Palwal Assembly

वाड्रा ने कराए कांग्रेस के टुकड़े टुकड़े, ललित की मीटिंग मे ना करण, ना अवतार और ना महेंद्र प्रताप

हमें ख़बरें Email: dpsingh84@gmail.com. WhatsApp: 9953931171 पर भेजें (धर्मेन्द्र प्रताप सिंह)
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे

karan-dalal-avtar-bhadana-and-mahender-pratap-singh-absent-lalit-nagar-meeting

फरीदाबाद: जब किसी उम्मीदवार को सोर्स शिफारिश से लोकसभा टिकट मिल जाता है और योग्यता वाले उमीदवार देखते रह जाते हैं तो पार्टी में फूट देखने को मिलती है, यही बात फरीदाबाद कांग्रेस के साथ हो रही है. रॉबर्ट वाड्रा की वजह से फरीदाबाद कांग्रेस के टुकड़े टुकड़े हो गए हैं.

आज ललित नागर ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की मीटिंग बुलाई थी, इस मीटिंग में ना तो करण दलाल आये, ना अवतार भडाना आये और ना ही महेंद्र प्रताप दिखे, यही नहीं इनके समर्थक भी मीटिंग में नजर नहीं आये.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फरीदाबाद में लोकसभा टिकट की दौड़ में सबसे ऊपर करण दलाल का नाम था, उसके बाद महेंद्र प्रताप सिंह का नाम उछला और बीच बीच में अवतार भडाना का नाम सामने आता रहा लेकिन रॉबर्ट वाड्रा की शिफारिश से फरीदाबाद लोकसभा की टिकट ललित नागर को मिल गयी, ऐसा इसलिए क्योंकि ललित नागर के भाई महेश नागर रॉबर्ट वाड्रा के बिजनेस पार्टनर हैं.

अगर देखा जाए तो करण दलाल, अवतार और महेंद्र प्रताप के साथ अन्याय हुआ है, अगर शिफारिश से ही टिकट देना था तो इनके नाम पर विचार ही नहीं करना चाहिए था, कम से कम इनके समर्थक इन्हें सांसद बनाने का सपना तो नहीं देखते, अंत में ललित नागर को रॉबर्ट वाड्रा की शिफारिश पर टिकट देकर तीनों नेताओं के सपने के साथ साथ इनके हजारों समर्थकों के सपने को भी तोड़ दिया गया. अब तीनों नेताओं के साथ साथ इनके समर्थक भी नाराज हैं, इसी नाराजगी का असर आज ललित नागर की मीटिंग में दिखा. आज कांग्रेस के टुकड़े टुकड़े हो गए. ललित नागर का गुट अलग, अवतार नागर का गुट अलग, करण दलाल का गुट अलग और महेंद्र प्रताप का गुट अलग. 

इस मीटिंग में सिर्फ वही लोग आये जो आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का सपना देख रहे हैं, इनकी भी मजबूरी है, इन्हें पता है कि ललित नागर की पहुँच रॉबर्ट वाड्रा तक है, अगर ये मीटिंग में नहीं आये तो ललित नागर इनकी शिकायत रॉबर्ट वाड्रा से कर देंगे और अगले विधानसभा चुनाव में किसी को टिकट नहीं मिलेगी.

इस बैठक में पूर्वमंत्री ए.सी. चौधरी, विधायक उदयभान, पूर्व संसदीय सचिव कुमारी शारदा राठौर, जेपी नागर, पूर्व विधायक आनंद कौशिक, पृथला क्षेत्र के पूर्व विधायक रघुबीर तेवतिया के पुत्र वरुण तेवतिया, पूर्व विधायक अजमत खान, पूर्वमंत्री जलेब खां के बेटे इसराईल खान, मोहम्मद बिलाल, सुमित गौड़, योगेश गौड़, लखन सिंगला, विकास चौधरी, अशोक अरोड़ा, योगेश ढींगड़ा, मुकेश शर्मा, बलजीत कौशिक, प्रवेश मेहता, अनिल शर्मा, मोहम्मद आफताब खान, राजेश खटाना, महेश नागर, प्रताप चावला, विकास वर्मा नंबरदार, रेनू चौहान, राकेश भड़ाना, गुलशन बगगा, संजय सोलंकी, एनएसयूआई, सेवादल, महिला कांग्रेस, आईटी सैल के पदाधिकारियों सहित हजारों कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Election

Faridabad News

Politics

Post A Comment:

0 comments: