Palwal Assembly

मोदीजी आज करेंगे ESI हॉस्पिटल का उद्घाटन, लेकिन पहले करना था घोटालेबाजों की सर्जिकल स्ट्राइक

हमें ख़बरें Email: dpsingh84@gmail.com. WhatsApp: 9953931171 पर भेजें (धर्मेन्द्र प्रताप सिंह)
आगे की खबर विज्ञापन के नीचे
pm-modi-inaugurate-esi-hospital-faridabad-but-need-surgical-strike

फरीदाबाद: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज फरीदाबाद NIT-3 में बने ESI हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन करेंगे लेकिन हमारा मानना है कि पहले उन्हें ESI हॉस्पिटल में मौजूद घोटालेबाज अधिकारियों और कमीशनखोर डॉक्टरों की सर्जिकल स्ट्राइक करनी चाहिए थी. इस हॉस्पिटल की ऑडिट होनी चाहिए, अगर सही तरीके से ऑडिट हो जाए तो अरबों रुपये के घोटालों का पर्दाफाश हो सकता है और कई भ्रष्ट अधिकारी जेल जा सकते हैं.

बहुत बड़ा रेफर घोटाला, लूटे जा रहे अरबों रुपये

आपको बता दें कि ESI के कुछ कमीशनखोर डॉक्टर प्राइवेट अस्पतालों से सेटिंग करके मरीजों को वहां रेफर करते हैं और बदले में मोटा कमीशन खाते हैं, कई डॉक्टर तो महीनें में कई लाख रुपये कमीशन में कमा लेते हैं, इनका ध्यान मरीजों के इलाज पर नहीं बल्कि कमीशन पर ही रहता है, इन लोगों का ध्यान सिर्फ इसपर रहता है कि कौन से मरीज को किस हॉस्पिटल में भेजकर कितना कमीशन खाना है.

यहाँ के कमीशनखोर डॉक्टर अपने कमीशन के चक्कर में हर वर्ष करीब 100 करोड़ रुपये प्राइवेट अस्पतालों का बिल बनवाते हैं. यहाँ का रेफरल बजट भारत के सभी ESI अस्पतालों से अधिक है. अगर सही तरीके से ऑडिट हो जाए तो पूरे काण्ड का पर्दाफाश हो जाएगा.

इंटरव्यू और भर्ती घोटाला

इसके अलावा यहाँ पर इंटरव्यू घोटाला और भर्ती घोटाला हो रहा है, एक ही पोस्ट की बात बार भर्तियाँ निकाली जाती हैं, बार बार विज्ञापन, बार बार इंटरव्यू और बार बार इंटरव्यू लेने वाले डॉक्टरों की कमाई, इंटरव्यू पैनल में शामिल डॉक्टरों को हर बार TA/DA और अन्य खर्चे मिलते हैं लेकिन पोस्ट नहीं भरी जाती, कुछ दिनों में फिर से विज्ञापन दे दिया जाता है और फिर से वही खेल होता है, इस खेल के चक्कर में भ्रष्ट अधिकारी करोड़ों रुपये लूट रहे हैं. इसकी सही से जांच होनी चाहिए.

बिल्डिंग का नहीं है फायर क्लीयरेंस सर्टिफिकेट

हॉस्पिटल की बिल्डिंग में अभी भी कुछ कमियां हैं लेकिन इसके बारे में शायद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जानकारी नहीं होगी. बिल्डिंग का फायर क्लीयरेंस सर्टिफिकेट नहीं मिला है, अगर भविष्य में कोई दुर्घटना हो गयी या आग लग गयी तो इसका जिम्मेदार प्रधानमंत्री मोदी को ही बताया जाएगा क्योंकि उद्घाटन उनके ही हाथों से हो रहा है, इतनी बड़ी ईमारत का बिना फायर क्लीयरेंस सर्टिफिकेट लिए उद्घाटन नहीं होना चाहिए था लेकिन मोदी आज यह काम करेंगे.

फर्जी एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट पर भर्ती

कर्मचारियों की भर्ती के समय उनका अनुभव देखा जाता है लेकिन कई लोग फ़र्जी  एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट बनाकर नौकरी ले रहे हैं. ख़ास इन्टरनल सूत्रों से हमें ये जानकारी मिली है.

आज होगा हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन

12 फरवरी 2019 मंगलवार को प्रात: 11:30 बजे कुरूक्षेत्र से रिमोर्ट कंट्रोल के माध्यम से स्थानीय एनआईटी-3 (फरीदाबाद) में बादशाह खान नागरिक अस्पताल के पीछे ई.एस.आई. मैडिकल कॉलेज का उद्घाटन करेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी फरीदाबाद नहीं आयेंगे लेकिन ESI मेडिकल कॉलेज कैम्पस में बड़े प्रोग्राम का आयोजन किया गया है, इस मौके पर इसमें केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व फरीदाबाद जिले की सभी विधानसभा क्षेत्रों के विधायक मौजूद रहेंगे। 
विज्ञापन के नीचे जाकर खबर शेयर करें
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

फेसबुक पर अपडेट के लिए पेज LIKE करें

Crime

Faridabad News

Hospital

Post A Comment:

0 comments: