Palwal Assembly

रात को पत्थर खोदते हैं खनन माफिया, दिन में भरते हैं डम्फर में, LN पाराशर को देखकर भागा डंफर

खबर के लिए संपर्क करें: 9953931171, Email: dpsingh84@gmail.com, Whatsapp: 9953931171
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे

advocate-ln-parashar-exposed-illegan-mining-on-aravali-news

फरीदाबाद: जिला वन अधिकारी सुरेश पूनिया  और खनन अधिकारियों को अवैध खनन और पत्थरों की चोरी देखना हो तो कोट गांव से मांगर जाने वाली सड़क पर जाएँ और वहाँ देखें कैसे पत्थर चोरी हो रहे हैं। और पेड़ भी काटे जा रहे हैं। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एलएन पाराशर का जिन्होंने कहा कि मैं रविवार को भी अरावली पर गया जहाँ कोट से मांगर जाने वाली सड़क के किनारे मैंने देखा कि कुछ जगहों पर पत्थर एकत्रित किये गए हैं और उन पत्थरों को कीकड़ से ढंका गया था। 

पराशर ने कहा कि मैं उसके थोड़ा आगे गया तो देखा कि एक डम्फर में पत्थर भरा था जो क्रेशर जोन की तरफ जा रहा था। पाराशर ने कहा कि कुछ दूर तक मैंने डम्फर का पीछा भी किया और देखा कि जिस तरह के पत्थर इकठ्ठा कर कीकड़ से ढंके गए थे ठीक उसी तरह का पत्थर डम्फर में लदा था। 

पाराशर ने कहा कि मुझे मीडिया के माधयम से जानकारी मिली कि जिला वन अधिकारी ने दावा किया है कि उन्हें जानकारी मिली है कुछ जगहों पर पेड़ काटे जाने की उन्हें सूचना मिली है और वो मौके पर जाकर इसका जायजा लेंगे। पाराशर ने कहा कि मुझे प्रतीक्षा रहेगी कि ये अधिकारी कब तक मौके पर जाते हैं। 

पाराशर ने कहा कि मुझे सूचना मिली थी कि छुट्टी के दिन अरावली से ज्यादा पत्थर चोरी किये जाते हैं। इसलिए मैंने शनिवार और रविवार को अरावली का दौरा किया और दोनों दिन देखा कि सच में पत्थर चोरी हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि पत्थरचोर लगातार सुप्रीम कोर्ट के आदेश की धज्जियां उड़ा रहे हैं और अधिकारी पत्थरचोरों पर लगाम नहीं लगा पा रहे हैं। पाराशर ने कहा कि फरीदाबाद-सूरजकुंड रोड, फरीदाबाद-गुरुग्राम रोड और कोट गांव से मांगर रोड पर पत्थरचोरी का खेल चल रहा है।

विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Aravali

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: