Followers

Showing posts with label Crime. Show all posts

35 पेटी अवैध शराब शराब सहित एक आरोपी को क्राइम ब्रांच सेंट्रल की टीम ने किया गिरफ्तार

faridabad-crime-branch-central-arrested-illegal-wine-taskar

फरीदाबाद, 23 सितंबर: फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच सेंटर ने अवैध शराब सहित एक आरोपी को काबू किया है। पूछताछ पर आरोपी ने अपना नाम वीर सिंह उर्फ वीरू बताया है।

आरोपी फिलहाल फतेहपुर चंदेला में रह रहा है। आरोपी पीछे से गांव सूबेदार जिला आगरा उत्तर प्रदेश का रहने वाला है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि क्राइम ब्रांच सेंट्रल को सूचना मिली थी कि एक आरोपी फतेहपुर चंदेला में अवैध शराब बेचने का काम करता है जो कि अपनी गाड़ी में शराब लाने ले जाने का काम करता है।

क्राइम ब्रांच सेंट्रल ने राधा कृष्ण मंदिर फतेहपुर चंदीला के नजदीक नाकाबंदी कर आरोपी को 35 पेटी देसी शराब सैंटरो गाड़ी सहित काबू किया है।

आरोपी के खिलाफ एक्साइज एक्ट के तहत मामला थाना एनआईटी में दर्ज किया गया है।

पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वह यह शराब बेचने के लिए फतेहपुर चंदीला में लेकर जा रहा था।

मामले में एक्साइज एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए,, आज आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेजा जाएगा।

शौक की वजह से हथियार लेकर घूमता था युवक, अब नीमका जेल में रहेगा

faridabad-crime-branch-central-arrested-accused-with-illegal-weapon

फरीदाबाद, 23 सितम्बर: क्राइम ब्रांच सेंट्रल ने एक ऐसे आरोपी को गिरफ्तार किया है जो कि शौकिया तौर पर अपने पास अवैध हथियार रखता था।

आरोपी की पहचान नितिन पुत्र जुगल किशोर निवासी ओल्ड फरीदाबाद के रूप में हुई है।

क्राइम ब्रांच सेंट्रल प्रभारी ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति जो कि शौकिया तौर पर अपने पास हथियार रखता है और सेक्टर 82 फरीदाबाद में घूम रहा है।

जिस पर क्राइम ब्रांच सेंट्रल ने   तत्परता से कार्यवाही करते हुए आरोपी को चंदीला चौक सेक्टर 82 से गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने मौके से आरोपी के कब्जे से एक देसी कट्टा बरामद किया है। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि उसने यह हथियार कोसी उत्तर प्रदेश से खरीदा था। 

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि इससे पहले आरोपी वर्ष 2013 में अवैध रूप से दारू सप्लाई करने के मामले में एक बार जेल जा चुका है। पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेजा।

मंहगा पड़ा महिला की सोने की चैन छीनकर भागना, पुलिस ने 2 लुटेरों को दबोचकर भेजा जेल

faridabad-police-adarsh-nagar-thana-arrested-snatching-accused

फरीदाबाद, 22 सितम्बर: फरीदबाद: थाना आदर्श नगर पुलिस ने सैर कर रही महिला से सोने की चैन छिन्ने वाले दो आरोपियो को दिनांक 21.09.2020 को गिरफ्तार करने मे सफलता हासिल की है। आरोपीयो की पहचान राजकुमार निवासी मलेरना व सम्मी वर्मा निवासी सैक्टर 62 फरीदबाद के रुप मे हुई है। 

पुलिस प्रवक्ता ने बताया की आरोपियो ने दिनांक 21.09.2020 को सैक्टर 62 एरिया, नजदीक बैनरजी क्लीनिक के पास शाम के 7.00 बजे सैर कर रही महिला पुष्पा देवी निवासी सैक्टर 62 से सोने की चैन छिनकर फरार हो गये थे। जिस पर आरोपियो के खिलाफ धारा 379 ए भा.द.स के तहत मामला आदर्श नगर थाना मे दर्ज किया गया था।  

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि थाना आदर्श नगर मे तैनात मुख्या सिपाही बेद राम को सूत्रो के हवाले से सुचना मिली की दोनो आरोपी सैक्टर 62 एरिया मार्किट मे घुम रहे है जिस पर मुख्य सिपाही बेद राम ने अधिकारीयो को सुचित कर साथी सिपाही जय कुमार को साथ लेकर मौके पर रेड कर उपरोक्त दोनो आरोपियो को रात समय करीब 11:00 बजे गिरफ्तार किया है।

पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि उन्होंने पैसा के लालच और अपने शौक को पूरा करने के लिए वारदात को अंजाम दिया था।

पुलिस ने आरोपियो से वारदात मे इस्तमाल कि गई स्प्लेंडर मोटरसाईकिल और महिला से छिनी गई सोने की चैन बरामद की है। आरोपियो को आज अदालत मे पेश कर जेल भेजा गया।

फरीदाबाद को अपराध मुक्त करने के लिए बहुत मेहनत कर रहे CP OP Singh, अब अपराधियों का बचना मुश्किल

cp-op-singh-working-for-apradh-mukt-faridabad-mission

फरीदाबाद, 22 सितम्बर: फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह फरीदाबाद को अपराध मुक्त बनाने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं. फरीदाबाद को अपराध मुक्त करना ही फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर का लक्ष्य है, अब चप्पे चप्पे पर CCTV से निगरानी रखी जा रही है जिसकी वजह से अपराधियों का बचकर निकलना मुश्किल है, देखिये वीडियो - 

 

पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद ओ॰पी॰ सिंह ने आज सुबह पुलिस कमिष्नरेट, फरीदाबाद के सभी पुलिस उपायुक्तों तथा सहायक पुलिस उपायुक्तों की संगोष्ठी के दौरान कहा कि फरीदाबाद को हर अपराध से मुक्त करना ही हमारा सामूहिक लक्ष्य। 

सर्वप्रथम समार्ट सीटी योजना के तहत फरीदाबाद में विभिन्न स्थानों पर लगाए गए सी॰सी॰टी॰वी॰ कैमरों पर चर्चा की गई कि इन कैमरों की मदद से यातायात नियमों की उल्लंघना करने वालों, अपराधिक गतिविधियों और अपराध करके भागने वालों की पहचान करने में बड़ी मदद मिल रही है। फरीदाबाद के गिरते भूमिगत जल स्तर की बात करते हुए निर्देष दिए गए कि जो लोग अवैध रूप से पानी का दोहन कर रहे हैं, उन पर कार्यवाही करने का एक साप्ताहिक लक्ष्य रखकर कार्य किया जाए। हालाँकि पिछले कुछ दिनों ऐसे व्यक्तियों पर फरीदाबाद में अलग-अलग 35 अभियोग अंकित किए गए हैं । अपराध व अपराधिक गतिविधियों पर अंकुष लगाए जाने के उद्देष्य से अपने-अपने इलाके के अपराधियों की पहचान कर उनके परिवार, सगे-संबधियों तथा मिलने-जुलने वालों के निवास स्थानों के साथ-साथ उनके आवागमन की भी जानकारी जुटाएँ। 

इसके अलावा अधिकारियों को दिषा निर्देष दिए गए कि चैबीस घंटों के दौरान जो भी पुलिस अधिकारी चैंकिग पर होते हैं, वे पी॰सी॰आर॰, राइडर और नाकों की समुचित चैकिंग करें। इस दौरान आसपास की गतिविधियों पर ध्यान रखे तथा व्हाट्सेप की बजाए वायरलैस सिस्टम से ज्यादा संपर्क करें, क्योंकि यह संदेष ड्यूटी पर तैनात सभी पुलिस कर्मियों तक एक साथ चला जाता है और सभी अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद रहते हैं। इस प्रकार संपर्क का यह माध्यम कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अधिक प्रभावषाली होता है। इलाके के अपराध संभावितय जैसे - चैन स्नैचिंग और छीना झपटी होने वाले तथा शराब के ठेके इत्यादि स्थानों का भी दौरा करें। चैकिंग पर निकलने से पहले सुनिष्चित करें कि आप क्षेत्र में हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार हों, जिसके लिए वैपन का साथ होना भी अति आवष्यक है। स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करते हुए पुलिस आयुक्त, महोदय द््वारा बताया गया कि पुलिस की ड्यूटी को एक चुनौती समझते हुए उसे पूरा करने के लिए अपने आपको फाइटिंग फिट रखें। इस कार्य हेतु रोजाना सौ, दौ सौ या चार सौ मीटर करके कुछ किलोमीटर दौड़ लगाना अति लाभदायक है, क्योंकि दौड़ लगाने से पसीने के माध्यम से विषाक्त तत्व शरीर से बाहर निकल जाते हैं, जो शरीर में अनेक प्रकार की व्याधियों का कारण बनते हैं। खून तथा शरीर की अनावष्यक चर्बी चली जाती है और हृदय एवं खून की गति सामान्य रहती है। शरीर को दौड़ का कार्य देकर हम अपने स्वास्थ्य का परीक्षण स्वयं कर सकते हैं। सभी अधिकारियों से गत दिनों में उनके द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी लेकर अंत में सभी की अच्छा कार्य करने के लिए उनकी प्रषंसा की गई।

FIR दर्ज, बल्लभगढ़ में फिर हेराफेरी फिल्म की तरह पैसा डबल करने का लालच देकर कंपनी ने किया फ्रॉड

faridabad-police-ballabhgarh-city-thana-lodge-fir-502-cheating

फरीदाबाद, 22 सितम्बर: फिर हेरा फेरी फिल्म करीब करीब सबने देखी होगी, इस फिल्म में एक कंपनी एक साल में पैसा डबल करने का लालच देती है, लोग लालच में पड़कर अपनी जमा पूँजी कंपनी को देते हैं लेकिन कंपनी पैसा लेकर भाग जाती है.

बल्लभगढ़ में भी ऐसा ही फ्रॉड हुआ है जहाँ एक कंपनी ने पैसा डबल करने का लालच देकर निवेश करवाया लेकिन सारा पैसा हजम कर लिया और निवेशक को सिर्फ मूर्ख बनाता रहा, एक पीड़ित की शिकायत पर मु0न0 502 दिनांक 21.09.2020 धारा U/S 420,406,506,120B IPC  3 HARYANA PROTECTON OF INTREST OF DEPOSITORS IN FIANANCIAL ESTABLISTMENT ACT 2013 थाना शहर बल्लभगढ में रजिस्टर किया गया है. अन्य लोग भी शिकायत कर सकते हैं. कुल 500 करोड़ रुपये का घोटाला बताया जा रहा है.

विजय कुमार बंसल उर्फ बिजेन्द बंसल ने दर्ज करवाई FIR

FIR में दी गयी सूचना के मुताबिक़ - 

 सेवा में, श्रीमान पुलिस आयुक्त महोदय, सैक्टर 21सी जिला फरीदाबाद । बिषय:- यू.एफ.एल. पोर्ट फोलिया लि0 नजदीक अग्रवाल धर्मशाला,बल्लबगढ व उसके डायरेक्टर महेन्द्र गोयल पुत्र श्री मनोहर लाल, हरिओम गोयल पुत्र श्री सुरेन्द्र कुमार, श्रीमती मोनिका गोयल पत्नी श्री मुकेश गोयल और सुरेन्द्र गोयल, चुन्नीलाल पुत्रान श्री मनोहर लाल सभी निवासीगण पुन्हाना, हालाबाद सैक्टर-8, फरीदाबाद व हरिओम मित्तल पुत्र श्री श्रीचन्द मित्तल निवासी मकान न0 1629, सैक्टर-3, बल्लबगढ, फरीदाबाद के खिलाफ धोखाधडी व जालसाजी से पैसे ऐंठने बाबत एफ.आई.आर. दर्ज करके कानूनी कार्यवाही करने बारे । श्रीमान जी, निवेदन यह है कि मैं, विजय कुमार बंसल उर्फ बिजेन्द बंसल पुत्र श्री ओम प्रकाश निवासी मकान न0 904, सैक्टर-18, एच.बी. कालोनी, फरीदाबाद का निवासी हूं और प्राईवेट जॉब करता हूं । मेरी पत्नि स्नेहलता व मेरी लडकी स्वाति भी प्राईवेट जॉब करती है। उपरोक्त हरी ओम मित्तल मेरे मामा का लडका है व सुरेन्द्र गोयल, महेन्द्र गोयल व चुन्नी लाल उसके साले है।


श्रीमती मोनिका गोयल, सुरेन्द्र गोयल के लडके मुकेश गोयल की पत्नि है जिसको कि महेन्द्र गोयल और हरिओम गोयल के साथ यू.एफ.एल.पोर्ट फोलिया लि0 की डायरेक्टर बताते है। मेरे मामा का लडका हरिओम मित्तल जनवरी,2014 में सुरेन्द्र व महेन्द्र गोयल को मेरे पास लेकर आया और कहने लगा कि ये मेरे साले यू.एफ.एल. पोर्ट फोलिया लि0 नाम से कम्पनी चलाते है और जो भी इनके यहां रकम जमा कराता है उस रकम पर ये अच्छा मुनाफा ब्याज के रुप में 4 साल में दोगुनी करके वापिस करते हैं। हरिओम मित्तल को इस बात की जानकारी थी कि मैं, मेरी पत्नि व मेरी लडकी सभी जॉब करते है और हमने कई सालों से अपनी जॉब से पूंजी इकट्ठी की हुई है। 27-01-2014 को मुझसे हरिओम मित्तल,सुरेन्द्र गोयल और महेन्द्र गोयल अपने जाल मे फंसाकर मु0 2,70,000/-रु0 ले गये जिसकी एवज में मुझे 1-2 दिन बाद मेरे व मेरी लड़की स्वाती के नाम दो एफ.डी.आर0 न0 263 व 270 अपनी कम्पनी की 4 साल में दोगुणा यानि मु0 5,40,000/-रू0 वापिस करने का वादा करके रसीद के रूप मे दे गये।

मुझसे सुरेन्द्र व महेन्द्र ने यह भी वादा किया था कि यदि आपको बीच मे पैसों की जरूरत पडेगी तो हम उसी ब्याज की दर के साथ आपकी रकम वापिस कर देंगे जिस दर पर एफ.डी.आर. बनाई गई फिर दोबारा महेन्द्र व सुरेन्द्र हरिओम मित्तल के साथ आये और मुझसे दिनांक 22-05-2014 को मु0 70,000/- और दिनांक 23-06-2014 को मु0 1,00,000/-रू नकद ले गये। जिसकी एवज मे भी मुझे उपरोक्त की तरह दो एफ.डी.आर. न0 294 व एफ.डी.आर. न0 300 रसीद के रूप मे दे गये। इसके बाद महेन्द्र व हरिओम गोयल ने मुझे दिसम्बर, 2014 के आखिर मे अपने कार्यालय बल्लबगढ़ बुलाया तथा मुझपर अपने लालच के वशीभूत होकर फिर पैसे जमा कराने के लिये दबाब बनाया और 02-01-2015 को मुझसे 1 लाख रू0 मंगा लिया जिसकी एवज मे भी मुझे एफ.डी.आर. न0 332 जारी कर दी। हरिओम मित्तल के कहने पर उपरोक्त सुरेन्द्र व महेन्द्र ने मुझे विश्वास मे ले लिया और सुरेन्द्र,महेन्द्र व हरिओम गोयल मुझसे दिनांक 09-03-2015 को मु 60,000/- दिनांक 01-05-2015 को मु0 50,000/-,दिनांक 21-07-2015 को फिर 50,000/- व दिनांक 11-09-2015 को मु0 2,00,000/-रु0 नकद ले गये जिसकी एवज में मुझे उपरोक्त की तरह एफ.डी.आर. न0 345,359,372,374 व 387 मेरी लडकी स्वाती, मेरी पत्नि स्नेहलता व मेरे नाम जारी करके अपने कार्यालय बल्लबगढ़ में मुझे सौंप दी। दिनांक 27-12-2015 को मैं जनवरी ,2014 में अपना जमा की हुई राशि को मय ब्याज अपनी बेटी स्वाति की शादी के लिये इनके कार्यालय चावला कालोनी,बल्लबगढ गया तो वहां मौजूद सुरेन्द्र व हरिओम गोयल ने मुझे एक सप्ताह बाद रकम वापिस ले जाने को कहा।

मैं इनके बताये गये समय के मुताबिक फिर एक सप्ताह बाद इनके पास रकम मांगने के लिये गया तो वहां मौजूद सुरेन्द्र, महेन्द्र व हरिओम गोयल ने अपने वादे के अनुसार पैसे वापिस करने से मना कर दिया और कहा कि आप की रकम एफ.डी.आर की मैच्योरिटी पर ही मिलेगी।मैने इस बाबत अपने मामा के लडके हरिओम मित्तल को भी कहा तो वह भी इनकी सुर में बोलने लगा और उपरोक्त दोषियान ने मुझे मेरी काफी मिन्नतें करने के बाद भी रकम वापिस ना की। मैंने जैसे-तैसे अपनी लडकी स्वाति की शादी 31-01-2016 को कर दी। अब जब मैं अपनी एफ.डी.आर. न0 263,270 जोकि जनवरी ,2018 में मैच्योर हो गई थी उनकी रकम मय ब्याज मांगने के लिये इनके पास गया तो इन्होंने मुझे बार-बार चक्कर कटाकर परेशान कर दिया परन्तु मेरी रकम वापिस ना की । तब तक मेरी मई, 2018 व जून, 2018 वाली एफ.डी.आर. भी मैच्योर हो गई थी तो दिनांक 24-06-2018 को मैं अपने साथी राकेश के साथ हरिओम मित्तल के घर सैक्टर-3 अपनी रकम वापिस मांगने गया तो वहां मौजूद सुरेन्द्र, महेन्द्र, चुन्नी लाल व हरिओम मिले। जब मैंने सुरेन्द्र, महेन्द्र व हरिओम से अपनी रकम मांगी तो वहां मौजूद चुन्नी लाल ने तैश में आकर कि तकादा करने की जरुरत नहीं हैं और कभी तकादा किया तो जान से खत्म कर दूंगा। मैं इनकी धमकी से डर चुका था व अपनी रकम को खोना नहीं चाहता था। इस वजह से चुप बैठ गया था। अब मुझे लगने लगा था सुरेन्द्र गोयल, महेन्द्र गोयल व हरिओम मित्तल ने एक पूर्ण नियोजित षडयंत्र के तहत सभी दोषीयान ने मिलीभगत करके अपनी बनाई हुई उपरोक्त कम्पनी में मुझसे धोखाधडी करके उक्त रकम जमा कराई है। मैंने सुरेन्द्र, महेन्द्र व हरिओम गोयल से कई बार अपनी जमा राशि को मय ब्याज वापिस करने के लिये कहा है परन्तु इन्होंने मेरी जमा राशि को वापिस करने से मना कर दिया है।इस प्रकार इन्होंने और भी हजारों व्यक्तियों से पांच सौ करोड रु0 से ज्यादा रकम लेकर ठगा हुआ है और इनके खिलाफ विभिन्न अदालतों व थानों में काफी केस चल रहे हैं। यू.एफ.एल. पोर्ट फोलिया लि0 कम्पनी की आड में उसके डायरेक्टर महेन्द्र, मोनिका व हरिओम गोयल के साथ मिलकर इन्होंने मुझसे धोखाधडी करके रम जमा कराई है जबकि इस तरह की एफ.डी.आर. बनाकर देने का इन्हें कोई अधिकार भी ना था। जिसको कि ये मेरे द्वारा कई बार मांगने के बावजूद भी वापिस नहीं कर रहे हैं। श्रीमान जी मैंने इस बाबत एक दरखास्त 10-09-2019 को पुलिस चौकी चावला कालोनी, बल्लबगढ(थाना शहर बल्लबगढ) में दी जिसपर मुझसे वहां मौजूद पुलिस अधिकारी ने मेरी दरखास्त तो ले ली लेकिन मुझे उसका ना ही तो उसका कोई डायरी नंबर दिया और ना ही कोई रशीद दी तथा मुझे दिनांक 15.09.2019 को दोबारा आने के लिए बोल दिया मै दिनांक 15-09-2019 को दोबारा पुलिस चौकी गया , वहाँ मौजूद महेन्द्र गोयल, चुन्नीलाल गोयल व हरीओम मित्तल को पुलिस अधिकारी महोदय ने बुला रखा था और मुझसे अलग से एक दरखास्त लिखबाने के लिए पुलिस अधिकारी महोदय ने बोला । श्रीमान जी मैने पुलिस अधिकारी महोदय को बोला कि जो दऱाखास्त मैने 10.09.2019 को दी है मेरी वही दरखास्त है उसी को पढा जाये इतने मे पुलिस अधिकारी महोदय ने महेन्द्र गोयल बगैरा को वापस भेज दिया । श्रीमान जी पुलिस चौकी चावला कालोनी वाले दोषियान के खिलाफ कार्यवाही करने से कतरा रहे है अत श्रीमान जी से प्रार्थना है कि उपरोक्त दोषियान के खिलाफ धोखाधाडी वा हरियाणा प्रोटेक्शन आफ ईन्ट्रस्ट आफ डिपोसटिर इन फाईनैन्सियल ईस्टबैलिसमैन्ट एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करके सख्त से सख्त कानूनी कार्यावाही की जाये । जनाब की अति कृपा होगी ।

पुलिस ने शुरू की जांच

पुलिस ने इस धोखाधड़ी के मामले की जाँच शुरू कर दी है, अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी की खबर नहीं है, जैसे ही कोई कार्यवाही होगी, पाठकों को अपडेट किया जाएगा।

पढ़ें अनंगपुर के लोगों ने सूरजकुंड थाना SHO, दयालबाग़ चौकी इंचार्ज के खिलाफ CP को क्यों दी शिकायत

anangpur-youth-beaten-dayalbagh-police-chowki-surajkund-thana-sho-cp-op-singh

फरीदाबाद, 22 सितंबर। गैरकानूनी तरीके से गांव के युवकों की पिटाई करने और जबरदस्ती जमीन पर कब्जा करने के आरोपियों (अजय जैन पुत्र अभय जैन तथा अजय जैन के लडक़े) का साथ देने के लिए दयालबाग चौकी ईचार्ज राजेश शर्मा, एएसआई अनिल, एचसी संदीप, पुलिसकर्मी नरेश और सूरजकुण्ड थाना एसएचओ अर्जुन राठी के खिलाफ पुलिस कमिश्नर से शिकायत की गयी है. आज अनंगपुर गाँव के लोगों ने सेक्टर 21 C में सीपी ऑफिस में पहुंचकर सीपी के सामने न्याय की गुहार की.

पीडि़त फिरे पुत्र चंदर ने पुलिस आयुक्त को बताया मेरी एक जमीन वाका मौजा अनंंगपुर फरीदाबाद में है। जो मैने वसीका नंबर 6699 दिनांक 20-7-2015 के द्वारा खरीदी हुई है व इसका इंतकाल भी मेरे नाम दर्ज हो रखा है और इसकी कायनी भी हमारे नाम है। मेरा अपनी जमीन पर कब्जा है लेकिन आरोपी अजय जैन पुत्र अभय जैन तथा अजय जैन का लडक़ा पिछले काफी समय से मुझे तंग किए हुए है और मेरी जमीन पर पिछले काफी समय से जबरदस्ती कब्जा करने की कोशिश कर रहे है। जिसकी मैने पहले भी आपके कार्यालय व चौकी दयालबाग में शिकायत कर रखी है। 

दिनांक 20-9-2020 की शाम को चौकी ईचार्ज राजेश शर्मा,एएसआई अनिल, एचसी संदीप व नरेश मेरी जमीन अप आए और मेरे भतीजे विपिन पुत्र प्रकाश व राहुल पुत्र मंगत सिंह व रोहित पुत्र कंवर सिंह को जबरदस्ती उठाकर ले गए। इसके बाद चौकी में ले जाकर जहां पर अजय जैन व उसका लडक़ा पहले से ही मौजूद था ने उपरोक्त बच्चों के कपड़े उतरवाकर डंडों से, लात घूसों से मारना शुरू कर दिया। यह सारी मार-पिटाई आरोपी अजय जैन और उसके लडक़े बेटे के कहने पर की गई। 

उसी समय राजेश शर्मा चौकी इचार्ज ने अजय जैन से कहा कि आप भी मारो तो अजय और उसके लडक़े दोनों ने मिलकर भी बच्चों को मारा। उसके बाद हमारे बच्चों से जबरदस्ती लिखवाया गया कि हम लोग अपनी गायों को ले जाएगें और यहां पर दोबारा नहीं आएगें। मुझे घटना का पता चला तो मैने लडक़ो का मेडिकल करवाया। 

पीडि़त फिरे ने बताया की सभी पुलिसकर्मियों ने जबरदस्ती,गैर कानूनी तरीके से इन बच्चों के साथ तार पिटाई की है और उन्हें जबरदस्ती अंदर बंद करके रखा गया है। मेरी जमीन पर जबरदस्ती कब्जा करवाने के लिए गैर कानूनी तरीके से यह सब किया गया। पीडि़त फिरे ने बताया कि चौकी इचार्ज राजेश शर्मा ने उससे 1 लाख रूपये की रिश्वत की भी मांग की थी जोकि मैने देने से मना कर दी थी। यही कारण है कि मेरे द्वारा दी गई दरखास्त 213-5पी11 दिनांक 5-9-2020 पर कोई कारवाई नहीं की गई। 

पुलिस आयुक्त ने सारी बात सुनने के बाद कहा कि किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा और साथ ही साथ उन्होनें एसीपी हेडक्वार्टर आर्दशदीप सिंह को कहा कि इस मामले की तह तक जाया जाए ताकि दोषियों पर कारवाई हो सके.

Faridabad Sector 29 कठपुला पुल के पास नहर में अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद

 faridabad-sector-29-kathpula-pull-agra-nahar-dead-body-found

फरीदाबाद, 22 सितम्बर: Faridabad Sector 29 क्षेत्र में कठपुला पुल के पास नहर में अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद हुआ है, यह शव तैरते हुए अपने आप किनारे लगा, शव को नहर से बाहर निकालकर पुलिस को इसकी सूचना दी गयी है.

शव की पहचान अभी नहीं हो पायी है, बीके हॉस्पिटल में शव को रखवा दिया गया है, जल्द ही आगे की अपडेट दी जाएगी। बीके हॉस्पिटल में जाकर भी शव की पहचान की जा सकती है.

नाबालिक युवती को बहला फुसलाकर भगाने वाला आरोपी तालिब गिरफ्तार, भेजा गया जेल

faridabad-minor-girl-kidnapping-accused-talib-arrested

फरीदाबाद, 21 सितम्बर: नाबालिग लडकी को झांसे में लेकर भगा ले जाने वाले आरोपी को थाना डबुआ पुलिस ने गिरफ्तार किया  है, लडकी को बरामद कर परिवार को सौंपा है

थाना डबुआ पुलिस ने बताया कि दिनांक 17.09.2020 को नाबालिग लडकी को बहला फुसला कर भगा लेजाने वाले आरोपी को काबू किया है। आरोपी की पहचान तालिब पुत्र अकरम निवासी डबुआ कालोनी फरीदाबाद के रुप में हुई है। 

पुलिस प्रवक्ता ने बतलाया की पुलिस ने नाबालिग लडकी को बरादम कर परिवार जन को सौंपा है। पुलिस ने आरोपी को अदालत मे पेश कर जेल भेजा है।

डीसीपी NIT ने की रोड पर भटक रहे नाबालिक की मदद

dcp-nit-faridabad-arpit-jain-help-minor-youth

फरीदाबाद, 21 सितम्बर: फरीदाबाद: पुलिस उपायुक्त एनआईटी श्री अर्पित जैन ने रोड पर भटक रहे बच्चे की मदद कर मानवता का फर्ज निभाया है।

कल दिनांक 20 सितंबर 2020 को शाम के समय ऑफिस से जाते समय डीसीपी श्री जैन को एक नाबालिग बच्चा उम्र 15 साल केएल मेहता कॉलेज के सामने खड़ा हुआ मिला।

पुलिस उपायुक्त ने गाड़ी रोक कर बच्चे से उसके घर के बारे में और वह यहां पर क्यों खड़ा है इस बारे में पूछा।

तो बच्चे ने बताया कि वह भूखा है उसके घर में कोई भी कमाने वाला नहीं है और वह बहुत परेशान है।

जिस पर पुलिस उपायुक्त ने चाइल्ड हेल्पलाइन में तैनात रविंद्र को फोन कर वहां पर बुलाया और उनको कहा कि बच्चे को उसके घर पर पहुंचाया जाए।

डीसीपी एनआईटी ने बच्चे को खाना खिलाया और कुछ रुपए देखकर उसकी आर्थिक मदद की।

बच्चा पाली रोड पर पहाड़ी नंबर 3 पर रहता है उसके माता-पिता का देहांत हो चुका है जो कि अपने मामा के घर पर रहता है मामा का एक्सीडेंट हो गया था जिससे मामा की पैर में रोड डली हुई है। 

घर में कमाने वाला कोई भी नहीं है मामा की लड़की जो कि नाबालिक है घरों में झाड़ू पोछा का काम करती है वह घर का गुजारा चला रही है।

पुलिस उपायुक्त ने बच्चे और उसके परिवार की मदद करने के लिए खाद्य सामग्री से संबंधित सरकार की योजनाओं के बारे में भी जागरूक किया है।

डीसीपी ने चाइल्ड डिपार्टमेंट से मिलने वाली मदद भी बच्चे को दिलाने का भरोसा दिलाया है।

अवैध शराब के साथ एक आरोपी गिरफ़्तार, 7 पेटी शराब बरामद

faridabad-crime-branch-sector-56-arrested-illegal-wine-tskar

फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 ने सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर अवैध शराब सहित एक आरोपी लतेश निवासी सेक्टर 58 फरीदाबाद को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला सेक्टर 58 में एक्साइज एक्ट के तहत दर्ज किया है।

पुलिस ने आरोपी से मौके से 7 पेटी देसी शराब बरामद की है। आरोपी के खिलाफ आगामी कार्यवाही अमल में लाई जा रही है।

फरीदाबाद में 4 नकली पुलिसकर्मी साजिद, सनावर अली, यूनुस, अमजद गिरफ्तार

 faridabad-crime-branch-badarpur-border-arrested-fake-policemen

फरीदाबाद, 20 सितम्बर: नकली पुलिसकर्मी बनकर महिलाओं से कंगन उतरवाने वाले चार आरोपियों को क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर ने गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल हुई है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि क्राइम ब्रांच बॉर्डर ने आरोपी साजिद, सनावर अली, यूनुस, अमजद को गिरफ्तार किया है आरोपी साजिद और सनावर अली हरिद्वार उत्तराखंड के रहने वाले हैं वहीं आरोपी यूनुस और अमजद, पाटिल नगर महाराष्ट्र के रहने वाले हैं।

आरोपियों ने फरीदाबाद शहर में जुलाई महीने में एक ही तारीख को थाना सेक्टर 17 और थाना सेंट्रल एरिया में 2 वारदात को अंजाम दिया था। जिस पर आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी के तहत मामला दर्ज किया गया था।

पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि वह नकली पुलिसकर्मी बनकर सिविल ड्रेस में रहते थे और महिलाओं को अपने आप को पुलिसकर्मी बताते थे और उन्हें गुमराह कर उनके आभूषण उतरवा लिया करते थे।

महिलाओं के उतरवाए हुए असली आभूषणों को अपने पास रख लेते थे और आरोपी नकली आभूषण को महिलाओं के बैग, पर्स इत्यादि में रख देते थे। आरोपीयान पहले से ही अपने पास नकली आभूषण रखा करते थे ताकि इनको जल्दी से बदल सके।

पुलिस ने आरोपी से 2 सोने के कड़े, 2 सोने के कंगन बरामद कर आरोपीयों को अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है।

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 ने बुलेट लुटेरों को दबोचकर 24 घंटे में सुलझाई वारदात

faridabad-crime-branch-sector-48-arrested-bullet-loot-accused

फरीदाबाद, 19 सितम्बर: पुलिस कमिश्नर O.P सिंह IPS के दिशा निर्देश व डी.सी.पी. क्राइम मक्सूद अहमद के नेतृत्व में कार्य करते हुये उपनिरीक्षक राकेश सिंह प्रभारी अपराध शाखा सेक्टर-48 व उनकी टीम ने बुलेट मोटरसाइकिल लूट मामले को सुलझाते हुए दो आरोपियों को 24 घंटे में गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

मामला दिनांक 16 सितंबर 2020 का है शिकायतकर्ता नरेश पुत्र मदन सेक्टर-46 रोड पर जा रहा था तभी उसकी बाइक के आगे 5 नोजवान लडको ने 1 बाइक आगे और एक बाइक उसके पीछे लगा दी उसके बाद उसको डंडो व हेलमेट से मारपीट कर उसकी बुलेट बाइक व फ़ोन छीन कर मौका से भाग गये थे जिस पर थाना सूरजकुंड में आरोपियों के खिलाड़ी मामला दर्ज किया गया था।

उपरोक्त मुकदमें में तत्परता दिखाते हुये अपराध शाखा सेक्टर-48 की टीम ने विशेष सूत्रों से मिली सूचना के माध्यम से आरोपी महेंद्र प्रताप उर्फ सौरभ निवासी पलवल को 17.09.2020 को गिरफ्तार किया और उसको पेश अदालत कर के एक दिन का पुलिस रिमांड लिया गया जिसकी निशानदेही पर 18.09.2020 को इस मुकदमे में एक और आरोपी राम कुमार उर्फ ऋषभ निवासी पलवल को गिरफ्तार किया गया है।

क्राइम ब्रांच ने आरोपियों से वारदात में लूटी हुई बुलेट मोटरसाइकिल एवं वारदात में प्रयोगशुदा एक मोटरसाइकिल को बरामद किया है।,,, उपरोक्त मुकदमा में तीन अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है जिनको भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

गिरफ्तार दोनों आरोपियों को अदालत में पेश कर नीमका जेल भेजा गया।

शाहूपुरा लड़ाई झगडे में हुआ था मर्डर, 2 आरोपी और किये गए गिरफ्तार

faridabad-shahupura-murder-case-cia-uncha-gaon-arrested-two-accused

फरीदाबाद, 18 सितम्बर: क्राइम ब्रांच उंचागांव ने शाहपुरा हत्या मामले में फरार चल रहे दो आरोपियों रवि और योगेश को गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर गांव नंगला जोगियान, फरीदाबाद से गिरफ्तार कर लिया है।

आपको बताते चलें की शिकायतकर्ता अशोक ने थाना सदर बल्लबगढ में शिकायत दी कि आरोपी सागर उर्फ़ साहिल और उसके साथियों ने लड़ाई झगड़े में चोटें मारकर उसके भाई परश्राम की हत्या कर दी थी। अशोक की शिकायत पर हत्या व SC/ST एक्ट के तहत थाना सदर बल्लबगढ में मुकदमा दर्ज किया गया। तफ्तीश के दौरान आरोपी सागर को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है।

पुलिस कमिश्नर द्वारा अपराधों पर लगाम लगाने के दिशा निर्देशों के तहत सहायक पुलिस आयुक्त, यातायात श्री जयपाल की अगुवाई में SIT का गठन किया गया जिसमे आरोपियों को शरण देने के जुर्म में आरोपी सागर के साथी रवि के पिता महेंद्रराज को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। 

आरोपी सागर के दोनों साथी रवि और योगेश हत्या की वारदात के समय से ही फरार चल रहे थे और पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए अपने ठिकाने बदल बदलकर रह रहे थे जिसमें वो ज्यादातर समय लखनऊ, उत्तर प्रदेश में रहे। 

आरोपी *योगेश* आरोपी रवि का सगा मामा है जो पलवल में एक अन्य *हत्या के मुकदमें में 2015 से ही फरार चल रहा था और लखनऊ में चाउमीन की रेहड़ी लगाता था*। आरोपी को थाना सदर पलवल का उद्घोषित अपराधी घोषित किया जा चूका है।

दोनों आरोपी रवि व योगेश बीच बीच में जानकारी लेने के लिये गांव नंगला जोगियान मे आते रहते थे। इसी दौरान जब वो यहाँ आए तो गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर कर लिया गया।

आरोपी रवि पुत्र महेन्द्राज गांव नंगला जोगियान जिला फरीदाबाद व योगेश उर्फ बब्बो पुत्र बिजेन्द्र निवासी गढी पट्टी होडल जिला पलवल का रहने वाला है। दोनों को गिरफ्तार करके वारदात मे प्रयोग की गई मोटरसाईकिल बरामद कर ली गई है।

दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है आरोपी योगेश के बारे में पलवल पुलिस को भी सूचित किया गया है।

CIA30: इंस्पेक्टर विमल ने नकली IPS, नकली डॉक्टर, ड्रग तस्कर मेहताब के साथी को जहाज रुकवाकर पकड़ा

 faridabad-crime-branch-sector-30-arrested-fake-medical-officer

फरीदाबाद, 18 सितम्बर: क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 ने अंतर्राज्यीय कार चोर गिरोह के एक सदस्य  को इंफाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रनवे से गिरफ्तार किया है, इसके साथ ही मणिपुर से चोरी की कार खरीदने के आरोप में दो आरोपी गिरफ्तार किये गए हैं.

यह भी खुलासा हुआ है कि नकली आईपीएस आरोपी मेहताब कार चोर के अलावा ड्रग्स तस्कर भी निकला है और वह नशे की दवाईया सप्लाई करता था.

पुलिस व टोल कर्मियों की आँखों में धुल झोकने के लिए आरोपी अबंग मेहताब NIA के एसीपी का आई कार्ड रखता था और अपने आपको IPS अधिकारी बताता था। 

आरोपी मेहताब व कबीर खान के दिल्ली के लोकल ठिकाने पर मिली 70 हजार नशे की गोलियां इसके अलावा मेडिकल ऑफिसर का फर्जी पहचान पत्र व भारत सरकार व पुलिस के स्टीकर।

आपको बताते चलें कि सेक्टर 30 क्राइम ब्रांच ने 10 सितंबर को  बदरपुर बॉर्डर एरिया से जिस नकली आईपीएस अधिकारी अबंग मेहताब व उसके साथी कबीर खान को गिरफ्तार किया था। उन्होंने पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में ड्रग्स तस्करी का भी खुलासा किया है। इन दोनों को दिल्ली एनसीआर से चोरी की लग्जरी कारों को मणिपुर ट्रांसपोर्ट कर बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

इसी कड़ी में चोरी की कार खरीदने वाले मणिपुर निवासी दो अन्य आरोपी मोहम्मद असकर को उसके गाँव चोबाक लिलोंग, थौबल, मणिपुर से गिरफ्तार किया। तभी दुसरे आरोपी अरिबम गुनानांडा को खबर लग गई की पुलिस ने उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया है ओर उसे भी गिरफ्तार करने आ रही तो वह मणिपुर से कलकता भागने के लिए इंफाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंच कर इंडिगो एयरलाइंस से कोलकाता जाने के लिए फ्लाइट में बैठ चुका था और फ्लाइट रनवे पर थी।

वह अपने इस मंसूबे में कामयाब हो पाता । उससे पहले ही पुलिस को क्राइम ब्रांच प्रभारी विमल को सूत्रों से सूचना मिली की अरिबम गुनानांडा की इम्फाल इंटरनेशनल एअरपोर्ट से कोलकाता भागने की तैयारी में है

इंस्पेक्टर विमल ने तुरंत फ्लाइट की टाइमिंग का  पता करके तुरंत एयरपोर्ट पहुंचे,  फ्लाइट दोपहर 1:30 बजे की थी । 

आरोपी फ्लाइट  में बैठ चूका था और प्लेन रनवे पर था और टेक ऑफ करने ही वाला था, कि क्राइम ब्रांच ने एअरपोर्ट पर जाकर उच्च अधिकारियों की मदद से इंडिगो जहाज को रनवे पर ही रुकवाकर आरोपी को  रनवे से ही गिरफ्तार किया। 

क्राईम ब्राचं 30 ने आरोपी को गिरफ्तार कर 3 दिन के ट्रांजिट रिमांड पर फरीदाबाद लाए हैं। जिन्हें आज दिनांक 18.09.2020  को कोर्ट में पेश करके पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

पुलिस रिमांड के दौरान क्राईम ब्राचं ने अबंग मेहताब और कबीर के दिल्ली में लोकल ठिकाने  को चैक किया तो उसके कमरे से पुलिस के लोगो व अन्य कागजात के अलावा करीब 70 हजार ड्रग्स की गोलियाँ बरामद की हैं। अब पुलिस इन दोनों आरोपी अबंग मेहताब और कबीर खान को भी आज अदालत में पेश करके ड्रग्स मामले में पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। इस दौरान यह पता लगाया जाएगा कि ये नशे की गोलियां कहां से लाते थे और कहां सप्लाई करते थे।

गाड़ी को न रोकें इसके लिए गाड़ियों पर लगाए जाने वाले सरकारी भारत सरकार व पुलिस  स्टीकर और ड्रग्स की गोलियों के लिए आरोपी मेहताब का एक फर्जी मेडिकल ऑफिसर का पहचान पत्र रखता था, भी बरामद किया गया है।

थाना सूरजकुंड पुलिस ने गाड़ी में 70 पेटी अवैध देशी शराब सहित एक आरोपी को किया गिरफ्तार

faridabad-surajkund-police-arrested-wine-taskar-accused

फरीदाबाद, 17 सितम्बर: थाना सूरजकुंड की टीम ने गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर आरोपी संजय को MVN चौक फरीदाबाद से होंडा अमेज गाड़ी में 70 पेटी अवैध शराब सहित काबू किया।

आरोपी के खिलाफ एक्साइज एक्ट के तहत थाना सूरजकुंड मे मुकदमा दर्ज किया गया। संजय कुमार उर्फ़ संजु पुत्र श्याम सुंदर भरतपुर, राजस्थान का रहने वाला है जो पाली की तरफ से अवैध शराब लेकर अनंगपुर लेकर जा रहा था

पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि अनंगपुर में अवैध शराब बेचने का कार्य सिन्टू, पवन और अशोक करते हैं। उनके कहने पर में सप्लाई करता हूं, उपरोक्त तीनो व्यक्ति उसे गाड़ी मुहैया करवाते हैं जिसे वह लेकर जाता है और उसमे शराब भरकर ले आता है।

आरोपी को आज अदालत में पेश कर नीमका जेल भेजा दिया गया है और बाकि तीनों आरोपियों की तलाश जारी है।

DCP मुख्यालय ने सीपी ऑफिस में किया गंभीर अपराधों से सम्बंधित मामलों का निरीक्षण

 faridabad-dcp-rajesh-duggal-meet-with-crime-victim

फरीदाबाद, 17 सितम्बर: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के दिशा निर्देशों के तहत पुलिस उपायुक्त मुख्यालय राजेश दुग्गल ने अपने कार्यालय सैक्टर 21C में जघन्य अपराधों को लेकर परिवादीयों और जांच अधिकारीयों के साथ मीटिंग की। 

मीटिंग मे DCP दुग्गल ने शहर मे घटित हुए जघन्य अपराध के आरोपियो की गिरफतारी को लेकर समीक्षा की। 

पुलिस उपायुक्त मुख्यालय राजेश दुग्गल ने जघन्य अपराधों के तहत दर्ज हुए मुकदमों के हालात पुछे और बचे हुए आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधिकारियों को आगामी कानूनी कर्यवाही के आदेश दिए। 

क्राइम कंट्रोल के सख्त आदेश देते हुए उन्होंने वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर उन्होंने कहा की सभी घटनाओं का खुलासा करें और लंबित विवेचनाओं का शीघ्रता से निस्तारण करें।

उन्होंने मीटिंग में उपस्थित शिकायतकर्ता सुमेर सिंह की शिकायत सुनी जिस पर सुमेर ने बताया कि उनके लडके आशीष को साजिश के तहत हत्या करके फांसी पर लटका दिया गया है जिस पर घटना में शामिल आरोपी के खिलाफ तिगांव थाना में मुकदमा दर्ज है परन्तु आरोपी के खिलाफ सबूत न होने की वजह से उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है जिस पर श्री दुग्गल ने निर्देश दिए कि आरोपी का पॉलीग्राफी टेस्ट करवाया जाए

पुलिस कमिश्नर राजेश दुग्गल ने मीटिंग में उपस्थित अन्य लोगों की शिकायत भी सुनी। नंगला गाँव के आनन्द कुमार ने बताया वह पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही से खुश हैं और उन्हें कोई शिकायत नहीं है। दरअसल उनके दोनों बेटों की मृत्यु सिलेंडर फटने से हो गई थी जिसमे आरोपी इंजिनियर गिरधारी के खिलाफ मुकदमा थाना सेक्टर 8 मे दर्ज किया गया था। जिसपर आरोपी को गिरफ्तार करके अदालत में पेश कर दिया गया है

महिला परिवादी रेखा अग्रवाल ने बताया की उसके बेटे को जलाकर मार दिया गया है जिस पर मुकदमा दर्ज है परन्तु कोई गिरफतारी नही हुई है। इसमें उन्होंने सहायक पुलिस आयुक्त, सूरजकुंड को जल्द से जल्द जाँच ख़त्म करके रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश दिए।

तिगांव के राजेश ने बताया की ठेकेदार द्वारा उसके घर के पास 8-9 फुट गहरा गड्ढा खोद दिया जिसमे गिरने की वजह से उसके दो बेटों की मृत्यु हो गई थी, इस पर पुलिस उपायुक्त ने ठेकेदार के खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश दिए।

भुपानी के निवासी दीपक ने बताया की उनका आरोपियों साथ झगडा हो गया था। आरोपियों ने उन्हें जान से मारने की नियत से गोली चलाई थी जिसमे आरोपी अभी बेल पर चल रहा है। इस पर श्री राजेश ने आरोपियों पर धमकी का मुकदमा दर्ज करके कार्यवाही करने के आदेश दिए।

गाँव फरीदपुर निवासी आकाश खां ने बताया की उनका उनके पडोसी से गेट लगाने को लेकर झगडा हो गया था जिसमे आरोपियों ने उनके साथ झगडा किया और जान से मरने की धमकी दी और उनपर गोली चलाई। इस मुक़दमे में 2 आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं और बाकियों की तलाश जारी है जिसपर पर पुलिस उपायुक्त ने सहायक उपायुक्त को तुरंत मौके पर जाकर मामले की तसदीक करने के आदेश दिए।

फतेहपुर निवासी महिला ने बताया कि उनकी 12 वर्ष की लड़की लापता हो गई थी जिसे पुलिस ने ढूंढकर उनके परिवार के हवाले कर दिया गया है और हम पुलिस की कार्यवाही से संतुष्ट हैं।

पुलिस उपायुक्त मुख्यालय राजेश दुग्गल ने बकाया गिरफ्तारियों में निर्देश देते हुए कहा कि तकनीकी व वैज्ञानिक पहलुओं के अंतर्गत अनुसंधान करके सभी बकाया आरोपियों की गिरफ्तारी कर जेल भेजे और मुकदमो का चालान अदालत मे पेश करें।

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच 65 की टीम ने चोर को पकड़कर बरामद की चोरी की मोटरसाइकिल

faridabad-crime-branch-sector-65-arrested-motorcycle-chor

फरीदाबाद, 17 सितंबर: क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 ने एक शातिर चोर पवन को फरीदाबाद के थाना सारन में दिनांक 23 जुलाई 2020 को दर्ज मुकदमा नंबर 230, धारा 379 IPC के तहत गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार गिरफतार किया।

आरोपी के कब्जे से एक यामाहा मोटरसाईकिल बरामद की गई।

आरोपी पवन पुत्र तेजपाल गांव पनेरा खुर्द बल्लभगढ़ का रहने वाला है।

पुछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह आईएमटी में नौकरी करता है। वह नशे करने का आदी है इसलिए उसने नशे खरीदने के लिए पैसों की पूर्ति करने के तहत मोटरसाइकिल चोरी की थी। वह इस मोटरसाइकिल को बेचने की फिराक में था परन्तु इससे पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

आरोपी को आज अदालत में पेश करके जेल भेजा गया।

फरीदाबाद से अपराध ख़त्म करने के लिए सीपी ओपी सिंह ने पुलिस अफसरों को दिए कुछ टिप्स, पढ़ें

 faridabad-cop-op-singh-advised-to-end-crime-in-district

फरीदाबाद: दिनांक 08.09.2020. पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद OP Singh ने आज तीनों जोनों के पुलिस अधिकारियों की संगोष्ठी के दौरान निर्देश दिए कि समाज से अपराध को समाप्त करने के लिए हर संभव युक्ति अपनाई जानी चाहिए। 

जैसे - जो लोग आदतन अपराधी हैं, उनकी  हिस्ट्री सीट या पर्सनल फाइल खोली जाएँ और इनकी नियमानुसार थाना में हाजरी सुनिष्चित की जाए। इलाके में असमाजिक तत्वों की हलचल पर कड़ी नजर रखी जाए। 

जिनकी आजीविका अपराधिक कमाई पर निर्भर हो उनकी संपत्ति के ब्यौरे एकत्रित किए जाएँ। जो लोग अराजकता फैलाने या अपनी स्वार्थ सिद्धि के उद्देष्य से समाज में पार्टीबाजी करते है, अवैध भीड़ जुटाते हैं या दंगे करवाते हैं, अवैध शराब का धंधा करते हैं, जुए का अड्डा चलाते हैं, सट्टा लगाते हैं या अवैध हथियार रखत हैं उनकी पहचान कर उन पर कानून का सिकंजा कसा जाना चाहिए और ग्राम अपराध पुस्तिका में ऐसे व्यक्तियों के इंद्राज किए जाने चाहिएँ तथा समय पर ऐसे लोगों की सूची को अद्यतन किया जाना चाहिए। 

इसके अतिरिक्त इलाके में दौरा करके लोगों के अपराधों से दूर रहने तथा अपराधियों द्वारा अपराध के दौरान प्रयोग में लाई जाने वाली युक्तियां के बारे में बताते हुए उन्हें अपराधियों से सतर्क रहने के लिए भी प्रेरित किया जाना चाहिए। अधिकारियों द्वारा पी॰सी॰आर॰, राइडर व बीट अफसरों के व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर उन्हें कार्य दिए जाकर उन पर नजर रखी जानी चाहिए। 

अगर कार्य निष्पादन रिपोर्ट आने के बाद किसी प्रकार की कोई कमी नजर आती है, तो सालीनता पूर्वक मार्गदर्षन उपरांत कार्य पुनः दिया जाना चाहिए, ताकि अधिनिस्थ कर्मचारियों को लगे कि लोग हमारे अधिकारी होने के साथ-साथ मददगार और मार्गदर्षक हैं। पुलिस आयुक्त महोदय द्वारा 

अधिकारियों को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहकर समाज से अपराध के खात्मे के लिए समर्पण भाव से कार्य करने के लिए प्रेरित किया गया, ताकि पुलिस के प्रति समाज के पूर्वाग्रह को बदला जा सके।

Crime Update: प्रेमी के साथ मिलकर पति का क़त्ल करने वाली महिला भी फिरफ्तार

 women-arrested-for-killing-husband-with-boyfriend

फरीदाबाद, 15 सितम्बर: क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 की टीम द्वारा मृतक की पत्नी आरोपी महिला को गिरफ्तार किया गया और हत्या में प्रयोग किए गया मोबाइल व खून से सने कपड़े बरामद किए गए।

हत्या आरोपी 23 वर्षीय नरेंद्र को अदालत में पेश कर 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया था जिसमे आरोपी से रिमांड के दौरान हत्या में इस्तेमाल गाड़ी, तेजधार हथियार, खून से सने कपड़े व तकिया तथा मोबाइल फ़ोन बरामद किया गया।

दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

Faridabad Crime Branch NIT ने मोटरसाइकिल चोर को दबोचा

 faridabad-crime-branch-nit-arrested-motorcycle-news

फरीदाबाद, 09 सितंबर: क्राइम ब्रांच NIT ने दिनांक 14 सितंबर 2020 को शाम लगभग 5 बजे एक शातिर चोर रंजीत उर्फ़ चंद्रू को फरीदाबाद के थाना सिटी बल्लबगढ़ में दिनांक 29 सितम्बर 2019 को दर्ज मुकदमा नंबर 575, धारा 379 IPC के तहत गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर IMT चौक से गिरफतार किया।

आरोपी के कब्जे से मौके पर ही एक डिस्कवर मोटरसाईकिल बरामद की गई। आरोपी रंजीत उर्फ़ चंद्रू पुत्र उमेश गांव खेड़ा दयालपुर फरीदाबाद का रहने वाला है।

पुछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसे मोटरसाइकिल चलाने का शौक था परन्तु उसके पास मोटरसाइकिल खरीदने के पैसे नहीं थे जिसके चलते उसने 2019 में मोटरसाइकिल चोरी कर ली थी जिसे वह अब तक चला रहा था।

आरोपी को आज अदालत में पेश करके जेल भेजा गया है।