Followers

Showing posts with label Haryana. Show all posts

आनंद कांत भाटिया ने दिया इस्तीफ़ा, फरीदाबाद में CM विंडो पर हावी हैं भ्रष्ट अफसर और नेता

anand-kant-bhatia-resign-cm-window-monitoring-committee-head

फरीदाबाद, 26 फरवरी: मुख्यमंत्री हरियाणा द्वारा भाजपा के प्रथम कार्यकाल के दौरान गुजरात की तर्ज पर अपनी शिकायतें सीधे उन तक पहुंचाने के लिए सीएम विंडो का प्रावधान प्रदेश की जनता के लिए किया गया था। 

सीएम विंडो की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए या उसे और अधिक सशक्त करने के विचार से प्रदेश की सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 270 विशिष्ट नागरिकों को मनोनीत किया गया था। जहां एक ओर किसी भी विधानसभा क्षेत्र का शिकायतकर्ता इस उम्मीद से सीएम विंडो पर अपनी शिकायत लगाता है कि कम से कम उसकी सुनवाई प्रदेश के मुखिया से सीधे तौर पर जुड़े हुए लोगों द्वारा तो की ही जाएगी वहीं दूसरी ओर बड़खल विधानसभा के निगरानी समिति प्रमुख आनंद कांत भाटिया ने विशिष्ठ नागरिक के पद से अपना इस्तीफा सीधे मुख्यमंत्री हरियाणा सरकार के पास एक ईमेल के माध्यम से प्रेषित कर शिकायतकर्ताओं की सोच पर ही प्रश्नचिन्ह लगा दिया है। 

आनंद कांत भाटिया की माने तो सीएम विंडो पर कुछ भी सही नहीं है। अपने इस्तीफे के माध्यम से उन्होंने मुख्यमंत्री के समक्ष कई प्रकार के खुलासे करते हुए प्रशासनिक अधिकारियों के साथ साथ अपनी ही पार्टी के शीर्ष नेताओं और विभिन्न पदों पर बैठे नेताओं द्वारा सरेआम जिले में सरकारी जमीनों पर कब्जे करने एवं करवाने के साथ-साथ कई प्रकार के अनैतिक कार्यों से सरकार को राजस्व का नुकसान पहुंचाते हुए निजी फायदों के लिए धन उगाहने तक के आरोप लगाए हैं।

भाटिया का यह मानना है कि कई भ्रष्ट प्रशासनिक अधिकारी एवं ऐसे नेता जो मौकापरस्त, फिरकापरस्त हैं और पार्टी में प्रमुख पदों पर सुशोभित किए गए हैं दोनों हाथों से जिले की जनता को गुमराह करते हुए लूटने में लगे हुए हैं और कि जो पार्टी को लगातार नुकसान पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं। अपने आत्मसम्मान को अहम मानते हुए और पार्टी के यशस्वी प्रधानमंत्री और ईमानदार मुख्यमंत्री के दिखाए मार्ग पर ना चलने दिए जाने के कारण, क्षुब्ध होते हुए अंततः बहुत सोच-विचार के बाद उन्हें अपना पद त्यागना ही एकमात्र विकल्प दिखाई दिया! 

भाटिया ने अपने प्रेषित त्यागपत्र में यह भी स्पष्ट किया है कि सरकार से जारी की गई योजनाओं से मिलने वाली कई प्रकार की सुविधाओं या सहायताओं तक को भी आम नागरिक अथवा वोटर तक पहुंचाने की एवज में कई पदाधिकारियों द्वारा अवैध रूप से धन वसूला जाने की शिकायतें भी लगातार उन्हें मिलती रहती हैं। ऐसी शिकायतें शीर्ष नेताओं तक पहुंचाने के बावजूद भी कोई हल ना निकलता देख उन्होंने अपने पद से त्यागपत्र देना ही एकमात्र उचित रास्ता समझा। अपने त्यागपत्र में भाटिया ने बार बार मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को उन्हें इस पद पर सुशोभित कर मान सम्मान देने के लिए धन्यवाद किया है।

हरियाणा में 1 और 2 कक्षा के बच्चों के लिए भी 1 मार्च से खुलेंगे स्कूल, सरकार का फैसला

haryana-government-open-school-1st-2nd-class-from-1-march

फरीदाबाद, 24 फरवरी: हरियाणा सरकार ने एक बेहद अहम फैसला लेते हुए कहा है कि हरियाणा सरकार  ने पहली और दूसरी कक्षा के विद्यार्थियों के लिए भी 1 मार्च, 2021 से स्कूलों में रेगुलर पढाई शुरू कराने का निर्णय लिया है। स्कूलों का समय प्रात: 10 बजे से 1:30 बजे तक रहेगा। तीसरी और इससे ऊपर की कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए पहले ही स्कूल खोले जा चुके हैं। 

हरियाणा सरकार एक और बड़ी शुरुआत करने जा रही है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को शिक्षा का एक ऐसा सिस्टम विकसित करने के निर्देश दिए हैं जिसके तहत बच्चों को ‘के.जी. टू पी.जी.’ शिक्षा एक ही संस्थान में मुहैया करवाई जा सके। उन्होंने दो ऐसे विश्वविद्यालय चिन्हित करने को कहा है जहां शुरू में यह सिस्टम लागू किया जा सके।

रेल रोको प्रदर्शन: राकेश टिकैत ट्रेन में फंसे लोगों को बँटवाएंगे पानी, दूध, फल और लस्सी

kisan-neta-rakesh-tikait-told-about-rail-roko-pradarshan

फरीदाबाद, 18 फरवरी: कृषि कानून का विरोध कर रहे आंदोलनकारी किसानों ने आज ट्रेन रोको प्रदर्शन करने का फैसला किया है, ट्रेन रोककर ट्रैक को जाम कर दिया जाएगा, इस कदम से ट्रेन में लोग फंस सकते हैं और पानी, भोजन की दिक्कत हो सकती है.

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि हमारा प्रदर्शन 12 बजे से 3-4 बजे तक होगा और शांतिपूर्ण होगा। ट्रेन में फंसे लोगों को हम पानी, दूध, फल और लस्सी बँटवाएंगे और उन्हें अपनी समस्या बताएंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सरकार ने भी रेलवे स्टेशन और ट्रैक पर सख्ती बढ़ा दी है, पुलिस को उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने के आदेश दिए गए हैं. 

फरीदाबाद में 3500 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है, सभी रेलवे स्टेशन और फाटक पर पुलिस बल तैनात है. हंगामा करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। 

'घर होते तो भी किसान मरते' बोलने वाले कृषि मंत्री जेपी दलाल बैकफुट पर आये

haryana-agriculture-minister-jai-prakash-dalal-news

फरीदाबाद, 14 फरवरी: हरियाणा के कृषि मंत्री जय प्रकाश दलाल ने 200 आंदोलनकारी किसानों की मौत पर पूछे गए सवाल पर जवाब देते हुए कहा था कि अगर ये किसान अपने घर में होते तो भी मरते क्योंकि अगर कुल जनसख्या और मरने की दर निकालें तो लाख दो लाख में से 200-250 लोग अपने आप मरते हैं. उन्होंने हँसते हुए मृतक किसानों को श्रद्धांजली भी दी थी.

अब जेपी दलाल ने अपने बयान पर माफी मांगी है, उन्होंने कहा कि मेरे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया और उसका गलत अर्थ निकाला गया, अगर मेरे बयान से किसी की भावना को ठेस पहुंची हो तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूँ. देखिये वीडियो - 


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली में कृषि कानून के विरोध में पिछले ढाई महीनों से आंदोलन चल रहा है जिसमें सैकड़ों किसानों की मौत भी हो चुकी है हालाँकि इनमें से अधिकतर किसान बीमारी से मरे हैं और कुछ किसानों ने आत्महत्या कर ली है. इन किसानों को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग की जा रही है.

हरियाणा सरकार की अपील, नए युद्ध स्मारक के लिए 1857 की क्रांति से जुड़ी वस्तुएं दे सकते हैं आमजन

ambala-war-memorial-by-haryana-sarkar-news

फरीदाबाद, 08 फरवरी: 1857 की क्रांति की याद में वीर जवानों की बहादुरी एवं शहादत को नमन करने के लिए हरियाणा राज्य के अंबाला शहर में 22 एकड़ भूमि पर लगभग 300 करोड़ रूपए की लागत से भव्य और विशाल स्मारक का निर्माण किया जा रहा है। 

सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए आमजन से अपील की है कि अगर किसी भी व्यक्ति के पास उनके पूर्वजों की धरोहर के रूप में 1857 की क्रांति से संबंधित कोई भी वस्तु जैसे राइफल, बंदूक, पिस्टल, बंदूक की गोली(मस्कट कार्टरिज), वर्दी, तलवार, चाकू, बैज, मेडल, दस्तावेज, 1857 की क्रांति पर जारी हुई पोस्टल स्टाम्प (डाक टिकट), पत्र या पत्र व्यवहार, मूल रूप में कोई समाचार पत्र, उस दौर की पेंटिंग, कोई मानचित्र या अन्य कोई भी वस्तु जो 1857 की क्रांति से संबंङ्क्षधत हो, को हरियाणा सरकार को धरोहर के लिए दे सकते हैं। 

प्रवक्ता ने कहा कि अगर दी गई वस्तु, दस्तावेज या अन्य चीजें प्रामाणिक पाए जाते हैं तो उसे दिए जाने वाले व्यक्ति के नाम व पते सहित गैलरी में दर्शाया जाएगा। अमजन द्वारा दिए जाने वाले इस सहयोग के लिए सरकार आभारी रहेगी और पूरे सम्मान के साथ दी गई निधि को अंबाला में बन रहे युद्ध स्मारक में बनाई जाने वाली गैलरी में संजोकर रखा जाएगा। 

उन्होंने आमजन से आह्वान किया कि इस संदर्भ में मोबाइल नंबर 9463437252 अथवा 9888009339 पर संपर्क किया जा सकता है।

काव्या सिंह बनी फरीदाबाद की ब्रांड एंबेसडर, हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद का फैसला

faridabad-kavya-singh-brand-ambassdor-hbkp-news

फरीदाबाद, 31 जनवरी: हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद ने एक महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए फरीदाबाद की 10 वर्षीय प्रतिभाशाली बालिका काव्या सिंह को फरीदाबाद के ब्रांड एंबेसडर घोषित किया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद ने हरियाणा के सभी जिलों के ब्रांड एंबेसडर की घोषणा की है जिसकी लिस्ट नीचे दी गई है.
 
आपका जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा में 2020 में हुए ऑनलाइन बाल महोत्सव प्रतियोगिता में करीब पांच लाख बच्चों ने भाग लिया था जिन्हें अलग-अलग प्रतियोगिताओं में इनाम भी मिला इन्हीं 5 लाख बच्चों में से प्रत्येक जिले में ब्रांड मिस्टर की पहचान की गई.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फरीदाबाद की 10 वर्षीय बालिका काव्या सिंह ने बाल महोत्सव में पर्यावरण को लेकर भाषण प्रतियोगिता में भाग लिया और कई अन्य बच्चों की प्रतियोगिता में भाग लेने में मदद की, उनके इस अच्छे काम की खबर हरियाणा सरकार तक पहुंची दो उन्हें फरीदाबाद का ब्रांड मिस्टर बना कर सम्मानित किया गया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि काव्य सिंह को हरियाणा गरिमा अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है, उन्होंने एक अवॉर्ड फंक्शन में 100 कविताएं लिखकर कीर्तिमान बना दिया और साथ ही कुछ कविताओं को गाकर भी सुनाया.

काव्या सिंह को फरीदाबाद का ब्रांड Ambassador बनाए जाने पर उनके परिवार वाले खुश हैं और हरियाणा सरकार को धन्यवाद कहा है.

भरोसा जीतने में फरीदाबाद की जनता ने फिर मारी बाजी, फरीदाबाद छोड़कर 17 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

internet-service-suspended-in-haryana-17-district-excluding-faridabad

फरीदाबाद, 29 जनवरी: राज्य सरकार के भरोसे पर फरीदाबाद की जनता हमेशा खरा उतरती है इसलिए हरियाणा सरकार भी फरीदाबाद जिले की जनता पर पूरा भरोसा करती है, शायद यही वजह है कि हरियाणा के 17 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद है लेकिन फरीदाबाद में इंटरनेट सेवा जारी है.

सोशल मीडिया पर किसान आंदोलन और दिल्ली हिंसा से सम्बंधित अफवाहों की बाढ़ आ गयी है, जनता को भड़काने का प्रयास किया जा रहा है, हरियाणा सरकार ने जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखकर टेम्परोरी तौर पर इंटरनेट सेवा पर 14 जिलों में बैन लगाया है और तीन जिलों में बैन को और बढ़ा दिया गया है.

यह नियम अम्बाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद और सिरसा में 29 जनवरी से 30 जनवरी तक लागू किया गया है, पलवल, सोनीपत और झज्झर में यह पाबंदी 24 घंटे के लिए और बढ़ा दी गयी है मतलब 30.01.2021 (17.00) तक की गयी है. इस तरह से 17 जिलों में इंटरनेट बंद हो गया है.

internet-ban-in-haryana

हरियाणा कांग्रेस ने प्रधनमंत्री मोदी को दी शासन करने की सीख

haryana-congress-teach-pm-narendra-modi-how-to-rule

फरीदाबाद, 29 जनवरी: किसान आंदोलन करीब दो महीनों से भी अधिक समय से चल रहा है, इस दौरान कांग्रेस पार्टी मोदी सरकार पर हमलावर रही है. कांग्रेस पार्टी मोदी सरकार पर तानाशाही का आरोप लगा रही है.

आज हरियाणा कांग्रेस ने मोदी सरकार को शासन करने की सीख दी है, हरियाणा कांग्रेस ने ट्विटर पर लिखा - ’जनता द्वारा, जनता के लिए, जनता का शासन"। लोकतंत्र की परिभाषा: आदरणीय @narendramodi जी, राजहठ छोड़ें, राज धर्म निभाए। अन्नदाता की आवाज़ सुने, तीन काले ‘कृषि क़ानून’ वापिस लें।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले 65 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं, कांग्रेस भी उनका समर्थन कर रही है, कांग्रेस भी कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रही है जबकि मोदी सरकार कृषि कानूनों को वापस लेने को तैयार नहीं है. 

पुलिस के साथ मिलकर गौरक्षकों ने बचाई 4 गायों की जान, दौड़ाकर पकड़ी इनोवा कार

gaurakshak-and-police-save-4-cows-life-dharuhera

मानेसर, 25 जनवरी: दिनांक 25, 01, 2021 को बजरंग दल भिवाड़ी व बजरंग दल मानेसर को सूचना मिली कि एक इनोवा गाड़ी में गोवंश भरकर गोकशी के लिए मेवात जाएगी सूचना सही मान नाकेबंदी की गई नंदरामपुर बास रोड पर और 1 घंटे बाद गाड़ी आती दिखाई दी.

कार को रुकने का इशारा किया तो उसने और तेज भगानी शुरू कर दी जिसका पीछा सभी टीमों ने किया और काफी पीछा करने के बाद इनोवा गाड़ी को पकड़ा।

धारूहेड़ा थाने के SHO मनोज कादयान के साथ मिलकर उस इनोवा को पकड़ा उसमें बेरहमी से 4 गोवंश को अंदर भर कर रखा था, जिसको धारूहेड़ा उपचार साला में छोड़ा गया, मौके पर धारूहेड़ा गौरक्षा दल रेवाड़ी बजरंग दल भिवाड़ी बजरंग दल गुडगांव गौ रक्षा दल बजरंग दल मानेसर सभी मौजूद रहे.

कृषि यन्त्रों पर किसानों को देने होंगे सिर्फ 50% तक दाम, सरकार की योजना का किसान ऐसे उठाएं लाभ

haryana-government-farm-instrument-50-percent-price

फरीदाबाद, 22 जनवरी। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि वर्ष 2020-21 में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, हरियाणा द्वारा कृषि मशीनीकरण को बढ़ावा देने के लिए स्मैम योजना के तहत कृषि यन्त्रों पर अनुदान दिया जा रहा है। योजना के तहत फसल कृषि यन्त्रों जैसे किस्ट्रॉ-बेलर, हेरेक, श्रबमास्टर/रोटरीस्लेशर, ट्रैक्टर चालित रीपरबाईन्डर, पैडी ट्रांसप्लान्टर, लेजर लैण्ड लेवलर, स्ट्रॉ रीपर, ट्रैक्टर चालित स्प्रेयरपंप, स्वचालित, रीपरबाइंडर (4/3 पहिया), मल्टी क्रोप प्लांटर/मक्काबिजाई मशीन/डी.एस.आर., न्युमैटिकप्लांटर, कॉटन सीड ड्रिल, ट्रैक्टर चालित बूमस्प्रेयर पीटीआ ऑपरेटेड वीडर इत्यादि पर अनुदान का लाभ लेने हेतू इच्छुक किसान विभाग की वैबसाईट www.agriharyanacrm.com पर ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं।

उपायुक्त ने बताया कि लक्ष्य से ज्यादा आवेदन प्राप्त होने पर लाभार्थियों का चयन ड्रा के माध्यम से किया जायेगा। किसान इन कृषि यन्त्रों में से अलग-अलग तरह के किन्ही यन्त्रों हेतू ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं। उपायुञ्चत ने बताया कि किसान ने उसी कृषि यन्त्र पर पिछले 4 वर्षों में अनुदान का लाभ न लिया हो। टैक्टर चलित कृषि यन्त्र पर अनुदान हेतु किसान के पास हरियाणा राज्य में पंजीकृत अपना टैक्टर होना अनिवार्य है। किसान का मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकरण होना अनिवार्य है। 

इन कृषि यन्त्रों की खरीद वैबसाईट www.agriharyanacrm.com पर पर सूचीबद्ध कृषि यन्त्र निर्माताओं से जिनकी मशीन भारत सरकार से अनुमोदित परीक्षण संस्थान से पास हैं, करनी अनिवार्य है। इसके अतिरिक्त जिनकृषि यन्त्रों की लागत 2.5 लाख से कम है उसकें लिये 2500/-रूपये व जिन कृषि यन्त्रों की लागत 2.5 लाख से अधिक है उसके लिये 5000/-रूपये की टोकन राशि जमा करवानी होगी जोकि रिफंडेबल होगी। योजना के तहत सामान्य वर्ग के किसान को 40 प्रतिशत व अरक्षितवर्ग (महिला/अनुसूचित जाति/जनजाति/लघु एव सीमांत किसान) को 50 प्रतिशत अनुदान राशि का लाभ दिया जायेगा।

उन्होंने बताया कि कृषि यन्त्रों पर अनुदान लेने के इच्छुक किसान विभाग की वैबसाईट www.agriharyanacrm.com पर ऑनलाईन आवेदन दिनांक 20 जनवरी 2021 से 31 जनवरी 2021 तक कर सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ वाछिंत दस्तवोज जैसे कि आधार कार्ड की फोटो प्रति, पैन कार्ड की फोटो प्रति, वोटर कार्ड की फोटो प्रति, बैंक पासबुक की फोटो प्रति, टैक्टर की वैध आरसी की प्रति, पिछले वषों उक्त कृषि यन्त्र न खरीदने का शपथ पत्र, पटवारी की रिपोर्ट, अरक्षित वर्ग का प्रमाण पत्र साथ संलग्न करवा अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिये विभाग की वैबसाईट पर अथवा सहायक कृषि अभियन्ता, फरीदाबाद कार्यालय से संपर्क कर सकतें है।

बस ने वैगन-आर कार को मारी टक्कर, फरीदाबाद के 3 भाइयों और उनकी बहन की दुखद मौत

faridabad-car-accident-in-mahender-garh-4-dead-news

फरीदाबाद, 18 जनवरी: फरीदाबाद के लिए एक दुखद खबर है, चार लोग रोड दुर्घटना का शिकार हुई हैं. कुछ घायल भी हुए हैं.

जानकारी के अनुसार फरीदाबाद के कुछ लोग महेंद्रगढ़ जा रहे थे, बीती शाम 5:30 बजे महेंद्रगढ़ कनीना मार्ग पर झगडोली नहर के समीप प्राइवेट बस ने उनकी वैगनआर कार ने टक्कर मारी जिसमें फरीदाबाद के सेक्टर 19 के तीन तथा महेंद्रगढ़ निवासी बहन सहित 4 लोगों की मौत हो गयी.

जानकारी के अनुसार चारों मृतक लड़की देखने के लिए महेंद्रगढ़ जा रहे थे, रास्ते में उनकी कार और बस में टक्कर हो गयी. महेंद्रगढ़ सिविल अस्पताल में चारों के शवों का आज पोस्टमार्टम होगा उसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया जाएंगे तथा शव दोपहर बाद फरीदाबाद पहुंच जाएंगे।

मृतकों के नाम सुरेश, योगेश व जितेंद्र तथा बहन संतोष, पिता का नाम लाकी राम, निवासी सेक्टर 19, फरीदाबाद।

आवश्यक संसाधनों से लैश डायल-100 की 600 गाड़ियों को प्रदेश की जनता को सौंपेंगे CM मनोहर लाल

haryana-cm-manohar-lal-review-dia-100-600-vehicle-news

पंचकूला, 14 जनवरी: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज पंचकूला में डायल 100 की 600 गाड़ियों का निरीक्षण किया। 

उन्होंने कहा - आवश्यक संसाधनों से लैस ये वाहन प्रदेश में जनता की सहायता के लिए हर समय मौके पर मौजूद रहेंगे। ये गाड़ियां कानून व्यवस्था को और मजबूत बनाने की दिशा में कारगर सिद्ध होंगी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल जल्द ही इन गाड़ियों को जनता की सेवा में लगाने वाले हैं, ताकि जनता के 100 डायल करते ही ये गाड़ियां फटाफट उनके पास पहुँच जाएं।

खाने वाले सावधान: हरियाणा वालों को खतरनाक बर्ड-फ़्लू से बचाने के लिए मारी जाएंगी लाखों मुर्गियां

bird-flu-spreading-in-haryana-government-will-kill-poultry-hen

चंडीगढ़, 8 जनवरी: हरियाणा सरकार ने पंचकूला जिला के दो पोल्ट्री फार्मों के पक्षियों में ‘एवियन इन्फ्लुएंजा’(एच5एन8) मिलने पर उनके एक किलोमीटर की परिधि में संक्रमित-जोन तथा एक से 10 किलोमीटर की परिधि के क्षेत्र में सर्विलांस-जोन घोषित किया है। इन क्षेत्रों से न तो कोई पक्षी और न ही अंडा व खाने का दाना बाहर जाएगा। बिमारी को अन्य क्षेत्रों में फैलने से रोकने के लिए विशेषज्ञों की देखरेख में संक्रमित-जोन के अंदर आने वाले पांच पोल्ट्री फार्मों के 1,66,128 पक्षियों को मार कर मालिकों को मुआवजा दिया जाएगा।

यह जानकारी आज हरियाणा के पशु पालन एवं डेयरिंग मंत्री श्री जयप्रकाश दलाल ने आज चंडीगढ़ में अपने आवास पर प्रैस-कान्फ्रैंस में दी। इस अवसर पर पशु पालन एवं डेयरिंग विभाग के निदेशक डॉ. बिरेंद्र सिंह लौरा समेत विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। 

श्री दलाल ने बताया कि राज्य सरकार अपने प्रदेश के लोगों द्वारा किए जाने वाले पोल्ट्री-व्यवसाय के प्रति सचेत है, ज्यों ही सरकार के संज्ञान में यह लाया गया कि पंचकूला जिला के पोल्ट्री फार्मों में किसी बिमारी के कारण पक्षी मर रहे हैं तो तुरंत जांच करने के आदेश दिए गए। विभाग द्वारा जांच करने पर पाया गया कि पिछले एक माह में इन पोल्ट्री फार्मों में करीब 4 लाख पक्षी मर गए हैं। उन्होंने बताया कि पहले जालंधर में एक लैब में इन पक्षियों के सैंपल भेजे गए परंतु वहां से रिपोर्ट न मिलने के कारण बाद सैंपल भोपाल की एक लैब में जांच के लिए भेजे गए। रिपोर्ट में दो पोल्ट्री फार्मों के पक्षियों में ‘एवियन इन्फ्लुएंजा’(एच5एन8) मिलने की पुष्टि हुई है। उन्होंने बताया कि हालांकि बर्ड-फ्लू की यह स्ट्रेन ज्यादा घातक नहीं है फिर भी राज्य सरकार ने एहतियातन पंचकूला के प्रभावित पोल्ट्री फार्मों के लिए अधिसूचना जारी कर दी है।

पशु पालन एवं डेयरिंग मंत्री ने बताया कि अब राज्य सरकार ने ‘एवियन इन्फ्लुएंजा’(एच5एन8) से संक्रमित पंचकूला जिला के गांव खेड़ी स्थित ‘सिद्घार्थ पोल्ट्री फार्म’ तथा गांव गनौली स्थित ‘नेचर पोल्ट्री फार्म,डंडलावर’ के एक किलोमीटर तक की परिधि के क्षेत्र को ‘इन्फैक्टिड जोन’ तथा एक से 10 किलोमीटर की परिधि के क्षेत्र को ‘सर्विलांस जोन’ घोषित कर दिया है। उन्होंने जानकारी दी कि इस क्षेत्र से अब एवियन-प्रजाति के पक्षी, अंडे आदि दूसरे क्षेत्र में भेजने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है ताकि बिमारी को फैलने से रोका जा सके। इसके लिए सरकार द्वारा संक्रमित क्षेत्र में चैक-पोस्ट लगा दी गई हैं। उन्होंने बताया कि प्रभावित क्षेत्र में पांच पोल्ट्री फार्म हैं जिनमें 1,66,128 पोल्ट्री पक्षी हैं, इन सभी को केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए नियमों के अनुसार मार कर जमीन में दबा दिया जाएगा। इसके लिए विभाग ने 59 टीमों का गठन कर दिया है। पोल्ट्री फार्म के मालिकों को इन मारे जाने वाले पक्षियों के क्षतिपूर्ति के लिए 90 रूपए प्रति पक्षी मुआवजे के रूप में दिया जाएगा।

एक प्रश्न के उत्तर में  दलाल ने यह भी बताया कि उक्त पोल्ट्री-फार्मों में कार्य करने वाले कर्मचारियों व मालिकों के स्वास्थ्य की भी हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच की जाएगी तथा उनको उचित दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि जींद, सफीदों आदि क्षेत्रों, जहां पर पोल्ट्री फार्म ज्यादा हैं वहां पर भी  विभाग द्वारा नजर रखी जा रही है।

पशु पालन एवं डेयरिंग मंत्री श्री जयप्रकाश दलाल ने एवियन इन्फ्लूएंजा के मामले में पोल्ट्री उत्पादों की खपत के बारे में मानक सलाह दी है कि रोग मुक्त क्षेत्रों में पोल्ट्री और पोल्ट्री उत्पादों को सही तरीके से पकाकर खाया जा सकता है। एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस गर्मी के प्रति संवेदनशील है। भारत में खाना पकाने के लिए उपयोग किए जाने वाला सामान्य तापमान (भोजन के सभी भागों के लिए 70 डिग्री सेल्सियस) वायरस को मार सकता है। पोल्ट्री का उपभोग करने से पहले उपभोक्ताओं को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि पोल्ट्री या अंडे के सभी भाग पूरी तरह से पके हुए हैं या नहीं।

उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से सलाह दी गई है कि कच्चे पोल्ट्री और पोल्ट्री उत्पादों को कभी भी कच्चा खाया जाने वाले पदार्थों के साथ मिलाकर खाने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। खाद्य पदार्थों को तैयार करने में शामिल व्यक्तियों को पोल्ट्री या कच्चे पोल्ट्री उत्पादों रखने या इधर-उधर करने पर अपने हाथों को साबुन और गर्म पानी से अच्छी तरह से धोना चाहिए और पोल्ट्री उत्पादों के संपर्क में आने वाली सतहों को साफ और कीटाणुरहित करना चाहिए। उन्होंने बताया कि पोल्ट्री में उक्त बीमारी की संभावना होने वाले क्षेत्रों में कच्चे अंडे का उपयोग उन खाद्य पदार्थों के साथ नहीं किया जाना चाहिए जो खाने से पहले पूरी तरह से पकाया नहीं जाता है। उन्होंने बताया कि हालांकि आज तक कोई भी ऐसा सबूत नहीं है कि एवियन इन्फ्लूएंजा से दूषित होने के बावजूद अच्छी तरह से पकाए गए पोल्ट्री या पोल्ट्री उत्पादों को खाने के बाद कोई व्यक्ति संक्रमित हो गया है फिर भी उपभोक्ताओं को अपनी तरफ से एहतियात बरतनी चाहिए।

बर्ल्ड फ़्लू: हरियाणा में 4 लाख मुर्गियां तड़प कर मरीं, चिकन खाने वालों को सावधानी बरतने की सलाह

bird-flue-in-haryana-4-lakh-murgi-dead-news
  

फरीदाबाद, 6 जनवरी: हरियाणा में बर्ड फ़्लू बीमारी ने हाहाकार मचा दिया है, करीब 4 लाख मुर्गियां इस बीमारी से तड़प कर मारी हैं, इसके अलावा अनगिनत पक्षी भी मर गए हैं जिसके बाद सरकार भी हरकत में आयी है और चिकन खाने वालों के लिए एडवाइजरी जारी की गयी है.

हरियाणा सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने पोल्ट्री या पोल्ट्री उत्पादों के बारे में एडवाइजरी जारी की है। एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि विभाग की ओर से जो एडवाइजरी जारी की गई है उसमें सलाह दी गई है कि उपभोक्ता पोल्ट्री या पोल्ट्री उत्पादों को अच्छी तरह से पकाकर खाएं।

उन्होंने बताया कि पशुपालन एवं डेयरी विभाग को सूचना मिली है कि पिछले दस दिनों में पंचकूला जिला के बरवाला क्षेत्र में गांव गढ़ी कुटाह और गांव जलोली के पास 20 पोल्ट्री फार्मों में पिछले दस दिनों में करीब चार लाख मुर्गियों की असामान्य मौत हुई है। वहां से नमूने एकत्र किए गए और क्षेत्रीय रोग निदान प्रयोगशाला (आरडीडीएल) जालंधर को भेजे गए जहां से रिपोर्ट का अभी इंतजार है। वैसे भी वर्तमान में आरडीडीएल की टीम भी मुर्गियों के नमूने के लिए पुन: बरवाला क्षेत्र में पहुंच गई है। अभी तक एवियन इन्फ्लुएंजा की कोई पुष्टि नहीं हुई है। आशंका जताई गई है कि संदिग्ध बीमारियां रानीखेत या संक्रामक लारेंजो-ट्रैक्टिस भी हो सकती हैं।  

प्रवक्ता के अनुसार पंचकूला जिला में पोल्ट्री फार्मों में मुर्गियों की कुल संख्या 77,87,450 है जबकि 4,09,970 की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि हालांकि पिछले महीनों की तुलना में पोल्ट्री की मृत्यु दर वर्तमान में अधिक है। उन्होंने एडवाइजरी का हवाला देते हुए बताया कि पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने एवियन इन्फ्लूएंजा के मामले में पोल्ट्री की खपत के बारे में एक मानक सलाह दी है,  जिसमें बताया गया है कि रोग मुक्त क्षेत्रों में पोल्ट्री और पोल्ट्री उत्पादों को सही तरीके से पकाकर खाया जा सकता है। एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस गर्मी के प्रति संवेदनशील है। भारत में खाना पकाने के लिए उपयोग किए जाने वाला सामान्य तापमान (भोजन के सभी भागों के लिए 70 डिग्री सेल्सियस) वायरस को मार सकता है। पोल्ट्री का उपभोग करने से पहले उपभोक्ताओं को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि पोल्ट्री या अंडे के सभी भाग पूरी तरह से पके हुए हैं या नहीं।

विभाग की ओर से सलाह दी गई है कि कच्चे पोल्ट्री और पोल्ट्री उत्पादों को कभी भी कच्चा खाया जाने वाले पदार्थों के साथ मिलाकर खाने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। खाद्य पदार्थों को तैयार करने में शामिल व्यक्तियों को पोल्ट्री या कच्चे पोल्ट्री उत्पादों को रखने या इधर-उधर करने पर अपने हाथों को साबुन और गर्म पानी से अच्छी तरह से धोना चाहिए और पोल्ट्री उत्पादों के संपर्क में आने वाली सतहों को साफ और कीटाणुरहित करना चाहिए। उन्होंने बताया कि पोल्ट्री में उक्त बीमारी की संभावना होने वाले क्षेत्रों में कच्चे अंडे का उपयोग उन खाद्य पदार्थों के साथ नहीं किया जाना चाहिए जो खाने से पहले पूरी तरह से पकाया नहीं जाता है। उन्होंने बताया कि हालांकि आज तक कोई भी ऐसा सबूत नहीं है कि एवियन इन्फ्लूएंजा से दूषित होने के बावजूद अच्छी तरह से पकाए गए पोल्ट्री या पोल्ट्री उत्पादों को खाने के बाद कोई व्यक्ति संक्रमित हो गया है फिर भी उपभोक्ताओं को अपनी तरफ से एहतियात बरतनी चाहिए।

जिले का पशुपालक बढ़ा सकते हैं अपनी आमदनी, CM मनोहर लाल ने दी ये काम करने की सलाह

how-to-increase-income-in-dairy-industry-haryana-schemes

फरीदाबाद, 05 जनवरी। हरियाणा सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल के दूरगामी एवं कुशल नेतृत्व में पशुपालन एवं डेयरी फार्मिंग को श्रेष्ठ योजनाओं एवं नीतियों के क्रियान्वयन के बल पर बढ़ावा देने के लिए जोर-शोर से अग्रसर है। 

प्रदेश में जिला स्तर पर संचालित उपनिदेशक पशुपालन कार्यालय के माध्यम के अलावा उपमंडल स्तर व ब्लॉक स्तर कार्यालय के संबंधित अधिकारियों से आवश्यक जानकारी हासिल करके पशुपालक अपने व्यवसाय को सही दिशा देकर भरपूर लाभ उठा सकते हैं। 

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि पशुपालन व्यवसाय अधिकांश रूप में कृषि से सम्बन्ध है। क्योंकि पशुओं के चारे की उपलब्धता कृषि व्यवसाय से आसान रहती है। पशुपालकों को जागरूक रहकर उन्नत नस्ल की गाय, भैंस, बकरी इत्यादि रखकर उनकी सही खुराक व उपचार आदि की जानकारी पशु पालन विभाग से हासिल करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि पशुपालन और डेयरी विभाग के माध्यम से अनुसूचित जाति वर्ग के लिए भी रोजगार के अवसर प्रदान किए जाते हैं। इसके अंतर्गत डेयरी इकाइयों की स्थापना के लिए आवेदन किया जा सकता है। मुर्रा भैंस और स्वदेशी गायों की दूध रिकॉर्डिंग, देसी गायों के दूध की रिकॉर्डिग के अलावा सूअर पालन इकाइयों की स्थापना करके रोजगार के अवसर हासिल किए जा सकते हैं। 

इच्छुक लाभार्थी आवेदक मुख्यमंत्री भेड़ बकरी पालन उत्थान योजना, जर्नल मुख्यमंत्री बकरी पालन योजना, सरल प्लेटफॉर्म के माध्यम से दी जाने वाली किसी भी अन्य सेवाओं एवं योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आवेदन कर सकते हैं। अपने पशुओं को निरोग रखने व निरन्तर बेहतर ढंग से दुधारू बनाए रखने के लिए भी विभाग के चिकित्सकों के संपर्क में रहना चाहिए।    

चिराग पासवान से मिली फरीदाबाद की LJP टीम, हरियाणा VP विनोद चौधरी ने दिया फरीदाबाद आने का न्योता

vinod-chaudhary-haryana-ljp-vp-meet-mp-chirag-paswan

फरीदाबाद, 5 जनवरी: हरियाणा एवं फरीदाबाद के पदाधिकारियों ने 12 जनपथ नई दिल्ली मुख्य कार्यालय एवं निवास राष्ट्रीय अध्यक्ष लोक जनशक्ति पार्टी एवं सांसद चिराग पासवान से मिलकर नए साल की मुबारकबाद दी एवं एवं पार्टी की गतिविधियों के बारे में चर्चा की.

चिराग पासवान को विनोद चौधरी प्रदेश उपाध्यक्ष लोजपा हरियाणा के नेतृत्व में  फरीदाबाद  आने का निमंत्रण दिया गया, उन्होंने पार्टी के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं को आश्वासन दिया कि वे जल्द ही फरीदाबाद में एक सभा करेंगे, पार्टी के मुख्य पदाधिकारियों में पार्टी के जिला महासचिव तने भट्ट, उपाध्यक्ष चंदन झा, बृजेश कुमार सोनू,  सोनू सिसोदिया एवं समाजसेवी विजेंद्र गौतम जगदीश, धर्मपाल, पवन सैनी एवं दो दर्जन कार्यकर्ताओं भी थे.

चिराग पासवान से मिलकर फरीदाबाद और हरियाणा की लोजपा टीम एवं कार्यकर्त्ता खुश हुए, पार्टी के कार्यकर्ताओं में एक नया जोश देखने को मिला।  विनोद चौधरी जो हरियाणा के उपाध्यक्ष हैं, उन्हें भविष्य में नयी एवं बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है.

हरियाणा निकाय चुनावों में भाजपा के प्रदर्शन पर खुश हुए CM मनोहर, मतदाताओं को कहा - धन्यवाद

cm-manohar-lal-happy-bjp-performance-in-nikay-chunav-haryana  

चंडीगढ़: 31 दिसंबर: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा के मतदाताओं का आभार जताया है, उन्होंने कहा - प्रदेश के निकाय चुनावों में @BJP4Haryana  ने सभी राजनीतिक दलों से अधिक मत अर्जित किए हैं, जिसके लिए मैं भारतीय जनता पार्टी की नीतियों में विश्वास जताने वाले सभी सम्मानित मतदाताओं का हृदय से आभार प्रकट करता हूं। 

भाजपा के सभी विजयी प्रत्याशियों व कार्यकर्ताओं को मैं बधाई देता हूं।

मुख्यमंत्री ने आज चंडीगढ़ निवास पर भाजपा के जीते हुए पार्षदों और मेयरों से मुलाकात की और उन्हें जीत की बधाई दी. उन्होंने कहा - आज चंडीगढ़ स्थित मुख्यमंत्री निवास पर @BJP4Haryana के विजयी मेयर और पार्षदों को जीत की बधाई एवं शुभकामनाएं दी। भारतीय जनता पार्टी की विकास की नीतियों पर फिर एक बार विश्वास की मुहर लगाने के लिए सभी मतदाताओं का पुनः धन्यवाद। 


आपको बता दें क़ि कल हरियाणा के तीन नगर निगमों, 1 नगर परिषद् और 3 नगर पालिकाओं के चुनावी नतीजे घोषित किये किये गए जिसमें भाजपा को सभी पार्टियों से अधिक वोट मिले, भाजपा के सर्वाधिक पार्षद चुनाव जीते हालाँकि भाजपा सोनीपत और अम्बाला मेयर पद हार गयी.

1. पंचकूला मेयर सीट - भाजपा प्रत्याशी कुलभूषण गोयल ने जीती

2. अम्बाला मेयर सीट - हरियाणा जन चेतना पार्टी प्रत्याशी सीमा शक्ति ने जीती

3. सोनीपत मेयर सीट - कांग्रेस प्रत्याशी निखिल मदान ने जीती 

4. रेवाड़ी नगर परिषद् चेयरमैन सीट - भाजपा प्रत्याशी पूनम यादव ने जीती

5. धारूहेड़ा नगरपालिका सीट - आजाद उम्मीदवार दीना राम की जीत 

6. सांपला नगरपालिका सीट - आजाद उम्मीदवार पूजा की जीत

7. उकलाना नगरपालिका सीट - आजाद उम्मीदवार सुशील साहू वाला की जीत

अगर कुल 7 सीटों की बात करें तो भाजपा की दो पर, कांग्रेस की 3 पर, हरियाणा जन चेतना पार्टी की 1 पर और आजाद उम्मीदवारों की 3 सीटों पर जीत हुई है.

हरियाणा की 7 में से भाजपा ने 2, कांग्रेस ने 1 में दिखाया दम तो आजाद उम्मीदवारों ने जीती 3 सीटें

haryana-municipal-corporation-council-result-2020-news
 
चंडीगढ़: 30 दिसंबर: आज हरियाणा के तीन नगर निगमों, 1 नगर परिषद् और 3 नगर पालिकाओं के चुनावी नतीजे घोषित किये जा चुके हैं.

1. पंचकूला मेयर सीट - भाजपा प्रत्याशी कुलभूषण गोयल ने जीती

2. अम्बाला मेयर सीट - हरियाणा जन चेतना पार्टी प्रत्याशी सीमा शक्ति ने जीती

3. सोनीपत मेयर सीट - कांग्रेस प्रत्याशी निखिल मदान ने जीती 

4. रेवाड़ी नगर परिषद् चेयरमैन सीट - भाजपा प्रत्याशी पूनम यादव ने जीती

5. धारूहेड़ा नगरपालिका सीट - आजाद उम्मीदवार दीना राम की जीत 

6. सांपला नगरपालिका सीट - आजाद उम्मीदवार पूजा की जीत

7. उकलाना नगरपालिका सीट - आजाद उम्मीदवार सुशील साहू वाला की जीत

अगर कुल 7 सीटों की बात करें तो भाजपा की दो पर, कांग्रेस की 3 पर, हरियाणा जन चेतना पार्टी की 1 पर और आजाद उम्मीदवारों की 3 सीटों पर जीत हुई है.

MC Election Result: हरियाणा जन चेतना पार्टी ने उड़ाए भाजपा के होश, फीका किया कांग्रेस का जोश

haryana-mc-election-result-ambala-mayor-haryana-jan-chetna-party

फरीदाबाद, 30 दिसंबर: आज हरियाणा के तीन नगर निगमों, 1 नगर परिषद् और 3 नगर पालिकाओं के चुनावी नतीजे घोषित किये जा चुके हैं.

भाजपा ने पंचकूला नगर निगम में मेयर पद जीत लिया है. इसके अलावा एक नगर परिषद् रेवाड़ी में जीत दर्ज की है. मतलब भाजपा की दो बड़ी सीटों पर जीत हुई है.पंचकूला मेयर पद पर कुलभूषण गोयल की जीत हुई तो रेवाड़ी सीट पर पूनम यादव की जीत हुई है.

कांग्रेस की सोनीपत नगर निगम में मेयर पद पर जीत मिली है, यहाँ से निखिल मदान विजयी हुए हैं.

सबसे चौंकाने वाला परिणाम अम्बाला नगर निगम का आया है, यहाँ से हरियाणा जन चेतना पार्टी की मेयर पद पर जीत हुई है, भाजपा कांग्रेस की हार हुई है.

अम्बाला मेयर पद जीतकर हरियाणा जन चेतना पार्टी ने भाजपा के होश उड़ा दिए हैं तो कांग्रेस के जोश को फीका कर दिया है. सीटों के लिहाज से कांग्रेस भाजपा से कम है इसलिए कांग्रेस ज्यादा जश्न नहीं मना पायी। कांग्रेस सिर्फ एक मेयर पद जीत पायी जबकि भाजपा एक मेयर पद और एक नगर परिषद् चेयरमैन पद जीत गयी इसलिए भाजपा कांग्रेस पर भारी पड़ी है.

अगर कांग्रेस पार्टी अम्बाला मेयर पद भी जीत लेती तो कांग्रेसियों का जोश 100 गुना और बढ़ जाता लेकिन किसान आंदोलन की वजह से भाजपा सरकार का जो नुकसान हुआ है उसका फायदा हरियाणा जन चेतना पार्टी मार ले गयी और कांग्रेस देखती ही रह गयी.

कांग्रेस सोच रही थी कि भाजपा से नाराज लोग उसे वोट देंगे और तीनों निगमों में उनकी जीत होगी लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ, अम्बाला मेयर पद हरियाणा जन चेतना पार्टी के खाते में चला गया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा जन चेतना पार्टी पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा की पार्टी है और मेयर पद पर उनकी पत्नी शक्ति रानी खड़ी थीं, यहाँ पर दूसरे नंबर पर भाजपा प्रत्याशी डॉ वंदना शर्मा रहीं।

अगर नगरपालिका सीटों की बात करें तो तीनों सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों की जीत हुई है, धारूहेड़ा से आजाद उम्मीदवार दीना राम की जीत हुई है, सांपला सीट से पूजा ने भाजपा उम्मीदवार सोनू को हराया है और उकलाना सीट पर सुशील साहू वाला ने जजपा प्रत्याशी महेन्दर सोनी को हराया है.

सोनीपत और अम्बाला में भाजपा के हाथ से गया मेयर पद, पंचकूला में कड़ी जंग जारी

congress-win-in-ambala-and-sonipat-mayor-election-bjp-lost

फरीदाबाद, 30 दिसंबर: हरियाणा में भाजपा पार्टी को बड़ा झटका लगा है, सरकार में होते हुए भी भाजपा ने अम्बाला और सोनीपत नगर निगम चुनाव में मेयर पद गँवा दिया है जबकि पंचकूला में कड़ी जंग हो रही है, यहाँ  पर भाजपा आगे आगे है.

बता दें क़ि आज तीन नगर निगमों, 1 नगर परिषद् और 3 नगर पालिकाओं के चुनावी नतीजे आ रहे हैं, अम्बाला में भाजपा प्रत्याशी डॉ वंदना शर्मा चुनाव हार गयी हैं, उन्हें पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा की पत्नी शक्ति रानी ने हराया है.

इसी तरह से सोनीपत में कांग्रेस के मेयर पद के प्रत्याशी निखिल मदन ने 13818 वोटों के मार्जिन से चुनाव जीत लिया है, भाजपा प्रत्याशी को हार मिली है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसान आंदोलन का असर हरियाणा में हो रहा है शायद इसीलिए जनता ने दोनों निगमों में भाजपा के खिलाफ मतदान किया है. कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में ख़ुशी की लहर है.