Showing posts with label India News. Show all posts

कोरोना पॉजिटिव होने पर अमिताभ बच्चन अस्पताल में भर्ती, संपर्क में आये लोगों से की ये अपील, पढ़ें

amitabh-bachchan-test-corona-positive-admitted-in-nanavati-hospital

फरीदाबाद, 11 जुलाई: बिग-बी यानी अमिताभ बच्चन की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर उन्हें मुंबई के नानावटी हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है.

अमिताभ बच्चन ने अपने कोरोना पॉजिटिव होने की खुद ही जानकारी दी, उन्होंने लिखा - मेरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है, मुझे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है, मेरे परिवार और स्टाफ का भी टेस्ट हुआ है लेकिन रिपोर्ट पेंडिंग है.

उन्होंने अपने संपर्क में आये लोगों से अपील की है कि जो लोग भी पिछले 10 दिनों में मेरे संपर्क में आये हैं उनसे मेरी प्रार्थना है कि अपना टेस्ट कराएं।

फरीदाबाद से पकडे गए प्रभात मिश्रा की तर्ज पर विकास दूबे का भी हुआ एनकाउंटर, गाडी खराब हुई और..

vikas-dubey-killed-by-up-police-in-an-encounter-kanpur-news

कानपुर: पहले से ही अनुमान जताया जा रहा था कि विकास दूबे को अदालत नहीं पहुँचने दिया जाएगा और रास्ते में ही उसका एनकाउंटर कर दिया जाएगा। लोगों का अनुमान सच साबित हुए और यूपी पुलिस ने विकास दूबे का एनकाउंटर का दिया।

फरीदाबाद से पकडे गए विकास दूबे के साथी प्रभात मिश्रा का भी इसी प्रकार से कानपुर में एनकाउंटर हुआ था, फरीदाबाद पुलिस ने प्रभात मिश्रा को यूपी पुलिस को ट्रांजिट रिमांड पर भेजा था लेकिन पनकी के पास पुलिस की गाड़ी खराब हुई, उसके बाद प्रभात मिश्रा ने पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की और पुलिस ने उसका एनकाउंटर कर दिया।

इसी तर्ज पर आज विकास दूबे का भी एनकाउंटर कर दिया गया. कानपुर पहुँचते ही पुलिस की गाडी पलट गयी, उसके बाद विकास दूबे ने एक पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की, कथित तौर पर उसने पुलिसकर्मियों पर फायरिंग भी की उसके बाद पुलिस ने उसका एनकाउंटर कर दिया।

पुलिस के अनुसार इस एनकाउंटर में चार पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। कानपुर के एसएसपी दिनेश कुमार ने एनकाउंटर की पुष्टि की है।

एसएसपी दिनेश कुमार का कहना है कि गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे पुलिसवालों का हथियार छीनकर भाग निकला। उसे सरेंडर करने का मौका दिया गया था, लेकिन विकास दुबे ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में उसे गोली लगी और उसकी मौत हो गई है। ये घटना कानपुर से 15 किलोमीटर पहले की है।

गौरतलब है की कल उज्जैन पुलिस ने विकास दुबे को महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया था। आठ घंटे पूछताछ करने के बाद यूपी एसटीएफ के हत्थें सौंप दिया। विकास दूबे पर कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की ह्त्या का आरोप था। 

महापापी विकास दूबे की गिरफ्तारी पर शिवराज का बयान, महाकाल की शरण में जाने पर भी नही धुलेंगे पाप

cm-shivraj-singh-chauhan-says-mahakal-will-not-save-vikas-dubey

उज्जैन 9 जुलाई: उज्जैन के महाकाल मंदिर में यूपी के खूंखार बदमाश और महापापी विकास दूबे की गिरफ्तारी पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने बयान दिया है.

उन्होंने ट्विटर पर लिखा जिनको लगता है की महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धूल जाएँगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं। हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख्श्ने वाली नहीं है. उन्होंने विकास दुबे की गिरफ़्तारी के लिए उज्जैन पुलिस को बधाई भी दी है.
आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के कानपुर का नामचीन बदमाश और 8 पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी विकास दूबे मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर में गिरफ्तार कर लिया गया है, विकास दूबे पाप करने के बाद महाकाल के मंदिर में चला गया था.

विकास दूबे एक वीडियो में कुछ सुरक्षाकर्मियों के साथ नंगे पैर मंदिर में जाता दिख रहा है जिससे लग रहा है कि वह महाकाल के दर्शन करने जा रहा है, एक फोटो में उसके हाथों पर कलावा बंधा भी दिख रहा है। विकास दूबे ने मंदिर में खुद ही अपनी पहचान और नाम बता दिया जिससे उसकी गिरफ्तारी आसान हो गयी।

मध्य प्रदेश के उज्जैन के DM ने विकास दूबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की है, राज्य के गृह मंत्री ने भी उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि की है. विकास दूबे को पुलिस जल्द ही कोर्ट में पेश कर सकती है, उसके बाद उसे ट्रांजिट रिमांड पर यूपी पुलिस को सौंपा जा सकता है.

पाप करने के बाद उज्जैन महाकाल के मंदिर में पहुंचा विकास डूबे, दर्शन करने के बाद गिरफ्तार

vikas-dubey-arrested-in-ujjain-mahakal-mandir-by-mp-police-news

फरीदाबाद 9 जुलाई: उत्तर प्रदेश के कानपुर का नामचीन बदमाश और 8 पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी विकास दूबे मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर में गिरफ्तार कर लिया गया है, विकास दूबे पाप करने के बाद महाकाल के मंदिर में चला गया था.

विकास दूबे एक वीडियो में कुछ सुरक्षाकर्मियों के साथ नंगे पैर मंदिर में जाता दिख रहा है जिससे लग रहा है कि वह महाकाल के दर्शन करने जा रहा है, एक फोटो में उसके हाथों पर कलावा बंधा भी दिख रहा है। विकास दूबे ने मंदिर में खुद ही अपनी पहचान और नाम बता दिया जिससे उसकी गिरफ्तारी आसान हो गयी।

मध्य प्रदेश के उज्जैन के DM ने विकास दूबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की है, राज्य के गृह मंत्री ने भी उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि की है. विकास दूबे को पुलिस जल्द ही कोर्ट में पेश कर सकती है, उसके बाद उसे ट्रांजिट रिमांड पर यूपी पुलिस को सौंपा जा सकता है.

मारा गया विकास दूबे का साथी प्रभात

फरीदाबाद पुलिस ने काफी मेहनत करके विकास दूबे के ख़ास साथी प्रभात मिश्रा को गिरफ्तार किया था, उसे कोर्ट में पेश करके 24 घंटे के लिए UP पुलिस ने ट्रांजिट रिमांड पर लिया लेकिन रास्ते में ही प्रभात मिश्रा का एनकाउंटर कर दिया गया.

यूपी पुलिस के ADG कानपुर के मुताबिक़ रास्ते में वैन खराब हो गयी थी जिसका फायदा प्रभात मिश्रा ने उठाया और एक पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर फायरिंग कर दी, प्रभात मिश्रा वहां से भागना चाहता था लेकिन पुलिस ने भी फायरिंग की जिसमें प्रभात मिश्रा मारा गया, इस मुठभेड़ में कई पुलिसकर्मियों को भी चोट आयी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कानपुर के कुख्यात बदमाश विकास दुबे के मुख्य साथी सहित दो अन्य आरोपियों को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने 8 जुलाई को दबोचा था, फरीदाबाद में भी प्रभात मिश्रा और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई थी. विकास दुबे के सहयोगी आरोपी कार्तिकेय ने खुद को पुलिस से घिरा देख पुलिस पर फायरिंग की, क्राइम ब्रांच ने चारों तरफ से घेर कर उसे दबोच लिया। मुख्य आरोपी  कार्तिकेय उर्फ प्रभात से  4 पिस्टल  और 44 जिंदा राउंड बरामद किए.

दिनांक 7 जुलाई को क्राइम ब्रांच फरीदाबाद को गुप्त सूचना मिली कि उत्तर प्रदेश के कुख्यात बदमाश विकास दुबे के कुछ सहयोगी आरोपी हथियार सहित न्यू इंदिरा नगर कंपलेक्स हरि नगर नहर पार एरिया में छुपे हुए है। सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को भेजी गई।

ओपी सिंह पुलिस आयुक्त महोदय ने डीसीपी क्राइम मकसूद अहमद को आरोपियों की धरपकड़ के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए.

 डीसीपी क्राइम मकसूद अहमद  की देखरेख में एसीपी क्राइम अनिल यादव ने  क्राइम ब्रांच 48, क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव और क्राइम ब्रांच बीपीटीपी की तीन टीमों के साथ सूचना के आधार पर नहर पार एरिया में रेड की।

रेड के दौरान एक घर मे छुपे हुए बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर भागने की कोशिश की लेकिन क्राइम ब्रांच की टीम की घेराबंदी और सतर्कता के चलते आरोपियों को मौके पर ही धर दबोचा।

8 पुलिसवालों के हत्यारे विकास दूबे के खास साथी अमर दूबे के जीवन का हुआ अंत

vikas-dubey-close-aid-amar-dubey-killed-in-an-encounter-hamirpur-up-stf

हमीरपुर, 8 जुलाई: यूपी के हमीरपुर में एक मुठभेड़ में विकास दूबे के ख़ास साथी और 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्यारोपी अमर दूबे को मार गिराया है। इस मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मी भी घायल हो गए हैं जिनका अस्पताल में उपचार किया जा रहा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि UP Police स्पेशल टास्क फ़ोर्स विकास दूबे और उसके साथियों के पीछे लगी हुई है. आज इसी कड़ी में UPSTF को अमर दूबे के हमीरपुर में छिपे होने की जानकारी मिली। पुलिस ने तुरंत अमर दूबे का पीछा करके उसे एक स्थान पर रोका, उसके बाद दोनों पार्टियों के बीच गोलीबारी हुई जिसमें एक SHO और एक कॉन्स्टेबल को गोली लगी, इसके बाद पुलिस ने अमर दूबे का एनकाउंटर का दिया। 

अमर दूबे के पास एक एक ऑटोमैटिक हथियार और एक बैग बरामद हुआ है. फॉरेंसिक टीम ने जांच शुरू कर दी है. UP Police के ADG Law and Order ने कहा है कि पुलिसकर्मियों का वलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा, विकास दूबे और उसके साथियों को छोड़ा नहीं जाएगा।

इस बीच मुख्य आरोपी विकास दूबे के फरीदाबाद में छुपे होने की जानकारी मिली थी, पुलिस ने यहाँ भी तलाशी अभियान शुरू कर दिया है. गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर केके राव ने भी एक ऑडियो सन्देश जारी करके विकास दूबे के प्रति होशियार रहने और देखते ही उसे पकड़ने के निर्देश दिए हैं.

केंद्रीय स्वास्थय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने चाय और हरड़ को बताया कोरोना रोकने में फायदेमंद

tea-and-harad-benefits-in-corona-virus-treatment-dr-harshwardhan

फरीदाबाद, 4 जुलाई: केंद्रीय स्वास्थय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने चाय और हरड़ को कोरोना बीमारी रोकने में फायदेमंद बताया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि स्वास्थय मंत्री हर्षवर्धन एक डॉक्टर भी हैं इसलिए उनकी बात में जरूर सच्चाई होगी। 

उन्होंने ट्विटर पर लिखा - हमारे देश में ज़्यादातर लोगों के दिन की शुरुआत चाय के घूंट से होती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यही चाय Corona Virus से लड़ने में भी कारगर साबित हुई है? IT Delhi के एक शोध के मुताबिक चाय और हरड़  COVID-19 के मुख्य Protein की वृद्धि को रोकने में कारगर साबित हुए हैं।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चिकित्सक, हेल्थ विशेषज्ञ और रिसर्चर पहले से ही चाय को कोरोना में फायदेमंद बता रहे हैं, अधिकतर लोग यही कहते हैं कि कोरोना से बचाव और इलाज के लिए अधिकतर गर्म तरल पदार्थ पीएं, समय समय पर चाय पीते रहने की भी सलाह दी जाती है, अब IIT Delhi की रिसर्च में भी यह बात प्रूफ हो गयी है और स्वयं स्वास्थय मंत्री चाय पीने की सलाह दे रहे हैं। 

PM Modi की ऊर्जा और Hard Work देखकर NDTV के पत्रकार ने भी कर दी जमकर तारीफ

ndtv-patrakar-akhilesh-sharma-praised-narendra-modi-energy-hard-work

फरीदाबाद, 4 जुलाई: वैसे तो NDTV न्यूज़ चैनल को घोर मोदी विरोधी न्यूज़ चैनल कहा जाता है और कट्टर मोदी विरोधी लोग NDTV न्यूज़ चैनल ही देखते हैं क्योंकि यह चैनल अधिकतर भाजपा विरोधी और मोदी विरोधी न्यूज़ ही दिखाता है, रवीश कुमार तो हाथ धोकर और पानी पी पीकर मोदी और भाजपा को कोसते रहते हैं.

खैर NDTV में भी कुछ पत्रकार हैं जो कभी कभी मोदी की तारीफ कर देते हैं, ऐसे ही एक पत्रकार हैं अखिलेश शर्मा जिन्होंने कल प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ कर डाली। 

अखिलेश शर्मा ने ट्विटर पर लिखा - चाहे आप उनके आलोचक हों लेकिन 69 वर्ष के पीएम मोदी की ऊर्जा की शायद प्रशंसा करें। सुबह 6:30 बजे लद्दाख के लिए निकले।11000 फ़ीट पर कम ऑक्सीजन में नीमू में सैनिकों को संबोधित किया।घायलों से मिले। दिल्ली वापस आकर असम सीएम से बाढ़ पर बात की।फिर देर रात तक 4 महत्वपूर्ण लंबी बैठकें कीं।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अखिलेश शर्मा NDTV India चैनल के पॉलिटिकल एडिटर और एंकर हैं. कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख का दौरा किया था, 11 हजार फ़ीट से अधिक ऊंचाई पर कई प्रोग्राम किये कर वापस दिल्ली आकर भी कई मीटिंग की, मोदी की इस ऊर्जा को देखकर NDTV के पत्रकार अखिलेश शर्मा उनकी तारीफ करने से खुद को रोक नहीं सके.

सरकार का बड़ा कदम, Shareit, TikTok सहित 59 चाइनीज एप को किया बैन, देखिये लिस्ट

59-chinese-apps-banned-in-india-including-shareit-tiktok-helo-app

फरीदाबाद, 29 जून: चीन ने भारत को बॉर्डर पर टेंशन दी तो भारत सरकार ने चीन की करीब 59 कंपनियों को बड़ी टेंशन दे दी है। 

सरकार ने एक बड़ा कदम उठाते हुए 59 चाइनीज एप को भारत में बैन कर दिया है. बैन किये गए App में  Shareit, TikTok और Helo App भी शामिल हैं जो भारत के बाजारों सहित हर मोबाइल में अपनी जगह बना चुके हैं और लोग इनके आदी भी हो चुके हैं। 

भारत में बैन किये गए 59 Apps की लिस्ट नीचे दी गयी है। 

chinese-apps-banned-in-india-list

चीन विवाद: PayTM ने दिखाई चालाकी फिर भी लोग समझ गए चाल और करने लगे Uninstall, पढ़ें क्यों

indian-started-uninstalling-paytm-after-china-india-clash-in-galwan-laddakh

नई दिल्ली: चीन को पहले से ही धोखेबाज देश कहा जाता है लेकिन भारत के लोग चाइनीज सामानों के आदी हो गए हैं। जब भी चीन कोई धोखेबाजी करता है भारत के लोग चायनीज सामानों का बहिष्कार शुरू कर देते हैं और कुछ दिनों बाद फिर से चायनीज सामानों का इस्तेमाल शुरू कर देते हैं ।

हाल ही में लद्दाख़ के गलवान क्षेत्र में भारत और चीन की सेना में भिड़ंत हो गयी जिसमें करीब 20 भारतीय जवान शहीद हो गए। चीन के भी करीब 30-40 जवान मारे गए हैं हालाँकि भारत के लोग चीन की धोखेबाजी से नाराज हैं और चायनीज सामानों का बहिष्कार कर रहे हैं ।

भारत के लोग PayTM App के भी आदी हो गए हैं लेकिन चीन विवाद के बाद लोगों ने PayTM App Uninstall करना शुरू कर दिया है। जैसे ही PayTM को इस बात की जानकारी हुई, कंपनी ने शेयर होल्डर में अलीबाबा ग्रुप की जगह नाम बदलकर Ant Financial कर लिया लेकिन भारत के लोग चीन के अधिकारियों से ज्यादा चालाक हैं इसलिए Ant Financial की भी कुंडली निकाल की गयी।

दरअसल Ant Financial भी अलीबाबा ग्रुप की कंपनी है, अलीबाबा चीन की बड़ी कंपनी है जो कई कंपनियों के जरिये भारतीय बाजारों पर कब्जा करने का प्रयास कर रही है। भारत में कई App चल रहे हैं जिसका भारतीय लोग इस्तेमाल कर रहे हैं जिसमें टिकटोक, हेलो एप आदि शामिल हैं हालाँकि अब लोग इन्हें Uninstall कर रहे हैं और चीन को सबक दिखाने की सोच रहे हैं।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड करके सबको किया सॉक

actor-sushant-singh-rajput-suicide-case

मुंबई 14 जून: मशहूर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने आज मुंबई स्थित अपने मकान में पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली. इस खबर से पूरी दुनिया हैरान है क्योंकि सुशांत सिंह राजपूत अभी युवा और उभरते हुए अभिनेता थे जिनका बॉलीवुड में अपना मुकाम था. उन्होंने आत्महत्या क्योंकि इसके कारणों का पता नहीं चला है लेकिन एक इंस्टाग्राम पोस्ट में उन्होंने अपनी मानसिक परेशानी का इशारा जरूर किया है.

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या केस की मुंबई पुलिस ने जांच शुरू कर दी है, आज पुलिस ने उनके आवास पर पहुंचकर उनके शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल में भेज दिया.

 सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या की खबर से हर कोई हैरान है और उनकी आत्महत्या की वजह जानना चाहता है लेकिन पुलिस की जांच के बाद ही उनकी आत्महत्या के कारणों का पता चलेगा फिलहाल पूरा देश उनकी आत्महत्या की दुखी है और उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना कर रहा है.

भारत में एक दिन में बढे रिकॉर्डतोड़ 9985 कोरोना मरीज, एक दिन में 279 की मौत

india-corona-update-10-june-2020-world-6th-number-daily-10-hajar-case

नई दिल्ली, 10 जून: देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, ताजा अपडेट के अनुसार भारत में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 276583 हो चुकी है। पिछले 24 घंटों में रेकॉर्डतोड़ 9985 कोरोना मरीज बढे हैं, अगर भारत में टेस्टिंग की रफ़्तार बढ़ाई जाय तो मरीजों की संख्या कई गुना अधिक हो सकती है।

276583 कोरोना मरीजों में से करीब आधे मरीज 135206 ठीक हो चुके हैं और 133632 मरीजों का इलाज जारी है। 7745 मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है, पिछले 24 घंटे में 279 मरीज की मौत हुई है। 

कोरोना संक्रमण के मामले में भारत विश्व में छठें स्थान पर पहुँच चुका है। पहले नंबर पर अमेरिका है जहाँ पर करीब 2,045,549 कोरोना मरीज हैं, अमेरिका में 114,148 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। 

दुनियाभर में कोरोना वायरस ने अब तक 7,323,918 लोगों को संक्रमित किया है और करीब 413,733 लोगों की जान ली है जो काफी टेंशन की बात है, अगर कोरोना इसी रफ़्तार से बढ़ता रहा तो स्थिति और भयावह हो सकती है हलाँकि दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन बनाने में जुटे हैं.

भारत में मुंबई, दिल्ली, अहमदाबाद, कलकत्ता, चेन्नई जैसे बड़े बड़े शहर कोरोना के शिकार हो गए हैं, अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। श्रमिकों के माइग्रेशन के बाद कोरोना दिन दूना और रात चौगुनी रफ़्तार से बढ़ने लगा है.

15 राज्यों के 50 से अधिक कोरोना प्रभावित जिलों में केंद्र द्वारा केंद्रीय बहु-विषयक टीमें तैनात

kendra-sarkar-plan-to-stop-corona-infection-in-15-state-50-district

 नई दिल्ली, 10 जून: स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कोविड-19 के नियंत्रण और उसके प्रबंधन के लिए तकनीकी सहायता प्रदान कर राज्‍य सरकारों की सहायता के लिए उन 15 राज्यों/संघ शासित प्रदेशों के 50 से अधिक जिलों/नगर पालिका निकायों में उच्च स्तरीय बहु-विषयक केन्‍द्रीय टीमों को तैनात किया है जहां संक्रमण के बहुत अधिक मामले हैं और जहां यह बीमारी बढ़ी है। 

ये राज्य/संघ शासित प्रदेश हैं: महाराष्ट्र (7 जिले/नगर पालिका निकाय), तेलंगाना (4), तमिलनाडु (7), राजस्थान (5), असम (6), हरियाणा (4), गुजरात (3), कर्नाटक (4) उत्तराखंड (3), मध्य प्रदेश (5), पश्चिम बंगाल (3), दिल्ली (3), बिहार (4), उत्तर प्रदेश (4), और ओडिशा (5)।

तीन सदस्यीय टीम में दो सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ/महामारी विज्ञानी/निदानविद और सावधानीपूर्वक प्रशासनिक सहयोग प्रदान करने और बेहतर शासन के लिए संयुक्त सचिव स्तर का एक वरिष्ठ प्रमुख अधिकारी शामिल हैं। ये दल ज़िलों/शहरों के भीतर संक्रमित लोगों का तेजी से इलाज करने/मामलों के नैदानिक ​​प्रबंधन के कार्यान्वयन में राज्य के स्वास्थ्य विभाग को सहयोग करने के लिए क्षेत्र में जाकर और स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में काम कर रहे हैं।

बेहतर समन्वय, क्षेत्र में तेजी से कार्रवाई, अधिक गहरी रणनीति को अपनाना सुनिश्चित करने के लिए, यह प्रस्ताव किया गया है कि इन जिलों/नगर पालिकाओं को नियमित रूप से केन्‍द्रीय दलों के सम्‍पर्क में रहना चाहिए जो पहले से ही राज्यों के साथ तालमेल कर रहे हैं। इस तरह की लगातार बातचीत से जमीन पर निगरानी, ​​नियंत्रण, जांच और उपचार संबंधी कार्य और मजबूत होगा।

केन्‍द्रीय दल राज्‍यों/संघ शासित प्राधिकरणों के सामने आने वाली कुछ चुनौतियों जैसे कि जांचमें अड़चन, कम जांच/प्रति मिलियन जनसंख्या, उच्च पुष्टि दर, उच्च जांच पुष्टि दर, अगले दो महीनों में क्षमता में कमी के जोखिम का सामना करने,बिस्तरों की संभावित कमी,  मृत्यु दर के बढ़ते मामले, उच्च दोहरीकरण दर, सक्रिय मामलों में अचानक बढ़ोतरी आदि में राज्यों/संघ शासित प्रदेशों की सहायता कर रहे हैं।

अनेक जिला/नगर पालिका निकाय पहले ही जिला स्‍तर पर एक समर्पित महत्‍वपूर्ण टीम का गठन कर चुके हैं जिसमें जिला स्‍तर के चिकित्‍सा और प्रशासनिक अधिकारी शामिल हैं जो केन्‍द्रीय दल के साथ नियमित आधार पर तालमेल करेंगे। सोर्स (प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो)

भारत में कोरोना के हुए 266598 मरीज, 7466 लोगों की मौत

india-corona-update-9-june-2020-total-positive-patient

नई दिल्ली, 9 जून: देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, ताजा अपडेट के अनुसार भारत में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 266598 हो चुकी है। हालाँकि करीब आधे मरीज 129215 ठीक हो चुके हैं और 129917 मरीजों का इलाज जारी है। 7466 मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है। 

कोरोना संक्रमण के मामले में भारत विश्व में छठें स्थान पर पहुँच चुका है। पहले नंबर पर अमेरिका है जहाँ पर करीब 2,026,493 कोरोना मरीज हैं, अमेरिका में 113,055 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। 

दुनियाभर में कोरोना वायरस ने अब तक 7,199,544 लोगों को संक्रमित किया है और करीब 408,737 लोगों की जान ली है जो काफी टेंशन की बात है, अगर कोरोना इसी रफ़्तार से बढ़ता रहा तो स्थिति और भयावह हो सकती है हलाँकि दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन बनाने में जुटे हैं.

भारत में मुंबई, दिल्ली, अहमदाबाद, कलकत्ता, चेन्नई जैसे बड़े बड़े शहर कोरोना के शिकार हो गए हैं, अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। श्रमिकों के माइग्रेशन के बाद कोरोना दिन दूना और रात चौगुनी रफ़्तार से बढ़ने लगा है.

भारत में 256611 हुआ कोरोना संक्रमण, रिकवरी रेट काफी बढ़िया

india-corona-update-death-rate-and-recovery-rate-trend-and-statistics

नई दिल्ली 8 जून: भारत में कोरोना संक्रमण अब काफी तेज हो गया है और दुनिया में छठवें स्थान पर पहुँच चुका है, भारत में कोरोना के कुल 256611 संक्रमित मरीज हो चुके हैं। 7135 मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है जो काफी चिंता की बात है। 

राहत की बात ये है कि भारत में कोरोना संक्रमण का रिकवरी रेट काफी बढ़िया है और करीब करीब दो तीन देश की भारत से आगे हैं। 

256611 मरीजों में से 124095 मरीज ठीक होकर अपने घर पहुँच चुके हैं जो करीब करीब 50 फ़ीसदी हैं।125381 मरीजों का इलाज जारी है। 

रिकवरी रेट में भारत से आगे सिर्फ जर्मनी, इटली, जापान, साउथ कोरिया जैसे देश ही आगे हैं, अमेरिका, रूस, ब्रिटेन जैसे देश भी भारत से पीछे हैं जो काफी अच्छी बात है। 

कोरोना मरीजों को ठीक करने के लिए भारत सरकार ने काफी संसाधन जुटाए हैं शायद यही वजह है कि रिकवरी रेट में भारत अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। भारत में इस वक्त पर्याप्त मात्रा में बेड, वेंटिलेटर्स, ऑक्सीजन सपोर्ट सिस्टम, दवाइयां उपलब्ध हैं। अगर भारत में इसी दर से कोरोना संक्रमण बढ़ता रहा तो कोई परेशानी नहीं होगी लेकिन अगर कोरोना कण्ट्रोल से बाहर हुआ तो बहुत बड़ी समस्या पैदा हो जाएगी। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया की कांग्रेस में घर वापसी की अफवाहों पर क्या बोले सिंधिया, पढ़ें

jyotiraditya-scindia-will-not-join-congress-rumor-was-fake-6-june-2020

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर झूठ बहुत तेजी से फैलता है। झूठी ख़बरों को लोग ज्यादा ही शेयर करते हैं। आज सुबह से ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा छोड़ने और कांग्रेस में घर वापसी की अफवाहें शुरू हो गयीं। ट्विटर पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम का ट्रेंड भी शुरू हो गया और देखते ही देखते टॉप पर पहुँच गया।

ज्योतिरादित्य सिंधिया को टॉप पर ट्रेंड करता देखकर कांग्रेस पार्टी के लोग काफी खुश हो गए, लोग भाजपा की खिल्ली उड़ाने लगे। ऐसा लगने लगा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया सच में कांग्रेस में जाने वाले हैं लेकिन शाम होते होते ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ऐसा ट्वीट कर दिया कि सभी अफवाहों पर विराम लग गया और अफवाह फैलाने वालों की चाल भी फेल हो गयी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ज्यादा तो नहीं लिखा, उन्होंने सिर्फ ये लिखा - दुखद, झूठी खबर सच से तेज फैलती है। ये ट्वीट करके सिंधिया ने सभी अफवाहों को झूठा बता दिया कर यह भी बता दिया कि वह भाजपा में ही हैं और आगे भी भाजपा में ही रहेंगे।
उन्होंने एक अन्य ट्वीट को रिट्वीट करके अफवाहों को झूठा बताया जिसमें लिखा था - श्री @JM_Scindia जी के बारे में मीडिया में चल रही खबरें पूरी तरह से निराधार है। सिंधिया जी ने अपने टि्वटर बायो में कोई चेंज नहीं किया है, पहले भी उनके बायो में क्रिकेट प्रेमी और जनसेवक ऐड था और आज भी वही है।

पढ़ें भारतीय रेलवे ने कितने लाख प्रवासियों को पहुँचाया घर

railway-minister-piyush-goyal-inform-about-shramik-trains-and-total-passenger

फरीदाबाद, 2 जून: लॉक डाउन के दौरान कई राज्यों और बड़े बड़े शहरों में फंसे प्रवासियों को भारतीय रेलवे ने उनके घर पहुंचाया है और अभी यह अभियान जारी है। 

रेलवे मंत्री पियूष गोयल ने इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए कहा कि मोदी जी के नेतृत्व में रेलवे दिन-रात देश सेवा में कार्यरत हैं। अब तक रेलवे ने 4,155 श्रमिक ट्रेनों का संचालन कर 57 लाख से अधिक प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य पहुँचाया है। साथ में भारतीय रेल 200 अन्य ट्रेनों का संचालन भी कर रही है। 
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए 24 मार्च को लॉक डाउन की घोषणा की थी, 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाया गया था, कई राज्यों ने उसी दिन लॉक डाउन की घोषणा की थी. उसके बाद प्रवासी श्रमिक कई बड़े शहरों में फंस गए जो अपने घर जाना चाहते थे, भारतीय रेलवे ने राज्य सरकारों की मांग पर प्रवासी श्रमिकों के लिए हजारों विशेष श्रमिक ट्रेनें चलाईं।  

यात्रीगण कृपया नियम और शर्तें पढ़ लें तभी रेलवे स्टेशन पर जाएं, कहीं वापस ना लौटना पड़ जाए?

what-is-the-rule-of-travelling-in-train-since-1-june-2020-lock-down

फरीदाबाद, 31 मई: केंद्र सरकार के रेलवे मंत्रालय ने 1 जून 2020 से देश भर में करीब 200 विशेष ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है। टिकटों की बुकिंग काफी दिनों पहले से ही शुरू हो चुकी थी, कई लोगों ने टिकट बुक भी करा लिए हैं लेकिन अधिकतर लोगों को ट्रेन में सफर करने और रेलवे स्टेशन पर पहुँचने के नियमों की जानकारी नहीं है, इसलिए हम इस आर्टिकल में सभी बातों की जानकारी दे रहे हैं। 

नियम 1: सिर्फ कन्फर्म/ RAC टिकट वाले यात्रियों को स्टेशन में आने और ट्रेन में सफर करने की अनुमति होगी। 
नियम 2: यात्रियों को कम से कम 90 मिनट पहले रेलवे स्टेशन पर पहुंचना होगा। 

नियम 3: ट्रेन किराए में किसी भी तरह का कैटरिंग शुल्क शामिल नहीं होगा। 

नियम 4: यात्रा के दौरान चादर, कम्बल या फिर तकिया नहीं दिए जाएंगे। 

नियम 5: सभी यात्रियों को रेलवे स्टेशनों पर प्रवेश और निकास के समय और यात्रा के दौरान फेस-कवर/मास्क पहनना होगा। 

नियम 6: सभी यात्री अयोग्य सेतु एप डाउनलोड करें और यात्रा के दौरान सामाजिक दूरी के नियमों का सख्ती से पालन करें। 

MHA: लॉक-डाउन के बजाय अब 1 जून से INDIA में शुरू होगा अन-लॉक

indian-un-lock-part-1-started-from-1-june-2020-news-corona-virus

नई दिल्ली, 30 मई: मोदी सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए रणनीति में बदलाव किया है, देश को लॉक डाउन करने के बजाय अब अन-लॉक करने का फैसला किया गया है, 1 जून से 30 जून तक अन-लॉक करने का फैसला किया गया और इसे अन-लॉक का नाम दिया गया है और यह कई चरणों में लागू होगा।

Un-Lock1  में कई नियमों में बदलाव किया गया है और कई नियमों में ढील देने का फैसला किया गया है। नियमों को लचीला बनाया गया है, एक राज्य में दूसरे राज्य में जाने के लिए भी नियमों में बदलाव किये गए हैं.

MHA ने Un-Lock के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं लेकिन राज्य राज्यों को खुद निर्णय लेने की छूट दी है, राज्य सरकारें कोरोना वायरस से निपटने के लिए खुद से नियम और कानून लागू कर सकते हैं। अगर राज्य सरकारें चाहें तो लॉकडाउन जारी भी रख सकती हैं.

ANI द्वारा अपने ट्विटर पर अपलोड किये गए आर्डर में यह भी लिखा गया है कि कन्टेनमेंट जोन में लॉक डाउन 30 जून तक जारी रहेगा। MoHFW के दिशानिर्देशों के अनुसार कन्टेनमेंट जोन की पहचान जिला अथॉरिटी द्वारा की जाएगी, कन्टेनमेंट जोन में सिर्फ जरूरी गतिविधियों को अनुमति मिलेगी। कन्टेनमेंट जोन के अलावा बफर जोन की पहचान भी जिला अथॉरिटी करेगी। देखिये आर्डर -


देश में सिर्फ एक दिन में बढे 5611 कोरोना मरीज, सिर्फ एक दिन में 140 लोगों की मौत

india-corona-update-total-19-positive-patient-on-20-may-2020

फरीदाबाद, 20 मई: भारत में सिर्फ एक दिन में बढे 5611 कोरोना मरीज बढ़ गए हैं, यह आंकड़ा 19 मई 2020 का है, यही नहीं पिछले 24 घंटे में 140 लोगों की मौत हो गयी है, अगर कुल मरीजों की बात करें तो देश में अबतक 106750 कोरोना मरीज हैं और कुल 3303 लोगों की मौत हुई है।

राहत की बात ये है कि 42298 मरीज इस बीमारी से ठीक भी हो चुके हैं.

अगर आंकड़ों पर गौर करें तो भारत में अब कोरोना संक्रमण की रफ़्तार बढ़ गयी है, पिछले कुछ तीन दिनों से रोजाना 5000 से अधिक कोरोना मरीज बढ़ रहे हैं। टेंशन की बात ये है कि सिर्फ 12 दिनों में मरीजों की संख्या डबल हुई है.

अगर सबसे प्रभावित राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात और दिल्ली टॉप 4 में बने हुए हैं। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में कोरोना संक्रमण तेज रफ़्तार से बढ़ रहा है लेकिन गर्मी के मौसम की वजह से संक्रमित लोगों को खांसी, जुखाम और सांस लेने में दिक्कत जैसे लक्षण नहीं हो रहे हैं, कई लोग अपने आप ठीक भी हो रहे हैं। भरपेट भोजन और फलों का जूस, गरम तरल पदार्थ इस बीमारी के खिलाफ रामबाण साबित हो रहे हैं। 

विमान हुआ क्रैश, पायलट घायल, पायलट को धूप से बचाने ने लिए सिखों ने पगड़ी खोलकर हवा में तान दी

panjab-hoshiyarpur-mig-29-plane-crash-sikh-save-pilot-life-pagadi

होशियारपुर: पंजाब के होशियार जिले के रुरकि कलाँ गाँव में आज वायुसेना का एक  MiG-29 फाइटर प्लेन क्रैश हो गया जिसमें पायलट घायल हो गया. विमान के जमीन पर गिरने के बाद पायलट किसी तरह बाहर निकला और धूप में लेट गया.

जैसे ही इस दुर्घटना की खबर गाँव वालों को हुई, लोग वहां पहुंचे और पायलट की तुरंत मदद की. धुप में तड़पते पायलट को देखकर वहां मौजूद सिखों ने अपनी पगड़ी ही खोल दी और उसे पकड़कर पायलट के चारों तरफ खड़े हो गए ताकि पायलट को धूप ना लगे, यही नहीं पगड़ी से हवा भी करते रहे.

जब वायुसेना की रेस्क्यू टीम आ गयी तो सिखों की जान में भी जान आयी. पायलट की जान अब सुरक्षित है. सिख देशवासियों की जमकर तारीफ हो रही है, देखिये वीडियो -