Followers

Showing posts with label Crime. Show all posts

दोस्तों में रौब जमाने के लिए लाया था देसी कट्टा, पुलिस ने गिरफतार किया

crime-branch-sector-56-arrested-accused-with-illegal-deshi-katta
 

फरीदाबाद, 26 फरवरी 2021: क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 प्रभारी इंस्पेक्टर सत्यवान की टीम ने अवैध हथियार रखने के जुर्म में आरोपी सागर उर्फ हुड्डा को गुप्त सूत्रों की सहायता से गिरफ्तार किया है।

आरोपी के कब्जे से एक देसी कट्टा व एक जिंदा कारतूस बरामद किया गया। 

आरोपी के खिलाफ थाना सिटी बल्लभगढ़ में आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी अपने दोस्तों में रौब जमाने के लिए मथुरा से किसी अनजान व्यक्ति के पास से 3000 रुपए में कट्टा लेकर आया था

आरोपी को गुप्त सूत्रों की सहायता से पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया।

आरोपी सागर उर्फ हुड्डा पुत्र अनिल फरीदाबाद के आदर्श नगर का रहने वाला है जिसे अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

नशे की लत ने शाहरुख और मासूम हुसैन को बनाया चोर, पुलिस ने गिरफ्तार करके भेजा जेल

faridabad-crime-branch-sector-85-arrested-chor-shahrukh-hasum-husain

फरीदाबाद, 26 फरवरी 2021: क्राइम ब्रांच 85 प्रभारी उपनिरीक्षक सुमेर सिंह की टीम ने चोरी के जुर्म में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में शाहरुख और मासूम हुसैन का नाम शामिल है।

आरोपियों के खिलाफ थाना आदर्श नगर में चोरी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज है।

पूछताछ में सामने आया कि दोनों आरोपी नशा करने के आदी हैं और गांजा का नशा करते हैं।

नशे की लत के चलते यह चोरी की वारदातों को अंजाम देते हैं और अपने नशे की आपूर्ति करते हैं।

आरोपियों के कब्जे से ₹4000 नगद बरामद किए गए हैं।

आरोपी शाहरुख पुत्र मौसम खान व आरोपी मासूम हुसैन पुत्र तैयब हुसैन दोनों दिल्ली के जैतपुर के रहने वाले हैं।

दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

एटीएम कटर गैंग के सदस्य आमिर को अवैध हथियार सहित Faridabad CIA ने किया गिरफ्तार

faridabad-cia-central-arrested-atm-cutter-gang-accused

फरीदाबाद, 26 फरवरी 2021: क्राइम ब्रांच सेंट्रल प्रभारी इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह की टीम ने गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपी आमिर को अवैध हथियार रखने के जुर्म में गिरफ्तार किया है।

आरोपी के कब्जे से एक देसी कट्टा बरामद किया गया है। आरोपी के खिलाफ थाना बीपीटीपी में आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी नशा करने का आदी है और एटीएम कटर गैंग का सदस्य है।नशे की पूर्ति के लिए आरोपी अपने साथियों के साथ मिलकर एटीएम मशीन काटकर उसमें से पैसे उड़ा लेते थे।

आरोपी आमिर पुत्र शराफत अली दिल्ली के मोलरबंद एक्सटेंशन का रहने वाला है। आरोपी को अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमें उसके उसके साथियों के बारे में पूछताछ की जाएगी और अन्य वारदातों का भी खुलासा किया जाएगा।

मेयर ने लिखा CM को पत्र, निगम अधिकारियों के काम की कराओ विजिलेंस जांच, करोड़ों रुपये हुए बर्बाद

faridabad-mayor-suman-bala-wrote-cm-letter-vigilence-enquiry-mcf-work

फरीदाबाद, 26 फरवरी: फरीदाबाद नगर निगम की मेयर सुमन बाला से हाल ही में निगम के एक अधिकारी सुरेंद्र खट्टर ने बदतमीजी की थी जिसपर हरियाणा सरकार ने एक्शन लेते हुए उन्हें सस्पेंड कर दिया है.

अब मेयर सुमन बाला ने निगम अधिकारियों की पोल खोलनी शुरू कर दी है. उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को पत्र लिखकर निगम अधिकारियों के काम काज की विजिलेंस जांच की अपील की है और करोड़ों रुपये भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं.

विषय: स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रांट की जांच राज्य चौकसी ब्यूरो द्वारा करवाने बारे आग्रह

आदरणीय मुख्यमंत्री जी नमस्कार, स्वच्छ भारत मिशन के तहत भारत सरकार व हरियाणा सरकार द्वारा 2015 से 2021 तक फरीदाबाद नगर निगम को जो ग्रांट दी गयी उसका अधिकारियों द्वारा दुरूपयोग किया गया. स्वच्छ भारत के तहत 12 करोड़ रुपये के टॉयलेट खरीद लिए गए और लगाए गए जिनकी गुणवत्ता बहुत ही खराब है तथा उनको सीवर लाइन से जोड़ा नहीं गया और ना ही पानी के टैंक लगाए गए जिस कारण सरकार का पैसा बर्बाद हुआ और जनता में इन अधिकारीयों की वजह से सरकार की छवि खराब होती है, नुक्कड़ नाटक करके जनता को स्वच्छता के प्रति सचेत करना था जो की नहीं हुआ और एक एजेंसी को पैसे दे दिए गए.

उन्होंने बताया क़ि टॉयलेट की गिनती पूरी नहीं है, वार्डों में JCB द्वारा साफ़ सफाई करवाई जानी थी जो नहीं हुई और लगभग एक करोड़ रुपये एक एजेंसी को दे दिए गए, ऐसे ही सरकार के पैसों को बर्बाद किया जा रहा और सरकार की छवि जनता में ख़राब ये नगर निगम फरीदाबाद के स्वच्छ भारत मिशन के अधिकारी और ठेकेदार मिलकर कर रहे हैं. रोजाना की अख़बारों के कतरे साथ संलग्न हैं.



 

अपराधियों के मन में पुलिस के प्रति इतना खौफ होना चाहिए की अपराध करने से पहले कई बार सोंचे: CP

faridabad-police-cp-op-singh-order-strict-action-against-criminals

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने अपने कार्यकाल में मिटींग के दौरान सभी पुलिस अधिकारियो को आदेश दिए कि फरीदाबाद में वारदातों को अंजाम देने वाले अपराधीयो के मन में पुलिस के प्रति इंतना खोफ होना चाहिए की वह अपराध करने से पहले कई बार सोचे। फरीदाबाद में बीते साल की तुलना करे तो इस साल 50 दिन में क्राइम रेट में भारी गिरावट आई है। चोरी, लूट, डकैती, वाहन चोरी जैसे मामलों में भारी कमी देखने को मिली है। वहीं अगर बात हत्याओं की किया जाए तो इस साल 13 मर्डर हुए हैं। इनमे से 12 मामले अबतक ट्रेस हो चुके हैं। इनमे से अधिकतर हत्याएं लव ट्रायंगल के मामले अधिक है। इसके साथ ही सगे संबंधियों द्वारा भी कई मामलों में सामने आया है। 

सभी सीआईए और थानों का लक्ष्य निर्धारित 

डीसीपी हेडक्वार्टर डॉ. अर्पित जैन ने बताया कि पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने सभी सीआईए और थाना प्रभारियों को अवैध हथियार रखने वाले, एनडीपीएस एक्ट और पुराने हिस्ट्रीशीटरों पर नजर रखने को कहा गया है। शहर में उन पॉइंट्स को चिंहित करें जहां से सबसे ज्यादा चोरियां हो रही हैं। ऐसे पॉइंट्स पर खास निगरानी कर अपराधियों को काबू करें। इसके साथ ही शहर के सीमवर्ती इलाकों में आने-जाने वाले वाहनों व लोगों पर भी खास नजर रखे। 

पुलिस बॉन्डिंग ने बढ़ाई जागरुकता 

बीट पुलिसिंग के चलते जनता और पुलिस के बीच खास बॉन्डिंग बनकर सामने आई है। जिसका असर क्राइम रेट को गिराने में खासा पड़ा है। अब शहर में अवैध रूप से शराब बिकने में गिरावट देखने को मिली है। वहीं एनआईटी क्षेत्र में कई जगह अवैध रूप से नशे के लिए गांजा व अफीम बिकने पर भी काफी हद तक रोक लग सकी है।  

डे-नाईट पेट्रोलिंग से अपराधियों में खौफ 

पुलिस की डे और नाईट पेट्रोलिंग और कंट्रोल रूम में 24 घंटे एसीपी रैंक के अधिकारी की मोनिटरिंग से शहर के क्राइम ग्राफ को गिराने में बहुत मदद मिली है। कंट्रोल रूम में आने वाली हर कॉल पर एसीपी की नजर होती है। इसके साथ ही रैंडम तौर पर वो पीड़ितों को कॉल कर पुलिस का फीडबैक भी लेते हैं। 

जमानत पर जेल से बाहर आते ही चोरों ने फिर की चोरी, पुलिस ने पकड़कर फिर भेजा जेल

faridabad-crime-branch-uncha-gaon-arrested-two-chor-news

फरीदाबाद, 25 फरवरी 2021: क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव प्रभारी उप निरीक्षक जगमिंदर सिंह की टीम ने दो शातिर चोरों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में कुंवर और प्रिंस का नाम शामिल है। दोनों आरोपी नशा करने के आदी हैं और चोरी के जुर्म में पहले भी जेल की हवा खा चुके हैं। दोनों आरोपी कुछ दिन पहले ही जमानत पर जेल से बाहर आए थे।

बाहर आते ही दोनों ने साथ मिलकर फिर से चोरी की वारदात को अंजाम दे दिया। आरोपियों के खिलाफ थाना शहर बल्लभगढ़ में चोरी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज है।

आरोपियों को अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें उन्होंने चोरी की एक अन्य वारदात को भी कबूला।

आरोपियों के कब्जे से 1 सोने की चेन, 1 जोड़ी चांदी की पाजेब, 1 लैपटॉप, 1 एलइडी, 1 मोबाइल, 1 गैस सिलेंडर व 1 चूल्हा बरामद किया गया है।

आरोपी कुवर सैन पुत्र हरी सिंह, बल्लभगढ़ के कुम्हार वाडा और आरोपी प्रिन्स पुत्र मनोरन्जन त्रिखा कॉलोनी के रहने वाले हैं।

दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

खोये, छीने गए और लुटे गए 26 मोबाइलों को पुलिस ने साइबर तकनीक की सहायता से किया बरामद, वापस किया

faridabad-police-recovered-26-mobile-phones

फरीदाबाद, 24 फरवरी 2021: जिले के साइबर थाना की टीम ने गुम हुए 26 मोबाइलों को साइबर तकनीक के माध्यम से ढूंढ निकालने में सफलता हासिल की है।

पुलिस उपायुक्त डॉ अर्पित जैन ने फोन मालिकों को अपने कार्यालय में बुलाया और उनके फोन को उनके पास वापिस लौटाकर उनके चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी।

बरामद किए गए मोबाइलों में 8 मोबाइल सैमसंग, 6 विवो, 5 रेडमी, 2 ओप्पो, 1 लेनोवो, 1 मोटरोला, 1 फ्यूजन, 1 आसूस और 1 मोबाइल वनप्लस का शामिल है।

जिले के साइबर थाना की टीम ने कड़ी मशक्कत करते हुए साइबर तकनीक के माध्यम से इन मोबाइलों को विभिन्न स्थानों से बरामद किया है।

डॉक्टर अर्पित जैन ने बताया कि मोबाइल फोन मनुष्य के जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुका है। आजकल की दिनचर्या मैं लगभग सारा काम मोबाइल के जरिए ही संपन्न किया जाता है जिसका गुम हो जाना किसी कीमती खजाने के खो जाने से कम नहीं है।

इनमें से कुछ मोबाइल तो ऐसे हैं जिनके वापिस प्राप्त होने की उम्मीद तक उनके मालिकों को नहीं थी परंतु साइबर टीम की कड़ी मेहनत के बदौलत इन खोए हुए मोबाइल को ढूंढ निकाला गया और सकुशल उनके मालिकों के हवाले कर दिया गया।

अपने मोबाइल को वापस पाकर उनके मालिक बहुत खुश हुए। भारत कॉलोनी निवासी आशीष, खेड़ी पुल निवासी अविनाश, पगला निवासी रवि कांत और पर्वतीय कॉलोनी निवासी नीतू से की गई बातचीत में उन्होंने बताया कि वह अपना फोन वापस पाकर बहुत खुश हैं और फरीदाबाद साइबर टीम के साथ-साथ पूरी फरीदाबाद पुलिस द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए उनका धन्यवाद करते हैं।

RBL बैंक कर्मी बनकर लोगों को करते थे फोन, देते थे कैश बैक का लालच और करते थे फ्रॉड, 2 गिरफ्तार

rbl-fraud-exposed-2-fake-employee-arrested-faridabad-cyber-thana

फरीदाबाद, 24 फ़रवरी 2021: डॉ अर्पित जैन डीसीपी मुख्यालय ने प्रेस वार्ता के दौरान खुलासा करते हुए बताया कि साइबर थाना की टीम ने, RBL बैंक का कर्मचारी बताकर लोगों के साथ आरबीएल बैंक के कार्ड पर कैशबैक का  ऑफर दे (साइबर फ्रॉड) धोखाधड़ी से पैसा ऐंठने वाले दिल्ली निवासी 2 ऐशे आरोपियो को गिरफ्तार किया है जो कम समय में अवैध तरीके (साइबर फ्रॉड) से ज्यादा पैसा कमाना चाहते थे।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में ध्रुव और हिमांशु शामिल है. फरीदाबाद साइबर थाना में इन लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 406,419,420 के तहत धोखाधड़ी के 3 मुकदमे दर्ज हैं.

fraud-rbl-employee-arrested

पुलिस आयुक्त ओपी सिंह द्वारा आरोपियो को जल्द पकडने के निर्देशों व पुलिस उपायुक्त अपराध मुकेश मल्होत्रा व सहायक पुलिस आयुक्त अपराध अनिल यादव के दिशा-निर्देशों पर कार्य करते हुए थाना साइबर अपराध प्रभारी इंस्पेक्टर बसंत कुमार के नेतृत्व में टीम का घठन किया गया जिसमे सहायक उप निरीक्षक नरेंद्र, उप निरीक्षक राजेश कुमार, उप निरीक्षक योगेश कुमार, महिला स.उ.नि. गीता,  मु.सि. दिनेश,  मु.सि. नरेश,  मु.सि. लोकेश,  मु.सि.वीरपाल , मु.सि. कृष्ण, सिपाही अंशुल कुमार, सिपाही अमित, सिपाही सचिन, सिपाही सुमित का नाम शामिल है.

दिनांक 14 फरवरी 2021 को साइबर तकनीक की सहायता से आरोपियों को फरीदाबाद से गिरफ्तार करके 10 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में सामने आया कि आरोपी खुद को RBL बैंक का कर्मचारी बताकर लोगों को फ़ोन करके उनके RBL क्रेडिट कार्ड पर कैशबैक ऑफर का लालच देते थे. इन फर्जी बैंककर्मियों की बातों में आकर कुछ लोग कैशबैक के लालच में फस जाते थे.

पैसों के लालच में आकर जब कार्डधारक कैशबैक ऑफर लेने की हामी भर लेते थे तो आरोपी क्रेडिट कार्ड की वेरिफिकेशन के नाम पर उनसे क्रेडिट कार्ड का नंबर, CVV और OTP प्राप्त कर लेते थे.

इसके पश्चात् वह उस क्रेडिट कार्ड से ईकॉमर्स वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन शौपिंग करते और महंगे सामान मंगवा लेते।

जब वह सामान डिलीवरी के लिये आता तो उसे अपने पते पर न लेकर कहीं बीच रास्ते में ही ले लेते थे और बाद में उस सामान को सस्ते रेट पर राह चलते लोगों को बेच दिया जाता था.

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में अब तक 50 से ज्यादा लोगों सहित पूरे देश में 1 हजार से ज्यादा लोगों के साथ धोखाधड़ी कर चुके हैं.

इस प्रकार धोखाधड़ी करके इन्होने कई लोगों को लाखों का चूना लगाया है सेक्टर 28 के रहने वाले राजबहादुर के साथ 1 लाख 27 हजार, सेक्टर 15ए के निवासी अमितराज बग्गा के साथ 92 हजार और बल्लबगढ की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी संजय कुमार के साथ 52 हजार रुपए का फ्रॉड कर चुके हैं.

आरोपियों के कब्जे से 2 मोबाइल फ़ोन व 30 हजार रुपए व 1 सिमकार्ड बरामद किए गए हैं.

आरोपी ध्रुव पुत्र अशोक कुमार दिल्ली के मोहन गार्डन व आरोपी हिमांशु पुत्र सुनिल कुमार दिल्ली के उत्तमनगर का रहने वाला है जिन्हें अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है.

इस मामले में इनका एक अन्य साथी भी शामिल है जिसको पुलिस द्वारा जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

स्नैचिंग करने वाले 2 आरोपियो को क्राईम ब्रांच NIT ने दबोचा, 10,500 रुपये नगद बरामद

faridabad-police-cia-nit-arrested-2-snatcher-news

फरीदाबाद, 23 फरवरी 2021: क्राईम ब्रांच NIT ने मिली सूचना के आधार पर कार्यवाई करते हुए आरोपी राजन मान उर्फ सोनू, साहिब को थाना सैक्टर-7 और थाना मुजेसर के स्नैचिंग के मुकदमों में गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

आरोपियो की पहंचान राजन मान उर्फ सोनू, साहिब निवासी सागरपुर दिल्ली के रुप में हुई है। आरोपी हाल में पल्ला में रह रहे है।

पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि उन्होने दिनांक 16 फरवरी 21 को थाना मुजेसर के एरिया संजय कॉलोनी में एक व्यक्ति से 500/- रुपये छिन्ने की घटना को अजाम दिया था।

आरोपियों ने दिनांक 27 जनवरी को थाना सैक्टर-7 फरीदाबाद के एरिया सैक्टर-9 की मार्किट के पास से एक महिला से सोने की चेन स्नैचिंग की घटना की थी।

क्राईम ब्रांच प्रभारी ने बताया कि आरोपियो से पूछताछ में पता चला की आरोपियो ने दिल्ली में 25 अन्य स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दिया है। 

आरोपियो से 10500/- रुपये नगद बरामद किये गये है। आरोपियो को आज पेश अदालत कर जेल भेज दिया गया है।

सिटी बस सर्विस: GMCBL ने ग्रेफ़ा कन्फ़ेडरेशन (of RWAs) के साथ किया रूट सर्वेक्षण

greater-faridabad-city-bus-service-route-survey-news

फरीदाबाद, 23 फरवरी: मंगलवार को नहरपार क्षेत्रों में लो-फ़्लोर ऐसी सिटी बस चलाने के लिए ग्रेटर फ़रीदाबाद व नहर पार क्षेत्रों में रूट व स्टाप का इतिहास में पहली बार सर्वे किया गया। 

यह सर्वे जी॰ एम. सी. बी. एल॰ (गुरुग्राम मेटोपोलिटन सिटी बस लिमिटेड) व ग्रेफ़ा कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आर॰डबल्यू॰ए॰ ने साथ मिलकर किया।

मंगलवार सुबह जी॰ एम. सी. बी. एल॰ का सात सदस्यों का प्रतिनिधि मंडल मैनेजर जे॰ पी॰ सिंह की नेतृत्व में फ़रीदाबाद के बल्लभगढ़ बस स्टैंड पहुँचा जिसमें प्रवीण चौधरी, वरुण व आई॰ टी॰ के रूट एक्स्पर्ट शामिल थे और ग्रेफ़ा कन्फ़ेडरेशन के अरुण भारतीय व विक्रांत गौड़ शामिल हुए।

ग्रेटर फ़रीदाबाद में पहली बार इस तरह  के किए गए सर्वे में लगभग छः घंटे का समय लगा। सर्वे के बाद तीन अलग अलग रूट पर बस चलाने के बारे में विचार किया गया। दस मार्च के बाद बस चलाने के लिए नहरपार के पल्ला व तिल्पत क्षेत्रों का भी सर्वे किया जाएगा।

नौकरी का झांसा देकर असम से लाई गई 5 लड़कियों को फरीदाबाद पुलिस ने करवाया मुक्त

faridabad-dabua-thana-police-arrested-three-accused-free-5-women
 

फरीदाबाद, 23 फ़रवरी 2021: थाना डबुआ प्रभारी इंस्पेक्टर सोहनपाल की टीम ने नौकरी का झांसा देकर असम से लाई गई 5 लड़कियों को मुक्त करवाकर 1 महिला सहित 2 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है.

पुलिस उपायुक्त डॉ अर्पित जैन ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि पाँचों लड़कियां असम से लाई गई थी जिनको गलत धंधों में धकेलने की कोशिश की जा रही थी परन्तु कैद की गई 16 वर्षीय किशोरी की सूचना पर पुलिस टीम ने सभी लड़कियों को मुक्त करवाने में सफलता हासिल की है.

मुक्त करवाई गई लड़कियों में से एक की शिकायत के आधार पर थाना डबुआ में आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 370, 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में आरोपी इजाबुल हक व रुही उर्फ शान्ति माया का नाम शामिल है.

आरोपी इजाबुल हक पुत्र जोमबार असम के बारुडगा का रहने वाला है वहीँ आरोपी रुही उर्फ शान्ति माया पुत्री जय बहादुर नागालैण्ड के दीमापुर की रहने वाली है.

मुक्त कराई गई किशोरियों को बाल कल्याण समिति व लड़कियों को जज साहब के सामने बयान करवाकर कानूनी कार्यवाही पूरी करने के पश्चात् उन्हें सकुशल उनके परिजनों के हवाले कर दिया गया.

किशोरी ने अपने ब्यान में बताया कि उसकी बहन की सहेली उसे नौकरी का झांसा देकर पहले उसे सिलीगुड़ी लेकर गई और बाद में उसे 2 अन्य लड़कियों के साथ डबुआ, फरीदाबाद पहुंचा दिया गया.

डबुआ में तीनों लड़कियों को एक कमरे में बंद कर दिया गया जिसमे 1 महिला और 1 युवती पहले से मौजूद थी जिन्हें 10 दिन पहले ही वहां लाया गया था.

जब किशोरी ने उनके साथ बातचीत शुरू की तो उसे पता चला कि उन्हें यहाँ गलत धंधा करवाने के लिए लाया गया है.

यह सुनकर लड़की सहम गई परन्तु उसने हिम्मत नहीं हारी और रात को मौका पाकर किशोरी ने अपने पास छुपाए हुए फ़ोन से पुलिस को सूचना दी कि वह किसी अनजान जगह पर बंद है और उसे जगह का नाम-पता कुछ मालूम नहीं है.

सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई और साइबर तकनीक का प्रयोग करते हुए थाना डबुआ प्रभारी इंस्पेक्टर सोहनपाल की अगुवाई में ASI दिनेश, ASI रजनी, महिला सिपाही प्रियंका व टीम ने कड़ी मुशक्कत करने के पश्चात् कमरे की तलाश की और 5 लड़कियों को वहां पर कैद पाया।

पुलिस टीम ने सभी बंधकों को वहां से मुक्त करवाया गया| आरोपी मौके से फरार हो गए जिन्हें बाद में गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर डबुआ से गिरफ्तार कर लिया गया.

दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है और इस धंधे में शामिल अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है जिन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

छीना झपटी के मामले में फरार चल रहे उद्घोषित अपराधी को क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 ने दबोचा

faridabad-crime-branch-sector-85-news-21-feb

फरीदाबाद, 21 फरवरी 2021: क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 की टीम ने छीना झपटी के मामले में पिछले 2 साल से फरार चल रहे एक आरोपी को काबू करने में सफलता हासिल की है।

आरोपी की पहचान विक्रम पुत्र रामविलास निवासी सफियाबाद बिहार हाल किराएदार सेक्टर 11 शिव कॉलोनी फरीदाबाद के रूप में हुई है।

प्रभारी क्राइम ब्रांच सब इंस्पेक्टर सुमेर ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी के खिलाफ छीना झपटी के तहत कई मामले दर्ज है जिनमें आरोपी जेल भी जा चुका है। 

आरोपी वर्ष 2018 के छीना झपटी के थाना कोतवाली के एक मामले में पिछले 2 साल से फरार चल रहा था।

पुलिस टीम ने आज आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है।

जल्दी अमीर बनने के लिए गांजा तस्करी करने लगा आरोपी, पुलिस ने गिरफ्तार करके भेजा जेल



फरीदाबाद 21, फरवरी 2021: फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच सेक्टर 17  को  गुप्त सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर  आरोपी विजय को थाना सूरजकुंड के अधिकार क्षेत्र से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है

आरोपी की पहचान विजय निवासी गांव मेवला महाराजपुर थाना सूरजकुंड फरीदाबाद के रूप में हुई है.

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह इस गांजा को छोटी-छोटी पुरिया बनाकर महंगे दामों में बेचने का काम करता है आरोपी ने यह काम कम समय में अधिक पैसे कमाने के चक्कर में हो गया है आरोपी यह गांजा किसी अनजान व्यक्ति से खरीद कर लाया था.

क्राइम  ब्रांच सेक्टर 17 ने बताया कि आरोपी के खिलाफ गुप्त सूत्रों से सूचना मिली थी जिस पर कार्रवाई करते हुए आरोपी को थाना सूरजकुंड के अधिकारी क्षेत्र से गांजा सहित गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोपी के खिलाफ थाना सूरजकुंड में अवैध  नशीले पदार्थ की तस्करी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

आरोपी से मौका पर 4 किलो 144 ग्राम गांजा बरामद हुआ है.

 क्राइम ब्रांच टीम ने बताया कि आरोपी नशे का आदी है.

आरोपी को आज पेश अदालत कर जेल भेज दिया गया है.

अवैध देसी कट्टा धारी युवक को पुलिस ने पकड़ कर भेजा जेल

faridabad-crime-branch-sector-central-arrested-accused

फरीदाबाद: 20 फरवरी 2021: क्राइम ब्रांच सेंट्रल को गुप्त सूत्रों  से मिली सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपी मेजर सिंह को काबू करने में सफलता हासिल की है.

आरोपी की पहचान  मेजर सिंह निवासी गांव टीकाबली थाना भूपानी फरीदाबाद.

क्राइम ब्रांच सेंट्रल टीम ने बताया कि आरोपी को गुप्त सूत्रों से मिली सूचना के आधार भुपानी मोड़ नहर पुलिया के पास से अवैध हथियार सहित काबू करने में सफलता हासिल की है.

पूछताछ में  आरोपी ने बताया कि  वह  अपने शौक  शान  के लिए  किसी अनजान व्यक्ति से  देसी कट्टा  खरीद कर लाया था.

पुलिस टीम ने बताया कि आरोपी के खिलाफ थाना भुपानी में अवैध हथियार की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

आरोपी को आज पेश अदालत कर जेल भेज दिया गया है.

गांजा तस्करी करने वाले आरोपी को CIA सेक्टर 17 ने किया गिरफ्तार

faridabad-crime-branch-sector-17-arrested-ganja-taskar

फरीदाबाद, 20 फरवरी 2021: फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच सेक्टर 17  को  गुप्त सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर  आरोपी   सौरव को थाना सूरजकुंड के अधिकार क्षेत्र से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है

आरोपी की पहचान  सौरव बैंसला निवासी हनुमान नगर खेड़ी पुल फरीदाबाद के रूप में हुई है.

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह खरीद कर लाया था और वह इस गांजा को छोटी-छोटी पुरिया बनाकर महंगे दामों में बेचने का काम करता है आरोपी ने यह काम कम समय में अधिक पैसे कमाने के चक्कर में हो गया है आरोपी यह गांजा किसी अनजान व्यक्ति से खरीद कर लाया था.

क्राइम  ब्रांच सेक्टर 17 ने बताया कि आरोपी के खिलाफ गुप्त सूत्रों से सूचना मिली थी जिस पर कार्रवाई करते हुए आरोपी को थाना सूरजकुंड के अधिकारी क्षेत्र से गांजा सहित गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोपी के खिलाफ थाना सूरजकुंड में अवैध  नशीले पदार्थ की तस्करी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

आरोपी से मौका पर 1किलो 216 ग्राम गांजा बरामद हुआ है.

क्राइम ब्रांच टीम ने बताया कि आरोपी नशे का आदी है. आरोपी को आज पेश अदालत कर जेल भेज दिया गया है.

क्राईम ब्रांच सैक्टर 65 ने लूट की कोशिश करते 3 आरोपियों साद, दिलशाद, हुजैफा को दबोचा

faridabad-crime-branch-sector-65-arrested-three-loot-accused

फरीदाबाद, 18 फरवरी 2021: पुलिस कमिश्नर OP SINGH, पुलिस उपायुक्त अपराध मुकेश मल्होत्रा व सहायक पुलिस आयुक्त अपराध अनिल कुमार के दिशा निर्देश पर कार्यवाई करते हुए क्राइम ब्रांच सैक्टर 65 प्रभारी इंस्पेक्टर कर्मवीर ने वाहन चोरी करने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को लूट की कोशिश करते समय काबू करने में कामयाबी हासिल की है।

क्राईम ब्रांच प्रभारी ने बताया की गुप्त सूत्रों से उनको सुचना मिली थी कि ट्रांसपोर्ट नगर सेक्टर 61 में सुनसान जगह पर उपरोक्त आरोपियान लूटपाट की योजना बना रहे हैं जिस पर क्राईम ब्रांच प्रभारी ने तुरंत कार्यवाई करते तीन आरोपियों को मौके पर दबोचने में सफलता हासिल हुई है।

आरोपियों के खिलाफ लूट की कोशिश के तहत मामला थाना आदर्श नगर में दर्ज किया गया है।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियो की पहंचान साद निवासी गांव बादली थाना पुनहाना जिला नँहू,दिलशाद निवासी गांव नुनेरा सोहना जिला गुरुग्राम, हुजैफा निवासी गांव बादली थाना पुन्हाना जिला नूँह मेवात के रुप में हुई है।

पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि उन्होंने थाना आदर्श नगर में 4 फरवरी 2021 को एक आईसर कैन्टर, 7 फरवरी को थाना आदर्श नगर के एरिया में एक मोटरसाईकिल चोरी की घटना को अंजाम दिया है। एक इको कार को 12 नम्बर को थाना आदर्श नगर के एरिया से चोरी किया था।

उपरोक्त तीनो आरोपियो द्वारा थाना शहर बल्लबगढ़ के एरिया में दिनांक 6 फरवरी को एक आईसर कैन्टर, थाना सैक्टर-31 के एरिया से भी एक आईसर कैंटर को दिनांक 25 जनवरी को चोरी किया था। थाना सैन्ट्रल में दिनांक 10 फरवरी को एक मोटरसाईकिल चोरी की घटना को अंजाम दिया था।

उपरोक्त आरोपियो से 5 आईसर कैंटर, एक इको कार, दो मोटरसाइकिल, एक स्कूटी, चार स्टेपनी बरामद की है। आरोपियों से बरामद वाहन और सामान की कीमत करीब लगभग ₹ 80 लाख रुपए हैं।

आरोपियो पर कुल 12 मुकदमे सामने आये है जिनमे 4 घटना थाना आदर्श नगर, 2 थाना सैक्टर-7 व 1-1 घटना थाना शहर बल्लबगढ़, थाना सेक्टर-31,थाना सैन्ट्रल, थाना खेडी पुल, थाना ओल्ड और थाना पल्ला में की है। जिनमें से कुछ बरामदगी हो गई है कुछ बकाया है। जो आरोपियो को पेश अदालत कर 7 दिन की पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। आरोपियो ने एक स्कूटी को दिल्ली से चोरी किया है। 

पूछताछ पर आरोपी साद ने बताया की आरोपी के चार भाई जेल में हैं। वर्ष 2007 में साद के भाई मुस्ताक ने हरियाणा पुलिस में कार्यरत प्रधान सिपाही उमर मोहम्मद की सीधी गोली मारकर हत्या कर दी थी आरोपी के चारों भाई अलग-अलग जेलों में बंद है जिनके खर्चे के पैसों की पूर्ति के लिए आरोपी ने अपना गिरोह बनाकर वाहन चोरी की घटनाओ को अंजाम देता है।

आरोपी दिलशाद ने बताया कि आरोपी साद तथा हुजैफा के साथ मिलकर अपनी गाड़ी में बैठा कर खड़ी गाड़ी कैंटर व इको गाड़ी आदि की रेकी करके अपने साथियों को उन्हें चोरी करने के लिए स्थान पर छोड़ देता था वह खुद गाड़ी में लगे जीपीएस को हटाने में मदद करता था व गाड़ी को चोरी करके तीन-चार किलोमीटर तक आगे आगे चलता था जोकि पुलिस के बारे में सूचना देता था कि पुलिस आगे खड़ी है कि नहीं।

आरोपी हुजैफा ने अपने साथियों के साथ गाड़ियों को स्टार्ट करने में गाड़ियों की रेकी करने में तथा गाड़ियों को ले जाने में मदद करता था।

क्राईम ब्रांच टीम ने बताया कि अभी आरोपियो से पूछताछ बाकी जो आरोपियो को पेश अदालत कर आरोपियो को 7 दिन की पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। आरोपियो से वाहन चोरी की ओर भी वारदात सुलझने की संभावना है।

क्राईम ब्रांच उंचा गांव ने बैटरी चोरो के गिरोह का किया पर्दाफाश, भेजा जेल

faridabad-uncha-gaon-crime-branch-arrested-battary-chor

फरीदाबाद, 17 फरवरी 2021: क्राईम ब्रांच उंचा गांव ने बैटरी चोरी करने वाले आरोपियो के बारे में गुप्त सुचना प्राप्त हुई जो पुलिस टीम ने तुरन्त कार्यवाई करते हुए 3 आरोपियो को एन आई टी फरीदाबाद से काबू करने में कामयाबी हासिल की है।

आरोपियो की पहचान अजित उर्फ पाचा, संजय उर्फ बाबु निवासी एन आई टी -4 और प्रमोद उर्फ मच्छर निवासी पटेल चौक फरीदाबाद के रुप में हुई है।

पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि उन्होने दिनांक 09 फरवरी, 12 फरवरी और 13 फरवरी को थाना SGM नगर में,दिनांक 10 फरवरी को थाना सैक्टर-58, 1 फरवरी और 12 फरवरी को थाना कोतवाली में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था

क्राईम ब्रांच टीम ने बताया कि आरोपियो के खिलाफ पहले और कोई मुकदमा दर्ज नही है। आरोपी नशे करने के आदि है नशे की पूर्ती के लिए चोरी करते है।

आरोपियो से उपरोक्त मुकदमों में आरोपियो के कब्जे से 13000/- रुपये 4 बैटरी वारदात में प्रयोग होने वाले ऑटो को बरामद किया है।  

आरोपियो को आज अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

बुलट मोटर साईकिल चोरी करने वाले आरोपी को क्राईम ब्रांच उंचा गांव ने किया गिरफ्तार

faridabad-uncha-gaon-crime-branch-arrested-bullet-chor 

फरीदाबाद, 17 फरवरी 2021: क्राईम ब्रांच उंचा गांव की टीम को चोरी करने वाले आरोपी सचिन के बारे गुप्त सूत्रों से सूचना मिली जो सुचना पर कार्यवाई करते हुए फरीदाबाद से काबू करने में कामयाबी हासिल की है।

आरोपी की पहंचान सचिन निवासी रोशन नगर फरीदाबाद के रुप में हुई है। पूछताछ में उपरोक्त आरोपी ने बताया कि वह पहले भी जेल जा चुका है। 

आरोपी ने दिनांक 11 फरवरी को थाना पल्ला के एरिया से एक मोटरसाईकिल चोरी की घटना को अंजाम दिया था।

क्राईम ब्रांच टीम ने बताया कि आरोपी सचिन को पल्ला थाना के एरिया से काबू करने में कामयाबी हासिल की है। पुलिस टीम ने बताया कि आरोपी नशे का आदि है। आरोपी नशे की पूर्ती के लिए चोरी करता है।

आरोपी से एक बुलट मोटर साईकिल बरामद की गयी है, आरोपी को पेश अदालात कर जेल भेज दिया गया है।

परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए भटक रहा था दिव्यांग व्यक्ति, सेक्टर-11 चौकी इंचार्ज ने बनवाया

faridabad-sector-11-police-chowki-incharge-good-work-news

फरीदाबाद, 17 फरवरी 2021: पुलिस चौकी सेक्टर-11 इंचार्ज ने मानवता का परिचय देते हुए एक विकलांग व्यक्ति के परिवार पहचान पत्र को बनवा कर एक सराहनीय कार्य किया है। 

विकलांग व्यक्ति रामवीर पुत्र कुंदन निवासी बाटा मोड़ फरीदाबाद का निवासी है।

पुलिस चौकी सेक्टर-11 इंचार्ज ने बताया की वे अपनी टीम के साथ गस्त पर थे जो उन्होने देखा की एक विकलांग व्यक्ति रिक्शे पर काफी परेशान हालत में अलग अलग लोगो से मद्द की गुहार लगाता हुआ दिखा।

चौकी प्रभारी ने विकलांग व्यक्ति के पास जाकर उसकी परेशानी के बरे पूछा।

उसने बताया कि वह अपने परिवार का पहचान पत्र सेक्टर-12 कोर्ट बनवाने के लिए आया है लेकिन इस सम्बन्ध में किसी भी व्यक्ति ने मेरी मद्द नही की में बहुत परेशान हुँ।

चौकी प्रभारी ने रामवीर को बैठा कर पानी पिलाया और चौकी में लेकर आए, और फिर उसको लेकर  परिवार पहचान पत्र के कार्यालय में लेकर गये जो वहा जाकर लाईन में ना लगकर विनम्र निवेदन कर रामवीर का परिवार पहचान पत्र बनवाया।

रामवीर को उसके घर तक सकुशल पहुंचाया, रामवीर ने पुलिस का बहुत बहुत धन्यवाद किया।

सेक्टर-3, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में अवैध टावर के खिलाफ पुलिस शिकायत, रुकवाया गया काम

faridabad-sector-3-housing-board-colony-illegal-tower

फरीदाबाद, 17 फरवरी: सेक्टर - 3, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के निवासियों ने अवैध टॉवर के खिलाफ सेक्टर-3 पुलिस चौकी में शिकयत की है जिसपर एक्शन लेते हुए पुलिस ने काम रुकवा दिया है. टावर का सामान उतारकर नीचे रख दिया गया है.

इससे पहले जब टावर लगाया जा रहा था तो स्थानीय निवासियों ने जमकर हंगामा किया और पुलिस चौकी में लिखित शिकायत की. यहाँ के लोगों का आरोप है कि अवैध टावर की वजह से रेडिएशन से पैदा होने वाली बीमारियों का खतरा है क्योंकि यहाँ पर आबादी अधिक है. 

यहाँ के लोगों ने बताया, टावर का काम रात 9 बजे के बाद करवाया जाता था ताकि किसी को पता ना चले, टावर लगाने के किये किसी भी विभाग से उचित NOC या इजाजत नहीं ली गयी है.

यहाँ के लोगों ने बताया कि टावर लगाने वाला आरोपी विरोध करने वालों को धमकी भी देता है, फिलहाल लोगों के विरोध को देखते हुए टावर का काम रुकवा दिया गया है.