Palwal Assembly

फर्जी रजिस्ट्री और स्टाम्प घोटाले के खिलाफ LN पाराशर कोर्ट से करेंगे FIR दर्ज करने की मांग

खबर के लिए संपर्क करें: 9953931171, Email: dpsingh84@gmail.com, Whatsapp: 9953931171
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे

advocate-ln-parashar-appeal-court-lodge-fir-against-stamp-scam-registry

फरीदाबाद: फर्जी रजिस्ट्री, कंप्लीशन में गड़बड़झाला, एक-एक स्टैम्प पर दो-दो रजिस्ट्री, उस पर लाखों का लोन जैसे कई तरह के गड़बड़झाले करने वाले सैक्टर 49 स्थित 12th एवेन्यू के वीपी स्पेसेज के मालिकों सहित कई बड़े अधिकारियों के खिलाफ फरीदाबाद की अदालत में याचिका दायर की गई है। बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान और न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के प्रधान एडवोकेट एल एन पराशर ने ये याचिका दायर की है जिनका कहना है कि कई महीने से इस गड़बड़झाले को लेकर सबूत सहित आवाज उठा रहा हूँ लेकिन इन लोगों को अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई जिस कारण मुझे अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ा। 

इस याचिका में  वीपी स्पेसेज के 1-आषीश मनचन्दा, पार्टनर मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, वरूण मनचन्दा, पार्टनर, मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, दीपक विरमानी, पार्टनर मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, 
सुर्दषन मनचन्दा, खरीदार मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, श्रीमती साधना, खरीदार मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, तहसीलदार बडखल तहसील, जिला फरीदाबाद ,नगर निगम एन.आई.टी.फरीदाबाद संबंधित अधिकारी 8-व अन्य मुल्जिमान 
-कोर्ट के माध्यम से थाना सूरजकुण्ड फरीदाबाद को भेजी गई याचिका में लिखा गया है कि 

श्रीमान जी,

मुस्तगीस निम्नलिखित निवेदन करता है कि:-
1- यह कि मुस्तगीस पेषे से वकील है और उपरोक्त पते पर बतौर वकील प्रैक्टिस करता है व न्यायिक सुधार संघर्श समिति का अध्यक्ष है व फरीदाबाद में हो रहे घोटाले व सरकारी विभागो में हो रही अनियमितताओं के खिलाफ आवाज उठाता आ रहा है व फरीदाबाद की जनता के लिए समाज कल्याण के कार्य निषुल्क जनता की भलाई के लिए करता चला आ रहा है । 

2- यह कि प्रार्थी काफी समय से फरीदाबाद में हो रहे भ्रश्टाचार व सरकारी विभागों में हो रही अनियमितताओं के खिलाफ आवाज उठाई है व बिल्ड़रों व सरकारी विभागो के गैरकानूनी कारनामो को उजागर भी किया है । 

3-यह कि मुस्तगीस को आर.टी.आई. के माध्यम से पता चला कि  प्लाॅट नं0 4825 जिसका रजिस्ट्रेषन नं0 3468 व प्लाॅट नं0 4829 जिसका रजिस्ट्रेषन नं0 3467 है जो कि इन्द्रप्रस्थ एक्सटेंषन आॅनरषिप नं0 12टी.पी.स्कीम नं03, पार्ट-1, सैक्टर-49, फरीदाबाद में स्थित है जिसकी रजिस्ट्री वी.पी.स्पेस के पार्टनरों द्वारा बनी हुई बिल्डिंग की रजिस्ट्री, स्टाम्प डियूटी चोरी, इंकम टैक्स चोरी व जी.एस.टी. की चोरी करने की नीयत से प्लाॅंट के रूप में दिखाकर धोखाधड़ी करते हुए मुल्जिमान नं0 1 ता 5 ने हममष्वरा होकर व मुल्जिमान नं0 6 के साथ साजबाज होकर रजिस्ट्री मुल्जिमान नं0 1 ता 3 ने मिलकर मुल्जिमान नं0 4 व 5 के हक में करवा ली । जो कि मुल्जिमान नं0 1 ता 3 के करीबी रिष्तेदार हैं ।  

4- यह कि आर.टी.आई. क्रमांक एम.सी.एफ./ए.ई.(5)/2018/469 दिनांक 05-12-2018 के जवाब में नगर निगम ने दिखा रखा है कि प्लाॅट नं0 4825 व 4829 नंबर की कम्पलीषन दिनांक 04-04-2018 व दिनांक 14-11-2017 में आ चुकी है (कम्पलीषन तीन मंजिला इमारत जो कि बनी हुई इमारत है आ रखी है।) और इसके बाद इन्हीं बनी हुई इमारतों की खाली प्लाॅंट के रूप में स्टाम्प डियूटी, स्टाम्प चोरी व जी.एस.टी. चोरी करके व इंकम टैक्स की भी चोरी करके इन्हीं के ऊपर बने हुए फ्लैटो की रजिस्ट्री पूर्व में लिए कम्पलीषन सर्टीफिकेट दिखाकर एक-एक करके करवा ली गई व एक प्लाॅट 4832 जिसका रजिस्ट्री नं0 3466 जिसकी दिनांक 18-07-2018 को प्लाॅट के रूप में रजिस्ट्री करवाई गई जिसका कम्पलीषन सर्टीफिकेट एम.सी.एफ./डी.टी.पी./2016/18 दिनांक 14-01-2016 को आ चुका था । जिसका मतलब यह है कि मौके पर सभी बिल्डिंगे पहले से ही तैयार थी और धोखाधड़ी करते हुए 18-07-2018 को बिल्डिंग छुपाते हुए खाली प्लाॅटों की रजिस्ट्री करवा ली गई जिससे सरकार को करोड़ो रूपये की इंकम टैक्स चोरी व स्टाम्प डियूटी चोरी व जी.एस.टी.चोरी करते हुए आगे चलकर फ्लैटो की रजिस्ट्री करवा ली गई । प्लाॅंट की रजिस्ट्री दिनांक 18-07-2018 को हुई व कम्पलीषन सर्टीफिकेट दिनांक 14-01-2016 की तारीख का पेष कर दिया गया व फ्लैट की रजिस्ट्री दिनांक 28-02-2019 को करवा ली गई । 

5- यह कि मुल्जिमान नं0 4 व 5 ने मुल्जिमान नं0 7 से बनी हुई बिल्डिंग का कमपलीषन सर्टीफिकेट गैरकानूनी तरीके से लेकर, खाली प्लाॅंट खरीदने से पहले की तारीख का दिखाकर बने हुए फ्लैटो की रजिस्ट्री करवा दी जो कि आर.टी.आई. की रिपोर्ट में स्पश्ट वर्णित किया हुआ है ।   

6- यह कि उपरोक्त मल्जिमानो ने आपसे साजबाज होकर व सोची समझी रणनिति के तहत कमपलीषन सर्टीफिकेट छुपाकर खाली प्लाॅटो की रजिस्ट्री करवा ली व बाद में उन्हीं छुपाये गये कमपलीषन सर्टीफिकेट को दिखाकर फ्लैटो की रजिस्ट्री सरकारी विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों से साजबाज होकर व सरकारी विभाग में अपने पद का दुरूपयोग करके व फर्जी कागजात तैयार करके रजिस्ट्री करवा ली व स्टाम्प पेपर एवं जी.एस.टी. एवं इंकम टैक्स की चोरी करके, सरकारी राजस्व को नुकसान पहुॅचाया है । 

7- यह कि मुस्तगीस ने इस बाबत दरखास्त पुलिस आयुक्त महोदय, फरीदाबाद एवं अन्य आला अधिकारियों को भी दी थी । यह कि मुल्जिमानों के आला अधिकारियों व राजनेताओ से भी संबंध हैं जिसका फायदा उठाकर वह सरकारी विभागो के अधिकारियों पर नाजायज दबाव बनाकर अपने अनुसार कार्य करवा रहे हैं । 

8- यह कि दरखास्त की कापी जो मुस्तगीस ने आला अधिकरियों को दी थी, दरखास्त की कापी व आर.टी.आई. की नकल इस्तगासा के साथ लफ हजा है । दरखास्त पर कार्यवाही ना होने पर इस्तगासा पेष अदालत है ।
       
अतः श्रीमान जी से प्रार्थना है कि मुल्जिमान के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही की जावे व मुल्जिमान के खिलाफ जेर धारा 420/467/468/471/409/120बी, 217,218,219 भा0द0सं0 में मुकदमा दर्ज किया जाये । जनाब की अति कृपा होगी । 


ln-parashar-news
विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Faridabad News

Politics

Post A Comment:

0 comments: