Palwal Assembly

Showing posts with label Faridabad News. Show all posts

अरावली पहाड़ पर हो रहा राख-घोटाला, देखने पहुंचे LN पाराशर, PM मोदी को भेजेंगे शिकायत, पढ़ें

advocate-ln-parashar-accused-rakh-ghotala-on-aravali-pahad-faridabad

फरीदाबाद। पिछले महीने फरीदाबाद देश का सबसे प्रदूषित शहर बना था। शहर के अधिकारी अगर लापरवाह न होते तो ये तमगा फरीदाबाद को न मिलता। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष वकील एल एन पाराशर का जिन्होंने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है और उनका कहना है कि गुरुग्राम रोड के पास अरबों का राख घोटाला हो रहा है जहाँ से भारी मात्रा में राख बेंची जा रही है और नियम क़ानून का पालन न कर हर रोज वहां से सैकड़ों ट्रक राख निकाली जा रही है और फरीदाबाद में प्रदूषण फैलाया जा रहा है। 

rakh-ghotala-on-aravali-pahad


वकील पाराशर ने कहा कि भाखरी के पास थर्मल पवार की राख चोरी हो रही है और उन्हें सूचना मिली है कि कुछ नेता प्रति ट्रक वसूली कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यहाँ कई मशीने लगी हैं जो ट्रकों पर राख भर रही हैं और ये राख इतनी उड़ती है कि आस पास के लोग ही नहीं पूरा फरीदाबाद प्रदूषण से परेशान है।

वकील पाराशर ने कहा कि यहाँ सैकड़ों ट्रक हमेशा राख से भरे दिख जाएंगे और सभी ट्रक ओवरलोडिंग दिखेंगे।

pahad-rakh-ghotala-news

वकील एल एन पाराशर ने कहा कि इस घोटाले को लेकर मैं पीएम को पत्र लिखने जा रहा हूँ और मांग करूंगा कि राख माफियाओं पर शिकंजा कस फरीदाबाद की जनता को प्रदूषण से बचाया जाये। स्थानीय निवासी एवं युवा समाजसेवी सत्येंद्र फागना ने बताया कि आस पास जितने भी गांव हैं हर गांव के लोग इस राख से दुखी हैं और उनके घरों में इस राख की मोटी परत हर रोज जम जाती है और अब ये राख पूरे फरीदाबाद को प्रदूषित करने लगी है।

उन्होंने कहा कि राख माफिया किसी गाइडलाइंस का पालन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि यहाँ 50 से 70 फ़ीट तक की गहराई तक खुदाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि हम ग्रामीण कई बार इसकी शिकायत फरीदाबाद प्रशासन से कर चुके हैं लेकिन प्रशासन अब तक सो रहा है। उन्होंने बताया कि पूरा जिला इससे प्रदूषित हो रहा है और ये एक बड़ा घोटाला है। इस मौके और एडवोकेट संजीव तंवर ने कहा कि आरटीआई के माध्यम से जानकारी माँगी जाएगी कि ये राख कौन बेंच रहा है और कौन ले जा रहा है।

फरीदाबाद के पुलिसकर्मियों के लिए लगा जनता-दरबार, CP से सुनी सबकी समस्याएँ, दिए समाधान के आदेश

faridabad-police-commissioner-sanjay-kumar-here-police-men-complaint

फरीदाबाद: फरीदाबाद में हजारों पुलिसकर्मी रहते हैं, ये लोग जनता की सुरक्षा करते हैं लेकिन हम इनके बारे में कभी नहीं सोचते कि ये लोग कैसे रहते होंगे, इनके सामने कैसी कैसी समस्याएँ आती होंगी, इन्हें बिजली-पानी, टॉयलेट और अन्य मूलभूत सुविधाएं मिल रही होंगी या नहीं. हम सिर्फ अपने बारे में सोचते हैं, फरीदाबाद की जनता को अगर कोई समस्या होती है तो वो पार्षदों, विधायकों और अन्य नेताओं के पास पहुँच जाती है लेकिन फरीदाबाद के पुलिसकर्मी अपनी समस्याएँ लेकर नेताओं के पास नहीं जा सकते, खैर कल पुलिस कमिश्नर ने पुलिसकर्मियों का दर्द महसूस किया और इनके लिए जनता दरबार लगाकर इनकी समस्याएँ सुनीं, यही नहीं सीपी ने समस्याओं के समाधान के आदेश भी दिए.

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने कल पुलिस लाइन सेक्टर 31 फरीदाबाद में वेलफेयर मीटिंग का आयोजन कर फरीदाबाद पुलिसकर्मियों की समस्याएं सुनी। वेलफेयर मीटिंग में  पुलिस आयुक्त संजय कुमार के अलावा डीसीपी विक्रम कपूर, डीसीपी लोकेंद्र कुमार एवं एसीपी  साकिर हुसैन, एसीपी  देवेंद्र कुमार,  आत्माराम, थाना प्रभारी, चौकी इंचार्ज के अलावा क्राइम यूनिट एवं पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन की तरफ से शमशेर सिंह, जेई एवं अन्य मौजूद पुलिसकर्मी ने इस मीटिंग में हिस्सा लिया। पुलिस आयुक्त ने मीटिंग में मौजूद सभी पुलिस कर्मचारियों से एक-एक कर उनकी समस्याएं सुनी।

पुलिसकर्मियों ने पुलिस आयुक्त को बताया की कुछ थानों में एवं चौकी में वाटर कूलर, सोने के लिए बेड, बाथरूम, वाइटवॉश, एवं कुछ थाना चौकी की बिल्डिंगों में मरम्मत की जरूरत है, और बारिश में पानी भी इकट्ठा होता है। जिस पर पुलिस आयुक्त ने तुरंत प्रभाव से बिल्डिंग की मरम्मत कराने, बाथरूम बनवाने एवं वाइटवॉश कराने के लिए पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन को आदेश दिए जिस पर जल्द ही कार्रवाई शुरू की जाएगी।

पुलिस लाइन में रह रहे लोगों ने पुलिस आयुक्त से खेल कंपलेक्स बनवाने का आग्रह किया और बताया की पुलिस लाइन में कई जगह बारिश में पानी भरता है एवं जो पहले से सीवर बिछे हुए हैं वह ओवरफ्लो हो जाते हैं जिसके कारण बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जिस पर पुलिस आयुक्त ने उनको बताया की समस्या का समाधान जल्द ही किया जाएगा और खेल कंपलेक्स के लिए पहले से ही पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन को लेटर जारी किया जा चुका है।

मीटिंग में मौजूद सभी पुलिसकर्मियों को पुलिस आयुक्त ने बताया कि एचडीएफसी बैंक के साथ हरियाणा पुलिस का जो कॉन्टैक्ट है उसे 3 साल और बढ़ाया गया है आप सभी अपने खाते एच डी एफ सी बैंक में खुलवाए क्योंकि एचडीएफसी बैंक एक्सीडेंटल केस में ₹3000000 की राशि पुलिसकर्मी को देता है और हरियाणा की एसटीएफ में तैनात पुलिसकर्मी को दुर्घटना होने पर ₹5000000 की राशि दी जाती है। पुलिस आयुक्त श्री संजय कुमार ने बताया कि पुलिसकर्मी की 24 घंटे ड्यूटी होती है जिसके चलते उनकी कुछ ऐसी छोटी-छोटी समस्याएं होती हैं जिनको वह किसी को नहीं बता पाता है। उन्होंने सभी समस्याओं के लिए वेलफेयर मीटिंग रखी गई है ताकि पुलिसकर्मी मेरे सम्मुख अपनी समस्या को पेश कर सके और उनका समाधान हो सके।

पुलिस प्रवक्ता खुबे सिंह ने बताया की पुलिस आयुक्त महोदय ने कहा कि सभी थाना चौकी इंचार्ज अपने अधीन पुलिसकर्मियों के साथ अच्छे से बर्ताव करें और उनकी समस्या को समझे, उन्होंने कहा कि अगर किसी भी पुलिस कर्मचारी को किसी भी तरह की कोई समस्या है तो वह मुझे प्रतिदिन सुबह 10:00 बजे से 11:00 बजे के बीच मे मिल सकते है।

गीता जयंती महोत्सव मनाने के लिए फरीदाबाद प्रशासन तैयार, DC ने की अधिकारियों के साथ बैठक

faridabad-deputy-commissioner-atul-kumar-meeting-for-geeta-jayanti

फरीदाबाद, 12 दिसंबर। उपायुक्त अतुल कुमार ने कहा कि जिला में 16 से 18 दिसंबर तक जिला स्तरीय गीता जयंती महोत्सव का आयोजन सेक्टर-12 स्थित हुडा कन्वेंशन सेंटर में किया जाएगा। जिला स्तर पर आयोजित इस महोत्सव को लोगों के सहयोग से धूमधाम व श्रद्धापूर्वक मनाया जाएगा।

उपायुक्त बुधवार को लघु सचिवालय के सभागार में गीता जयंती महोत्सव की तैयारियों के संबंध में विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा धार्मिक व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि गीता जयंती महोत्सव में तीनों दिन तक हुडा कन्वेंशन सेंटर में विभिन्न कार्यक्रम व सेमिनार आयोजित होंगे। इसके अलावा तीनों दिन तक धार्मिक व सामाजिक संगठनों के साथ सरकारी विभागों द्वारा भव्य प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जाएगा, जिसमें लोगों को रोचक जानकारी के साथ-साथ सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा तीनों दिन गीता के संदेश व जीवन दर्शन पर सेमिनार का आयोजन होगा। पहले दिन दोपहर 12 बजे प्रदर्शनी व कार्यक्रम का शुभारंभ होगा व दोपहर बाद तीन से चार बजे तक शिक्षा विभाग की ओर से सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। इसी प्रकार दूसरे दिन प्रात: 10 बजे से 6 बजे तक प्रदर्शनी व दोपहर बार 3 से 4 बजे तक सेमिनार तथा सायं 6 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इसी प्रकार तीसरे दिन सुबह 10 से 6 बजे तक प्रदर्शनी व 10 से दोपहर 12 बजे तक विभिन्न संस्थाओं की ओर से सेमिनार तथा 12 से 12.15 बजे तक वैश्विक गीता मंत्रोच्चारण तथा दोपहर बाद 2 बजे से नगर शोभा यात्रा निकाली जाएगी, जो शहर के विभिन्न मार्गों से गुजरेगी। उपायुक्त ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने विभाग से संबंधित जिम्मेवारियों का तत्परता के साथ निवर्हन करें।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त जितेंद्र दहिया, एसडीएम फरीदाबाद सतबीर मान, एसडीएम बल्लभगढ़ राजेश कुमार, एसडीएम बडख़ल अजय चोपड़ा, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के संपदा अधिकारी अमरदीप जैन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व धार्मिक व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

पन्हेड़ा गाँव को खोदकर खनन माफियाओं ने बना दिया खँडहर, गिर सकते हैं बिजले के खंभे: LN पाराशर

advocate-ln-parashar-vizit-panhera-village-prithla-faridabad-khanan

फरीदाबाद: शहर के पृथला विधानसभा क्षेत्र के पन्हेड़ा गांव में खनन माफिया उपजाऊ जमीन पर जमकर कई कई फ़ीट खनन कर मिट्टी निकालकर ईंट भट्टे वालों को बेंच रहे हैं और कृषि योग्य भूमि को बंजर बना रहे हैं। ये कहना है बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर का जिन्होंने बुधवार पन्हेड़ा गांव के आस पास का दौरा किया और कई खुलासे किये। वकील पाराशर का कहना है कि गांव के आस पास की सैकड़ों एकड़ पर कई कई फ़ीट तक खनन हुआ है और कई जगहों में नियम से ज्यादा मिट्टी खोदी गई है। वकील पाराशर ने कहा कि ये सब खनन विभाग के अधिकारियों की मिली भगत से हो रहा है।

उन्होंने कहा कि खनन गांव के आस पास तय मानकों से ज्यादा खुदाई हुई है और कृषि योग्य भूमि पर खुदाई हुई है और किसानों को पैसों का लालच देकर उनकी जमीन को अधिक गहराई तक खोद वहां से मिट्टी निकाली गई है। उन्होंने कहा कि पन्हेड़ा के आस पास 50 से ज्यादा ईंट भट्ठों पर इस मिट्टी को एकत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि हाल में मैंने जंवा के अवैध खनन का मामला उठाया था जिसके बाद खनन विभाग ने दो मामले दर्ज करवाए थे लेकिन खनन माफिया अब भी नहीं सुधरे और अब भी खनन जारी है।

उन्होंने कहा कि मैंने कई जगहों पर कई कई फ़ीट की गहराई तक खनन देखे और यहाँ खनन करने वालों ने ऐसा खनन किया है कि कई बिजली के खम्भे कभी भी गिर सकते हैं और बड़ी घटना घट सकती है। वकील पाराशर ने कहा कि ऐसे ही अवैध खनन जारी रहा तो मैं खनन विभाग के अधिकारियों पर मामला दर्ज करवाऊंगा।

पलवली गाँव में सुमेश चंदीला और अन्य पर धोखाधड़ी से जमीन हड़पने का आरोप, CP को दी गयी शिकायत, पढ़ें

tekchand-accused-sumesh-dhandila-and-others-for-cheating-land-palwali-village

फरीदाबाद: पलवली गाँव के रहने वाले टेकचंद सैनी सहित आज सैकड़ों लोगों ने फरीदाबाद सेक्टर-12 डीसी ऑफिस के बाहर धरना प्रदर्शन किया और बुढ़ेना गाँव निवासी सुमेश चंदीला और 12 अन्य पर धोखाधड़ी से जमीन हड़पने का आरोप लगाया. इस दौरान पुलिस प्रशासन से कार्यवाही की मांग की गयी और आरोपियों के खिलाफ हाय हाय के नारे भी लगाए गए.


शिकायतकर्ता टेकचंद सैनी ने आज पुलिस कमिश्नर और खेड़ी-पुल थाना प्रभारी को लिखित शिकायत दी है और वीडियो स्टेटमेंट में अपनी जान को खतरा बताया है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से पलवली में एक मामले में पूरे परिवार को मार दिया गया था, उसी प्रकार से हमें भी पूरे परिवार सहित मारा जा सकता है इसलिए पुलिस कमिश्नर इस मामले में तुरंत कार्यवाही करें और हमें न्याय दिलाएं.

आरोपियों का विवरण
  1. हरेन्द्र पुत्र वीरेन्द्र सिंह, फरीदाबाद
  2. मुजफ्फर हसन पुत्र अमीर हसन, फरीदाबाद
  3. खेरू, पुत्र अव्वन हसन, निवासी - गाँव कुंडा, सहारनपुर, यूपी
  4. सत्तार, पुत्र अव्वन हसन, निवासी - गाँव कुंडा, सहारनपुर, यूपी
  5. जीमल, पुत्र अव्वन हसन, निवासी - गाँव कुंडा, सहारनपुर, यूपी
  6. शेरू, पुत्र अव्वन हसन, निवासी - गाँव कुंडा, सहारनपुर, यूपी
  7. निसार, पुत्र अव्वन हसन, निवासी - गाँव कुंडा, सहारनपुर, यूपी
  8. गफ्फार. पुत्र अव्वन हसन, निवासी - गाँव कुंडा, सहारनपुर, यूपी
  9. हल्का पटवारी मौजा पलवली फरीदाबाद
  10. उप्संयुक्त पंजीयन अधिकारी तहसील तिगांव, फरीदाबाद
  11. उप्संयुक्त पंजीयन अधिकारी फरीदाबाद
  12. सुमेश चंदीला निवासी गाँव बुढेना
  13. वर्तमान हल्का पटवारी मौजा पलवली, फरीदाबाद 

शिकायतकरता ने बताया कि उन्होंने करीब 9 कैनाल 11 मरले जमीन अव्वन हसन से खरीदी थी जो अव्वन हसन ने फ्रॉड करके बेची थी, उसके बाद ये जमीन आजादी के बाद पंजाबी विस्थापित भज्जन लाल को अलोट कर दी. उसके बाद अव्वन हसन ने फिर से इस जमीन पर दावा ठोंका और कोर्ट में भज्जन लाल के खिलाफ केस लड़ा लेकिन हार गये. उसके बाद शिकायतकर्ता की तरफ से भी भज्जन लाल के खिलाफ 20 साल तक कोर्ट में केस लड़ा गया लेकिन हार गए. उसके बाद उनका भज्जन लाल से उनका राजीनामा हो गया और उन्होंने यह जमीन खरीद ली, एक तरह से यह जमीन पीड़ित पक्ष द्वारा दो बार खरीदी गयी, एक बार अव्वन हसन से और दूसरी बार भज्जन राम से.

शिकायतकर्ता ने बताया कि उन्होंने दो बार जमीन खरीदी और जमीन पर उनका कई दशकों से कब्जा है उसके बाद भी अव्वन हसन और उसके बेटों ने धोखाधड़ी करके यह जमीन सुमेश चंदीला को बेच दी जिसमें तहसील के कुछ अधिकारियों ने भी साथ दिया. अतः इनके खिलाफ FIR दर्ज की जाय. शिकायत की पूरी जानकारी नीचे दी गयी है.








इस्पेक्टर सुरेश भड़ाना को पुलिस कमिश्नर ने किया सम्मानित, पढ़ें क्या है वजह

faridabad-police-commissioner-sanjay-kumar-awarded-insp-suresh-bhadana

फरीदाबाद: पलवल क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर सुरेश  भड़ाना को आज फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने सम्मानित किया। 

इंस्पेक्टर सुरेश भड़ाना को एक बड़ा मामला सुलझाने के मामले में सम्मानित किया गया।

आपको बता दें इंस्पेक्टर सुरेश भड़ाना फरीदाबाद में भी काफी समय तक सेवायें दे चुके हैं। कोतवाली, भूपानी थाने के निरीक्षक के अलांवा बड़खल क्राइम ब्रांच में भी वो अपनी सेवायें दे चुके हैं  और कई बड़े मामले सुलझा चुके हैं। 

इस मौके पर कई बड़े पुलिस अधिकारी और फरीदाबाद इंड्रस्ट्रीज एसोशिएशन के कई पदाधिकारी मौजूद थे।

3 राज्यों में कांग्रेस की जीत से झूम उठे सुमित गौड़, बोरिया बिस्तर समेट लें फरीदाबाद के BJP नेता

 faridabad-congress-leader-sumit-gaud-happy-congress-win-election-in-3-state

फरीदाबाद: छत्तीसगढ़ में शानदार जीत और मध्य प्रदेश राजस्थान में अच्छे प्रदर्शन से खुश होकर फरीदाबाद के कांग्रेसी नेता सुमित कौर ने आज अपने दफ्तर के बाहर जश्न मनाया, सैकड़ों कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में ढोल नगाड़े बजाए गए एक दूसरे का मुंह मीठा किया गया.

जीत से उत्साहित होकर कांग्रेसी नेता सुमित गौड़ अपने दफ्तर के सामने ठुमके लगाने लगे.

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से 3 राज्यों में कांग्रेस पार्टी की जीत हुई है उसी तरह से आने वाले लोकसभा चुनाव में भी पार्टी की जीत होगी और 2019 में राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेंगे.

उन्होंने फरीदाबाद के भाजपा नेताओं को अपना बोरिया बिस्तर समेटने की सलाह देते हुए कहा आने वाले विधानसभा चुनाव में 6 की 6 सीटों पर कांग्रेस पार्टी की जीत होगी.

सुमित गौड़ ने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों से देश की जनता असंतुष्ट है, इसी का जवाब भाजपा को 3 राज्यों के चुनाव में मिला है, हम लोग जीत से उत्साहित हैं और फरीदाबाद में भी इसी तरह से जीत दर्ज करेंगे.

फरीदाबाद में विपुल गोयल के ऑफिस पर पसरा सन्नाटा

faridabad-bjp-leaders-office-closed-after-loosing-election

फरीदाबाद: पांच राज्यों के चुनाव में 3 राज्यों में अच्छे प्रदर्शन के बाद फरीदाबाद के कांग्रेस नेताओं के दफ्तरों पर खुशी का माहौल है और लोग लड्डू बांटने का इंतजार कर रहे हैं जबकि भाजपा नेताओं के दफ्तर पर सन्नाटा पसरा हुआ है.

फोटो में दिख रहा नजारा हरियाणा सरकार के कद्दावर मंत्री विपुल गोयल के दफ्तर का है जहां पर पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ है, ना तो कोई भाजपा कार्यकर्ता दिख रहा है और ना ही कोई भाजपा नेता यहां पर दिखाई दे रहा है इससे साफ जाहिर हो रहा है कि भाजपा नेताओं को भी अपनी पार्टी की हार की पूरी उम्मीद है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जिस तरह से राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा के प्रति एंटी इनकंबेंसी है उसी तरह से फरीदाबाद में भाजपा नेताओं के प्रति एंटी इनकंबेंसी पैदा हो गई है अब अगर भाजपा नेताओं ने तेज रफ्तार से जनता के काम नहीं किए तो आने वाले चुनाव में उनकी विदाई तय है.

सिर्फ अपना विकास कर रहे फरीदाबाद के भाजपा नेताओं को भी आगामी चुनावों में हार का खतरा

faridabad-bjp-leaders-may-also-loss-election-like-chhatisgarh-mp-rajasthan

फरीदाबाद: आज पांच राज्यों में चुनावी नतीजे आ रहे हैं जिसमें तीन राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनती दिख रही है जबकि भाजपा के हाथों से तीन राज्य जाते दिख रहे हैं, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार जाती दिख रही है जबकि मध्य प्रदेश में दोनों पार्टियों के बीच कांटे की टक्कर चल रही है.

इन चुनावी नतीजों से फरीदाबाद के भाजपा नेताओं को भी नींद उड़ेगी क्योंकि तीनों राज्यों में बड़े बड़े मंत्री बड़े बड़े अंतर से हार रहे हैं जबकि निकम्मे विधायकों की जमानत जब्त हो रही है.

फरीदाबाद में कुछ भाजपा विधायकों ने जनता का घर भरने के बजाय अपने अपने घर भरने शुरू कर दिए, अपने अपने बंगले बनाए, अपने घरों के आसपास पार्क बनवा दिए, कई लोगों ने फार्म हाउस, वेंकट हाल, मैरिज हाल और स्कूल बनवा लिए लेकिन फरीदाबाद की जनता इन नेताओं का विकास देख रहे है.

आने वाले चुनावों में अपना विकास कर रहे विधायकों एवं अन्य नेताओं को फरीदाबाद की जनता कड़ा सबक सिखाते हुए इन्हें इनके घर बिठा सकती है.

अब भाजपा नेताओं को सिर्फ काम ही बचा सकता है. जितने भी घोटाले, कब्जखोरी, ग्रीन-बेल्ट पर कब्जा, अवैध खनन और गुंडागर्दी हो रहे है उसे रुकवाना होगा और तेज गति से विकास करना होता, वरना या तो इनका खुद टिकट कटेगा या जनता इन्हें घर बिठा देगी.

प्राइवेट स्कूलों की लूट रोको अभियान पर निकले वकील LN पाराशर, शिकायत मिलने पर दर्ज कराएंगे FIR

advocate-ln-parashar-start-mission-against-private-school-loot-roko-abhiyan

फरीदाबाद: सरकारी स्कूल से तबेला बने एक स्कूल को फिर सरकारी स्कूल में बदलवाने वाले बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर की नजर अब फरीदाबाद के छोटे बड़े सैकड़ों प्राइवेट स्कूलों पर है। वकील पाराशर ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि नगर निगम फरीदाबाद और हुडा की जमीन पर बने दर्जनों निजी स्कूल नियम क़ानून का पालन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे स्कूलों के खिलाफ कार्यवाही की मांग मैंने पीएम से की है क्यू कि हरियाणा के सीएम पर मुझे भरोषा नहीं है क्यू कि पिछले साल उन्होंने अभिभावकों से कहा था कि स्कूल वालों से समझौता कर लो। वकील पाराशर ने कहा कि तमाम निजी स्कूल अभिभावकों से वसूली करते हैं और कॉपी, किताब, जूते जुर्राब और स्कूल ड्रेस जबरन छात्रों को बेंचते हैं।

उन्होंने कहा कि ये मोटी फीस तो लेते ही हैं कई तरह का अवैध शुल्क भी वसूलते हैं। उन्होंने कहा कि तमाम स्कूलों में न खेल की सुविधा न कम्प्युटर रूम सहित कई सुविधाएँ नहीं हैं लेकिन स्कूल वाले छात्रों से सारे शुल्क वसूलते हैं और दाखिले के समय भी मोटा डोनेशन लेते हैं। वकील पाराशर ने कहा कि इनकी मनमानी देख लग रहा है कि सरकार भी इनसे मिली हुई है। उन्होंने फरीदाबाद की जनता से अनुरोध किया कि इस वसूली को रुकवाने में जनता सामने आये और अगर कोई निजी स्कूल अपने स्कूल में कॉपी किताब या अन्य चीजें बेंचे तो मुझे सूचना दें।

वकील पाराशर ने कहा कि जनता अगर मुझे सूचित करेगी तो मैं उन स्कूलों पर जबरन वसूली का मामला दर्ज करवाऊंगा। वकील पाराशर ने कहा कि मुझे सूचना मिली है कि हर घर के लोग इनकी वसूली का शिकार हो रहे हैं और लोग मजबूरन कुछ कर नहीं पाते इसलिए अगर मुझे सूचित करेंगे तो मैं इन पर तुरंत कार्यवाही करवाऊंगा। उन्होंने कहा कि मैं फरीदाबाद की लगभग 25 लाख जनता की भलाई के लिए काम करता हूँ और जनता के साथ हो रही बड़ी लूट खसोट मैं कदापि बर्दाश्त नहीं करूंगा।

देखें वीडियो:

एडवोकेट राजेश खटाना का धूमधाम से मनाया गया जन्मदिन, प्रधान बॉबी रावत ने भी दी बधाई

advocate-rajesh-khatana-birthday-celebration-in-faridabad-court

फरीदाबाद: फरीदाबाद कोर्ट के वरिष्ठ वकील राजेश खटाना का जन्मदिन धूमधाम से मनाया गया. उन्हें बधाई देने वालों का आज उनके चैंबर में तांता लगा रहा. बार एसोसिएशन के प्रधान बॉबी रावत भी उन्हें बधाई देने पहुंचे और उनके साथ केक काट, उनके अलावा कई अन्य वकीलों ने उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं..

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एडवोकेट राजेश खटाना कांग्रेस लीगल सेल हरियाणा के प्रभारी हैं. सुबह NSUI छात्र संगठन के कार्यकर्ता भी उन्हें बधाई देने पहुंचे.

नाबालिक लड़की से गैंगरेप के तीन आरोपियों को कोर्ट ने भेजा नीमका जेल, कल होंगे विशेष अदालत में पेश

nawada-colony-minor-gangrape-case-three-accused-sent-nimka-jail

फरीदाबाद: नवादा कॉलोनी में नाबालिग बच्ची के साथ गैंगरेप के तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें नीमका जेल भेज दिया गया, कल चारों आरोपियों को विशेष कोर्ट में पेश किया जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक आरोपी को पहले ही गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था जबकि एक आरोपी की गिरफ्तारी बकाया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नाबालिक लड़की ने इस मामले में पांच लोगों के नाम लिए हैं - पूर्व उर्फ़ भूत, अनिल, भगत, शकील और आशिक. पूर्व उर्फ़ भूत को पहले ही जेल भेज दिया गया था. शकील, आशिक और भगत को एक दिन की रिमांड में लिया गया था. अनिल की गिरफ्तारी बकाया है और कुछ सामान भी बरामद करने हैं. इस मामले को सुलझाने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने पूरी ताकत झोंक रखी है.

कल पुलिस ने एक प्रेस नोट जारी किया जिसमें वारदात के बारे में कुछ जानकारी दी - पीड़ित लड़की ने बताया कि जब अपने घर जा रही थी तो रोड पर कैंटर ड्राइवर शकील ने उसे रोक कर पूछा कि तुम कहां जा रहे हो रात को, मैने कहा कि मुझे अपने घर जाना है।

शकील ने घर छोड़ने के बहाने से मुझे कैंटर में बिठा लिया थोड़ी देर बाद उसने पूछा कि तुम रात को कहां गई थी उसने मुझे डांटा तब मैंने उसको सच्चाई बता दी। यह सुनकर उसने मदद करने की बजाय मेरे साथ मुझे डरा कर कैन्टर में ही गलत काम किया। उसके बाद उसने अपने एक साथी आशिक को किया फोन करके बुलाया। थोडी ही देर मे उसका दोस्त भी आ गया जिसका नाम आशिक है, उसनें भी अपनी कार मे मेरे साथ गलत काम किया।

पुलिस रिमांड में आरोपी शकील का कबूलनामा

पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी कैंटर चालक शकील ने बताया कि अकेली लड़की को रोड पर देखकर मैंने कैन्टर रोक उससे पूछा कि तुम रात क्यों घूम रहे हो तो लड़की ने बताया कि मुझे अपने घर जाना है, जिसको मैंने अपने कैंटर में बिठा लिया उसके बाद मैंने लड़की को थोड़ा डांटकर पूछा कि रात को कहां गई थी तो लड़की ने डर कर बता दिया कि उसके साथ गलत काम हुआ है। लड़की की बात सुनकर आरोपी शकील ने कहा कि मेरे मन में भी एकदम से बुरे ख्याल आ गए और कैंटर मे ही उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म किया. फिर मैंने फोन करके आशिक को भी बुला लिया और लड़की को उसके हवाले कर दिया था।

आरोपी आशिक का कबूलनामा

आरोपी आशिक ने बताया कि मुझे शकील ने फोन करके कहा कि मैं पैसे में एक लड़की लेकर आया हूं तू आ जा फटाफट, मैं अपनी टैक्सी कार लेकर तुरन्त पहुंचा और लड़की के साथ अपनी कार में ही मैंने भी दुष्कर्म किया। उसके बाद आरोपी शकील पीड़ित लड़की को अपने घर ले गया उसके बाद शकील ने लड़की के पिता को फोन करके बुलाया और लड़की को उसके बाप के हवाले कर दिया था।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि पुलिस रिमांड के दौरान दोनों आरोपियों से कैंटर और अर्टिगा कार बरामद कर ली गई है, फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम को कार में से सैंपल उठाने के लिए बुलाया गया है। पूछताछ और रिमांड खत्म होने के बाद कल आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेजा जाएगा।

अभी यह सामने आना बाकी है कि आरोपी शकील और आशिक द्वारा नाबालिक लड़की के दुष्कर्म से पहले क्या अन्य आरोपी अनिल, भगत और भूत उसके साथ दुष्कर्म कर चुके थे क्योंकि लड़की ने कैंटर चालक से बताया था कि मेरे साथ गलत काम हुआ है. जल्द ही पुलिस पूरे मामले से पर्दा हटाएगी.

ESI अस्पतालों में होगा सबका इलाज, मंत्री विपुल गोयल बोले, गरीबों के लिए संकल्पित है मोदी सरकार

minister-vipul-goel-happy-modi-sarkar-open-esi-hospitals-for-public

फरीदाबाद: कल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के गरीबों और खासकर फरीदाबाद वालों को बहुत बड़ी खुशखबरी सुनाई. मोदी सरकार ने ESI अस्पतालों को सबके लिए खोल दिया है. फरीदाबाद वालों को सबसे बड़ी खुशखबरी है क्योंकि फरीदाबाद में देश का सबसे बड़ा ESI अस्पताल और मेडिकल कॉलेज बना है हालाँकि अभी पूरा सेट-अप नहीं हो पाया है. अगर पूरा सेट-अप हो गया तो यह गरीबों के लिए बहुत बड़ा गिफ्ट होगा.

मोदी सरकार के इस ऐलान से फरीदाबाद के विधायक और हरियाणा के कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने ख़ुशी जताई. उन्होंने ट्विटर पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा - गरीबों को सस्ता और बेहतर इलाज उपलब्ध कराने को संकल्पित है मोदी सरकार, अब कर्मचारी राज्य बीमा निगम देगा गैर-बीमाकृत लोगों को भी मेडिकल सुविधा.



फरीदाबाद की गरीब जनता के लिए बड़ी खुशखबरी है, पहले हमारे शहर में बने ESI हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज में गैर बीमा-धारक इलाज नहीं करवा सकते थे लेकिन अब ESI अस्पतालों में गैर-बीमा धारक भी इलाज करवा सकते हैं.

ईलाज के लिए कुछ शर्तें
  1. गैर बीमा-धारकों को OPD में ईलाज के लिए 10 रुपये की फीस देनी पड़ेगी
  2. भर्ती होने पर CGHC पैकेज का 25 फ़ीसदी फीस देनी होगी
  3. दवाइयाँ वास्तविक कीमत पर उपलब्ध करवाई जाएगी

मोदी सरकार की स्कीम के तहत ESI में ईलाज के लिए मामूली फीस देनी पड़ेगी और उचित रेट पर दवाइयाँ भी उपलब्ध करवाई जाएंगी. ESI अस्पतालों में स्टाफ भी बढाया जाएगा - सामाजिक सुरक्षा अधिकारी, बीमा चिकित्सा अधिकारी, इंजीनियर, अध्यापक, पैरामेडिकल और नर्सिंग कैडर, यूडीसी और स्टेनोग्राफर जैसे 5200 पदों को भरने की प्रक्रिया जारी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ESI अस्पतालों में सिर्फ प्राइवेट संस्थाओं में काम करने वाले कर्मचारियों और उनके परिवार के इलाज की मंजूरी है. अन्य लोग ESI अस्पतालों में इलाज नहीं करवा सकते थे लेकिन मोदी सरकार के फैसले के बाद अब अन्य लोग भी ESI अस्पतालों में इलाज करवा सकते हैं.

नवादा कॉलोनी गैंगरेप केस में पुलिस ने किया खुलासा, आरोपी शकील और आशिक ने किया कबूलनामा, पढ़ें

nawada-colony-faridabad-minor-gangrape-nit-women-police-statement

फरीदाबाद: नवादा कॉलोनी में 13 साल की नाबालिक लड़की से गैंगरेप केस में आज फरीदाबाद पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है, पुलिस ने बताया है कि नाबालिक बच्ची के साथ किस तरह से जानवरों जैसा सुलूक किया गया और दरिंदगी की गयी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नाबालिक लड़की ने इस मामले में पांच लोगों के नाम लिए हैं - पूर्व उर्फ़ भूत, अनिल, भगत, शकील और आशिक. पूर्व उर्फ़ भूत को पहले ही जेल भेज दिया गया है. शकील, आशिक और भगत को एक दिन की रिमांड में लिया गया है. अनिल की गिरफ्तारी बकाया है और कुछ सामान भी बरामद करने हैं. इस मामले को सुलझाने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने पूरी ताकत झोंक रखी है.

पुलिस ने अपने प्रेस नोट में जिक्र किया है - पीड़ित लड़की ने बताया कि जब अपने घर जा रही थी तो रोड पर कैंटर ड्राइवर शकील ने उसे रोक कर पूछा कि तुम कहां जा रहे हो रात को, मैने कहा कि मुझे अपने घर जाना है।

शकील ने घर छोड़ने के बहाने से मुझे कैंटर में बिठा लिया थोड़ी देर बाद उसने पूछा कि तुम रात को कहां गई थी उसने मुझे डांटा तब मैंने उसको सच्चाई बता दी। यह सुनकर उसने मदद करने की बजाय मेरे साथ मुझे डरा कर कैन्टर में ही गलत काम किया। उसके बाद उसने अपने एक साथी आशिक को किया फोन करके बुलाया। थोडी ही देर मे उसका दोस्त भी आ गया जिसका नाम आशिक है, उसनें भी अपनी कार मे मेरे साथ गलत काम किया।

पुलिस रिमांड में आरोपी शकील का कबूलनामा

पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी कैंटर चालक शकील ने बताया कि अकेली लड़की को रोड पर देखकर मैंने कैन्टर रोक उससे पूछा कि तुम रात क्यों घूम रहे हो तो लड़की ने बताया कि मुझे अपने घर जाना है, जिसको मैंने अपने कैंटर में बिठा लिया उसके बाद मैंने लड़की को थोड़ा डांटकर पूछा कि रात को कहां गई थी तो लड़की ने डर कर बता दिया कि उसके साथ गलत काम हुआ है। लड़की की बात सुनकर आरोपी शकील ने कहा कि मेरे मन में भी एकदम से बुरे ख्याल आ गए और कैंटर मे ही उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म किया. फिर मैंने फोन करके आशिक को भी बुला लिया और लड़की को उसके हवाले कर दिया था।

आरोपी आशिक का कबूलनामा

आरोपी आशिक ने बताया कि मुझे शकील ने फोन करके कहा कि मैं पैसे में एक लड़की लेकर आया हूं तू आ जा फटाफट, मैं अपनी टैक्सी कार लेकर तुरन्त पहुंचा और लड़की के साथ अपनी कार में ही मैंने भी दुष्कर्म किया। उसके बाद आरोपी शकील पीड़ित लड़की को अपने घर ले गया उसके बाद शकील ने लड़की के पिता को फोन करके बुलाया और लड़की को उसके बाप के हवाले कर दिया था।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि पुलिस रिमांड के दौरान दोनों आरोपियों से कैंटर और अर्टिगा कार बरामद कर ली गई है, फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम को कार में से सैंपल उठाने के लिए बुलाया गया है। पूछताछ और रिमांड खत्म होने के बाद कल आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेजा जाएगा।

अभी यह सामने आना बाकी है कि आरोपी शकील और आशिक द्वारा नाबालिक लड़की के दुष्कर्म से पहले क्या अन्य आरोपी अनिल, भगत और भूत उसके साथ दुष्कर्म कर चुके थे क्योंकि लड़की ने कैंटर चालक से बताया था कि मेरे साथ गलत काम हुआ है. जल्द ही पुलिस पूरे मामले से पर्दा हटाएगी.

मोदी सरकार का एक और धमाका, ESI हॉस्पिटल में अब गैर बीमा-धारक भी करवा सकेंगे इलाज, पढ़ें कैसे

modi-sarkar-open-esi-hospitals-for-common-people-after-10-rs-opg-charge

फरीदाबाद: फरीदाबाद की गरीब जनता के लिए बड़ी खुशखबरी है, हमारे शहर में ESI हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज का बहुत बड़ा स्वास्थय केंद्र है लेकिन गैर बीमा-धारक इस अस्पताल में इलाज नहीं करवा सकते थे जिसकी वजह से गैर ESI-बीमाधारक लोग अस्पताल की ऊंची ईमारत और साफ़ सफाई देखकर ललचाते थे लेकिन अब मोदी सरकार ने धमाकेदार फैसला किया है. अब ESI अस्पतालों में गैर-बीमा धारक भी इलाज करवा सकते हैं.

ईलाज के लिए कुछ शर्तें
  1. गैर बीमा-धारकों को OPD में ईलाज के लिए 10 रुपये की फीस देनी पड़ेगी
  2. भर्ती होने पर CGHC पैकेज का 25 फ़ीसदी फीस देनी होगी
  3. दवाइयाँ वास्तविक कीमत पर उपलब्ध करवाई जाएगी

मोदी सरकार की स्कीम के तहत ESI में ईलाज के लिए मामूली फीस देनी पड़ेगी और उचित रेट पर दवाइयाँ भी उपलब्ध करवाई जाएंगी. ESI अस्पतालों में स्टाफ भी बढाया जाएगा - सामाजिक सुरक्षा अधिकारी, बीमा चिकित्सा अधिकारी, इंजीनियर, अध्यापक, पैरामेडिकल और नर्सिंग कैडर, यूडीसी और स्टेनोग्राफर जैसे 5200 पदों को भरने की प्रक्रिया जारी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ESI अस्पतालों में सिर्फ प्राइवेट संस्थाओं में काम करने वाले कर्मचारियों और उनके परिवार के इलाज की मंजूरी है. अन्य लोग ESI अस्पतालों में इलाज नहीं करवा सकते थे लेकिन मोदी सरकार के फैसले के बाद अब अन्य लोग भी ESI अस्पतालों में इलाज करवा सकते हैं.

फरीदाबाद को सबसे प्रदूषित शहर बनाने के लिए अधिकारी जिम्मेदार, LN पाराशर ने भेजा पीएम मोदी को पत्र

advocate-ln-parashar-compaint-faridabad-officer-pm-modi-pollution

फरीदाबाद: कैंसर, सिर दर्द यहाँ के लोगों के लिए आम बीमारी हो गई है और कई ऐसे परिवार हैं जिन्हे कोई न कोई दवा खाये बिना नींद नहीं आती। लोगों का कहना है कि बस्ती के बीच बनी कुछ अवैध फैक्ट्रियों ने उनका जीना हराम हो गया है। रविवार को स्थानीय लोगों ने बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर से गुहार लगा कि वो लोगों की समस्या का समाधा करवाएं। 

मौके पर पहुंचे वकील पाराशर ने बताया कि बल्लबगढ़ के पास सेक्टर दो के हजारों लोग इन अवैध फैक्ट्रियों से परेशान हैं। उन्होंने बताया कि यहाँ लगभग एक दर्जन अवैध फैक्ट्रियों हैं जो जमकर प्रदूषण फैलाती हैं। वकील पाराशर ने बताया कि कई फैक्ट्रियों के सरेआम प्लास्टिक के सामान जलाये जाते हैं उन्होंने कहा कि इन फैक्ट्रियों का धुंआ पूरे फरीदाबाद को प्रदूषित कर रहा है। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों ने उन्हें बताया कि सेक्टर दो से सटी रघुवीर कालोनी में ये फैक्ट्रियां चल रहीं हैं जहाँ कई लोगों ने शेड बना किराए पर दे दिया है और मोटा किराया वसूल रहे हैं। वकील पाराशर ने बताया कि बस्ती के बीचोंबीच चल रहे ये छोटे उद्योग वाले प्रदूषण विभाग की मिलीभगत से बड़ा खेल खेल रहे हैं और कई हजार लोगों का इन्होने जीना हराम कर रखा है। 

स्थानीय निवासी ने बताया कि उनका परिवार हर रोज हेडक की दवाई खाकर सोता है। उन्होंने कहा कि मैंने सीएम ही नहीं फरीदाबाद के जिला अधिकारी, प्रदूषण विभाग के अधिकारी, एसडीएम से कई बार इसकी शिकायत की लेकिन कोई कारवाही नहीं की गई। उन्होंने अधिकारियों पर आरोप लगाया कि शिकायत के बाद जो अधिकारी यहाँ आते हैं वो यहाँ से मंथली वसूली शुरू कर देते हैं।  उन्होंने कहा कि यहाँ के लोग कैंसर जैसी बीमारी से परेशान हैं। सुबह सोकर उठते ही फैक्ट्रियों के धुंए की राख उनके छत पर बिछी दिखती है। उन्होंने बताया कि लोग मंहगे रेट पर यहाँ जमीन लेकर मकान बनाये हैं लेकिन यहाँ रहना दूभर हो गया है। 

स्थानीय लोगों की समस्या देख वकील पराशर ने प्रदूषण विभाग के अधिकारीयों पर बड़ी लापरवाही का आरोप लगाया और कहा कि फरीदाबाद को सबसे प्रदूषित शहर बनाने में इन्ही अधिकारियों का योगदान है। उन्होंने कहा इन्ही अधिकारियों की मिलीभगत से यहाँ के हजारों लोगों का जीना हराम हो गया है और लोग बीमार पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदूषण विभाग और शहर के अन्य अधिकारियों के खिलाफ मैं पीएम को पत्र लिख रहा हूँ और इन अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग करूंगा।

नवादा कॉलोनी नाबालिग से गैंगरेप के 3 आरोपियों को 1 दिन की पुलिस रिमांड, होगी पूछताछ

nawada-colony-gangrape-three-accused-send-police-remand-nit-police

फरीदाबाद 9 दिसंबर: फरीदाबाद पुलिस के हाथों से अपराधियों का बचना मुश्किल है अपराधी बचने का कितना भी प्रयास कर ले लेकिन उन्हें उनके बुरे कर्मों की सजा मिलती है. नवादा कॉलोनी में नाबालिग से हुए गैंगरेप में महिला थाना एनआईटी पुलिस ने तीन और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. आज तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करके उनकी रिमांड मांगी गई जिस पर कोर्ट ने 1 दिन की रिमांड दी, आरोपियों से पूछताछ कर पुलिस इस मामले के चौथे आरोपी को गिरफ्तार करने का प्रयास करेगी साथ ही कैंटर और और एक अन्य वाहन बरामद करेगी.
  1. गिरफ्तार आरोपी शकील अहमद पुत्र यसुफ निवासी फरीदाबाद जो कैंटर चलाता है विवाहित है और बाल बच्चे दार है।
  2. दूसरा आरोपी आशिक पुत्र इलियास निवासी फरीदाबाद जो टैक्सी चलाता है बालिग है लेकिन अविवाहित है। 
  3. तीसरा आरोपी हरि भगत पुत्र सुभाष विवाहित है और दुकान चलाता है। 
आरोपी पूर्व उर्फ़ अंकित उर्फ भूत पहले किया जा चुका था गिरफ्तार जिसका 5 दिन का पुलिस रिमांड पूरा होने पर कल जेल भेजा गया है। पीड़ित लड़की ने कल कुछ और नामों का खुलासा किया। इस संबंध में जज के सम्मुख पीडि़ता के दोबारा बयान कराए गए और उसके आधार पर 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 

आज कोर्ट में पेशी के दौरान आरोपियों के वकीलों की तरफ से तमाम बातें रखी गई लेकिन ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने तीनों आरोपियों को 1 दिन की पुलिस रिमांड में भेजने का आदेश दिया.

CIA-30, टीम-विमल ने बलराज भाटी के खास आदमी एवं 50,000 के ईनामी बदमाश दीपक को भेजा नीमका जेल

cia-sector-30-vimal-kumar-team-arrested-balraj-bhati-gang-member-deepak

फरीदाबाद 9 दिसंबर: फरीदाबाद पुलिस की अपराध शाखा 30 ने 50000 के इनामी बदमाश दीपक को गिरफ्तार कर लिया है. आज उसे कोर्ट में पेश करके न्यायिक हिरासत में नीमका जेल भेज दिया गया. दीपक खतरनाक बलराज भाटी गैंग से संबंध रखता था और कई मामलों में शामिल था.

पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर एवं पुलिस उपायुक्त अपराध लोकेंद्र सिंह के दिशा निर्देश पर कार्यवाही करते हुए अपराध शाखा सेक्टर 30 की टीम ने कुख्यात बलराज भाटी गैंग के गुर्गे एवं 50000 की इनामी बदमाश दीपक को गिरफ्तार किया है.

वारदात की डिटेल

दीपक ने दिसंबर 2015 में बल्लभगढ़ क्षेत्र में डीजे पर नाच रहे एक व्यक्ति पर ताबड़तोड़ गोली चला कर उसे गोलियों से भून दिया गया था जिस पर दीपक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया गया था, इस मामले में दीपक फरार चल रहा था जिस पर हरियाणा के डीजीपी ने 50000 का इनाम घोषित कर रखा था.

आपराधिक मामलों की डिटेल

1. मुकदमा नंबर 881, दिनांक 6.12.2015, धारा 302 307 थाना शहर बल्लभगढ़
2. मुकदमा नंबर 826, दिनांक 8.12.2018, धारा 25-54-59 आर्म्स एक्ट थाना सराय ख्वाजा फरीदाबाद

इस वारदात की जांच अपराध शाखा सेक्टर 30 फरीदाबाद द्वारा उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार अमल मेंं लाई और आरोपी को गिरफ्तार किया गया.

आरोपी का विवरण

दीपक पुत्र वीरेंद्र निवासी गांव शहराला थाना सदर पलवल जिला पलवल.

पुलिस कार्यवाही की डिटेल

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि सन 2015 में बल्लभगढ़ में एक शादी समारोह में एक व्यक्ति से कहासुनी होने पर दीपक ने उसको गोलियों से भून दिया था. इस वारदात के बाद दीपक बलराज भाटी गैंग में शामिल हो गया और बलराज भाटी के साथ घूमने लगा. सन 2017 में फरीदाबाद व गुरुग्राम अपराध शाखा ने खांडसा गांव में एनकाउंटर किया था जिसमें आरोपी दीपक एवं बलराज भाटी मौका से भाग गए थे जिसमें जयवीर को गोली लगी थी.

कुछ महीनों पहले बलराज भाटी पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था जबकि दीपक 2015 फरार चल रहा था लेकिन क्राइम ब्रांच 30 के प्रभारी इंस्पेक्टर विमल कुमार और उनकी टीम ने उसे गिरफ्तार करके जेल भेज दिया.

पुलिस टीम की डिटेल

इंस्पेक्टर विमल कुमार, प्रधान सिपाही बलवीर, सिपाही सोमबीर, प्रधान सिपाही यशपाल और प्रधान सिपाही  संदीप.

Creta कार लूट केस, आरोपी सौरभ ने CP को दी शिकायत में CIA पर लगाए गंभीर आरोप, CIA ने दी सफाई

creata-car-loot-case-accused-saurabh-complaint-cia-sector-30-team

फरीदाबाद: कुछ महीनें पहले Creta कार लूट का एक मामला सामने आया था. कुछ लड़कों ने अपना शौक पूरा करने के लिए सेक्टर-16 के सेकंड हैण्ड कार डीलर भारतभूषण से Creta कार लूटने की योजना बनायी और इसे सफलतापूर्वक अंजाम दिया लेकिन सेक्टर-30 क्राइम ब्रांच ने साइबर सेल की मदद से दो आरोपियों को दबोच लिया और लूट केस में दोनों को अन्दर भेज दिया.

गिरफ्तार आरोपियों में से एक सौरभ BSC मेडिकल साइंस का छात्र था और दूसरा योगेश पलवल निवासी था. योगेश सौरभ का दोस्त था. क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद Creta कार भी बरामद कर ली थी. आरोपी सौरभ ने पूछताछ में बताया कि उसनें अपनी गर्लफ्रेंड को घुमाने के लिए अपने दोस्त की मदद से Creta कार लूटी थी.

कैसे दिया था वारदात को अंजाम

सेकंड हैण्ड कार डीलर भारत भूषण ने Creta कार बेचने के लिए ऑनलाइन शोपिंग साईट पर जानकारी डाली हुई थी, सौरभ और योगेश ने वहीँ से उसका नंबर हासिल किया और कार खरीदने की इक्षा जताई, इसके बाद टेस्ट ड्राइव के लिए कार को सेक्टर-12 मंगवा लिया, सौरभ BSC मेडिकल साइंस का छात्र था इसलिए उसे नशीली दवाइयों की जानकारी थी, उसनें दो गोलियां योगेश को दीं, योगेश ने कोल्डड्रिंक खरीदी और गोलीयों को कोल्डड्रिंक में डाल दिया. कार डीलर भारतभूषण ने ड्राईवर चन्दन को कार लेकर सेक्टर-12 भेजा था, योगेश ने कार में बैठकर चन्दन को कोल्डड्रिंक पिलाई और उसके बेहोश होने के बाद खुद कार चलाने लगा, इसके बाद योगेश ने बाईपास पर गाँव कैली के पास चन्दन को कार से नीचे फेंक दिया और कार लेकर फरार हो गया. होश में आने के बाद चन्दन ने पुलिस को सूचन देकर FIR दर्ज करवाई. इसकी जांच क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 को सौंपी गयी. पुलिस ने साइबर सेल की मदद से पहले सौरभ को गिरफ्तार किया और उसके बाद योगेश भी अरेस्ट किया गया.

देखिये FIR 390, थाना सेंट्रल की पूरी डिटेल

photo-fir-no-390

इस FIR के चार दिन बाद आरोपी सौरभ के खिलाफ सेक्टर-7 थाने में एक और FIR दर्ज की गयी - FIR-310, Date -14/04/2018. थाना - सेक्टर - 7.

दूसरे मामले को आरोपी सौरभ के पिता ने फर्जी बताया और इसकी शिकायत पुलिस कमिश्नर को दी है.

आरोपी सौरभ के पिता ने CIA-30 के खिलाफ CP को दी शिकायत

अब इस मामले में नया मोड़ आ गया है. इस मामले में मुख्य आरोपी सौरभ के पिता ने पुलिस कमिश्नर को क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 के खिलाफ शिकायत दी हैं. जिसका विवरण नीचे दिया गया है.




जैसा कि उपरोक्त शिकायत में लिखा है कि क्राइम ब्रांच ने BSC मेडिकल साइंस के छात्र को झूठे केस में फंसाया. अगर ये सच है तो -
  • क्या Creta कार लूट की बात गलत है, 
  • क्या ड्राईवर चन्दन को बेहोश करके कार से नीचे फेंकने की बात भी गलत हैं
  • क्या Creta कार की बरामदगी भी गलत है
  • क्या योगेश का इस मामले में शामिल होने की बाद भी गलत है
  • तो फिर सौरभ ने इस मामले में योगेश का नाम क्यों लिया जिसके बाद ही क्राइम ब्रांच ने उसे गिरफ्तार किया था
फिलहाल इस मामले की जांच ACP क्राइम द्वारा की जा रही है, जब इस मामले में CIA सेक्टर-30 क्राइम ब्रांच के पूर्व प्रभारी संदीप मोर से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि हमारी टीम ने कोई गलत काम नहीं किया है. कार लूट का मामला सही है. आरोपी खुद को बचाने के लिए क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 (पूर्व स्टाफ पर) पर फर्जी आरोप लगा रहे हैं.

NIT महिला थाना पुलिस का जबरदस्त एक्शन, नाबालिग से गैंगरेप के 3 और आरोपी दबोचे गए

nit-women-thana-police-arrested-3-accused-minor-gangrape-case

फरीदाबाद 9 दिसंबर: फरीदाबाद पुलिस के हाथों से अपराधियों का बचना मुश्किल है अपराधी बचने का कितना भी प्रयास कर ले लेकिन उन्हें उनके बुरे कर्मों की सजा मिलती है. नवादा कॉलोनी में नाबालिग से हुए गैंगरेप में महिला थाना एनआईटी पुलिस ने तीन और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

आरोपी पूर्व उर्फ़ अंकित उर्फ भूत पहले किया जा चुका था गिरफ्तार जिसका 5 दिन का पुलिस रिमांड पूरा होने पर कल जेल भेजा गया है। पीड़ित लड़की ने कल कुछ और नामों का खुलासा किया। इस संबंध में जज के सम्मुख पीडि़ता के दोबारा बयान कराए गए और उसके आधार पर 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 

  1. गिरफ्तार आरोपी शकील अहमद पुत्र यसुफ निवासी फरीदाबाद जो कैंटर चलाता है विवाहित है और बाल बच्चे दार है।
  2. दूसरा आरोपी आशिक पुत्र इलियास निवासी फरीदाबाद जो टैक्सी चलाता है बालिग है लेकिन अविवाहित है। 
  3. तीसरा आरोपी हरि भगत पुत्र सुभाष विवाहित है और दुकान चलाता है। 
तीनों आरोपियों को कल कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड लेकर पूछताछ की जाएगी। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि एक आरोपी अभी फरार है लेकिन पुलिस के रडार पर है जिसको जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।