Palwal Assembly

ओल्ड फरीदाबाद अंबेडकर मार्ग पर पेड़ों को किया जाएगा ट्रांसप्लांट, अब स्मार्ट तरीके से होगा काम

हमें ख़बरें Email: dpsingh84@gmail.com. WhatsApp: 9953931171 पर भेजें (धर्मेन्द्र प्रताप सिंह)
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे

tree-transplantation-ambedkar-marg-old-faridabad-may-be-started

फरीदाबाद: फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाया जा रहा है लेकिन कुछ दिनों पहले हमने देखा कि ओल्ड फरीदाबाद में अंबेडकर मार्ग को चौड़ा करने के लिए हर भरे पेड़ों को काट दिया जा रहा था, आधा दर्जन पेड़ काट दिए गए. फरीदाबाद के पर्यावरण प्रेमियों की इस पर नजर पड़ी तो लोगों को दुःख हुआ. जांच-पड़ताल करने पर बताया गया कि पेड़ों को काटने की परमीशन ली गयी है.

इस अभियान में वकील एल एन पाराशर, जागरूक युवा सौरभ भाटिया, पर्यावरण प्रेमी विनय कौशिक और रोहित चावला ने फरीदाबाद लेटेस्ट न्यूज़ के साथ मिलकर जागरूकता अभियान चलाया तो अन्य संस्थायें भी सहयोग के लिए आगे आने लगीं. 

इस मामले में फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड के DGM अरविन्द कुमार से बातचीत की गयी और उनसे प्रार्थना की गयी कि पेड़ों को काटने के बजाय उनका ट्रांसप्लांट किया जाएगा ताकि वे पहले ही तरह ऑक्सीजन देते रहें, अगर कोई पेड़ ट्रांसप्लांट करने के बाद मर जाता है तो कोई बात नहीं लेकिन पहले उनकी जान बचाने का प्रयास तो किया जाए.

उपरोक्त मांगों पर विचार करते हुए अरविन्द कुमार ने बताया कि मैं भी पर्यावरण प्रेमी हूँ, पेड़ों से मुझे भी प्यार है, हम भी लगातार पेड़ लगाते रहते हैं. मैं खुद फरीदाबाद का निवासी हूँ, इस रोड पर पानी की लाइनें, गैस की लाइनें डाली गयी हैं. ऊपर तार हैं, हमने पहले सर्वे किया था उसके बाद पेड़ों को काटने का आदेश दिया था. विनय कौशिक ने कहा कि अगर हम कोशिश करें तो पेड़ों को ट्रांसप्लांट कर सकते हैं, हमें इस काम का अनुभव है और निशुल्क मदद करने के लिए तैयार हूँ.

उपरोक्त मांगों पर विचार करते हुए DGM अरविन्द कुमार ने तत्काल पेड़ों की कटाई रोकने के आदेश दिए, उन्होंने कहा कि हमने पहले ही 30 पेड़ों को ट्रांसप्लांट करने की परमीशन ले रखी है. अब हम पहले पेड़ों को ट्रांसप्लांट करेंगे, जो पेड़ किसी भी हालत में ट्रांसप्लांट नहीं किया जा सकता सिर्फ उनकी कटाई होगी. एक तरह से कहें तो अब टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके स्मार्ट तरीके से काम किया जाएगा.

tree-transplantation-ambedkar-marg

पेड़ों को ट्रांसप्लांट करने किये जाने का भरोसा मिलने पर वकील एल एन पाराशर ने भी ख़ुशी जताई. उन्होंने कहा कि यह काम पहले ही हो जाना चाहिए थी, हरे भरे पेड़ों को काटना सही नहीं है. अगर ये पेड़ काट दिए जाएंगे तो फरीदाबाद में जीना मुश्किल हो जाएगा. सभी पेड़ों को ट्रांसप्लांट किया जाना चाहिए.

इससे पहले पर्यावरण प्रेमियों की पुलिस-प्रशासन से कई बार बहस हुई. पुलिस ने कहा कि जब पेड़ों को काटने की परमीशन ली गयी है तो काटने दीजिये वरना सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का केस ठोंक दिया जाएया, पर्यावरण प्रेमियों ने कहा कि हम पेड़ काट रहे मजदूरों को नहीं रोक रहे हैं, हम चाहते हैं कि पेड़ों को काटने के बजाय ट्रांसप्लांट किया जाए, देखें वीडियो - 



इससे पहले पेड़ों की कटाई की खबर सुनकर शहर के वरिष्ठ वकील एल एन पाराशर ने भी अंबेडकर मार्ग का दौरा किया और पेड़ों को काटे जाने पर दुःख प्रकट किया, देखिये वीडियो -



इससे पहले हमने पेड़ों की कटाई को लेकर एक लाइव वीडियो पोस्ट किया जिसके बाद पूरे शहर की इस मुद्दे पर नजर पड़ी और अधिकतर लोगों ने पेड़ों की कटाई का विरोध किया, देखें वीडियो -

विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: