Main Section

Palwal Assembly

Showing posts with label Faridabad Police. Show all posts

कोरोना लॉकडाउन: फरीदाबाद पुलिस ने 35 मुक़दमे दर्ज करके 35 लोगों को किया गिरफ्तार

faridabad-police-lodged-35-fir-and-arrested-35-people-breaking-lockdown

फरीदाबाद 4 अप्रैल: पुलिस आयुक्त के के राव ने सभी थाना प्रभारी, चौकी इंचार्ज को लॉक डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हुए हैं।

जिसके चलते फरीदाबाद पुलिस की ने आज दिनांक 4 अप्रैल को लाक डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 35 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 35 मुकदमें भी दर्ज किए हैं।

पुलिस कंट्रोल रूम में आज खाने से संबंधित 91, कालाबाजारी की 7, कोरोनावायरस की 5 कॉल प्राप्त हुई, जिनको आवश्यक कार्रवाई हेतु संबंधित को भेजा गया।

पुलिस आयुक्त केके राव ने बताया कि पुलिस के समझाने के बाद भी जो लोग बाज नहीं आ रहे हैं उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज कर उनको गिरफ्तार किया जा रहा है।

फरीदाबाद के सभी बॉर्डर एरिया पर पुलिस मुस्तैदी से ड्यूटी कर रही है। बिना पास के किसी को भी आने जाने की अनुमति नहीं है।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि फरीदाबाद में चारों तरफ लगे हुए कैमरा के कंट्रोल रूम से भी पुलिस नजर बनाए हुए हैं।

अगर कोई संदिग्ध एवं अनावश्यक गतिविधि सीसीटीवी कैमरा में पाई जाती है तो तुरंत संबंधित एवं नजदीकी पीसीआर एवं थाना, चौकी को अवगत करा उचित कार्रवाई की जाती है।

पुलिस आयुक्त श्री के के राव ने कहा कि माहवारी पर जीत हासिल करने के लिए सरकार, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करें।

CIA के लोग 2400 लोगों को रोजाना पहुंचाते हैं भोजन, मिसिंग सेल भी 2000 को भोजन, 500 को राशन

faridabad-police-cia-badkhal-missing-cell-giving-foor-4400-people-lockdown

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: फरीदाबाद पुलिस भी भूखों और जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने के लिए खूब काम कर रही है, क्राइम ब्रांच बडकल में रोजाना करीब 2400 लोगों का भोजन बन रहा है. क्राइम ब्रांच के लोग खुद ही खाना पहुंचाते हैं.

जैसा की विदित है संपूर्ण राज्य में लाक डाउन किया जा चुका है। जिसके चलते रोज की मेहनत कर रोजी रोटी कमाने वाले मजदूर वर्ग के लिए घर खर्च चलाना मुश्किल हो रहा है। इस परिस्थिति में फरीदाबाद पुलिस जरूरतमंद लोगों को खाना पहुंचा रही है।

पुलिस आयुक्त केके राव ने मजदूर वर्ग के लोगों की जरूरतों को देखते हुए क्राइम ब्रांच को आदेश दिए कि रोजाना जरूरतमंद लोगों को खाना खिलाया जाए।

जिस पर क्राइम ब्रांच बडकल में खाना पकाने के लिए जगह चिन्हित की गई। क्राइम ब्रांच बडकल में रोज करीब 2400 लोगों के लिए खाना पकाया जाता है।

एसीपी क्राइम अनिल यादव ने बताया कि 1200 लोगों का खाना सुबह एवं 1200 लोगों का खाना शाम को तैयार किया जाता है।

पुलिस कंट्रोल रूम पर आई कॉल एवं किसी भी थाना एरिया से आई डिमांड पर एवं कुछ स्थाई जगह पर खाना पहुंचाया जाता है।

जहां पर भी खाने की डिमांड होती है वहां पर खाना वितरित करने के लिए नजदीकी क्राइम ब्रांच को दिया जाता है।

खाना वितरित करते समय क्राइम ब्रांच की टीम सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखती है।

एसीपी क्राइम ने बताया कि पुलिस यह खाना आपस में कंट्रीब्यूट कर तैयार करा रही हैं किसी भी संस्था एवं प्राइवेट व्यक्तियों का कोई कॉन्ट्रिब्यूशन नहीं लिया गया है।

इसके अलावा मिसिंग पर्सन सेल रोजाना करीब 2000 लोगों को खाना खिला रही है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि मिसिंग सेल के द्वारा करीब 500 लोगों को सुखा राशन भी दिया गया है। जिसमें ढाई किलो चावल, ढाई किलो आटा, सरसों का तेल इत्यादि बांटा गया है।

मिसिंग सेल ने महामारी को देखते हुए जरूरतमंद लोगों को मास्क, सैनिटाइजर इत्यादि भी वितरित किए हैं।

फरीदाबाद पुलिस अपराधिक गतिविधियों को लगाम लगाने, कानून व्यवस्था बनाए रखने के अलावा समाज के प्रति अपने दायित्व को निभा रही है।

सेक्टर-21 के स्कूल में जमातियों को लाई थी पुलिस, स्थानीय लोगों ने हंगामा करके लौटाया वापस

faridabad-sector-21-d-sarkar-school-local-protest-jamati-stay-news

फरीदाबाद, 2 अप्रैल: हरजत निजामुद्दीन में आयोजित मरकज में हजारों जमातियों ने हिस्सा लिया था, उनमें से सैकड़ों लोगों को कोरोना वायरस का संक्रमण हो चुका है और हजारों संदिग्ध कई स्थानों पर छुपे हुए हैं, पुलिस ऐसे लोगों की तलाश करके उनका क्वारंटाइन कर रही है और संक्रमित लोगों का इलाज किया जा रहा है.

