Palwal Assembly

हर विधानसभा क्षेत्र में दिख रहे भाजपा की टिकट के तीन-चार दावेदार, कड़े मंथन के बाद होगा फैसला

खबर के लिए संपर्क करें: 9560510320, Email: dpsingh84@gmail.com, Whatsapp: 9953931171
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे

faridabad-nit-ballabhgarh-prithla-badkhal-tigaon-bjp-candidate-2019

फरीदाबाद: एक हप्ते पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने फरीदाबाद में जन आशीर्वाद यात्रा निकाली, इस दौरान लगभग सभी विधानसभा क्षेत्रों में तीन-चार टिकट के दावेदार पैदा हो गए. इस वक्त भाजपा नेता एक-दूसरे का नंबर काटकर खुद टिकट हासिल करने का सपना देख रहे हैं इसलिए उम्मीदवार चयन समिति को उम्मीदवार के चयन में कड़ा मंथन करना पड़ेगा और उसके बाद ही टिकट फाइनल की जाएगी, अगर भाजपा ने ऐरे गैरे को टिकट दिया तो फरीदाबाद की समझदार जनता समझदारी से फैसला करके चुनाव समिति के फैसले को गलत साबित कर देगा।

अगर NIT विधानसभा की बात करें तो वहां पर मुख्य रूप से टिकट के चार दावेदार हैं जिसमें अनिल प्रताप सिंह, नागेन्द्र भडाना, यशवीर डागर और बैजू ठाकुर प्रमुख हैं. अनिल प्रताप सिंह फरीदाबाद भाजपा के मीडिया प्रभारी हैं, काफी लम्बे समय से पार्टी की सेवा कर रहे हैं, नागेन्द्र भडाना विधायक हैं और नए नए पार्टी में आये हैं. यशवीर डागर पूर्व उम्मीदवार रहे हैं और पुराने भाजपा नेता हैं. बैजू ठाकुर हाल ही में पार्टी में आये हैं.

अगर बडखल विधानसभा की बात करें तो वहां पर विधायक सीमा त्रिखा के खिलाफ काफी नाराजगी देखी जा रही है इसलिए राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव जेटली को टिकट दिए जाने की चर्चा चल रही है. धनेश अधलखा ने भी अपनी दावेदारी पेश कर दी है लेकिन बडखल विधानसभा में उनकी लोकप्रियता बहुत कम है. अगर योग्यता देखी गयी तो राजीव जेटली को टिकट दी जा सकती है.

फरीदाबाद विधानसभा की बात करें तो यहाँ से विपुल गोयल टिकट के सबसे बड़े दावेदार हैं लेकिन अजय गौड़ और मनमोहन गर्ग भी अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं.

अगर बल्लभगढ़ की बात करें तो यहाँ पर विधायक मूलचंद शर्मा के खिलाफ भारी नाराजगी है. कुछ दिनों पहले शारदा राठौर कांग्रेस में शामिल हुई हैं, अगर उन्हें भाजपा ने टिकट दिया तो आसान जीत हो सकती है. पूर्व विधायक आनंद शर्मा भी टिकट पाना चाहते हैं.

अगर पृथला की बात करें तो सोहनपाल सिंह छोकर जनता की पसंद बनकर उभर रहे हैं. विधायक टेकचंद शर्मा जो हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं वह भी टिकट पर दावेदारी जता रहे हैं, पूर्व उम्मीदवार नयनपाल रावत भी अपनी पूरी ताकत लगा रहे हैं. आशा हुड्डा जो संगठन से करीब 25 वर्षों से जुडी रही हैं और पार्टी में बड़े बड़े पदों पर कार्य कर चुकी हैं, वह भी पृथला से भाजपा की टिकट पर दावेदारी जता रही है, वह काफी पढ़ी लिखी भी हैं इसलिए यहाँ की टिकट फाइनल करने से पहले जनता की पसंद जरूर देखी जाएगी वरना एक गलत फैसला यह सीट भाजपा के हाथों से दूर हो सकती है.

अगर तिगांव की बात करें तो देवेन्द्र चौधरी और राजेश नागर ही टिकट के मुख्य दावेदार हैं. देवेन्द्र चौधरी वर्तमान में नगर निगम के वरिष्ठ उप-महापौर हैं. अगर उन्हें टिकट मिलता है तो जीत आसान होगी, लेकिन राजेश नागर ने भी टिकट के लिए अपनी ताकत झोंक रखी है.

उपरोक्त लोगों के अलावा भी दर्जनों नेता भाजपा के टिकट पर अपना दावा ठोंक रहे हैं लेकिन सपने देखने से कोई किसी को रोक नहीं सकता. टिकट उपरोक्त नेताओं में से उपयुक्त उम्मीदवार ढूंढकर दी जाएगी.
विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Faridabad News

Politics

Post A Comment:

0 comments: