Palwal Assembly

Showing posts with label Gurugram. Show all posts

गुरूग्राम क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर नवीन को मिला गृहमंत्री मेडल

inspector-naveen-gurugram-crime-branch-awarded-home-minister-medal

गुरुग्राम: गुरुग्राम सेक्टर 31 क्राइम ब्रांच के इंचार्ज इंस्पेक्टर नवीन पाराशर को गृहमंत्री मेडल से नवाजा गया है.

गृह मंत्री अमित शाह द्वारा जारी पत्र में लिखा गया है मैं भारत का गृह मंत्री अमित शाह अपराध अनुसंधान में आपकी सेवाओं को मान्यता देते हुए आपको अन्वेषण में उत्कृष्टता हेतु केंद्रीय गृह मंत्री पदक प्रदान करता हूं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इंस्पेक्टर नवीन पाराशर इससे पहले कई वर्षों तक फरीदाबाद पुलिस में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

inspector-naveen-parashar

हथियार बनाकर उसकी सौदागरी करता था उम्मर खान, इंस्पेक्टर सत्येन्द्र रावल की टीम ने दबोचा

inspector-satyender-rawal-arrested-ummar-khan-with-illegal-weapons

सोहना: क्राइम ब्रांच सोहना इन्स्पेक्टर सत्येन्द्र रावल की टीम ने एक आरोपी उम्मर पुत्र मोहम्मद खान निवासी कैथवाडा थाना कैथवाडा ज़िला भरतपुर राजस्थान उम्र 37 वर्ष को कुल 7 अवैध हथियारों के साथ वाटिका मोड़ सदर सोहना के इलाक़ा से गिरफ़्तार किया है.

आरोपी उम्मर खान के पास से कुल 6 अवैध देशी कटटा 315 बोर व एक अवैध 12 बोर की राइफ़ल बरामद की गयी है। आरोपी इन्हें बेचने की फ़िराक़ में आया था। आरोपी ख़ुद अवैध हथियार बनाने का काम करता है। और पिछले क़रीब 5/6 वर्ष से हथियार बना रहा है।

आरोपी उम्मर अब तक क़रीब 700 अवैध हथियार बना चुका है। जिसको आज माननीय अदालत से पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा व अवैध हथियार बनाने का सामान व औज़ार बरामद किए जाएँगे व जिन लोगों को इसने हथियार बेचे है उनकी जानकारी हासिल की जाएगी।हरियाणा में आगामी इलेक्शन को देखते हुए पुलिस टीम की अच्छी कामयाबी है.

गुरुग्राम Sec-31 क्राइम ब्रांच में इंस्पेक्टर नवीन कुमार का अच्छा काम, 15 अगस्त को मिला सम्मान

inspector-naveen-kumar-good-work-in-gurugram-cia-sector-31-get-reward

गुरुग्राम: फरीदाबाद में DLF क्राइम ब्रांच प्रभारी सहित कई विभागों में कई वर्षों तक काम कर चुके इंस्पेक्टर नवीन कुमार (F/17) वर्तमान में गुरुग्राम सेक्टर-31 क्राइम ब्रांच के प्रभारी के पद पर तैनात हैं.

इंस्पेक्टर नवीन कुमार ने फरीदाबाद DLF क्राइम ब्रांच प्रभारी रहते हुए दर्जनों ब्लाइंड मर्डर और अन्य कई केस चुटकियों में सुलझा दिए थे, अब वह गुरुग्राम क्राइम ब्रांच में भी अच्छा काम कर रहे हैं.

इस अच्छे काम का उन्हें ईनाम भी मिला है. गुरुग्राम में आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यू ने उन्हें विभागीय उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया.

inspector-naveen-kumar

70 वर्षीय महिला के हत्यारों को कलकत्ता से दबोच लाई Insp नवीन कुमार और Insp वेद प्रकाश की टीम

gurugram-cia-sector-31-dlf-phase-1-arrested-murder-accused-from-Calcutta

फरीदाबाद: गुरुग्राम सेक्टर-31 क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन कुमार और DLF फेज-1 के थाना प्रभारी इंस्पेक्टर वेद प्रकाश की टीम ने 70 वर्षीय महिला की हत्या करने वाले आरोपी को कलकत्ता से गिरफ्तार किया है. टीम ने काफी मशक्कत के बाद और कठिन रास्तों से चलकर आरोपी को गिरफ्तार किया. आरोपी को रिमांड में लेकर बारीकी से पूछताछ की जाएगी. आरोपी ने गहनों के लिए अपने साथी के साथ मिलकर महिला की ह्त्या की थी.

इस केश को सफल बनाने के लिए गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर मुहम्मद अकील (IPS) ने एक टीम का गठन किया जिसमे वेद प्रकाश DLF फेस 1 प्रभारी, निरीक्षक नवीन कुमार प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 31, सहायक उपनिरीक्षक राजेश, सुजान, सौरभ, हवलदार पोखर राम  क्राइम ब्रांच  CIA सेक्टर 31  को शामिल किया।

वारदात की डिटेल

दिनांक 02.08.2019 को थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम में पुलिस कन्ट्रोल रुम गुरुग्राम से एक सूचना मकान नं. ई-7/31 DLF Ph-I, गुरुग्राम में एक वृद्ध महिला की हत्या होने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई।

इस सूचना पर थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी के घटनास्थल पर पहुंच गई। जहां पर पाया कि एक महिला मृत अवस्था में पङी हुई है। तभी क्राइम यूनिट की टीम व  फिन्गरप्रिंट, एफ.एस.एल. पुलिस टीमों को घटनास्थल पर बुलवाकर घटनास्थल का निरीक्षण करवाया गया व मृतक महिला को पोस्टमार्टम के लिए पुलिस कब्जा में लिया गया। 

घटनास्थल पर ही मृतक महिला की बहन देविका नरुला पत्नी अशोक कुमार नरुला निवासी सुशान्त लोक-1, गुरुग्राम ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से पुलिस टीम को बतलाया कि ये 02 बहने और एक भाई है इसके भाई और इसके बीच इसकी एक बहन इन्दा खन्ना पुत्री पृथ्वीराज खन्ना निवासी मकान नं. ई-7/31 DLF Ph-I, गुरुग्राम उम्र 72 वर्ष अविवाहित है और अपने मकान में अकेली ही रहती थी और ये इससे मिलने व इससे फोन पर बातचीत भी करती रहती है। दिनांक 02.08.2019 को इसने अपनी बहन के पास फोन किया तो उसने फोन नही उठाय़ा। फोन न उठाने पर यह अपने पति के साथ अपनी बहन के मकान नं. ई-7/31 DLF Ph-I, गुरुग्राम पर आई जहां पर मकान के मुख्य दरवाजे की चिटकनी अन्दर से नही लगी हुई था। जब इसने अन्दर जाकर देखा तो इसकी बहन रसोई में पङी हुई है। इसने सोचा की इसको अटैक आया होगा। तभी इसने अपने पति को कहकर डाक्टर को बुलवाया। डाक्टर ने चैक करने के बाद बताया कि इसकी बहन इन्द्रा खन्ना की मृत्यु हो चुकी है और इनकी हत्या गला घोंटकर की गई है। जहां देखने पर यह भी पाया कि किसी अज्ञात ने इसकी बहन की चुन्नी से ही इसकी बहन का गला घोटंकर हत्या की है।

इस शिकायत पर थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम ने 302 ,382 449  कानून  धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

इस अभियोग में निरीक्षक वेदप्रकाश, प्रभारी थाना DLF Ph-I,व निरीक्षक नवीन कुमार प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 31  गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिस प्रणाली, पुलिस तकनीक की सहायता से व अपनी सुझबुझ से उक्त अभियोग में हत्या की वारदात को अन्जाम देने वाले 01 आरोपी को दिनांक 08.08.2019 को गाँव करालिया, जिला नादिया, पश्चिम बंगाल से काबू किया गया। 

आरोपी को पकङने के लिए टीम को नंगे पैर भी कई किलोमीटर चलना पङा. बीच मे भागीरथी नदी आने के कारण टीम को नाव का सहारा लिया ।उसके बाद टिम ने पैदल ही आरोपी तक पहुंचना पङा ।

आरोपी की पहचान *गौतमदास पुत्र जोदेवदास निवासी गाँव करालिया, थाना कालीगन्ज, जिला नादिया, पश्चिम बंगाल, हाल निवासी गाँव चकरपुर, गुरुग्राम, उम्र 28 वर्ष (आटोरिक्शा चलाने का काम करता है) के रुप में हुई। 
आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया व माननीय अदालत जिला नादिया के कर्षणा नगर कोर्ट मे  आरोपी को पेश करके आरोपी का 4  दिन का  ट्रान्जिट रिमाण्ड लिया गया।

आरोपी गौतम दास उक्त ने प्राथमिक पुलिस पूछताछ में बतलाया कि उपरोक्त अभियोग में मृतक महिला ने अपने मकान के पीछे ही मकान का काम करने के लिए लेबर लगाई हुई थी और इसके  एक साथी ने उसी लेबर के साथ 3 दिन  काम किया  था। जो  महिला उसके साथी आरोपी को अच्छे से जानती थी। इसके साथी ने इसे बताया कि जिस मकान में यह काम कर रहा है उस मकान में एक वृद्ध महिला अकेली रहती है और यह व इसका साथी दोनों हो आर्थिक तंगी में है, क्यों ना उस महिला की हत्या करके और उसके गहने लेकर भाग जाने की योजना बनाई तथा इसके लिए लगातार 3 दिन तक रैकी भी की थी 

इसी  योजना के तहत कार्य करते हुए उक्त आरोपी के अन्य साथी आरोपी (जिसे मृतक महिला जानती थी) ने दिनांक 02.08.2019 को समय करीब सुबह 09.15 बजे मृतक महिला के घर के दरवाजे की घंटी बजाई। महिला इसके साथी आरोपी को जानती थी इसलिए वह मकान के अन्दर चला गया और यह मकान की दीवार फान्दकर रसोई के रास्ते से अन्दर घुस गया व इन दोनों ने मिलकर महिला के गले में पङी चुन्नी का फंदा बनाकर व महिला का गला घोंट दिया और उसकी हत्या कर दी। हत्या करने के उपरान्त इन्होनें महिला के गले, हाथों में पहने हुए आभुषण निकाल लिए और वहां से भाग गए।

आरोपी को दिनांक 11.08.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा।

पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान अन्य साथी आरोपी की पहचान करते हुए गिरफ्तार किया जाएगा व अभियोग में बरामदगी की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

फ्लिपकार्ट के डिलीवरी ब्वॉय से लूट लेते थे सामान, क्राइम ब्रांच ने 5 बदमाशों को दबोचा

sohna-crime-branch-arrested-5-badmash-looting-flipkart-delivery-boys

सोहना: गुरुग्राम सोहना क्राइम ब्रांच ने 5 ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉयज से मोबाइल और अन्य महंगे सामान लूट लेते थे और उनके साथ मारपीट करते थे. सोहना क्राइम ब्रांच के इंचार्ज सत्येंद्र रावल की टीम ने पांचों बदमाशों की गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि इन आरोपियों ने पहले ऑनलाइन कैमरा आर्डर किया और जब डिलीवरी ब्वॉय ऑर्डर देने आए तो इन्होंने डिलीवरी ब्वॉय से सामानों से भरा बैग छीन लिया.

आरोपियों द्वारा वारदात में प्रयोग की गई कार (मारुति SX4) व आरोपियों द्वारा छीने गए सामान में से 03 जोङे जूते किए गए बरामद।

आरोपियों को पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लेकर गहनता से पूछताछ करते हुए की जाएगी बरामदगी।

वारदात की डिटेल

दिनांक 31.07.2019 थाना सैक्टर-65, गुरुग्राम की पुलिस टीम को सूचना सैक्टर-58 हयात होटल की निर्माणाधीन SITE के पास से Flipkart Online Shopping पर Order किए गए सामान की Delivery देने वाले कर्मचारियों से मारपीट करके सामान से भरी गाङी छीनने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई। 

सूचना मिलते ही थाना सैक्टर-65, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी को घटनास्थल पर पहुंच गई जहां पर शिवकुमार पुत्र जगदीश चन्द्र गांव मिण्डकोल जिला अलवर ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि यह FLIPKART E-COMMERCE COMPANY BADSHAHPUR में काम करता है। दिनांक 31.07.2019 को समय सुबह करीब 9.30 बजे गाङी ईको  में 8O PACKET लेकर डिलीवरी देने के लिए ड्राईवर के साथ निकला था। यह 35 PACKET की डिलेवरी दे चुका था और इसके पास 45 PACKET बचे थे। जिनमें 1 PACKET CUSTOMER NAME KAVYA SINGH का था जिसकी डिलीवरी देने के लिए इसने CUSTOMER को फोन किया तो उसने फोन नही उठाया। फिर 30 MINUTES बाद उसका BACK CALL आया उसने इसे डिलीवरी के लिए SEC-58 की RED LIGHT पर बुलाया जब यह वहां पहुंचा तो वहां कोई नही मिला। फिर दौबारा से इसने PHONE किया तो उसने इसे SEC-58 DISCOVERY WINE SHOP का पता दिया, जहां यह डीलीवरी देने पहुंचा तो एक मोटरसाईकल पर दो लड़के निर्माणाधिन SITE SEC-58 के करीब मिले, जिन्हें इसने पार्सल दे दिया और रुपये मांगे तो उन्होने मार-पीट शुरु कर दी ओर दो मोटरसाईकिल पर 5-6 लोग और आ गए, सभी मोटरसाईकिल बिना नम्बर की थी। मारपीट करके उन्होंने इसके साथी ईको चालक मथुराप्रसाद पुत्र शिवराम निवासी उधोपुर सिकन्दरा जिला कानपुर से ईको गाङी की चाबी छीन ली और इनकी ईको गाड़ी को माल सहित लेकर भाग गए और इन दोनो को वहीं पर छोड़ दिया। मोटरसाईकिल सवारों द्वारा इनकी गाङी छीनने के बाद जब इन्होनें गाङी में लगे GPS को चैक किया तो गाङी की लोकेशन ANSAL API SEC-67A के पास की मिली। जब ANSAL API SEC-67A  पर जाकर देखा तो इनकी गाङी इन्हें लावारिश हालात में मिली।

▪ इस शिकायत पर थाना सैक्टर-65, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।
इस अभियोग में निरीक्षक सतेन्द्र रावल, प्रभारी अपराध शाखा सोहना, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिस तकनीकी व अपने अथक प्रयासों से इस अभियोग में शिकायतकर्ता/पीङीत व उसके चालक साथी के साथ मारपीट करके उनकी गाङी को समान सहित छीनकर ले जाने वाले निम्नलिखित 05 आरोपियों को कल दिनांक 09.08.2019 को ओल्ड सोहना अलवर रोङ, सोहना से काबू करने में बङी सफलता हासिल की हैः-

1. सोनू पुत्र प्रकाश निवासी बिस्सर अकबरपुर, थाना तावङू, जिला नूँह।

2. दीपक पुत्र धर्मबीर निवासी बिस्सर अकबरपुर, थाना तावङू, जिला नूँह।

3. मोहित पुत्र सतप्रकाश निवासी गाँव रिठौज, थाना भौन्डसी, जिला गुरुग्राम।

4. उधम पुत्र अजीत निवासी गाँव रिठौज, थाना भौन्डसी, जिला गुरुग्राम।

5. गौरव पुत्र इन्द्रपाल निवासी बेहलपा थाना भौन्डसी, जिला गुरुग्राम।

सभी आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। 

प्राथमिक पुलिस पूछताछ में उक्त सभी आरोपियों ने बतलाया कि इन्होनें Flipkart Online Shopping पर 42000/- रुपयों का एक कैमरा Order किया था। जिसकी Delivery के लिए इनके पास फोन आया जिस पर Delivery देने वाले कर्मचारियों को इन्होनें इनके अनुकूल स्थान पर बुलाया व उनके साथ मारपीट करके जिस गाङी में वे Delivery देने आए थे उस इको गाङी व उसमे रखे सामान सहित उनसे छीन लिया और व कुछ ही दूरी पर इन्होनें एक कार (मारुति SX4) खङी की हुई थी, जिसमें इनके द्वारा छीनी गई गाङी ईको में रखा सामान कार (मारुति SX4) में रख लिया व ईको गाङी को वही पर छोङकर कार (मारुति SX4) में सवार होकर भाग गए।

पुलिस टीम ने उपरोक्त आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग की वारदात में प्रयोग की गई 01 कार (मारुति SX4) व छीने गए सामान में से 03 जोङे जूते आरोपियों के कब्जा से बरामद किए हैं।

सभी आरोपियों को आज दिनांक 10.08.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश किया जाएगा तथा आरोपी सोनू पुत्र प्रकाश व आरोपी दीपक पुत्र धर्मबीर उपरोक्त को पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगे और अन्य 03 आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा।

आरोपी सोनू व आरोपी दीपक उपरोक्त से पुलिस हिरासत के दौरान गहनता से पूछताछ करते हुए उपरोक्त अभियोग में छीना गया सामान बरामद किया जाएगा व अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

CIA-सेक्टर-31, नवीन की टीम ने बिंदर गुर्जर के शूटर सुमित सैनी को देशी कट्टे-कारतूस के साथ दबोचा

gurugram-sector-31-incharge-naveen-kumar-team-arrested-sumit-saini

गुरुग्राम: गुरुग्राम सेक्टर 31 क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर की टीम ने बिंदर गुर्जर के शूटर रहे सुमित सैनी को देशी कट्टे और कारतूस के साथ गिरफ्तार किया है. 

गिरफ्तार आरोपी का विवरण

सुमित सैनी, पुत्र सतबीर सैनी, निवासी - 49/26, मनोहर नगर, पीएस - न्यू कॉलोनी, पटौदी चौक, गुरुग्राम.

आरोपी को मुकदमा नंबर 335, दिनांक 30.07.19  u/s 25-54-59 A.Act  PS Sec 40 में गिरफ्तार किया गया है, आरोपी के खिलाफ निम्नलिखित दो मामले पेंडिंग हैं - 

(1) Fir no 282 dt 16/05/19 u/s *307* / 120 B /506 /34 ipc ps sec 10 A ps गुरुग्राम.
(2) Fir no 2 dt 01/01/19 u/s 147 /149/323/325/506/ *302* ipc ps new cly 

आरोपी के खिलाफ निम्नलिखित मामले पहले ही दर्ज थे

1. FIR NO 165/17 U/S 42 PRISONS ACT P.S BHONDSI GGM
2. FIR NO 920/15 U/S 147,149, *285*,323 IPC P.S CITY GGM
3. FIR NO 471/14 U/S 323,506 IPC P.S CITY GGM 
4. FIR NO 1277/15 U/S *364*,506,34 IPC P.S CITY GGM 
5. FIR NO 93/15 U/S 25-54-59 A.ACT P.S SEC 40 GGM 
6. FIR NO 1272/15 U/S 147,148,149, *307*,120B IPC & 25-54-59 A.ACT P.S CITY GGM
7. FIR NO 717/15 U/S 120B,201, *302* IPC & 25-54-59 A.ACT P.S Sec. 5 GGM 

आरोपी को 30 जुलाई 2019 को सेक्टर-31 गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया. उसके पास से एक देशी कट्टा, एक देशी दोगा, 2 जिन्दा राउंड बरामद किये गए.

सोहना क्राइम ब्रांच ने खतरनाक गैंग को दबोचा, टैक्सी में सवारियों को बिठाकर करते थे लूटमार

sohna-crime-branch-arrested-gang-looting-people-in-taxi-vehicle

सोहना: सोहना क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर सत्येन्द्र रावल की टीम ने टैक्सी गाड़ी में सवारियों को बैठाकर हथियार दिखाकर बंधक बनाकर लूटमार करने वाले गिरोह को गिरफ़्तार किया है.

क्राइम यूनिट सोहना की टीम इंचार्ज इंस्पेक्टर सत्येन्द्र रावल ने बताया कि पिछले कुछ दिन से शाम के समय सोहना से टैक्सी नम्बर गाड़ी में पलवल, गुरुग्राम, नूह के लिए सवारियाँ बिठाकर बाद में उन्हें हथियार के बल पर गाड़ी में बंधक बनाकर खेतों में ले जाते थे और मारपीट करके उनके साथ लूटमार करके उनसे पैसे, मोबाइल, लैप्टॉप आदि सामान लूट लेते थे। व Atm कार्ड व पास्वर्ड लेकर ATM से पैसे निकलवा कर रात में मेवात के इलाक़ा में छोड़ देते थे। 

ये लुटेरे पुलिस व आमजन के लिए परेशानी का कारण बने हुए थे। क्राइम यूनिट सोहना ने कई दिन अथक मेहनत करने के बाद 4 आरोपियों को गाड़ी व हथियार सहित उस समय गिरफ़्तार किया जब वे लोग एक और वारदात करने की तैयारी में थे।

गिरफ्तार आरोपियों में मेवात के रहने वाले 4 आरोपी शाहरुख़, फूरकान, हनीफ़ और ज़हीर को गिरफ़्तार किया है। इन्हें रिमांड पर लेकर इनसे लूट के लैप्टॉप, मोबाइल फ़ोन, ATM कार्ड व नक़दी बरामद की गयी है। इनसे पूछताछ के बाद लूटपाट की कुल 5 वारदात सुलझाई गयी है। जिनमे से 3 वारदात थाना सिटी सोहना व 2 वारदात थाना नूह की है। आज आरोपियों को रिमांड के बाद जेल भेज दिया गया है.

इंस्पेक्टर सत्येन्द्र रावल की टीम ने शातिर चोर को दबोचा, लूटे गए चार वाहन, 1 मोबाइल बरामद

sohna-crime-branch-incharge-satyendra-rawat-team-arrested-chor-dharmbeer

सोहना: क्राइम ब्रांच सोहना के प्रभारी इंस्पेक्टर सत्येन्द्र रावल की टीम ने गुरुग्राम के सेक्टर 65 थाना के इलाक़ा से लगातार 4 लूट की वारदात करने वाले आरोपी धर्मबीर पुत्र हरपाल को गिरफ्तार किया है.

आरोपी धर्मबीर - निवासी जाट का सिशोना थाना नगीना नूह को इंडरी मोड़ का रहने वाला है, आरोपी को दिनांक 20/06/19 को गिरफ़्तार किया था व 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया था। 

रिमांड के दौरान आरोपी ने अपने एक साथी के साथ गुरुग्राम के थाना सेक्टर 65 से एक वैगन - R कार, तीन ऑटो व एक मोबाइल फ़ोन लूटने की वारदात स्वीकार की थी। आरोपी से थाना सेक्टर 65 की लूट की 3 वारदात व थाना सेक्टर 29 की एक वारदात सुलझाई गयी है। लूट का सारा सामान आरोपी से बरामद किया जा चुका है। साथी आरोपी की गिरफ़्तारी अभी बक़ाया है।

इंस्पेक्टर नवीन की टीम ने 33 वारदातों वाले गैंगस्टर को दबोचा, IGP हनीफ कुरैशी बोले, वेल डन नवीन

gurugram-sector-31-cia-incharge-naveen-parashar-arrested-gangster-irshad

गुरुग्राम: इंस्पेक्टर नवीन पाराशर की टीम ने करीब 3 दर्जन वारदातों को अंजाम देने वाले आरोपी को धर दबोचा है. उनके काम की खूब तारीफ हो रही है, फरीदाबाद का पूर्व कमिश्नर और IGP लॉ एंड आर्डर डॉ हनीफ कुरैशी ने उनकी तारीफ करते हुए लिखा - वेल डन नवीन. 


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चोरी, गृह भेदन, ATM मशीन चोरी, छीनाझपटी व वाहन चोरी की करीब 3 दर्जन वारदातों को अन्जाम देने वाले 50 हजार रुपए के ईनामी बदमाश को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन कुमार की टीम ने गिरफ्तार किया है.

इंस्पेक्टर नवीन कुमार ने बताया कि आरोपी को पुलिस रिमाण्ड पर लेकर अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जाएगी एवं अन्य वारदातों में बरामदगी की जाएगी. उन्होंने यह भी बताया कि इस ईनामी गैंगस्टर को पकड़ने में उनकी साथी SHO, फेज-1 गुरुग्राम, वेद प्रकाश ने भी साथ दिया है और उनकी मदद से ही यह सब संभव हो पाया है.

▪ दिनांक 07.05.2018 को थाना सैक्टर-53, गुरुग्राम में देवेश कुमार S/O धर्मवीर सिँह R/O ग्राम पो0 नान, थाना हाफिजपुर, जिला हापुड, UP हाल मकान नं. 59 न्यु करेहडा कालोनी, मोहन नगर गाजियाबाद UP ने हाजिर थाना आकर एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि वह AGS Transact Technologies LTD. में RK ASHRAM METRO STATION PILLAR NO. 12 NEW DELHI में बतौर SR. EXECUTIVE  के पद पर तैनात है तथा HDFC BANK  की ATM मशीनों की Maintenance का काम ले रखा है। दिनांक 07.05.2018 को रात के समय अज्ञात व्यक्तियो के द्वारा HDFC ATM PIAWDL30 LOCATION NAI KI DHAI WAZIRABAD, GURGAON में स्थित ATM MACHINE को चोरी करके ले गए।

▪ उक्त शिकायत पर थाना सैक्टर-53, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪ उक्त अभियोग में अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिक तकनीकी, पुलिस प्रणाली व अपने अथक प्रयासों से उक्त अभियोग में ATM मशीन चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपी को कल दिनांक 17.06.2019 को सोहना, गुरुग्राम से काबू करने में सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान ईरसाद पुत्र सिरदार निवासी खरखङी, थाना तावङू, जिला नूँहू के रुप में हुई।

▪ उक्त आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪ उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बतलाया कि वह अडवानी गिरोह को सदस्य है और इसकी गिरफ्तारी पर गुरुग्राम पुलिस द्वारा 50 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया हुआ है तथा यह चोरी, छीनाझपटी, ए.टी.एम. मशीन चोरी, वाहन चोरी, वाहन छीनाझपटी, लूट, हथियार के बल पर लूट के मामलों में कई बार जेल जा चुका है।

▪ उक्त आरोपी से गहनता से की गई पुलिस पूछताछ में आरोपी ने उक्त अभियोग में ए.टी.एम. मशीन चोरी करने की वारदात सहित निम्नलिखित अभियोग की वारदातों को अन्जाम देना स्वीकार किया हैः

1. अभियोग संख्या 61/18 धारा 457, 380  भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
2. अभियोग संख्या 96/18 धारा 457, 380  भा.द.स. थाना बादशाहपुर, मानेसर, गुरुग्राम।
3. अभियोग संख्या 85/18 धारा 457, 511  भा.द.स. थाना फरुखनगर, गुरुग्राम।
4. अभियोग संख्या 212/17 धारा 380, 427, 511 भा.द.स. थाना सैक्टर-53, गुरुग्राम।
5. अभियोग संख्या 310/17 धारा 380, 511 भा.द.स. थाना शिवाजी नगर, गुरुग्राम।
6. अभियोग संख्या 76/18  धारा 457, 380, 511 भा.द.स थाना सदर, गुरुग्राम।
7. अभियोग संक्या 36/18 धारा 457, 380 भा.द.स. थाना सैक्टर-53, गुरुग्राम।
8. अभियोग संख्या 77/18 धारा 380 भा.द.स. थाना सदर, गुरुग्राम।
9. अभियोग संख्या 325/17 धारा 380 भा.द.स. थाना राजेन्द्रा पार्क, गुरुग्राम।
10. अभियोग संख्या 398/17 धारा 380 भा.द.स. थाना शिवाजी नगर, गुरुग्राम।
11. अभियोग संख्या 1195/17 धारा 380 भा.द.स. थाना सदर, गुरुग्राम।
12. अभियोग संख्या 53/18 धारा 380 भा.द.स. थाना बजघेङा, गुरुग्राम।
13. अभियोग संख्या 318/17 धारा 457, 380 भा.द.स. थाना सैक्टर-9, गुरुग्राम। 
14.अभियोग संख्या 84/18 धारा 457, 380 भा.द.स. थाना सैक्टर-17/18, गुरुग्राम।
15. अभियोग संख्या 22/18 धारा 380 भा.द.स. थाना मानेसर, गुरुग्राम।
16. अभियोग संख्या 19/18 धारा 379 भा.द.स. थाना राजेन्द्रा पार्क, गुरुग्राम।
17. अभियोग संख्या 439/17 धारा 379 भा.द.स. थाना मानेसर, गुरुग्राम।
18. अभियोग संख्या 334/17 धारा 379 भा.द.स. थाना मानेसर, गुरुग्राम।
19. अभियोग संख्या 369/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
20. अभियोग संख्या 270/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
21. अभियोग संख्या 268/17 धारा 379 भा.द.स. थाना मानेसर, गुरुग्राम।
22. अभियोग संख्या 214/17 धारा 379 भा.द.स. थाना मानेसर, गुरुग्राम।
23. अभियोग संख्या 197/17 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
24. अभियोग संख्या 1185/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
25. अभियोग संख्या 125/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम। 
26. अभियोग संख्या 124/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
27. अभियोग संख्या 112/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम। 
28. अभियोग संख्या 117/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम।
29. अभियोग संख्या 80/17 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-7 मानेसर, गुरुग्राम। 
30. अभियोग संख्या 240/2012 धारा 392 भा.द.स व शस्त्र अधिनियम थाना बिलासपुर, गुरुग्राम।
31. अभियोग संख्या 277/12 धारा 395/397 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम थाना सुशान्त लोक, गुरुग्राम।
32. अभियोग संख्या 170/ 12 धारा 398, 401, 476 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम, थाना सैक्टर-56, गुरुग्राम।
33. अभियोग संख्या 319/12 धारा 395 भा.द.स. थाना मानेसर, गुरुग्राम।

▪ उक्त आरोपी को आज दिनांक 18.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा। 

▪ पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान उक्त आरोपी से गहनता से पूछताछ करते हुए उसके द्वारा अन्जाम दी गई अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जाएगी व अपराधिक वारदातों में इसके साथ सम्मिलित रहे अन्य साथी आरोपियों के बारे में पूछताछ करते हुए बरामदगी की जाएगी।

फर्जी चेक दिलवाकर लेते थे कैश में कमीशन, इंस्पेक्टर नवीन की टीम ने धोखेबाजों को दबोचा, पढ़ें

gurugram-sector-31-crime-branch-arrested-fake-cheque-catering-workers

गुरुग्राम: गुरुग्राम सेक्टर 31 क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर की टीम ने दो ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया है जो टेन्ट डेकोरेटर केटरिंग का ठेका दिलवाने के नाम पर फर्जी चेक दिलवाते थे और जिन्हें चेक दिया जाता था उनसे कमीशन के रूप में कैश पहले ही मांग लिया जाता था. जब कैटरिंग वाले चेक बैंक में डालते थे तो बाउंस हो जाता था.

आरोपियों ने टेन्ट डेकोरेटर केटरिंग के काम का भुगतान 39,39750/- का फर्जी चैक देकर व कमीशन के रूप में 1,75000/- की नगदी लेकर धोखाधड़ी की थी.

आरोपी अपने आप को मारुति कम्पनी के बड़े अधिकारी बतलाते थे, तथा धोखाधड़ी करते थे।

दिनाँक 13.06.2019 को थाना मानेसर, गुरुग्राम में श्याम वीर सिंह यादव पुत्र रक्षपाल सिंह यादव निवासी 571/6 गोविन्द पुरी कालकाजी नई दिल्ली ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि वह A to Z टेन्ट डेकोरेटर केटरिंग का काम करता है। केटरिंग के काम के सिलसिले मे इसकी मुलाकात तहसील मानेसर के एक व्यक्ति से हुई जिसने अपना नाम विजय कुमार आर्य पुत्र कुलनन्दन आर्य निवासी दिल्ली बताया। 

बातों ही बातों मे विजय कुमार आर्या ने केटरिंग का मोटा काम देने की पेशकश की और एक अन्य व्यक्ति को बुलाकर उससे मिलवाया जिसने अपना नाम कुलदीप सिंह बतलाया और अपने आप को मारूति कम्पनी का सीनियर अधिकारी बताया. उसके बाद कुलदीप सिंह ने दिनाँक 28.02.2018 को काम के सिलसिले में बातचीत करने के लिये रहेजा माल, मानेसर बुलाया.

जब वह वहाँ पहुंचा तो वहाँ पर रेस्टोरेन्ट मे कुलदीप सिंह एवं विजय कुमार आर्या बैठे हुये मिले जहाँ पर कुलदीप सिंह ने उसकी फर्म का कॉन्ट्रैक्ट लेटर लिया और उसे मारुति सुजूकी का Account Payee चेक रकम 39,39750/- रुपये का दिया और अपने कमीशन के रुपये मांगे जिस पर उसने कमीशन की रकम पूछी तो विजय कुमार आर्या ने फिलहाल दो लाख रुपये देने के लिये कहा जिस पर उसने अपने बैंक मे रखे हुये 1,75000/- दे दिए और विजय कुमार एवं कुलदीप सिंह रुपये लेकर गाडी में बैठकर वहाँ से चले गए। 

उसके उपरान्त विजय कुमार आर्या एवं कुलदीप सिंह ने कॉन्ट्रैक्ट लेटर लेने के लिये मानेसर दिनाँक 09.03.2018 को बुलाया जहाँ पर उसे कुलदीप सिंह एवं विजय कुमार आर्या उसी रेस्टोरेन्ट मे मिले जहाँ पर उसे कुलदीप सिंह ने मारुती सुजकी इन्डिया लिमिटेड का कॉन्ट्रैक्ट लेटर दिया तथा काम करने की जगह के बारे में बाद मे बताने को कहा और अपने अन्य कमीशन की बात की जो उसने बाकी कमीशन काम होने और पेमेन्ट होने पर देने के लिए कहा तो दोनो वहाँ से चले गए।

 उनके द्वारा दिए गए चैक को सिडीकेट बैंक कालका जी डिपो मे लगाया जो Clear नही हो सका। 03 दिन बाद सिडीकेट बैंक ने बताया कि आप के द्वारा लगाया गया चैक वापिस आ गया है। और इस नाम का कोई खाता ही नही है। इस सम्बन्ध मे विजय कुमार एवं कुलदीप सिंह से बातचीत करने की काफी कोशिस की तो इन दोनों व्यक्ति के फोन बन्द मिले जो काफी तलाश करने के बाद भी नही मिले तो उसने मारुति सुजुकी कम्पनी से भी पता  किया तो मालूम हुआ कि कम्पनी ने इस प्रकार का कोई पत्र जारी ही नही किया। 

उन दोनों व्यक्तियों ने मिली भगत करके फर्जी कॉन्ट्रैक्ट लेटर व फर्जी चेक देकर धोखा धडी से कमीशन के नाम पर पैसों की ठगी की है।

उक्त शिकायत पर थाना मानेसर में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

उक्त अभियोग में क्राइम यूनिट सेक्टर-31 के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन कुमार की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए उक्त अभियोग में धोखाधड़ी करके ठगी करने वाले निम्नलिखित 02 आरोपियों को दिनाँक 14.06.2019 को धनचरी टूरिस्ट काम्प्लेक्स नजदीक सरहौल टोल गुरुग्राम से काबू करने में सफलता हासिल की है:-

1. विजय कुमार झा पुत्र कुलानंद झा निवासी गांव कसरोर थाना कसरोर जिला दरभंगा बिहार।

2. कुलदीपक पुत्र अरुण सिंह निवासी मकान नंबर 4549/21 रामनगर गली नंबर-2 सुल्तान रोड PSBS विजन, जिला अमृतसर, पंजाब।

▪ उक्त आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪उक्त आरोपियों ने प्रारंभिक पुलिस पूछताछ में बतलाया कि ये अपने आपको Maruti Suzuki India Limited के बङे अधिकारी बताते है और इन्होंने कम्पनी के नाम का फर्जी विजिटिंग कार्ड बनाया हुआ है।
बड़े-बड़े फार्म हाउस मालिकों को इवेंट के नाम पर फर्जी चेक दे देते थे। ये कही कही पर अपने आपको फाइनेंशियल लोन देने वाले भी बताते हैं ओर कहते हैं चैक सीधा पार्टी को ही देंगे फिर ये उनसे अपना 10% कमीशन एडवांस में मांगते हैं ओर अपने झांसे में लेकर फर्जी चैक उनको थमा कर उनको ठग लेते हैं। इन्होंने NCR में इस प्रकार की लगभग 35 वारदातों को अन्जाम देने का खुलाशा किया है।

▪पुलिस टीम ने उक्त आरोपियों के कब्जा से निम्नलिखित 04 फर्जी चेक जिन पर अलग-अलग कंपनियों के नाम है बरामद किए गए:

1. निरंकारी इवेन्ट, गुरुग्राम के नाम से 84 लाख 81 हजार का फर्जी चैक बरामद किया।

2. चावला टैंट हाउस पानीपत के नाम से 5332500/- रुपयों का फर्जी चैक बरामद किया।

3.  सुभाष टैंट हाउस के नाम से 8292500 रुपयों का फर्जी चैक बरामद किया।

4. A to Z टैंट हाउस, दिल्ली के नाम से 3939750/- रुपयों का फर्जी चैक बरामद किया।

उक्त आरोपियों द्वारा धोखाधड़ी करके ठगी करने की पूरी तैयारियां की हुई थी, जो पुलिस टीम के हत्थे चढ़ जाने के बाद वारदातों को अन्जाम देने का इनका ईरादा नाकाम हो गया।

 उक्त आरोपियों को दिनांक 15.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पूछताछ हेतु 6 दिन के लिए पुलिस हिरासत रिमांड पर लिया गया है।इनके कब्जा से कई विजिटिंग कार्ड मिले हैं जिनमे इन्होंने फ़ोटो तो अपने लगाए हैं लेकिन अलग अलग नाम व कम्पनी का नाम भी अलग अलग लिखा रखा है।

पुलिस हिरासत रिमांड के दौरान उक्त आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जाएगी। पूछताछ के दौरान आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग में की गई ठगी की रकम, फर्जी चेक बुक तथा अन्य दस्तावेजों सहित इस साजिश में शामिल अन्य साथी आरोपियों तथा अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जाएगी पूछताछ के दौरान जो भी तथ्य सामने आएंगे, उनसे अवगत कराया जाएगा। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

उपरोक्त आरोपियों को दो दिन की पुलिस रिमांड पर लिया गया है, इन्होने चार वारदातें और कर रखी हैं.

ऑपरेशन क्लीन अप के तहत सेक्टर-31 सीआईए गुरूग्राम ने एक और बदमाश को किया गिरफ्तार

sector-31-cia-gurugram-arrested-one-accused-operation-cleean-up

गुरूग्राम 2 मई 2019: Operation Clean-up के तहत गिरोह के लिए अवैध वसूली करने वाले 01 और बदमाश को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस ने अवैध 01 देशी पिस्तौल व 02 जिन्दा कारतूस सहित किया गया है.

इस अभियान के तहत अब तक कुल 14 बदमाशों को गुरुग्राम पुलिस द्वारा किया जा चुका है गिरफ्तार।

▪Operation Clean-Up के तहत निरीक्षक नवीन कुमार, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए गिरफ्तारी के क्रम को आगे बढ़ाते हुए 01 और  बदमाश अपराध शाखा सैक्टर-34, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने दिनाँक 01.05.2019 को जैन मंदिर नाहरपुर रूपा, गुरुग्राम के पास से अवैध हथियार सहित काबू करने में  सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान *अनील पुत्र राजिन्द्र प्रसाद निवासी मकान नम्बर 232 राजीव कॉलोनी, नाहरपुर रूपा, जिला गुरूग्राम, उम्र 24 वर्ष, शिक्षा 12वीं पास* के रूप में हुई।

*▪उक्त बदमाश के कब्जा से अवैध 01 देशी पिस्तौल व 02 जिन्दा कारतूस बरामद* होने पर आरोपी के खिलाफ थाना सदर, गुरुग्राम में शस्त्र अधिनियम की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित करके आरोपी को अभियोग में  नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪उक्त आरोपी बदमाश ने पुलिस पूछताछ में बतलाया कि वह गुरुग्राम पुलिस द्वारा दिनाँक 25.04.2019 को काबू किए गए बदमाशों के ही गिरोह का सदस्य है और इस गिरोह के लिए अवैध वसूली का काम करता है।

▪उक्त आरोपी आपराधिक प्रवृति का व्यक्ति है और इसके खिलाफ अवैध वसूली के संबंध में पहले भी थाना शहर, गुरुग्राम में अभियोग, गुरुग्राम में अभियोग भी अंकित है।

▪उक्त आरोपी को आज दिनाँक 02.05.2019 को माननीय अदालत में पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

▪Operation Clean-Up अभियान के तहत गुरुग्राम पुलिस द्वारा विभिन्न राज्यों की पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए, समाज व लोगों में खौफ पैदा करने वाले व आतंक जैसा माहौल बनाने वाले इस गिरोह के *अब तक 14 बदमाशों को गुरुग्राम पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जा चुका है।*

▪श्रीमान पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम के आदेशानुसार चलाया गया Operation Clean-Up अभियान लगातार जारी रहेगा तथा गिरफ्तारियां भी की जाएगी।

ऑपरेशन क्लीन-अप अभियान, नवीन की टीम का ताबड़तोड़ एक्शन शुरू, कौशल गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार

gurugram-sector-31-cia-naveen-parashar-team-arrested-4-badmash

फरीदाबाद: गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर मोहम्मद अकील के आदेश पर ऑपरेशन क्लीनअप के तहत क्राइम ब्रांच की सेक्टर 31 गुरुग्राम की टीम  ने कुख्यात कौशल  गैंग के चार सहयोगियों को गिरफ्तार किया है. इन बदमाशों पर हत्या में साथ देने, अवैध वसूली, लूट, जान से मारने की कोशिश जैसी कई मामले दर्ज हैं. इन लोगों ने काफी समय से क्षेत्र में आतंक फैला रखा था.

क्राइम ब्रांच सेक्टर-31 के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन कुमार ने बताया कि आरोपियों ने विजय तान्त्रिक की हत्या से पहले रेकी की थी और हत्या में साथ दिया था.

गिरोह के पकड़े गए आरोपियों  के नाम

  1. अनिल गुर्जर पुत्र ईश्वर निवासी बार गुर्जर 
  2. आकाश पुत्र जगदीश निवासी चुलकाना 
  3. दिनेश दिवाकर उर्फ़ गड्डू निवासी गाँव किरावली 
  4. इन्द्रजीत पुत्र विनोद गुप्ता निवासी गाँव शिवराम 

इन्द्रजीत का भाई सुजीत उर्फ बुलेट भी उक्त मामले में पहले ही क्राइम ब्रांच सेक्टर 31 द्वारा गिरफ्तार हो चुका है, उपरोक्त सभी आरोपी कौशल व उसके साथियों के लिए अवैध वसूली करते हैं, ये बदमाश लोगो को डरा  धमका कर पैसे इकट्ठे करके अपने आका के पास भेजते थे.

गरूग्राम पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि ऑपरेशन क्लीनअप लगातार जारी रहेगा, अभी ओर भी गिरफ्तारी जल्द होंगी। क्राइम ब्रांच की टीमें लगातार इस पर काम कर रहीं है.

गुरुग्राम सेक्टर-31 CIA प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन की टीम ने खूंखार अपराधी को हथियार सहित दबोचा

inspector-naveen-parashar-gurugram-sector-31-cia-arrested-criminal

गुरुग्राम: दिल्ली व गुरुग्राम में हत्या के प्रयास, लूट, हथियार के बल पर लूट आदि प्रकार की कई वारदातों के मामलों वान्छित व माननीय न्यायालय द्वारा उद्घोषित आरोपी (पी.ओ.) घोषित किए गए 01 शातिर आरोपी को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अवैध हथियार सहित काफी किया है.

आरोपी के कब्जा से पुलिस टीम ने 01 देशी पिस्तौल व 08 जिन्दा कारतूस किए बरामद.

दिनांक 10.04.2019 को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सूचना व अपनी सुझबुझ से 01 आरोपी को पटौदी रोङ गाँव गाङौली से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान ऋषिराज उर्फ सोनू उर्फ लम्बू पुत्र बलबीर सिंह निवासी मकान नं. 153, गाँव सुरखपुर, थाना बाला हरिदास कालोनी, नई दिल्ली के रुप में हुई। 

उक्त आरोपी के कब्जा से अवैध 01 देशी पिस्तौल व 08 जिन्दा कारतूस बरामद होने पर आरोपी के खिलाफ थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम में शस्त्र अधिनियम की धारा 25 के तहत अभियोग अंकित किया गया व उक्त आरोपी को अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। 

उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में निम्नलिखित वारदातों में संलिप्त होने का खुलासा किया हैः

1. अभियोग संख्या 75 दिनांक 23.03.2018 धारा 365, 397 भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना बजघेङा, गुरुग्राम । (इस अभियोग में माननीय अदालत द्वारा उक्त आरोपी के NBW (Non Bail able Warrant) भी जारी किए हुए थे।)

2. अभियोग संख्या 136 दिनांक 09.06.2013 धारा 25.54.529 शस्त्र अधिनियम, थाना बाबा हरिदास कालोनी, नई दिल्ली ।* (इस अभियोग में उक्त आरोपी को माननीय अदालत द्वारा दिनांक 24.08.2018 को उद्घोषित अपराधी/PO (Proclaimed Offender भी घोषित किया हुआ था ) 

3. अभियोग संख्या 922 दिनांक 06.11.2006 धारा 302, 307, 34 भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना शहर, गुरुग्राम ।

4. अभियोग संख्या 91 दिनांक 10.09.2008 धारा 148, 149, 332, 353, 186 भा.द.स. व 3 पी.डी.पी. एक्ट, थाना भौन्डसी, गुरुग्राम ।

5. अभियोग संख्या 57 दिनांक 21.05.2009 धारा 332, 353, 323, 506, 34 भा.द.स., थाना भौन्डसी ।

उक्त वारदातों के अतिरिक्त उक्त आरोपी के खिलाफ दिल्ली के विभिन्न थानों में हत्या, हत्या के प्रयास, अवैध हथियार, लड़ाई झगड़े आदि प्रकार की वारदातों के संबंध में करीब 02 दर्जन अभियोग अंकित है ।

उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में अपना परिचय देते हुए निम्नलिखित प्रकार से बतलायाः-

उक्त आरोपी ने बतलाया कि पहले वह राजेश नाहरी के साथ 5 साल काम किया । (सरगना राजेश नाहरी कई मर्डर के मामले में आरोपी है ओर अपने गाँव का सरपंच भी रहा है।)

इसके बाद उक्त आरोपी ऋषिराज राजेश भारती व सन्जीत बिदरो के साथ जुङ गया ओर दिल्ली NCR में कई वारदातों में उनके साथ रहा। (कुछ दिन पहले राजेश भारती व सन्जीत बिदरो दिल्ली में पुलिस मुठभेड़ मे मारे गये।)

गुरुग्राम में थाना बजघेङा में अंकित अभियोग संख्या 75 दिनांक 23.03.2018 धारा 365, 397 भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम में उक्त आरोपी ऋषिराज राजेश भारती गैंग के साथ महेश पुत्र रामसिंह निवासी C-2 -1044 पालम विहार गुरूग्राम के शिवा प्रॉपर्टीज आफिस से 23.03.2018 को हथियार के बल पर 5 लाख रूपए व कागजात से भरा बैग लूटकर ले जाने की वारदात को अन्जाम दिया था । (इस अभियोग में उक्त आरोपी ऋषिराज के अन्य 02 साथी आरोपियों को पहले ही अवैध सहित गिरफ्तार किए जा चुके है व राजेश भारती पुलिस मुठभेड़ मे मारा जा चुका है) आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर था, जिसे आज अवैध हथियार सहित गाँव गाङौली से काबू करके नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। 

उक्त आरोपी ऋषिराज को आज दिनांक 10.04.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 3 दिन का पुलिस हिरासत रिमान्ड पर लिया गया है  इस दोरान आरोपी से  गहनता से पूछताछ की जाएगी तथा आरोपी से लूट की रकम बरामद की जायेगी। पुलिस पूछताछ के दौरान जो भी तथ्य सामने आएगें उनसे अवगत कराया जाएगा। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

50 हजार रुपए के ईनामी बदमाश अमजद को इंस्पेक्टर नवीन की टीम ने दबोचा, 30 वारदातों में थी तलाश

gurugram-police-sector-31-cia-inspector-naveen-arrested-badmash-amjad

गुरुग्राम: लूट, डकैती, वाहन चोरी, घरों में चोरी व पुलिस टीम पर फायरिंग करके हत्या का प्रयास करने की लगभग 30 वारदातों में वान्छित 50 हजार रुपए के ईनामी बदमाश अमजद को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने काबू किया है.

कुछ विशेष जानकारी

- फरुखनगर, मानेसर, गुरुग्राम व मेवात में आरोपी के खिलाफ है दर्जनों अभियोग अंकित।

- दिनांक 07.05.2018 को थाना सैक्टर-53, गुरुग्राम में HDFC बैंक की ATM मशीन चोरी किए जाने के सम्बन्ध में  अभियोग अंकित किया गया था । 

- उक्त अभियोग में ATM मशीन चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपी को माननीय अदालत द्वारा अद्घोषित अपराधी (पी.ओ.) घोषित किया गया था । 

- उक्त अभियोग में कार्यवाही करते हुए निरीक्षक नवीन, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से उक्त अभियोग में ATM मशीन चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपी को दिनांक 18.03.2019 को गुरुग्राम कोर्ट के पास से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है । आरोपी की पहचान अमजद पुत्र ईजाज निवासी धुलावट, थाना तावङू, जिला नुहूँ के रुप में हुई । 

- उक्त आरोपी को उपरोक्त थाना सैक्टर-53, गुरुग्राम में ATM मशीन चोरी करने व पी.ओ. घोषित किए जाने के सम्बन्ध में अंकित अभियोगों में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया ।

- शुरुआती पुलिस पूछताछ में उक्त आरोपी ने फरुखनगर, मानेसर व गुरुग्राम में अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर लूट, डकैती, वाहन चोरी व घरों में चोरी करने की लगभग 30 वारदातों को अन्जाम देने का व मेवात में पुलिस टीम पर फायरिंग करने की 02 वारतादों को अन्जाम देने का खुलासा किया है  तथा गुरुग्राम पुलिस द्वारा 50 हजार का ईनाम भी घोषित किया हुआ है ।

▪उक्त आरोपी को दिनांक 18.03.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 03 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया है । 

▪पुलिस हिरासत रिमाण्ड को दौरान उक्त आरोपी से गहनता से पूछताछ की जाएगी और आरोपी की निशानदेही पर बरामदगी की जाएगी व अन्य साथी आरोपियों को काबू किया जाएगा । पुलिस पूछताछ के दौरान जो भी तथ्य सामने आएगें उनके अनुसार कार्यवाही की जाएगी । अभियोग अनुसंधानाधीन है ।

इंस्पेक्टर नवीन की टीम ने जल्लू को दबोचा, लूट, डकैती, चोरी की 28 वारदातों को दे चुका है अंजाम

gurugram-sector-31-cia-inspector-naveen-team-arrested-jallu-khan-news

फरीदाबाद: अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम को बड़ी कामयाबी मिली है. हथियारों के दमपर लूट, डकैती, चोरी, छीनाझपटी आदि की लगभग 28 वारदातों में वान्छित बदमाश को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने काबू किया है.

- तावङू, पटौदी, झज्जर, रोहतक दिल्ली, भिवानी, नुहूँ, पलवल व महाराष्ट्र में आरोपी के खिलाफ लूट, डकैती, चोरी, छीनाझपटी व हथियार के बल पर छीनाझपटी आदि के है दर्जनों अभियोग अंकित।

-दिनांक 04.07.2017 को थाना पटौदी, गुरुग्राम में ट्रक चालक व परिचाल को बन्दी बनाकर उनसे ट्रक लूटने की वारदात के सम्बन्ध में  अभियोग अंकित किया गया था । 

-उक्त अभियोग में  लूट करने की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपी को माननीय अदालत द्वारा अद्घोषित अपराधी (पी.ओ.) घोषित करने पर आरोपी के खिलाफ थाना पटौदी गुरुग्राम में धारा 174ए भा.द.स. के तहत पी.ओ. होने के सम्बन्ध में अभियोग अंकित किया गया था । 

-उक्त अभियोग में कार्यवाही करते हुए निरीक्षक नवीन, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से उक्त अभियोग में ट्रक लूटने की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपी को दिनांक 19.03.2019 को पटौदी, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है । 

आरोपी की पहचान जल्लू उर्फ जलालुद्दीन पुत्र रहमत खांन निवासी डालावास, थाना तावङू, मेवात* के रुप में हुई । 

-उक्त आरोपी को उपरोक्त थाना पटौदी, गुरुग्राम में ट्रक लूटने व पी.ओ. घोषित किए जाने के सम्बन्ध में अंकितशुदा अभियोगों में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया है ।

-शुरुआती *पुलिस पूछताछ में उक्त आरोपी ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर तावङू, पटौदी, झज्जर, रोहतक दिल्ली, भिवानी, नुहूँ, पलवल व महाराष्ट्र में आरोपी के खिलाफ लूट, डकैती, चोरी, छीनाझपटी व हथियार के बल पर लूट/छीनाझपटी आदि की लगभग 28 वारदातों को अन्जाम देने का खुलासा किया है ।*

-उक्त आरोपी को दिनांक 19.03.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 02 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया है । 

-पुलिस हिरासत रिमाण्ड को दौरान उक्त आरोपी से गहनता से पूछताछ की जाएगी और आरोपी की निशानदेही पर बरामदगी की जाएगी व अन्य साथी आरोपियों को काबू किया जाएगा । पुलिस पूछताछ के दौरान जो भी तथ्य सामने आएगें उनके अनुसार कार्यवाही की जाएगी । अभियोग अनुसंधानाधीन है ।

पढ़ें, इंस्पेक्टर नवीन पाराशर को कौन से बढ़िया कामों की वजह से मिलेगा यूनियन होम मिनिस्टर मैडल

why-inspector-naveen-kumar-will-get-union-home-minister-medal-2018

फरीदाबाद: निरीक्षक नवीन कुमार, पूर्व  प्रभारी अपराध शाखा DLF , को गृह मंत्रालय, भारत साकार द्वारा "Union Home Minister's Medal for Excellence Investigation" अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा.

आपको बताते चलें कि निरीक्षक नवीन कुमार, प्रभारी अपराध शाखा डीएलएफ फरीदाबाद से गुडगांवा स्थानांतरण पर जाने के बाद गुड़गांव सेक्टर 31 क्राइम ब्रांच के प्रभारी हैं और वहां पर भी  बहुत कम समय में काफी केस सुलझा  चुके हैं, उन्हने ग्रह मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा "Union Home Minister's Medal for Excellence Investigation" के अवार्ड से सममानित किया जाएगा.

निरीक्षक नवीन कुमार ने बतौर प्रभारी अपराध शाखा बदरपुर बॉर्डर, फरीदाबाद में रहते हुए राणा प्रताप सिंह आहुजा की हत्या व खेड़ी गाँव जगदीश हत्या कांड के मामलों में बड़ी ही कुशलता, सुझबुझ, लग्न व मेहनत से कार्य करते हुए इन हत्याकांड के आरोपियों का पर्दाफाश किया था व आरोपियों को गिरफ्तार करके बहुत बड़ी सफलता हासिल की थी ।

मुकदमा नम्बर - 190 दिनांक 18.08.14 थाना - एन.आई.टी धारा 365, 302, 201 आई.पी.सी में राणा प्रताप सिंह आहुजा की हत्या के आरोपियों का खुलासा करते हुए निरीक्षक नवीन कुमार द्वारा निम्नलिखित आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था - 

  1. अजीत सिह पुत्र शिव चरण निवासी गांव खेडी थाना भूपानी फरीदाबाद।
  2. विरेन्द्र पुत्र ताराचंद निवासी गांव महमदपुर थाना छायसा बल्लवगढ।
  3. सुरेन्द्र पुत्र ताराचंद निवासी गांव महमदपुर थाना छायसा बल्लवगढ।*

उक्त आरोपी अजित से पुलिस रिमाण्ड के दौरान खुलासा हुआ कि उसने महमदपुर गाँव के 2 सगे भाइयों को उक्त आरोपी सुरेंदर व आरोपी विरेंद्र के साथ मिलकर राणा आहुजा की हत्या करने की नियत से दिनांक 18.08.14  को योजना अनुसार उसको जमीन दिखाने के बहाने से तीनों ने NIT में स्थित उसके आफिस के पास से विरेन्द्र की Wagon-R कार में बैठा लिया व SRS सैक्टर-12 के पास अजित उक्त की डस्टर कार मे बिठाकर नहर पार BPTP में सुनसान जगह पर ले जाकर रस्सी से गला घोटकर मार दिया तथा उसको डस्टर कार की डिग्गी मे डालकर अन्धेरा होने का इंतजार करते रहे बाद मे तीनों आरोपियों ने Deadbody को खुर्द-बुर्द करने के लिए पनेहड़ा गाँव बल्लभगढ अड्डे पर इकट्ठे होकर योजना अनुसार मोहना पुल पर ले जाकर 20-20 किलो के बाट Deadbody के साथ रस्सी की सहायता से बांधकर जमुना नदी में डाल दिया था । 

उक्त हत्याकांड के कारण का खुलाशा करते हुए उक्त आरोपी अजित ने बतलाया की उसका मृतक राणा के साथ 2 करोड़ 33 लाख रुपयों का लेन-देन था जिस कारण अजित ने राणा की हत्या करने के लिए वीरेंद्र व सुरेन्द्र दोनों सगे भाइयो को पैसों का लालच देकर अपने साथ शामिल किया तथा राणा को मारने की योजना बनाई तथा योजना अनुसार बल्लभगढ़ मार्केट से 20-20 किलो के बाट व रस्सी पहले ही खरीदकर अजित व उसके साथियों ने उसकी डस्टर कार की डिग्गी में रखे हुए थे।

इसी प्रकार से निरीक्षक नवीन कुमार ने बतौर प्रभारी अपराध शाखा बदरपुर बॉर्डर, फरीदाबाद रहते हुए जगदीश मर्डर केश के मुकदमा नंबर - 95 थाना भूपानी दिनांक 20.03.17 धारा 302, IPC व 25/54/59 आर्म्स एक्ट में बड़ी ही कुशलता, मेहनत व लगन से निम्न प्रकार से जाँच करते हुए सराहनीय कार्य किया गया.

उक्त अभियोग में भी वारदात को अन्जाम देने वाला उपरोक्त आरोपी अजित को पहले भी कई बार अन्य पुलिस अधिकारियों द्वारा तफतीश में शामिल किया गया था और तफ्तीश के दौरान उपरोक्त आरोपी अजित का लाई टेस्ट भी अन्य पुलिस अधिकारियों द्वारा करवाया गया था लेकिन आरोपी काफी शातिर दिमाग का होने के कारण गिरफ्तार नही किया गया ।

निरीक्षक नवीन कुमार ने जगदीश मर्डर केश के मुकदमा 95 थाना भूपानी दिनांक 20.03.17 धारा 302 IPC व 25/54/59 आर्म्स एक्ट की जाँच के आदेश अपने नाम करवाया ।

जगदीश मर्डर केश के इस अभियोग में निरीक्षक नवीन द्वारा   आरोपी अजित को तफ्तीश में शामिल करके नियमानुसार गिरफ्तार किया व आरोपी को माननीय अदालत से 06 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया।

पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपी अजित से पुलिस पूछताछ में निरीक्षक नवीन कुमार ने पाया कि आरोपी अजित व मृतक जगदीश बचपन के दोस्त थें और दोनो प्राॅपर्टी व शेयर मार्केट में रूपये लगाते थें जो अजित ने पैसों के लेन-देन के चक्कर में ही जगदीश की प्लान के अनुसार दिनांक 20.03.17 को मोती महल सैक्टर-16 मार्किट के पास बुलाकर उसके साथ उसकी गाडी में बेैठ लिया तथा उसको कहा कि बाईपास पर कोई पैसे देने के लिए आयेगा। उसके बाद जगदीश को सैक्टर-29 बाईपास रोड पर ले जाकर बाथरूम करने के बहाने से गाड़ी रुकवाकर जगदीश की गोली मारकर गाडी में ही हत्या कर दी तथा उसको गाड़ी की अगली दोनों सिटो के बीच डाल लिया जब थोडी दूर जाकर गाडी के गियर नही लगने के कारण गाडी हिट हो गई तो वह जगदीश की Deadbody कार सहित बाईपास पर छोडकर वापिस बाईक लेने ऑटो से मोती महल सैक्टर-16 चला गया । आरोपी अजीत का यह पूरा कारनामा CCTV कैमरे में भी कैद हो गया था। निरीक्षक नवीन कुमार ने आरोपी अजित से मोटरसाइकिल व मौके से खाली खोल व वारदात में प्रयोग हथियार भी बरामद किया था।

उपरोक्त दोनों हत्याकांड को सुलझाना पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था, किन्तु निरीक्षक नवीन कुमार द्वारा दोनों हत्या के अभियोगों सुलझाकर आरोपियों को गिरफ्तार करके बहुत ही अच्छी तफ्तीश व कार्य कुशलता का परिचय दिया । 

निरीक्षक नवीन कुमार, बतौर प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम में तैनात है । इनके द्वारा अच्छी कुशलता के साथ जाँच करते हुए विभिन्न मामलों को सुलझाया गया है । अतः गृह मंत्रालय, केन्द्र सरकार, भारत के द्वारा उन्हें उनके अच्छी तफ्तीश, अच्छी कार्यकुशलता, ईमानदारी, मेहनत व लग्न से किए गए कार्यों के लिए *"Union Home Minister's Medal for Excellence Investigation" के अवार्ड* से सम्मानित करने के आदेश दिए गए है । सुबे सिहं

गुरुग्राम के बिजनेसमैन जहूर बटाली पर आतंकी संगठनों को फंडिंग का आरोप, ED ने जब्त की संपत्ति

gurugram-businessman-zahoor-as-watali-asset-seized-by-ed-under-pmla

गुरुग्राम: शहर के बिजनेसमैन जहूर बटाली के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय यानी ED ने PMLA के खिलाफ कड़ा एक्शन लेते हुए उनकी 1.03 करोड़ की संपत्ति को जब्त कर लिया है.

जानकारी के अनुसार जहूर बटाली पर कश्मीर में आतंकवाद फैलाने के लिए आतंकी संगठनों - लश्करे-तैयबा, हिजबुल मुजाहिद्दीन, जमात उद दावा और अन्य को फंडिंग करने का आरोप है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जहूर बटाली कश्मीरी व्यापारी हैं 

जहूर बटाली के खिलाफ खुफिया एजेंसियों की कई महीनों से नजर थी, सबूत मिलने के बाद उनके खिलाफ कार्यवाही की गयी है.

इंस्पेक्टर नवीन पाराशर की टीम को बड़ी कामयाबी, तांत्रिक की हत्या में शामिल युवक गिरफ्तार

gurugram-cia-sector-31-inspector-naveen-parashar-arrested-murder-accused

गुरुग्राम: सेक्टर-48 सोहना रोड पार्शवनाथ ग्रीन विला के सामने विजय बत्रा उर्फ तान्त्रिक की हत्या करने में शामिल रहे 1 आरोपी को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम के इंचार्ज इंस्पेक्टर नवीन पाराशर की टीम ने गिरफ्तार किया है.

कुछ जरूरी जानकारी

आरोपी द्वारा मृतक विजय बत्रा उर्फ तान्त्रिक की रेकी करके अपने अन्य साथियों को दी गई थी सूचना जिसके आधार पर गोली मारकर हत्या की वारदात को दिया गया था अन्जाम.

दिनांक 22.02.2019 को समय करीब 11.00 बजे रात में सैक्टर-48, सोहना रोड पार्श्वनाथ ग्रीन विला के सामने सर्विस रोड पर अज्ञात कार चालकों द्वारा विजय बत्रा उर्फ तान्त्रिक पुत्र किशन लाल बत्रा निवासी मकान नं. जी-201, पार्क व्यू सिटी-1, सोहना रोड सैक्टर 48, गुरुग्राम को गोली मारने की वारदात को अन्जाम दिया गया था, जिसकी हस्पताल पहुंचने से पहले मौत हो गई थी। 

उक्त वारदात के सम्बन्ध में थाना बादशाहपुर, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया था और इस मामले को सुलझाने के लिए थाना की टीम के अतिरिक्त क्राईम ब्रान्च की कई टीमें गठित करके आरोपियों की पहचान करके पकड़ने हेतु लगाया गया था।

एक आरोपी को किया गया गिरफ्तार

उक्त अभियोग में कार्यवाही करते हुए निरीक्षक नवीन पाराशर, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से उक्त हत्या की वारदात में शामिल 1 शातिर आरोपी को कल दिनांक 28.02.2019 को समय करीब 07 बजे सांय खाण्डसा मण्डी अण्डर पास के नजदीक से काबू करने में सफतला हासिल की है.

आरोपी की पहचान सुजीत उर्फ बुलट पुत्र विनोद गुप्ता निवासी लालपुर शिवराम, थाना बहेङी, जिला दरबंगा, बिहार हाल निवासी गली नं. 9, मस्जिद वाली गली देवीलाल कालोनी, गुरुग्राम के रुप में हुई.

उक्त आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया । इसकी उम्र 22 वर्ष है तथा 10वीं पास है ।

उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बतलाया कि वह विजय बत्रा उर्फ तान्त्रिक के घर पर व उसके अन्य स्थानों पर रेकी कर रहा था कि किस समय वह घर से निकलता है और कब उसे मारने का सही समय है। दिनांक 22.02.2019 को (वारदात वाले दिन) भी उसी ने रेकी करते हुए अपने अन्य साथियों को फोन करके सूचना दी थी कि वह घर से निकल चुका है और इसी सूचना पर उसके साथियों ने विजय उर्फ तान्त्रिक उक्त को गोली मारकर हत्या की गई थी । 

उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में यह भी बतलाया कि वह 2/3 साल पहले खाण्डसा मण्डी में भेलपुरी की रेहड़ी लगाता था, जहाँ उसका झागदा खाण्डसा मण्डी के रहने वाले आकाश छोकर के साथ हो गया था और उसने रंजीश रखते हुए आकाश छोकर को हत्या करने की नियत से उसको गोली मारी थी। इस सम्बन्ध में थाना सैक्टर-37 में हत्या करने के प्रयास में अभियोग भी अंकित किया गया था और इस अभियोग में उसे गिरफ्तार करके जेल भेजा गया था । करीब 7/8 महिने पहले ये जमानत पर जेल से बाहर आया था। इनके साथियों ने इसे मृतक विजय बत्रा उर्फ तान्त्रिक की रेकी पर लगाया गया था । जिस पर वह लगातार रेकी कर रहा था और जिस दिन विजय बत्रा की हत्या की वारादात को अन्जाम दिया गया था उस दिन भी वह उसकी रेकी कर रहा था और उसी ने अपने साथियों को विजय बत्रा की सूचना दी थी । जिसके परिणामस्वरुप उसके अन्य दो साथियों ने इस हत्या को अन्जाम दिया था । 

उक्त आरोपी को आज दिनांक 01.03.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश किया करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा और उपरोक्त अभियोग की वारदात में शामिल रहे अन्य साथियों व वारदात में प्रयोंग किया गया असला व साधन बरामद किए जाएगें। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

गुरुग्राम में कांड, चार मंजिला ईमारत हुई धराशाई, मलबे में फंसे लोगों को ढूँढने का काम जारी

gurugram-sector-65-ullawas-village-building-collapse-ndrf-at-the-spot

गुरुग्राम: गुरुग्राम सेक्टर-65, उल्लावास गाँव में एक चार मंजिला निर्माणाधीन ईमारत धराशायी हो गयी है. कई लोगों के मलबे में फंसे होने की संभावना है.

NDRF और पुलिस की टीमों ने राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया है, करीब 150 लोग मलबे में फंसे लोगों को ढूँढने के काम में लगे हैं.

सूचना मिल रही है कि ईमारत में गैरकानूनी तरीके से चौथी मंजिल बनाने का काम चल रहा था, नियमों का पालन नहीं किया जा रहा था, इसीलिए यह हादसा हुआ है लेकिन पूरा कांड पुलिस की जांच के बाद ही सामने आएगा.

गौ-टास्क नूह और बजरंग दल ने गौतस्करों के मंसूबों पर फेरा पानी, दबोची गयी पिक-अप, 3 गायें बरामद

gau-task-nuh-and-bajrang-dal-manesar-caught-gau-taskar-vehicle-news

फरीदाबाद: गुरुग्राम और NCR में गौ-तस्करी के अपराध जारी हैं लेकिन कई जगहों पर गौ-रक्षक और पुलिस गौ-तस्करों के मंसूबों पर पानी फेर रहे हैं. नूह और आसपास के इलाके में कई दिनों से गौतस्कर पकडे जा रहे हैं. 

दिनाक 07.01.19 को गौ-टास्क नूह इंचार्ज बलबीर को सूचना मिली के तावडू में एक पिकअप गाड़ी आएगी जिसपर साइड में सिलेन्डर छप रहे हैं, सूचना सही मान गौ-टास्क नूह के साथ बजरंग दल मानेसर ने नाकेबन्दी की. जब गाडी आती दिखाई दी तो हमें देखकर उन्होंने रफ़्तार और तेज कर दी लेकिन हमने उनके टायर में काँटा मार दिया जिसकी वजह से 2 टायर फट गए.

उसके बाद भी गौ-तस्कर काफी दूर तक गाडी को भागकर ले गए हालाँकि गाडी को दबोच लिया गया, गाडी को चेक करने पर 3 गाय बुरी तरह बांन्ध रखी थीं और एक कट्टे में नुकीले पत्थर भर रखे थे.

गौ-वंशों को गोशाला भेज दिया और  FIR दर्ज करवा दी. कार्यवही में उपस्थित - गौ टास्क नूह से बलबीर ,सतबीर ASI, प्रवीण, बलराज, भूपेन्द्र, सन्नी, होमगार्ड, गिरवर, ललित, बजरंग दल मानेसर से मंगल पचगांव, बनवारी, डॉ प्रदीप, यशपाल, मोनू मानेसर.