फरीदाबाद पुलिस भी ऐसी लोगों की तलाश में जुटी हुई है, आज कुछ लोगों की तलाश करके पुलिस उन्हें क्वारंटाइन करने सेक्टर 21D के सरकारी स्कूल में लाई थी. स्थानीय लोगों ने जैसे ही जमातियों को देखा वहां पर हंगामा शुरू हो गया. आप नेता धर्मबीर भड़ाना भी वहां आ पहुंचे।

इसके बाद पुलिस जमातियों को जीप में बिठाकर वापस ले गयी. स्थानीय लोगों ने बताया कि ये लोग देश के लिए खतरा बन चुके हैं, देश पर कोरोना का संकट था उसके बाद भी यह लोग निजामुद्दीन में जमा हुए और कोरोना से संक्रमित होकर पूरे देश में संक्रमण फैला रहे हैं इसलिए हम लोगों ने इसे यहाँ पर नहीं रहने दिया।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मरकज में शामिल ये जमाती, पुलिस, डॉक्टर और सड़कों पर चल रहे यात्रियों पर थूकते हैं, की ये घटिया हरकत किसी को पंसद नहीं आ रही है. इसीलिए अब लोग इनके विरोध में उतरने लगे हैं.

पुलिस ने दर्ज की 10 FIR, 11 लोगों को किया गिरफ्तार, नियम तोड़ने वालों से वसूला 1 लाख जुर्माना

faridabad-police-lodged-10-fir-11-people-arrested-2-april-2020-news

फरीदाबाद 2 अप्रैल: जैसा कि आप सभी को विदित है कोरोनावायरस महामारी को रोकने के लिए सरकार द्वारा लॉक डाउन किया गया है। लॉक डाउन के दौरान सभी फरीदाबाद शहर वासियों को हिदायत दी गई है कि वह अनावश्यक रूप से घरों से बाहर ना निकले।

फरीदाबाद पुलिस ने लॉक डाउन आदेशों की अवहेलना करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 10 एफ आई आर दर्ज कर 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

फरीदाबाद पुलिस ने ऐसे लोगों से करीब 1 लाख रुपए जुर्माना भी वसूला है।

अनावश्यक रूप से घरों से बाहर घूमने वाले वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 17 वाहनों को इंपाउंड किया गया है।

उल्लंघन करने वालों के खिलाफ फरीदाबाद पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है।

पुलिस आयुक्त फरीदाबाद ने कहां की फरीदाबाद पुलिस ने जिले की सभी सीमाओं को सील किया हुआ है।

पूरे शहर में पुलिस ने नाकाबंदी की हुई है ऐसे में आदेशों की अवहेलना करने वालों एवं अपराधिक गतिविधियों करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचा रही है पुलिस-CIA, 9999150000 पर फोन करके भोजन मांग सकते हैं जरूरतमंद

faridabad-police-crime-branch-helping-people-food-and-ration-news

फरीदाबाद 2 अप्रैल: लाक डाउन होने की वजह से अपने गांव तक नहीं पहुंच पाए लोगों की मदद फरीदाबाद पुलिस कर रही है। आपको बता दें कि फरीदाबाद पुलिस ने भोजन के लिए ऑनलाइन हेल्पलाइन नंबर - 9999150000 जारी किया है जिसपर जरूरतमंद लोग फोन करके भोजन मांग सकते हैं.

पुलिस आयुक्त केके राव ने कहा कि अपराधिक गतिविधियों पर नजर रखने के साथ-साथ पुलिस जरूरतमंद लोगों का ध्यान भी रख रही है।

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच, मिसिंग पर्सन सेल एवं थाना पुलिस अलग-अलग तरह से जरूरतमंद लोगों की मदद में लगे हैं।

जैसा की आप सभी को पता है हरियाणा राज्य में लॉक डाउन चल रहा है। सभी को अपने अपने घरों में रहने की हिदायत दी गई है। बहुत ऐसे मजदूर जो दूर राज्यों से मेहनत मजदूरी के लिए आए हुए थे। यह सभी मजदूर रोज की कमाई हुई रोजी रोटी के ऊपर निर्भर होते हैं। ऐसे में फरीदाबाद पुलिस इन लोगों के लिए फरिश्ता बन के आई है।

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच, मिसिंग पर्सन सेल, थाना पुलिस रोजाना ऐसे हजारों लोगों को भोजन मुहैया करा रही है।

पुलिस आयुक्त महोदय ने कहा कि पुलिस के कई रोल होते हैं समाज की जरूरतों के हिसाब से पुलिस अपना रोल निभाती है अभी पुलिस कानून व्यवस्था बनाए रखने एवं क्राइम कंट्रोल करने के अलावा जरूरतमंद लोगों का सहारा बनकर एक रोल निभा रही है।

पुलिस ने 25 वाहनों को किया इम्पाउंड, 15 FIR, 24 को किया गिरफ्तार, कइयों को मुर्गा बनाकर छोड़ा

faridabad-police-strict-action-on-rule-breaker-1-april-2020-lock-down

 फरीदाबाद 1 अप्रैल: फरीदाबाद पुलिस ने आज आदेशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ 15 मुकदमे दर्ज कर 24 लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा 25 वाहनों को इंपाउंड कर 1 लाख ₹14 हजार रुपए जुर्माना वसूला है.

लॉक डाउन के दौरान फरीदाबाद पुलिस ने अभी तक 134 मुकदमे दर्ज कर 211 लोगों को गिरफ्तार किया है. उल्लंघन करने वाले 466 वाहनों को इंपाउंड किया है और 13 लाख 62 हजार जुर्माना वसूला गया है.

पुलिस आयुक्त केके राव ने सभी थाना प्रभारी चौकी इंचार्ज को लाग डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के दिशा निर्देश जारी किए हुए है।

जिसके तहत आज दिनांक 1 अप्रैल 2020 को फरीदाबाद पुलिस ने लॉक डाउन के आदेशों की पालना ना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 15 एफ आई आर दर्ज कर 24 लोगों को गिरफ्तार किया है।

इसके अलावा 25 वाहनों को उल्लंघन करने पर इंपाउंड कर 1 लाख ₹16 हजार रुपए जुर्माना वसूला गया है।

लाख डाउन के दौरान पुलिस ने अभी तक 134 मुकदमे दर्ज कर 211 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि आदेशों का उल्लंघन करने वाले वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए अभी तक 466 वाहन इनपाउंड किए गए हैं।

उल्लंघन करने वाले चालकों से 13 लाख 62 हजार रुपए जुर्माना वसूला गया है। आदेशों की पालना करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्त कार्रवाई कर रही हैं।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि फरीदाबाद पुलिस जिले में पूरी तरह से अलर्ट है कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों एवं उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्ती से पेश आएगी।

CIA ऊंचा गांव ने एक आरोपी को सैंटरो गाड़ी में 40 पेटी अवैध शराब सहित किया गिरफ्तार

faridabad-crime-branch-uncha-gaon-arrested-one-sharab-taskar-news

फरीदाबाद, 1 अप्रैल: क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव टीम ने विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर नाकाबंदी कर मलेरणा रोड आदर्श नगर से शराब तस्करी करने वाले एक आरोपी गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ एक्साइज एक्ट के तहत एवं लाक डाउन के आदेश का उल्लंघन करने पर धारा 188 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

गिरफ्तार आरोपी

सुभाष पुत्र राजेंद्र निवासी मलेरणा रोड बल्लभगढ़।

आरोपी से सेंट्रो कार सहित 40 पेटी अवैध शराब बरामद की गई है।आरोपी के खिलाफ आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 ने 2 शराब तस्करों को दबोचा, 405 पेटी अवैध शराब बरामद

faridabad-crime-branch-sector-65-arrested-2-sharab-taskar-news

फरीदाबाद, 1 अप्रैल: क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 ने 2 शराब तस्करों को दबोचा है, आरोपियों से 405 पेटी अवैध शराब भी बरामद की गयी है. आरोपी दो अलग अलग गाड़ियों में आगे पीछे अवैध शराब लेकर जा रहे थे.

आरोपीयों के खिलाफ एक्साइज एक्ट के अलावा लाक डाउन के आदेशों की पालना ना करने के तहत भी मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

एक तरफ जहां क्राइम ब्रांच फरीदाबाद जरूरतमंद लोगों तक खाना पहुंचा रही है वहीं दूसरी तरफ अपराधिक गतिविधियों पर पैनी नजर रखे हुए हैं। जिसका परिणाम शहर में देखा जा सकता है।

पुलिस कमिश्नर साहब के.के.राव भा.पु.से. के दिशा निर्देशों एवं  अनिल कुमार यादव सहायक पुलिस आयुक्त अपराध फरीदाबाद के नेतृत्व में कार्य करते हुये क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 की टीम ने 405 पेटी अवैध शराब पकड़ने में कामयाबी हासिल की है।

एसीपी क्राइम अनिल यादव ने बताया कि विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर 2 शराब तस्करों को भारी मात्रा में दो गाड़ियों में अवैध रूप से शराब ले जाते हुए गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार आरोपीयों का विवरण

1. दीपक पुत्र रामधनी निवासी गांव अलीगंज जिला जुमई बिहार हाल निवासी भारत कॉलोनी खेड़ी पुल।

2. राजेश पुत्र ओमप्रकाश निवासी फट रहाहार जिला गोरखपुर यूपी हाल निवासी शास्त्री कॉलोनी बल्लभगढ़।

प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 एस आई लाजपत ने बताया कि सूचना के आधार पर नाकाबंदी कर दोनों आरोपियों को अलग अलग गाड़ियों सहित नजदीक आकाश सिनेमा से गिरफ्तार किया गया है।

आरोपियों के खिलाफ मुकदमा नंबर 133 धारा 269, 270, 188, 120B, आईपीसी एवं एक्साइज एक्ट के तहत थाना आदर्श नगर बल्लभगढ़ में मुकदमा दर्ज किया गया है।

आरोपियों को आज अदालत में पेश किया गया जहां से माननीय अदालत ने आरोपी राजेश का 1 दिन का रिमांड एवं आरोपी दीपक को जेल भेज दिया है।

रिमांड के दौरान आरोपी राजेश से शराब तस्करी के बारे में पूछताछ की जाएगी, उपरोक्त मुकदमे में आगामी कार्रवाई जारी है।

आरोपियों से 300 पेटी देसी शराब, 84 पेटी अंग्रेजी शराब, 21 पेटी बियर बरामद की गई है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि फरीदाबाद शहर में पुलिस ने 100 से अधिक जगहों पर नाकाबंदी की हुई है।

अपराधिक गतिविधियों करने वालों के ऊपर फरीदाबाद पुलिस की पैनी नजर है ऐसे में कोई भी अपराधी गतिविधि करने वाला पुलिस के हाथों से बच नहीं सकता।

क्राइम ब्रांच बड़खल में रोज बनेगा भोजन और होगा पूरे शहर में सप्लाई: CP का आदेश, भोजन बनना शुरू

faridabad-police-will-prepare-two-time-food-badkhal-crime-branch

फरीदाबाद 30 मार्च 2020: फरीदाबाद पुलिस लॉक डाउन के दौरान हर भूखे और गरीब तक खाना पहुंचाने के लिए तैयार है, इसके लिए जगह का चयन कर लिया गया है और भोजन पकना भी शुरू हो गया है. क्राइम ब्रांच बड़खल में जरूरतमंदों के लिए रोज भोजन बनेगा।

पुलिस आयुक्त के.के राव ने आज जरूरतमंद लोगों को फरीदाबाद पुलिस द्वारा भोजन खिलाने की एक अनूठी पहल की शुरुआत की है।

पुलिस आयुक्त ने क्राइम ब्रांच बडकल में भोजन तैयार करने के लिए जगह चयनित की है। जहां पर रोजाना जरूरतमंद लोगों के लिए खाना बनाया जाएगा और खाने को क्राइम ब्रांच जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाएगी।

आज इसकी शुरुआत क्राइम ब्रांच बड़खल में की गई है। एसीपी क्राइम श्री अनिल यादव ने बताया कि आज करीब 1000 लोगों का खाना बनाकर पहुंचाया जा रहा है।

पुलिस आयुक्त के निर्देश पर यह कार्य शुरू किया गया है। एसीपी क्राइम ने बताया कि यह फरीदाबाद पुलिस ने शुरू किया है इसमें किसी भी प्राइवेट संस्था एवं व्यक्ति का कॉन्ट्रिब्यूशन नहीं लिया गया है।

पुलिस कंट्रोल रूम से मिली भोजन से संबंधित शिकायत एवं प्रत्येक थाना प्रबंधक के एरिया में डिमांड के अनुसार खाना भेजा जाएगा।

पुलिस आयुक्त ने कहां है कि जहां पर भी भोजन परोसा जाए वहां लोगों को सुनिश्चित कराएं कि उनको किसी को भी फोन करने की जरूरत नहीं है घबराए नहीं उनके स्थान पर सुबह शाम खाना फरीदाबाद पुलिस के द्वारा पहुंचाया जाएगा।

भोजन के लिए पुलिस को इस मोबाइल पर फोन किया जा सकता है - 9999150000.

बल्लभगढ़ में मंहगा सामान बेच रहे थे दुकानदार, पुलिस ने कान पकड़वाकर करवाई दंड बैठक, VIDEO

faridabad-police-give-punishment-to-munafakhor-in-ballabhgarh

फरीदाबाद, 30 मार्च: लॉक डाउन की वजह से सबको परेशान है, गरीबों के लिए राशन की समस्या पैदा हो गयी है, ऐसे में कुछ दुकानदार मंहगा सामान बेचकर मुनाफाखोरी कर रहे हैं.

बल्लभगढ़ में कुछ दुकानदार मंहगा सामान बेच रहे थे, पुलिस को जब इसकी सूचना मिली तो दुकानदारों से कान पकड़वाकर दंड बैठक करवाया कर उन्हें उचित दरों में ही सामान बेचने की चेतावनी दी. उनकी दुकानों के बाहर रेट लिस्ट भी लगवाई।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस कंट्रोल रूम फरीदाबाद को आज दिनांक 30 मार्च को खाने से संबंधित 45 कॉल, कालाबाजारी की 20, कोरोना की 5 काल प्राप्त हुई जिन पर तुरंत प्रभाव से कार्यवाही की गई।

लॉकडाउन का नियम तोड़ने वालों और बढ़ी सख्ती, 4 FIR दर्ज, 20 लोग पुलिस हिरासत में लिए गए

faridabad-police-strict-action-against-lockdown-rule-breaker-30-march

फरीदाबाद, 30 मार्च: लॉक डाउन का नियम तोड़ने वालों फरीदाबाद पुलिस काफी सख्ती बारात रही है, आज पुलिस ने 4 एफ आई आर दर्ज कर 20 लोगों को गिरफ्तार किया है.

इसके अलावा 13 वाहनों को इंपाउंड कर 1 लाख 7 हजार 200 रुपए जुर्माना वसूला है.

पुलिस ने लॉक डाउन के दौरान अभी तक कुल 108 एफ आई आर दर्ज कर 177 लोगों को गिरफ्तार किया है, इसके अलावा 420 वाहनों को इंपाउंड कर 11 लाख 10 हजार रुपए वसूला जुर्माना।

कालाबाजारी के खिलाफ भी हुई कार्यवाही

पुलिस कंट्रोल रूम फरीदाबाद को खाने से संबंधित 45 कॉल, कालाबाजारी की 20, कोरोना की 5 काल प्राप्त हुई।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस कंट्रोल रूम फरीदाबाद को आज दिनांक 30 मार्च को खाने से संबंधित 45 कॉल, कालाबाजारी की 20, कोरोना की 5 काल प्राप्त हुई जिन पर तुरंत प्रभाव से कार्यवाही की गई।

पुलिस आयुक्त केके राव के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए सभी थाना प्रभारी एवं चौकी इंचार्ज ने अपने अपने एरिया में नाका लगाकर लाक डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर रही है।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि सभी लॉक डाउन आदेशों की पालना करें कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने में फरीदाबाद पुलिस की मदद करें, फरीदाबाद पुलिस आपकी सुरक्षा एवं सहयोग में तैनात हैं जय हिंद।

घर से बाहर बिलकुल भी ना निकलें, वरना जाएंगे शेल्टर होम, 180 लोगों को शेल्टर होम ले गयी पुलिस

faridabad-police-action-against-immigants-take-them-surajkund-shelter-home

फरीदाबाद, 30 मार्च: 21 दिनों के लॉक डाउन को सफल बनाने के लिए पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है, पिछले दो तीन दिनों से कुछ लोग अपने होम स्टेट के लिए भी घर से निकलने लगे थे, कुछ लोग पैदल ही निकल लिए थे, अब ऐसे लोग अपने घरों में ही रहें।

अब जो भी लोग अपने घरों से निकलेंगे फरीदाबाद पुलिस उन्हें उनके घर भेजने के बजाय शेल्टर होम ले जाएगी और लॉक डाउन के दौरान आपको वहीं रहना पड़ेगा।

पुलिस ने आज जो लोग अपने गांव जाने के लिए रोड पर घूमते पाए गए। उनको सूरजकुंड शेल्टर होम छोड़ दिया। अभी तक 180 लोगों को शेल्टर होम में छोड़ा गया है। जिसमें दो टाइम चाय,  सुबह-शाम का खाना, और बच्चों के लिए दूध व आवश्यक दवाइयां भी उपलब्ध कराई गई हैं। 

पुलिस ने जनता से अपील की हिअ कि - फरीदाबाद पुलिस द्वारा लॉक डाउन के दौरान  जिला के बॉर्डर सहित शहर भर में करीब 100 से अधिक नाके लगाए गए हैं पुलिस मुस्तैद है। लोगों से निवेदन घर में रहे, सुरक्षित रहें।

पुलिस ने यह भी कहा है कि मीडिया आप तक आवश्यक जानकारी पहुंचा देगी। पुलिस एवं जिला प्रशासन जरूरतमंदों को खाना पहुंचा देगी। 

इसके अलावा वह लोग जो सोसाइटी में, अपार्टमेंट्स , सेक्टर में रह रहे हैं। आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी के अलावा अनावश्यक रूप से रोड पर ना निकले। बहुत सख्ती चल रही है।

भूखा ना सोएं, अगर कहीं से ना हो पाए भोजन का जुगाड़ तो पुलिस को कर लें फोन - 9999150000

faridabad-police-will-provide-food-for-poor-and-hungry-people-lock-down

फरीदाबाद, 30 मार्च: लॉक डाउन की वजह से सबसे अधिक मुसीबत में गरीब दिहाड़ी मजदूर हैं जो रोजाना कमाते थे और उसी पैसे से राशन और अन्य जरूरी सामान खरीदकर अपने परिवार का पेट पालते थे.

कई समाजसेवी गरीबों की मदद के लिए आगे आये हैं और लोगों को राशन, भोजन और अन्य जरूरत के सामान दिए जा रहे हैं लेकिन फरीदाबाद शहर बहुत बड़ा है इसलिए कुछ लोगों तक मदद नहीं पहुँच पा रही होगी।

फरीदाबाद पुलिस ने किसी को भी भूखा ना सोने का प्लान बनाया है इसलिए कई स्थानों पर भोजन का भी प्रबंध किया गया है, अगर किसी गरीब तक भोजन ना पहुंचे तो पुलिस को फोन कर सकता है, इसके लिए पुलिस ने एक फोन नंबर - 9999150000 जारी किया है. जिस प्रकार 100 नंबर डायल करने पर पुलिस हर घर पहुँचती है उसी प्रकार से यह नंबर डायल करने पर भी पुलिस मदद के लिए पहुंचेगी।

लॉक-डाउन: नियमों की धज्जियाँ उड़ा रहे लोगों पर 68 मुकदमे, 346 वाहन इम्पाउंड, 9 लाख जुर्माना

faridabad-police-lodged-68-fir-rule-breaker-lock-down-corona-virus

फरीदाबाद, 28 मार्च: पुलिस आयुक्त केके राव के दिशा-निर्देश पर कार्य करते हुए फरीदाबाद पुलिस ने लॉक डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वाले 89 लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार किया है।

फरीदाबाद पुलिस ने आदेशों का उल्लंघन करने वाले 89 लोगों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए 68 मुकदमे विभिन्न थानों में दर्ज किए हैं।

इसके अलावा आदेशों का उल्लंघन करने वाले 346 वाहनों को भी इंपाउंड किया गया है।

346 वाहनों को इंपाउंड कर उनसे ₹9 लाख जुर्माना वसूला गया है।

श्रीमान पुलिस आयुक्त ने बताया कि आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ फरीदाबाद पुलिस आगे भी यह कार्रवाई जारी रखेगी।

उन्होंने फरीदाबाद की जनता से बार-बार अपील की है कि अपने घरों में रहे सोशल डिस्टेंसिंग ही इस महामारी से बचने का एकमात्र रास्ता है।

प्रशासन ने लगाया था खतरे का बोर्ड, खुलेआम घूम रहे थे विदेश से आये कुछ लोग, तीन के खिलाफ FIR

faridbad-police-lodged-fir-against-vikas-greenfield-colony-2-others-news

फरीदाबाद, 26 मार्च: फरीदाबाद पुलिस ने विदेश से आये कुछ लोगों पर अलग अलग तीन FIR दर्ज की है, ये लोग प्रशासन के नियमों की धज्जियाँ उड़ाकर खुलेआम घूम रहे थे.

आपको बता दें कि  भारत में विदेशी यात्रियों से ही कोरोना वायरस का संक्रमण आया है इसलिए भारत सरकार विदेश से आये यात्रियों को लेकर सावधानी बरत रही है और विदेश से आये सभी लोगों को 14-28 दिन तक घर में सबसे अलग रहने का आदेश दे रही है ताकि अगर किसी व्यक्ति के अंदर कोरोना के लक्षण दिखें तो उनका टेस्ट करवाकर इलाज किया जा सके.

फरीदाबाद पुलिस का प्रेस नोट  

जैसा कि आप सभी को विदित है कि कोरोनावायरस बीमारी को भारत देश में महामारी घोषित किया जा चुका है।

जिसके अनुसार पूरे हरियाणा राज्य में हरियाणा सरकार के द्वारा लोग डाउन किया गया है।

कोरोना महामारी अधिनियम के अनुसार जो संदिग्ध है और किसी अन्य देश से आए हैं उनको 15 दिन के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम क्वारंटाइन किया जाता है।

जिला फरीदाबाद में ऐसे 3 मामले सामने आए हैं जिनमें होम क्वारंटाइन किए गए पुरुष/महिला ने सरकारी आदेशों की अवहेलना की है।

 केस 1

स्वास्थ्य विभाग द्वारा श्रीमती जलाली जो कि जर्मनी से भारत लौटी थी उसको 15 दिनों के लिए सेक्टर 21c फरीदाबाद में होम क्वारंटाइन किया गया था।

जो कि अगले ही दिन जालंधर पंजाब स्थित अपने होमटाउन में बिना बताए चली गई।

 केस 2

ऐसे ही संकल्प महेश्वरी उम्र 29 साल एवं उनकी पत्नी रागिनी महेश्वरी उम्र 28 साल जो कि तुर्की से लौटे थे और ओमेक्स फॉरेस्ट सेक्टर 43 फरीदाबाद में 15 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन किया गया था।

जो दोनों पति पत्नी नियमों की अवहेलना करते हुए अपने होमटाउन हरिद्वार बिना सूचना दिए चले गए।

 केस 3

दुबई से आए प्रीति उम्र 30 साल एवं विकास उम्र 32 साल को ग्रीन फील्ड कॉलोनी में होम क्वारंटाइन किया गया था।

जो बिना सूचना दिए अपने होम टाउन रोहतक चले गए।

डीसीपी एनआईटी अर्पित जैन ने बताया कि उपरोक्त 5 लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया था।

स्वास्थ्य विभाग की मदद के लिए बनाई गई कोविड-19 पुलिस टास्क फोर्स की शिकायत पर एफ आई आर नंबर 216, 217, 218 आईपीसी की धारा 188, 269, 270 थाना सूरजकुंड में दर्ज की गई है।

डीसीपी एनआईटी अर्पित जैन ने बताया कि उपरोक्त लोगों ने अन्य व्यक्तियों में भी संक्रमण फैलने के खतरे को बढ़ाया है जिस पर उनके खिलाफ उपरोक्त कानूनी कार्यवाही की गई है।

उन्होंने बताया कि जालंधर, हरिद्वार, रोहतक में उपरोक्त व्यक्तियों के बारे यह सूचना दे दी गई है।

बल्लभगढ़ में राहगीरों को फल वितरित करते दिखे फरीदाबाद के पुलिसकर्मी

faridabad-policemen-distribute-fruits-to-poor-and-needy-people-news

फरीदाबाद, 28 मार्च: 21 दिन के लम्बे लॉक डाउन को देखते हुए मजदूर वर्ग के कुछ लोग अपने अपने होम स्टेट की तरह पैदल ही निगम गए हैं, कुछ लोग ऐसे लोगों को भोजन और अन्य जरूरत का सामान दे रहे हैं, फरीदाबाद पुलिस भी ऐसे लोगों की मदद में पीछे नहीं है. आज बल्लभगढ़ में पुलिस कर्मी जरूरतमंदों को फल वितरित करते दिखे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना वायरस भारत में अभी धीमी रफ़्तार में फ़ैल रहा है, सरकार को 21 दिनों में संक्रमण में कमी आने का भरोसा है लेकिन कुछ लोगों को लग रहा है कि लॉक डाउन और बढ़ेगा इसलिए लोग सोच रहे हैं कि क्यों ना अपने परिवार और बच्चों के पास पहुंचकर मुश्किल वक्त उनके साथ काटें।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने का सबसे आसान तरीका है सोशल डिस्टैन्सिंग और साफ़ सफाई इसलिए सड़कों पर पैदल ही दूसरे राज्यों को जा रहे लोगों को चाहिए कि वह किसी भी अनजान के संपर्क में ना आएं। अगर किसी काम से बाहर निकलें तो किसी के भी संपर्क में आने से बचें, दूसरों से डेढ़ दो मीटर की दूरी पर रहें, मास्क का इस्तेमाल करें, ग्लब्स पहनें, किसी दुकानदार से भी संपर्क ना करें। घर वापस आने के  बाद अपन कपड़ों को उतारकर सबसे अलग रखें और हाथों को अच्छी तरह से धो लें, जरूरी हो तो नहा भी सकते हैं, ऐसा करने पर अगर वायरस आपके शरीर पर होगा भी तो मर जाएगा।

ATM उखाड़ गैंग के सरगना तौफीक उर्फ़ नेपाली, शाहरूख गिरफ्तार, ACP क्राइम अनिल यादव ने किया खुलासा

atm-loot-gang-accused-taufeek-urf-nepali-shahrukh-arrested-cia-56-faridabad

फरीदाबाद, 27 मार्च: फरीदाबाद पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है, फरीदाबाद और एनसीआर में 15 से ज्यादा एटीएम मशीन उखाड़ने की वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 ने गिरफ्तार किया है.

आरोपियों से ढाई लाख रुपए नकद, एक एक्सिस बैंक एटीएम मशीन, एक देसी कट्टा तीन जिंदा कारतूस बरामद कर जेल भेजा गया है.

पुलिस आयुक्त के. के. राव के दिशा निर्देश पर एवं मकसूद अहमद पुलिस उपायुक्त अपराध के आदेश पर एवं अनिल कुमार सहायक पुलिस आयुक्त अपराध के नेत्रत्व में कार्य करते हुए प्रभारी क्राईम ब्रांच सै0 56 इंस्पेक्टर सेठी मलिक और उनकी टीम ने ATM मशीन उखाड़ने वाले गिरोह के दो मुख्य आरोपीयों गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

गिरफ्तार आरोपीः

1. तोफिक उर्फ नेपाली पुत्र आश मोहमद निवासी गाँव हुसेनपुर थाना नूंह जिला नूंह।
2. शाहरुख पुत्र सुभान खां निवासी गाँव हुसेनपुर थाना नूंह जिला नूंह।

एसीपी अपराध अनिल यादव ने बताया कि आरोपियों को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। दोनों आरोपी एक ही गाँव के रहने वाले है।

उन्होंने बताया कि दोनों आरोपीयान ने फरीदाबाद, गुरुग्राम, रेवाड़ी, दिल्ली एनसीआर, पलवल एवं उत्तर प्रदेश में 15 से ज्यादा एटीएम मशीन उखाड़ने की वारदातों को अंजाम दे चुके है।

वारदात में शामिल मास्टर माईंड तोफिक उर्फ नेपाली व साथी शाहरुख पुत्र सुभान खां दोनों आरोपियान की गिरफ्तारी दिनांक 24.03.2020 को की गई है।

आरोपियों से एटीएम मशीन उखाड़ने की सुलझाई गयी वारदात:- 
आरोपियों को पकडकर थाना सिटी बल्लबगढ की 1, थाना सदर बल्लबगढ की 2, थाना सैक्टर 7 की 1, थाना छायन्सा की 2, थाना धौज की 1, थाना सैक्टर 58 की 1 वारदात को सुलझाया।
                                                                                                                                                                   
प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि वारदात में शामिल आरोपियों के अन्य साथियों की गिरफ्तारी अभी बकाया जिन को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आरोपियों से ढाई लाख रुपए नकद, एक एक्सिस बैंक एटीएम मशीन, एक देसी कट्टा तीन जिंदा कारतूस बरामद किए बरामद।

Lock Down: चारे की हो रही किल्लत, पुलिस को कम करनी पड़ेगी सख्ती, वरना मर जाएंगी गाय-भैंसे

faridabad-dairy-chara-khatm-due-to-lock-down-and-police-strict-rule

फरीदाबाद, 27 मार्च: लॉक डाउन के बाद फरीदाबाद पुलिस ने थोड़ा ज्यादा सख्ती बरतनी शुरू कर दी, पालतू जानवरों के चारे को लेकर हरियाणा सरकार द्वारा जारी लॉक डाउन के आर्डर में कोई जिक्र नहीं था इसलिए पुलिस ने चारे की दुकानें भी बंद करवा दीं, चारा ढोने वालों पर सख्ती कर दी, गाड़ियों को रोक दिया जिसकी वजह से चारा ट्रांसपोर्ट करने वालों के मन में पुलिस के प्रति डर फ़ैल गया.

अब हालत यह हो गयी है कि फरीदाबाद में डेरी वालों के पास चारा ख़त्म हो रहा है, अधिकतर चारा यूपी से आता है लेकिन बॉर्डर सील है, कई बार पुलिस बिना कुछ सोचे समझे डंडे बरसाना शुरू कर देती है.
मेरे पास ऐसी कई शिकायतें आयी हैं.

वैसे पुलिस ने 26 मार्च को चारा की दुकानों को खोलने और चारा ट्रांसपोर्ट करने की इजाजत दे दी है लेकिन कई बार पुलिस वाले डंडा पहले बरसाते हैं और बातें बाद में करते हैं इसलिए फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर को ऐसे पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी कार्यवाही करनी पड़ेगी जो दिमाग से काम नहीं लेते, अगर चारा ट्रांसपोर्ट करने वालों का डर ख़त्म नहीं हुआ तो फरीदाबाद में गाय भैसों को चारा नहीं मिलेगा, उसके बाद उनकी बेमौत मृत्यु हो जाएगी।

इसका खामियाजा सम्पूर्ण जनता को भुगतना पड़ेगा, अभी चारा भी काफी मंहगा हो गया है, गाय भैंसे बीमार होंगी तो दूध की पैदावार कम हो जाएगी और जनता को दूध मंहगा मिलने लगेगा, इसलिए पुलिस को तुरंत एक्शन में आना होगा, चारा ट्रांसपोर्ट करने वालों से बिना सवाल जवाब किये उनके लिए रास्ता खोल दें ताकि उनका डर ख़त्म हो जाए.

यह फोटो NIT फरीदाबाद, आदर्श कॉलोनी, J-74 की है, हनी ने बताया कि लॉक डाउन की वजह से चारा मंहगा हो गया, उन्होंने मंहगे दाम में कुछ चारा खरीदा था लेकिन अब वह भी ख़त्म हो रहा है, अगर तुरंत चारा नहीं मिला तो उनकी भैंसे मर जाएंगी, उन्होंने बताया कि कई डेरी वालों के पास भूसा नहीं है.

CP का आदेश, सादे भेष में जाएं, कालाबाजारी करने वाले दुकानदारों को पकड़ें, वहीं करवा दें दंड-बैठक

faridabad-police-commissioner-kk-rao-order-police-officer-action-shop

फरीदाबाद, 26 मार्च: फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर केके राव के पास भी दुकानदारों द्वारा कालाबाजारी की ख़बरें पहुँच रही हैं इसलिए उन्होंने पुलिसकर्मियों को इस सम्बन्ध में कार्यवाही के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा कि कालाबाजारी करने वाले दुकानदारों को पकड़ना बहुत आसान है, सादे भेष में किसी को भी आज राशन स्टोर पर भेजिए और राशन का दाम पता कीजिये, अगर 10 - 20 रुपये ज्यादा बताए तो वहीं पर सबसे सामने उससे दंड बैठक करवाइये।

उन्होंने कहा कि दुकानदारों को मारने पीटने की जरूरत नहीं है क्योंकि दूकान बंद होगी तो पब्लिक को परेशानी होगी लेकिन जब वह सबसे सामने उठक बैठक करेगा तो उसे शर्म जरूर आएगी।

उन्होंने नाके पर खड़े पुलिस कर्मियों को यह भी आदेश दिया है कि जरूरी काम के लिए घर से बाहर निकलने वालों को परेशान ना किया जाय, अगर कोई अपनी मोटरसाइकिल पर सिलेंडर लेकर जाता दिखे तो उसे विल्कुल भी ना रोकें, इसी तरह से इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर, केबल, डिश, RO, सम्बंधित मैकेनिक, इंजीयर को भी न रोकें क्योंकि इनकी सबको जरूरत होती है. देखिये वीडियो -

मीटिंग में बड़ा फैसला, सादे ड्रेस में घूमेगी पुलिस, मंहगा राशन बेचने वालों पर होगी कार्यवाही

faridabad-police-will-take-action-against-ration-store-high-price-news

फरीदाबाद, 26 मार्च: लॉक डाउन के दौरान फरीदाबाद जिले में हाई लेवल मीटिंग आयोजित की गई। मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए गए.
  • जमाखोरी करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई।
  • जायज रेट से ऊपर सामान बेचने वाले दुकानदारों की भी खैर नहीं।
इस मीटिंग में केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर, जिले के एमएलए, पुलिस आयुक्त, जिला उपायुक्त DFSC, SDM मौजूद रहे। मीटिंग मैं फैसला लिया गया कि गरीब लोगों के पास खाना पहुंचाया जाए।

जिसके लिए कुछ एनजीओ की भी मदद ली जाएगी और उनको मूवमेंट करने के लिए अलाउड किया जाएगा ताकि वह गरीबों तक खाना पहुंचा सके।

उन्होंने बताया कि फरीदाबाद शहर में स्लम एरिया एवं रिमोट एरिया में खाना पहुंचाया जाएगा ताकि लोगों को परेशानी ना हो।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि शिकायत आ रही है कुछ दुकानदार बहुत ऊंचे दामों पर सामान बेच रहे हैं और जमाखोरी कर रहे हैं।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि सिविल कपड़ों में पुलिस कर्मचारी दुकानों पर भेजे जाएंगे। अगर इस तरह की कोई जालसाजी पकड़ी गई तो ऐसे लोगों के साथ पुलिस बहुत सख्ती से निपटेगी और मुकदमे दर्ज करेगी।

उन्होंने बताया कि अगर इस तरह की कोई भी शिकायत मिले तो वह जिला उपायुक्त द्वारा जारी किए गए नंबर 129 - 2221000 पर भी शिकायत कर सकते हैं।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि ऐसी बातें भी सामने आ रही है कि कुछ ठेकेदार काम ना होने की वजह से मजदूरों को भगा रहे हैं।

आज की स्थिति देखते हुए ऐसे मजदूर लोग जिनकी रोजी-रोटी रोज की मेहनत पर निर्भर करती है तो वह कहां जाएंगे।

ठेकेदार उन लोगों को ना रहने के लिए जगह दे रहे हैं और ना ही खाना खाने के लिए पैसे दे रहे हैं।

ऐसे ठेकेदारों के खिलाफ शिकायत मिलने पर पुलिस उनके खिलाफ उचित कार्यवाही कर जेल भेजेगी।

उन्होंने कहा कि मजदूरों के साथ ऐसा ना करें अगर काम नहीं है तो भी उन लोगों को पैसे दे ताकि वह समय पर खाना खा सकें।

आज जिस महामारी की स्थिति से हम गुजर रहे हैं उस समय में हमें एक दूसरे की मदद करनी चाहिए ताकि हम सभी मिलकर इस कठिन समय से निकल सकें।

पुलिस आयुक्त ने ऊंचे दामों पर सामान बेचने वाले दुकानदारों से अपील की है कि यह वक्त पैसा कमाने का नहीं बल्कि सेवा करने का है। जय हिंद।