Palwal Assembly

जहां नहीं लग सकती एक भी ईंट, वहां खुलेआम हो रहा अवैध निर्माण, LN पाराशर ने जुटाए SC के लिए सबूत

खबर के लिए संपर्क करें: 9953931171, Email: dpsingh84@gmail.com, Whatsapp: 9953931171
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे

advocate-ln-parashar-show-illegal-construction-on-aravali-for-sc

फरीदाबाद: सुप्रीम कोर्ट की रोक के बावजूद भी अरावली पर अवैध निर्माण एवं अवैध खनन जारी है। बार एसोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर ने मंगलवाल अरावली का दौरा किया और कहा कि कई जगहों पर अब भी निर्माण जारी है। उन्होंने कहा कि मंगलवार मैंने मौके की कई तस्वीरें लीं और उसे सुप्रीम कोर्ट भेज रहा हूँ। 

पाराशर ने कहा कि फरीदाबाद गुरुग्राम रोड के किनारे अरावली पर एक बड़ा फ़ार्म हाउस बनाया जा रहा है और वहां चिनाई चल रही थी लेकिन अब चिनाई पूरी हो करके उसमें एक बड़ा गेट लगा दिया गया है और एक दूसरा बड़ा गेट लगाने की तैयारी की जा रही है। 

पराशर ने  बताया कि उनके लगातार प्रशासनिक अधिकारियों से गुहार लगाने के बावजूद भी अवैध निर्माण अवैध खनन बदसूरत जारी है भू माफियाओं को सुप्रीम कोर्ट का कतई डर नहीं है एडवोकेट पराशर ने यह भी बताया कि उन्होंने फरीदाबाद के कई अधिकारियों और हरियाणा के चीफ सेक्रेट्री के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कंटेंट दायर की है जिसकी सुनवाई 30 अप्रैल को होनी है लगातार हो रहे अवैध निर्माण और खनन पर कुछ एफआईआर . भी हुई है जो यह एक पुख्ता सबूत है कि अब भी अरावली पर यह सब हो रहा है। 

एडवोकेट पाराशर ने कहा कि जहां एक तरफ कांत इंक्लेव पर करोड़ों से बने महल तोड़े जा रहे हैं उसको देख कर के भी अरावली पर कब्जा धारियों की आंखें नहीं खुल रही जब वह महल ही नहीं बच रहे तो इनका अवैध निर्माण कैसे बच जाएगा लेकिन भूमाफिया लगातार कब्जा करने अवैध निर्माण और अवैध खनन में लगे हुए हैं अरावली का चीर हरण अभी जारी है देखें कब तक प्रशासन आंखें बंद करके बैठा रहता है एडवोकेट पराशर ने यह भी कहा कि यह सब कुछ नेताओं और अधिकारियों के संरक्षण में हो रहा है आने वाली सुप्रीम कोर्ट की तारीख में वह अदालत को यह भी बताएंगे।
विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Aravali

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: