Palwal Assembly

Showing posts with label Faridabad News. Show all posts

YKSS फाउंडेशन ने मुकेश कॉलोनी के 21 गरीब परिवारों को आज भी दिया 21 दिन का राशन

ykss-foundation-distribute-poor-famiy-ration-21-days-lock-down

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: YKSS FOUNDATION (ट्रस्ट)  द्वारा लोकडाउन में जरूरतमंदों तक सूखा राशन बांटने की मुहिम में आज 21 गरीब परिवारों को मुकेश कॉलोनी में 21 दिनों के लिए जरूरी राशन प्रदान किया गया.

YKSS फाउंडेशन के लोगों ने बताया कि आज 11 समान का एक पैकेट बनाया गया जिसमें 10 KG उत्तम क्वालिटी का आटा, 1 KG चीनी, 1 KG चावल, बिस्कुट, नमक, मिर्च, मास्क और सैनिटाइजर सहित 11 सामान लोगो मे बांटे। 

इस कार्य मे YKSS के संस्थापक व कोषाध्यक्ष योगेश गर्ग, अध्यक्ष सोनू रावत, महासचिव डॉ एन. डी. तिवारी, समाजसेवी पवन गोयल, संस्था के मीडिया प्रभारी कृष्ण रावत, सचिव संदीप वशिस्ठ, कृष्ण धारीवाल, हैप्पी भाटी सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।

कोरोना के खिलाफ दिया जलाने से पहले इस बात का ध्यान रखें वरना मोदीजी को दोष देंगे आप, पढ़ें

dont-burn-deepak-after-washing-hand-with-sanitizer-5-april-2020

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए कुछ लोग बहुत अधिक सावधानी बरत रहे हैं, कुछ लोग तो कई बार हाथों को सैनिटाइजर से सैनिटाइज करते रहते हैं. हमें यह भी पता है कि प्रधानमंत्री मोदी का कहना लोग बहुत मानते हैं इसलिए 5 अप्रैल को रात 9 बजे लोग दिया भी जरूर जलाएंगे और कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में अपनी एकजुटता दिखाएंगे।

कल दिया जलाते वक्त इस बात का ध्यान जरूर रखें, अपने हाथों में सैनिटाइजर लगाने के बाद दिया ना लगाएं या अगर सैनिटाइजर लगा हो तो पहले अपने हाथों को साबुन से धोकर सूखा लें और उसके बाद दिया जलाएं।

बात दरअसल ये है कि सैनिटाइजर में अल्कोहल मिला होता है जो ज्वलनशील पदार्थ में आता है, हाथों में सैनिटाइजर लगा होने की वजह से आपका हाथ जल सकता है, अगर ऐसा हुआ तो आप गुस्से में मोदीजी को दोष देंगे।

बता दें कि मोदीजी ने कोरोना के खिलाफ जंग में सभी देशवासियों का साथ चाहते हैं, मोदी चाहते हैं कि देशवासी एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ जंग लड़ें, इसीलिए उन्होंने 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट तक घर की सभी लाइटें बंद करके सिर्फ दिया जलाने की अपील की है, विकल्प में मोबाइल टोर्च, मोमबत्ती, मिटटी का दिया या टोर्च शामिल हैं. आप इनमें से कुछ भी इस्तेमाल कर सकते हैं. मोबाइल टोर्च जलाने पर आपको सैनिटाइजर से कोई खतरा नहीं है.

कोरोना लॉकडाउन: फरीदाबाद पुलिस ने 35 मुक़दमे दर्ज करके 35 लोगों को किया गिरफ्तार

faridabad-police-lodged-35-fir-and-arrested-35-people-breaking-lockdown

फरीदाबाद 4 अप्रैल: पुलिस आयुक्त के के राव ने सभी थाना प्रभारी, चौकी इंचार्ज को लॉक डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हुए हैं।

जिसके चलते फरीदाबाद पुलिस की ने आज दिनांक 4 अप्रैल को लाक डाउन के आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 35 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 35 मुकदमें भी दर्ज किए हैं।

पुलिस कंट्रोल रूम में आज खाने से संबंधित 91, कालाबाजारी की 7, कोरोनावायरस की 5 कॉल प्राप्त हुई, जिनको आवश्यक कार्रवाई हेतु संबंधित को भेजा गया।

पुलिस आयुक्त केके राव ने बताया कि पुलिस के समझाने के बाद भी जो लोग बाज नहीं आ रहे हैं उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज कर उनको गिरफ्तार किया जा रहा है।

फरीदाबाद के सभी बॉर्डर एरिया पर पुलिस मुस्तैदी से ड्यूटी कर रही है। बिना पास के किसी को भी आने जाने की अनुमति नहीं है।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि फरीदाबाद में चारों तरफ लगे हुए कैमरा के कंट्रोल रूम से भी पुलिस नजर बनाए हुए हैं।

अगर कोई संदिग्ध एवं अनावश्यक गतिविधि सीसीटीवी कैमरा में पाई जाती है तो तुरंत संबंधित एवं नजदीकी पीसीआर एवं थाना, चौकी को अवगत करा उचित कार्रवाई की जाती है।

पुलिस आयुक्त श्री के के राव ने कहा कि माहवारी पर जीत हासिल करने के लिए सरकार, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करें।

CIA के लोग 2400 लोगों को रोजाना पहुंचाते हैं भोजन, मिसिंग सेल भी 2000 को भोजन, 500 को राशन

faridabad-police-cia-badkhal-missing-cell-giving-foor-4400-people-lockdown

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: फरीदाबाद पुलिस भी भूखों और जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने के लिए खूब काम कर रही है, क्राइम ब्रांच बडकल में रोजाना करीब 2400 लोगों का भोजन बन रहा है. क्राइम ब्रांच के लोग खुद ही खाना पहुंचाते हैं.

जैसा की विदित है संपूर्ण राज्य में लाक डाउन किया जा चुका है। जिसके चलते रोज की मेहनत कर रोजी रोटी कमाने वाले मजदूर वर्ग के लिए घर खर्च चलाना मुश्किल हो रहा है। इस परिस्थिति में फरीदाबाद पुलिस जरूरतमंद लोगों को खाना पहुंचा रही है।

पुलिस आयुक्त केके राव ने मजदूर वर्ग के लोगों की जरूरतों को देखते हुए क्राइम ब्रांच को आदेश दिए कि रोजाना जरूरतमंद लोगों को खाना खिलाया जाए।

जिस पर क्राइम ब्रांच बडकल में खाना पकाने के लिए जगह चिन्हित की गई। क्राइम ब्रांच बडकल में रोज करीब 2400 लोगों के लिए खाना पकाया जाता है।

एसीपी क्राइम अनिल यादव ने बताया कि 1200 लोगों का खाना सुबह एवं 1200 लोगों का खाना शाम को तैयार किया जाता है।

पुलिस कंट्रोल रूम पर आई कॉल एवं किसी भी थाना एरिया से आई डिमांड पर एवं कुछ स्थाई जगह पर खाना पहुंचाया जाता है।

जहां पर भी खाने की डिमांड होती है वहां पर खाना वितरित करने के लिए नजदीकी क्राइम ब्रांच को दिया जाता है।

खाना वितरित करते समय क्राइम ब्रांच की टीम सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखती है।

एसीपी क्राइम ने बताया कि पुलिस यह खाना आपस में कंट्रीब्यूट कर तैयार करा रही हैं किसी भी संस्था एवं प्राइवेट व्यक्तियों का कोई कॉन्ट्रिब्यूशन नहीं लिया गया है।

इसके अलावा मिसिंग पर्सन सेल रोजाना करीब 2000 लोगों को खाना खिला रही है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि मिसिंग सेल के द्वारा करीब 500 लोगों को सुखा राशन भी दिया गया है। जिसमें ढाई किलो चावल, ढाई किलो आटा, सरसों का तेल इत्यादि बांटा गया है।

मिसिंग सेल ने महामारी को देखते हुए जरूरतमंद लोगों को मास्क, सैनिटाइजर इत्यादि भी वितरित किए हैं।

फरीदाबाद पुलिस अपराधिक गतिविधियों को लगाम लगाने, कानून व्यवस्था बनाए रखने के अलावा समाज के प्रति अपने दायित्व को निभा रही है।

हरियाणा में तेजी से बढ़ा कोरोना संक्रमण, सिर्फ आज 26 लोग हुए पॉजिटिव, पढ़ें जिला-वाइज रिपोर्ट

haryana-corona-update-infection-increased-26-on-4-april-2020

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: हरियाणा में कोरोना मरीजों की संख्या आज तेजी से बढ़ी है, सिर्फ आज आज 26 नए मामले आये हैं, अगर कल सुबह से तुलना करें तो कोरोना मरीजों की संख्या 40 फ़ीसदी बढ़ी है.

 आज भिवानी में भी कोरोना की एंट्री हो गयी, फरीदाबाद में 8 नए मामले आये हैं, गुरुग्राम में 2 नए मामले आये हैं, पलवल में 13 नए मामले हैं और कैथल में भी कोरोना की एंट्री हो गयी है, वहां पर एक मरीज सामने आया है.             

इसके अलावा आज नए मामले नहीं हैं, अम्बाला में 3 हैं, हिसार में 1 है, करनाल में एक है, नूह में तीन हैं, पानीपत में 1 है, पंचकूला में 2 है, रोहतक में 1 है, सिरसा में 3 है. कुल एक्टिव मामले 55 हो गए हैं, 15 लोग ठीक हो गए हैं. अब तक कुल 70 संक्रमण सामने आये हैं.


अगर संदिग्ध लोगों की बात करें तो हरियाणा में अब 16513 संदिग्ध लोग हो चुके हैं जिन्हें कई जगहों पर और उनके घरों के अंदर रखकर क्वारंटाइन किया गया है. अगर कल से तुलना करें तो करीब 1000 संदिग्ध लोग बढ़ गए हैं.

अब तक 1430 सैम्पल टेस्ट के लिए भेजे गए हैं, 963 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है जबकि 55 लोग पॉजिटिव आये हैं, 15 लोग ठीक हो गए हैं और 397 लोगों की रिपोर्ट का इन्तजार है.

सरकार जमातियों की तलाश करके करवा रही मुफ्त टेस्ट और इलाज, फिर भी जमाती समर्थक हो रहे नाराज

why-jamati-and-supporters-angry-with-sarkar-who-treating-corona-patient

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: जमातियों और उनके समर्थकों को तो सरकार से खुश होना चाहिए क्योंकि सरकार उनकी तलाश करवाकर मुफ्त कोरोना टेस्ट करवा रही है और पॉजिटिव पाए जाने पर उनका मुफ्त इलाज भी कर रही है, खुश होने के बजाय जमाती समर्थक नाराज हो रहे हैं और सरकार के खिलाफ अभियान चला रखा है.

जमाती समर्थक कभी किसी मंदिर का फेक वीडियो वायरल करके निजामुद्दीन मरकज में इकठ्ठी हुई भीड़ का समर्थन कर रहे हैं तो बॉर्डर पर मजदूरों की भीड़ शेयर करे रहे हैं, कुछ लोग तो सरकार के लॉक डाउन पर सवाल खड़े कर रहे हैं, ये सरकार के खिलाफ अपने दिमाग में भरी नफरत किसी ना किसी तरीके से बाहर निकाल रहे हैं जबकि सरकार इनका ही भला कर रही है.

अब मान लो सरकार इनकी तलाश ना करे, मस्जिदों की जांच ना करे, मस्जिदों में लोगों को इकठ्ठा होकर नमाज पढ़ने दे तो क्या होगा, पहले ये अपने पूरे परिवार को संक्रमित करेंगे, उसके बाद मस्जिद में इकठ्ठा होकर समाज पढ़कर वहां आने वाले हर एक को संक्रमित करेंगे, उसके बाद इनसे मिलने के लिए इनका जो भी रिश्तेदार और दोस्त आएगा उसे संक्रमित करेंगे, ये लोग अधिकतर अपनी ही कौम के लोगों को संक्रमित करेंगे।

सरकार जमातियों द्वारा अनजाने में फैलाये जा रहे कोरोना संक्रमण को रोककर इनके ही परिवार, रिश्तेदार, दोस्त और कौम को बचा रही है उसके बावजूद भी सरकार से नाराज हैं. जबकि इन्हें सरकार की तारीफ करनी चाहिए और सरकार का धन्यवाद करना चाहिए।

हम ये नहीं कह रहे हैं कि ये लोग जान बूझकर कोरोना संक्रमण फैला रहे हैं, ये लोग भी लापरवाही की वजह से किसी संक्रमित व्यक्ति की चपेट में आये हैं और जब तक इन्हें पता चलता है कि ये कोरोना संक्रमित हैं तब तक ये कइयों को संक्रमित कर चुके होते हैं, इसलिए अगर ये लोग सरकार के लॉक डाउन के नियमों का पालन करें और अपने घर में आइसोलेशन में रहें तो खुद भी बच जाएंगे, परिवार भी बच जाएगा, रिश्तेदार भी बच जाएंगे और कौम भी बच जाएगी।

राशन ना मिले तो अपने पार्षदों को फोन करें, अगर ना सुनें तो अगली बार चुनाव में सिखा दें सबक

faridabad-councillors-parshad-names-and-contact-mobile-numbers-news

फरीदाबाद: पूरे शहर से हमारे पास फोन आ रहे हैं कि हमें राशन नहीं मिल रहा है, राशन कार्ड धारकों को सरकार की तरफ से हर आदमी का 5 किलो राशन आया है लेकिन अधिकतर डिपो वाले ग्राहकों को इधर उधर दौड़ा रहे हैं. जनता परेशान है और हमारे मोबाइल पर फोन करके मदद मांग रही है.

हम जनता को बताना चाहते हैं कि आप लोग अपनी समस्या का समाधान करने के लिए अपने मनपसंद पार्षद,, विधायक को वोट देते हैं. आपने सबसे नजदीकी प्रतिनिधि पार्षद होता है, उसके बाद विधायक और सांसद का नंबर आता है.

अब मुसीबत का वक्त है तो पार्षदों, विधायकों को आपकी मदद करनी चाहिए। हम नीचे पार्षदों का नंबर दे रहे हैं इसलिए राशन से सम्बंधित शिकायत उनके पास करें, अगर वे आपकी मदद नहीं कर पाते, आपका फोन नहीं उठाते या बहाना बनाते हैं तो अगले चुनाव में आप अपने वोट के खुद मालिक हैं.

Ward No.  Parshad/ Name Phone/ Mobile
1Sapna Dagar 9899636306, 9873283849
2Priyanka Chaudhary 9810478977
3Jaiveer Khatana 7982424340
4Sheetal Khatana 9871192399
5Lalita Yadav 9910163505
6SurenderKr. Aggarwal9654036030
7Bir Singh Nain9811963215
8Mamta Chaudhary9311005062
9Mahender Singh9899690291
10Manvir Singh Bhadana9891124288
11Manoj Naswa9810931417
12Suman Bala,Mayor8010544433
13Suman Bharti9999538350, 9582540945
14Jaswant Singh9990558667, 9810598530
15Sandeep Bhardwaj9999995367
16Rakesh Bhadana9811220503
17Vikas Bhardwaj9899050109
18Rattan Pal9871647767
19Satish Kumar9871647767
20Hema Chaudhary9999471320, 9873312020
21Jitender Bhadana9911711911
22Jitender yadav9811168388
23Geeta Rexwal9871280099
24Som Lata Bhadana8860347005, 9311680007
25Munesh Bhadana9873209427, 9811430017
26Ajay Singh Bainsla9811911117
27Devender Chaudhary9891921777
28Naresh Chand Numberdar9871100473, 9910800473
29Neetu Bhati9210525525
30Subhash Ahuja9810673470
31Chhattar Pal Yadav9810404373, 9999596062
32Man Mohan Garg9810020038, 9811330785
33Dhanesh Adlakha9810362044
34Kulbir Singh Tewatia9818190901, 9911117109
35Rakesh Kumar Dagar9891281492, 9811292949
36Deepak Yadav9711111780, 9540147240
37Deepak Chaudhary9971698827, 9599206553
38Uma Saini8745000460, 9891186183
39Har Parsad Gaur9891722248, 9718448916
40Savita Tanwar9212152899, 9999922325

फरीदाबाद में कोरोना के 8 नए पॉजिटिव मरीज, 5 मरकज के जमाती भी शामिल, पढ़ें लेटेस्ट अपडेट

faridabad-corona-virus-update-news-4-april-2020-jamati-markaj

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: फरीदाबाद में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की रिपोर्ट आ गयी है, आज 8 नए मामले सामने आये हैं जिसमें से 5 निजामुद्दीन मरकज से लौटे जमाती हैं और 3 अन्य मामले सामने आये हैं.

स्वास्थय विभाग से मिली रिपोर्ट के अनुसार नोएडा की सीजफायर कंपनी के कर्मचारी के बेटे को भी कोरोनावायरस की पुष्टि हो चुकी है, इससे पहले पति पत्नी भी पॉजिटिव पाए गए हैं. 

इसके अलावा ग्वालियर से आए एक दंपत्ति को भी कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया है.

फरीदाबाद में कुल कोरोना वायरस से संक्रमित एक्टिव मरीजों की संख्या 13 हो चुकी है, एक मरीज ठीक हो चुका है, इसके अलावा 967 लोगों को इस वक्त निगरानी में रखा गया है. 190 लोगों के सैम्पल का टेस्ट कराया गया है जिसमें से 134 निगेटिव हैं, 14 पॉजिटिव हैं जबकि 42 लोगों की रिपोर्ट का अभी तक इन्तजार है.

faridabad-corona-virus-update-news-4-april-2020-jamati-markaj

अगर मोदी सरकार ना करती लॉक डाउन तो अब तक देश में लाखों लोगों को संक्रमित कर चुके होते जमाती

pm-narendra-modi-lock-down-worked-corona-infected-jamati-identified

फरीदाबाद, 4 अप्रैल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 मार्च को पूरे देश को एक साथ लॉक डाउन करने की घोषणा की थी, कुछ लोगों ने उनके इस कदम को गलत बताया था, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने कहा कि - मोदी ने जल्दबाजी में यह कदम उठा लिया लेकिन अब सोचिये, अगर 25 मार्च को लॉक डाउन का ऐलान ना होता और सब कुछ पहले की तरह चलता रहता तो अब तक क्या परिस्थिति होती।

अगर आप ध्यान दें तो 25 अप्रैल को लॉक डाउन के बाद ही जमातियों के बारे में पता चला, जब इस्लामिक सेण्टर में एक जमाती की मौत हो गयी और उसका टेस्ट कराया गया तो वह कोरोना पॉजिटिव निकला। उसके बाद जांच पड़ताल की गयी तो पता चला कि निजामुद्दीन के मरकज में पिछले एक महीनें से तबलीगी जमात के हजारों लोग इकठ्ठा होकर धार्मिक समारोह कर रहे हैं. कई लोगों ने तो तबलीगी जमात और मरकज के बारे में सुना ही नहीं था, दिल्ली सरकार ने पूरी दिल्ली में धारा 144 लगा थी और तक साथ 5 लोगों के इकठ्ठे होने पर रोक लगा दी थी लेकिन ये लोग तो कोई नियम कानून मानते ही नहीं।

उसके बाद 28 मार्च को पुलिस निजामुद्दीन पहुंची और जमातियों को बसों में भरकर अस्पताल भेजा और उनका टेस्ट कराया तो सैकड़ों लोग कोरोना पॉजिटिव निकले, उसके बाद पूरे देश में हड़कंप मच गया, उसके बाद जमातियों की लिस्ट बनायी गयी और सभी राज्यों ने जमातियों की तलाश शुरू की, सभी राज्यों ने जमातियों को पकड़कर टेस्ट कराया तो सैकड़ों लोग पॉजिटिव मिले और ये लोग जहाँ पर रह रहे थे वहां के लोगों को भी संक्रमित कर दिया है. तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, दिल्ली में जमातियों ने सबसे अधिक संक्रमण फैलाया, गृह मंत्रालय के अनुसार इन लोगों ने अब तक 14 राज्यों में कोरोना संक्रमण फैलाया है।

इन जमातियों को निजामुद्दीन मरकज के मौलाना साद ने यह बोलकर धार्मिक प्रोग्राम में बुलाया था कि मस्जिद में आने वालों को कोरोना संक्रमण नहीं होगा क्योंकि मस्जिद मरने के लिए सबसे अच्छा स्थान है, उनका ऑडियो भी वायरल हुआ है, उनपर FIR दर्ज की गयी है, वह फरार हैं, इस कार्यक्रम में अधिकतर कट्टरपंथी विचारधारा के लोग ही आये थे जिनके अंदर जिहाद का जहर भरा होता है इसलिए उन्होंने कोरोना संक्रमण को गंभीरता से नहीं लिया।

यह कार्यक्रम पिछले एक महीनें से चल रहा था, पूरे देश के और विदेश के जमाती कार्यक्रम में आकर कुछ दिन रूककर चले जाते थे, इस प्रोग्राम में विदेश से कुछ संक्रमित जमाती भी आये और अन्य लोगों को संक्रमित कर दिया, उसके बाद संक्रमित लोग यहाँ से निकलकर अपने घरों को गए तो वहां अपने पूरे परिवार को संक्रमित कर दिया, अब जहाँ से भी कोरोना के मामले निकल रहे हैं तो पता चल रहा है कि जमातियों का पूरा परिवार ही संक्रमित है.

संक्रमित जमातियों की पहचान इसलिए हो पा रही है क्योंकि देश में लॉक डाउन है, जनता को उनके घरों में ही रहने को बोला गया है, जमाती अधिकतर मस्जिदों में छुपे हुए हैं, ये लोग खुद बाहर आकर अपना टेस्ट नहीं करवा रहे हैं, पुलिस इन्हें ढूंढ ढूंढ कर इनका टेस्ट करवा रही है और अन्य संपर्क में आये लोगों का टेस्ट करवा रही है. कई जगह से यह भी ख़बरें आयी कि ये लोग पुलिस और इनका इलाज कर रहे डॉक्टरों पर थूक रहे हैं, कुछ लोग डॉक्टर और नर्सों को अश्लील इशारे कर रहे हैं, गाजियाबाद में इनके खिलाफ शिकायत की गयी है और डॉक्टरों ने  इनका इलाज करने से इंकार कर दिया है.

भगवान का शुक्र है कि देश में लॉक डाउन है, वरना ये लोग भीड़ भाड़ में घुसकर अन्य लाखों लोगों को अब तक संक्रमित कर चुके होते और भारत भी अमेरिका, इटली, स्पेन, चीन, ईरान, इंग्लॅण्ड, फ़्रांस की श्रेणी में आ चुका होता। हम ये नहीं कह रहे हैं कि ये लोग जान बूझकर संक्रमण फैला रहे हैं लेकिन देश के कानून को ना मानकर ये लोग खुद को गलत साबित कर रहे हैं.

कुछ लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लॉक डाउन के फैसले को गलत बता रहे हैं लेकिन अगर लॉक डाउन ना होता और लाखों लोगों में संक्रमण फ़ैल चुका होता तो हो सकता है उसमें से आप भी होते। इसलिए लॉक डाउन के नियमों का पालन करें और  अपने घरों में रहें ताकि संक्रमित लोगों की पहचान करके उनका इलाज किया जा सके और देश को इस महामारी से बचाया जा सके.

भारत गैस प्लांट, पियाला में सभी सिलेंडरों को भी किया जाता है सैनिटाइज, संक्रमण का कोई खतरा नही

piyala-faridabad-bharat-gas-petroleum-plant-cylinder-sanitize-news

फरीदाबाद, भारत गैस प्लांट, पियाला फरीदबाद में सभी सिलेंडरों को सैनिटाइज किया जाता है ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण का कोई खतरा ना हो, ग्राहकों को विल्कुल सुरक्षित सिलेंडर भेजे जाते हैं और गैस एजेंसी की तरफ से भी एक बार सिलेंडर को सैनिटाइज किया जाता है, इसके अलावा डेलिवरी करने वालों को भी रोजाना मास्क, ग्लव्स और हैंड सैनिटाइजर दिए जाते हैं और पूरी तरह से सावधानी बरतने के निर्देश दिए जाते हैं.

यह बात भारत पेट्रोलियम के रीजनल मैनेजर पवन कुमार ने 3 अप्रैल को एक प्रेस वार्ता में कही, उन्होंने बाकायदा प्लांट के अंदर सिलेंडर को सैनिटाइज करने का प्रोसेस भी दिखाया। सिलेंडरों से भरे सभी आने जाने वाले ट्रकों को सैनिटाइज किया जाता है उसके बाद सिलेंडर को एक एक करके भी सैनिटाइज किया जाता है.

पवन कुमार ने कहा कि हम जनता से अपील करना चाहते हैं कि आप लॉक डाउन के नियमों का पालन करें, अपने घरों में ही रहें, हम आपके घर में सुरक्षित सिलेंडर भेज रहे हैं और आपकी सुरक्षा का पूरा ख्याल रख रहे हैं.

उन्होंने यह भी बताया कि उज्जवला योजना के तहत लाभार्थियों के खाते में तीन महीनें तक पैसे भेजे जाएंगे लेकिन उन्हें पहले डेलिवरी वालों को सिलेंडर लेते वक्त पैसे देने पड़ेंगे। सरकार उनके खाते में पैसे भेजेगी, योजना का फायदा तभी मिलेगा जब सिलेंडर भरवाए जाएं, जो लाभार्थी सिलेंडर नहीं भरवाएगा उसके खाते में पैसे नहीं भेजे जाएंगे।



उन्होंने यह भी बताया कि प्लांट के अंदर प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग की जाती है, फ्री मास्क और ग्लव्स दिए जाते हैं, हाथों को सैनिटाइज किया जाता है, उसके बाद ही प्रवेश करने दिया जाता है, सभी कर्मचारियों को रोजाना नए मास्क दिए जाते हैं. सभी ड्राइवर को रोजाना कैंटीन में मुफ्त खाना दिया जाता है और सोशल डिस्टैन्सिंग का ख्याल रखा जाता है.

भयानक सिलेंडर ब्लास्ट, आसपास की इमारतों के टूटे शीशे, शुकर है लॉकडाउन की वजह से बंद थी कंपनी

fariabad-nhpc-chowk-metro-station-machenical-factory-cylinder-blast

फरीदाबाद, 3 अप्रैल: एनएचपीसी मेट्रो स्टेशन के पास 14/1, Perfect Mechanical नाम की एक मैकेनिकल फैक्ट्री है जो लॉक डाउन की वजह से बंद थी। आज शाम को कंपनी के अंदर रखे 1 टन के CO2  गैस के सिलेंडर में भयानक ब्लास्ट हुआ जिसकी आवाज कई किलोमीटर तक सुनाई दी.

कंपनी के मेन गेट पर मौजूद गार्ड ने बताया कि कंपनी के अंदर वेल्डिंग  वाला सिलेंडर फटने के कारण तेज धमाका हुआ था। इस घटना की सूचना पुलिस को दी गयी, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल  शुरू कर दी है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कंपनी के अंदर सामानों का काफी नुकसान हुआ है, यह कंपनी बुलेट प्रूफ गाड़ियां बनाती है, कंपनी के अंदर खड़ी करीब 20 गाड़ियां इस विस्फोट में छतिग्रस्त हुए हैं, जिसमें जीप और मिलिट्री के ट्रक हैं, इस कंपनी की पूरी छत गायब हो गई है और पूरा बीम नीचे आ गिरा है.

आपको बता दें कि इस कंपनी के नजदीक स्प्रिंग फील्ड कॉलोनी है जहाँ पर कई घरो के शीशे टूट गए है, कई लोगों ने यह भी बताया कि कुछ मकानों में दरारें भी आ गयी हैं. देखिये कंपनी के अंदर ब्लास्ट के बाद का वीडियो -

हरियाणा कोरोना शाम की अपडेट, CM सिटी में भी पहुंचा कोरोना

haryana-corona-update-3-april-karnal-also-one-corona-positive-case

फरीदाबाद, 3 अप्रैल: हरियाणा में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ गयी है, 3 अप्रैल को शाम तक 9 नए मामले आये है, 5 मामले गुरुग्राम में आये हैं जबकि तीन मामले नूह में आये हैं, इसके अलावा अब CM सिटी यानी करनाल में  भी कोरोना की एंट्री हो गयी है हालाँकि अभी एक ही पॉजिटिव मरीज सामने आया है.               

इसके अलावा आज नए मामले नहीं हैं, अम्बाला में 3 हैं, फरीदाबाद में 5 हैं, हिसार में 1 है, पलवल में 3, पानीपत में 2, पंचकूला में 2, रोहतक में 1, सिरसा में 3 और सोनीपत में 1 ठीक हो गया है. कुल 30 एक्टिव मामले हैं, अब तक मिले 43 पॉजिटिव लोगों में से 13 लोग ठीक हो चुके हैं.

haryana-corona-update-news

अगर संदिग्ध लोगों की बात करें तो हरियाणा में अब 16067 संदिग्ध लोग हो चुके हैं जिन्हें कई जगहों पर और उनके घरों के अंदर रखकर क्वारंटाइन किया गया है. अगर कल से तुलना करें तो करीब 1000 संदिग्ध लोग बढ़ गए हैं.

अब तक 1325 सैम्पल टेस्ट के लिए भेजे गए हैं, 938 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है जबकि 44 लोग पॉजिटिव आये हैं, 14 लोग ठीक हो गए हैं और 30 मरीजों का इलाज चल रहा है.

साहूपुरा गाँव में निजामुद्दीन मरकज से लौटे बाबू खान की मौत, पढ़ें उनके बेटे खालिद ने क्या बताया

faridabad-shahupura-village-babukhan-death-nizamuddin-markaj-news

फरीदाबाद, 3 अप्रैल: फरीदाबाद के शाहूपुरा में निजामुद्दीन मरकज में आयोजित जलसे में शामिल होकर लौटे व्यक्ति बाबू खान की मौत हो गयी. पहले तो मरकज और तबलीगी जमात के बारे में लोगों को पता नहीं था लेकिन जब स्थानीय लोगों को पता चला कि मरकज से कोरोना का संक्रमण फैला है और वहां गए लोगों को कोरोना हो सकता है, लोगों के मन में यह भी डर फ़ैल गया कि हो सकता है बाबू खान की भी कोरोना से ही मौत हुई हो.

आज हमने बाबू खान के बेटे खालिद से बात की. खालिद ने बताया कि उसके पिता बाबू खान 28 फ़रवरी 2020 को निजामुद्दीन मरकज में आयोजित समारोह में शामिल हुए थे और 1 मार्च को यानी दो दिन बाद वापस लौट आये थे, 25 मार्च को उनकी मौत हो गयी थी.

खालिद ने बताया कि उनके पिता बाबू खान की उम्र 60 साल थी, वह मरकज से आने के बाद 25 दिन तक जिन्दा रहे, उन्हें 12 साल से शुगर थी, 25 मार्च को शायद उनके पिता बाबू खान की किडनी फेल हो गयी, वह सुबह 5.27 बजे जब उन्हें अस्पताल ले जा रहे थे तो YMCA फ्लाईओवर पर उनकी मौत हो गयी.

खालिद ने बताया कि उनके पिता की मौत के बाद गांव के कुछ लोगों ने अफवाह फैला दी कि बाबू खान की मौत कोरोना से हुई है, उसके बाद प्रशासन ने गाँव में 20 घरों के बाहर क्वारंटाइन का बोर्ड लगा दिया है, हम लोगों को कहा गया है कि कम से कम 14 दिन आप सबसे अलग रहो. खालिद ने बताया कि अभी हम लोगों का टेस्ट नहीं किया गया है और ना ही कोई लक्षण है. हम लोग विल्कुल ठीक ठाक हैं.

खालिद ने बताया कि उनके बड़े भाई उमर खान की आटे की चक्की है, अफवाह के चलते हम लोग घरों में बंद हैं, हमारे भाई की आटे की चक्की भी बंद है. हमारा काफी नुकसान हो रहा है.

खालिद की बात सुनकर हमने भी उन्हें सलाह दी कि कोरोना के लक्षण काफी दिनों बाद दिखते हैं इसलिए प्रशासन का कहना मानें और कुछ दिनों तक क्वारंटाइन रहकर अपने और अपने परिवार को संक्रमित होने से बचाएं, जब उनके अंदर 14 दिनों तक कोई लक्षण नहीं दिखेंगे तो उन्हें ठीक समझा जाएगा और वे अपनी नार्मल लाइफ जी सकेंगे।

प्रशासन ने अब तक 138190 लोगों को भेजा भोजन, 6360 को सूखा राशन, हेल्पलाइन नंबर: 0129-2221000

faridabad-prashasan-helping-poor-food-ration-0129-2221000-helpline-number

फरीदाबाद 3 अप्रैल: उपायुक्त यशपाल ने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान जिला प्रशासन की ओर से जरूरतमंद लोगों तक प्रतिदिन सुबह व सायं के समय फूड पैकेट्स व खाद्य सामग्री से मदद पहुंचाई जा रही है, ताकि कोई भी व्यक्ति पैसे की कमी के कारण भूखा न रह सके।

उपायुक्त ने बताया कि जिला में रैडक्रास सोसायटी विभिन्न सामाजिक संगठनों, गैर सरकारी संस्थाओं से तालमेल कर हर जरूरतमंद व्यक्ति तक खाना पहुँचाया जा रहा है। 

उन्होंने बताया कि अब तक एक लाख 38 हजार 190 लोगों को फूड पैकेट्स तथा 6 हजार 360 लोगों को साप्ताहिक सूखा राशन तथा 2 हजार 400 लोगों को सब्जियों के पैकेट्स वितरित किए गए हैं। 

उन्होंने बताया कि अब तक 1 लाख 30 हजार 690 फूड पैकेट्स विभिन्न एनजीओ तथा 7 हजार 500 पैकेट्स सरकार द्वारा तैयार करवाए गए हैं, जिनका वितरण गत दिनों शहर के सभी वार्डों में जरूरतमंद लोगों तक किया गया। इस समय जिला में बनाए गए रिलीफ सेंटर में करीब 218 लोग ठहरे हुए हैं, जिन्हें खाना व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही है।

जरूरतमंदों की मदद के लिए प्रशासनिक अफसरों और विधायकों की मीटिंग, पढ़िए क्या दिए गए निर्देश

faridabad-dc-yashpal-yadav-and-mlas-meeting-to-help-poor-labor

फरीदाबाद, 03 अप्रैल। हरियाणा के परिवहन मंत्री ने कहा कि लाकडाउन के दौरान गरीब व्यक्तियों को फूड पैकेट्स व राशन वितरण का कार्य बेहतर ढंग से किया जाए। प्रत्येक जरूरतमंद व्यक्ति तक खाना पहुंचना चाहिए। इस दौरान कालाबाजारी पर कड़ी नजर रखी जाए तथा कोई भी व्यक्ति इन दिनों किरायेदारों से किराये की मांग न करे।   

परिवहन मंत्री शुक्रवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिला प्रशासन की ओर से लॉकडाउन के दौरान लोगों की सुविधा के लिए किए जाने वाले कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी औद्योगिक क्षेत्र या ठेकेदार अपने कर्मचारियों को मार्च महीने का वेतन जल्द से जल्द देना सुनिश्चित करें। अगर कोई व्यक्ति इस दौरान मकान, दुकान आदि जो किराये पर दिए गए हैं, का किराया वसूलने के लिए प्रभाव बनाता है, वह व्यक्ति पुलिस को कंट्रोल नंबर पर सूचित करे। सरकारी जमीन पर रहने वाले लोगों से किसी भी प्रकार का कोई व्यक्ति किराया वसूल करता पाया गया तो उसके खिलाफ तुरंत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि साप्ताहिक राशन सही जरूरतमंद लोगों तक पहुंचे, कोई बगैर जरूरतमंद व्यक्ति यह राशन न ले। शहर के सभी वार्डों में सही जरूरतमंद व्यक्ति की पहचान कर ली जाए। शहर के सभी स्लम क्षेत्र कवर किए जाएं। लोगों को सामाजिक दूरी की जरूरत के बारे में भी जागरूक करें। कालोनियों में एक जगह भीड़ एकत्रित न करें, अपितु राशन वितरण का कार्य डोर टू डोर होना चाहिए।

इस अवसर पर विधायक सीमा त्रिखा, नरेंद्र गुप्ता, राजेश नागर, नयनपाल रावत व नीरज शर्मा, मेयर सुमन बाला, जिला परिषद के चेयरमैन विनोद चौधरी, सीनियर डिप्टी मेयर देवेंद्र सिंह, डिप्टी मेयर मनमोहन गर्ग ने भी अपने क्षेत्रों से संबंधित सुझाव दिए तथा हो रहे कार्यों के बारे में जानकारी दी।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि इस समय सेक्टर-15 स्थित सिंहसभा गुरूद्वारा, राधा स्वामी सत्संग भवन अजरौंदा, इस्कान व जिला रैडक्रास सोसायटी की ओर से फूड पैकेट्स तैयार करवाकर शहर के सभी वार्डों में भेजें जा रहे हैं। हर वार्ड में पार्षद, वार्ड अधिकारी व वालिंटियर की मदद से यह फूड पैकेट्स जरूरतमंद व्यक्तियों तक पहुंचाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस समय शैल्टर होम में करीब 216 व्यक्ति रह रहे हैं, जिन्हें खाना व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। असंगठित मजदूरों को पंजीकृत करने के लिए सरकार की ओर से पोर्टल बनाया गया है, इस पोर्टल पर अब तक जिले के करीब 9 हजार लोगों ने पंजीकरण करवाया है, जिन्हें आगामी दिनों में एक हजार रूपए की राशि मिलेगी। सभी राशन डिपुओं के माध्यम से भी राशन वितरण का कार्य शुरू किया जा चुका है, जो जल्द ही सभी कार्ड धारकों को उपलब्ध हो जाएगा। कोरोना के संभावित संक्रमण के दृष्टिगत कोरेंटाइन सेंटर बनाने के लिए स्कूल, कालेज, विश्वविद्यालय व अन्य सरकारी इमारतों को चिन्हित किया जा चुका है। 

उन्होंने बताया कि कालाबाजारी रोकने पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है, पिछले दिनों कुछ दुकानदारों पर एफआईआर भी दर्ज की गई है। इस अवसर पर हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के प्रशासक प्रदीप दहिया, अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह, एसडीएम अमित कुमार, एसडीएम त्रिलोकचंद, एसडीएम पंकज सेतिया, संपदा अधिकारी एचएसवीपी परमजीत चहल सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

हरियाणा में एकाएक बढ़ा कोरोना संक्रमण, संदिग्ध लोग भी बढे, देखिये लेटेस्ट अपडेट

haryana-corona-virus-latest-update-3-april-2020-total-cases-43-positive

फरीदाबाद, 3 अप्रैल: हरियाणा में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ गयी है, 3 अप्रैल को 8 नए मामले आये है, 5 मामले गुरुग्राम में आये हैं जबकि तीन मामले नूह में आये हैं.

इसके अलावा आज नए मामले नहीं हैं, अम्बाला में 3 हैं, फरीदाबाद में 5 हैं, हिसार में 1 है, पलवल में 3, पानीपत में 2, पंचकूला में 2, रोहतक में 1, सिरसा में 3 और सोनीपत में 1. कुल 30 एक्टिव मामले हैं, अब तक मिले 43 पॉजिटिव लोगों में से 13 लोग ठीक हो चुके हैं.

haryana-corona-virus-update

अगर संदिग्ध लोगों की बात करें तो हरियाणा में अब 15246 संदिग्ध लोग हो चुके हैं जिन्हें कई जगहों पर और उनके घरों के अंदर रखकर क्वारंटाइन किया गया है. अगर कल से तुलना करें तो करीब 500 संदिग्ध लोग बढ़ गए हैं.

अब तक 1323 सैम्पल टेस्ट के लिए भेजे गए हैं, 937 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है जबकि 43 लोग पॉजिटिव आये हैं, 13 लोग ठीक हो गए हैं और 30 मरीजों का इलाज चल रहा है.

haryana-corona-virus-latest-update-3-april

फरीदाबाद नचौली गाँव में लिंग्याज कॉलेज के बाहर रात भर हुआ हंगामा, फिर जमातियों को हटाया गया

faridabad-nacholi-village-jamati-quarantine-center-become-vacant

फरीदाबाद, 3 अप्रैल: फरीदाबाद नचौली गाँव में स्थित लिंग्याज कॉलेज के बाहर कल रात काफी देर तक हंगामा होता रहा, गाँव वालों को जब पता चला कि यहाँ पर करीब 20 जमातियों को ठहराया गया है उसके बाद कई गाँवों के लोग लिंग्याज कॉलेज के बाहर एकत्रित हो गए और लिंग्याज कॉलेज को खाली करने की मांग करने लगे, देखिये वीडियो - 



नचौली गाँव के सरपंच सुधीर नागर ने बताया कि यहाँ पर करीब 20 जमातियों को ठहराया गया था जिसमें से 18 विदेशी थे और तीन लोगो के साथ उनका परिवार और बच्चे भी थे. 

उन्होंने कहा कि यह कॉलेज आबादी के बीच में है इसलिए हमारे गाँव के लोगों में डर था इसलिए यहाँ पर विरोध हुआ, प्रशासन ने हमारी बात मानी और रात में कॉलेज खाली करवा दिया।

कल से शुरू होंगी बैंकिंग सुविधाएं, पैसे निकालने के लिए समझ लें 'नियम' वरना खाली हाथ होंगे वापस

faridabad-banking-service-will-continue-but-rule-change-for-withdrawal

फरीदाबाद, 2 अप्रैल। कोविड-19 के चलते लगे लॉकडाउन के दौरान जिले में बैंक संबंधी सेवाओं व सुविधाओं का लाभ आसानी से लोगों तक पहुंचाने के उद्देश्य से उपायुक्त यशपाल की अध्यक्षता में जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक सहित विभिन्न बैंक प्रबंधकों की बैठक हुई। 

उपायुक्त ने बताया कि जनता की सुविधा के लिए सरकार के निर्देशानुसार अब  बैंकिंग सुविधाएं प्रातः 10 बजे से सायं चार बजे तक दी जाएंगी। बैंक खाताधारक इस दौरान सामाजिक दूरी भी बनाए रखें। इस दौरान खाताधारक बैंक मित्र तथा ग्राहक सुविधा केंद्र जैसी सुविधाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाएं। लोक डाउन के दौरान बैंकों में केवल जमा तथा निकासी की सुविधाएं, फंड ट्रांसफर, चेक क्लीयरिंग एवं सरकारी बिजनेस जैसे कार्य ही किए जा रहे हैं।

उपायुक्त ने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन बचत खाता के महिला लाभार्थी व अन्य प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लाभार्थियों को अप्रैल माह से सरकार की ओर से 500 रूपए प्रतिमाह प्रदान किए जाएंगे। बैंकों में भीड़ से बचने के लिए सरकार द्वारा इन खातों में पैसे निकालने का एक क्रम जारी किया गया है, जो खाते के अंतिम नंबरों के आधार पर होगा।

पैसे निकलने के लिए ये है नियम

जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक अल्भ्य मिश्रा ने बताया कि जिन खाताधारकों के खाते के अंतिम नंबर 0 व 1 है, वह 3 अप्रैल को, खाता संख्या के अंतिम नंबर 2 व 3 वाले 4 अप्रैल को, अंतिम नंबर 4 व 5 वाले 7 अप्रैल को, अंतिम नंबर 6 व 7 वाले 8 अप्रैल को तथा अंतिम नंबर 8 व 9 वाले 9 अप्रैल को अपनी संबंधित बैंक शाखा या बैंक मित्र ग्राहक सुविधा केंद्र पर जाकर पैसे निकाल सकते हैं। उन्होंने खाता धारकों से अपील की कि सभी लाभार्थी पैसे निकालने के लिए सरकार द्वारा जारी क्रम अनुसार ही बैंक में आएं ताकि बैंकों में लॉक डाउन के अंतर्गत सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की अनुपालना हो सके।

उपायुक्त ने बताया कि जिला पुलिस को निर्देश दिए जा चुके हैं कि बैंकों द्वारा अपने कर्मचारियों तथा बैंक मित्रों को जारी किए गए पहचान-पत्रों से बैंक ड्यूटी के लिए आने जाने के लिए मान्य रखा जाए।

सेवा भारती ने शिव दुर्गा विहार में जरूरतमंदों को किया भोजन का वितरण

faridabad-sewa-bharati-distribute-food-in-shiv-durga-vihar-news

फरीदाबाद, 2 अप्रैल: 2.04.2020 गुरुवार को रामनवमी के दिन "सेवा भारती", पश्चिम महानगर फरीदाबाद, के राकेश श्रीवास्तव ने "महेश्वरी सेवा सदन" के महेश गट्टानी के सहयोग और राजेश श्रीवास्तव, मोनू यादव, रविंदर, संदीप, रामचंद्र गोला, रंजीत, डॉ सनत, अजीत मिश्रा के साथ भोजन का वितरण किया।

यह कार्य लगातार 26 मार्च से संपन्न किया जा रहा है. आज सेवा भारती द्वारा दिए गए  रॉ फूड मटेरियल  का वितरण कार्य सेवा भारती केंद्र "शिव दुर्गा विहार" में संपन्न किया गया. कार्यकर्ताओं द्वारा चिन्हित गए जरूरतमंद लोगों को लगभग 25-30 पैक वितरित किया गया. शेष कल खोरी गांव में वितरित किया जाएगा।

जरूरतमंद लोगों को चिन्हित कृष्ण मोहन, राम बाबू मंडल, प्रदीप, रंजीत, हरि ओम,  मंजू गुप्ता, शैलेश, मोनू यादव और सुशील सैनी जी का सहयोग रहा है.

सेक्टर-21 के स्कूल में जमातियों को लाई थी पुलिस, स्थानीय लोगों ने हंगामा करके लौटाया वापस

faridabad-sector-21-d-sarkar-school-local-protest-jamati-stay-news

फरीदाबाद, 2 अप्रैल: हरजत निजामुद्दीन में आयोजित मरकज में हजारों जमातियों ने हिस्सा लिया था, उनमें से सैकड़ों लोगों को कोरोना वायरस का संक्रमण हो चुका है और हजारों संदिग्ध कई स्थानों पर छुपे हुए हैं, पुलिस ऐसे लोगों की तलाश करके उनका क्वारंटाइन कर रही है और संक्रमित लोगों का इलाज किया जा रहा है.

फरीदाबाद पुलिस भी ऐसी लोगों की तलाश में जुटी हुई है, आज कुछ लोगों की तलाश करके पुलिस उन्हें क्वारंटाइन करने सेक्टर 21D के सरकारी स्कूल में लाई थी. स्थानीय लोगों ने जैसे ही जमातियों को देखा वहां पर हंगामा शुरू हो गया. आप नेता धर्मबीर भड़ाना भी वहां आ पहुंचे।

इसके बाद पुलिस जमातियों को जीप में बिठाकर वापस ले गयी. स्थानीय लोगों ने बताया कि ये लोग देश के लिए खतरा बन चुके हैं, देश पर कोरोना का संकट था उसके बाद भी यह लोग निजामुद्दीन में जमा हुए और कोरोना से संक्रमित होकर पूरे देश में संक्रमण फैला रहे हैं इसलिए हम लोगों ने इसे यहाँ पर नहीं रहने दिया।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मरकज में शामिल ये जमाती, पुलिस, डॉक्टर और सड़कों पर चल रहे यात्रियों पर थूकते हैं, की ये घटिया हरकत किसी को पंसद नहीं आ रही है. इसीलिए अब लोग इनके विरोध में उतरने लगे हैं.