Followers

Showing posts with label Crime. Show all posts

पैसे छीनने के लिए रेहड़ीचालक के सिर में डंडा मारकर हत्या करने वाले 2 आरोपी गिरफ्तार

faridabad-crime-branch-dlf-arrested-2-murder-accused-rehdichalak

Faridabad News 27 July 2021: इंसान नशे की गलियों से गुजरता हुआ चलते चलते कब अपराध के दलदल में धंस जाता है उसे इस बात का एहसास तब होता है जब उसकी वजह से किसीको अपनी जान से हाथ धोना पड़े और उसकी सजा भुगतने के लिए उसे सारी उम्र अपने आपको कोसना पड़े।

ऐसा ही एक मामला फरीदाबाद में सामने आया है जिसमें क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने एक रेहड़ीचालक की हत्या के जुर्म में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में भोला उर्फ भोलू उर्फ फौजी तथा आकाश उर्फ बोडिया का नाम शामिल है जो फरीदाबाद के अनखीर गांव के रहने वाले हैं।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में मृतक की मां ने बताया कि वह फरीदाबाद के सेक्टर 21 में रहते हैं और उनका बेटा दीपक रेहडी फेरी का काम करता है।

दिनांक 20-21 जुलाई की रात करीब 9:00 बजे उन्हें सूचना मिली कि दो लोगों ने उनके बेटे दीपक से पैसे छीनने की कोशिश की जिसमें उसे सिर में चोट लगी है और उसे सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 

जिस समय दीपक को अस्पताल में भर्ती करवाया गया वह बेहोशी की हालत में था। बाद में इलाज के दौरान दीपक की मृत्यु हो गई।

मृतक दीपक की मां की शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ हत्या तथा स्नैचिंग की धाराओं के तहत थाना एनआईटी में मुकदमा दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई।

पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए इस वारदात में शामिल आरोपियों को जल्द से जल्द तलाश करके गिरफ्तार करने के निर्देश दिए जिनके तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने गुप्त सूत्रों के तकनीकी की सहायता से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयोग डंडा और दीपक से छीने गए ₹700 बरामद किए गए।

पूछताछ में सामने आया कि दोनों आरोपी आपस में दोस्त हैं तथा नशा करने के आदी हैं और इसी नशे की आपूर्ति के चलते उन्होंने छीनाझपटी की वारदात को अंजाम दिया था। 

आरोपियों ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से कोई भी उन्हें काम पर नहीं रखता था और नशे करने के लिए उन्हें पैसों की जरूरत पड़ती थी जिसके लिए उन्होंने रेहड़ीचालक दीपक से पैसे छीनने की कोशिश की थी जिसमें उन्होंने दीपक के सिर में डंडा मार दिया था और उसकी मृत्यु हो गई।

पूछताछ पूरी होने के पश्चात दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

शाहरुख प्रदीप को मारने गया था गोली, गलती से खुद पर मार ली, साथी वसीम तथा शकील भी गिरफ्तार


Faridabad News 26 July: पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह द्वारा अपराधियों पर नकेल कसकर अपराध की वारदातों पर लगाम लगाने की दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए चावला कालोनी पुलिस चौकी टीम ने अवैध हथियार रखने वाले तीन आरोपी भाइयों को गिरफ्तार किया है। 

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में शाहरुख, वसीम तथा शकील का नाम शामिल है जो बल्लभगढ़ की भगत सिंह कॉलोनी के रहने वाले हैं। 

पूछताछ में सामने आया कि कुछ दिन पहले आरोपी वसीम की हलवाई की दुकान पर किसी के साथ लड़ाई हो गई थी जिसमें  प्रदीप नामक व्यक्ति ने बीच बचाव करवाया जिसमें आरोपी वसीम की प्रदीप के साथ कहासुनी हो गई जिसकी वजह से वह आरोपी प्रदीप के साथ रंजिश रखने लगा।

आरोपी वसीम ने यह बात अपने भाई इस वारदात के मुख्य आरोपी शाहरुख को बताई। आरोपी शाहरुख ने तैश में आकर बदले की भावना से प्रदीप को सबक सिखाने की ठान ली।

आरोपियों को सूचना मिली कि प्रदीप रणजीत सिंह मार्केट में किसी मोबाइल की दुकान पर बैठा है। इसके पश्चात आरोपी शाहरुख अपने भाई वसीम और शकील के साथ रणजीत सिंह मार्केट में मोबाइल की दुकान पर आता है और अपनी जेब से पिस्टल निकालकर प्रदीप के उपर तान देता है।

इसे देखकर मौके पर काफी भीड़ इकट्ठी हो गई तो आरोपी ने पिस्तौल को छुपाने के उद्देश्य से उसे अपने पेंट की जेब में डाल लिया।

वहां पर मौजूद व्यक्तियों में से किसी एक ने पुलिस को सूचित कर दिया जिस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस चौकी चावला कॉलोनी की टीम मौके पर पहुंच गई।

आरोपी शाहरुख ने भागने के इरादे से अपनी जेब में हाथ डाला और पिस्टल निकालने की कोशिश की जिसमें पिस्टल निकालते समय उससे पिस्टल का ट्रिगर दब गया और गोली चल गई जो आरोपी के बाएं पैर के टखने के थोड़ी ऊपर पिंडली में जाकर लगी और आरोपी घायल हो गया।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें अवैध पिस्टल सहित गिरफ्तार कर लिया और उनके खिलाफ थाना शहर बल्लभगढ़ में हत्या की कोशिश तथा अवैध हथियार अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

आरोपियों के कब्जे से एक देसी पिस्टल, चार जिंदा कारतूस तथा एक खाली खोल बरामद किया गया है।

आरोपी शाहरुख को अस्पताल में पुलिस बल की निगरानी में भर्ती करा दिया गया है और उसके ठीक होने पर पिस्टल की जानकारी ली जाएगी।

पुलिस द्वारा अन्य दोनों आरोपियों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

साई एक्सपोर्ट कंपनी में काम करने वाली युवती ने किया आत्महत्या का प्रयास, पुलिसकर्मी ने बचाई जान

faridabad-sector-28-metro-station-police-save-girls-suicide
Faridabad Sector 28 Metro Station police save girls life during suicide attempt working in Sai Export Company.

फरीदाबाद:  पुलिस आयुक्त ओपी सिंह के मार्गदर्शन पर कार्य कर रही फरीदाबाद पुलिस ने एक बार फिर कमाल कर दिखाया है खुदकुशी करने पर आमदा लड़की को जान हथेली पर रखकर बचाया। ऐसा फिल्मों में भी नहीं होता है जैसा फरीदाबाद के जांबाज पुलिसकर्मी ने कर दिखाया.

वाक्या कल  24.07.2021 करीब 06.30 बजे शायं का था, प्रबंधक थाना मैट्रो फऱीदाबाद को सुचना प्राप्त हुई की एक लडकी सै0 28 मैट्रो स्टेशन प्लेटफार्म नं.-2 पर खुदखुशी करने की कोशिश कर रही है, जिसपर तुरंत तत्परता दिखाते हुए बिना किसी विलंब के मेट्रो पुलिस स्टेशन में तैनात एसआई धन प्रकाश एवं सिपाही सरफराज मौके पर पहुंचे एसआई धन प्रकाश ने सीआईएसफ एवं मेट्रो कर्मचारियों के साथ लड़की का ध्यान बटा कर रखा, बात करते रहे , दूसरी तरफ से सिपाही सरफराज छज्जे पर चढ़कर लड़की के नजदीक पहुंचकर उसको काबू किया, CISF स्टाफ व मैट्रो के कर्मचारियों की सहायता से लडकी को सुरक्षित बचा लिया गया।

लड़की से पूछताछ में सामने आया कि वह दिल्ली की रहने वाली है और सेक्टर 28 फरीदाबाद मे स्तिथ एक साईं एक्सपोर्ट कंपनी मे नौकरी करती है जो काम के रिजल्ट को लेकर मानसिक तनाव एंव डिपरेशन मे आ गई थी जिस कारण उसे यह कदम उठाया था और अब वह पुर्णत: ठीक है।

लड़की को सकुशल उसके परिजनों के हवाले कर पुलिस ने काउंसलिंग करते हुए समझाया की आत्महत्या करना किसी भी समस्या का हल नहीं है, किसी भी कारण से डिप्रेशन का शिकार हो तो किसी अपने से बात करें। उन चीजों को तलाश करें जो आपको खुशी देती हैं। बुरे विचारों को मन पर हावी ना होने दें अपनी समस्याओं को परिजनों के साथ शेयर करें। 

मोस्ट वांटेड लाला की आजादी पर लग गया ताला

faridabad-most-wanted-criminal-bijender-lala-arrested
Faridabad Most Wanted Criminal Bijender Lala arrested by DLF Crime Branch

Faridabad News 24 July 2021: पुलिस आयुक्त श्रो ओपी सिंह द्वारा अपराधियों पर शिकंजा कसने के निर्देशों के तहत नशे के सौदागरों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए फरीदाबाद पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने काफी समय से फरार चल रहे 50 हजार के इनामी बदमाश बिजेंद्र उर्फ लाला को गिरफ्तार कर लिया है।

आपको बताते चलें कि आरोपी के खिलाफ 2 महीने पहले फरीदाबाद के थाना एसजीएम नगर में हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज हुआ था जिसके अंदर आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर ओल्ड फरीदाबाद के रहने वाले एमबीए की पढ़ाई कर रहे छात्र कविश को नशे की ओवरडोज देकर मौत के घाट उतार दिया था।

दिनांक 17 मई 2021 को मृतक कविश के पिता की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने जल्द से जल्द अपराधियों की धरपकड़ के निर्देश दिए जिसके तहत क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने वैज्ञानिक पहलुओं तथा तथ्यों के आधार पर मात्र 2 दिन बाद हत्या में शामिल आरोपी दीपक उर्फ भगिना, राम, पिंटू उर्फ नहीम उर्फ मीढा और विशाल उर्फ सुन्ना को गिरफ्तार कर लिया।

इसके पश्चात दिनांक 2 जून को हत्या में शामिल एक अन्य आरोपी तरुण तथा 9 जून को दो आरोपी भाइयों गौतम तथा राहुल को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

इस मामले में आरोपी लाला फरार चल रहा था। जिसपर श्री ओपी सिंह के अनुरोध पर DGP हरियाणा ने आरोपी पर 50 हजार का इनाम घोषित किया था। क्राइम ब्रांच की टीम ने लाला की गिरफ्तारी के लिए कई ठिकानों पर दबिश दी परंतु लाला बार-बार बचता रहा परंतु आखिरकार क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने सफलता हासिल करते हुए कल रात लाला को गिरफ्तार कर लिया।

आपको बता दें कि आरोपी लाला एक खतरनाक अपराधी है जो नशे का अवैध कारोबार करता है और उसके खिलाफ हत्या, मारपीट, अवैध हथियार, नशा तस्करी सहित 18 मुकदमे दर्ज हैं जिसमें से 16 केस थाना मुजेसर के शामिल है।

आरोपी लाला अवैध नशे के कारोबार में काफी समय से संलिप्त है जिसमें वह अवैध शराब तथा गंजा की तस्करी करता था तथा अपने साथ साथ भोले–भाले नवयुवकों को भी अपराध की इन अंधेरी गलियों में धकेल देता था। 

अवैध नशा तस्करी के लिए उसने अपने गुर्गों को छोड़ रखा था और खुद पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए फरार चल रहा था।  आरोपी रात अपनी पत्नी से मिलने के लिए सेक्टर 12 में आया हुआ था जिसे गुप्त सूत्रों की सहायता से क्राइम ब्रांच द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया।

आरोपी को आज अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा जिसमें उससे मामले में गहनता से पूछताछ की जाएगी।

भैंस चोरी करने के आरोप में क्राइम ब्रांच ने निजाम को किया गिरफ्तार, रहीश, तारिफ फरार

crime-branch-nit-faridabad-arrested-bhains-chor-nijam
Crime Branch NIT Faridabad arrested Bhains Chor accused Nijam near Alfala Medical College.

Faridabad News 23 July 2021: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के अपराध को रोकने के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच एनआईटी प्रभारी के नेतृत्व में पुलिस टीम ने भैंस चोरी करने के आरोप में एक आरोपी को अल्फला कॉलेज के पास से गिरफ्तार किया है।

आरोपी की पहचान निज़ाम निवासी गांव कोट पलवल के रुप में हुई है।

पुलिस टीम ने बताया कि आरोपी के बारे में गुप्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई थी जिसपर कार्रवाई करते हुए अल्फला कॉलेज फतेपुर तगा के पास से पिकअप गाडी में भैंस को चढ़ाते हुए दिखाई दिए जो पुलिस की गाडी को देख कर भागने लगे। उनमें से एक आरोपी निज़ाम को पुलिस ने दबोच लिया और दो अन्य मौका से फरार हो गए।

आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि पिकअप गाडी उसकी की है। वह इसको चलाने का काम करता है। जो अपने साथी रहिश, तारिफ के साथ चोरी की भैंस को लेने आया था। भैंस आरोपियों ने गांव आलमपुर के दीन मौहम्मद के यहां से चोरी की है। 

आरोपी से एक भैंस और पिकअप गाडी बरामद कर ली गई है।

आरोपी को आज अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा आरोपी के दोनो के साथियों को तलाश करके जल्द गिरफ़्तार किया जाएगा।

चोरी की मोटरसाइकिल के साथ दबोचा गया मोहम्मद शाहिद, भेजा गया जेल

faridabad-nit-crime-branch-arrested-chor-muhammad-shahid
Fardabad NIT Crime Branch arrested Muhammad Shahid

Faridabad News 22 July: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह द्वारा शहर में चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राईम ब्रांच एनआईटी की टीम ने थाना सूरजकुण्ड क्षेत्र से एक मोटरसाईकिल चोर को गिरफ्तार किया है।

 आरोपी की पहचान मौहम्मद शाहिद निवासी गांव पहलादपुर दिल्ली के रुप में हुई है। 

क्राइम ब्रांच की टीम गस्त पर थी जिस दौरान एक व्यक्ति मोटरसाईकिल पर जाता हुआ दिखाई दिया और पुलिस की गाडी को देखकर भागने लगा।

 पुलिस टीम ने आरोपी को काबू कर लिया और भागने का कारण पूछा। 

पुलिस टीम को कोई कारण नही बताने पर पुलिस ने मोटरसाईकिल के कागजात मांगे जो आरोपी पेश नही कर सका।

जनता से पूछताछ करने पर आरोपी ने बताया कि यह मोटरसाइकिल चोरी की है और इसे उसने दिल्ली से चोरी किया था।

आरोपी के खिलाफ थाना सूरजकुंड में चोरी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

मोटरसाइकिल बरामद होने तथा पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को आज पेश अदालत कर जेल भेज दिया गया है।

मटकी दौड़ में हारने वाले लड़के ने जीतने वाले लड़के पर कर दिया था फायर, जानिये कहाँ का है मामला

piyala-gaon-faridabad-firing-case-police-arrested-sachin

Faridabad News 22 July 2021: पुलिस थाना सेक्टर 58 की टीम ने एक व्यक्ति पर हवाई फायर करने के जुर्म में आरोपी सचिन को गिरफ्तार किया है।

आरोपी ने 20 दिन पहले आपसी द्वेष के चलते एक व्यक्ति पर अवैध देसी कट्टे से हवाई फायर कर दिया था।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में पीड़ित नितिन ने बताया कि वह फरीदाबाद के पियाला गांव का रहने वाला है। होली के अवसर पर हर वर्ष उनके गांव में मटकी दौड़ का आयोजन करवाया जाता है।

इस वर्ष होली के अवसर पर आयोजित की गई मटकी दौड़ में 15-20 लड़कों ने भाग लिया था जिसमें आरोपी सचिन भी उसके साथ दौड़ में शामिल था।

आरोपी सचिन किसी भी तरह इस दौड़ को जीतना चाहता था परंतु नितिन ने इस दौड़ में बाजी मारली और आरोपी हार गया। इसी हार के कारण आरोपी नितिन से द्वेष रखने लगा।

इसी द्वेष के चलते आरोपी पियाला गांव में गैस एजेंसी पर आने वाले ट्रक ड्राइवर से 4 हज़ार रुपए में देसी कट्टा खरीद कर लाया और दिनांक 1 जुलाई को शाम करीब 8:00 बजे जब नितिन अपने दोस्त के साथ गांव के पार्क में टहल रहा था उसी दौरान आरोपी ने उस पर कट्टा तान दिया।

आरोपी सचिन ने देसी कट्टे से पीड़ित नितिन पर फायर कर दिया परंतु गोली पीड़ित को नहीं लगी और जैसे-तैसे पीड़ित ने अपनी जान बचा ली। नितिन को जान से मारने की धमकी देकर आरोपी मौके से फरार हो गया।

पीड़ित की शिकायत पर थाना सेक्टर 58 में आरोपी के खिलाफ अवैध हथियार अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके उसकी तलाश शुरू की गई।

गुप्त सूत्रों व तकनीकी सहायता से पुलिस टीम ने आरोपी को पियाला गांव से गिरफ्तार कर लिया तथा आरोपी के कब्जे से एक देसी कट्टा व खाली खोल बरामद किया गया।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी बारहवीं कक्षा का छात्र है और उसकी उम्र महज 18 साल है। द्वेष के चलते ही उसने नितिन पर हवाई फायर किया था।

पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

इसने अपने पड़ोसी के घर से ही चुरा लिया मोबाइल और 10400 रुपए

sector-7-thana-police-arrested-chor-2-mobile-cash-recovered

Faridabad News 21 July 2021: थाना सेक्टर 7 की पुलिस टीम ने पड़ोसी के घर चोरी की वारदात को अंजाम देने के जुर्म में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

आरोपी की पहचान हाथरस निवासी नेकपाल के रूप में हुई है।

घटना 19 जुलाई की है जब पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि शिकायतकर्ता के घर पर शादी का समारोह था और इसी दौरान उसके घर से दो मोबाइल फोन व 10400 रुपए चोरी हो गए थे।

पीड़ित की शिकायत पर थाना सेक्टर 7 में आरोपी के खिलाफ चोरी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू की गई।

साइबर तकनीकी और गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपी का बटरफ्लाईओवर के पास होने की सूचना प्राप्त हुई जिस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और आरोपी को दबोच लिया।

आरोपी के कब्जे से दोनों फोन और पैसे बरामद किए गए।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह किराए पर ऑटो चलाने का काम करता है जो लॉकडाउन के दौरान उसका ऑटो चलाने का काम बंद हो गया गुजारा चलाने के लिए उसने चोरी की घटना को अंजाम दिया था। आरोपी फोन बेचने की फिराक में था कि पुलिस ने पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस द्वारा आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

हमले के बाद और मजबूत हुआ पूर्व वायुसेना अफसर वकील दुग्गल का हौसला, कोर्ट ने दिया पक्ष में फैसला

advocate-satinder-singh-duggal-win-case-to-anon-security

Faridabad 21 July 2021: मंगलवार को ऐनोन सिक्यरिटी बनाम आर॰डबल्यू॰ए॰ ओज़ोने पार्क सोसाययटी के केस में फ़ैसला आर॰डबल्यू॰ए॰ ओज़ोने पार्क के पक्ष में आया व कोर्ट ने  ऐनोन  सिक्यरिटी की याचिका ख़ारिज कर दी।

पंद्रह जुलाई को इसी केस में सुनवाई के पश्चात लौटते हुए वरिष्ठ वकील  सतिंदर दुग्गल, रिटायर्ड विंग कमांडर पर सेक्टर 12-15 के क्रॉसिंग पर जान लेवा हमला हुआ था जिसके बाद सेंट्रल थाने में FIR नम्बर 233/2021 दर्ज कर ली गयी थी व पुलिस  मामले की  तह तक पहुँचने की कोशिश कर रही है।

फ़ैसले के बाद वकील सतिंदर दुग्गल ने संतोष व्यक्त किया व बताया कि इस फ़ैसले से सोसायटी के निवासियों के हितों की रक्षा हुई है।



हत्या के प्रयास में चार पहले ही गिरफ्तार, अब हथियार सप्लायर भी दबोचा गया

faridabad-crime-branch-sector-56-arrested-hathiyar-supplier
Faridabad Crime Branch Sector 65 arresed Gun Supplier in Murder attempt case.

Faridabad News 21 July 2021: Crime Branch Sector 65  की टीम ने एक व्यक्ति की हत्या करने के प्रयास के जुर्म में आरोपियों को अवैध हथियार सप्लाई करने वाले फरार चल रहे आरोपी को गिरफ्तार किया है। 

गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम अमित है जो उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले के नीलोनी गांव का रहने वाला है।

आरोपी उत्तर प्रदेश से किसी अनजान व्यक्ति के पास से अवैध हथियार खरीद कर लाता था और उसे आपने दोस्तों को सप्लाई करता था। 

छांयसा गांव के रहने वाले दीपक की कनपटी पर आरोपी अमित के साथियों ने अमित द्वारा सप्लाई किया गया अवैध कट्टा रखकर उसके साथ मारपीट की और उसे बुरी तरह घायल कर दिया।

घटना मई 2021 की है जब आरोपियों ने छांयसा गांव के ही रहने वाले दीपक पर फावड़े से हमला करके उसे मारने की नियत से गंभीर चोट पहुंचाई थी।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में पीड़ित दीपक ने बताया कि वह सभी आरोपियों को काफी समय से जानता है और इससे पहले उनके साथ उसकी दोस्ती भी थी परंतु एक दिन पार्टी में किसी बात को लेकर उसकी इस घटना के मुख्य आरोपी धर्मेंद्र के साथ कहासुनी हो गई थी।

पार्टी में हुई कहासुनी का बदला लेने के लिए आरोपी धर्मेंद्र ने अपने चार अन्य साथियों दिनेश उर्फ रॉकी, रिंकू, प्रशांत, और  पवन के साथ मिलकर 25 मई 2021 को उस पर हमला बोल दिया जब वह है अपने घर पर था।

आरोपियों ने पीड़ित के माता-पिता को कमरे में बंद कर दिया और उसके बाद पीड़ित दीपक की कनपटी पर देसी कट्टा रख दिया तथा फावड़े व लाठी-डंडे से उस पर हमला कर दिया जिसमें पीड़ित को गंभीर चोटें आई तथा उसका कान कट गया।

इसके पश्चात आरोपियों ने पीड़ित के भाई को फोन करके बताया कि उन्होंने उसके भाई को मार कर फेंक दिया है, वह अपने भाई को बचा सकता तो बचा ले। आरोपियों ने पीड़ित के भाई को धमकी दी कि यदि वह बच गया तो वह उसे जिंदा नहीं छोड़ेंगे और यह कह कर आरोपी वहां से फरार हो गए।

इसके पश्चात पीड़ित को फरीदाबाद के सर्वोदय अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां पर उसकी मेडिकल रिपोर्ट करवाई गई जिसमें पीड़ित को आई गंभीर चोटों का वर्णन था।

पीड़ित की शिकायत पर थाना छांयसा में आरोपियों के खिलाफ मारपीट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई।

पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह ने इस मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए जल्द से जल्द आरोपियों की धरपकड़ करने के निर्देश दिए जिनके तहत कार्य करते हुए Crime Branch Sector 65 की टीम ने हमले के मुख्य आरोपी धर्मेंद्र को दिनांक 8 जून को अवैध देसी कट्टे सहित गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में आरोपी धर्मेंद्र ने बताया कि उसको देसी कट्टा उसके साथी आरोपी अमित ने उपलब्ध करवाया था।

इसके पश्चात क्राइम ब्रांच ने मामले में शामिल अन्य आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश देनी शुरू की। आरोपी पुलिस से बचने के लिए ठिकाने बदल बदल कर रहने लगे परंतु अपराधी कितना भी शातिर क्यों ना हो एक ना एक दिन पुलिस के हत्थे चढ़ ही जाता है।

क्राइम ब्रांच की टीम ने अंततः कड़ी मशक्कत करते हुए तीन और आरोपियों दिनेश रिंकू और प्रशांत को गुप्त सूत्रों व साइबर तकनीकी की सहायता से छांयसा गांव से गिरफ्तार कर लिया।

इसके पश्चात गिरफ्तार किए गए आरोपियों व साइबर तकनीकी की सहायता से क्राइम ब्रांच ने कल आरोपी अमित को अवैध देशी कट्टे सहित गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह हवाबाजी करने के लिए देसी कट्टा खरीद कर लाया था और उसने इसे अपने दोस्तों को भी सप्लाई कर दिया जिन्होंने मिलकर दीपक पर हमला कर दिया था।

पूछताछ पूरी होने के पश्चात पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया है।

बल्लभगढ़ रॉबरी: इन लुटेरों ने एक घर से लूटा 12.5 लाख कैश, 18 तोला सोना, दूसरे घर से भी उड़ाया माल

ballabhgarh-subhash-colony-robbery-news
Ballabhgarh Subhash Colony Robbery, 12.5 Lakh Cash and 18 Tola Gold looted from a house, FIR registered in Adarsh Nagar Thana.

Ballabhgarh News 20 July 2021: बल्लभगढ़ में 18 जुलाई की रात को दो चोरों ने कुछ ही दूरी पर दो घरों में लूट की वारदात को अंजाम दिया। एक घर में 12.5 लाख कैश और 18 तोला गोल्ड लूटा तो पास ही दूसरे घर में करीब 10 तोला गोल्ड, एक मोबाइल और 10 हजार रुपये कैश लूटा। नीचे वीडियो में चोरों की फुटेज और पीड़ितों द्वारा मामले की जानकारी  हासिल की गयी है. देखिये -

   

आदर्श नगर थाने में दर्ज FIR No 313 में दी गयी सूचना में मुताबिक़, मैं सचिन S/O श्री रतन लाल निवासी छज्जुराम रोड OPP. बुद्धा सैनी कार्यालय आदर्श नगर बल्लबगढ का रहने वाला हुं मै ग्वालपहाडी जिला गुडगांव मे मैडिकल स्टोर चलाता हुं जोकि कल दिनांक 17.07.2021 करीब दोपहर 12 बजे अपने घर का ताला लगाकर अपने बच्चो सहित अपने गांव बालियावास गुडगांव गया था जो आज कोरियर बाले ने फोन पर सुचित किया कि तुम्हारे घर का ताला टुटा हुआ है जब मैने घर पर आकर देखा तो मेरे घर का ताला टुटा हुआ था और सारा सामान बिखरा हुआ था जब मैने सामान चैक किया तो मेरे अलमारी मे लाकर मे 18 तोले सोना और नकद 12,50,000/- रुपये कैश था जो वहां नही मिले कोई नाम पता ना मालूम व्यक्ति चोरी करके ले गया है मेरी रिपोर्ट दर्ज करके मेरी रकम व गोल्ड मुझे बरामद कराया जाये। sd-SACHIN, MOB-8766214986 अज थाना- दरखास्त उपरोक्त  के मजबुन से मामला सरेदस्त जुर्म जैर धारा 457,380 भा द स का सरजद होना पाया जाने पर मु.न. 313 दिनांक 18.07.2021 धारा 457,380 भा द स थाना आदर्श नगर फरीदाबाद दर्ज रजिस्टर किया।

शिकायतकर्ता के मुताबिक़ इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गयी है, पुलिस कार्यवाही जारी है हालाँकि अभी तक चोरों को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है.

मोची बनकर घूमता था चोर, घरों में घुसकर चुरा लेता था मोबाइल, CIA ने किया गिरफ्तार

crime-branch-nit-faridabad-arrested-mochi-mobile-chor
 Crime Branch NIT Faridabad caught mochi mobile chor who steal mobile phone.

Faridabad News 18 July 2021: क्राइम ब्रांच एनआईटी ने मोहल्ले व कॉलोनियों में घुमने के बहाने घर में घुस कर मोबाईल चोरी करने वाले आरोपी ज्योति उर्फ सुनील को गिरफ्तार किया।

आरोपी ने इसी वर्ष मार्च माह में जूता-चप्पल मरम्मत करने के बहाने घर के अंदर जाकर मोबाईल चोरी की थी। गृहस्वामी को उसके मोबाईल चोरी होने की बात पता चली तो उसने डबुआ थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

इसी माह 2 जुलाई को आरोपी ने पुनः किसी अन्य घर में पुरानी घटना को दोहराते हुए गृहस्वामी के मोबाईल पर अपना हाथ साफ कर दिया। आरोपी के विरूद्ध फिर प्राथमिकी दर्ज हुई। इस बार पुलिस के कड़े प्रयासों से आरोपी को तलाश कर हवालात तक पहुँचा दिया गया तथा आरोपी के पास से चोरी के दो मोबाईल जब्त किए हैं।

गिरफ्तार आरोपी ने चोरी की बात स्वीकारते हुए पुलिस को बताया कि वह डबुआ थानाक्षेत्र का रहने वाला है और मोहल्ले –कॉलोनियों में घुम-घुम कर मोची का काम करता है। इसी दौरान लोगों के घरों से मोबाइल फोन चुरा लेता था।

आरोपी ने बताया कि नशा करने के लिए पैसा नहीं होने के कारण वह चोरी करता है।

पुलिस ने पूछताछ पूरी करने के बाद आरोपी को न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

वकील सतिंदर दुग्गल पर दिन दहाड़े हमला, नहरपार सोसाइटीज में भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाते हैं आवाज

advocate-satinder-singh-duggal-attacked-in-sector-15-faridabad
Advocate Satinder Singh Duggal attacked in Sector 15 Red Light. He raise voice against corruption in Naharpar Societies.

फरीदाबाद, 15 जुलाई: फरीदाबाद सेक्टर 12 कोर्ट में वकालत करने वाले और पूर्व में वायु सेना में विंग कमांडर से रिटायर हुए सतिंदर सिंह दुग्गल पर बदमाशों ने हमला करके उन्हें डराने का प्रयास किया है, उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी गयी है, यह सब सेक्टर 15 रेड लाइट पर 12/15 डिवाइडिंग रोड पर किया गया, CCTV कैमरे के सामने किया गया.

वकील सतिंदर सिंह दुग्गल नहरपार की सोसाइटीज में हो रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाते रहते हैं, यह बात कुछ लोगों को पसंद नहीं है, आज ऐसे ही एक मामले में कोर्ट में हियरिंग थी, वकील सतिंदर सिंह दुग्गल बहस में भाग लेकर कोर्ट से निकलकर अपनी वैगन-आर कार से सेक्टर 15 की रेड लाइट पर पहुंचे ही थी कि पहले से घात लगाए बदमाशों ने उनपर हमला कर दिया।

वकील सतिंदर दुग्गल ने बताया कि मुझ पर कोर्ट के जिरह करने के आने के बाद सेक्टर 12/15 की रेड लाइट पर 3.30 PM पर हमला किया गया. उन्होंने संदिग्ध हमला कराने वालों के नाम नवीन चितकारा, खटाना व नवीन चेची बताए हैं, पुलिस में शिकायत की गयी है. उन्होंने बताया कि हमलावर बाइक से थे और उनके हाथ में मोटा डंडा था, उन्होंने डंडे से ताबड़तोड़ हमला बोल दिया, पहले कार के आगे और ड्राइविंग सीट की तरह शीशे पर तेजी से प्रहार किया गया, फिर से उनके शरीर पर वार किया गया, हालाँकि उन्होंने ड्राइविंग सीट से साइड वाली सीट की तरह भाग कर अपनी जान बचाई। इसके बाद बाइक सवार हमलावर भाग गए.

वकील सतिंदर सिंह दुग्गल पर हमले के बाद जिला बार एसोसिएशन के प्रधान बॉबी रावत ने कहा कि एसोसिएशन वकील दुग्गल के साथ है, उनपर हमला दुर्भाग्यपूर्ण और कायराना है, पुलिस को हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए।

रेती चोरी करने वाले खनन माफिया के दो ट्रैक्टर फरीदाबाद पुलिस ने पकड़कर खनन विभाग को सौंपा

faridabad-tigaon-thana-police-caught-2-tractor-reti-khana-mafia
Faridabad Tigaon Thana Police caught 2 tractor of Reti Chor Khanan Mafia.

फरीदाबाद: थाना तिगांव की पुलिस टीम ने अवैध रूप से रेती चोरी करने वाले खनन माफिया के खिलाफ कार्रवाई करते हुए दो ट्रैक्टरों को हिरासत में लेकर खनन विभाग के हवाले कर दिया है।

हिरासत में लिए गए आरोपियों का नाम इंद्र तथा परमिंदर उर्फ पम्मी है।

मँडिया गांव से रेती चोरी करके फरीदाबाद में लेकर जा रहे थे जिसे थाना तिगांव की पुलिस ने बीच में ही रोक लिया।

आज सुबह थाना की टीम गश्त पर थी। गश्त के दौरान पुलिस टीम को रेती से भरे दो ट्रैक्टर ट्रॉली जाते हुए दिखाई दिए। पुलिस टीम को संदेह हुआ कि यह रेती खनन माफिया द्वारा अवैध रूप से ले जाई जा रही है।

पुलिस टीम ने ट्रैक्टर को रुकवाया और उससे पूछताछ करनी शुरू की जिसमें पता चला कि आरोपी अवैध रूप से रेती भरकर फरीदाबाद में सप्लाई करने जा रहे थे।

पुलिस टीम ने ट्रैक्टर सहित दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया और इसके पश्चात माइनिंग विभाग के अधिकारियों को इसके बारे में सूचित करके मौके पर बुला लिया।

माइनिंग विभाग के अधिकारियों ने दोनों ट्रैक्टर ट्राली अपने कब्जे में ले लिए तथा पुलिस द्वारा दोनों आरोपियों को आगामी कार्रवाई के लिए खनन विभाग के हवाले कर दिया है।

कहासुनी का बदला, अपने दोस्त को जान से मारने का प्रयास, 3 आरोपी गिरफ्तार, पढ़ें वारदात की डिटेल

crime-branch-sector-65-faridabad-arrested-three-criminals
Crime Branch Sector 65 arrested three accused in attempt to murder case name Dinesh, Rinku and Prashant.

Faridabad News 11 July 2021: क्राइम ब्रांच 65 की टीम ने एक व्यक्ति की हत्या करने के प्रयास के जुर्म में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। 

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में दिनेश उर्फ रॉकी, रिंकू और प्रशांत का नाम शामिल है। तीनों आरोपी फरीदाबाद के छांयसा गांव के रहने वाले हैं।

इस मामले में मुख्य आरोपी धर्मेंद्र को क्राइम ब्रांच पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है और वारदात में शामिल दो अन्य आरोपी पवन तथा अमित अभी फरार चल रहे हैं जिनकी पुलिस द्वारा तलाश करके जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

घटना मई 2021 की है जब आरोपियों ने छांयसा गांव के ही रहने वाले दीपक पर फावड़े से हमला करके उसे मारने की नियत से गंभीर चोट पहुंचाई थी।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में पीड़ित दीपक ने बताया कि वह सभी आरोपियों को काफी समय से जानता है और इससे पहले उनके साथ उसकी दोस्ती भी थी परंतु एक दिन पार्टी में किसी बात को लेकर उसकी इस घटना के मुख्य आरोपी धर्मेंद्र के साथ कहासुनी हो गई थी।

पार्टी में हुई कहासुनी का बदला लेने के लिए आरोपी धर्मेंद्र ने अपने चार अन्य साथियों दिनेश उर्फ रॉकी, रिंकू, प्रशांत, और  पवन के साथ मिलकर 25 मई 2021 को उस पर हमला बोल दिया जब वह है अपने घर पर था।

आरोपियों ने पीड़ित के माता-पिता को कमरे में बंद कर दिया और उसके बाद पीड़ित दीपक की कनपटी पर देसी कट्टा रख दिया तथा फावड़े व लाठी-डंडे से उस पर हमला कर दिया जिसमें पीड़ित को गंभीर चोटें आई तथा उसका कान कट गया।

इसके पश्चात आरोपियों ने पीड़ित के भाई को फोन करके बताया कि उन्होंने उसके भाई को मार कर फेंक दिया है, वह अपने भाई को बचा सकता तो बचा ले। आरोपियों ने पीड़ित के भाई को धमकी दी कि यदि वह बच गया तो वह उसे जिंदा नहीं छोड़ेंगे और यह कह कर आरोपी वहां से फरार हो गए।

इसके पश्चात पीड़ित को फरीदाबाद के सर्वोदय अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां पर उसकी मेडिकल रिपोर्ट करवाई गई जिसमें पीड़ित को आई गंभीर चोटों का वर्णन था।

पीड़ित की शिकायत पर थाना छांयसा में आरोपियों के खिलाफ मारपीट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई।

पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह ने इस मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए जल्द से जल्द आरोपियों की धरपकड़ करने के निर्देश दिए जिनके तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच की टीम ने हमले के मुख्य आरोपी धर्मेंद्र को दिनांक 8 जून को अवैध देसी कट्टे सहित गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में आरोपी धर्मेंद्र ने बताया कि उसको देसी कट्टा उसके साथी आरोपी अमित ने उपलब्ध करवाया था जो कि दिल्ली का रहने वाला है।

इसके पश्चात क्राइम ब्रांच ने मामले में शामिल अन्य आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश देनी शुरू की। आरोपी पुलिस से बचने के लिए ठिकाने बदल बदल कर रहने लगे परंतु अपराधी कितना भी शातिर क्यों ना हो एक ना एक दिन पुलिस के हत्थे चढ़ ही जाता है।

क्राइम ब्रांच की टीम ने अंततः कड़ी मशक्कत करते हुए तीन आरोपियों को गुप्त सूत्रों व साइबर तकनीकी की सहायता से छांयसा गांव से गिरफ्तार कर लिया।

उक्त आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने वारदात में प्रयोग फावड़ा तथा लाठी-डंडे बरामद कर लिए हैं।

आरोपियों को गिरफ्तार करके अदालत में पेश करने के पश्चात जेल भेज दिया गया है तथा इस मामले में फरार चल रहे आरोपी पवन तथा देसी कट्टा सप्लाई करने वाले आरोपी अमित को पुलिस द्वारा जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

चोरी के दो कैंटर बरामद, मेवाती चोर राहुल को CIA ने दबोचा

faridabad-crime-branch-uncha-gaon-arrested-mewati-chor-rahul
 Faridabad Crime Branch Uncha Gaon arrested vehicle chor and recovered two Canter on 10 July 2021.

Faridabad News 11 July 2021: पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह द्वारा वाहन चोरी के अपराधों पर नियंत्रण रखने के लिए जिले में चोरी की वारदातों में शामिल अपराधियों पर शिकंजा कसने के दिशा निर्देश के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच उचागांव की टीम ने एक शातिर चोर को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम राहुल है जो नूंह जिले का रहने वाला है।

एक हफ्ते पहले दिल्ली के रोहिणी इलाके से चोरी हुई टाटा 407 गाड़ी को आरोपी ने मेवात से खरीदा था। इसके अलावा आरोपी ने एक आईसर कैंटर सीकरी प्याली रोड से चोरी किया था। 

उक्त दोनों मुकदमे चोरी करने तथा चोरी का वाहन खरीदने की धाराओं के तहत फरीदाबाद के थाना सेक्टर 58 में दर्ज है।

क्राइम ब्रांच ऊचागांव प्रभारी जगमिंदर सिंह की टीम ने गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपी चोर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

आरोपी के कब्जे से दोनों कैंटर बरामद किए गए हैं।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी एक शातिर किस्म का अपराधी है जिसके खिलाफ फरीदाबाद के अलावा नूंह और महेंद्रगढ़ में भी अवैध हथियार तथा जुए के मुकदमे दर्ज हैं।

पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

लोगों से धोखाधड़ी करके इंश्योरेंस पालिसी का पैसा अपने खाते में ट्रांसफर करा लेते थे, जानिए कैसे

faridabad-cyber-thana-police-arrested-three-criminal
Faridabad Cyber Thana Police arrested three criminals cheating people by Insurance Policy.

फरीदाबाद, 10 जुलाई: डिजिटल इंडिया के इस दौर में हर व्यक्ति अपने आने वाले कल को सुरक्षित करने के लिए अपनी मेहनत की कमाई इंश्योरेंस पॉलिसी करवाने में निवेश करता हैं ताकि आने वाले समय में उस धन का प्रयोग आवश्यकतानुसार जरूरी कार्यों में किया जा सके। वहीं दूसरी ओर कुछ शातिर किस्म के अपराधी जल्दी पैसा कमाने के चक्कर में दूसरों के मेहनत की कमाई को चुटकियों में चट कर जाते हैं।  

तकनीकी के इस आधुनिक युग में आजकल किसी को लूटने के लिए हथियारों की आवश्यकता नहीं होती बल्कि साइबर तकनीकी के माध्यम से एक फोन कॉल से ही सारा काम हो जाता है।

इस प्रकार के साइबर अपराधियों की धरपकड़ करके साइबर अपराधों पर लगाम लगाने के लिए फरीदाबाद पुलिस दिन रात कड़ी मशक्कत कर रही है।

इसी क्रम में इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर लोगों के साथ धोखाधड़ी करने वाले साइबर ठगों का पर्दाफाश करते हुए फरीदाबाद साइबर थाना की टीम ने गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में अभिषेक, अमित और राजेंद्र का नाम शामिल है।

इस मामले में गिरोह का चौथा आरोपी प्रवीण फरार चल रहा है जिसकी पुलिस द्वारा तलाश करके जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

आरोपियों को अदालत में पेश करके 6 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें उनसे मामले में गहनता से पूछताछ की गई।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी बहुत ही शातिर किस्म के अपराधी हैं। गिरोह का चौथा आरोपी प्रवीण पॉलिसी धारकों का डाटा कहीं से खरीद कर लाता है जिसमें किस पॉलिसी की वैधता खत्म होने वाली है, कौनसी पॉलिसी की किस्त बकाया है और कौनसी पॉलिसी सस्पेंड हो चुकी है आदि सभी जानकारियां मौजूद रहती है।

आरोपी पॉलिसी धारकों की जानकारी का प्रयोग करते हुए उनके पास फोन करते तथा इंश्योरेंस पॉलिसी रिन्यूअल कराने व उस पर कैशबैक दिलाने या जिन पॉलिसी की किस्त बकाया रहती थी उनको दोबारा से चालू करवाने के लिए उनपर लगे एजेंट कोड को हटाने के नाम पर धोखाधड़ी से अपने फर्जी बैंक खातों में उनसे पैसे डलवा लेते हैं।

एक बार पैसा बैंक खातों में आने के पश्चात वह अपना नंबर बंद कर देते थे और एटीएम के माध्यम से सारे पैसे निकलवा लेते थे।

इसी प्रकार की धोखाधड़ी का शिकार हुए फरीदाबाद के सेक्टर 62 के रहने वाले मनोज ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया कि आरोपियों ने इसी तरह का झांसा देकर उससे 60500 रुपये धोखे से हड़प लिए। 

पीड़ित की शिकायत पर थाना साइबर अपराध फरीदाबाद में आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू की गई।                   

पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने इस मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए जल्द से जल्द आरोपियो की धरपकड़ के निर्देश दिए जिसके तहत कार्रवाई करते हुए थाना साइबर अपराध प्रभारी इंस्पेक्टर बसंत कुमार की अगुवाई में टीम का गठन किया गया जिन्होंने साइबर तकनीक की सहायता से तीन आरोपियों को एनसीआर क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया।

आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयुक्त मोबाइल फोन, सिम कार्ड व 50 हजार रुपए नगद बरामद किए गए हैं।

आरोपियों के बैंक खातों में पिछले 6 महिने में धोखाधडी से हासिल तकरीबन 60 लाख रुपये का लेन-देन पाया गया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी अभिषेक पहले भी धोखाधडी के मामले मे 2 बार जेल जा चुका है।

आरोपियों ने एनसीआर एरिया में तकरीबन 40 वारदातों को अंजाम देने का खुलासा किया है जो सभी संबंधित थाना को सूचित किया जा चुका है।

पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा गिरोह के चौथे सदस्य को पुलिस द्वारा जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

जानलेवा हमला करने के मामले में 8 माह से फरार चल रहा तीसरा आरोपी गिरफ्तार

crime-branch-uncha-gaon-arrested-accused-vishwas-bhola
Crime Branch Uncha Gaon arrested accused Vishwas Urf Bhola in 2020 Crime Case.

Faridabad News 7 July 2021: संगीन अपराधों वाले मुकदमें में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी में तेजी लाने के लिए पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने सभी पुलिस ईकाईयों को महत्वपूर्ण निर्देश दिया है।

इसी क्रम में Crime Branch Uncha Gaon ने 8 महीने से फरार चल रहे आरोपी विश्वास उर्फ भोला को गिरफ्तार किया है।

नवम्बर 2020 में फरीदाबाद में स्थित रॉयल हेरिटेज सोसाइटी के सामने अपने छह साथियों संग मिलकर सौरभ नामक व्यक्ति पर सरेआम जानलेवा हमला करने का तीसरा आरोपी विश्वास उर्फ भोला को क्राइम ब्रांच ऊंचागाँव की टीम ने गिरफ्तार किया है। इस मामले में पुलिस दो आरोपियों प्रशांत और योगेश को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

घटना को अंजाम देने के बाद से आरोपी पुलिस द्वारा गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार चल रहा था।

आरोपी स्थायी रूप से उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ का रहने वाला है और यहाँ फरीदाबाद के ऊँचागाँव में अपनी बुआ के घर रहता है।

पूछताछ में सामने आया कि इस मामले में पहले गिरफ्तार हो चुके आरोपी प्रशांत की पत्नी पर सौरभ नामक व्यक्ति ने  टिप्पणी कर दी थी जिसका बदला लेने के लिए आरोपी प्रशांत ने अपने 6 साथियों के साथ मिलकर लाठी-डंडे, लात-घूसे व रॉड से उस व्यक्ति पर जानलेवा हमला कर दिया।  

पीड़ित किसी तरह घटनास्थल से बच निकला और सदर बल्लभगढ़ थाना में आकर पुलिस को इसकी शिकायत देते हुए आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई की मांग की।

इस मामले में आरोपी प्रशांत की पत्नी द्वारा सौरभ के विरूद्ध महिला थाना बल्लभगढ़ में शिकायत दर्ज करायी गयी थी जिसके आधार पर सौरभ के खिलाफ महिला के साथ छेड़छाड़ की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था जोकि अभी अदालत में विचाराधीन है।

इस मुकदमें में कुल 7 आरोपियों में से दो आरोपियों को पुलिस पहले गिरफ्तार कर चुकी है। Crime Branch Uncha Gaon द्वारा आरोपी विश्वास उर्फ भोला को गिरफ्तार करके उसके पास से घटना में प्रयोग किया हुआ डंडा बरामद किया है।

गिरफ्तार आरोपी से पुलिस अभिरक्षा में पूछताछ के दौरान पता चला कि वह बारहवीं का छात्र है। अन्य आरोपियों से गहरी मित्रता होने के चलते मारपीट की घटना में शामिल हो गया।

पुलिस ने आज गिरफ्तार आरोपी को न्यायालय में पेश किया। अदालत ने  आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। 

पुलिसकर्मी के सिर पर फावड़ा मारने के आरोपी मोस्टवांटेड इनामी बदमाश कुलदीप को CIA-17 ने दबोचा

faridabad-crime-branch-sector-17-arrested-most-wanted-criminal-kuldeep
Faridabad Crime Branch Sector 17 arrested most wanted Criminal Kuldeep accused in attack on Policemen.

Faridabad News 6 July: पुलिस आयुक्त ओपी सिंह द्वारा मोस्टवांटेड के सफाए के लिए चलाये गये अभियान में कार्यवाही करते हुए Crime Branch Sector 17 की टीम ने 25 हजार के मोस्टवांटेड इनामी बदमाश कुलदीप को पकड़ने में सफलता हासिल की है।

कुलदीप बल्लबगढ़ के गाँव मुजेडी का रहने वाला है जो काफी समय से फरार चल रहा था।

आरोपी के खिलाफ थाना सिटी बल्लबगढ़ में पुलिसकर्मी की हत्या के प्रयास के तहत मुकदमा दर्ज है जिसमे आरोपी ने पुलिसकर्मी के सिर में फावड़ा मारकर उसे बुरी तरह घायल कर दिया था।

थाने में दर्ज मुकदमे के अनुसार चावला कालोनी एरिया में स्थित पैट्रोल पम्प के पास आरोपी Most Wanted Criminal Kuldeep के ग्रुप का दुसरे ग्रुप के साथ झगडा हो रहा था। पुलिस पार्टी झगड़ा शांत करने के मकसद से तुरंत मौके पर पहुंची परन्तु वहां पर आरोपी Most Wanted Criminal Kuldeep ने अपने 5 अन्य साथियों के साथ मिलकर पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया।

इस मामले में पुलिस आरोपी के अन्य पाँचों साथियों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

Most Wanted Criminal Kuldeep बहुत ही शातिर किस्म का अपराधी है जिसके खिलाफ हत्या के प्रयास, लड़ाई-झगडे के 6 मुकदमे दर्ज है।

फरीदाबाद पुलिस काफी समय से आरोपी के पीछे लगी हुई थी। इसी क्रम में Crime Branch Sector 17 को गुप्त सूत्रों से सुचना मिलीं कि थाना सेक्टर 7 के एरिया में आरोपी कुलदीप अपने घरवालो से मिलने आएगा।

सूचना पर तुरंत कार्यवाही करते हुए इंस्पेक्टर संदीप मोर की अगुवाई में टीम का गठन किया गया। आरोपी जैसे ही अपने घर पहुंचा, Crime Branch Sector 17 की टीम ने सतर्कता और बुद्धिमता का परिचय देते हुए आरोपी Most Wanted Criminal Kuldeep को दबोच लिया।

आरोपी को अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमे आरोपी से मामले में गहनता से पूछताछ की जाएगी।

बुलेट खरीदने की औकात नहीं थी तो आमिर उर्फ़ टन्ना ने चोरी कर ली, CIA ने किया गिरफ्तार

bullet-motorcycle-chori-case-faridabad-cia-48-arrested-chor-amir
Bullet Motorcycle chori case, Faridabad Crime Branch Sector 48 team arrested chor amir urf tanna.

Faridabad News 5 July 2021: क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 की टीम ने बुलेट चोर आरोपी आरिफ उर्फ टन्ना को गुप्त सूत्रों की सहायता से गिरफ्तार किया है।

आरोपी फरीदाबाद के बड़खल का निवासी है और नशा करने का आदी है।

Bullet Motorcycle Chori Case Detail

आरोपी ने अगस्त 2019 में थाना एनआईटी क्षेत्र से एक बुलेट मोटरसाइकिल चोरी कर ली थी जिसके लिए आरोपी के खिलाफ थाना एनआईटी में चोरी के धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज है।

क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों के सहायता से आरोपी को टावर नंबर 3 से चोरी की मोटरसाइकिल सहित गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी के कब्जे से चोरी की गई बुलेट को बरामद कर लिया गया है।

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह बुलेट चलाने का शौकीन है परंतु खरीदने के लिए उसके पास पैसे नहीं थे तो इसलिए उसने बुलेट चोरी कर लिया था।

पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।