Followers

मिल गयी कोरोला गाडी, मनोज भाटी के हत्यारों के पीछे लगी क्राइम ब्रांच की टीमें, पढ़ें अपडेट

Faridabad Police Crime Branch recovered Corolla Car used in Manoj Bhati murder, killer being searched

manoj-bhati-murder-case-update-corolla-car-recovered

फरीदाबाद, 23 दिसंबर: मनोज भाटी की ह्त्या में इस्तेमाल की गयी कोरोला गाडी को तिगांव क्षेत्र से बरामद कर लिया गया है, कार का नंबर - DL4C AE 7910 है, कार के मालिक की पहचान की जा रही है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक़ - मनोज भाटी हत्याकांड में वारदात में प्रयोग कोरोला गाड़ी जिसे बदमाशों तिगांव क्षेत्र में छोड़कर फरार हो गए थे, को क्राइम ब्रांच द्वारा बरामद कर लिया गया है क्राइम ब्रांच जांच कर रही है कि बरामद  गाड़ी के नंबर दिल्ली के पाए गए हैं क्राइम ब्रांच जांच कर रही है कि गाड़ी का असल मालिक कौन है, क्या यह गाड़ी चोरी की गई है, या स्नैच की गई है,  गाड़ी का नंबर  कौन सा है या नंबर प्लेट बदलकर पुलिस को चकमा दिया गया है। 

तिगांव विधानसभा के युवा नेता और पूर्व विधानसभा उमीदवार मनोज भाटी की दिनदहाड़े हुई हत्या से शहर में हड़कंप मच गया है हालाँकि पुलिस ने इन्वेस्टीगेशन शुरू कर दी है और हत्यारों के पीछे क्राइम ब्रांच की कई टीमें लग चुकी हैं.

पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक़ हत्यारे पहले ही मनोज भाटी के पीछे लग चुके थे जिसका अहसास मनोज भाटी को भी हो चुका था इसलिए वह अपनी स्कॉर्पियों को लेकर भाग रहे थे लेकिन भीड़-भाड़ वाले रास्ते में उनकी गाडी के नीचे एक मोटरसाइकिल आ गयी जिसकी वजह से स्कॉर्पियो रुक गयी. फोटो में आप देख सकते हैं, एक मोटरसाइकिल स्कॉर्पियो के नीचे दिख रही है - 

faridabad-manoj-bhati-murder

हत्यारों ने इसी बात का फायदा उठाया, मनोज भाटी के पीछे एक कोरोला और फॉर्चूनर लगी हुई थी, हत्यारों ने मौका देखकर मनोज भाटी पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी और भाग खड़े हुए.

मनोज भाटी का परिचय

गांव अमीपुर के रहने वाले मनोज भाटी फाइनेंस का काम करते थे और चुनाव भी लड़ चुके थे, आज दिनांक 23 दिसंबर 2020 को समय करीब दोपहर 1: 30 बजे सेक्टर 31 एरिया में अपने दोस्त प्रॉपर्टी डीलर से मिलने के लिए आये थे.

अस्पताल पहुँचने पर किया गया मृत घोषित

पुलिस को घटना की सूचना मिलते ही तुरंत मनोज भाटी को बीके अस्पताल पहुंचाया गया जहां पर डॉक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया।

मृतक मनोज भाटी का बीके अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया जा रहा हैं।

एसीपी क्राइम अनिल यादव, एसीपी मोजीराम, एफएसएल की टीम, क्राइम ब्रांच टीम और एसएचओ ने मौके का मुआयना किया है आरोपियों की धरपकड़ के लिए साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं।

प्राथमिक जांच में सामने आया है कि गोली मारने वाले आरोपी कोरोला और फॉर्च्यूनर गाड़ी में आए थे।

इसके अलावा पुलिस जांच में यह भी सामने आया है कि वारदात रंजिश के चलते हुई हैं और इसके पीछे किसी गैंग का भी हाथ हो सकता है।

पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज चेक कर कुछ फुटेज अपने कब्जे में लिए हैं जिनके जरिए आरोपियों की पहचान की जा रही है।

आरोपी पुलिस के रडार पर है उनको जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

डॉक्टर अर्पित जैन डीसीपी मुख्यालय ने बताया कि ने जानकारी देते हुए बताया कि फरीदाबाद पुलिस ने मनोज मांगरिया जिसने गुरुग्राम में भी गोली चलाई थी के उपर 2 लाख रुपये ईनाम घोषित।

घटनास्थल का सीसीटीवी 
सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करें

loading...

Crime

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: