Main Section

Palwal Assembly

Showing posts with label Faridabad Police. Show all posts

अयोध्या के फैसले के लिए फरीदाबाद पुलिस भी तैयार, एंटी-सोशल एलिमेंट पर रखी जाएगी नजर

faridabad-police-ready-for-ayodhya-ram-mandir-decision-full-security

फरीदाबाद, 8 नवंबर: माननीय सर्वोच्च न्यायालय के अयोध्या प्रकरण पर सम्भावित फैसले के दृष्टिगत कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए फरीदाबाद पुलिस पूरी तरह अलर्ट हो गयी है। फैसले के दृष्टिगत फरीदाबाद के सभी नागरिकों से आपसी तालमेल व सामाजिक सौहार्द कायम रखने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने अपील की है।

पुलिस कमिश्नर केके राव ने कानून व्यवस्था को प्रभावित करने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है.

अयोध्या प्रकरण पर सर्वोच्च न्यायालय के सम्भावित फैसले के दृष्टिगत केके राव पुलिस आयुक्त महोदय ने सभी अधिकारियों एवं थाना प्रबंधक को कानून व्यवस्था कायम रहे, सुनिश्चित के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा की शहर में आपसी  सौहार्द, अमन-चैन और शान्ति के वातावरण को हर हाल में बनाए रखने के लिए सभी थाना प्रबंधक पूरी तरह सजग और तत्पर रहें। उन्होंने स्पष्ट स्पष्ट करते हुए कहां कि कानून व्यवस्था को प्रभावित करने व  सामाजिक सौहार्द खराब करने वाले शरारती तत्वो पर कड़ी नजर रखी जाए। 

उन्होंने  थाना प्रबंधक को निर्देश देते हुए कहा कि थाना क्षेत्र के समाज के विभिन्न वर्गों, धार्मिक गुरुओं, प्रबुद्धजनों, सामाजिक व्यक्तियो के साथ संवाद स्थापित किया जाए।

अव्यवस्था और अराजकता को किसी भी प्रकार की छूट न मिले। छोटी से छोटी घटना पर ध्यान दिया जाए।

धार्मिक स्थानों व्यापारिक और सार्वजनिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा सुनिश्चित हो।

संभावित संवेदनशील  धौज, बिजूपर, आलमपुर, सिरोही, खोरी, फतेहपुर तगा, फतेहपुर बिलौच्च, तिगावं, अटाली, कैली, खन्दावली शिलावटी, थाना पल्ला ऐरिया, थाना सराय ऐरिया, थाना भूपानी ऐरिया, बड़खल, एवं दिल्ली वाली मस्जीद इत्यादी स्थानों पर पूरी सजगता व सतर्कता बरती जाए। क्राइम ब्रांच एवं खुफिया विभाग द्वारा लोगों पर निगरानी रखी जाएगी।

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने  मीडिया के माध्यम से अपील करते हुए लोगों से कहा है कि सोशल मीडिया के किसी भी प्लेटफार्म पर कोई भी किसी तरह की अफवाह ना फैलाएं अफवाहों को फैलने से तुरन्त रोका जाए। अफवाह फैलाने वालो एवं उत्तेजना, सनसनी और भड़काऊ बयानों और भाषणों पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

पुलिस कमिश्नर ने जारी किया अपराध के खिलाफ अपना एक महीनें का रिपोर्ट-कार्ड, पढ़ें

faridabad-police-commissioner-kk-rao-one-month-report-card-news

फरीदाबाद, 25 सितम्बर: पुलिस कमिश्नर केके राव ने अपराध के खिलाफ अपना एक महीनें का रिपोर्ट-कार्ड जारी किया है, एक महीनें पहले उन्होंने कुर्सी संभालने के बाद अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के आदेश दिए थे. उन्होंने अवैध नशे, अवैध शराब के कारोबारियों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही के आदेश दिए थे.

  • अपराध एवं अपराधियों पर शिकंजा कसते हुए पुलिस ने 216 पीओ किए गिरफ्तार।
  • भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद करते हुए 39 अवैध शराब विक्रेताओं को भी पहुंचाया सलाखों के पीछे।
  • पब्लिक प्लेस, खुले में शराब पीने वाले 17 लोगों को किया गया अरेस्ट।
  • जुआ अधिनियम के तहत जुआ खेलने और खिलाने के 52 केस दर्ज किए गए।
  • अवैध हथियार रखने के आरोप मे 14 मुकदमे दर्ज किए गए।
  • एनडीपीएस एक्ट के तहत 2 मकदमा दर्ज कर आरोपियों को किया गया अरेस्ट।
  • 155 आरोपियों को जिनके खिलाफ अदालत से non-bailable वारंट जारी थे को अरेस्ट किया गया।

पुलिस महानिदेशक हरियाणा, मनोज यादव ने हरियाणा में विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण कराने के उद्देश्य से पीओ को गिरफ्तार करने के लिए अभियान चलाया हुआ है।

जिसके मद्देनजर फरीदाबाद पुलिस ने पीओ के खिलाफ कार्यवाही करते हुए थाना पुलिस एवं क्राइम ब्रांच ने 216 पीओ को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

पुलिस आयुक्त के.के राव ने बताया कि चुनाव के मद्देनजर जिला में वांछित अपराधियों की सूची तैयार की हुई है। इसके तहत थाना पुलिस एवं क्राइम ब्रांच फरीदाबाद सभी वांछित अपराधियों को पकड़ने के लिए कार्य कर रही है।

उन्होंने बताया कि हरियाणा राज्य में विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो चुकी है।

जिसके मद्देनजर फरीदाबाद जिला में किसी भी तरह की अपराधिक गतिविधियां बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

फरीदाबाद पुलिस ने सितंबर माह में पीओ, बेल जंपर, अवैध शराब विक्रेता, गांजा सप्लायर, अवैध हथियार एवं जुआ में संलिप्त 340 आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि श्रीमान पुलिस आयुक्त ने थाना प्रबंधक चौकी प्रभारीयो को निर्देश दिए हैं कि अपराधी प्रवृत्ति के लोगों को भेजा जाए सलाखों के पीछे।

फरीदाबाद पुलिस की प्राथमिकता शांतिपूर्वक निष्पक्ष चुनाव कराना है.

पूर्व मंत्री का भतीजा बताकर वसूली करने और महिला को गन्दी गालियाँ देने वाले शेर सिंह पर FIR दर्ज

navada-koh-sher-singh-abuse-women-dabua-thana-police-lodge-fir

फरीदाबाद:  नवादा कोह गांव के शेर सिंह उर्फ़ शेरा के ऊपर जमाई कालोनी के रहने वालों ने बड़े आरोप लगाए हैं। लोगों का कहना है कि जमाई कालोनी जो फरीदाबाद-सूरजकुंड रोड के किनारे बसी है जहाँ सैकड़ों झुग्गियां हैं वहाँ शेरा लोगों से पैसे लेकर उन्हें झुग्गियां देता है और पैसे न देने पर उन लोगों से मारपीट करता है। स्थानीय महिला सुशीला देवी ने बताया कि इस जमीन को वो अपने दादा की जमीन बता कर पैसे मांगता है और उनसे भी पैसे मांगे जा रहे थे।

जब उन्होंने पैसे नहीं दिया तो उनके साथ गाली-गलौज की। उनसे 75 हजार मांगे जा रहे थे जबकि उनसे 50 हजार रूपये पैसे लिए गए थे। दुबारा पैसे न देने पर उनके साथ गाली गलौज दी गई तो उन्होंने इसकी शिकायत पाली पुलिस चौकी में दी। वहाँ दोनों पक्षों में समझौता हो गया लेकिन बाद में फिर उन्हें गाली और धमकी दी गई जिसका वीडियो उनके पास है और उन्होंने पाली पुलिस चौकी में फिर इसकी शिकायत दी। मौके पर पहुँची पाली पुलिस ने कहा कि महिला की शिकायत पर शेरा उर्फ़ शेर सिंह के ऊपर मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच जारी है जल्द उसे गिरफ्तार किया जाएगा।

स्थानीय लोगों ने बताया कि शेरा ने वहाँ लगभग 100 झुग्गियां बेंची हैं और करोड़ों का खेल किया है। लोगों का कहना है कि ये जमीन सरकारी है लेकिन शेरा खुद को पूर्व केबिनेट मंत्री महेंद्र प्रताप का भतीजा बता उन्हें धमकाता है और उनसे पैसे वसूलता है।

लोगों ने बताया कि शेरा कहता है कि मैं पूर्व मंत्री के परिवार से हूँ और पुलिस भी मेरा कुछ नहीं कर पाएगी और पुलिस मेरे ऊपर कोई कार्यवाही करेगी तो मैं पुलिस को भी किसी मामले में फंसा दूंगा। लोगों ने बताया कि शेरा ने एक तरह से यहाँ आतंक मचा रखा है। वो दिव्यांग है और कहता है कि मेरे ऊपर अगर किसी ने कोई मामला दर्ज करवाया तो उसका बुरा हाल करूंगा। इस मामले पर शेरा उर्फ़ शेर सिंह का कहना है कि ये जमीन उनके दादा परदादा की है इसलिए वो इसे बेंचते हैं जबकि जमीन खरीदने वाले कहते हैं कि उन्हें कोई कागजात नहीं दिए जाते।

क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 में पैर जमाते ही इंस्पेक्टर नरेन्द्र चौहान का हुआ नूह ट्रान्सफर

inspector-narender-chauhan-transfer-crime-branch-sector-30-to-nuh

फरीदाबाद: इंस्पेक्टर नरेन्द्र चौहान (A-71) को कुछ दिन पहले ही गुरुग्राम से ट्रान्सफर करके फरीदाबाद क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 का इंचार्ज बनाया गया था. उन्होंने क्राइम ब्रांच में अपने पैर जमा लिए थे और एक बहुचर्चित मर्डर केस भी सुलझा लिया था लेकिन आज अचानक उनका ट्रान्सफर कर दिया गया है. उन्हें फिलहाल पुलिस लाइन में भेजा गया है और ऐसी चर्चा है कि उनका ट्रान्सफर नूह किया गया है.

उनकी जगह इंस्पेक्टर सुरेंदर को क्राइम ब्रांच BPTP से ट्रान्सफर करके क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 का इंचार्ज बनाया गया है वहीं सब-इंस्पेक्टर बिजेंदर को BPTP क्राइम ब्रांच का इंचार्ज बनाया गया है.

इंस्पेक्टर नरेन्द्र चौहान को आनन फानन में गुरुग्राम से फरीदाबाद और फरीदाबाद से नूह क्यों भेजा गया. ऐसी  खबर आयी है कि उन्हें नूह में Temporary Basis पर भेजा गया है, हो सकता है कि चुनाव बाद उनकी पोस्टिंग फिर से फरीदाबाद कर दी जाय.

inspector-narender-chauhan-transfer-nuh

फरीदाबाद पुलिस ने इन्टर स्टेट पुलिस अधिकारियों के साथ की मीटिंग, व्हाट्सअप ग्रुप से जुड़े अधिकारी

faridabad-police-meeting-with-inter-state-police-officer-for-election

फरीदाबाद: आगामी विधानसभा चुनाव के मध्यनजर फरीदाबाद पुलिस ने इन्टर स्टेट पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग की. करीब 28 पुलिस अधिकारियो ने इस मीटिंग में हिस्सा लिया, एक व्हाटसएप ग्रुप बनाकर सबको ग्रुप में जोड़ा गया है जिसमें पीओ, बेलजम्पर व अन्य अपराधिक गतिविधियों में शामिल व्यक्तियों की सूचना साझा की जाएगी।

बार्डर से लगते हुए दिल्ली व यूपी पुलिस के थाना प्रबंधक चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था बनाऐ रखने व अपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगाने के मकसद से फरीदाबाद पुलिस के साथ सूचना करेगे सांझा।

पुलिस आयुक्त के0 के0 राव के निर्देशानुसार आज पुलिस आयुक्त कार्यालय सैक्टर 21सी में डीसीपी एनआईटी अर्पित जैन की  अध्यक्षता में मीटिंग आयोजित की गई। मीटिंग में फरीदाबाद पुलिस की तरफ से एसीपी सूरजकूण्ड, सराय, ओल्ड, बीपीटीपी, तिंगाव और मुजेसर व एसएचओ सूरजकूण्ड, सराय, पल्ला, खेरीपुल, भूपानी, तिंगाव, छायंसा, सदर बल्लबगढ, सैक्टर-58 और धौज ने हिस्सा लिया। 

दिल्ली पुलिस के एसीपी साउथ ईस्ट, महरौली और संगम विहार व दिल्ली पुलिस एसएचओ फतेहपुर बेरी, संगम विहार, प्रहलादपुर, बदरपुर, जैतपुर और कालंदीकुंज मौजूद रहे। 

यूपी पुलिस के डीसपी गौतमबुद्व नगर  के अलावा यूपी पुलिस के एसएचओ रघुपुरा, एक्सप्रैसवे और धनकौर भी मौजूद रहे।

लापरवाह लोग अभी भी नहीं फॉलो कर रहे ट्रैफिक नियम, सीपी केके राव ने शुरू किया 'समझाओ अभियान'

faridabad-police-started-traffic-rule-awareness-campaign-13-15-september

फरीदाबाद: पढ़े लिखे और समझदार लोग हमेशा ट्रैफिक नियमों का पालन करते हैं, हेलमेट और सीट बेल्ट लगाकर चलते हैं और सभी डॉक्यूमेंट भी तैयार करके रखते हैं लेकिन लापरवाह लोग ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करते और अपनी जान को भी जोखिम में डालते हैं, ऐसे ही लोगों को सबक सिखाने के लिए केंद्र सरकार ने ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर मोटा जुर्माना लगा दिया लेकिन कुछ लोग अभी भी सीरियस नहीं हुए, हरियाणा पुलिस ने लापरवाह जनता को फिर से समझाने का अभियान शुरू किया है.

दिनांक 13 सितंबर से माननीय पुलिस महानिदेशक हरियाणा मनोज यादव के आदेश अनुसार एवं पुलिस आयुक्त केके राव के निर्देश पर फरीदाबाद जिले में यातायात नियमों के प्रति चालकों को जागरूक करने का अभियान चलाया गया है।

अभियान के पहले दिन डीसीपी ट्रेफिक, एस एच ओ ट्रैफिक, ट्रैफिक ZO, एवं अन्य ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने रोड सेफ्टी ऑर्गेनाइजेशन कमेटी एवं अन्य सामाजिक संस्थाओं के साथ मिलकर यातायात के नए नियमों से संबंधित चालकों को जागरूक किया है।

जागरूक अभियान में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले चालकों को रोककर चालान करने की बजाय उनको हरियाणा मोटर अधिनियम 2019 के बारे में बताया जा रहा है।

ताकि वाहन चालक ऐसी गलतियों को दोबारा से ना दोहराए।

जागरूक अभियान के तहत ट्रैफिक पुलिसकर्मी एवं अन्य सामाजिक संस्थाएं ने फ्लेक्स बोर्ड, पेपर, सोशल मीडिया, रैली, इत्यादि के माध्यम से वाहन चालको को जागरूक कर रहे हैं।

जागरूकता के लिए कॉलेज के छात्र और अन्य प्रतिष्ठित व्यक्तियों को सड़कों पर ट्रैफिक चेक करते समय उल्लंघनकर्ताओं को शिक्षित करने में पुलिस की सहायता करने के लिए स्वैच्छिक आधार पर शामिल भी किया गया है।

पुलिस आयुक्त श्रीमान केके राव ने कहा कि हालांकि संशोधित अधिनियम के तहत नए प्रावधानों के बारे में काफी संख्या में लोग जागरूक भी हैं, फिर भी हमारा उद्देश्य फरीदाबाद में प्रत्येक वाहन चालक को कवर कर उन्हें नए मोटर वाहन अधिनियम के तहत नियमों के बदलाव बारे जागरूक करना है जोकि निश्चित रूप से वाहन चालकों को सभी प्रकार से अधिक सुरक्षा प्रदान करता है।
 
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आज अभियान का पहला दिन था यह अभियान दिनांक 15 सितंबर तक चलाया जाएगा.

गांवों को CCTV से लैश बनाने का कार्य शुरू, DCP लोकेन्द्र सिंह ने कांवरा में किया CCTV का उदघाटन

dcp-lokendra-singh-inaugurated-cctv-in-village-kanwra-faridabad

फरीदाबाद: दिनांक 13 सितंबर 2019 को कांवरा गांव में लगे सीसीटीवी कैमरा का उद्घाटन डीसीपी सेंट्रल लोकेंद्र कुमार ने कांवरा गांव में पहुंचकर किया है।

ग्राम वासियों ने लोकेंद्र कुमार को गुलदस्ता देकर स्वागत किया।

लोकेंद्र कुमार ने बताया कि यह एक सराहनीय कदम है इससे ग्राम वासियों की सुरक्षा के मद्देनजर सहायता मिलती है।

उन्होंने कहा कि गांव के मुख्य चौराहे एवं आगमन रास्ते एवं बाहर निकलने वाले रास्तों पर यह कैमरे लगाए गए हैं।

लोकेंद्र कुमार ने सेंट्रल एरिया में आने वाले अन्य ग्राम पंचायत को भी कैमरा लगाने के लिए कहा है।

13 से 15 सितंबर तक नए ट्रैफिक नियमों को लेकर फरीदाबाद पुलिस चलाएगी विशेष जागरूकता अभियान

haryana-police-awareness-for-traffic-rule-13-15-september

फरीदाबाद: हरियाणा पुलिस संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट 2019 के तहत सड़क सुरक्षा मानदंडों और उनके अनुपालन को बढ़ावा देने के लिए तीन दिवसीय जागरूकता और शैक्षणिक अभियान चलाने जा रही है। यह विशेष अभियान प्रदेषभर में 13 से 15 सितंबर तक चलेगा।

पुलिस महानिदेशक हरियाणा मनोज यादव के निर्देशानुसार अभियान के तहत, सभी एसएचओ, एसीपी, ड़ीसीपी, पुलिस आयुक्त और रेंज एडीजीपी व आईजी को प्रदेश में 1 सितंबर से लागू मोटर वाहन संशोधन अधिनियम 2019 के तहत नए रुल्स व बढ़े हुए दंड बारे आमजन को जागरुक करने के लिए कहा गया था।

कल से शुरू इस विषेश अभियान के दौरान, उल्लंघनकर्ताहों व आम जनता को यातायात नियमों बारे शिक्षित, जागरूक व प्रेरित करने पर जोर दिया जाएगा। 

यादव ने कहा कि यातायात नियमों की अवहेलना करने वालो को भविष्य में यातायात नियमों की अनुपालना करने के लिए प्रेरित भी किया जाएगा। इसके अलावा, ऐसे ट्रैफिक उल्लंघनकर्ताओं को वास्तविक चालान जारी करने के बजाय एक बार चेतावनी दी जाएगी ताकि वे भविष्य में यातायात नियमों का पालन कर सकें।

कॉलेज के छात्र और अन्य प्रतिष्ठित व्यक्तियों को सड़कों पर ट्रैफिक चेक करते समय उल्लंघनकर्ताओं को शिक्षित करने में पुलिस की सहायता करने के लिए स्वैच्छिक आधार पर शामिल भी किया जाएगा।

पुलिस आयुक्त केके राव ने कहा कि हालांकि संशोधित अधिनियम के तहत नए प्रावधानों के बारे में काफी संख्या में लोग जागरूक भी हैं, फिर भी हमारा उद्देश्य राज्य भर में प्रत्येक वाहन चालक को कवर कर उन्हें नए मोटर वाहन अधिनियम के तहत नियमों के बदलाव बारे जागरूक करना है जोकि निश्चित रूप से वाहन चालकों को सभी प्रकार से अधिक सुरक्षा प्रदान करता है।
 
पुलिस प्रवक्ता ने सड़क सुरक्षा को बढ़ावा देने में सामूहिक प्रयासों की भागीदारी के लिए लोगों से आग्रह है कि वे अपनी सुरक्षा के साथ-साथ दूसरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए संशोधित यातायात नियमों की सख्ती से अनुपालना करें।

अब पुलिसवालों की 8 घंटे होगी ड्यूटी उसके बाद आराम, लेकिन ड्यूटी के वक्त करना होगा अच्छा काम

faridabad-police-kamishner-kk-rao-change-policemen-duty-timing

फरीदाबाद: फरीदाबाद के पुलिसकर्मियों को अधिक काम करना पड़ता है जिसकी वजह से कई बार ड्यूटी के समय पुलिसकर्मी सतर्क नहीं रह पाते, कई बार नींद आने से ड्यूटी में बाधा पहुँचती है. इसी को देखते हुए फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर केके राव ने पुलिसकर्मियों की ड्यूटी में बदलाव किया है, अब पुलिसकर्मियों की 3 शिफ्ट में ड्यूटी लगाई जाएगी, अब पुलिसकर्मियों को सिर्फ 8 घंटे ड्यूटी देनी पड़ेगी लेकिन इस दौरान उनसे पूरा काम लिया जाएगा. अच्छा काम करने वालों को ईनाम भी दिया जाएगा.

आज पुलिस लाईन सैक्टर 30 में के0 के0 राव पुलिस आयुक्त ने सुरक्षा की नई व्यवस्था लागू कर पीसीआर, राईडर और नाका पर तैनात कर्मचारियों को डयुटियों के बारे में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि आप लोगो की 8 घण्टे की शिफट डयूटि लगाई गई है। डयुटि के बाद आपकों रैस्ट दिया जाऐगा। डयुटि के दौरान अलर्ट रहकर जनता की सेवा करते हुए अपराधी व अपराधिक गतिविधियों पर अकुंश लगाइए। 

पुलिस आयुक्त महोदय ने दिशा निर्देश देते हुए कहा कि अक्षर देेखने में आता है कि पीसीआर, राईडर पर 2 जवान 24 घण्टे के लिए तैनात होते है। 24 घण्टे लगातार डयूटि करना असंभव है, देखने में पीसीआर इलाके में होती है लेकिन पुलिस कर्मचारी अलर्ट नहीे होते इसलिए इस बात को ध्यान में रखते हुए पुलिस नाकों पर पुलिस कर्मचारियों की दो और तीन शिफटों में डयूटियां लगाई गई है। पहली शिफट सुबह 7.30 से शाम 3.30 तक होगी। दुसरी शिफट शाम 3.30 से रात 11.30 तक होगी। तीसरी शिफट रात 11.30 से सुबह 7.30 तक होगी। 

दो शिफ्टों में नाका डयूटि करने वाले पुलिस कर्मचारियों का डयूटी शयडुल भी प्रत्येक सप्ताह बदलता रहेगा। जो शिफट-ए में डयूटि करेंगे वे अगले सप्ताह रात्री की शिफट-बी की डयूटि करेंगें। जो प्रत्येक सप्ताह इसी प्रकार रोटेट होता रहेगा।

नाकों पर तैनात पुलिस कर्मचारियों की रवानगी और वापसी संबधित थाना से ही होगी और अगर पीसीआर, राईडर और नाका पर तैनात कर्मचारी किसी प्रकार के अवकाश या रैस्ट पर जात है तो संबधित एसएचओ के द्वारा उसके स्थान पर पुलिस कर्मचारी तुरंत प्रभाव से तैनात किया जाएगा। नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारियो को संबधित थाना के एसडीओ/जेडीयो प्रबंधक थाना के द्वारा समय-समय पर चैक किया जाएगा और रात्रि गश्त के दौरान संबधित चैकिंग अधिकारी के द्वारा भी नाकों को चैक किया जाएगा। 

पुलिस आयुक्त ने कहा कि नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारियों केे द्वारा नाका डयूटि के दौरान निम्नलिखित  बातों का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

1. नाकों पर तैनात सभी पुलिस कर्मचारी रिफलेकटींग जैकेट, बैरीकेड, बिलिंकींग लाईट (चमकाने वाली लाईट) इत्यादि का प्रयोग करेंगे।
2. यदि किसी वाहन में कोई महिला, वृृद्व/बीमार व्यक्ति बैठा हो तो उस वाहन को केवल संदिग्ध परिस्थितियों में ही चैक किया जाए।
3.नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारी विशेषकर दोपहिया वाहनों की ओरिजनल चाबी को चैक करेगे। बिना नम्बर प्लेट वाहनो पर विशेष नजर रखेगे। 17 से 30 वर्ष के आयु वर्ग के चालको पर विशेष नजर रखेगे। 
4. नाको से गुजरने वाली ब्लैक फिल्म वाली गाड़ियों को विशेष तौर पर चैक किया जाए। 
5. नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारी जब चैकिंग नहीं कर रहे हो रैस्ट टाईम हो तो उस समय एक जवान बारी-बारी से दुरुस्त अवस्था  में नाका डयूटि पर तैनात रहेगा और बाकी जवान अपने नाका प्वांइट के पास ही बैठें रहेगे।
6. प्रबंधक थाना, चैकी इन्चार्ज और रात्री चैकिंग अधिकारी अपने क्षेत्राधिकार के नाको को समय-समय पर चैक करेगें व नाकों पर तैनात पुलिस कर्मचारियों को उनकी डयूटि व जिम्मेदारियों के बारे में ब्रीफ करेगें।
7. पुलिस कंट्रोल रुम या किसी उच्च अधिकारी द्वारा जब भी किसी पीसीआर/राईडर को किसी मौका पर भेजा जाए तो वह पीसीआर/राईडर अपना कार्य समाप्त करके अपने नाक बिंदू पर पहुंच कर पुलिस कंट्रोल रुम को सूचित करेगे। 
पुलिस  प्रवक्ता ने  बताया कि श्रीमान पुलिस आयुक्त महोदय के निर्देश अनुसार  क्राईम स्टाफ के नाका पुलिस उपायुक्त, अपराध द्वारा अपने विवेक से अलग लगाए जाएगें। अपराध विभाग के नाका सुपरविजन अधिकारी संबधित डीसीपी/एसीपी होगें। 

CP ने पुलिसवालों की ड्यूटी में किया बदलाव, 24 घंटे रहेगी तैनाती, अच्छा काम करने वालों को ईनाम

faridbad-police-commissioner-kk-rao-started-news-rule-policemen-duty

फरीदाबाद: फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर केके राव ने पुलिसकर्मियों की ड्यूटी में बदलाव किया है, अब पुलिसकर्मियों की 3 शिफ्ट में ड्यूटी लगाई जाएगी और उन्हें जनता की सेवा और सुरक्षा में हमेशा हाजिर रहने के निर्देश दिए गए हैं.

नई व्यवस्था के तहत 48 पीसीआर, 48 राईडर और 48 नाका सुरक्षा व कानून व्यवस्था बनाऐ रखने के लिए 24 घण्टे रहेगी अलर्ट। नई सुरक्षा व्यवस्था में करीब 850 कर्मचारी तैनात होंगे। पीसीआर राईडर व नाको पर तैनात कर्मचारियों की 8 घण्टे की शिफट डयूटि होगी। अच्छी डयूटि करने वाले पुलिस कर्मचारियों को दिया जाऐगा ईनाम।

आज पुलिस लाईन सैक्टर 30 में के0 के0 राव पुलिस आयुक्त ने सुरक्षा की नई व्यवस्था लागू कर पीसीआर, राईडर और नाका पर तैनात कर्मचारियों को डयुटियों के बारे में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि आप लोगो की 8 घण्टे की शिफट डयूटि लगाई गई है। डयुटि के बाद आपकों रैस्ट दिया जाऐगा। डयुटि के दौरान अलर्ट रहकर जनता की सेवा करते हुए अपराधी व अपराधिक गतिविधियों पर अकुंश लगाइए। 

पुलिस आयुक्त महोदय ने दिशा निर्देश देते हुए कहा कि अक्षर देेखने में आता है कि पीसीआर, राईडर पर 2 जवान 24 घण्टे के लिए तैनात होते है। 24 घण्टे लगातार डयूटि करना असंभव है, देखने में पीसीआर इलाके में होती है लेकिन पुलिस कर्मचारी अलर्ट नहीे होते इसलिए इस बात को ध्यान में रखते हुए पुलिस नाकों पर पुलिस कर्मचारियों की दो और तीन शिफटों में डयूटियां लगाई गई है। पहली शिफट सुबह 7.30 से शाम 3.30 तक होगी। दुसरी शिफट शाम 3.30 से रात 11.30 तक होगी। तीसरी शिफट रात 11.30 से सुबह 7.30 तक होगी। 

दो शिफ्टों में नाका डयूटि करने वाले पुलिस कर्मचारियों का डयूटी शयडुल भी प्रत्येक सप्ताह बदलता रहेगा। जो शिफट-ए में डयूटि करेंगे वे अगले सप्ताह रात्री की शिफट-बी की डयूटि करेंगें। जो प्रत्येक सप्ताह इसी प्रकार रोटेट होता रहेगा।

नाकों पर तैनात पुलिस कर्मचारियों की रवानगी और वापसी संबधित थाना से ही होगी और अगर पीसीआर, राईडर और नाका पर तैनात कर्मचारी किसी प्रकार के अवकाश या रैस्ट पर जात है तो संबधित एसएचओ के द्वारा उसके स्थान पर पुलिस कर्मचारी तुरंत प्रभाव से तैनात किया जाएगा। नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारियो को संबधित थाना के एसडीओ/जेडीयो प्रबंधक थाना के द्वारा समय-समय पर चैक किया जाएगा और रात्रि गश्त के दौरान संबधित चैकिंग अधिकारी के द्वारा भी नाकों को चैक किया जाएगा। 

पुलिस आयुक्त ने कहा कि नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारियों केे द्वारा नाका डयूटि के दौरान निम्नलिखित  बातों का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

1. नाकों पर तैनात सभी पुलिस कर्मचारी रिफलेकटींग जैकेट, बैरीकेड, बिलिंकींग लाईट (चमकाने वाली लाईट) इत्यादि का प्रयोग करेंगे।
2. यदि किसी वाहन में कोई महिला, वृृद्व/बीमार व्यक्ति बैठा हो तो उस वाहन को केवल संदिग्ध परिस्थितियों में ही चैक किया जाए।
3.नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारी विशेषकर दोपहिया वाहनों की ओरिजनल चाबी को चैक करेगे। बिना नम्बर प्लेट वाहनो पर विशेष नजर रखेगे। 17 से 30 वर्ष के आयु वर्ग के चालको पर विशेष नजर रखेगे। 
4. नाको से गुजरने वाली ब्लैक फिल्म वाली गाड़ियों को विशेष तौर पर चैक किया जाए। 
5. नाको पर तैनात पुलिस कर्मचारी जब चैकिंग नहीं कर रहे हो रैस्ट टाईम हो तो उस समय एक जवान बारी-बारी से दुरुस्त अवस्था  में नाका डयूटि पर तैनात रहेगा और बाकी जवान अपने नाका प्वांइट के पास ही बैठें रहेगे।
6. प्रबंधक थाना, चैकी इन्चार्ज और रात्री चैकिंग अधिकारी अपने क्षेत्राधिकार के नाको को समय-समय पर चैक करेगें व नाकों पर तैनात पुलिस कर्मचारियों को उनकी डयूटि व जिम्मेदारियों के बारे में ब्रीफ करेगें।
7. पुलिस कंट्रोल रुम या किसी उच्च अधिकारी द्वारा जब भी किसी पीसीआर/राईडर को किसी मौका पर भेजा जाए तो वह पीसीआर/राईडर अपना कार्य समाप्त करके अपने नाक बिंदू पर पहुंच कर पुलिस कंट्रोल रुम को सूचित करेगे। 
पुलिस  प्रवक्ता ने  बताया कि श्रीमान पुलिस आयुक्त महोदय के निर्देश अनुसार  क्राईम स्टाफ के नाका पुलिस उपायुक्त, अपराध द्वारा अपने विवेक से अलग लगाए जाएगें। अपराध विभाग के नाका सुपरविजन अधिकारी संबधित डीसीपी/एसीपी होगें। 

फ़िल्मी हीरो की तरह काम कर रहे फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर केके राव, जनता कर रही जमकर तारीफ

faridabad-poilce-commissioner-kk-raoo-become-heero-in-city-haryana

फरीदाबाद: ऐसा सिर्फ फिल्मों में ही दिखाई देता है कि कोई पुलिस कमिश्नर अपने अंडर काम कर रहे पुलिस अफसरों को अपराध पर लगाम लगाने के सख्त निर्देश देता है लेकिन फरीदाबाद में कुछ ऐसा ही देखा गया. अपने ऑडियो सन्देश में पुलिस कमिश्नर केके राव ने सभी DCP, ACP, SHO और चौकी इंचार्ज को तीन दिनों के अन्दर अवैध शराब के धंधे और अन्य गलत काम बंद करने के सख्त निर्देश दिए, यही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि अगर कोई शिकायत पेंडिंग रही या आपके एरिया में कोई गैर-कानूनी कार्य करता पाया गया तो आप पर सख्त कार्यवाही होगी.

मनपंसद स्थानों पर पोस्टिंग पाने के लिए शिफारिश करने वाले पुलिसकर्मियों के लिए सन्देश जारी करते हुए पुलिस कमिश्नर केके राव ने कहा कि अगर मुझे कहीं से पता चल गया कि आप लोगों ने पोस्टिंग के लिए किसी से शिफारिश लगाई है तो आपका बहुत अच्छे वाला इलाज करूंगा और बहुत नुकसान करूंगा. उन्होंने थाना प्रभारियों और चौकी इंचार्जों से कहा कि मुझे अपने इंटेलिजेंस से पता चला है कि आपके एरिया में कई जगह अवैध शराब के धंधे, सट्टा, जुआ और अन्य गलत काम हो रहे हैं, आप लोग तुरंत इन गलत कामों को बंद करवाइए और उनके खिलाफ पर्चा दर्ज करवाइए क्योंकी इसी से अपराध बढ़ता है. तीन दिनों के बाद मैं खुद रिव्यु करूंगा और सख्त एक्शन लूँगा.

पुलिस कमिश्नर केके राव ने सभी थानेदारों, चौकी प्रभारियों, ACP और DCP से साफ़ साफ़ बोल दिया है कि एक हप्ते से अधिक कोई भी शिकायत पेंडिंग नहीं रहनी चाहिए, शिकायत पेंडिंग रहने का मतलब है कि आप लोग काम नहीं करते और पब्लिक आपके काम से संतुष्ट नहीं है.

पुलिस कमिश्नर ने एक ऑडियो मैसेज में कहा, सभी ACP, DCP ध्यान रखें, प्राइम मिनिस्टर, सीएम विंडो, हर समय पर की गयी कोई भी शिकायत एक हप्ते से अधिक पेंडिंग नहीं रहनी चाहिए.

पुलिस कमिश्नर ने अफसरों से कहा - आप लोग चाहें तो रोजाना पांच छह शिकायतों पर कार्यवाही कर सकते हैं, सभी शिकायतकर्ताओं के फोन नंबर आपके पास हैं, आप रोजाना पांच छः लोगों को बुलाकर सकते हैं, अगर शिकायत सही है तो परचा दर्ज करके कार्यवाही कीजिये, अगर शिकायत गलत है तो उसे फाइल कीजिये.

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि मुझे हप्ते के अन्दर Nil रिपोर्ट चाहिए, चाहे आप दिन में दो निकालिए, चाहे 4 निकालिए या 6 निकालिए. मैं एक हप्ते में रिव्यु करूंगा, मुझे पेंडिंग केसेस 0 पर लेकर आना है. शिकायत पेंडिंग रहने का मतलब है कि आप के ऑफिस में काम नहीं हो रहा है, पब्लिक आपके काम से संतुष्ट नहीं है.

पुलिस कमिश्नर के इन संदेशों को सुनकर फरीदाबाद की जनता खुश है, अब जनता को लग रहा है कि अपराध, अविध शराब, ड्रग के धंधे पर जरूर लगाम लगेगी और पुलिस विभाग में भ्रष्टाचार पर भी लगाम लगेगी. जनता अधिकतर शिकायत करती रहती है कि कुछ पुलिसकर्मी अवैध शराब और ड्रग्स का धंधा करने वालों से मंथली लेते हैं, सेक्टर-22 मछली मार्किट में तो हर तरह के ड्रग्स के धंधे होते हैं लेकिन उसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लेता क्योंकि पुलिसकर्मियों को वहां से मंथली मिलती है, अब शायद मछली मार्किट में हो रहे ड्रग्स के धंधे पर भी लगाम लग जाए.

फरीदाबाद पुलिस में 474 स्पेशल पुलिस अफसरों की भर्ती, 3 सितम्बर तक करें आवेदन

faridabad-police-special-police-officers-recruitment-till-31-9-2019

फरीदाबाद: फरीदाबाद पुलिस में 474 (एसपीओ)  विशेष पुलिस अधिकारियों की दिनांक 30.08.19 से 03.09.2019 तक की भर्ती की जाएगी.

हरियाणा सशस्त्र बल के हटाऐ गऐ कर्मचारी को फरीदाबाद पुलिस में विशेष पुलिस अधिकारी के तौर पर भर्ती किया जाएगा। चयनित उम्मीदवार को 18,000/-रू0 प्रतिमाह वेतन दिया जाएगा।

एसपीओ की भर्ती के लिए हरियाणा के किसी भी जिले का रिहायशी सेवानिवृृत कर्मचारी आवेदन कर सकता है। इच्छूक आवेदक 30.08.2019 से acphqrfbd@gmail.com, acphqrfbd-hry@nic.in मेल आई.डी पर अपने डाक्युमेंट अटेच कर भेजंे तथा डाक/स्पीड पोस्ट के द्वारा या व्यक्तिगत रुप से पुलिस आयुक्त कार्यालय सै0 21ब फरीदाबाद में, सेना शाखा से सपंर्क करें। 

फरीदाबाद- पुलिस कमीशनरेट फरीदाबाद में पुलिस बल की बढ़ोतरी करने के लिये Army and Paramilitary Forces से सेवानिवृत हुए Ex Service Man को पुलिस आयुक्त कार्यालय में 31.08.2019 सेे 03.09.2019 तक पुलिस उपायुक्त मुख्यालय की अध्यक्षता में भर्ती की जाएगी। 

रविन्द्र सिंह तोमर सहायक पुलिस आयुक्त मुख्यालय ने बताया कि भर्ती के इच्छुक सेवानिवृत अपने साथ पास-पोर्ट साईज के 4 फोटो, शिक्षा, सेवानिवृत से संबंधित सर्टिफिकेट, मुल प्रमाण पत्र व सेवानिवृत्ति के समय प्रदान किया गया मेडिकल फिटनैस सर्टिफिकेट इत्यादि स्कैन करके ंacphqrfbd@gmail.com, acphqrfbd-hry@nic.in मेल आई.डी पर मेल करें। अपना मोबाइल न0 व अपनी मेल आईडी का भी विवरण भेजेें। इच्छुक उम्मीदवार अपने साथ उपरोक्त सभी दस्तावेजों की मूल प्रति भी साथ लेकर आयें। 

चयन हेतू निम्नलिखित सेवा शर्तें लागू होगी।

1. सेवानिवृत कर्मचारियों के लिए यह आवश्यक है उनकी आयु 25 से कम व 50 साल से अधिक ना हो और उन्हें अनुशासनहीनता या मैडीकल के आधार पर न हटाया गया हो। सेना में सेवा कम से कम 5 वर्ष तक की होनी चाहिए।

2. Ex Service Man कर्मचारी केवल एक वर्ष की अवधि के लिए 18,000/-रू0 रुपये के मासिक मानदेय पर रखें जाऐगे। इस राशि को विशेष पुलिस अधिकारी की नकद न देकर उनके बैंक खाते में जमा किया जायेगा।

3. Ex Service Man को, उनके ग्रह पुलिस थानों में तैनात नही किया जायेगा, लेकिन यह ध्यान में रखा जायेगा कि उनकी तैनाती उनके नजदीकी पुलिस थानों में हो जो कि उनके निवास स्थान के निकट हो, में की जाए। यदपि जो इच्छुक होगें उन्हे अन्य जिला में भी तैनात किया जा सकता है।

4. Ex Service Man को भर्ती के समय दो जोडा वर्दी, एक जोडा जूते और अन्य आवशयक वर्दी से संबधित वस्तुओं के लिए 3000 रुपये केवल एक बार दिए जाएंगे।

5. जब सरकारी दौरे पर होंगे तो उसके लिए 150 रुपये प्रतिदिन यात्रा भत्ता तथा दैनिक भत्ता टी0ए0डी0ए0 दिया जाऐगा।

6. उन्हें आकसमिक अवकाश जो हरियाणा पुलिस के सिपाही के लिए लागू है, प्रदान किया जाऐगा। वह निम्नलिखित अनुग्रह राशी के लिए भी पात्र होगेंः-

(क) डयुटी के दौरान मत्यु होने पर -10 लाख रूपये।
(ख) स्थाई विकलांता पर- 1 लाख से 3 लाख रूपयें तक।
(ग) गंभीर चोट पर-1 लाख रूपये तक।

7. Ex Service Man का भर्ती के समय कोई लिखित परीक्षा तथा शारीरिक मापतोल  नही होगा।

8. राज्य सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अनुसूचित जाति तथा पिछडे वर्ग उम्मीदवारों को उचित प्रतिनिधित्व दिया जाऐगा।

9. इन विशेष आधिकारियों को आपातकालीन स्थिति में थोडे समय के लिए हरियाणा राज्य के किसी भी जिले में तैनात किया जा सकता है।

10. इन विशेष पुलिस अधिकारियों को 15 दिन का पुलिस ड्यूटीओं बारे में विशेष प्रशिक्षण पुलिस लाइन फरीदाबाद में दिया जाएगा ताकि इनको कानून व्यवस्था, गार्द डयूटी, पैट्रोलिंग, यातायात, और पुलिस से संबंधित अन्य ड्यूटीओं पर तैनात किया जा सके।

11. चयन के लिए साक्षात्कार में आने के लिए उम्मीदवारों को कोई यात्रा भत्ता तथा दैनिक भत्ता (टी0ए0डी0ए0) नही दिया जाएगा।

बच्चा-चोरी की झूठी अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर सकती है पुलिस

fake-rumor-of-bacha-chori-in-faridabad-police-may-take-action

फरीदाबाद: शहर में बच्चा चोरी की झूठी अफवाहें बहुत तेजी से फ़ैल रही हैं, जनता बिना असलियत जाने झूठी अफवाहों को व्हाट्सअप और सोशल मीडिया पर शेयर कर देती है जिसकी वजह से अफवाहें दिन दूनी, रात चौगुनी रफ़्तार से फ़ैल रही हैं. आज झूठी अफवाहों में आकर पर्वतिया कॉलोनी में दो भिखारियों को पकड़ लिया गया, एक भिखारी को जान से मारने का प्रयास किया गया.



फरीदाबाद पुलिस ने अब झूठी अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की चेतावनी दी है. पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने कहा - मीडिया के मध्यक से जनहित में सूचित किया जाता है कि सोशल मीडिया पर बच्चे उठाने के, मैसेज व विडियो वायरल करके अफवाह फलाई जा रही है। यह केवल एक अफवाह है फरीदाबाद में इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। सभी से अपील की जाती है की, अफवाह पर ध्यान ना दें। 

इस तरह की अफवाह फैलाने वाले शरारती तत्वो को चिन्हित किया जाएगा और उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। सभी से अपील है कि अफवाह फैला कर लोगों में भ्रम और भय का माहौल ना बनाएं।

फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर संजय कुमार का ट्रान्सफर, अब केके राव के हाथों में पुलिस की कमान

faridabad-cp-kk-raoo-sanjay-kumar-transfer-ig-hisar-range-news

फरीदाबाद: फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने करीब 11 महीनें तक कार्य किया. हरियाणा के DGP मनोज यादव ने फरीदाबाद में नया पुलिस कमिश्नर नियुक्त किया है, संजय कुमार की जगह केके राव को पुलिस कमिश्नर बनाकर भेजा गया है वहीं संजय कुमार अब हिसार रेंज के IG होंगे.

केके राव इससे पहले भोंडसी जेल के IGP के अलावा STF के IGP का कार्यभार देख रहे थे. अब उनके कन्धों पर हरियाणा के सबसे बड़े शहर फरीदाबाद में कानून व्यवस्था कायम रखने की जिम्मेदारी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा सरकार ने 26 IPS/HPS अधिकारियों की अदला बदली की है, अमिताभ ढिल्लों को IGP STF बनाया गया है. फरीदाबाद में DCP हेडक्वार्टर नीतिका गहलोत का भी जिले से बाहर ट्रान्सफर किया गया है, उन्हें SP /SVB हरियाणा नियुक्त किया गया है. देखिये लिस्ट -

faridabad-cp-transfer

faridabad-cp-transfer-news

IPS विक्रम कपूर का राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार, देखिये VIDEO

nit-dcp-vikram-kapoor-antim-sanskar-14-august-after-suicide-news

फरीदाबाद: नेक दिल जिंदादिल खुशमिजाज और धार्मिक प्रवृत्ति के स्वर्गीय विक्रम कपूर 2017 में जब वह डीसीपी मुख्यालय फरीदाबाद का कार्यभार देख रहे थे आईपीएस बने थे। अभी डीसीपी एनआईटी के तौर पर काम कर रहे थे।

वह फरीदाबाद में डीसीपी ट्रैफिक का कार्यभार देख चुके थे. फरीदाबाद से पहले गुडगांव में डीसीपी मुख्यालय का कार्यभार देख रहे थे, ट्रांसफर होने के बाद फरीदाबाद में नियुक्ति मिली थी।

पुलिस विभाग के हर छोटे-बड़े पुलिसकर्मी के चहेते विक्रम कपूर ने आज सुबह करीब 5:45 बजे अपने सरकारी आवास कार गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी

जिनका वीके हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम कराकर राजकीय सम्मान के साथ खेड़ी पुल के नजदीक श्मशान घाट में अंतिम संस्कार किया गया.

इस अवसर पर ललित नागर विधायक तिगांव, पूर्व विधायक आनंद कौशिक, पुलिस आयुक्त संजय कुमार डीसीपी मुख्यालय नीतिका गहलोत, डीसीपी सेंट्रल लोकेंद्र सिंह, डीसीपी बल्लभगढ़ राजेश कुमार, उपायुक्त फरीदाबाद अतुल दिवेदी, अतिरिक्त उपायुक्त जितेंद्र दहिया, एसीपी मुख्यालय रविंद्र सिंह तोमर एसीपी मुजेसर राधे श्याम जी एसीपी बल्लभगढ़ जयवीर राठी एसीपी सेंट्रल महेंद्र वर्मा एसीपी सराय मौजीराम, एसीपी ओल्ड आदर्श दीप एसीपी बीपीटीपी रतनदीप बाली सीआईडी पीर प्रितपाल एसीपीसी अमन यादव एसीपी यशपाल खटाना  और हजारों की संख्या में मौजूद पुलिसकर्मी, सामाजिक संस्था के लोग व फरीदाबाद के गणमान्य व्यक्तियो ने उनको अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। 

कितना बिगड़ गया फरीदाबाद पुलिस का सिस्टम, SHO कर रहे DCP को ब्लैकमेल, जनता का क्या होगा

dcp-vikram-kapoor-suicide-case-bhupani-thana-sho-abdul-saeed-arrested

फरीदाबाद: फरीदाबाद में कुछ महीनों से अपराध इतना अधिक बढ़ गया है कि फरीदाबाद पुलिस पर अब सवाल उठने शुरू हो चुके हैं. पिछले 6 महीने में दर्जनों मर्डर की वारदात सामने आई, आज एनआईटी फरीदाबाद के डिप्टी पुलिस कमिश्नर विक्रम कपूर ने सुसाइड कर के पुलिस सिस्टम पर एक और प्रश्नचिन्ह लगा दिया.

ऐसी खबरें आ रही है कि भू पानी थाने के एसएचओ अब्दुल शईद उन्हें ब्लैकमेल कर रहे थे जिससे तंग आकर उन्होंने आत्महत्या जैसा कदम उठाया. 

यह खबर आने के बाद सबके मन में एक सवाल उठ रहा है कि जब एसएचओ डीसीपी को ब्लैकमेल कर सकते हैं तो आम जनता के साथ यह लोग क्या बर्ताव करते होंगे.

इस मामले में भूपानी थाने के एसएचओ अब्दुल सईद के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. एक अन्य आरोपी के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज हुआ है. दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है लेकिन अभी तक दोनों की गिरफ्तारी की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है.

फरीदाबाद NIT के डिप्टी पुलिस कमिश्नर विक्रम कपूर ने खुद को मारी गोली, मचा हडकंप

faridabad-dcp-nit-vikram-kapoor-suicide-with-service-revolver-news

फरीदाबाद: स्वतंत्रता दिवस नजदीक है लेकिन आज सुबह की एक खबर ने पूरे शहर में हडकंप मचा दिया है, रिपोर्ट के मुताबिक़ NIT फरीदाबाद के डिप्टी पुलिस कमिश्नर विक्रम कपूर ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है.

विक्रम कपूर पिछले एक साल से इस पद पर तैनात थे, आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है लेकिन इस घटना से हर कोई हैरान है, हर किसी के मन में सिर्फ यही ख्याल है कि आखिर DCP विक्रम कपूर ने ऐसा कदम क्यों उठाया, उन्हें क्या परेशानी थी कि उस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए ऐसा कदम उठाना पड़ा.

फिलहाल उनकी आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है, फरीदाबाद पुलिस ने इस घटना की पुष्टि कर दी है और एक प्रेस नोट जारी किया है - 

"बहुत दुख के साथ में आपको यह सूचित कर रहा हूं  की  हमारे डीसीपी एनआईटी विक्रम कपूर ने आज अपने सरकारी आवास सेक्टर 30 पुलिस लाइन में सुबह करीब 6:00 बजे, सर्विस रिवाल्वर से गोली मारकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है। स्वर्गीय श्री विक्रम कपूर की आत्महत्या के कारणों का जांच की जा रही है। आपको इस बारे में बाद में अपडेट किया जाएगा।"

CID चीफ अनिल राव ने फरीदाबाद का दौरा करके पुलिस अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश

cid-chief-adgp-anil-rav-visit-faridabad-for-preparation-on-15-august

फरीदाबाद: दिनांक 13.08.2019 को अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, सी.आई.डी, अनिल राव ने पुलिस आयुक्त कार्यालय सै. 21सी पहुॅचकर फरीदाबाद जिले के सी.आई.डी एवं पुलिस विभाग के सभी अधिकारियों के साथ स्वतंत्रता दिवस के मध्यनजर गोष्ठी का आयोजन किया गया है।

इस दौरान ए.डी.जी.पी अनिल राव, संजय कुमार, पुलिस आयुक्त फरीदाबाद, डी.सी.पी मुख्यालय नितिका गहलोत, डी.सी.पी सैन्ट्रल लोकेन्द्र कुमार, डी.सी.पी बल्लबगढ राजेश कुमार, डी.सी.पी एन.आई.टी विक्रम कपूर, ए.सी.पी मुख्यालय रविन्द्र कुमार तोमर, ए.सी.पी क्राईम अनिल कुमार, ए.सी.पी सी.आई.डी प्रीतपाल, ए.सी.पी अभिमन्यू, एवं अन्य पुलिस प्रशासन मौजूद रहें।

अनिल कुमार ने कहा कि 15 अगस्त एवं ताजा घटना क्रम के चलते पुलिस एवं सी.आई.डी विभाग को सुरक्षा के मध्यनजर अलर्ट रहना है।

उन्होने कहा कि फरीदाबाद में रहने वाले विदेशीयों के उपर सी.आई.डी., क्राईम ब्रांच, एवं पुलिस विभाग को नजर रखनी चाहिए, अगर कोई भी विदेशी बिना पासपोर्ट एवं विजा के पाया जाता है तो उसके खिलाफ तुरन्त प्रभाव से कार्यवाही की जाए।

अगर फरीदाबाद शहर में किसी भी तरह के कोई संदिग्ध व्याक्ति के बारे में पता चलता है तो उसपर नजर रखें।

वह जगह जहा पर विदेशीयों का ज्यादा अवागमन हो वहा पर विशेष तौर पर लगातार नजर बनाए रखें।

संदिग्ध जगह पर डोर टू डोर जाकर मकानों की चेंकिग करें।

फरीदाबाद से लगते हुए दूसरे राज्यों एवं जिलों की सीमा पर लगे हुए नाकों को ए.सी.पी एवं डी.सी.पी रोजाना चैंकिग करें।

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने कहा कि 15 अगस्त के मौके पर एवं ताजा घटना क्रम को देखते हुए फरीदाबाद में सुरक्षा के मध्यनजर पुख्ता इंतजाम किए गए है।

उन्होने कहा कि 15 अगस्त के दौरान फरीदाबाद में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात होगी जिले के करीब 3000 पुलिसकर्मी तनात किए जाएगें।

इसके अलावा गुप्तचर विभाग, क्राईम ब्रांच की टीम के सदस्य सादी वर्दी में तैनात किए जाएगें।

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने सभी शहर वासियों को 15 अगस्त की शुभ कामना देते हुए कहा कि अगर किसी भी आमजन को संदिग्ध सामान एवं व्यक्ति दिखता है तो उसकी सूचना तुरन्त पुलिस के 100 नं0 पर दें। कानून व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस की मदद करें।

15 महिला पुलिसकर्मी बनीं थानेदार, ACP धारणा यादव ने दी शुभकामनाएँ

faridabad-poilce-15-women-police-become-inspector-acp-dharna-yadav

फरीदाबाद: एसीपी क्राइम अगेंस्ट वूमेन धारणा यादव ने आज अपने कार्यालय में 15 महिला मुख्य सिपाहियों को थानेदार के पद पर पदोन्नत होने शुभकामनाएं दी। 

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देश पुलिस आयुक्त कार्यालय के आदेश अनुसार सहायक उप निरीक्षक बनने वाली महिला थानेदार पवित्रा शर्मा,  नीलम यादव, मुनीश,  मोनिका, सोनिका, सुरेश बाला, संगीता, बबीता, गीता अंजू, विधि,  मोनिका, विमलेश व मुनीष के कंधे पर स्टार लगाकर उनको बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी। 

उन्होंने कहा कि प्रमोशन के साथ नई जिम्मेदारियां भी आती हैं और अपनी जिम्मेवारी को अच्छे से निभाए व पीड़ित महिलाओं को न्याय दिलाएं। इस मौके पर महिला थाना सेक्टर 16 प्रभारी सुनीता महिला थाना एनआईटी प्रभारी सीमा व सब इंस्पेक्टर बबीता भी मौजूद थी।

धारा 370 ख़त्म, संवेदनशील क्षेत्रों में फरीदाबाद पुलिस की पूरी नजर, अफवाहें फैलाने से बचें

faridabad-police-tightened-security-as-dhara-370-removed-from-jk

फरीदाबाद: जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटाने के बाद फरीदाबाद में भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है, वैसे तो फरीदाबाद में कोई भी विरोध देखने को नहीं मिला है फिर भी फरीदाबाद पुलिस किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है, संवेदनशील क्षेत्रों में फ़ोर्स की उपस्थिति बढ़ा दी गयी है.

फरीदाबाद पुलिस ने मीडिया के माध्यम से सभी प्रबुद्ध नागरिकों से अपील की है की कोई भी किसी तरह की अफवाह ना फैलाएं या भड़काऊ मैसेज ना डालें, फरीदाबाद पुलिस मॉनिटरिंग कर रही है, कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी तरह के उचित प्रबंध किए गए हैं।   सभी थाना प्रबंधक को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने अपने क्षेत्राधिकार में अलर्ट रहें।

faridabad-police-article-370-removed

आपको बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह ने आज राज्यसभा में धारा 370 को हटाने का संकल्प पेश किया, उन्होंने जैसे ही जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटाने का बयान दिया वैसे ही विपक्ष के होश उड़ गए और उसके बाद राज्य सभा में हंगामा शुरू हो गया.

अमित शाह ने कहा कि – महोदय, मैं संकल्प प्रस्तुत करता हूँ कि ये सदन अनुच्छेद 370 (3) के अंतर्गत भारत के राष्ट्रपति द्वारा जारी की जारे वाली निम्नलिखित अधिसूचना की सिफारिश करता है, संविधान के अनुच्छेद 370 (3) के अंतर्गत खंड 1 के अनुच्छेद 370 (3) के द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए राष्ट्रपति संसद की सिफारिश पर ये घोषणा करते हैं कि यह दिनांक – जिस दिन भारत के राष्ट्रपति द्वारा इस घोषणा पर हस्ताक्षर किये जाएंगे और इसे सरकारी गैजेट में प्रकाशित किया जाएगा उस दिन से अनुच्छेद 370 के सभी खंड लागू नहीं होंगे सिवाय खंड 1 के.

उन्होंने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक-2019 भी पेश किया जिसका मतलब है कि जम्मू-कश्मीर का फिर से पुनर्गठन किया जाएगा, जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बाँट दिया गया है, जम्मू-कश्मीर अलग केंद्र शासित राज्य बनेगा और लद्दाख अलग केंद्र शासित राज्य बनेगा.