Followers

Showing posts with label Crime. Show all posts

नकली शराब बनाने के मामले में क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 ने मुख्य आरोपी को किया गिरफ्तार

faridabad-crime-branch-sector-48-arrested-sharab-taskar

फरीदाबाद, 14 मई: हाल ही में क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 ने नकली शराब बनाने के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था जिनसे 1800 लीटर नकली शराब, कैंटर गाड़ी सहित बरामद की थी। इस मामले में नकली शराब बनाने वाले मुख्य साजिशकर्ता मदन गोपाल फरार हो गया था।

आरोपियों के खिलाफ एक्साइज एक्ट एवं सरकारी आदेशों की अवहेलना करने के तहत मामला थाना सारण में दर्ज किया गया था।

इसी मामले में क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 ने सराहनीय कार्य करते हुए नकली शराब बनाने वाले मुख्य आरोपी मदन गोपाल पुत्र किशनलाल निवासी एनआईटी फरीदाबाद को गिरफ्तार किया है।

नकली शराब बनाने के मामले में मुख्य आरोपी मदन गोपाल के कब्जे से मैकडोल और रॉयलस्टैग कि 40 खाली बोतलें भी बरामद की है।

पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वह इन बोतलों में नकली दारू भर कर बेचना चाहता था।

पुलिस ने आज आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है।

अपनी पत्नी को ताबड़तोड़ चाकू मारकर हत्या करने वाला हत्यारोपी पति गिरफ्तार

faridabad-police-arrested-accused-for-killing-his-wife

फरीदाबाद, 14 मई: पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए एसपी क्राइम श्री अनिल यादव के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 प्रभारी इंस्पेक्टर विमल और उनकी टीम ने, पत्नी की हत्या करने के मामले में आरोपी पति को मात्र 24 घंटे में काबू करने में सफलता हासिल की है।

आरोपी की पहचान शशि पुत्र सोनेलाल निवासी सिवान जिला फिरोजाबाद उत्तर प्रदेश हाल किराएदार सेक्टर 37 सराय फरीदाबाद के रूप में हुई है।

आपको बताते चलें कि दिनांक 12 मई 2021 को बडखल फ्लाईओवर के बिल्कुल नजदीक आरोपी पति, अपनी पत्नी की चाकू से हमला कर हत्या करके फरार हो गया था जिस पर आरोपी के खिलाफ थाना ओल्ड में हत्या का मामला दर्ज किया गया था।

पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने  महिला की हत्याआरोपी को गिरफ्तार करने के लिए यह केस क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 को सौंपा गया था।

क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 की टीम ने तकनीक एवं अपने विशेष  ह्यूमन रिसोर्स  के माध्यम से आरोपी पति को 24 घंटे में गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल हुई है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी पति शशि अपनी पत्नी  के साथ सेक्टर 37 सराय फरीदाबाद में किराए के मकान में रहता था। हत्या के चार-पांच दिन पहले मृतका द्वारा  किसी से मोबाइल पर बात करने बारे आरोपी पती के साथ वाद-विवाद व झगड़ा हो गया था।

आरोपी पती को पत्नी के चरित्र पर शक था जिस कारण झगड़ा बहुत ज्यादा बढ़ गया , इसी के चलते पत्नी घर छोड़कर चली गई थी। घर छोड़कर चले जाने के बाद आरोपी शशि ने अपनी पत्नी अनमोल से मोबाइल फोन कॉल करके उसे मनाने की कोशिश में उसे बड़खल फ्लाईओवर के पास बुला लिया जो वह अपने साथ एक चाकू लेकर गया था जब उसकी पत्नी उसके साथ घर आने को राजी नहीं हुई तो उसने उस पर तैश में आकर चाकू से ताबड़तोड़ वार करते हुए उसे मौत के घाट उतार दिया और मौके से दिल्ली भाग गया था।

पुलिस टीम ने आज आरोपी को अदालत में पेश कर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान आरोपी से अनुसंधान से संबंधित अन्य पूछताछ की जाएगी।

फरीदाबाद पुलिस अब तक काट चुकी है 32744 बिना मास्क लोगों का चालान

faridabad-police-total-challan-without-mask-news

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह के कुशल नेतृत्व की बदौलत फरीदाबाद पुलिस लॉकडाउन के दौरान लोगों से नियमों का पालन करवाने में सफल रही है।

कोरोना महामारी के दौरान फरीदाबाद पुलिस द्वारा लोगों को इस महामारी से सुरक्षित रखने की हर संभव कोशिश की जा रही है।

फील्ड ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मी लोगों को घर में सुरक्षित रहने के लिए जागरूक कर रहे हैं और साथ ही नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई भी की जा रही है।

बीट में तनाव पुलिस कर्मियों द्वारा 208897 लोगों को कोरोना महामारी के बारे में जागरूक किया गया है। 73841 लोगों को मास्क वितरित किए गए और 50868 लोगों की कांटेक्ट ट्रेसिंग की गई।साथ ही 32744 लोगों के मास्क के चालान काटकर 1 करोड़ 63 लाख 72 हजार रुपयों का जुर्माना लगाया गया।

वहीँ लॉकडाउन के दौरान नियम तोड़ने वालों के खिलाफ दर्ज 270 मुकदमों में 342 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिनमें दवाओं और ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करने वाले 13 लोग शामिल हैं।

श्री ओपी सिंह ने कहा कि गांवों में ठीकरी पहरा लगाएं ताकि बाहर से आने वाले लोगों पर नजर बनाए रखी जा सके, इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि गांव के लोग जो कि पुलिस विभाग में नौकरी कर रहे हैं या स्वास्थ्य विभाग में नौकरी कर रहे हैं या फिर आवश्यक चीजों में लगे हुए हैं उनको किसी भी हाल में ना रोका जाए। उन्होंने कहा कि संक्रमण को रोकने में गांव के लोग भी आगे आएं और संक्रमण रोकने में पुलिस और प्रशासन की मदद करें।

उन्होंने कहा कि इस महामारी पर नियंत्रण पाने में फरीदाबाद के नागरिकों का भी अहम योगदान है और वह भविष्य में भी इसी प्रकार लोगों द्वारा कोविड नियमों का पालन करने की उम्मीद करते हैं। यदि सभी नागरिक पुलिस प्रशासन का सहयोग करें तो इस महामारी पर आसानी से नियंत्रण पाया जा सकता है इसलिए नागरिक अपने परिवार सहित घर पर सुरक्षित रहें, इस समय यही पुलिस प्रशासन के कार्यों में सबसे बड़ा योगदान है।

क्राइम ब्रांच एनआईटी ने 2 पेटी अवैध शराब सहित एक आरोपी को किया काबू

faridabad-nit-crime-branch-arrested-wine-taskar-news

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच एनआईटी ने अवैध रूप से तस्करी करने के मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

आरोपी की पहचान धर्मपाल पुत्र अमर सिंह निवासी एसजीएम नगर फरीदाबाद के रूप में हुई है।

आपको बताते चलें कि क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि एसजीएम नगर एरिया में एक व्यक्ति अवैध रूप से शराब बेचने का काम करता है जिस पर कार्रवाई करते हुए एनआईटी क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपी को 2 पेटी देसी शराब सहित मौके पर धर दबोचा।

आरोपी के खिलाफ थाना एसजीएम नगर में हरियाणा एक्साइज एक्ट के तहत एवं कोरोनावायरस महामारी नियमों की अवहेलना करने के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी शराब बेचने के मामलों में पहले भी जेल में जा चुका है। आरोपी के खिलाफ आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

अलग अलग क्राइम ब्रांच की टीमों ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए 2 लोगों को दबोचा

faridabad-crime-branch-sector-arrested-remdesivir-selling-accused

फरीदाबाद: कालाबाजारी को रोकने के लिए जिला पुलिस द्वारा आरोपियों की लगातार गिरफ्तारियां की जा रही है। पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी पर रोक लगाने के सख्त निर्देश दिए हैं जिनके तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच 56 व क्राइम ब्रांच 17 की टीम ने रेम्डेजिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के जुर्म में 2 आरोपियों को मोटरसाइकिल सहित गिरफ्तार किया है।

क्राइम ब्रांच 56 ने आरोपी देवेंद्र उर्फ देव को बल्लभगढ़ की 2 नंबर मार्केट से गिरफ्तार करके 6 इंजेक्शन बरामद किये वहीँ क्राइम ब्रांच 17 ने आरोपी हिमांशु को भूड कॉलोनी से गिरफ्तार करके उसके कब्जे से 3 इंजेक्शन बरामद किए हैं। 

पुलिस टीम ने जब आरोपियों से इंजेक्शन बेचने का लाइसेंस मांगा तो वह कोई भी दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर सके जिस पर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी देवेंद्र उर्फ देव फार्मेसी मार्केटिंग का काम करता हैं और सेक्टर 10 में स्थित पार्क हॉस्पिटल में नर्सिंग का काम करने वाले अपने दोस्त धनराज से 10 इंजेक्शन ₹80000 में खरीद कर लाया था जिसमें से चार इंजेक्शन उसने आगरा के रहने वाले एक दोस्त मेहर चंद को दे दिए।

आरोपी हिमांशु अकाउंटेंट का काम सीखता है और एशियन हॉस्पिटल में कार्यरत किसी व्यक्ति से यह इंजेक्शन खरीद कर लाया था और इन्हें महंगे दामों पर बेचने की फिराक में था कि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

आरोपियों को गिरफ्तार करके उनके खिलाफ सरकारी आदेशों की अवहेलना करने, आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005, औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम 1940 के तहत थाना ओल्ड व् थाना सिटी बल्लभगढ़ में मुकदमा दर्ज किया गया है।

आरोपियों को अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिनमे उनसे मामले में गहनता से पूछताछ की जाएगी और पार्क व एशियन हॉस्पिटल से इंजेक्शनों की सप्लाई करने वाले उनके साथियों की धरपकड़ की जाएगी।

राहगीर की गाडी लूटने के मामले में क्राइम ब्रांच ने चौथे आरोपी को दबोचा

fourth-criminal-arrested-in-loot-case

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त ओपी सिंह के दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुये क्राइम ब्रांच सेक्टर-48 की टीम ने फरीदाबाद में दिनाँक 06 मई की रात को गुडगाँव कैनाल बल्लबगढ़ के पास से राहगीर से गाड़ी, रूपये तथा उसका मोबाइल फोन हथियारों के बल पर लुट करने वाले गिरोह के एक ओर सदस्य युवराज उर्फ छोटे  को गिरफ्तार किया है.

पुलिस इससे पहले गिरोह के 3 सदस्यों चिन्टू उर्फ़ चरणजीत, राहुल बंगाली और अनीश उर्फ़ राजू को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। गिरफ्तार आरोपियों को अदालत में पेश करके तीन दिन का पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जिसमे सामने आया कि आरोपियों ने हथियारों से फायरिंग करके एक ही रात में अलग-2 जगह पर चार वारदातों को अंजाम दिया था.

06 मई की रात आरोपियों ने सबसे पहले ड्यूटी से लौट रहे प्रधान सिपाही कुशल कुमार की कार रुकवाकर उसे लूटने की कोशिश की थी परन्तु असफल होने पर पिस्तौल से फायर करके वहां से फरार हो गए| इसके बाद बाईपास पर चावला कॉलोनी के पास टैक्सी चालक से पिस्तौल के बल पर उसकी कार लूटी थी| कार लेकर आरोपी सुभाष कॉलोनी पहुंचे जहाँ उन्होंने आकाश नामक युवक पर चलाई जिसमे वह बाल-बाल बच गया| इसके पश्चात् आरोपियों ने दयालपुर में भी एक युवक पर गोली चलाई थी.

इससे पहले आरोपियों ने छांयसा थानाक्षेत्र से पिस्तौल दिखाकर एक मोटरसाइकिल, मोबाइल और पैसे लुटे थे| इसी मोटरसाइकिल पर सवार होकर आरोपियों ने टैक्सी ड्राईवर से कार लूटी थी.

 क्राइम ब्रांच सेक्टर-48 प्रभारी राकेश कुमार की टीम ने कड़ी मस्श्कत करते हुए इस गिरोह के चौथे आरोपी युवराज उर्फ छोटे को कल तिगांव पुल बाईपास से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। 

उक्त आरोपी बहुत ही शातिर किस्म के अपराधी है| आरोपी अपने खर्चे की पूर्ति के लिए तथा अपराध की दुनिया में अपना नाम कमाने के लिए आपराधिक वारदातों को अंजाम देते है।

आरोपी के खिलाफ इससे पहले भी लूटपाट, लड़ाई-झगडा, चोरी व् अवैध हथियार के 2 मुकदमे दर्ज हैं।

आरोपी के कब्जे से टैक्सी ड्राइवर का लूटा हुआ बटवा और 4200 रुपए नगर बरामद किए गए हैं।

पूछताछ व बरामद की पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

लूट की वारदात, क्राइम ब्रांच ने तीसरे आरोपी अनीश उर्फ़ राजू को किया गिरफ्तार, पढ़ें

faridabad-crime-branch-sector-48-arrested-criminals

फरीदाबाद, 10 मई 2021: पुलिस आयुक्त ओपी सिंह के दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुये क्राइम ब्रांच सेक्टर-48 की टीम ने फरीदाबाद में दिनाँक 06 मई की रात को गुडगाँव कैनाल बल्लबगढ़ के पास से राहगीर से गाड़ी, रूपये तथा उसका मोबाइल फोन हथियारों के बल पर लुट करने वाले गिरोह के एक ओर सदस्य अनीश उर्फ़ राजू को गिरफ्तार किया है.

पुलिस इससे पहले गिरोह के दो सदस्यों चिन्टू उर्फ़ चरणजीत व राहुल बंगाली को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। गिरफ्तार दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके तीन दिन का पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जिसमे सामने आया कि आरोपियों ने हथियारों से फायरिंग करके एक ही रात में अलग-2 जगह पर चार वारदातों को अंजाम दिया था.

06 मई की रात आरोपियों ने सबसे पहले ड्यूटी से लौट रहे प्रधान सिपाही कुशल कुमार की कार रुकवाकर उसे लूटने की कोशिश की थी परन्तु असफल होने पर पिस्तौल से फायर करके वहां से फरार हो गए| इसके बाद बाईपास पर चावला कॉलोनी के पास टैक्सी चालक से पिस्तौल के बल पर उसकी कार लूटी थी| कार लेकर आरोपी सुभाष कॉलोनी पहुंचे जहाँ उन्होंने आकाश नामक युवक पर चलाई जिसमे वह बाल-बाल बच गया| इसके पश्चात् आरोपियों ने दयालपुर में भी एक युवक पर गोली चलाई थी.

इससे पहले आरोपियों ने छांयसा थानाक्षेत्र से पिस्तौल दिखाकर एक मोटरसाइकिल, मोबाइल और पैसे लुटे थे| इसी मोटरसाइकिल पर सवार होकर आरोपियों ने टैक्सी ड्राईवर से कार लूटी थी.

 क्राइम ब्रांच सेक्टर-48 प्रभारी राकेश कुमार की टीम ने कड़ी मस्श्कत करते हुए इस गिरोह के तीसरे आरोपी अनीश उर्फ़ राजू को कल IMT पुल के पास से एक देशी कट्टा व 9 जिन्दा रौंद तथा एक कारतुस खोल सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

उक्त आरोपी बहुत ही शातिर किस्म के अपराधी है|आरोपी अपने खर्चे की पूर्ति के लिए तथा अपराध की दुनिया में अपना नाम कमाने के लिए आपराधिक वारदातों को अंजाम देते है।

आरोपी इससे पहले भी लूटपाट, लड़ाई-झगडा, चोरी व् अवैध हथियार के मुकदमो में जेल की हवा खा चूका है.

तीनो आरोपियों से पूछताछ पूरी होने एवं उनके के कब्जे से वारदात में प्रयोग मोटरसाइकिल, 2 देशी पिस्टल, 1 देशी कट्टा व 21 जिन्दा कारतूस व् 1 खोल बरामद कर आज अदालत में पेश किया गया, अदालत ने तीनो आरोपीयो को जेल भेज दिया।

हथियारों के दमपर लूटपाट को अंजाम देने वाले 2 लुटेरे 24 घंटे में गिरफ्तार, CIA-48 की कार्यवाही

faridabad-cia-sector-48-arrested-2-loot-accused-in-24-hour

फरीदाबाद, 7 मई: पुलिस आयुक्त ओपी सिंह द्वारा अपराधियों पर शिकंजा कसकर जिले में लूटपाट की वारदातों पर लगाम कसने के लिए दिए गए दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर-48 की टीम ने लूटपाट करने वाले गिरोह के दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में चिंटू उर्फ चरणजीत व राहुल बंगाली का नाम शामिल है।

आपको बताते चलें कि आरोपियों ने कल 6 मई की रात को गुडगाँव कैनाल के पास से गुजर रही टैक्सी के ड्राइवर व सवारी से हथियारों के बल पर लूटपाट की थी।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में टैक्सी ड्राइवर विनोद ने बताया कि वह 6 मई की रात वह अपनी स्विफ्ट गाड़ी में एक सवारी जिसका नाम राजेश था को बैठाकर दिल्ली के नरेला से बल्लभगढ़ के सेक्टर 3 में छोड़ने के लिए जा रहा था कि रात्रि करीब 12:00 बजे जब वह गुड़गांव नहर के पास पहुंचा तो आरोपियों ने उसकी गाड़ी के आगे एक मोटरसाइकिल लगा दी जिसपर चार लड़के सवार थे।

आरोपियों ने स्विफ्ट गाड़ी के आगे मोटरसाइकिल लगाकर गाड़ी को रुकवा लिया। मोटरसाइकिल से चारों आरोपी उतरकर आए जिनमें से दो आरोपियों ने अपने हाथ में पिस्तौल ले रखी थी।

आरोपियों ने ड्राइवर साइड का शीशा तोड़ा और गाड़ी की चाबी निकाल ली। इसके पश्चात उसने टैक्सी ड्राइवर विनोद और राजेश दोनों को गाड़ी से नीचे उतार दिया और उनसे उनका बटुआ मांगने लगे।

टैक्सी ड्राइवर ने जब बटुआ देने से मना कर दिया तो आरोपियों ने अपनी पिस्तौल से दो हवाई फायर कर दिए। फायर करने के पश्चात टैक्सी ड्राइवर व राजेश दोनों डर गए और उन्होंने अपना अपना बटुआ निकाल कर आरोपियों को दे दिया।

टैक्सी ड्राइवर ने बताया कि उसके बटुए में ₹2000 व राजेश के बटुए में ₹8500 थे। इसके साथ ही उन्होंने पिस्तौल की नोक पर राजेश का मोबाइल भी छीन लिया।

इसके पश्चात आरोपियों ने ड्राइवर से उसकी गाड़ी छीन ली और पैसे और फोन लेकर वहां से फरार हो गए। 

पीड़ित विनोद की शिकायत पर थाना सिटी बल्लभगढ़ में आरोपियों के खिलाफ लूट, रंगदारी व आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई।

पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह के दिशा निर्देश अनुसार क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 प्रभारी उप निरीक्षक राकेश कुमार की अगुवाई में टीम का गठन किया गया जिन्होंने कड़ी मशक्कत करते हुए मात्र 24 घंटों में लूटपाट करने वाले गिरोह के 2 सदस्यों को तिगांव रोड पेट्रोल पंप के पास से गिरफ्तार कर लिया।

रूपये तथा उसका मोबाइल फोन हथियारों के बल पर लूट करने वाले गिरोह के दो सदस्यों को तिगांव रोड पैट्रोल पम्प के पास से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। 

प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि दोनों आरोपी बहुत शातिर किस्म के अपराधी हैं और उन्होंने अपने खर्चे की पूर्ति व अपराध की दुनिया में अपना नाम कमाने के लिए लूट व चोरी की वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया।

इससे पहले आरोपी एक दर्जन के करीब वारदातों को अंजाम दे चुके हैं और जेल की हवा भी खा चुके हैं। आरोपी जेल में एक तिहाई सजा काटने के पश्चात जमानत पर बाहर आए थे और आते ही उन्होंने फिर से लूट की वारदात आऊंगा अंजाम देना शुरू कर दिया।

आरोपियों ने बताया कि लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए उन्होंने थाना छांयसा क्षेत्र से 16 अप्रैल को एक मोटरसाइकिल छीनी थी जिस पर सवार होकर उन्होंने टैक्सी ड्राइवर को लूटा था।

इसके अलावा आरोपियों के खिलाफ थाना सेक्टर 58 व थाना आदर्श नगर में हत्या के प्रयास व आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत 2 मुकदमे दर्ज हैं।

आरोपियों ने बताया कि इस लूट की वारदात में उनके दो अन्य साथी युवराज उर्फ छोटा व अनीश भी शामिल थे जिनकी पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है और उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा

आरोपियों के कब्जे से छीनी गई स्विफ्ट गाड़ी को पुलिस ने बरामद कर लिया है। 

दोनों आरोपियों को आज अदालत में पेश करके 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमें उनके दोनों साथियों के बारे में पूछताछ करके उनकी धरपकड़ की जाएगी तथा साथ ही पैसों व मोबाइल के साथ-साथ अवैध पिस्तौल को भी बरामद किया जाएगा।

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ 182 मुकदमे दर्ज, 245 लोगों को किया गिरफ्तार

faridabad-police-strict-action-against-rules-breaker

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने लॉकडाउन के नियमों का पालन न करने और इस विकट परिस्थिति में कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। 

पुलिस आयुक्त ने कहा कि कालाबाजारी करने वालों की अब खैर नहीं। पुलिस ऐसे मौकापरस्त लोगों को जेल की हवा खिलाएगी और साथ ही लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने बताया कि दिन प्रतिदिन कोरोना का संक्रमण फैल रहा है परंतु लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे इसलिए लॉकडाउन को सख्ती से लागू करवाने के लिए पुलिस को कड़े कदम उठाने पड़ रहे हैं।

उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करते हुए पुलिस ने 1 अप्रैल 2021 से अभी तक 182 मुकदमे दर्ज करके 245 लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले 176 मुकदमों में 237 लोग धरे गए हैं वही कोरोना दवाओं की कालाबाजारी करने के 3 मुकदमों में 5 आरोपी व ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी के 3 मुकदमों में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

साथ ही पुलिस ने 1 अप्रैल 2021 से अभी तक 71817 मास्क वितरित किए हैं और मास्क न पहनने वाले 31723 लोगों का चालान काट कर 1 करोड़ 58 लाख 61 हजार 500 रुपयों का जुर्माना लगाया है।

206455 लोगों को कोरोना से बचने के उपायों के बारे में जागरूक किया गया है और साथ ही 41078 कांटेक्ट ट्रेस किए गए हैं।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन को नागरिकों के सहयोग की आवश्यकता है और उनको प्रशासन के सहयोग के लिए सिर्फ इतना करना है कि वह अपने घर पर अपने परिवार के साथ सुरक्षित रहें। 

यदि नागरिक लॉकडाउन के नियमों का पालन करके अपने घर पर रहते हैं तो इससे कोरोना की चैन टूट जाएगी और लोग संक्रमित होने से बच जाएंगे।

उन्होंने कहा कि इस समय अपने आप को जीवित रखना ही सबसे बड़ी जंग है और इस जंग को जीतने के लिए सबसे जरूरी है कि नागरिक लॉकडाउन नियमों का पालन करें और अपने परिवार के साथ सुरक्षित रहें।

आभूषण चोरी करने वाले आरोपी को क्राइम ब्रांच 48 ने दबोचा, काफी आभूषण बरामद

faridabad-cia-sector-48-arrested-chor

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 ने आभूषण चोरी करने वाले एक आरोपी को काबू करने में सफलता हासिल की है।

आरोपी की पहचान केशव उर्फ विनोद निवासी जिला मथुरा यूपी हाल निवासी पर्वतीय कॉलोनी एनआईटी फरीदाबाद के रूप में हुई है।

प्रभारी क्राइम ब्रांच 48 ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है।

आरोपी के खिलाफ चोरी का मामला थाना सारण में दर्ज है। आरोपी ने दिनांक 10 अप्रैल 2021 को चोरी की वारदात को अंजाम दिया था जिसमें आरोपी ने आभूषण चोरी किए थे।

पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि उसकी नौकरी छूट गई थी और पैसों की जरूरत थी जिसके चलते उसने वारदात को अंजाम दिया था।

पुलिस ने आरोपी से 1 सोने की चेन, 1 सोने का लॉकेट, 2 सोने की अंगूठी, और 2 सोने की झुमकी बरामद कर ली है।

आज आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है।

फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर के सामने बंदूक तानकर खड़ी हुई स्वेट कमांडो टीम, जानिए ऐसा क्यों

faridabad-swat-commando-team-rehearsal-cp-op-singh

फरीदाबाद:- पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह के दिशा निर्देश पर फरीदाबाद पुलिस की स्वेट कमांडो टीम तैयार की गई है।

आज, स्वेट कमांडो टीम ने प्रशिक्षण खत्म होने के बाद पुलिस लाइन सेक्टर 30 में डेमो देकर अपना जलवा दिखाया है।

इस दौरान पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह, और अन्य उच्च अधिकारी गण मौजूद रहे।

आपको बताते चलें कि फरीदाबाद पुलिस ने स्वेट कमांडो टीम का गठन किसी भी बड़ी अपराधिक/आतंकी गतिविधि को रोकने के लिए किया गया है ताकि मौके पर टीम भेजकर किसी भी स्थिति पर काबू पाया जा सके।

फरीदाबाद पुलिस की स्वेट टीम बनकर तैयार हो गई है। स्वेट टीम पिछले कई महीनों से पुलिस लाइन स्थित प्रशिक्षण ले रही थी।

पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने स्वेट कमांडो टीम का डेमो देखने के बाद उनकी प्रशंसा कर उनको प्रोत्साहित किया.

नाबालिग लड़की को बदनाम करने की नियत से अश्लील मैसेज भेजने वाला आरोपी गिरफ्तार

faridabad-nit-thana-police-arrested-criminal

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह के दिशा निर्देश पर महिला थाना एनआईटी पुलिस ने सराहनीय कार्य करते हुए नाबालिग लड़की के भाई के फोन पर लड़की को बदनाम करने की नियत से अश्लील मैसेज भेजने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार आरोपी की पहचान आदर्श कुमार निवासी समस्तीपुर बिहार हाल निवासी पानीपत के रूप में हुई है।

आपको बताते चलें कि आरोपी ने किसी और नाम से एक फेसबुक आईडी बनाई उसके बाद आरोपी ने फरीदाबाद जिले में रहने वाले व्यक्ति (शिकायतकर्ता) के पास फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करने के बाद आरोपी, शिकायतकर्ता की नाबालिग बहन के बारे में अश्लील मैसेज भेजने लगा।

आरोपी ने शिकायतकर्ता की बहन के नाम पर एक फेक फेसबुक आईडी भी तैयार की और शिकायतकर्ता की बहन की फोटो भी लगा दी।

इसके बाद आरोपी शिकायतकर्ता और उसके परिवार को हरासमेंट करने की नियत से शिकायतकर्ता के फोन पर भी मैसेज भेजने लगा।

जिस संबंध में शिकायतकर्ता ने अपने परिवार वालों को यह बात बताई जिस पर महिला थाना एनआईटी में आईटी एक्ट एवं पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया गया।

पुलिस टीम ने आरोपी को अपने विशेष सूत्रों के माध्यम से फरीदाबाद के सेक्टर 30 एरिया से दबोचने में कामयाबी हासिल की है।

पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वह गंदी नियत के चलते यह करता था।

महिला थाना एनआईटी प्रभारी  इंदु बाला और उसकी टीम ने आरोपी को सै० ऐरिया से गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया ,,, अदालत ने आरोपी को जेल भेज दिया ।

क्राइम ब्रांच 56 ने चोरी के जुर्म में दो आरोपियों को किया गिरफ्तार, 4 मोटरसाइकिल बरामद

faridabad-crime-branch-sector-56-arrested-2-motor-cycle-chor

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह द्वारा जिले में चोरी की वारदातों पर लगाम लगाने के लिए चोरी की वारदात में शामिल आरोपियों की धरपकड़ के लिए दिए गए दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 की टीम ने दो शातिर आरोपियों को चोरी के जुर्म में गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में राशिद और रिजवान का नाम शामिल है।

आरोपियों के खिलाफ फरीदाबाद के विभिन्न थानों में चोरी की धाराओं के तहत 4 मुकदमे दर्ज है जिसमें इन्होंने चार मोटरसाइकिल चोरी की थी।

क्राइम ब्रांच ने गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपी रिजवान को अवैध देसी कट्टे सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

आरोपी रिजवान को अदालत में पेश कर के पुलिस रिमांड पर लिया गया। पुलिस रिमांड के दौरान सामने आया कि आरोपी रिजवान ने अपने साथी आरोपी राशिद के साथ मिलकर जिले में मोटरसाइकिल चोरी की वारदातों को अंजाम दिया था।

इसके पश्चात आरोपी रिजवान की सूचना पर आरोपी राशिद को चोरी की मोटरसाइकिल सहित चंदावली पुल से गिरफ्तार किया गया।

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 1 देसी कट्टा, 1 जिंदा कारतूस व चोरी की गई चार मोटरसाइकिल बरामद की।

आरोपी राशिद पुत्र आस मोहम्मद @आसु व  आरोपी रिजवान पुत्र इसराईल दोनों राजस्थान के भरतपुर जिले के रहने वाले हैं जीने अदालत में पेश कर के जेल भेज दिया गया है।

क्राईम ब्रांच सैक्टर 17 ने 10 हजार के एक और मोस्टवांटेड इनामी बदमाश सुनील को किया गिरफ्तार

 faridabad-crime-branch-sector-17-arrested-wanted-criminal-sunil


फरीदाबाद, 17 अप्रैल: पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह द्वारा जिले के मोस्ट वांटेड अपराधियों का सफाया करने के लिए दिए गए दिशा-निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 17 की टीम ने फरार चल रहे 10 हजार के इनामी बदमाश सुनील को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

आरोपी के एक अन्य साथी विनोद को पुलिस ने कल ही गिरफ्तार किया था।

आरोपी के खिलाफ थाना छायंसा में हत्या की कोशिश की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज है।

आरोपी ने अपने साथियों विनोद, अजय और श्याम उर्फ सोनू के साथ मिलकर 27 अगस्त 2020 को छायंसा थानाक्षेत्र में स्थित सैनी ढाबे पर नशे की हालत में किसी बात को लेकर महेंद्र पर चाकू से वार करके उसे बुरी तरह घायल कर दिया था।

आरोपी गिरफ्तारी से बचने के लिए अपनी रिश्तेदारी में अपनी बुआ के घर ओरंगाबाद जिला पलवल व  उतर प्रदेश में अलग अलग जगह पर रहता था।

क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों में साइबर तकनीकी की सहायता से कड़ी मशक्कत करने के पश्चात आरोपी को तिगांव पुल के पास से गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी सुनील पुत्र होशियार सिंह फरीदाबाद के मोहना गांव का रहने वाला है।

आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है और उसके साथियों की पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 ने 10 हजार के ईनामी बदमाश सचिन उर्फ मूसा को किया गिरफ्तार

faridabad-cia-sector-30-arrested-inami-badmash-news

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह द्वारा शहर में हो रहे अपराधों पर संज्ञान लेते सभी उद्घोषित अपराधी, बेल जंपर और इनामी बदमाशों की धड़पकड़ के लिए जारी किए दिशा निर्देशों के तहत कार्यवाही करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 की टीम ने 10 हजार के आरोपी सचिन उर्फ मूसा को गिरफ्तार किया है।

आपको बताते चलें कि दिनांक 28 सितंबर 2020 को आरोपी ने एनआईटी स्थित चिमनी बाई धर्मशाला में किसी आपराधिक वारदात को अंजाम देने वाला था जो पुलिस ने मौके पर देसी कट्टे सहित गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी के खिलाफ थाना एसजीएम नगर में अवैध हथियार  की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

आरोपी बहुत ही शातिर किस्म का अपराधी है जिसके खिलाफ हत्या, मारपीट, लड़ाई झगड़ा, अवैध हथियार सहित 17 मुकदमे दर्ज है।

आरोपी फरीदाबाद के नहर पार व एनआईटी क्षेत्र में अपना वर्चस्व कायम करने के लिए अपने साथी नरेंद्र उर्फ निंदर के साथ मिलकर अवैध असला रखता था। पुलिस आरोपी नरेंद्र उर्फ निंदर को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

आरोपी को फरीदाबाद पुलिस ने इनामी बदमाश घोषित करते हुए उस पर 10 हजार रुपए का इनाम रखा था।

क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 की टीम ने कड़ी मशक्कत करते हुए आरोपी को गुड़गांव से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

सचिन उर्फ मूसा पुत्र ओमप्रकाश फरीदाबाद के तिगांव का रहने वाला है जिसे पूछताछ करने के पश्चात अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

10 हजार रुपये के ईनामी बदमाश को क्राइम ब्रांच सेक्टर-17 की टीम ने दबोचा

faridabad-crime-branch-sector-17-arrested-criminal-vinod

फरीदाबाद, 16 अप्रैल: पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह द्वारा जिले के मोस्ट वांटेड अपराधियों का सफाया करने के लिए दिए गए दिशा-निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 17 की टीम ने फरार चल रहे 10 हजार के इनामी बदमाश विनोद को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

आरोपी के खिलाफ थाना छायंसा में हत्या की कोशिश की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज है।

आरोपी ने अपने साथियों सुनील, अजय और श्याम उर्फ सोनू के साथ मिलकर 27 अगस्त 2020 को छायंसा थानाक्षेत्र में स्थित सैनी ढाबे पर नशे की हालत में किसी बात को लेकर महेंद्र पर चाकू से वार करके उसे बुरी तरह घायल कर दिया था।

आरोपी विनोद पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए राजस्थान व उत्तर प्रदेश में अपने रिश्तेदारों के पास फरारी काट रहा था और फिलहाल फरीदाबाद आया हुआ था।

क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों में साइबर तकनीकी की सहायता से कड़ी मशक्कत करने के पश्चात आरोपी को नीलम पुल के पास से गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी विनोद पुत्र राजन फरीदाबाद के मोहना गांव का रहने वाला है।

आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है और उसके साथियों की पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

CIA DLF ने दो गांजा तस्करी करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार, 7 किलो 560 ग्राम गांजा बरामद

faridabad-police-dlf-crime-branch-arrested-ganja-taskar

फरीदाबाद, 16 अप्रैल: शहर में हो रहे गांजा, शराब, नशा के इंजेक्शन की तस्करी के अपराधों का संज्ञान लेते हुए पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह ने सभी थाना, चौकी एवं क्राइम ब्रांचों को निर्देश दिये है। जिस पर कार्रवाई करते हुए क्राईम ब्रांच टीम ने आरोपी यशबीर, राकेश को गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस की पूछताछ में दोनो आरोपियो की पहचान यशबीर, राकेश निवासी ओम एन्कलेव पल्ला के रुप में हुई है।

पुलिस की पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि दिल्ली लौनी बॉर्डर से किसी ठाकुर नाम के व्यक्ति से 10 किलो ग्राम गांजा पत्ती 60000/- रुपये में खरीद कर लाया था। आरोपी ने बताया कि वह गांजा पत्ती की छोटी- छोटी पैकेट बनाकर 100/- रुपये में बेचता था। जो आरोपी ने कुछ गांजा पत्ती को बेच दिया था। आरोपी यशबीर दिल्ली और पल्ला थाना के मारपीट व छिना झपटी की घटना को अंजाम दे चुका है। आरोपी राकेश मर्डर के मुकदमें में दिल्ली जेल में बन्द था। जिस दौरान ठाकुर नाम का व्यक्ति उसके साथ दिल्ली जेल में बन्द था। आरोपी राकेश पेरोल पर आया है।

क्राईम ब्रांच ने बताया कि आरोपियो के खिलाफ गुप्त सूत्रों से सूचना मिली जिस सूचना पर कार्रवाई करते हुए आरोपियो को ओम एन्कलेव पार्ट से गांजा पत्ती सहित गिरफ्तार किया गया है। आरोपी पहले भी जेल जा चुके है। आरोपी थाना जैतपुर दिल्ली और पुलिस चौकी नवीन नगर में पहले से वांछित है। आरोपियो से 7 किलों 560 ग्रांम गाजा पत्ती बरामद हुई है।

पुलिस टीम ने आरोपियो के खिलाफ थाना पल्ला में एन डी पी एस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपियो के बारे में सम्बंधित थानों चौकी को सूचित कर दिया गया है।

आरोपियो को पेश अदालत कर कानून के तहत कार्रवाई कि जाएगी। 

ATM कार्ड बदलकर लोगों का अकाउंट खाली करते थे सुखराम, कृष्ण और भोला, पुलिस ने दबोचा

faridabad-crime-branch-sector-48-arrested-atm-fraud-three-accused

फरीदाबाद, 16 अप्रैल: पुलिस आयुक्त ओ पी सिंह द्वारा अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों की धरपकड़ के दिशा निर्देशों पर कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 की टीम ने एटीएम कार्ड बदलकर लोगों के अकाउंट से पैसे उड़ाने की कोशिश करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में सुखराम, कृष्ण और कृष्ण उर्फ भोला का नाम शामिल है।

तीनों आरोपियों के खिलाफ फरीदाबाद के विभिन्न थानों में चोरी स्नैचिंग, धोखाधड़ी व आर्म्स एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत चार मुकदमे दर्ज हैं। 

तीनों आरोपी पलवल जिले के चांदहट थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। 

तीनों आरोपी बहुत ही शातिर किस्म से अपराधी है जो स्नैचिंग चोरी, लड़ाई झगड़ा, धोखाधड़ी इत्यादि अपराधिक वारदातों को अंजाम देते थे।

इसी तरह उपरोक्त आरोपियान स्नेचिंग, कार्ड स्वैपिंग व मोटर साइकिल चोरी का काम करते है और अपने पास लोगो को डराने के लिए बटनदार चाकू व देशी पिस्तौल रखते है।

इसी प्रकार की एक वारदात में आरोपी अपनी मोटर साइकिल से संजय कालोनी सैक्टर 23 फरीदाबाद मे स्थित ICICI बैक के ए.टी.एम. पर आए और पीडित का ए.टी.एम. का पिन देख लिया और धोखाधडी से पिडित का डेबिट/ए.टी.एम. कार्ड बदल दिया, लेकिन मौका पर ही पिडित ने अपने कार्ड को पहचान लिया और उनको कहा कि यह उनका कार्ड नही है। इसके बाद आरोपियान ने उनको कार्ड दे दिया। इसके बाद आरोपियाने ने अपनी मोटरसाइकिल स्टार्ट की और पिडित से उसका कार्ड छीनकर भाग गए। 

इसके उपरान्त आरोपियान ने आगरा मे जाकर पैसे निकालने की कोशिश की लेकिन तब तक पिडित ने अपने कार्ड को ब्लाक करा दिया था। 

क्राइम ब्रांच इन आरोपियों की काफी समय से तलाश कर रही थी। इसी क्रम में गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपियों को अवैध हथियार सहित फरीदाबाद से गिरफ्तार किया गया।

आरोपियों के कब्जे से दो मोटरसाइकिल एक बटनदार चाकू, एक देसी पिस्तौल व जिंदा कारतूस बरामद किया है।

उपरोक्त आरोपियों में आरोपी कृष्ण उर्फ भोला के खिलाफ पलवल में चोरी, स्नैचिंग, मारपीट, लड़ाई झगड़ा संबंधित 5 मुकदमे दर्ज है वहीं आरोपी कृष्ण के खिलाफ इन्हीं धाराओं के तहत 3 मुकदमे पलवल में दर्ज हैं।

आरोपी सुखराम उर्फ लड्डू के खिलाफ भी पलवल जिले में चोरी षड्यंत्र आदि धाराओं के तहत 2 मुकदमे दर्ज हैं।

तीनों आरोपियों को पूछताछ पूरी होने के पश्चात अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

क्राइम ब्रांच ने अवैध देसी कट्टे सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

faridabad-crime-branch-sector-56-arrested-accused-illegal-weapon
 

फरीदाबाद, 15 अप्रैल: पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह द्वारा जिले में अपराध को कंट्रोल करने के लिए दिए गए दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 की टीम ने अवैध हथियार रखने के जुर्म में आरोपी रिजवान को गिरफ्तार किया है।

आरोपी के कब्जे से एक देसी कट्टा वह एक जिंदा कारतूस बरामद किया गया है।

अवैध हथियार रखने के जुर्म में आरोपी के खिलाफ थाना सारण में आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी रिजवान पुत्र इसराइल राजस्थान के भरतपुर का रहने वाला है जो पेशे से ट्रक ड्राइवर है।

आरोपी अपनी सुरक्षा के लिए देसी कट्टा राजस्थान के पहाड़ी बस स्टैंड से किसी अनजान व्यक्ति से ₹4000 में खरीद कर लाया था।

आरोपी को गुप्त सूत्रों की सहायता से फरीदाबाद के सारण चौक से गिरफ्तार किया गया।

आरोपी से पूछताछ पूरी होने के पश्चात उसे अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

मोबाइल झपटकर भाग रहे थे रवि और विनय, पुलिस ने नाके पर दबोच लिया

faridabad-mujesar-thana-police-arrested-snatcher-ravi-vinay

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने शहर में हो रहे अपराधों का संज्ञान लेते हुए लूट, स्नैचिंग,चोरी कि अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजने के लिए सभी थाना चौकी साइबर क्राइम एवं साइबर सेल को निर्देश दिए हैं जिस पर कार्रवाई करते हुए थाना मुजेसर की पुलिस टीम ने आरोपी विनय कुमार और रवि को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में पीड़ित ने बताया कि वह प्राइवेट कंपनी में काम करता है और शाम को कंपनी से अपने घर संजय कॉलोनी जा रहा था कि रास्ते में अचानक पीछे से दो नवयुवक मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए और उसका फोन छीन कर भाग गए।

जैसे ही आरोपियों ने पीड़ित का मोबाइल छीना तो उसने शोर मचा दिया। घटनास्थल से कुछ दूरी पर ही पुलिस टीम ने नाका लगाया हुआ था। 

पुलिस टीम को जैसे ही शोर सुनाई दिया तो उन्होंने तत्परता दिखाते हुए उस दिशा से आ रही तेज गति की मोटरसाइकिल को रोकने की कोशिश की और मोटरसाइकिल पर सवार दोनों आरोपियों में से आरोपी रवि को मौके पर ही काबू कर लिया।

आरोपी विनय मौका पाकर वहां से फरार हो गया जिसे बाद में आरोपी रवि की शिनाख्त पर उसके गिरफ्त से गिरफ्तार किया गया।

दोनों आरोपी विनय और रवि पर्वतीय कॉलोनी के रहने वाले हैं। आरोपियों के खिलाफ थाना मुजेसर में स्नैचिंग की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

आरोपियों के कब्जे से स्नैच किया गया मोबाइल और वारदात में प्रयोग मोटरसाइकिल बरामद की गई है।

दोनों आरोपियों से पूछताछ पूरी होने के पश्चात उन्हें अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।