह से मिले और उनसे भाजपा से टिकट माँगा, उन्होंने अपने साथ हुए थप्पड़-कांड का जिक्र किया. अमित शाह ने समझ गए कि यह मेरे लिए चन्द्रगुप्त साबित होगा और केपी यादव को टिकट दे दी.

केपी यादव ने भी अमित शाह को निराश नहीं किया और जी-तोड़ मेहनत करके ज्योतिरादित्य सिंधिया को बुरी तरह से हराकर अपने थप्पड़ का बदला ले लिया.

योगी आदित्यनाथ बोले, बंगाल में याचना नहीं अब रण होगा, जीवन जय या मरण होगा

yogi-adityanat-ka-ailan-bangal-me-hogi-ab-aar-paar-ki-ladai-news

फरीदाबाद: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बंगाल हिंसा की घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए बंगाल में आर-पार की लगाईं का ऐलान कर दिया है, कल अमित शाह के रोड शो पर पत्थरबाजी और हमला किया गया. भाजपा इस हमले से नाराज हो गयी है, सभी भाजपा नेताओं ने इसपर तीखी प्रतिक्रिया दी है.

योगी ने ट्विटर पर लिखा -  बंगाल! सबसे पहले जय श्रीराम से आप सबका अभिवादन! आज आपके बीच रहूंगा तानाशाहों तक यह संदेश पहुंचे कि राम इस देश के कण-कण में हैं, स्वतंत्रता इस देश की जीवनी-शक्ति है और मैं बंगाल के क्रांतिधर्मी युयुत्सु का आह्वान कर रहा हूँ। याचना नहीं, अब रण होगा, जीवन जय या कि मरण होगा!
जय हो!

yogi-adityanath-tweet

कांग्रेस वाले भी दबाते दिखे कमल का बटन, लेकिन, हमले खोज की इसकी असलियत, पढ़ें

mp-dewas-news-congress-workers-pressing-kamal-button-news

फरीदाबाद: पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें कांग्रेस का पटका पहने एक युवक कमल का बटन दबाते हुए दिख रहा है, फरीदाबाद में भी यह फोटो व्हाट्स-अप पर शेयर हो रही है इसलिए हमने इसकी सच्चाई जानने का प्रयास किया और सच का पता लगा ही लिया.

यह फोटो फरीदाबाद ही नहीं बल्कि देवास मध्य प्रदेश की है. ये फोटो इस चुनाव की भी नहीं है बल्कि 2018 एमपी विधानसभा चुनाव की है.

हमने कैसे ढूंढी सच्चाई

फोटो की असलियत जानने के लिए हमने उम्मीदवारों की जानकारी हासिल की. EVM में सबसे ऊपर कमल का निशान है और भाजपा प्रत्याशी का नाम Gayatri Raje Puar है जो महिला हैं. वहीं कांग्रेस प्रत्याशी का नाम जय सिंह ठाकुर है. यह फोटो 2018 विधानसभा चुनाव की है लेकिन यह जरूर सच है कि कांग्रेस का पटका पहने युवक कमल का बटन दबा रहा है.

2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा से महेंद्र सोलंकी को उम्मीदवार बनाया गया है जबकि कांग्रेस ने जयहिन्द ठाकुर को उम्मीदवार बनाया है, पिछले चुनाव में महेंद्र सोलंकी भाजपा उम्मीदवार Gayatri Raje Puar से हार गये थे. फोटो में साफ़ दिख रहा है कि भाजपा उम्मीदवार महिला है और उनका नाम Gayatri Raje Puar है जिन्हें वर्तमान में लोकसभा उम्मीदवार नहीं बनाया गया है क्योंकि वह विधायक बन चुकी हैं.

ये मोदी सरकार का कमाल है, विपक्षियों के पास नहीं है मंहगाई का मुद्दा, हम जीतेंगे: राजनाथ सिंह

rajnath-singh-told-modi-sarkar-control-inflation-no-issue-in-election

फरीदाबाद: केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज प्रेस वार्ता करके मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि बतायी और बड़ी जीत का दावा किया. उन्होंने कहा कि इस बार हम फिर से दो तिहाई बहुमत से सरकार बनाएंगे.

राजनाथ सिंह ने कहा कि आपने सभी चुनावों में देखा होगा, विपक्षी पार्टियाँ मंहगाई को सबसे बड़ा मुद्दा बनाती रही हैं लेकिन 2019 लोकसभा चुनाव में मंहगाई कोई मुद्दा ही नहीं है, विपक्षी पार्टियों ने मंहगाई को मुद्दा नहीं बनाया और यही मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है. मोदी सरकार में मंहगाई पर पूरा नियन्त्र है इसीलिए विपक्षी पार्टियों ने मंहगाई को मुद्दा नहीं बनाया, सिर्फ मोदीजी को गालियाँ देकर चुनाव जीतने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन गालियों का जवाब जनता वोटों से दे रही है.

राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे पास मजबूत नेतृत्व है जबकि महागठबंधन के पास कोई चेहरा नहीं है. पूरा देश जानता है कि इस बार फिर से भाजपा की बहुमत की सरकार बनेगी और मोदीजी प्रधानमंत्री बनेंगे.

यूपी वालों से बोले योगी, जाति मत देखो, सब कोई कमल का दबाव बटन

yogi-adityanath-address-public-rally-in-azamgarh-uttar-pradesh

आजमगढ़: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ में एक रैली को सबोधित किया. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के सम्पूर्ण विकास की जिम्मेदारी हमारे कन्धों पर है, स्कूल, अस्पताल, रोड, हाईवे एक्सप्रेसवे सब कुछ हमें बनाना है तो सपा, बसपा और कांग्रेस का काम क्या है, अब इनकी जरूरत ही नहीं है इसिलए आप लोग हमें वोट दें.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मोदी सरकार काम करते समय जाति नहीं देखती, सबका भला करती है, बिजली, पानी, घर, गैस देते समय हम लोग जाति नहीं देखते इसलिए आप लोग वोट देते समय जाति क्यों देखते हैं, आप लोग जाति मत देखिये और कमल का बटन दबाइए.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजमगढ़ में एक तरफ गुंडों का सरताज यानी अखिलेश यादव हैं तो दूसरी तरफ भोजपुरी के सरताज दिनेश यादव उर्फ़ निरहुआ हैं. आप लोग निरहुआ को चुनाव जितवाइये, उसके बाद इस क्षेत्र का पूरा विकास किया जाएगा.

राहुल गाँधी बोले हमने दो दिन में किसानों का कर्जा माफ़ किया, कमलनाथ बोले - ये नामुमकिन है

rahul-gandhi-jhootha-neta-proved-by-mp-chief-minister-kamalnath

फरीदाबाद: मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के किसानों से राहुल गाँधी ने दो दिन में कर्जा माफ़ करने का वादा किया था, किसानों ने कांग्रेस पार्टी पर भरोसा करके मध्य प्रदेश, राजस्थान और छतीसगढ़ में कांग्रेस सरकार बनायी लेकिन राहुल गाँधी ने अपना वादा पूरा नहीं किया, तीन महीनें बीत गए, अभी तक किसानों का कर्जा माफ़ नहीं किया गया.

राहुल गाँधी ने कर्जा माफ़ नहीं किया उसके बावजूद भी सभी रैलियों में बोलते हैं कि हमने दो दिन में किसानों का कर्जा माफ़ कर दिया. आज मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने प्रेस वार्ता करके कांग्रेस पार्टी पर किसानों से धोखाधड़ी के आरोप लगाए, उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने किसानों के साथ छलावा किया, 2 लाख रुपये तक किसानों का कर्जा माफ़ करने का वादा किया गया था लेकिन किसानों का कर्जा माफ़ नहीं किया गया.

दूसरी तरफ मध्य प्रदेश कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी प्रेस वार्ता करके सफाई पेश की, उन्होंने कहा की 10 दिनों में कर्जमाफी संभव ही नहीं है.

एक तरह से कहें तो कमलनाथ ने राहुल गाँधी को झूठा साबित कर दिया है, राहुल गाँधी के वादों पर अब शायद ही कोई भरोसा करे, इस चुनाव में राहुल गाँधी ने गरीबों के बैंक खाते में हर साल 72 हजार रुपये भेजने का वादा किया है, यह वादा भी खोखला साबित हो सकता है.

सर्जिकल स्ट्राइक आर्मी करती है, इसके लिए नरेन्द्र मोदी की जरूरत नहीं है: राहुल गाँधी

rahul-gandhi-says-army-did-surgical-strike-not-pm-narendra-modi

फरीदाबाद: मोदी सरकार हाल ही में हुई एयर स्ट्राइक और पिछले वर्ष सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेती है लेकिन राहुल गाँधी की नजर में इसके लिए मोदी को श्रेय नहीं दिया जाना चाहिए.

राहुल गाँधी ने आज एक प्रेस वार्ता में कहा कि हमारी सरकार में भी 6 बार सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी. सर्जिकल स्ट्राइक करना आर्मी वालों का काम होता है, इसमें मोदी का काम नहीं है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी को 23 मई से पहले ही नतीजों का अनुमान हो गया है, आज नई दिल्ली में एक प्रेस वार्ता के दौरान राहुल गाँधी ने दावा किया कि नरेन्द्र मोदी और भाजपा की हार हो रही है, मैं अपने सर्वे और पोलिंग का ट्रेंड देखकर कह रहा हूँ कि मोदीजी की हार होने वाली है.

राहुल गाँधी ने कहा कि हमारी सरकार बनते ही 23 लाख युवाओं को रोजगार दे दिया जाएगा, 10 लाख युवाओं को पंचायतों में रोजगार मिलेगा, हम न्याय योजना के अंतर्गत हर गरीब के बैंक खाते में हर साल 72000 रुपये डाल देंगे जिसके इकॉनमी की रफ़्तार बढ़ जाएगी.

राहुल गाँधी ने कहा कि हम गरीबों को पैसे बांटेंगे, गरीब खर्च करेंगे, फैक्ट्रियां फिर से चल पड़ेंगी, इकॉनमी फिर से रफ़्तार पकड़ लेगी और हम युवाओं को रोजगार दे देंगे. हमारी सरकार बनते ही भारत का विकास शुरू हो जाएगा.

रैली में मोदी-मोदी के नारे सुनकर बोले मोदी, भाइयों क्यों बढाते हो सपा-बसपा का ब्लड-प्रेशर

pm-narendra-modi-ayodhya-rally-appeal-to-vote-for-modi-bjp-news

अयोध्या: आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अयोध्या के मया बाजार क्षेत्र में चुनावी रैली को संबोधित किया और अपने पांच साल के कामकाज गिनाये. मोदी सरकार के कामों से खुश होकर जनता ने जोर जोर से मोदी मोदी के नारे लगाने लगे, काफी देर तक शोर होता रहा, मोदी को बोलने ही नहीं दिया जा रहा था.

जनता को मोदी मोदी के नारे लगाते देखकर प्रधानमंत्री मोदी खुश हो गए, उन्होंने जनता से कहा - आपका प्यार और आशीर्वाद मेरे सर माथे पर लेकिन आप लोग मोदी-मोदी करते हो तो सपा बसपा का ब्लड-प्रेशर बढ़ जाता है, ये लोग बाद में कहेंगे कि मोदी का डॉक्टर नहीं आया, मुझपर एक इल्जाम और लग जाएगा. अब आप लोग मुझे बोलने दो.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाषण में सपा-बसपा और कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला, उन्होंने कहा कि हम सबके साथ और सबके विकास के फ़ॉर्मूले पर काम करते हैं लेकिन विपक्षी पार्टियाँ सिर्फ लूट के फ़ॉर्मूले पर काम करती हैं, अगर आप दोबारा भाजपा सरकार बनाओगे तो अपने सपने बोवोगे और अच्छे नतीजे मिलेंगे.

उन्होंने आतंकवाद के मुद्दे पर विपक्षी दलों को घेरते हुए कहा - अभी श्रीलंका में बम धमाके हुए और आतंकियों ने सैकड़ों इंसानों को क़त्ल कर दिया, ऐसे ही धमाके 2014 से पहले भारत में होते थे लेकिन पांच साल में कश्मीर को छोड़कर भारत के अन्दर धमाके की खबर नहीं आयी क्योंकि आतंकवादी जानते हैं कि हमारी सरकारी उन्हें पातळ से भी ढूंढ निकालेगी और ख़त्म कर देगी.

मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही की है लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि आतंकवादी ख़त्म हो गए हैं, हमारे पड़ोस में आतंक की फैक्ट्री चल रही है, उनका काम है आतंकवादियों को एक्सपोर्ट करना है, ये लोग किसी कमजोर सरकार के इन्तजार में हैं ताकि भारत में फिर से आतंकवादी हमले कर सकें, आप लोगों को सावधान रहना होगा, सावधानी हटी और दुर्घटना घटी, अगर कोई कमजोर सरकार आ जाएगी तो आतंकवादी फिर से आतंकवाद फैलाना शुरू कर देंगे लेकिन अगर हमारी सरकार आयी तो आतंकवादियों को सीमा पार तक घुस कर मारेंगे.

आतंकवाद के शस्त्र IED को लोकतंत्र के शस्त्र वोटर आईडी से दीजिये जवाब, कीजिये वोट: NAMO

pm-narendra-modi-appeal-to-vote-in-ahmedabad-ranip-booth-news

गुजरात: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अहमदाबाद के रानिप बूथ पर मतदान किया. इस अवसर पर उन्होंने लोगों ने वोटर देकर अपना कर्त्तव्य निभाने की अपील की.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मुझे वोट देकर गर्व हो रहा है, जो सुकून कुम्भ में स्नान करने से आता है वही सुकून मतदान करने से आता है इसलिए सभी लोग घर से निकलकर मतदान करें, और मतदान किसे करें, यह देश की जनता भली भाँती समझती है क्योंकि जनता को दूध का दूध और पानी का पानी करना आता है.

प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद के शस्त्र IED को लोकतंत्र के शस्त्र वोटर आईडी से परस्त करने की अपील की, उन्होंने कहा कि जिस प्रकार आतंकवादियों का शस्त्र IED होता है उसी तरह से लोकतंत्र का शस्त्र वोटर आईडी होता है इसलिए इस शस्त्र का इस्तेमाल करके आतंकवाद को परास्त करें.

बता दें कि गुजरात की सभी 26 सीटों पर आज मतदान हो रहा है, भाजपा ने सभी सीटें जीतने का दावा किया है, पिछली बार भी भाजपा को यहाँ से सभी सीटें मिली थीं.

श्रीलंका में 8 धमाके, 300 की मौत, मोदी सरकार से पहले भारत में भी होते थे ऐसे ही धमाके: NAMO

shrilanka-bomb-blast-300-killed-pm-narendra-modi-remind-upa-sarkar

कोलम्बो, 21 अप्रैल: भारत के लोग बहुत भुलक्कड़ हैं, अधिकतर लोग भूल गए हैं कि मोदी सरकार के आने से पहले यानी पूर्व कांग्रेस सरकार में दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, बैंगलोर, कलकत्ता, अयोध्या, फैजाबाद, लखनऊ हर जगह ब्लास्ट होते रहते हैं, आतंकी जब चाहे, जहाँ चाहे वहां बम फोड़ देते थे और सैकड़ों लोगों की जान ले लेते थे, कांग्रेस सरकार ने मुंबई बम ब्लास्ट और 26/11 अटैक के बाद भी कोई ठोस एक्शन नहीं लिया.

आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों को 2014 का दहशत भरा समय याद दिलाया, पहले सभी बसों और ट्रेनों की सीट पर लिखा होता था - अपनी सीट के नीचे झाँक लें, कोई बम हो सकता है, यात्री भी डरे रहते थे कि पता नहीं कब धमाका हो जाए. अब देशवासी वो दिन भूल चुके हैं, अब कोई बसों के नीचे और ट्रेनों के नीचे नहीं देखते, अब बिंदास सफ़र करते हैं लेकिन लोग यह नहीं सोचते कि अब बम धमाके क्यों बंद हो गए, अब आतंकी कश्मीर से आगे क्यों नहीं बढ़ पाते.

रविवार को सुबह श्रीलंका में 8 सीरियल बम ब्लास्ट हुए जिसमें अब तक 300 से अधिक लोगन की मौत हो चुकी है जबकि 500 से अधिक लोग घायल हुए हैं.

इन बम धमाकों में सैकड़ों लोगों की हत्या करने वाले आतंकवादियों की पहचान हो चुकी है, इनके नाम जहरान हाशिम और अबू मुहम्मद थे. दोनों ही आत्मघाती आतंकी थे और धामाके के साथ खुद को भी उड़ा लिया. अन्य आत्मघाती हमलावरों की पहचान नहीं हो पायी है, सभी हमलावरों ने बम के साथ खुद को भी उड़ा लिया, इस हमले की सुई ISIS की तरफ घूम रही है. श्रीलंका में आपातकाल लागू कर दिया गया है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज श्रीलंका बम धमाकों का जिक्र करते हुए बोले, 2014 से पहले भारत में भी आतंकी जहाँ मर्जी वहां बम धमाका कर देते थे लेकिन अब कश्मीर से आगे बढ़ने की उनकी हिम्मत नहीं होती, अब उन्हें डर लगा रहता है कि अगर मैं बम फोडूंगा तो मोदी पातळ से भी ढूंढ निकालेगा और सजा देगा, यही नहीं मेरे आकाओं को भी ख़त्म कर देगा.

श्रीलंका में 250 लोगों की हत्या करने वाले आतंकियों की हुई पहचान - जहरान हाशिम और अबू मुहम्मद

shrilanka-serial-bomb-blast-jahran-hashim-and-abu-mohammad-news

कोलम्बो, 21 अप्रैल: रविवार को सुबह श्रीलंका में 8 सीरियल बम ब्लास्ट हुए जिसमें अब तक 250 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 500 से अधिक लोग घायल हुए हैं.

इन बम धमाकों में सैकड़ों लोगों की हत्या करने वाले आतंकवादियों की पहचान हो चुकी है, इनके नाम जहरान हाशिम और अबू मुहम्मद थे. दोनों ही आत्मघाती आतंकी थे और धामाके के साथ खुद को भी उड़ा लिया.

शांगरी ला होटल पर धमाके को आत्मघाती हमलावर जहरान हाशिम ने अंजाम दिया. वहीं अबू मुहम्मद की पहचान बैटलिकलोआ चर्च के आत्मघाती हमलावर के रूप में की गई है. 

रविवार को कुल आठ बम धमाके हुए. इनमें राजधानी कोलंबो के शांगरी-ला होटल और किंग्सबरी होटल में विस्फोट हुआ. वहीं कई धमाके श्रीलंका की राजधानी कोलंबो के कई चर्च में हुए. ये विस्फोट ईस्टर सेवाओं की पूजा के दौरान हुए. कोलंबो के पास देहीवाला शहर में भी बम धमाके हुए.

ईस्टर पर सीरियल बम धमाकों से दहला श्रीलंका

colombo-serial-bomb-blast-news-10-kiled-and-more-than-100-injured

कोलम्बो: आज ईसाईयों का ईस्टर का त्यौहार है लेकिन श्रीलंका के लिए आज का दिन बहुत खतरनाक साबित हुआ है, कोलम्बो में करीब 6 सीरियल बम धमाकों से श्रीलंका दहल गया है, इन धमाकों में अब तक 10 लोगों के मरने और 100 से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है.

खबर के मुताबिक चार चर्चों और दो फाइव स्टार होटल में बम फोड़े गए हैं. घायलों को उपचार के लिए अस्पतालों में भेजा गया है, श्रीलंका में इस वक्त अफरा तहरी का माहौल है. इन बम धमाकों में अधिकतर इसाई धर्म के लोगों को निशाना बनाया गया है.

साजिश और टॉर्चर की शिकार साध्वी प्रज्ञा ट्विटर के मैदान में उतरी, फॉलो करने के लिए देखिये लिंक

sadhvi-pragya-thakur-twitter-account-mesadhvipragya-link-to-follow

नई दिल्ली: साजिश के तहत बम धमाके के केस में कथित रूप से पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा फंसाई गयी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर अब ट्विटर के मैदान में उतर गयीं हैं.

साध्वी प्रज्ञा के नाम से कई फर्जी अकाउंट हैं जिसपर हजारों फॉलोवर भी हैं लेकिन साध्वी ने आज आधिकारिक अकाउंट खोलकर अपने समर्थकों से जुड़ने का फैसला किया है.

साध्वी के ट्विटर अकाउंट की आईडी है - @mesadhvipragya और आधिकारिक नाम है - sadhvi pragya official

फॉलो करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें -

राहुल गाँधी के पास अब 2 ही विकल्प - या अनपढ़ बनकर रहें या ब्रिटिश नागरिक बनकर कभी चुनाव ना लड़ें

rahul-gandhi-raul-vinci-have-only-two-option-loksabha-election-2019

नई दिल्ली: नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गाँधी उर्फ़ राउल विंसी बुरी तरह से फंस गए हैं. उनका अमेठी में नामांकन खतरे में पड़ गया है. अब राहुल गाँधी के सामने सिर्फ दो विकल्प हैं, या तो हलफनामें से अपनी डिग्रियों का विवरण हटा दें और भारत में अनपढ़ बनकर रहें क्योंकि वह भारत में राहुल गाँधी के नाम से रहते हैं जबकि विदेशों में Raul Vinci के नाम से पढ़ाई किये हैं.

अगर राहुल गाँधी अपनी डिग्रियों का मोह नहीं छोड़ते हैं तो उन्हें भारत में Raul Vinci के नाम से रहना होता यानी ब्रिटिश नागरिक बनकर रहना होगा, उन्हें भारत की नागरिकता भी छोडनी होगी, ऐसी हालत में वह कभी चुनाव नहीं लड़ पाएंगे.

राहुल गाँधी ने अमेठी में दाखिल किये नामांकन में अपनी उच्च शिक्षा MPhil बतायी है. उन्होंने MPhil डिग्री ब्रिटेन की कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से ली है लेकिन उनके सर्टिफिकेट में उनका नाम Raul Vinci लिखा है. देखिये सर्टिफिकेट की कॉपी -

rahul-vinci-mphil-certificate

राहुल गाँधी के इस दस्तावेज पर एक निर्दलीय उम्मीदवार ध्रुव लाल की नजर पड़ गयी. इसके बाद उन्होंने रिटर्निंग ऑफिसर के पास शिकायत की जिसमें उन्होंने सवाल पूछा - राहुल गाँधी अपना नाम राहुल गाँधी लिखते हैं तो उनकी Mphil डिग्री और विदेशों में प्राप्त अन्य डिग्रियों पर अपना नाम Raul Vinci क्यों लिखा है, क्या राहुल गाँधी और Raul Vinci एक ही आदमी हैं या राहुल गाँधी ब्रिटिश नागरिक हैं.

चुनाव आयोग ने भी राहुल गाँधी को नोटिस जारी करते हुए कहा है कि क्या Rahul Gandhi और Raul Vinci एक ही आदमी हैं. अगर एक ही आदमी हैं तो राहुल गाँधी अपना नाम Raul Vinci क्यों नहीं लिखते.

अब राहुल गाँधी को चुनाव आयोग को जवाब देना पड़ेगा. उन्होंने Raul Vinci के नाम से डिग्री क्यों ली. अगर आपकी डिग्री में Raul Vinci लिखा है तो भारत में आप अपना नाम राहुल गाँधी क्यों लिखते हैं.

raul-vinci-and-rahul-gandhi

अब आप खुद देखिये, राहुल गाँधी ने अगर Raul Vinci के नाम से डिग्री ली है तो वह भारत में अपनी डिग्री कैसे दिखा सकते हैं, क्योंकि भारत में तो उनका नाम राहुल गाँधी है. क्या उन्होंने किसी Raul Vinci नाम के किसी आदमी से डिग्री खरीदी है, अगर हाँ तो भी उनकी डिग्री रद्द हो सकता है, अब चुनाव आयोग के पास दो ही विकल्प हैं - या तो राहुल गाँधी की डिग्री रद्द कर या उनका नामांकन. अगर राहुल गाँधी की डिग्री रद्द की जाएगी तो वह भारत में अनपढ़ कहलाएंगे.

कांग्रेस में भी शत्रुघ्न सिन्हा का दोगलापन शुरू, बिहार में कांग्रेस के साथ, यूपी में खिलाफ


फरीदाबाद: शत्रुघ्न सिन्हा जहाँ भी रहते हैं अपना दोगला चरित्र जरूर दिखाते हैं, उनका नाम भले ही शत्रुघ्न हो लेकिन वे अपनी ही पार्टी से शत्रुता निभाते हैं. जब वे भाजपा में थे और भाजपा सरकार ने उन्हें मंत्री नहीं बनाया तो लाल कृष्ण आडवानी की तारीफ और मोदी की बुराई करने लगे, अगर उन्हें मंत्री बना दिया जाता तो सभी नेता अच्छे हो जाते और मोदी भी उनकी नजर में महान हो जाते लेकिन मंत्री ना बनाए जाने से वह पार्टी का विरोध करने लगे और कांग्रेस में शामिल हो गए.

अब वह कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए हैं तो वहां भी दोगला चरित्र दिखा रहे हैं. पटना साहिब से वह कांग्रेस पार्टी से खुद खड़े हुए हैं और वहां पर कांग्रेस पार्टी को जिताने और राहुल गाँधी को प्रधानमंत्री बनाने की अपील कर रहे हैं.

लखनऊ में उनकी पत्नी समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ रही हैं तो शत्रुघ्न सिन्हा सपा को जिताने और कांग्रेस को हराने की अपील कर रहे हैं, मतलब एक ही देश में एक जगह कांग्रेस को जिताने और दूसरी जगह कांग्रेस को हराने की अपील कर रहे हैं. शत्रुघ्न सिन्हा का दोगलापन देखकर लखनऊ में कांग्रेस के उम्मीदवार आचार्य प्रमोद कृष्णन बहुत नाराज हैं, कई अन्य नेता भी नाराज हैं.

जब शत्रुघ्न सिन्हा से इसको लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेरे लिए परिवार पहले है और पार्टी बाद में. शत्रुघ्न सिन्हा लखनऊ में घुमते हैं तो अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री बनाने की अपील करते हैं लेकिन जब वह पटना में होते हैं तो राहुल गाँधी को प्रधानमंत्री बनाने की अपील करते हैं जबकि लखनऊ में कांग्रेस और सपा एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं.

5 साल पहले जो हिन्दुओं को आतंकी साबित करने में लगे थे, आज खुद को हिन्दू साबित करने में लगे हैं

digvijay-singh-want-to-prove-himself-hindu-he-termed-hindu-atankwad

भोपाल: सच कहते हैं, समय को करवट बदलते देर नहीं लगती, 2004 से 2014 तक केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, उस समय के दर्जनों कांग्रेसी नेता सिर्फ यह साबित करने में लगे थे कि हिन्दू भी आतंकवादी होते हैं, ये नेता पूरी दुनिया को यही सन्देश देना चाहते थे कि हिन्दू भी आतंकवादी होते हैं.

हिन्दुओं को आतंकवादी साबित करने के लिए कांग्रेसी नेताओं ने मालेगांव ब्लास्ट केस में साध्वी प्रज्ञा, कर्नल पुरोहित सहित कई हिन्दुओं को प्लानिंग के तहत फंसाया और इन्हें आतंकवादी बताते हुए न्यूज़ चैनलों और अखबारों में खूब ख़बरें छपवाई, उस वक्त पूरी दुनिया में सन्देश दिया गया कि हिन्दू भी आतंकवादी होते हैं, दिग्विजय सिंह जैसे नेता अपनी रैलियों में बोलते थे - हिन्दू भी आतंकवादी होते हैं, भगवा आतंकी होते हैं, ये लोग यह भी कहते थे कि श्री राम का कोई अस्तित्व ही नहीं है.

आज समय बदल गया है, अब दिग्विजय सिंह खुद को हिन्दू साबित करने में लगे हैं, हमेशा तिलक लगाए रहते हैं जबकि 2014 से पहले ये तिलकधारियों को आतंकवादी बोलते थे.

साध्वी प्रज्ञा और कर्नल पुरोहित झूठे आरोपों से बरी

दिग्विजय सिंह और कुछ अन्य कांग्रेसी नेताओं ने हिन्दुओं को आतंकवादी साबित करने के लिए मालेगांव केस में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को झूठे फंसा दिया. साध्वी को आतंकियों की तरह ही टार्चर किया गया, उनकी नस नस तोड़ दी गयी लेकिन कांग्रेसी उनकी आत्मा को नहीं तोड़ पाए. कुछ दिन पहले NIA कोर्ट ने साध्वी प्रज्ञा को सभी आरोपों से बरी कर दिया.

17 अप्रैल को साध्वी प्रज्ञा भाजपा में शामिल हो गयीं. उन्हें भोपाल से भाजपा का लोकसभा उम्मीदवार बनाया गया है. दिग्विजय सिंह भी उनकी ताकत को भली भाँती समझते हैं, इसलिए उन्होंने साध्वी प्रज्ञा का स्वागत किया. दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया - मैं साध्वी प्रज्ञा जी का भोपाल में स्वागत करता हूँ। आशा करता हूँ कि इस रमणीय शहर का शांत, शिक्षित और सभ्य वातावरण आपको पसंद आएगा। मैं माँ नर्मदा से साध्वी जी के लिए  प्रार्थना करता हूँ और नर्मदा जी से आशीर्वाद माँगता हूँ कि हम सब सत्य, अहिंसा और धर्म की राह पर चल सकें।
नर्मदे हर!
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके हैं. जब साध्वी प्रज्ञा को झूठे केस में फंसाकर आतंकवादियों जैसा रखा गया था तो दिग्विजय सिंह और अन्य कांग्रेसी नेता सभी रैलियों में हिन्दुओं को आतंकवादी बोलते थे. लेकिन अब साध्वी प्रज्ञा और कर्नल पुरोहित भी बाइज्जत बरी हो गए हैं. इन लोगों को आतंकी बोलने वाले दिग्विजय सिंह आज इनका स्वागत कर रहे हैं.