Palwal Assembly

Showing posts with label Crime. Show all posts

CIA सेंट्रल ने अलग अलग मामलों में 4 आरोपियों को दबोचकर 2 कट्टा और कारतूस किया बरामद

cia-central-arrested-4-accused-in-different-cases-25-april-2019

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए प्रभारी क्राईम ब्रांच सेंट्रल व उनकी टीम ने अलग अलग मामलों में चार आरोपियों को दबोचने में कामयाबी हासिल की है.

केस-1 

प्रभारी क्राईम ब्रांच सेंट्रल कंवलजीत सिंह व उनकी टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर 1 देशी कट्टा व 2 जिंदा कारतूस बरामद किए। 

गिरफ्तार आरोपियों का विवरण

1. हरी पुत्र धन्ना निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।
2. कन्हैया पुत्र किशन निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।

क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपियों को दिनांक 25.04.19 को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर ओल्ड फरीदाबाद एरिया से गिरफ्तार किया गया है।

सुलझाई गई वारदातः

1. मुकदमा न0 171 दिनांक 24.04.19  धारा 379A,201,411 आईपीसी 25.54.59 आर्मज एक्ट थाना ओल्ड फरीदाबाद।

बरामदगी:
दोनों आरोपियों से 1 देशी कट्टा व 2 जिंदा कारतूस बरामद किए। 

केस - 2

प्रभारी क्राईम ब्रांच सेंट्रल कंवलजीत सिंह व उनकी टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर 1 देशी कट्टा व 2 जिंदा कारतूस बरामद किए।

गिरफ्तार आरोपियों का विवरण

1. रमेश पुत्र हेमराज निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।
2. अमर पुत्र रानसिया निवासी गांव झुग्गी कुबरे नगर अहमदाबाद गुजरात।

क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपियों को दिनांक 25.04.19 को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर खेडी पुल सब्जी मण्डी फरीदाबाद से गिरफतार किया गया है।

सुलझाई गई वारदातः
1. मुकदमा न0 126 दिनांक 24.04.19 धारा 25.54.59 आर्मज एक्ट थाना खेडी पुल फरीदाबाद।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि उपरोक्त 4 आरोपियों से 2 देशी कट्टा व 4 जिंदा कारतूस बरामद किए। आरोपियो को अदालत पेश कर जेल भेज दिया गया।

तहसील में गलत तरीके से करवाई गई थी बल्लबगढ़ के ऐतिहासिक मटियामहल की जमीन की रजिस्ट्री: LN पाराशर

advocate-ln-parashar-registry-scam-matiamahal-ballabhgarh-news

बल्लभगढ़: बल्लभगढ़ के अंबेडकर चौक के पास मटिया महल की करोड़ों रुपए कीमत की जमीन पर भूमािफ याओं द्वारा खडी की गई मल्टीस्टोरी बिल्डिंग के मामले में न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के प्रधान एडवोकेट एल. एन. पाराशर ने एक और सनसनीखेज खुलासा किया है। पाराशर ने बताया कि इस जमीन की भूमाफियाओं ने तहसील से भारी घपला कर रजिस्ट्री कराई है। उनके हाथ मटिया महल की इस 786 गज जमीन की रजिस्ट्री लगी है। इस रजिस्ट्री को ध्यान से देखने पर पता चला कि रजिस्ट्री कोर्ट केस चलने के दौरान ही कर दी गई। जबकि कोर्ट ने प्रदूमन सिंह को मालिक बाद में माना किंतु जमीन की रजिस्ट्री उससे पहले ही उसने निहाल सिंह के नाम कर दी थी। सबसे बडी बात इसमें यह है कि कोर्ट में प्रदूमन आदि का केस इस खसरा न. 195 के साथ लगते खसरा नम्बर 118 का चल रहा था। जिसमें कोर्ट ने खसरा न. 118 का फैसला प्रदूमन सिंह के हक में दिया किंतु उस फैसले की आड में प्रदूमन सिंह ने खसरा नं. 195 की 786 गज जगह जिसमें ऐतिहासिक मटियामहल खडा था,उसे भी बेच दिया। 

पाराशर का कहना है कि इसके बाद इस जमीन की कई और लोगों के नाम भी रजिस्ट्री हुई है। इस सबका रिकॉर्ड उन्होंने निकलवा लिया है। पाराशर ने बताया कि इस ऐतिहासिक धरोहर को सत्ताधरी संरक्षित भूमाफियाओं के हाथों में जाने से रोकने के लिए उन्होंने  हाईकोर्ट में भी अपील की हुई है। जल्द ही इस मामलें में हाईकोर्ट से उन अधिकारियों को नोटिस जारी होंगे, जिन्हें इसमें पार्टी बनाया गया है। 

पाराशर ने कहा कि अब वह इन फर्जी रजिस्ट्रीयों की भी जांच कराकर उन्हें कैंसिल कराऐंगे। बेशक इसके लिए उन्हें कोर्ट की शरण ही क्यों न लेनी पडे। कोर्ट में वह इन रजिस्ट्रीयों को जल्द ही चैलेंज करेंगे। उनका कहना है कि बडे ही शर्म की बात है कि प्रशासन इस मामले में बिल्कुल गूंगा व बहरा बना बैठा है। निगम कमिश्रर अनीता यादव से उन्हें बहुत उम्मीद थी कि वह इस मामले में संज्ञान जरूर लेंगी किंतु उन्होंने भी अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया। राजस्व रिकॉर्ड में भी स्पष्ट तौर पर यह जमीन हरियाणा सरकार के नाम पर दर्ज है। 

पाराशर ने बताया कि उन्हें पता चला है कि अंबेडकर चौक के पास मटिया महल प्राचीन काल से बना हुआ था। इसकी करीब हजार वर्गगज जगह खाली पड़ी हुई थी। बीजेपी सरकार आने के बाद नेताओं ने इस जमीन को कब्जाना शुरू कर दिया। देखते ही देखते मिलीभगत से यहां 550 वर्गगज पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग खड़ी हो गई। जबकि यह जमीन सरकारी थी। समय-समय पर इसकी कंप्लेंट की गई लेकिन अधिकािरयों ने मिलीभगत होने के चलते कार्रवाई नहीं की। आज इस जमीन की कीमत करीब 20 करोड़ रुपए से भी अधिक है। नहीं शुरू हुई विजिलेंस जांच: पाराशर ने बताया कि मटिया महल का मुद्दा नगर निगम सदन में स्थानीय पार्षद दीपक चौधरी ने भी कई बार उठाया था। सदन ने उनके दस्तावेज देख हैरानी भी जताई थी और इस मामले की जांच विजिलेंस से कराने को लेकर प्रस्ताव पास हो गया था। इसके बाद आज तक भी इसकी जांच शुरू नहीं हो सकी। इस मामले में बड़े स्तर पर गोलमाल हुआ है। यही कारण है कि निगम अधिकारी इसकी जांच भी नहीं कराते। 

कब्जाधारी पार्टी में अहम पद के नेता : एडवोकेट एल.एन. पाराशर ने आरोप लगाया कि इस जमीन पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाने वाले बीजेपी नेता पार्टी में अहम पद पर है। वहीं इसमें शराब का एक बहुत बडा ठेकेदार भी पार्टनर है जिसका मंत्रियों के साथ उठना बैठना है। 2015 में बीजेपी सरकार बनने के साथ ही इस नेता व शराब ठेकेदार ने मटिया महल की जमीन पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाने का काम शुरू कर दिया था। पुलिस व नगर निगम उक्त लोगो की पहुंच के सामने बौना साबित हो रहे हैं। यही कारण है कि आज सरकारी जमीन पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग खड़ी है। यदि इस मामले की सही प्रकार से जांच की जाए तो घपले की जांच मंत्रियों तक पहुंच सकती है।
9818379315 LN Parashar

शकुंतला देवी मर्डर केस में बड़ा खुलासा, बहू ने दी थी सास की सुपारी, सर में मरवाई गोलियां

shakuntala-devi-murder-case-bahu-pooja-and-three-other-arrested

फरीदाबाद: अपराधी अपराध करके कहीं भी छुप जाएं पुलिस उन्हें ढूंढ ही निकालती है, शकुंतला देवी मर्डर केस भी फरीदाबाद पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. बल्लभगढ़ की रहने वाली शकुंतला देवी की ह्त्या 12 जनवरी को गोली मारकर की गयी थी.

आज पुलिस कमिश्नर ने प्रेस वार्ता करके शकुन्तला देवी मर्डर केस का खुलासा किया. इस हत्याकांड में शकुंतला देवी की बहू, उसका भाई और उसके दोस्त शामिल थे. आरोपी पूजा ने अपनी सास की हत्या करने के लिए बदमाशों को 50 हजार रुपये की सुपारी दी थी, बदमाशों ने 12 जनवरी को इस हत्याकाण्ड को अंजाम दिया था हालाँकि शकुंतला ने गोली मारे जाने के तीन दिन बाद 15 जनवरी को अस्पताल में दम तोडा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने के लिए 23 जनवरी को पुलिस कमिश्नर  संजय कुमार ने बड़ा कदम उठाते हुए हत्यारोपियों का सुराग देने वाले को ₹100000 इनाम की घोषणा की थी.

आपको बताते चले कि दिनांक 12 जनवरी को आदर्श नगर थाना क्षेत्र में कुछ अज्ञात बाईक सवारों ने डेयरी पर दूध लेने गई महिला शुकंतला देवी पत्नी भुवनेश उम्र 50 साल, को मारने की नियत से गोली मार कर फरार हो गए थे।

महिला को घायल अवस्था में मेट्रो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था जिनकी बाद में 15 जनवरी को इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी.

इस संबंध में थाना आदर्श नगर में मुकदमा नं0 17 दिनांक 12.01.2019 धारा 307,323,341,34,302 आई.पी.सी के तहत दर्ज किया गया था।

आरोपियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने, क्राइम ब्रांच Sec 30, डीएलएफ, ऊंचा गांव व थाना आदर्श नगर सहित कई टीमें लगाई हुई थी।

बल्लभगढ़ शकुंतला देवी मर्डर केस में चार आरोपी गिरफ्तार

ballabhgarh-shakuntala-devi-murder-case-4-accused-arrested-news

फरीदाबाद: अपराधी अपराध करके कहीं भी छुप जाएं पुलिस उन्हें ढूंढ ही निकालती है, शकुंतला देवी मर्डर केस भी फरीदाबाद पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, बल्लभगढ़ की रहने वाली शकुंतला देवी की गोली मारकर ह्त्या की गयी थी, आज पुलिस कमिश्नर संजय कुमार प्रेस वार्ता करके पूरे मामले का खुलासा करेंगे.

इससे पहले 23 जनवरी को बल्लभगढ़ में हुए शकुंतला देवी मर्डर केस को सुलझाने के लिए पुलिस कमिश्नर  संजय कुमार ने बड़ा कदम उठाते हुए हत्यारोपियों का सुराग देने वाले को ₹100000 इनाम की घोषणा की थी.

आपको बताते चले कि दिनांक 12 जनवरी को आदर्श नगर थाना क्षेत्र में कुछ अज्ञात बाईक सवारों ने डेयरी पर दूध लेने गई महिला शुकंतला देवी पत्नी भुवनेश उम्र 50 साल, को मारने की नियत से गोली मार कर फरार हो गए थे।

महिला को घायल अवस्था में मेट्रो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था जिनकी बाद में 15 जनवरी को इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी.

इस संबंध में थाना आदर्श नगर में मुकदमा नं0 17 दिनांक 12.01.2019 धारा 307,323,341,34,302 आई.पी.सी के तहत दर्ज किया गया था।

आरोपियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने, क्राइम ब्रांच Sec 30, डीएलएफ, ऊंचा गांव व थाना आदर्श नगर सहित कई टीमें लगाई हुई थी।

बल्लभगढ़ में बदमाशों का कहर जारी, युवक पर लोहे की रॉड से किया हमला, पुलिस भी नहीं आयी बचाने

ballabhgarh-subedar-colony-deepak-attack-by-badmash-video-viral

बल्लभगढ़: बल्लभगढ़ में बदमाशों का कहर जारी है, कल रात 10 बजे के करीब कुछ बदमाशों ने एक युवक पर हमला करके बुरी तरह से घायल कर दिया. यही नहीं बदमाशों ने हमला करते वक्त खुद ही वीडियो बनायी, पीड़ित पक्ष ने हमारे पास यह वीडियो भेजी है.

पीड़ित पक्ष ने बताया कि यह वारदात कल रात 9.55 PM की है, हथियारों से लैस बदमाशों ने लोहे की रॉड से दीपक नाम के युवक पर हमला कर दिया, कई लोगों ने बदमाशों को रोकने की कोशिश की लेकिन वह लोहे की रॉड से दीपक के हाथ और पैरों पर वार करते रहे.

पीड़ित पक्ष ने बताया कि वारदात के वक्त पुलिस को फोन किया लेकिन कोई मुलाजिम नहीं पहुंचा और बदमाश रात भर राज नर्सिंग होम वाले रोड पर हथियारों के साथ घुमते रहे. हमले में घायल दीपक का राज नर्सिंग होम में इलाज चल रहा है.

deepak-admitted-in-raj-nursing-home

देखिये MLR की कॉपी - 

deepak-mlr-ballabhgarh

पीड़ित पक्ष ने हमारे पास वारदात का वीडियो भेजा है जिसमें बदमाश खतरनाक तरीके से दीपक पर हमला करते दिख रहे हैं - देखिये -

नवादा कोह गाँव में फंदे पर लटकी मिली युवक की लाश, पीड़ित परिवार ने की कार्यवाही की मांग

faridabad-nawada-koh-umesh-murder-case-23-april-2019

फरीदाबाद: बडखल विधानसभा के नवादा कोह गाँव में कल उमेश नामक एक युवक की लाश केबल के तार से बनाए गए फंदे से लटकी हुई मिली. पुलिस ने लाश को बरामद करके पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया.

इस मामले में उमेश के पिता सतपाल एवं परिवार के अन्य सदस्यों ने ह्त्या की आशंका जताई है और पुलिस से कार्यवाही की मांग की है लेकिन पुलिस इसे आत्महत्या का केस बता रही है जिसकी वजह से पीड़ित परिवार में रोष है.

पीड़ित परिवार ने कहा कि पुलिस इस मामले की ना तो सही से जांच कर रही है और ना ही सीसी स्टैंड सीसीटीवी कैमरों की जांच कर रही है, अगर CCTV कैमरों की जांच की जाए तो हत्या का सुराग हाथ लग सकता है.

अब फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस के चालान का तुरंत कर सकते हैं पेटीएम से भुगतान, पढें

faridabad-traffic-police-chalane-by-paytm-started

फरीदाबादः- आज दिनांक 24.04.19 को पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने पेटीएम कंपनी के अधिकारियों के साथ एक एमओयू साईन कर ट्रैफिक पुलिस के साथ एक कार्यनीतिक साझेदारी शुरु की जिस पर डिजिटल चालान भुगतान को सक्षम बनाया जा सके। इस साझेदारी के साथ, फरीदाबाद के यूजर पेटीएम वेबसाइट और मोबाइल ऐप का उपयोग करके ई-चालान का भुगतान कर सकेंगे।

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने कहा कि यह नई सुविधा उन यूजर्स के समय और मेहनत को बचाने में मदद करेगी, जिन्हें अन्यथा अपने चालान भुगतान के लिए नामित यातायात विभाग केंद्रो के चक्कर लगाने पडते हैं। दूसरी ओर, यह ट्रैफिक विभाग के संसाधनों को चालान लेने की गतिविधियों से मुक्त करने में भी मदद करेगा। इसके अलावा यह चालान कलेक्शन में अधिक स्पष्टता उत्पन्न करेगा और उनकी प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करनेे में यातायात विभाग की मदद करेगा।

सीनियर वाईस प्रेजीडेंट अभय शर्मा ने कहा कि चालान भुगतान करना यूजर्स के लिए हमेशा असुविधाजनक रहा है। पेटीएम ऐप पर यह ई-चालान सुविधा इस तरह के भुगतान को परेशानी मुक्त बनाती है। हम शहर के अन्य अधिकारियों के साथ भागीदारी करते रहेंगे और उनके ट्रैफिक चालान के भुगतान को डिजिटल बनाएंगे।

डीसीपी ट्रैफिक लोंकेद्र सिंह ने बताया कि पेटीएम द्वारा भुगतान करने की सुविधा प्रयोग के रुप में आज से ही शुरुआत की जा रही है। इसके लिए हमनेे ट्रैफिक पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया गया है। इस सुविधा के प्रयोग में कोई समस्या आऐगी तो उसमें समयानुसार सुधार किया जाऐगा।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि मौके पर चालान के समय जिनके पास कैश नहीं होता उनको अब चालान भरने मे आसानी रहेगी। कैश चालान की सुविधा भी सिस्टम में मौजूद रहेगी।

होली पर पड़ोसी से हुई थी बहस, हरिओम को मारी गयी सिर में दो गोलियां, पड़ोसी हुए फरार, FIR दर्ज

faridabad-sector-56-hariom-murder-case-accuse-farar-fir-187-lodged

फरीदाबाद: फरीदाबाद: बल्लभगढ़ क्षेत्र के Sector 56A, राजीव कॉलोनी, समय पुर रोड पर कल हरिओम 22 अप्रैल की देर शाम हरिओम नाम के एक युवक को गोली मार दी गई. इस मामले में सेक्टर-58 थाने में IPC की धारा 302, 120B और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत FIR नंबर 187 दर्ज कर ली गयी है.


इस मामले में पड़ोसियों पर हत्या का शक जताया गया है, पीड़ित पक्ष का कहना है कि हरिओम की होली के त्यौहार पर उसके पड़ोसियों से बहस हुई थी जिसके बाद उसे जान से मारने की धमकी दी गयी थी, इसीलिए हरिओम की हत्या की गयी है.

FIR में मृतक हरिओम के पड़ोसियों - सुभाष, संदीप और दोनों की माँ राजवती को आरोपी बनाया गया है, तीनों आरोपी घर छोड़कर फरार हैं.

जानकारी के अनुसार  24 वर्षीय हरि ओम  की आगामी 28 अप्रैल को शादी होने वाली थी, 22 अप्रैल को वह गुर्जर चौक पर अपनी मिठाई की दुकान पर बैठा था, उसी वक्त दो बदमाश आए, एक मोटरसाइकिल स्टार्ट करके खड़ा रहा और दूसरे ने दूकान में घुसकर हरिओम को गोली मार दी, इसके बाद हमलावर वहां से फरार हो गए.

हरिओम को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया. पीड़ित पक्ष आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही चाहता है, इसके लिए कल प्रदर्शन भी किया गया था. आरोपियों को पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच की टीमें लगी हुई हैं, जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार करने का भरोसा दिया गया है.

सिर में 2 गोलियां मारकर की गई हरिओम की हत्या, कार्यवाही के लिए पुलिस के खिलाफ किया गया प्रदर्शन

ballabhgarh-sector-56a-hariom-murder-case-protest-against-police

फरीदाबाद: बल्लभगढ़ क्षेत्र के Sector 56A, राजीव कॉलोनी, समय पुर रोड पर कल हरिओम नाम के एक युवक को गोली मार दी गई.

जानकारी के अनुसार  24 वर्षीय हरि ओम  की आगामी 28 अप्रैल को शादी होने वाली थी, कल वह अपनी मिठाई की दुकान पर बैठा था, उसी वक्त दो बदमाश आए और उसके सिर में तो गोलियां मारकर फरार हो गए.

हरिओम को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया. पुलिस प्रशासन से कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए लोगों ने आज प्रदर्शन किया.

क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 ने पकड़ा चोर याकत अली, 7 मामलों में चोरी के 7 दुपहिया वाहन भी बरामद

faridabad-sector-30-cia-arrested-one-chori-accused-22-april-2019

फरीदाबाद: क्राईम ब्रांच सेक्टर - 30 ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर मोटरसाइकिल चोरी की 7 वारदातें सुलझा ली हैं, इसके अलावा 7 मोटरसाइकिलें भी बरामद की गयी हैं.

पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर प्रभारी क्राईम ब्रांच सेक्टर 30 विमल कुमार व उनकी टीम ने सराहनीय कार्य करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 8 मोटरसाइकिल बरामद की है। जिससे 7 मोटरसाइकिल चोरी की वारदात सुलझाई गई है।

गिरफ्तार किया गया आरोपीः

याकत अली उर्फ याकत पुत्र अब्दूला निवासी गांव बनेवाडी पहाडी, जिला भरतपुर (राजस्थान).

प्रभारी क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपी को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है आरोपी से निम्नलिखित वारदात सुलझाई गई हैः

1. IN CASE FIR NO. - 151,DATE 17/04/2019 ,U/S 379 IPC, PS- SEC -31,  FARIDABAD.
2.  IN CASE FIR NO. - 156,DATE 20/04/2019 ,U/S 379 IPC, PS- SEC -31,  FARIDABAD.
3. FIR NO. -180 DATE - 11-4-19 U/S 379 IPC , PS - KOTWALI  FBD.
4. FIR NO.-144 , DATE - 17-3-19 , U/S 379 IPC, PS- KOTWALI  FBD.
5. FIR NO.- 157 ,DATE - 12-4-19 ,U/S 379 IPC , PS- OLD FBD
6. FIR NO.- 999 ,DATE - 1-10-18 , U/S 379 IPC , PS - CENTRAL FBD.
7. FIR NO.- 23, DATE - 12-9-18 U/S - 379 IPC , PS - BPTP ,FBD.

प्रभारी क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपी पहले भी क्राईम ब्रांच फरीदाबाद एवं गुरूग्राम के द्वारा पकडा जा चुका और जेल भी जा चुका है, आरोपी अपने साथ एक स्पेशल चाबी रखता है आरोपी इस चाबी के द्वारा ज्यादातर स्पलेंडर मोटरसाइकिल एवं स्कूटी को निशाना बनाता था।

उन्होने बताया कि आरोपी के साथ इस वारदात में उसका साथी भी साथ देता था जो अभी फरार है जिसको भी जल्द गिरग्तार कर लिया जाएगा।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि आरोपी से 7 वारदात सुलझाई है उसके कब्जे से 8 वाहन बरामद किए है जिसमें 1 स्कूटी एवं  7 मोटरसाइकिल है. आरोपी को आज अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है।

अरावली पर खुलेआम पत्थरों का अवैध खनन और बजरी चोरी की VIDEO, अधिकारियों पर बरसे LN पाराशर

faridabad-aravali-illegal-mining-video-sanskrit-farm-house-ankheer-village

फरीदाबाद: ग्रामीण गरीबों के आशियाने कोर्ट के स्टे के बाद भी तोड़ दिया जा रहे हैं और अरावली के माफिया सरेआम अवैध निर्माण और अवैध खनन कर रहे हैं उन पर कोई कार्यवाही नहीं की जाती। ये दोगली नीति फरीदाबाद प्रशासन को नहीं अपनाना चाहिए। ये कहना बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर का जिन्होंने कहा कि अनखीर के कई ग्रामीण मेरे पास आये और बताया कि 19 अप्रैल को प्रशासन ने उनके आशियाने ढहा दिए जबकि पास में ही एक फार्म हाउस में निर्माण और खनन हो रहा है उन लोगों पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है।

पाराशर ने कहा कि रविवार सुबह मैं मौके पर गया तो देखा कि संस्कृति ग्रीन फ़ार्म हॉउस के पास निर्माण चल रहा है। जेसीबी मशीन से पत्थरों की खुदाई हो रही है। पाराशर ने कहा कि सच में फरीदाबाद प्रशासन दोगला है और सिर्फ गरीबों के लिए ही शेर साबित होता है। अमीरों के लिए फरीदाबाद प्रशासन गीदड़ साबित हो रहा है। पाराशर ने कहा कि गरीब बहुत मेहनत से आशियाना बनाने हैं जब उन्हें ढहा दिया जाता है तो उनका दुःख वही जानते हैं। 

पाराशर ने कहा कि मैं लगभग हर रोज अरावली के माफियाओं को बेनकाब करता हूँ और मौके पर जाकर जा जोखिम में डाल वहां की तस्वीरें और वीडियो मीडिया तक पहुंचता हूँ और मीडिया के लोग ख़बरें भी छापते हैं लेकिन फरीदाबाद के कई विभाग के अधिकारीयों को कुछ नहीं दिखता। उन्होंने कहा कि लगता है कि इन अधिकारियों की मिलीभगत से ही अरावली का चीरहरण हो रहा है। पाराशर के मुताबिक़ संस्कृति ग्रीन के पास खनन ही नहीं पेड़ भी काटे गए हैं और ग्रामीणों के पास इसके सबूत भी हैं लेकिन वन विभाग भी कुम्भकर्णी नींद सो रहा है।

वकील पारशर ने कहा कि जिस तरह अरावली का चीरहरण जारी है उसे देख लगता है कि फरीदाबाद से बहुत जल्द अरावली का नामोनिशान मिट जाएगा। अगर ऐसा हुआ तो जनता बेमौत मारेगी क्यू कि फरीदाबाद मे आये दिन प्रदूषण रिकार्ड तोड़ता रहता है। उन्होंने कहा कि रविवार को भी मैंने अवैध खनन और अवैध निर्माण देखे जिसकी जानकारी सुप्रीम कोर्ट को दूंगा क्यू कि अरावली पर लगातार सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं। 

क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव ने दो अलग-अलग मामलों में 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार, पढ़ें वारदात

crime-branch-uncha-gaon-arrested-2-accused-in-two-fir-news

फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच ऊंचा गाँव बल्लभगढ़ ने अलग अलग दो मामलों में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, दोनों आरोपी वारदात के बाद से फरार चल रहे थे.

पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर प्रभारी क्राइम ब्रांच सीआईए ऊंचा गांव व उनकी टीम ने दो अलग-अलग मामलों में फरार चल रहे दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

वारदात नंबर 1

गिरफ्तार आरोपी: आकाश पुत्र विनोद निवासी आर्य नगर बल्लभगढ़।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव ने बताया कि उपरोक्त आरोपी ने दिनांक 21/3/19 को अहीर वाड़ा में लड़ाई झगड़े के दौरान  कट्टा दिखाकर  लाठी डंडों व तलवार से चोट मारकर रुपए छीन कर फरार हो गया था। जिस पर आरोपी के खिलाफ अभियोग संख्या 156 दिनांक  24/3/19 U/S 148, 149, 323, 325, 307, 379B  IPC  and  Arms Act थाना शहर बल्लभगढ़ फरीदाबाद में दर्ज किया गया था।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि आरोपी वारदात के बाद से ही फरार चल रहा था जिसको सूचना के आधार पर दिनांक 18/4/19 को बल्लभगढ़ -चंदवाली रोड बल्लभगढ़ से गिरफ्तार करके दिनांक 19/4/ 2019 को अदालत में पेश करके 1 दिन के रिमांड हिरासत पुलिस पर लिया गया था।

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने बताया कि वारदात में प्रयोग हथियार बरामद कर आज आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

वारदात नंबर - 2

प्रभारी क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव ने बताया कि आरोपी ने गांव मोजपुर थाना छायंसा में दिनांक 4 मार्च 2019 को झगड़ा के दौरान गोली चला दी थी।

जिस पर आरोपी के खिलाफ अभियोग संख्या 44 दिनांक  5/3/19 अपराध  148, 149, 323, 307  IPC  और Arms Act थाना छायंसा फरीदाबाद मे दर्ज किया गया था।

गिरफ्तार आरोपी: संदीप उर्फ़ चैंटा पुत्र ओम प्रकाश गांव मौजपुर थाना सदर छायसा जिला फरीदाबाद।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि उपरोक्त मुकदमे में संदीप उर्फ चैटा अभी तक फरार चल रहा था इसके अलावा आरोपी दिनांक 11 अप्रैल 2019 को घरौंडा जिला करनाल में गोली चलाकर मोटरसाइकिल की लूट में भी फरार चल रहा था।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार किया गया है आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेकर उपरोक्त मुकदमों में पूछताछ की जाएगी।

गाड़ियों के पार्ट चोरी करने वाले दो चोरों को क्राइम ब्रांच सेक्टर-65 ने पकड़कर भेजा जेल

crime-branch-sector-65-arrested-2-accused-vehicle-part-chori

फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 की टीम ने दो चोरों को दबोचा है, ये लोग गाड़ियों के पार्ट चोरी करते थे, इन्हें गिरफ्तार करके पांच मामले सुलझाए गए हैं.

पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर - 65 एसआई लाजपत व उनकी टीम ने बेहतरीन कार्य करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 एसआई लाजपत ने बताया कि आरोपियों को सूचना के आधार पर फरीदाबाद एरिया से गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपी:

1. आस मोहम्मद पुत्र फहीमुद्दीन निवासी तिगांव बरामदपुर थाना गुलावठी जिला बुलंदशहर हाल गली नंबर 1 भूदत्त कॉलोनी बल्लभगढ़।
2 प्रदीप उर्फ लक्की पुत्र उमेश राय निवासी गली नंबर 2 तिरखा कॉलोनी बल्लभगढ़।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि आरोपी जहां कहीं भी सुनसान जगह पर गाड़ी खड़ी होती थी उनके पार्ट चोरी करते थे।

उन्होंने बताया कि आरोपी गाड़ियों से ईसीएम, इंजेक्टर, इंजेक्टर पाइप, इंजेक्टर सॉकेट एवं अन्य इलेक्ट्रिक पार्ट्स चोरी करते थे।

आरोपियों से सुलझाए गई वारदात:

1)  मुकदमा न. 179दिनाँक 22.8.2018 धारा 379ipc थानातिगांव फरीदाबाद। 
2) मुकदमा न. 454 दिनाँक 2.6.2018धारा 379ipc सेक्टर 7  फरीदाबाद। 
3) मुकदमा न. 192 दिनांक 15.4.2019 धारा 379ipc ps आदर्श नगर फरीदाबाद.
4) मुकदमा न.197 दिनांक 8.4.2019 धारा 379 IPC थाना शहर बल्लभगढ़  फरीदाबाद.
5)मुकदमा न. 91 दिनांक 12.2.2019 धारा  379 IPC  थाना शहर बल्लभगढ़  फरीदाबाद।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि आरोपियों से वारदात में प्रयोग की जाने वाली मोटरसाइकिल एवं  3 ECM, 2 इंजेक्टर, 4 इंजेक्टर पाइप,  4 इंजेक्ट सॉकेट,  4 रेलिंग पाइप* बरामद की गई है. आरोपियों को आज अदालत में पेश कर जिला जेल नीमका भेजा गया है।

बेवफा पत्नी को प्रेमी के साथ देखा, कई बार रोका, बात नहीं बनी तो पति ने सल्फास खाकर दी जान, पढ़ें

faridabad-thana-chhansa-fir-68-harvansh-suicide-case-news-hindi

फरीदाबाद: छाँयसा थाना क्षेत्र के रायपुर कलां गाँव के रहने वाले एक व्यक्ति ने अपनी पति और उसके प्रेमी से तंग आकर सल्फास जहर खा लिया और अपनी जान दे दी. इस सम्बन्ध में छाँयसा थाने में IPC की धारा 306 (जान देने एक लिए मजबूर करना) और धारा 34 (एक से अधिक आरोपी) के तहत मामला दर्ज कर लिया है, इस केस में मृतक हरवंश की पत्नी सिमरन और उसके प्रेमी अंग्रेज सिंह को आरोपी बनाया गया है, अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

मृतक हरवंश की माँ ने लिखवाई FIR

FIR में दी गयी जानकारी नीचे दी गयी है - 

मैं छिन्दो बाई पत्नी बिशन सिंह, गाँव रायपुर कलां, थाना छायंसा, जिला फरीदाबाद की रहने वाली हूँ और मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का गुजारा करती हूँ, मेरे दो लड़के हैं - बड़ा लड़का हरवंश एवं छोटा लड़का सोनू. दोनों शादीशुदा हैं.

मेरे बड़े लड़के हरवंश की शादी करीब 11 वर्ष पहले सिमरन पुत्री महेंद्र सिंह निवासी गाँव जैतपुर दिल्ली से हुई थी. हरवंश के एक लड़का और एक लड़की है.

हरवंश की पत्नी सिमरन करीब एक साल से झगडा करती रहती थी क्योंकि उसके और रायपुर कलां के रहने वाले अंग्रेज सिंह के बीच अवैध सम्बन्ध थे. हरवंश ने अपनी पत्नी सिमरन और उसके प्रेमी अंग्रेज सिंह को कई बार समझाया कि तुम दोनों ठीक नहीं कर रहे हो, गाँव में मेरी बदनामी हो रही है. मेरे बेटे के कई बार रोकने के बावजूद भी उसकी पत्नी अपनी हरकतों से बाज नहीं आयी.

दिनांक 10 अप्रैल 2019 को मैं एवं मेरा लड़का हरवंश और उसकी पत्नी सिमरन खेत पर गेंहू काटने गए थे, वहां पर सिमरन और हरवंश के बीच इसी बात को लेकर लड़ाई हो गयी, इतने में सिमरन का प्रेमी अंग्रेज सिंह भी आ गया. हरवंश की अंग्रेज सिंह से भी कहासुनी हुई. इसके बाद सिमरन ने कहा कि मैं जहर खाकर मर जाउंगी, यह सुनकर हरवंश ने कहा - तू क्यों मरेगी मैं ही मर जाता हूँ. 

इसके बाद हरवंश घर पर आ गया और गेंहू में रखने के लिए घर में मौजूद सल्फास की गोलियां खा ली, इसके बाद खेत से हरवंश की पत्नी सिमरन भी आ गयी और उसनें कमरा अन्दर से बंद कर लिया. इसके बाद हरवंश ने अपनी पत्नी के कमरे का गेट खुलवाया, इसके बाद हरवंश को उल्टी होने लगी. इसके बाद मैंने गाँव के रहने वाले विक्रम की मदद से हरवंश को बीके अस्पताल पहुंचाया जहाँ पर डॉक्टरों से उसकी हालत को गंभीर देखते हुए सफदरजंग अस्पताल दिल्ली रेफर कर दिया. वहां पहुँचते ही डॉक्टरों से हरवंश को मृत घोषित कर दिया.

सिमरन और अंग्रेज सिंह के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग

FIR में लिखा गया है कि - मेरे बेटे मृतक हरवंश ने अपनी पत्नी सिमरन एवं अंग्रेज सिंह की हरकतों से एवं धमकियों से तंग आकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली, आपसे गुजारिश है कि दोनों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही की जाए.

faridabad-chhansa-thana-fir-no-68

सेक्टर-22 में तलवार से हत्या करने वाले दोनों आरोपियों को पुलिस ने दबोचा, पढ़ें अब तक का खुलासा


फरीदाबाद: सेक्टर 22 में धारदार हथियार से हत्या कर सनसनी फैलाने वाले दोनो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

इस वारदात  की साजिश में शामिल मृतक राहुल की पत्नी को पुलिस ने वारदात के अगले दिन ही गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था.

आपको बताते चलें कि दिनाकं 16.4.19 को सेक्टर 22 मे धारदार हथियार से हुई वारदात के संबंध में थाना मुजेसर में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था।  

पुलिस कार्यवाही की डिटेल

वारदात की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने डीसीपी क्राईम  राजेश कुमार को निर्देष दिए। इसके फलस्वरुप डीसीपी क्राईम ने एसीपी क्राईम ब्रांच के नेतृत्व में  4 टीम गठित की गई. टीमों को अलग-अलग दिशा में कार्यरत किया।

एसएचओ मुझेसर संदीप की टीम ने मृतक राहुल की पत्नी को दिनांक 17/ 04 /19 को पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया।

एसएचओ मुजेसर संदीप  ने बताया कि पूछताछ में मृतक की पत्नी की इस वारदात में संलिप्तता पाई गई है मृतक की पत्नी आरोपियों से मिली हुई थी।

मृतक की पत्नी के अनुसार पिछले डेड 2 साल से आरोपी से जान पहचान थी। आरोपी की किराना की दुकान थी और वहीं से जान पहचान दोस्ती में बदल गयी। जब पति को पता लगा तो उसने इसका विरोध किया इसी की वजह से पति-पत्नी में अक्सर घर में तू तू मैं मैं होती थी।

इसी तू तू मैं मैं की वजह से मृतक की पत्नी एक महीना से अपने घर गई हुई थी। राहुल सेक्टर 22 के एक बैंक  में किसी काम से आया था आरोपी उसको फॉलो कर रहे थे और 16 अप्रैल को सरकारी स्कूल के पास तलवार जैसे धारदार हथियार से हत्या कर दी. इस संबंध में मृतक राहुल के पिता की शिकायत पर थाना मुजेसर में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें उन्होंने अपनी बहू को भी  बेटे की हत्या में नामजद किया था। 

मुख्य आरोपी सुमित और उसके  दोस्त  रोहित निवासी भारत कलोनी को आज खेड़ी पुल से गिरफ्तार किया गया है। 

आरोपी से पूछताछ जारी है. आरोपी वारदात को अंजाम देने के  बाद यूपी चला गया था जो आज वापिस फरीदाबाद आ रहा था जिसको पुलिस ने दबोच लिया। आरोपियो को कल कोर्ट में पेश कर रिमांड लिया जाएगा और वारदात में प्रयोग हथियार व अपराध में प्रयोग किया गया मोबाइल फोन बरामद किया जाएगा।

सेक्टर-22 हत्याकांड: दो साल से चल रहा था पत्नी का अफेयर, रोकने पर पति को तलवार से कटवाया, पढ़ें

sector-22-rahul-murder-case-patni-affair-with-murder-accused-sumit

फरीदाबाद: सेक्टर - 22 हत्याकांड में थोड़ी सी जानकारी और सामने आयी है. मृतक राहुल की पत्नी और उसके प्रेमी सुमित के बीच में पिछले दो वर्षों से अफेयर चल रहा था. इस वारदात में पत्नी की भूमिका पायी गयी है, पुलिस ने राहुल की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है, पूछताछ में उसनें आरोपी से अफेयर की बात कबूल की है. ह्त्या प्लान बनाकर की गयी है और राहुल की पत्नी उसमें शामिल है. पुलिस ने कहा है कि हत्या में शामिल और इस वक्त फरार चल रहे दोनों आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

faridabad-police-news

इस मामले में हमें अपने सूत्रों से कुछ जानकारी मिली है. हत्यारोपी राहुल का रिश्तेदार है और आपराधिक मानसिकता का है. हत्यारोपी का राहुल के घर आना जाना था, राहुल शादी के बाद सेक्टर 22 में ही रहता था और पास के बैंक में खाता खुलवाया था, हत्यारोपी सुमित और पत्नी से अफेयर की खबर राहुल को बहुत पहले से हो गयी थी इसलिए वह यहाँ से ग्रीनफील्ड कॉलोनी में रहने लगा और उसके कुछ महीनों बाद ग्रेटर फरीदाबाद में शिफ्ट हो गया. राहुल के शिफ्ट होने के बाद भी हत्यारोपी सुमित उसके घर पर आता जाता रहा, राहुल ने अपनी पत्नी को रोकने की बहुत कोशिश की और यही वजह उसकी हत्या का कारण बन गयी.

हत्या के दिन राहुल बैंक में किसी काम से आया था. क्योंकि हत्यारोपी राहुल का रिश्तेदार था इसलिए राहुल को अहसास नहीं था कि उसकी ह्त्या हो जाएगी. जब राहुल बैंक आया तो हत्यारोपी उसके पीछे लग गए, दोनों हत्यारोपी बाइक पर सवार थे, एक आरोपी ने दूर से राहुल को रुकने का इशारा किया, राहुल अपनी कार से उतर गया क्योंकि वह हत्यारोपियों को पहले से जानता था, सुमित के दोस्त रोहित ने राहुल को बातों में उलझा लिया. इसके बाद सुमित पीछे तलवार छुपाकर लाया और अचानक राहुल पर हमला बोल दिया. यह सब CCTV वीडियो में साफ़ दिखाई दे रहा है.



पुलिस ने FIR दर्ज करके शुरू की कार्यवाही

पुलिस ने मृतक राहुल की पत्नी नीतू, नीतू के दोस्त सुमित और तीसरे आरोपी राहुल के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 120 बी और 34 के तहत एफ आई आर दर्ज करके कार्यवाही शुरू कर दी है, पत्नी नीतू को गिरफ्तार करके बारीकी से पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने सुमित और रोहित को जल्द गिरफ्तार करके केस को सुलझाने का भरोसा दिया है.

सेक्टर 22 हत्याकांड में सनसनीखेज खुलासा, मृतक राहुल की पत्नी गिरफ्तार और उसका प्रेमी सुमित फरार

sector-22-rahul-hatyakand-wife-arrested-have-illegal-relationship

फरीदाबाद: अवैध संबंध में लोग इतने पागल हो जाते हैं कि अपने ही पति की हत्या तक करवा सकते हैं. कल सेक्टर 22 की मार्केट में दिनदहाड़े एक युवक को तलवार से काट दिया गया इस हत्याकांड के बाद पूरे शहर में दहशत फैल गई.

फरीदाबाद पुलिस ने इस मामले को सुलझाने के लिए पूरी ताकत लगा दी है और आरोपियों की धरपकड़ के लिए क्राइम ब्रांच की 4 टीमों को लगा दिया है.

अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक राहुल की हत्या उसकी ही पत्नी करवा सकती है क्योंकि उसकी सास नहीं अपनी बहू पर हत्यारोपी सुमित के साथ अवैध संबंधों के आरोप लगाए हैं. मृतक राहुल की पत्नी नीतू को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है, जब नीतू को सीसीटीवी फुटेज दिखाया गया तो उसने हत्यारोपी की पहचान अपने साथी सुमित और उसके दोस्त रोहित के रूप में की. फिलहाल सुमित और रोहित दोनों फरार हैं इन्हें पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच पीछे लगी हुई है.

पुलिस ने मृतक राहुल की पत्नी नीतू, नीतू के दोस्त सुमित और हत्या में मदद करने वाले रोहित के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 120 बी और 34 के तहत एफ आई आर दर्ज करके कार्यवाही शुरू कर दी है. पुलिस ने जल्द सुमित और रोहित को गिरफ्तार करके केस को सुलझाने का भरोसा दिया है.

कल दिनदहाड़े हुआ था क्या कांड

शहर मेंं सेक्टर-22 एरिया में एक दिल दहला देने वाली वारदात हुई, दो बदमाशों ने एक 32 वर्षीय युवक का देखते ही देखते तलवार से क़त्ल कर दिया. देखते ही देखते सोशल मीडिया और व्हाट्सअप पर बेहद बीभत्स और डरावनी फोटो वायरल होने लगी जिसकी वजह से शहर के लोगों में दहशत का माहौल पैदा होने लगा.

यह घटना एक CCTV में कैद हो गयी जिसकी वजह से पुलिस ने हत्यारे की पहचान कर ली, जब पुलिस पूछताछ के लिए मृतक राहुल के ग्रेटर फरीदाबाद स्थित उसके आवास पर गई तो राहुल की मां ने अपनी बहू के कांडों का खुलासा कर दिया जिसके बाद पुलिस ने मृतक राहुल की पत्नी नीतू को हिरासत में लेकर कार्यवाही शुरू कर दी.

पुलिस की कार्यवाही शुरू

पुलिस आयुक्त के निर्देश पर एसीपी क्राइम अनिल कुमार के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच की 4 टीमें  आरोपियों की धरपकड़ के लिए अलग-अलग जगह भेजी गई हैं, एसएचओ मुजेसर संदीप भी अपनी टीम के साथ आरोपियों तक पहुंचने  में जुटे हुए हैं.

मृतक युवक का नाम राहुल है ओर सेक्टर 88 फरीदाबाद का रहने वाला था।  राहुल कल सेक्टर 22 के बैंक में अपनी कार से आया था, जिस पर  एक आरोपी ने बातचीत के बहाने से उसको रोक लिया दूसरे आरोपी ने तलवार मारकर राहुल की हत्या कर दी, और दोनो मौके से फरार हो गये।              

इस सारी घटना की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई सीसीटीवी कैमरे की सहायता से आरोपियों की पहचान हो गई है आरोपी मुजेसर थाना एरिया के रहने वाले हैं।

CCTV में वारदात रिकॉर्ड

15000 का ईनामी बदमाश, कई हत्याओं में शामिल, भाटी गैंग के बदमाश मूसा का कट गया नीमका जेल का टिकट

bhati-gang-shooter-sachin-urf-moosa-arrested-send-nimka-jail-news

फरीदाबाद: पुलिस को आज बड़ी कामयाबी मिली है. भाटी गैंग के बदमाश सचिन उर्फ़ मूसा को गिरफ्तार करके कई वारदातों को सुलझा लिया गया है.

15 हजार का ईनामी बदमाश सचिन उर्फ़ मूसा को क्राइम ब्रांच सेक्टर - 85 ने गिरफ्तार किया है, आरोपी पलवल एवं उत्तर प्रदेश में हत्या की वारदात को अंजाम दे चुना है, आरोपी पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने 15 हजार रुपये का ईनाम घोषति किया था. कुछ दिन पहले फरीदाबाद क्राइम ब्रांच के साथ हुई मुठभेड़ में मूसा भाग निकला था.


आपको बताते चले कि क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 को दिनांक 9 मार्च 2019 को  सूचना मिली थी की भाटी गैंग के कुछ आरोपी वारदात को अंजाम देने के लिए फरीदाबाद आ रहे हैं जिस पर क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 एवं 65 ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए तेजिंदर उर्फ़ बिट्टू, निवासी तिगांव  फरीदाबाद को अपने 3 अन्य साथियों के साथ पुलिस मुठभेड़ के बाद गाड़ी स्कॉर्पियो में अवैध हथियार सहित काबू कर लिया था।

उस वक्त आरोपियों ने पुलिस पार्टी पर कई राउंड  फायर किए, पुलिस पार्टी ने भी अपने बचाव में  फायर किए थे, इसके बाद आरोपियों ने पुलिस वालों को जान से मारने की नियत से उनकी टाटा सूमो गाडी में सीधी टक्कर मारी जिससे कि सरकारी गाडी को काफी नुकसान भी हुआ था।

उस समय आरोपी सचिन उर्फ़ मूसा भागने में कामयाब हो गया था जिसको क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 ने पुलिस कमिश्नर साहब संजय कुमार भा.पु.से. के दिशा निर्देश तथा डी.सी.पी. क्राइम राजेश कुमार व ए.सी.पी. क्राइम अनिल यादव के नेतृत्व में कार्य करते हुये प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 एसआई सुमेर सिंह ने विशेष सूत्रों के माध्यम से ईनामी बदमाश सचिन उर्फ मूसा निवासी तिगाँव फरीदाबाद को अवैध हथियार सहित काबू करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि दिनाँक 13.04.2019 को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर फरार चल रहे आरोपी सचिन उर्फ मूसा पुत्र ओमप्रकाश निवासी तिगाँव थाना तिगाँव फरीदाबाद को अपराध शाखा सेक्टर 85 ने अवैध हथियार सहित गिरफ्तार किया है।

आरोपी के खिलाफ मुकदमा न. 110 दिनाँक 13.04.2019  धारा 25-54-59 Arms Act थाना सेक्टर 17 फरीदाबाद में दर्ज किया गया है।

प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 ने बताया कि आरोपी पलवल एवं नोएडा उत्तर प्रदेश में हत्या की वारदात को अंजाम दे चुका है।

आरोपी के खिलाफ पलवल एवं नोएडा यूपी में हत्या के मुकदमे दर्ज है नोएडा में दर्ज मुकदमे में आरोपी के ऊपर नोएडा पुलिस ने ₹15000 का इनाम भी रखा हुआ है।

उन्होंने बताया कि आरोपी सचिन उर्फ मूसा मुठभेड़ से भाग निकलने के बाद से ही काफी दिनों से यु पी में अपने दोस्तों के साथ छिपा हुआ था।

उन्होंने बताया कि आरोपी सचिन उर्फ मूसा पर फरीदाबाद में लडाई-झगड़े के अलावा कई अन्य मामले दर्ज हैं जो आरोपी निम्नलिखित मामलो में भी वांछित रहा है :-

1)  मुकदमा न. 771 दिनाँक 04.12.2018 धारा 148, 149, 323, 341, 379B, 365, 325, 427, 506 IPC & 25-54-59 Arms Act थाना सूरज कुण्ड फरीदाबाद। 

2) मुकदमा न. 151 दिनांक 08.07.2018 धारा 323, 341, 427, 506, 34 IPC & 25-54-59 Arms Act थाना तिगांव फरीदाबाद |

3) मुकदमा न. 70 दिनांक 27.03.2019 धारा 174A IPC थाना तिगांव फरीदाबाद |

4) मुकदमा न. 6 दिनांक 30.01.2015 धारा  323, 325, 34 IPC  थाना तिगांव फरीदाबाद |

5)मुकदमा न. 246 दिनांक 05.12.2018 धारा  323, 325, 379B, 506 IPC  थाना तिगांव फरीदाबाद |

6) मुकदमा न. 50  दिनांक 09.03.2019 धारा 148, 149, 186, 332, 353, 307, 427 IPC & 25-54-59 A.Act थाना छायंसा फरीदाबाद।

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने बताया की  आरोपी को दबोच उसके कब्जे से 1 देशी पिस्टल व 4 जिंदा रौंद 32 बोर बरामद किए गए है. आरोपी को आज अदालत में पेश कर नीमका जेल भेजा दिया है।

सेक्टर-22 के तलवारबाज हत्यारे ही हुई पहचान, पुलिस जल्द करेगी गिरफ्तार, पढ़ें पूरा मामला

faridabad-police-identified-sector-22-murder-case-accused-cctv-video

फरीदाबाद: शहर में आज सेक्टर-22 एरिया में एक दिल दहला देने वाली वारदात हुई, दो बदमाशों ने एक 32 वर्षीय युवक का देखते ही देखते तलवार से क़त्ल कर दिया. देखते ही देखते सोशल मीडिया और व्हाट्सअप पर बेहद बीभत्स और डरावनी फोटो वायरल होने लगी जिसकी वजह से शहर के लोगों में दहशत का माहौल पैदा होने लगा.

यह घटना एक CCTV में कैद हो गयी जिसकी वजह से पुलिस ने हत्यारे की पहचान कर ली, पुलिस ने जल्द ही हत्यारों को गिरफ्तार करके वारदात को सुलझाने का दावा किया है.

पुलिस की कार्यवाही शुरू

पुलिस आयुक्त के निर्देश पर एसीपी क्राइम अनिल कुमार के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच की 4 टीमें  आरोपियों की धरपकड़ के लिए अलग-अलग जगह भेजी गई हैं, एसएचओ मुजेसर संदीप भी अपनी टीम के साथ आरोपियों तक पहुंचने  में जुटे हुए हैं.

मृतक युवक का नाम राहुल है ओर सेक्टर 88 फरीदाबाद का रहने वाला था।  राहुल आज सेक्टर 22 के बैंक में अपनी कार से आया था, जिस पर  एक आरोपी ने बातचीत के बहाने से उसको रोक लिया दूसरे आरोपी ने तलवार मारकर राहुल की हत्या कर दी, और दोनो मौके से फरार हो गये।              

इस सारी घटना की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई सीसीटीवी कैमरे की सहायता से आरोपियों की पहचान हो गई है आरोपी मुजेसर थाना एरिया के रहने वाले हैं।  जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि अभी तक की तफ्तीश में मामला आपसी रंजिश का है बाकी पुलिस हर एंगल से तफ्तीश कर रही है।

CCTV में वारदात रिकॉर्ड

सेक्टर 22 में तलवार से कत्ल किए गए युवक की हुई पहचान, पढ़ें

faridabad-sector-22-badmash-killed-one-youth-with-rahul-talwar-news

फरीदाबाद: शहर में एक खूनी खेल की खबर आयी है. सूचना के मुताबिक़ कार सवार कुछ बदमाशों ने एक युवक पर तलवार से हमला किया और उसकी गर्दन को सर से अलग कर दिया.

यह वारदात सेक्टर - 22 सरकारी स्कूल के पास की है, पुलिस को वारदात की सूचना दे दी गयी है, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया है.

अब तक सामने आयी जानकारी के अनुसार सेक्टर 88 ग्रेटर फरीदाबाद का रहने वाला राहुल अपनी आई 10 कार में सवार होकर सेक्टर -22 आया था  उसी वक्त  एक शख्स ने उसकी कार रुकवाई  और उससे बातचीत करने लगा, इतने में एक दूसरा शख्स दौड़ते हुए आया और उसके गले पर तलवार से हमला कर दिया  इसके बाद दोनों बदमाशों ने राहुल को जमीन पर गिरा कर उसे मौत के घाट उतार दिया.

मृतक राहुल के पास मिले फोन नंबर पर उनके रिश्तेदारों को सूचना दे दी गई है, क्राइम ब्रांच की टीम में अपराधियों को पकड़ने के लिए लगा दी गई हैं. पुलिस इसे रंजिशन हत्या का केस मान रही है और एक-दो दिन में इसे सुलझाने का भरोसा दिया है.