Followers

Showing posts with label Haryana. Show all posts

परिवार पहचान पत्र वालों को ही लगेगा कोरोना का टीका, इसलिए फटाफट बनवा लें: SDM

covid-injection-for-parivar-pahchan-patra-holder

फरीदाबाद (बल्लभगढ), 02 दिसंबर। कोविड-19 का टीका सरकार द्वारा लगवाया जाएगा, जिसका डाटा परिवार पहचान पत्र से लिया जाएगा। यह जानकारी एसडीएम बल्लबगढ़ अपराजिता ने दी।

उन्होंने बताया कि कोरोना वैश्विक महामारी के संक्रमण से बचाव हेतु यह टीका सर्वप्रथम 5 वर्ष से कम आयु के बच्चो और 60 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गो तथा जो लोग एक से अधिक गंभीर बिमारियों (Comorbidity) से ग्रस्त हो को लगवाया जाएगा। ऐसे लोगो को टीका लगवाने हेतु उनका ब्यौरा परिवार पहचान पत्र से प्राप्त किया जाएगा। 

अतः अभी तक जिन लोगों के परिवार पहचान पत्र नहीं बने है वे जल्द से जल्द अपना परिवार पहचान पत्र बनवा ले। ताकि ऐसे लोगों को कोविड-19 का टीका समय रहते लगवाया जा सकें।

टिकटॉक पर अफेयर करके 4 साल के बच्चे की माँ को भगा ले गया था युवक, SI हनीश खान ढूंढकर लाये वापस

gadpuri-thana-sab-inspector-hanish-khan-good-work-missing-women-recovered

पलवल, 2 दिसंबर:  पलवल जिले के असावटी गाँव से कुछ दिन पहले एक विवाहित महिला अपने 4 साल के छोटे बच्चे और पति को छोड़कर किसी और युवक के साथ भाग गयी थी जिसे गदपुरी पुलिस ने ढूंढ लिया है.

पीड़ित पति ने बताया था क़ि टिकटॉक मोबाइल एप पर उसकी पत्नी पूजा और युवक की दोस्ती हुई थी, उसके बाद युवक ने महिला को झांसे में फंसाया और उसे अपने साथ भगा ले गया.

पीड़ित पति ने गदपुरी थाने में शिकायत की थी जिसपर पुलिस ने FIR नंबर 359 दर्ज करके महिला की तलाश शुरू कर दी थी, उसके बाद महिला ने किसी नंबर से अपने  पति को फोन किया तो पुलिस ने उस नंबर को ट्रेस करना शुरू कर दिया और आरोपी तक जा पहुंची।

पुलिस ने पहले आरोपी मिथुन को गिरफ्तार  किया और उसके बाद महिला को बरामद करके परिवार के सुपुर्द कर दिया। इस काम में गदपुरी थाने के सब-इंस्पेक्टर हनीश खान ने जमकर पसीना बहाया, उन्होंने टेक्नोलॉजी की मदद भी ली और महिला को बरामद करने खुद हिसार गए. देखिये ये वीडियो -

हरियाणा भाजपा सरकार गिराने के लिए कुमारी शैलजा ने चल दी बढ़िया चाल

kumari-selja-advised-bjp-jjp-independent-mla-quit-government-support

फरीदाबाद, 2 दिसंबर: हरियाणा में भाजपा और जजपा गठबंधन की सरकार डगमगा रही है, ऐसे में कांग्रेस के लिए बढ़िया मौक़ा है, अगर कांग्रेस जजपा को अपने खेमे में खींच लाती है और एक दो निर्दलीय विधायक भी उसे मिल जाते हैं तो कांग्रेस की हरियाणा में सरकार बन जाएगी।

हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने मौके का फायदा उठाना शुरू कर दिया है, उन्होंने कल ट्वीट किया जिसमें लिखा - अपनी अंतरात्मा की आवाज को सुनते हुए JJP, निर्दलीय व BJP के किसान हितैषी विधायकों को इस 'किसान-मजदूर विरोधी' हरियाणा सरकार से अपना समर्थन वापिस लेते हुए किसानों के हकों की इस निर्णायक लड़ाई में धरातल पर उतरकर उनका साथ देना चाहिए। किसानों को न्याय दिलाना ही हमारा परम कर्तव्य है।

कुमारी शैलजा को पता है कि जैसे ही कुछ निर्दलीय, कुछ जजपा और कुछ भाजपा के विधायक हरियाणा सरकार से समर्थन वापस लेंगे, वैसे ही सरकार गिर जाएगी और उसके बाद इन विधायकों को अपने खेमे में मिलाकर कांग्रेस हरियाणा में सरकार बना लेगी। कुमारी शैलजा ने अपनी चाल चल दी है, अब देखना है कि सरकार में शामिल ये विधायक उनकी बात मानते हैं या नहीं।

मंत्री रतनलाल कटारिया को दिखाए गए काले झंडे तो मंत्री बोले 'कहीं और मर लेते', रोड़ा लटकाने वालों

ambala-mp-minister-ratan-lal-kataria-angry-black-flag

अम्बाला, 1 दिसंबर: अम्बाला के सांसद और मोदी सरकार में केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया को आज आंदोलनकारियों ने झंडे दिखाए जिसकी वजह से मंत्री साहब नाराज हो गए.

उन्होंने कहा - मेरे पीछे आप देख रहे हो, नारेबाजी हो रही है काले झंडे दिखा रहे हैं। अरे भले मानसों, किसी और की नहीं सोचनी तो अपने अम्बाला के विकास की सोच लेते, जो काम 60-70 वर्षों में अटके पड़े थे वे अब हो रहे हैं.

उन्होंने कहा - तुमनें काले झंडे ही दिखाने थे तो सात आठ जगह उद्घाटन हो रहे हैं, कहीं और मर लेते, कर लेते, जरूरी था बीच में यहाँ खूंटा ठोंकना।

उन्होंने कहा - हर विकास के काम में रोड अटकाना, हर बात को गलत दिशा देना, मैं तो भगवान् से हाथ जोड़कर प्रार्थना कर रहा हूँ कि भगवान् इन्हें सद्बुद्धि दे, ये कृषि कानूनों को गहराई से पढ़ें कि किस प्रकार से मोदीजी ने इनके कल्याण के लिए कदम उठाए हैं. 

टिकरी बॉर्डर बंद: झज्जर पुलिस ने दिल्ली आवागमन के लिए बताया दूसरा रास्ता, पढ़ें

delhi-tikri-border-closed-due-to-kisan-andolan-news

फरीदाबाद, 30 नवंबर: झज्जर बहादुरगढ़ की तरफ खुलने वाले टिकरी बॉर्डर को किसान आंदोलन की वजह से पूरी तरह से बंद कर दिया गया है इसलिए झज्जर पुलिस ने दिल्ली जाने के लिए वैकल्पिक रास्ता सुझाया गया है.

झज्जर पुलिस ने एक नोटिस जारी किया है जिसमें लिखा है - जिला झज्जर में किसानों व अन्य संगठनों द्वारा किये गए दिल्ली चलो आवाहन पर किसान टिकरी बॉर्डर बहादुरगढ़ पर विरोध प्रदर्शन स्वरुप धरना पर बैठे हुए हैं, जिस कारण बहादुरगढ़ शहर में जाम की स्थिति उत्पन्न हो गयी  है, बहादुरगढ़ से दिल्ली जाने का मुख्य मार्ग वाया टिकरी बॉर्डर इस धरने के कारण बाधित है.

इसलिए आम जनता से अपील है क़ि दिल्ली जाने के लिए वाया बहादुरगढ़ टिकरी का रास्ता ना अपनाएं, अपितु दिल्ली जाने के लिए अन्य वैकल्पिक मार्ग जैसे बहादुरगढ़ झाड़ौदा, नजफगढ़ बॉर्डर, बादली ढांसा बॉर्डर, जरगदपुर चौक से मंडेला दिल्ली, बालोर मोड़ से झाड़ौदा कैर मंडेला दिल्ली, गुभाना से बाकरगढ़ दिल्ली, देवरखाना लोहट से गालबपुर दिल्ली, बाढ़सा से गालिबपुर दिल्ली गांव लुक्सर से मंडेला दिल्ली या याकूबपुर फरूखनगर गुरुग्राम होते हुए दिल्ली जाना संभव है.

आमजन से अपील है क़ि  दिल्ली जाने के लिए उपरोक्त वैकल्पिक मार्गों का उपयोग करें तथा बहादुरगढ़ टिकरी बॉर्डर पर जाने से बचें। 

झज्जर पुलिस द्वारा जनहित में जारी।
 



Breaking: हरियाणा के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल 10 दिसंबर तक पूर्ण रूप से बंद

haryana-school-closed-till-10-december-2020-news

फरीदाबाद, 30 नवंबर: हरियाणा सरकार ने स्कूलों को लेकर आदेश जरी किये हैं. सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल आगामी 10 दिसम्बर तक बंद कर दिए गए हैं. सभी स्कूल छात्रों के साथ साथ अध्यापकों के लिए भी बंद रहेंगे।



 

दावतों में सिर्फ 100/200 की लिमिट, अमित शाह, योगी की रैलियों में लाखों की भीड़ देखकर लोग हैरान

amit-shah-and-yogi-adityanath-rally-crowed-news
Note: यह फोटो हैदराबाद की अमित शाह और योगी की रैली की है

भारत सरकार महामारी से लड़ रही है, यह महामारी पूरे देश में फैली है, हर राज्य में समान रफ़्तार से संक्रमण फ़ैल रहा है और लोग ठीक भी हो रहे हैं, अब तक पूरे देश में 94 लाख लोग पॉजिटिव हो चुके हैं और 88 लाख लोग ठीक भी हो चुके है.

सरकार की पालिसी से लोग हैरान है, जहाँ जहाँ चुनाव होते हैं वहां भीड़ जुटने की बंदिश ख़त्म हो जाती है, उदाहरण के लिए जब बिहार में चुनाव हो रहे थे तो वहां लाखों लोग इकठ्ठे हो रहे थे और भीड़ को लहर बताया जा रहा था.

तेलंगाना के हैदराबाद में भी निकाय चुनाव हो रहे हैं, योगी और अमित शाह के रोड शो और रैली में लाखों लोग इकठ्ठा हुए जिसे लहर बताया जा रहा है.

हरियाणा में भी कोरोना है, करीब 18000 एक्टिव मरीज हैं, 2 लाख से अधिक मरीज ठीक भी हो चुके हैं लेकिन यहाँ पर शादी और अन्य समारोहों में सिर्फ 50, 100 और 200 लोगों के जुटने का नियम बनाया गया है.

अब लोग सवाल उठा रहे हैं कि हैदराबाद में जब योगी और अमित शाह की रैलियों में लाखों लोग इकठ्ठे हो रहे हैं तो उसे लहर बताया जा रहा है लेकिन शादियों में दावत खाने के लिए 100 से अधिक लोग इकठ्ठे हो जाते हैं तो उसे कहर बताया जाता है. लोग कह रहे हैं कि क्या रैलियों से महामारी नहीं फ़ैल रही है.

यहाँ साफ़ कर दें कि ये रैलियों की फोटो हरियाणा के नहीं बल्कि तेलंगाना के हैदराबाद की है, हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खुद अपने कार्यक्रमों में 100/200 नियम का पालन कर रहे हैं लेकिन लोग पूरे देश में कहीं भी रैलियों में भीड़ देखते हैं तो सरकार की पालिसी पर सवाल उठाने लगते हैं.

हिसार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने की रैली लेकन इस बात का रखा ध्यान

pichhda-warg-samman-samaroh-rally-cm-manohar-lal

हिसार, 29 नवंबर: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हिसार में एक रैली को सम्बोधित किया जिसमें उन्होंने खुद भी कोविड_महामारी को रोकने के लिए जारी दिशानिर्देशों का पालन करने की बात की.

मुख्यमंत्री ने कहा - हिसार की रैली के बारे में हमने निर्णय लिया कि कोविड_महामारी की परिस्थितियों के हिसाब से बड़ी रैली न करके वर्चुअल रैली करेंगे।

उन्होंने कहा कोविड_महामारी को कण्ट्रोल करने के लिए हमने तय किया था कि सार्वजनिक स्थानों पर, शादी की पार्टियों में, राजनैतिक या पारिवारिक कार्यक्रमों में 100 या 200 से अधिक लोग इकठ्ठे नहीं होंगे तभी हमने हिसार में बड़ी रैली ना करके वर्चुअल रैली करने का प्रोग्राम बनाया।

उन्होंने बताया क़ि हम चाहते हैं कि सभी विधानसभा क्षेत्रों में पिछड़ा वर्ग सम्मान समारोह आयोजित करेंगे, आज हिसार में 4 कार्यक्रम हैं जहाँ पर हमारे प्रमुख नेता हैं, मैं दो जगह से होकर आ गया हूँ और अन्य स्थानों पर भी उन्हें अभिवादन करने जाऊँगा। देखें वीडियो - 

किसान प्रदर्शन पर बोले भूपिंदर हुड्डा: सरकार का काम जाम खुलवाना होता है, जाम लगाना नहीं

haryana-ex-cm-bhupinder-singh-hooda-attack-khattar-sarkar

फरीदाबाद, 29 नवंबर: हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने वर्तमान हरियाणा सरकार पर हमला बोला है, दिल्ली में इंसानों ने जुटना शुरू कर दिया है, केंद्र सरकार ने उन्हें संत निरंगारी मैदान में इकठ्ठा होने का आग्रह किया है.

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा - सरकार का काम जाम खुलवाना होता है, जाम लगाना नहीं; सड़के बनवाना होता है, सड़कें खुदवाना नहीं। हरियाणा सरकार ने किसानों को रोकने के लिए सड़कों को जाम भी किया और खुदवाया भी। पूरे देश में बेरोजगारी, अपराध, नशे में हरियाणा को नंबर-1 बनाने वाली यह सरकार किसान विरोध में भी नंबर-1 हो गई। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा के रास्ते पंजाब के हजारों किसान दिल्ली में प्रवेश कर गए, रास्ते में उन्हें कई जगह रोकने का प्रयास किया गया लेकिन वे नहीं रुके और हर बाधा को पार करते हुए दिल्ली बॉर्डर पर जमा हो गए, बाद में उन्हें दिल्ली में प्रवेश करने और संत निरंकारी मैदान बुराड़ी में जमा होने की इजाजत मिली। 

तू-तड़ाक बोलने वाले अमरिंदर सिंह के लिए ऐसी भाषा शोभा नहीं देती: CM मनोहर लाल

haryana-cm-manohar-lal-slams-punjab-cm-amarinder-singh

फरीदाबाद, 29 नवंबर: मुख्यमंत्री अपने राज्य का सर्वेसर्वा होता है. अक्सर देखने में आया है कि दो राज्यों के मुख्यमंत्री सम्मानपूर्वक बातचीत करते हैं लेकिन कल पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के लिए तू तड़ाक की भाषा का इस्तेमाल किया। 

बात दरअसल ये है क़ि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किसान आंदोलन के पीछे मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का हाथ बताया है, उन्होंने कहा कि अमरिंदर सिंह ने ही पंजाब के कथित किसानों को हरियाणा और दिल्ली में प्रदर्शन के लिए भेजा है. मैंने उनके कई बार बातचीत करने का प्रयास किया लेकिन वह बातचीत से भाग रहे हैं, मेरा फोन नहीं उठाते कर उनके ऑफिस की तरफ से बहाना बनाया जाता है.

जब अमरिंदर सिंह ने ये बात सुनी तो उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के लिए तू तड़ाक की भाषा का इस्तेमाल किया, उन्होंने कहा - तू अपना राज्य संभल, तुझे क्या पता पंजाब में क्या चल रहा है, मैं तुझसे बात नहीं करूंगा, तुझी माफ़ी मांगनी पड़ेगी।

देखिये यह वीडियो -  


हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की भाषा पर सवाल उठाया है, उन्होंने कहा कि कैप्टन को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती।

CM मनोहर लाल भी गले में लटकाए दिखे मास्क, यही समस्या आम लोगों के साथ भी है, तो चालान क्यों?

why-haryana-police-challan-rs-500-for-without-mask

फरीदाबाद, 29 नवंबर: हरियाणा सरकार चाहती है कि बाहर निकलने पर लोग हमेशा मास्क लगाकर रखें, पुलिस को आदेश दिए गए हैं कि जो लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं या गले में मास्क लटकाकर घूम रहे हैं, ऐसे लोगों का 500 रुपये का चालान काट दिया जाय.

हरियाणा पुलिस ने लाखों लोगों के चालान काटे गए हैं, फरीदाबाद में अकेले ही 50 हजार से अधिक चालान काटे गए हैं और ढाई करोड़ रुपये से अधिक जुर्माना वसूला गया है.

जनता की दिक्कत ये है कि ज्यादा समय तक मास्क लगाने पर दम घुटने लगता है क्योंकि साधारण तौर पर इंसान CO2 यानी कार्बन डाई ऑक्साइड छोड़ता है और ऑक्सीजन लेता है, लेकिन मास्क लगाने के बाद CO2 ही छोड़ता है और CO2 ही फिर से लेता है इसलिए ज्यादा समय तक मास्क लगाने से दम घुटने लगता है इसलिए लोग मास्क को गले में लटका लेते हैं और पुलिस को देखते ही फिर से मास्क लगा लेते हैं, कुछ लोग इसमें चूक कर देते हैं तो पुलिस उनका 500 रुपये के चालान काट देती है.

फोटो में आप देख रहे होंगे कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ कुछ लोग मास्क को गले में टांगकर दिख रहे है, यह कैथल की आज की ही फोटो है, मुख्यमंत्री जी को भी ज्यादा समय तक मास्क लगाने में परेशानी होती होगी, इसीलिए उन्होंने मास्क को गले में टांग रखा है लेकिन पुलिस उनका चालान नहीं काट सकती क्योंकि वह राज्य के सर्वेसर्वा हैं.

लेकिन सरकार को जनता की परेशानी भी समझनी चाहिए, ऐसा बहुत सारे लोग हैं जिन्हें मास्क पहनने में बहुत परेशानी होती है, लोगों को शुद्ध ऑक्सीजन नहीं मिल पाती, दम घुटने से मास्क नीचे कर लेते हैं लेकिन ऐसे में जब पुलिस 500 रुपये का चालान काट देती है तो बहुत दुःख होता है.

सरकार को चाहिए कि मास्क लगाने के लिए दिशानिर्देश और जागरूकता फैलाई जाय, अगर कोई अपनी कार या बाइक पर सफर कर रहा है तो जरूरी नहीं कि मास्क लगाकर रखें क्योंकि कार और बाइक पर लोग सोशल डिस्टैन्सिंग का अपने आप पालन कर रहे होते हैं, ऐसे लोगों का चालान भी नहीं काटना चाहिए, बसों और ट्रेनों में मास्क ना लगाने वालों का चालान काटा जा सकता है, 

जनता को चाहिए क़ि भीड़ में जाने पर मास्क जरूर लगा लेना चाहिए क्योंकि भीड़ में इन्फेक्टेड लोग हो सकते हैं. लेकिन जब भीड़भाड़ से बाहर आ जाएं तो ऑक्सीजन लेने के लिए मास्क हटा लें. करीब 90 पर्सेंट लोग मास्क को नाक के नीचे रखते हैं और पुलिस को देखते ही मास्क लगाते है, यह बात बिलकुल सच है जबकि जनता को चाहिए कि पुलिस को देखकर नहीं बल्कि भीड़भाड़ देखकर बीमारी से बचने के लिए खुद मास्क लगा लें.

Petrol-Diesel के बढ़ते दामों पर कुमारी शैलजा ने भाजपा सरकार को घेरा

petrol-diesel-price-hike-kumari-selja-attack-bjp-sarkar

फरीदाबाद, 29 नवंबर: हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने Petrol-Diesel के बढ़ते दामों पर भाजपा सरकार को घेरा है.

उन्होंने कहा - किसानों की आय दोगुनी करने और अच्छे दिन लाने का झूठा वादा कर सत्ता में आई भाजपा सरकार डीजल व पेट्रोल के दामों को कम न कर अन्नदाता व आमजन की कमर तोड़ने का काम कर रही है। महंगाई अपार, जन-जन लाचार। 

आपकी  जानकारी के लिए बता दें कि फरीदबाद में पेट्रोल का नाम 80.85 रुपये प्रति लीटर है जबकि दिल्ली में डेढ़ रुपये ज्यादा है, वहीं फरीदाबाद में पेट्रोल का दाम 73.25 रुपये प्रति लीटर है. 

पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ते जा रहे हैं इसलिए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा सरकार पर मंहगाई बढ़ाने का आरोप लगाते हुए हमला बोला है. 

राजस्थान में बाजरा पर किसानों को कम मिल रही MSP तो चुपके से हरियाणा में बेच रहे उपज: CM मनोहर

haryana-bajra-msp-more-than-rajasthan-says-cm-manohar-lal

चंडीगढ़, 28 नवंबर: कांग्रेस शासित राज्य MSP - MSP का रोना रो रहे हैं लेकिन सच तो यह है क़ि कांग्रेस शासित राज्यों में किसानों की फसल MSP पर खरीदी ही नहीं जा रही है. पंजाब में भी यही हाल है और राजस्थान में भी यही हाल है.

आज हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस बात की जानकारी दी, उन्होंने बताया - हरियाणा की अनाज मंडियों में बाजरा ₹2,150/ क्विंटल की दर से खरीदा जा रहा है, जबकि पड़ोसी राज्य राजस्थान में ₹1300 के भाव पर बाजरा बिक रहा है। इसलिए वहां से बाजरा लाकर हरियाणा में बेचने की शिकायतें मिल रही हैं। वहां का बाजरा यहां बिकने नहीं दिया जाएगा। 

उन्होंने कहा क़ि हरियाणा सरकार बाजरे की फसल का दाना-दाना खरीदने के लिए संकल्पबद्ध है। पिछले वर्ष हरियाणा में 3 लाख मीट्रिक टन बाजरे की खरीद सरकारी एजेंसियों द्वारा की गई थी। इस बार अब तक 7 लाख मीट्रिक टन बाजरे की खरीद की जा चुकी है।

हरियाणा के इन छात्रों के लिए खुशखबरी, पढ़ने के लिए मुफ्त टेबलेट देंगे मुख्यमंत्री मनोहर, पढ़ें

haryana-cm-manohar-lal-news-free-tablet-for-9-12-th-student

फरीदाबाद, 28 नवंबर: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक वर्ग के छात्रों के लिए खुशखबरी सुनायी है, उन्होंने ट्विटर पर लिखा - 

हरियाणा सरकार ने #Covid19 के मद्देनजर सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे कक्षा आठवीं से बाहरवीं के सभी वर्गों जैसे सामान्य श्रेणी, अनुसूचित जाति व पिछड़े वर्ग के साथ अल्पसंख्यक वर्गों के छात्र एवं छात्राओं को डिजिटल एजुकेशन की सुविधा देने हेतु नि:शुल्क टैबलेट देने की योजना बनाई है।

इस योजना के अंतर्गत बाहरवीं पास करने पर विद्यार्थियों को यह टैबलेट स्कूल को वापिस लौटाना होगा। इसमें प्री-लोडेड कंटेंट के तौर पर डिजिटल पुस्तकों के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के टेस्ट, वीडियो और अन्य सामग्री भी रहेगी, जो सरकारी स्कूलों के पाठ्यक्रमों के अनुसार तथा कक्षावार होगी। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा सरकार ने शिक्षा में सुधार के कई कदम उठाए हैं, हजारों सरकारी स्कूलों को मॉडल स्कूल बनाया गया है जहाँ पर अब लोग प्राइवेट स्कूलों से अपने बच्चों को निकालकर दाखिला करा रहे हैं, डिजिटल एजुकेशन को बढ़ावा देने के लिए अब सरकार मुफ्त टेबलेट भी देने जा रही है.

फरीदाबाद-दिल्ली के रास्ते पानीपत जाने वालों को सोनीपत पुलिस ने दी महत्वपूर्ण सलाह, पढ़ें

delhi-panipat-national-highway-44-closed-sonipat-police-notice

फरीदाबाद, 28 नवंबर: किसान आंदोलन की वजह से दिल्ली और हरियाणा के लोगों को काफी दिक्कत हो रही है और सबसे अधिक दिक्कत उन लोगों को हो रही है जो फरीदाबाद से होते हुए दिल्ली के रास्ते पानीपत या चंडीगढ़ जाना चाहते हैं, ये लोग कहीं ना कहीं अटक जा रहे हैं और 8 - 10 घंटे बर्बाद हो रहे हैं.

दिल्ली करनाल बाईपास से होकर पानीपत जाने वालों को सोनीपत पुलिस ने महत्वपूर्ण सलाह दी है, पुलिस के द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है - 

आप सर्वसाधारण को सूचित किया जाता है क़ि संयुक्त किसान मोर्चा के आवाहन पर कृषि कानूनों के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन व अन्य किसान यूनियनों के पदाधिकारी / कार्यकर्ता व अन्य किसान संगठन ट्रेक्टर, ट्राली व अन्य वाहनों में सवार होकर जिला अम्बाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, पानीपत व अन्य बॉर्डर पार करते हुए सिंधु बॉर्डर दिल्ली पर पहुँच गए हैं जिन्होंने अपने वाहनों को राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 44 पर खड़ा करके सड़क को बंद किया हुआ है. 

इसलिए आप सभी से निवेदन है क़ि पानीपत से दिल्ली जाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 44 का प्रयोग करने से बचें, दिल्ली जाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग 71 A का प्रयोग किया जा सकता है तथा गुरुग्राम व बुआना, नरेला, सफियाबाद की तरफ से दिल्ली जाया जा सकता है.
 

sonipat-police-advisory

असली किसान तो धान की कटाई, गेहूं की बुवाई में लगा है, ये कांग्रेसी हैं, इसलिए नहलाया: अरुण यादव

haryana-bjp-leader-arun-yadav-tweet-on-kisan-andolan

फरीदाबाद, 28 नवंबर: भाजपा नेता और हरियाणा भाजपा के IT सेल के चीफ अरुण यादव ने आंदोलनकारी कथित किसानों के बारे में बड़ा बयान दिया है.

उन्होंने कहा - सरकार को पता है कि... विद्रोह करने वाले किसान नहीं, काँग्रेसी हैं, इसीलिए रात को नहला दिया। 
असली किसान तो धान की कटाई और गेहूं की बुवाई में लगा है।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कृषि बिल के खिलाफ आंदोलनकारियों को दिल्ली आने से रोकने के लिए हरियाणा पुलिस ने हाईवे पर कई स्थानों पर बैरिकेड लगा रखे थे लेकिन नाराज किसानों ने बैरिकेड उठाकर नदी में फेंक दिए, बैरिकेड पर नंबर दर्ज होते हैं क्योंकि यह सरकारी संपत्ति होती है, डबवाली थाना पुलिस को जब बैरिकेड नहीं मिले तो एक्शन लेते हुए करीब 10 हजार अज्ञात आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज कर दी. 


अरुण यादव ने यह भी ट्वीट किया है कि झूठ की बुनियाद पर खड़े आंदोलन सिर्फ़ अराजकता फैलाते हैं. एक और ट्वीट पढ़ें - 

नदी में फेंके गए बैरिकेड, पुलिस ने 10 हजार अज्ञात आरोपियों पर दर्ज की FIR, राहुल गाँधी नाराज

haryana-dabwali-police-lodged-fir-10000-kisan-news 

हरियाणा, 28 नवंबर: कृषि बिल के खिलाफ आंदोलनकारियों को दिल्ली आने से रोकने के लिए हरियाणा पुलिस ने हाईवे पर कई स्थानों पर बैरिकेड लगा रखे थे लेकिन नाराज किसानों ने बैरिकेड उठाकर नदी में फेंक दिए, बैरिकेड पर नंबर दर्ज होते हैं क्योंकि यह सरकारी संपत्ति होती है, डबवाली थाना पुलिस को जब बैरिकेड नहीं मिले तो एक्शन लेते हुए करीब 10 हजार अज्ञात आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज कर दी.

अज्ञात आरोपियों पर FIR दर्ज होने से कांग्रेस पार्टी के सांसद राहुल गाँधी बहुत नाराज हैं, उन्होंने ट्विटर पर मोदी सरकार के खिलाफ करारा हमला किया।

उन्होंने लिखा - अन्याय के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाना अपराध नहीं, कर्तव्य है। मोदी सरकार पुलिस की फ़र्ज़ी FIR से किसानों के मज़बूत इरादे नहीं बदल सकती। कृषि विरोधी काले क़ानूनों के ख़त्म होने तक ये लड़ाई जारी रहेगी। हमारे लिए ‘जय किसान’ था, है और रहेगा!

वृद्धावस्था, दिव्यांग, विधवा पेंशन योजना के लाभार्थी बनवाएं परिवार पहचान पत्र, तभी मिलेगा लाभ

parivar-pahchan-patra-for-senior-citizen-pension-yojna-news

फरीदाबाद, 27 नवंबर: सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा वृद्धावस्था पेंशन योजना, दिव्यांग पेंशन योजना,  विधवा पेंशन योजना के लाभार्थी वर्तमान में परिवार पहचान पत्र के माध्यम से लाभ प्राप्त कर रहे हैं। 

यह जिला समाज कल्याण  अधिकारी ने आज जहां देते हुए बताया कि उक्त योजनाओं के जिन पुराने लाभार्थियों ने परिवार पहचान पत्र नहीं बनवाया है। अपना परिवार पहचान पत्र बनवाए हैं, ताकि उन्हें पेंशन आईडी के साथ उन्हें जोड़ा जा सके, अन्यथा भविष्य में उपयोग लाभार्थियों को सुचारू रूप से पेशन लेने में कठिनाई आ सकती है। 

जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि इस  संबंध में पात्र लाभार्थी उक्त योजनाओं के लाभ हेतु अधिक जानकारी हासिल करने के लिये उनके  कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं पर इससे पूर्व उन्हे अपना परिवार पहचान पत्र बनवाना सुनिश्चित करना होगा तभी वे उक्त सभी योजनाओं का समय रहते लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Faridabad News: सरकारी बसों के जरिये किया जा रहा सरकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार

faridabad-news-sarkari-yojna-prachar-by-buses

बल्लभगढ़, 27 नवंबर। हरियाणा सरकार की जन कल्याणकारी नीतियां, योजना और परियोजनाओं के प्रचार प्रसार के लिए सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग द्वारा अपनी शैली में प्रचार प्रसार किया जा रहा है।

सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक पीसी मीणा के दिशा निर्देश अनुसार जिला में उपायुक्त यशपाल के मार्गदर्शन में सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों के प्रसार प्रचार के लिए जिला सूचना जनसंपर्क विभाग के माध्यम से होल्डिंग, बसों पर विनायल प्रिटिगं लगाकर, सोशल मीडिया पर बैनर आदि डालकर सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों का बखान किया जा रहा है। 

इसके अलावा विभाग की भजन पार्टियों के माध्यम से भी ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में लोगों को भजनों के माध्यम से सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों का प्रचार प्रसार किया जा रहा है। ताकि इन नीतियों का जरूरतमंद लोगों को फायदा मिल सके।

एसडीएम अपराजिता ने बताया कि बल्लभगढ़ उपमंडल में सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों का प्रचार प्रसार उपायुक्त जिला उपायुक्त यशपाल के मार्गदर्शन में जिला सूचना जनसंपर्क विभाग के माध्यम से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि अंतिम छोर के व्यक्ति को सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों का लाभ मिले। इसके लिए अधिक से अधिक प्रचार प्रसार जन कल्याणकारी नीतियों का सरकार की हिदायतों के अनुसार का किया जा रहा है ताकि आम आदमी जागरूक होकर उनका फायदा उठा सकें। 

फरीदाबाद परिवहन विभाग की बसों पर सूचना जनसंपर्क विभाग द्वारा विनायल प्रिटिंग लगाए गए हैं, ताकि आमजन इन बसों पर लगे इन विनायल प्रिटिगं के माध्यम से सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों का लाभ उठा सकें।

हरियाणा राज्य परिवहन फरीदाबाद डिपो के जनरल मैनेजर राजीव नागपाल ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार ये जनकल्याण कारी नीतियों के विनायल प्रिटिंग डिपो की सभी बसों पर लगाए जाने हैं। उन्होंने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा राज्य परिवहन विभाग के  फरीदाबाद परिवहन डिपो में कुल 99 बसे हैं। इनमें से 10 वोल्वो बस है और 9 मिनी बसे हैं तथा दो ट्रेनिंग सेंटर की बसे हैं। बाकी 78 बसें आमजन की यात्रा के लिए सवारियां ढोने का काम कर रही है। इन सभी बसों पर विनाइल प्रिंटिंग सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग द्वारा लगाए जाने हैं। जिनमें से अधिकतर बसों पर लग चुके हैं।

जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी राकेश गौतम ने बताया कि बसों पर कोविड-19 के संक्रमण के लिए के बचाव के लिए आमजन को जागरूक करने के लिए सोशल डिस्टेंस रखने, मुंह पर मास्क लगाने, सैनिटाइजर करने बारे बसों के ऊपर विनाइल प्रिंटिंग के माध्यम से आम जनता को जागरूक किया जा रहा है। सरकार का चोखा विद्या 1 साल आमजन को कर दिया निहाल किसानों को 6 हजार 40 करोड़ रुपये की धनराशि किसानों को बिजली की सब्सिडी देने का प्रावधान, पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण देने,   महिला व बेटियों के लिए रोडवेज विभाग द्वारा सुरक्षित यात्रा के लिए सीसीटीवी व डीएसपी की सुविधा युक्त 150 महिला बस चलाई जाने, एनीमिया मुफ्त अधिनियम, आमजन को उनकी संपत्ति का मालिकाना हक देने के लिए लालडोरा मुक्त योजना शुरू की गई है। जनता को मिला जमीन खरीद-फरोख्त करने के लिए बैंकों से ऋण लेने का अधिकार, भूमि का रिकॉर्ड ऑनलाइन किया,  प्रदेश में 4 हजार प्ले स्कूल खोलने का का निर्णय इनमें से 1135 पर कार्य शुरू हो चुका है, हरियाणा में भावांतर भरपाई योजना के तहत बागवानी करने वाले किसानों की 19 बागवानी फसलों को बीमा में शामिल किया गया है, खरीफ व रबी की फसलों का बीमा करने, पराली का उचित प्रबंध, सहित वृद्धावस्था, दिव्यांग जनों, विधवा पेंशन में बढ़ोतरी, बेरोजगारों को रोजगार मुहैया करवाने के लिए प्राइवेट सेक्टर में 75 प्रतिशत आरक्षण देने, स्किल डेवलपमेंट के तहत युवाओं को प्रति महीना 100 घंटे के बदले ₹6 हजार रुपये की सहायता राशि देने सहित सरकार की जनकल्याण कारी नीतियों का प्रचार प्रसार किया जा रहा है।

आंदोलनकारी किसानों को हमारा खुल्ला समर्थन: रणदीप सुरजेवाला

congress-leader-randeep-singh-surjewla-support-kisan-andolan

फरीदाबाद, 27 नवंबर: हरियाणा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राहुल गाँधी के नजदीकी रणदीप सुरजेवाला ने पंजाब के आंदोलनकारी किसानों का खुल्ला समर्थन किया है साथ ही किसानों को राहुल गाँधी और सोनिया गाँधी का सन्देश भी सूना दिया है.

रणदीप सुरजेवाला ने कहा - जिस दिन केंद्र में कांग्रेस पार्टी की सरकार आएगी, किसान बिलों को फाड़कर फेंक दिया जाएगा।

उन्होंने कहा क़ि - जब गांधी जी की सत्य अहिंसा की लाठी लेकर देश के किसान निकले तो दुनिया का सबसे बड़ा ब्रिटिश साम्राज्य तिनके की तरह बिखर गया।

आज फिर दिल्ली दरबार के भाजपाई अहंकारियों के ख़िलाफ़ हुंकार गूंजी है. कांग्रेस काले क़ानूनों को ख़त्म करने को  वचनबद्ध है।